दिग्गज कवि अमित शर्मा बोले ‘हामिद अंसारी ने अपनी कौम के लिए मर्दों वाला काम किया है’ क्योंकि..

kavi-amit-sharma-slams-hamid-ansari-told-him-only-muslman

उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी कल अपना पद से रिटायर हो रहे हैं लेकिन जाने से पहले उन्होंने एक अलग चर्चा छेड़कर भारत का राजनीतिक माहौल गर्म कर दिया. कल उन्होंने राज्य सभा टीवी को इंटरव्यू देते हुए कहा था कि मौजूद समय में देश के मुस्लिम खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, मुस्लिमों में निराशा और घबराहट का माहौल है. भीड़ की हिंसा मुस्लिमों में डर पैदा कर रही है.

हामिद अंसारी के इस बयान की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना हो रही है क्योंकि 10 साल तक उन्होंने कुर्सी पर बैटकर काजू बादाम खाए और अब कुर्सी से उतरते ही उन्हें मुस्लिमों का ख्याल आ गयी और साम्प्रदाईक राजनीति शुरू कर दी.

भारत के मशहूर युवा कवी अमित शर्मा ने भी हामिद अंसारी के बयान पर ब्यंग कसा. उन्होंने कहा कि हामिद अंसारी ने जाते जाते भी अपनी कौम के लिए मर्दों वाला काम किया है, जो उखाड़ सको उखाड़ लो, अमित शर्मा ने कहा कि वे हिन्दुओं की तरह धर्मनिरपेक्ष नहीं हैं बल्कि सिर्फ के मुसलमान हैं.

amit-sharma-poet-news-in-hindi

अमित शर्म के कहने का मतलब है कि हिन्दू लोग धर्मनिर्पक्षता के चक्कर में पड़े रहते हैं और खुद को हिन्दू बोलने में भी शर्माते हैं लेकिन हामिद अंसारी ने उप-राष्ट्रपति पद पर 10 साल तक काम करने के बाद भी साबित कर दिया कि वो सिर्फ मुसलमान हैं और सिर्फ मुसलामानों के लिए सोचते हैं क्योंकि परेशान तो बंगाल के हिन्दू भी हैं, परेशान तो केरल के संघ कार्यकर्ता भी हैं, परेशान तो कश्मीर के हिन्दू भी हैं लेकिन हामिद अंसारी ने कभी उनके बारे में बात नहीं की, उन्हें सिर्फ मुसलमानों की परेशानी दिख रही है क्योंकि वो सिर्फ मुसलमान हैं.

LEAVE A REPLY