जोशीले कवि अमित शर्मा बोले, तीन तलाक ख़त्म किया, अब कई शादियाँ, कई बच्चों पर भी रोक लगाए सरकार

LIKE फेसबुक पेज
poet-amit-sharma-demand-for-population-control-law-from-sarkar

कल सुप्रीम कोर्ट ने भारत सरकार की राय के आधार पर मुस्लिम समुदाय से तीन तलाक की प्रथा को ख़त्म कर दिया. तीन तलाक ख़त्म होने के साथ साथ मुस्लिम महिलाओं को हलाला के दर्द से भी मुक्ति मिल गयी क्योंकि इससे पहले जल्दबाजी में तलाक के बाद उन्हें किसी दूसरे व्यक्ति से एक रात के लिए शादी करके अपना हलाला करवाना पड़ता था जिसके बाद ही वे अपने पहले पति से शादी कर सकती थीं. अब दोनों बुराइयों – ट्रिपल तलाक और हलाला को ख़त्म कर दिया गया है.

तीन तलाक और हलाला ख़त्म होने से देश के लोग खुश हैं, खुश लोगों में भारत के युवा और जोशीले कवि अमित शर्मा भी हैं. अमित शर्मा थोड़ा और सुधार चाहते हैं इसलिए उन्होंने भारत सरकार से मांग की है कि जैसे उन्होंने तीन तलाक ख़त्म किया, अब जनसँख्या पर लगाम लगाने के लिए कानून बनाना चाहिए और कई शादियों, कई बच्चों पर रोक लगानी चाहिए.

अमित शर्मा ने सरकार को चीन से सीख लेने की सलाह दी है, आपको पता दें कि 1979 में चीन ने बहुत सख्त जनसँख्या कानून One Child Policy लागू कर दी थी. चीन ने केवल 1 बच्चा पैदा करने की अनुमति दी थी. कानून का उल्लंघन करने वालों को कड़ी सजा दी जाती थी. देखते ही देखते चीन की जनसँख्या पर लगाम लग गया और वह एक बार फिर से तरक्की करने लगा, आज चीन की अर्थव्यवस्था दुनिया में सबसे बड़ी है. टेक्नोलॉजी के मामले में चीन बहुत तेजी से विकास कर रहा है.

अमित शर्मा चाहते हैं कि भारत में भी ऐसा ही जनसँख्या नियंत्रण कानून लागू किया जाय ताकि भारत भी तेज गति से विकास कर सके. मौजूदा समय में भारत की जनसँख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है. अगर यही हाल रहा तो आने वाले समय में रहने, खाने और अन्य चीजों की कमीं हो जाएगी और हो सकता है कि गृह युद्ध छिड़ जाय.

LEAVE A REPLY