शशि सिंह बोलीं, लड़की के घर वाले जिसका घर मजबूत देखते हैं, लड़की भेजकर रेप का आरोप लगवा देते हैं

shashi-singh-exposed-unnav-gangrape-case-victim-girl-news

उन्नाव: उन्नाव कांड में गैंगरेप पीडिता ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के आलवा शशि सिंह पर भी आरोप लगाए हैं. पीड़ित पक्ष का कहना है कि शशि सिंह लड़की को बहला फुसलाकर नौकरी दिलाने के बहाने विधायक के पास ले गयी थी जहाँ पर उसके साथ गैंगरेप किया गया.

अब इस मामले में शशि सिंह भी खुलकर सामने आ गयी हैं. उन्होंने इसे लड़की का धंधा बताया है. उन्होंने कहा कि ये लोग मजबूत और संपन्न घर ढूंढते हैं और वहां पर अपनी लड़की को भेजकर लड़कों पर रेप का आरोप लगा देती है, उसके बाद लड़के के साथ शादी करने का दबाव डाला जाता है. जब लड़का शादी नहीं करता तो उसे जेल भिजवा अदिया जाता है.

शशि सिंह ने बताया कि उनके साथ खुद ऐसा किया गया है, लड़की ने उनके लड़के को भी गैंगरेप में फंसाया है. उसके साथ शादी करने का दबाव बनाया गया, मेरे बेटे ने शादी नहीं की तो उसे जेल भिजवा दिया गया. मेरा बेटा महीनें जेल की सजा काटकर जमानत पर छूटा है.

शशि सिंह ने बताया कि मेरा बेटा बीटेक की पढ़ाई कर रहा था, उसकी जिंदगी भी बर्बाद हो गयी. शशि सिंह के पति फौजी हैं और उन्होंने भी इसे फर्जी मामला बताया है.

शशि सिंह ने बताया कि पिछले साल आरोपी लड़की ने उनके बेटे शुभम पर गैंगरेप का आरोप लगाया और कहा कि अगर मेरे साथ शादी नहीं की तो फंसा दूँगी, शशि सिंह ने कहा कि मैं अपने बेटे की शादी तुमसे नहीं करा सकती, इसके बाद लड़की ने मेरे बेटे पर गैंगरेप का आरोप लगाकर उसे जेल भिजवा दिया. अब वही लड़की विधायक जी पर गैंगरेप का आरोप लगा रही है

शशि सिंह ने बताया कि लड़की ने चार लड़कों पर गैंगरेप के आरोप लगाए थे, एक नरेश तिवारी था जिसे 9 महींने बाद जेल से जमानत मिली है. इनके घर का धंधा बन गया है, ये लोग जिसका घर मजबूत देखते हैं उसके घर में अपनी बेटी को भेज देते हैं और उसपर आरोप लगाकर शादी करने का दबाव बनाते हैं, महेश ने लड़की को यही बोलकर मेरे बेटे को फंसवाया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आरोपी पक्ष शशि सिंह पर आरोप लगा रहा है कि वही पीड़ित लड़की को विधायक के पास लेकर गयी थीं और उसका गैंगरेप करवा दिया. लेकिन अब पता चल रहा है कि लड़की शशि सिंह के बेटे पर ही गैंगरेप का आरोप लगाकर उसे जेल भिजवा चुकी है.

आरोपी शुभम ने बताया कि महेश सिंह ने मुझपर दबाव बनाया था कि अगर तुम लड़की से शादी कर लो तो मैं तुम्हारा नाम FIR से निकाल दूंगा, मैंने शादी नहीं की तो मुझपर झूठा आरोप लगाकर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया गया और मुझे जेल भेज दिया गया. मुझे पांच महीनें बाद जमानत मिली. अब वो लड़की विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर भी गैंगरेप का मामला दर्ज करवा रही है.