कोर्ट में लगाओ CCTV, जज करें बदतमीजी तो वकील उनपर भी ठोंक सकते हैं कंटेम्प्ट का केस: LN पाराशर

advocate-ln-parashar-advised-lawyer-could-file-contempt-case-against-judge

फरीदाबाद: जिला बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान और न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन पाराशर ने युवा वकीलों को सलाह दी है कि कोर्ट में किसी भी जज से बदतमीजी ना करें, बोल्डली अपना पक्ष रखें लेकिन अगर कोई जज उनसे बदतमीजी करे तो वकील उनके खिलाफ Contempt का केस ठोंक सकते हैं.

वकील पाराशर ने कहा कि जज द्वारा बदतमीजी करने पर वकील खुद गवाह होता है क्योंकि वकील ऑफिसर ऑफ़ द कोर्ट है जबकि जज Presiding Officer/Judicial Officer होता है. उन्होंने यह भी कहा कि कोर्ट में कामकाज में सुधार लाने के लिए CCTV कैमरे लगने चाहियें और हर चीज की कैमरा रिकॉर्डिंग होनी चाहिए ताकि गलत व्यवहार होने पर रिकॉर्ड हो जाए. इसके गरीबों को न्याय दिलाने में भी सहायता मिलेगी.

वकील पाराशर पिछले कई दिनों से कोर्ट के युवा वकीलों को कानूनी किताबें बाँट रहे हैं, जब उनसे इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं युवा वस्था से ही समाज सेवा का काम करता रहा हूँ, लोगों की मदद करने में मुझे ख़ुशी मिलती है. मैं चाहता हूँ कि युवा वकील किताबें घर ले जाएं और उसे पढ़कर कोर्ट में कुशलतापूर्वक पैरवी करें, मैं उनके लिए सरकार से चैंबर की व्यवस्था और प्रति महीनें 10 हजार रुपये सम्मान भत्ता की मांग कर रहा हूँ. मुझसे आगे जो भी बन पड़ेगा करूँगा.

वकील पाराशर ने बताया कि मुझे 1986-87 में SDM पलवल द्वारा अवार्ड प्रदान किया जा चुका है, मैंने एक साल नेहरु युवा केंद्र (ह्यूमन रिसोर्स मिनिस्ट्री) में युवाओं के लिए काम किया था जिसकी वजह से मुझे एसडीएम विजयवर्धन जी ने सम्मानित किया था, इसके अलावा मुझे बिहार-डाल्टनगंग में नेशनल यूथ अवार्ड के सम्मान से नवाजा गया था.

वकील एलएन पाराशर ने बताया कि मैं गुंडों के लिए गुंडा हूँ और गरीबों का मददगार हूँ, मैं किसी से डरता नहीं हूँ और अन्याय बर्दास्त नहीं कर सकता, मैं अमीरों से मोटी फीस लेता हूँ जबकि गरीबों का केस मुफ्त में लड़ता हूँ. मुझपर कई सारे कंटेम्प्ट के केस किये गए लेकिन मैं हिम्मत नहीं हारा और सबका सामना करते हुए आगे बढ़ा हूँ.

वकील पाराशर ने कहा कि मैं सिर्फ न्यायिक व्यवस्था में सुधार चाहता हूँ, मेरा मकसद चुनाव लड़ना नहीं है, मैं चाहता हूँ कि देश की सभी अदालतों से भ्रष्टाचार ख़त्म हो, मैंने फरीदाबाद से लड़ाई शुरू की है, धीरे धीरे पूरे हरियाणा और देश की अदालतों को भ्रष्टाचार मुक्त करने के अभियान की तरफ बढ़ेंगे, हम देश के सभी वकीलों से आग्रह करते हैं कि कोर्ट में भ्रष्टाचार बर्दास्त ना करें, शिकायत करें, आवाज उठाएं और अगर मेरी मदद की जरूरत पड़े तो मुझसे संपर्क करें. देखें पूरा VIDEO.