स्मृति ईरानी ने किया खुलासा, कपिल सिब्बल ने पियूष गोयल के साथ मिलकर किया घोटाला, पढ़ें

smriti-irani-exposed-

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एक बड़ा खुलासा किया है, उन्होंने आज एक प्रेस वार्ता में बताया कि कांग्रेस सरकार में कानून और न्याय मंत्री कपिल सिब्बल ने एक घोटालेबाज पियूष गोयल से मिलकर घोटाला किया था. उन्होंने मनी लौन्डरिंग करके करोड़ों रुपये अपने नाम किये.

स्मृति ईरानी ने बताया कि 26 मई 2014 तक कपिल सिब्बल देश के कानून और न्याय मंत्री थे, नवम्बर 2013 में PTI और बिसनेस टुडे पत्रिका में एक खबर छपी, CBI एक केस में एक SBI ऑफिसर के खिलाफ जांच कर रही थी, उनपर लोन मामले में घूस लेने का चार्ज था. उस ऑफिसर का नाम पियूष गोयल था जो वर्ल्ड विंडो ग्रुप के चेयरपर्सन थे, साउथ अफ्रीका की एक ऑनलाइन न्यूज़ साईट जिसका नाम है डेली माव्रिक ने इस मामले की खबर छापी.

एक और पत्रिका जो ऑनलाइन इन्वेस्टीगेटिव जर्नालिस्म करता है उसमें भी पियूष गोयल का उल्लेख किया और अपनी स्टोरी में ये लिखा कि यह व्यक्ति मनी लौन्डरिंग मामलों में लिप्त पाया गया है, इस संभावना को व्यक्त करते हुए साउथ अफ्रीका की इस साईट ने जब सिब्बल साहब से संपर्क किया तो उनके बीच की वार्तालाप डेली माव्रिक की न्यूज़ साईट पर उपलब्ध है. हिंदुस्तान की एक न्यूज़ साईट Opindia.com ने 28 मार्च को इसी सन्दर्भ में एक और स्टोरी लिखी है.

स्मृति ईरानी ने कहा कि जिस व्यक्ति के खिलाफ UPA सरकार में घूस को लेकर CBI जाँच कर रही थी, जिस व्यक्ति के बारे में साउथ अफ्रीकन पत्रिका मनी लौन्डरिंग का आरोप लगा रही थीं, उसी व्यक्ति से कपिल सिब्बल और उनकी धर्म पत्नी ने ग्रैंड कैस्टेलो नाम की एक कंपनी का मालिकाना हक प्राप्त किया. Opindia के आर्टिकल को कोट करते हुए मैं कहना चाहती हूँ कि ग्रैंड कैस्टेलो कंपनी का 2013-14 में कोई बिसनेस नहीं हुआ लेकिन उसनें 45.21 करोड़ की जमीन बना ली. Opindia की रिपोर्ट के अनुसार एक बार यह जमीन 2013-14 में रजिस्टर होती है तो उस जमीन को मार्किट वैल्यू के आधार पर रि-वैल्यू किया जाता है और अब इस जमीन की कीमत 89 करोड़ रुपये हो जाती है. कपिल सिब्बल ने बिना कुछ किये ही करोड़ों रुपये बना लिए.