कांग्रेस सरकार में भारत का कोई जर्नलिस्ट सेफ नहीं रहेगा, सब भेजे जाएंगे जेल: अमित मालवीय

amit-malviya-said-if-congress-will-come-all-journalist-will-jail-like-emergency

नई दिल्ली: इंडिया टुडे के डिबेट शो कर्नाटक पंचायत में आज फेक न्यूज़ का मामला उठा. शो में बीजेपी आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय और कांग्रेस आईटी सेल के चीफ दिव्या स्पंदना के बीच फेक न्यूज़ मामले पर तीखी बहस हुई. फेक न्यूज़ मामले पर कर्नाटक पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए पोस्ट कार्ड न्यूज़ के जर्नलिस्ट महेश विक्रम हेगड़े की गिरफ्तारी को दिव्या स्पंदना ने सही ठहराया, इंडिया टुडे के एंकर राहुल गाँधी ने भी महेश विक्रम हेगड़े की गिरफ्तारी को उचित ठहराया.

इसके जवाब में बीजेपी आईटी सेल के चीफ अमिल मालवीय ने कहा कि अगर रिकॉर्ड उठाकर देखा जाए तो कांग्रेस सरकार में भारत का कोई भी पत्रकार सुरक्षित नहीं है, हर पत्रकार को जेल भेजा जाएगा क्योंकि हर पत्रकार कोई ना कोई झूठी खबर, फेक ट्वीट या फेक फेसबुक पोस्ट करता है, अगर ऐसी बातों को आधार बनाकर गिरफ्तारी की जाने लगे तो हर पत्रकार को गिरफ्तार किया जाएगा.

अमित मालवीय ने कहा कि अगर पत्रकारों की आवाज को इस तरह से दबाया जाएगा तो देश में फिर से इमरजेंसी लागू हो जाएगी. कांग्रेस पहले भी इमरजेंसी लागू कर चुकी है, उस समय सभी मीडिया के लोगों की आवाज दबाकर उन्हें जेल में ठूंस दिया गया था, क्या भारत फिर से वही हालात देखना चाहता है.

अमित मालवीय ने कहा कि एक पत्रकार को सुबह 4 बजे उसके घर से उठा लिया, उन्हें उस समय उठाया गया जब कोर्ट एक हप्ते के लिए बंद हो गयी थी ताकि वह कोर्ट से बेल ना ले सके. अगर ऐसा होने लगेगा तो हर ब्लॉगर को जेल भेजा जाएगा, हर पत्रकार के घर के बाहर सुबह 4 बजे पुलिस खड़ी रहेगी, किसी के पास फ्रीडम ऑफ़ एक्सप्रेशन नहीं रहेगा.