केजरीवाल इतना खर्च करेंगे अपने विज्ञापन पर कि बन जाएं 257 लोग करोड़पति, पढ़ें

arvind-kejriwal-will-spent-rs-257-crore-on-publicity

नई दिल्ली, 24 मार्च: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने 2014 में वादा किया था कि आम आदमी की तरह सरकार चलाएंगे, गाडी, बंगला, ऑफिस नहीं लेंगे, फालतू पैसे नहीं खर्च करेंगे लेकिन केजरीवाल ने वर्ष 2018-19 में विज्ञापन और प्रचार पर 257 करोड़ रुपये का भारी भरकम बजट घोषित करके सबके होश उड़ा दिए हैं. यह राशि पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा खर्च किये गए बजट से 300 फ़ीसदी अधिक है. इतने पैसों से 257 लोग करोड़पति बन सकते हैं और जीवन भर बैठकर खा सकते हैं.

भारतीय जनता पार्टी ने केजरीवाल के विज्ञापन पर भारी भरकम बजट पर निशाना साधा है. बीजेपी ने कहा है – 257 करोड़ केवल विज्ञापन पर खर्च करेगी केजरीवाल सरकार, पिछली बार से 29% ज्यादा। पिछले बजट में भले ही 17000 करोड़ दिल्ली के विकास के लिए ख़र्च ना कर पायी हो दिल्ली सरकार मगर अपने विज्ञापन पर ख़र्च बजट से भी ऊपर ही करके दिखाएँगे केजरीवाल जी ।

दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा पेश किया गया चौथा बजट एक बार फिर चर्चा में है। इस बजट में आप सरकार की ओर से कई योजनाओं का ऐलान अलावा विज्ञापनों पर खर्च पर भी खासा धन उपलब्ध कराया गया है। विज्ञापनों को लेकर चर्चा व विवादों में रही आम आदमी पार्टी सरकार ने 2018-19 में सूचना और प्रचार के लिए 257 करोड़ रुपए का बजट तय किया है। हैरत वाली बात यह है कि यह राशि पिछले बजट की तुलना में लगभग 29 फीसदी अधिक है। विज्ञापन के लिए बेजा बजट खर्च करने के सवाल पर अरविंद केजरीवाल सरकार के अक्सर विवादों में घिरी रही है।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए कुल 53,000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया है जिसमें से 257 करोड़ रुपये सिर्फ प्रचार पर खर्च होंगे.