मोदी के खिलाफ फेक ख़बरें लिखने के लिए हायर किए गए थे 68 पत्रकार, पोल खुलने से खेल खराब

congress-hire-68-journalist-to-write-fake-article-to-defame-modi

नई दिल्ली: कांग्रेस और कैम्ब्रिज एनालिटिका की पोल अब पूरी तरह से खुल चुकी है. कैम्ब्रिज  एनालिटिका के मालिक एलेग्जेंडर मिक्स के लन्दन वाले ऑफिस में कांग्रेस पार्टी के लोगों की बाकायदा फोटो लगी है. कांग्रेस को सबसे बड़ा क्लाइंट बताया गया है.

यह भी खबर आयी है कि कांग्रेस भारत में जातिवाद की राजनीति कैम्ब्रिज एनालिटिका के कहने से ही खेल रही है. इसकी बिसात गुजरात चुनाव से ही बिछा दी गयी थी. गुजरात में दलित, पटेल, ओबीसी, मुस्लिम, जनेऊधारी हिन्दू और मंदिरों की राजनीति के पीछे  कैम्ब्रिज एनालिटिका का ही दिमाग था.

सबसे हैरान खबर यह है कि मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए 68 पत्रकारों को हायर किया गया था जो मोदी को बदनाम करने और जातिवाद भड़काने के लिए फेक ख़बरें लिखते थे और उसे फेसबुक की मदद से सोशल मीडिया पर वायरल किया जाता था. कैम्ब्रिज के खुलासे के बाद विरोधियों का सारा खेल खराब हो गया है.