बैंकों और गरीबों को लूटकर फरार हुआ अनिल जिंदल, पकड़ने में फिर फेल हो गयी सरकार

anil-jindal-run-away-from-faridabad

फरीदाबाद, 10 मार्च: कुछ दिनों पहले हमने आशंका जाहिर की थी कि फरीदाबाद के हजारों लोगों से हजारों करोड़ रुपये उधारी खाने वाला और बैंकों से करोड़ों रुपये का लोन चट कर जाने वाला अनिल जिंदल देश से फरार हो सकता है. अब यह बात सच होती दिख रही है क्योंकि शहर में अफवाह उड़ चुकी है कि अनिल जिंदल इस वक्त देश से बाहर चला गया है. हो सकता है कि नीरव मोदी और विजय माल्या की तरह वह भी भगोड़ा बनकर बीजेपी सरकार के लिए सिरदर्द साबित हो फिलहाल उसके भागने की पुष्टि नहीं हो पाई है.

हमारी खबर पढ़कर कुछ दिनों पहले इनकम टैक्स ने अनिल जिंदल के घर पर छापा भी मारा था लेकिन तब तक शायद अनिल जिंदल फरार हो गया था इसलिए अधकारियों की पकड़ में वह नहीं आया, कुछ दिनों पहले फरीदाबाद पुलिस ने उसके खिलाफ मामला भी दर्ज किया था लेकिन शायद उसके भागने के बाद पुलिस ने दिखावा करने के लिए यह काम किया हो ताकि पुलिस पर कोई आंच ना आने पाए.

यह भी कहा जा रहा है कि एसआरएस ग्रुप का कारोबार भारत में ही नहीं दक्षिण अफ्रीका में भी है जहां अनिल जिंदल ने करीब 350 बसें वहां खरीदी हैं। इसके अलावा कुछ और देशों में भी कारोबार बताया जा रहा है। कल जब अनिल जिंदल के एसआरएस टावर पर छापेमारी हुई थी तो वहां कॉरपोरेशन बैंक के अधिकारी भी पहुंचे थे।

बैंक के चीफ मैनेजर राजमोहन ने बताया कि इस ग्रुप ने 2011/12 में 50 करोड़ रुपए का लोन लिया था। इसका भुगतान न करने पर कई बार नोटिस दिए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि जिंदल का घर भी बैंक ऑफ बड़ौदा के पास गिरवी रखा हुआ है। इसके अलावा अन्य काफी बैंकों का करोड़ों रुपया बकाया है। बैंक अधिकारियों ने कल मौके पर प्रदर्शन भी किया था।

जिंदल इतना बड़ा फ्राड कर रहा था संभव है कुछ नेताओं का भी इस पर हाँथ रहा हो। एक तरह ये हजारों करोड़ ठग रहा था तो दूसरी तरह कभी कभी कुछ सरकारी विभागों को कुछ लाख दान कर देता था और अनिल जिंदल कहा फरारी काट रहा है अभी तक कुछ पता नहीं है। हाल में मामला दर्ज होने के बाद ही ये फरार हो गया था। फरीदाबाद पुलिस इसकी तलाश कर रही होगी।

LEAVE A REPLY