70 साल से दलितों के मसीहा आंबेडकर का संविधान लागू है, फिर भी दलित क्यों पिछड़े हैं: दुर्गेश राज

durgesh-raj-question-why-dalits-backward-ambedkar-constitution

नई दिल्ली: ट्विटर पर कभी कभी ऐसे प्रश्न उठा दिए जाते हैं कि उसका जवाब देना मुश्किल हो जाता है. दुर्गेश राज ने एक बड़ा सवाल उठाया है कि दलित पिछड़े क्यों हैं.

उन्होंने कहा कि – आंबेडकर को दलित पूजते हैं, उसी आंबेडकर से संविधान बनाया, और वही संविधान 70 सालो से लागू है, उसके बावजूद भी दलित आज भी, खुद को पिछड़ा मानते है, तो क्यों नहीं अब संविधान को बदला जाये? क्या पता दलितों का भला हो जाये.

बता दें कि भारत में दलितों को पिछड़ा माना जाता है. उन्हें आरक्षण की सुविधा भी मिल रही है, उसके बावजूद भी दलितों को समाज में पिछड़ा माना जाता है. अगर संविधान में उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है तो क्या सच में संविधान में बदलाव होना चाहिए. यह बड़ा वाजिब प्रश्न है.