SHO साहब, 2 लाख में फ्रेंचाइजी देने का वादा करके बॉबी कटारिया से मुझे ठग लिया: प्रशांत राणा

LIKE फेसबुक पेज
police-complaint-against-bobby-kataria-manju-singh-in-chamba-prashant-rana

चंबा: पुलिस को अनाप शनाप बोलकर सोशल मीडिया पर फॉलोवर जुटाने वाले बॉबी कटारिया फिर से मुसीबत में फंसने वाले हैं, इस बार हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में उनके खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत दी गयी है, बॉबी कटारिया के अलावा मंजू सिंह और NGO में मैनेजर का काम करने वाले विक्रांत का नाम भी पुलिस शिकायत में लिखा गया है. यह शिकायत चंबा जिले के निवासी प्रशांत राणा की तरफ से दी गयी है.

आपको बता दें कि कुछ महीनें पहले बॉबी कटारिया चंबा जिले में गए थे जहाँ पर प्रशांत राणा ने पलक पांवड़े बिछाकर उनका स्वागत किया था. उस समय प्रशांत राणा के लिए बॉबी कटारिया कोई महान युवा नेता था लेकिन कल उसी प्रशांत राणा ने बॉबी कटारिया के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवा दिया.

क्या लिखा है शिकायत में?

प्रशांत राणा ने शिकायत में लिखा है – मुझे बॉबी कटारिया उर्फ़ बलवंत कटारिया और मंजू सिंह जो कि युवा एकता फाउंडेशन के डायरेक्टर हैं ने मुझे फोन पर अपनी NGO की फ्रेंचाइजी देने की बात कही. इन्होने बताया कि हमारी NGO समाज सेवा का काम करती है जिसे मैंने सच मान लिया और अपने दोस्तों से सलाह करके मैंने फ्रेंचाइजी लेने के लिए अपनी स्वीकृति दे दी.

उसके बाद दिनाक 5.5.2018 को बॉबी कटारिया, मंजू सिंह और विक्रांत सिंह चंबा जिले में मेरे पास आये और फ्रेंचाइजी देने के बदले 2 लाख रुपये की डिमांड की, इसके अलावा मैंने चंबा में इनके रहने, खाने, ठहरने और प्रोग्राम पर करीब 90 लाख रुपये खर्च किये.

शिकायत में लिखा गया है कि – फ्रेंचाइजी देने के बाद मुझे ऑफिस के लिए फर्नीचर देने की बात कही गयी थी साथ में कानूनी डॉक्यूमेंट भी देने का वादा किया गया था, मैंने 2 लाख रुपये में से 50 हजार रुपये इन तीनों को नकद दिए और 1.5 लाख रुपये डॉक्यूमेंट पूरा होने के बाद देने को कहा था लेकिन उसी शाम को तीनों ने मुझे पूरी पेमेंट कैश में देने को कहा और जल्द ही कागजी कार्यवाही पूरी करने का भरोसा दिया.

प्रशांत राणा ने कहा कि उस समय मेरे पास कैश नहीं थे इसलिए मैंने डेढ़ लाख रुपये का एक चेक सिक्यूरिटी के तौर पर दिया लेकिन जब मैं उसपर युवा एकता फाउंडेशन लिख रहा था तो बॉबी कटारिया ने उसे ब्लैंक रखने के लिए कहा लेकिन चंबा से जाने के बाद बॉबी कटारिया ने चेक में युवा एकता फाउंडेशन की जगह अपना नाम भर लिया जो सीधे तौर पर धोखाधड़ी है.

प्रशांत राणा ने शिकायत में लिखा – यहाँ से जाने के बाद इन तीनों ने मुझे ना तो कोई डॉक्यूमेंट भेजे और ना ही ऑफिस के लिए कोई सामान भेजा. यह देखकर मैंने इनसे अपने 50 हजार रुपये और चेक वापस माँगा तो इन्होने मुझसे पूरा पैसा कैश में माँगा जिसे ना देने पर चेक बाउंस का केस करने की धमकी दी, इन्होने कहा कि मैं सेलेब्रिटी हूँ, मेरा बड़े बड़े लोगों के साथ उठाना बैठना है, हम तेरे खिलाफ वीडियो बनाकर और फेसबुक, सोशल मीडिया पर डालकर तुझे बदनाम कर देंगे. मेरे बार बार मांगने पर भी इन्होने ना तो मेरे पैसे दिए और ना ही चेक जिसे इन्होने धोखे से लिया हुआ है इसलिए बॉबी कटारिया, मंजू सिंह और विक्रांत के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया जाए.

शिकायत में यह भी लिखा गया है कि जांच-पड़ताल के बाद हमें पता चला है कि युवा एकता फाउंडेशन एक कंपनी के अंतर्गत रजिस्टर है ना कि NGO एक्ट के तहत, युवा एकता फाउंडेशन ना तो फ्रेंचाइजी बेच सकती है और ना ही किसी से कैश मांग सकती है, इसकी जांच की जाए और तीनों पर धोखाधड़ी और धमकी देने का मामला दर्ज किया जाए साथ ही मेरा चेक वापस दिलवाया जाए.

 

LEAVE A REPLY