भिवानी कोर्ट में बदमाशों के गैंग ने पुलिसकर्मी पर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, मौके पर ही मौत

bhivani-shivani-court-firing-head-counstable-bhagirath-killed-by-mithi-giroh

भिवानी: कल रात भिवानी कोर्ट में बदमाशों के एक गैंग ने पुलिसकर्मी और कैदी पर ताबड़तोड़ गोलीबारी कर दी जिसमें पुलिसकर्मी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि कैदी घायल हो गया.

जानकारी के अनुसार एक्सपेप्टी हेड कांस्टेबल (ईएचसी) भागीरथ कोर्ट की सुरक्षा में तैनात थे, उन्हें कल सोमवार को जिला भिवानी के सिवानी अदालत में कार्यवाही के दौरान मिठी गिरोह के तीन बदमाशों ने खुलेआम गोलीबारी में मार दिया। भागीरथ उस वक्त मीठी गिरोह के प्रतिद्वंदी गिरोह के दो अभियोगाधीन, सुनील उर्फ कालिया और जय कुमार उर्फ भादर के साथ कोर्ट में मौजूद थे.

इस गोलीबारी के दौरान कोर्ट सुरक्षा में तैनात भागीरथ को गोली लग गई जिससे उनकी मृत्यु हो गई। जिला भिवानी के मिठी गांव के दो निशानेबाज सुमित और मनजीत को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है, लेकिन एक आरोपी अजय इशरवाल भागने में कामयाब रहा। पुलिस इस तीसरे आरोपी को गिरफ्तार करने का भरपूर प्रयास कर रही है।

भागीरथ की दुखद मौत पर हरियाणा के DGP बीएस संधू ने गहरा शोक व्यक्त किया है. अपने शोक संदेश में संधू ने कहा कि इस दुर्घटना से पुलिस विभाग को एक बड़ा नुकसान हुआ है, भागीरथ को उनकी बहादुरी और सेवाओं के लिए पुलिस विभाग में लंबे समय तक याद किया जाएगा। भागीरथ की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हुए उन्होंने पूरे पुलिस विभाग के साथ शोकग्रस्त परिवार के साथ सहानुभूति व्यक्त की और परिजनों को इस अपूर्णीय क्षति को सहन करने की शक्ति देने की कामना की।

संधू ने यह भी घोषणा की कि भागीरथ के परिजनों को 30 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि विशेष अनुकंपा (एक्स-ग्रेशिया) योजना के तहत एक नौकरी भी उनके परिवार के एक सदस्य को देने की पेशकश की जाएगी। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि उनका अंतिम संस्कार पूर्ण-सम्मान के साथ किया जाएगा।