Showing posts with label Uttar Pradesh. Show all posts
Showing posts with label Uttar Pradesh. Show all posts

Saturday, February 25, 2017

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी का एक कारनामा बताते हुए आज PM MODI को भी लगा ‘डर’: पढ़ें

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी का एक कारनामा बताते हुए आज PM MODI को भी लगा ‘डर’: पढ़ें

pm-narendra-modi-gonda-rally-smachar-in-hindi
गोंडा: आज प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तर प्रदेश के गोंडा में चुनावी रैली को संबोधित किया, उन्होंने आज समाजवादी पार्टी के एक ऐसे कारनामे के बारे में बताया जिसे बताते हुए उन्हें भी डर लग रहा था, उन्हें भी टेंशन हो रही थी लेकिन मोदी ने सपा के इस कारनामे को बता ही दिया। 

मोदी ने बताया कि एक थोक व्यापार होता है और एक फुटकर व्यापार होता है। मैं देख रहा हूँ कि हिंदुस्तान के हर राज्य की परीक्षाओं में छोटी मोटी चोरी की घटनाएं होती हैं, कहीं कोई विद्यार्थी चोरी करता है, कभी कोई मास्टर जी करते हैं लेकिन गोंडा में तो जत्थाबंद चोरी का व्यापार चलता है, यहाँ पर चोरी करने की नीलामी चलती है, यहाँ पर टेंडर निकलते हैं कि अगर हमारे यहाँ पर परीक्षा का केंद्र लगा दो तो इतना पैसा दे दूंगा और जिस स्कूल वाले को परीक्षा केंद्र मिलता है वह हर विद्यार्थी के माँ-बाप को कहता है कि 3000, 4000, 5000 डेली का लगेगा और नक़ल मिलेगी। 

मोदी ने बताया कि अगर गणित का पेपर है तो इतना, विज्ञान का पेपर है तो इतना। मोदी ने लोगों से पूछा - आप बताइए ये होता है कि नहीं होता है। मोदी ने पूछा - इस चोरी से किसी का भला होता है क्या ? जो चोरी करके निकलता है उसका भला होता है क्या? जिस माँ बाप के हाथ से रूपया जाता है उनका भला होता है क्या? जो माँ-बाप पैसे नहीं दे पाते और उनका होनहार बच्चा पीछे रह जाता है उनका भला हो पाता है क्या?

मोदी ने कहा - ये ठेकेदारी बंद होनी चाहिए या नहीं होनी चाहिए? ये बेईमानी बंद होनी चाहिए या नहीं होनी चाहिए? ये परीक्षा केन्द्रों की नालामी बंद होनी चाहिए या नहीं होनी चाहिए?

मोदी ने कहा कि आज मैं इस विषय पर बोलूं या ना बोलूं, मैं सच बताता हूँ मुझे डर लग रहा था। मैं इसलिए डर रहा था क्योंकि मेरा भाषण टीवी पर पूरे देश के लोग देखते हैं, मैंने सोचा कहीं कुछ लोगों को आइडिया ना मिल जाए कि बेईमानी का ये भी बढ़िया रास्ता है। मुझे ये डर लग रहा था कि कुछ लोग सपा के इस कारोबार को सीख ना लें, इसका मुझे डर लग रहा था। 

मोदी ने कहा कि सपा का ये कारोबार मेरे देश की भावी पीढ़ी को तबाह करने वाला कारोबार है, ये कारोबार बंद होना चाहिए। श्रीमान अखिलेश जी, आपका तो कुनबा इतना बड़ा है कि आप ऑस्ट्रेलिया पढने चले गए, आपने बच्चे भी बड़े बड़े स्कूलों में मंहगी फीस देकर पढ़ रहे हैं लेकिन हमारे गोंडा के बच्चों का क्या भविष्य होगा इस बात की मुझे बड़ी पीड़ा है। मोदी ने कहा कि 'शिक्षा के साथ जो अपराध जुड़ गया है यह आने वाली पीढ़ियों को तबाह करके रख देता है। 

Friday, February 24, 2017

अमित शाह ने अखिलेश यादव को बता दिया 'UP में अच्छे दिन की तारीख और समय', आप भी पढ़ें

अमित शाह ने अखिलेश यादव को बता दिया 'UP में अच्छे दिन की तारीख और समय', आप भी पढ़ें

amit-shah-azamgarh-rally-samachar-in-hindi
आजमगढ़: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को उनके अच्छे दिनों के सवाल का जबरजस्त जवाब दिया और उन्हें अच्छे दिन की तारीख और समय भी बता दिया। 

अमित शाह ने कहा कि अखिलेश जी पूछते हैं - मोदीजी बताओ यूपी के अच्छे दिन कब आएँगे। अमति शाह ने लोगों से पूछा - यूपी का मुख्यमंत्री कौन हैं तो लोगों ने कहा अखिलेश। अमित शाह ने कहा कि यूपी में पांच साल से अखिलेश की सरकार है और वे स्वयं मुख्यमंत्री हैं तो अच्छे दिन लाने की जिम्मेदारी किसकी है। लोगों ने कहा - अखिलेश की। 

अमित शाह ने कहा कि - सरकार अखिलेश की है, अच्छे दिन उन्हें लाने चाहिए थे लेकिन वे ला नहीं पाए, अब वे हमें पूछ रहे है लेकिन हम उसका भी जवाब दे देते हैं। 

उन्होंने कहा - अखिलेश जी, कान खोलकर सुन लो मैं बता देता हूँ कब आएँगे उत्तर प्रदेश के अच्छे दिन। 11 मार्च को मतगणना होगी। सुबह 8 बजे मतगणना शुरू होगी, 9 बजे 10 राउंड समाप्त होंगे, 10 बजे 15 राउंड समाप्त होंगे और 12 बजे मतगणना समाप्त होगी, 1 बजे अखिलेश सरकार समाप्त हो जाएगी। 

अमित शाह ने कहा - अखिलेश जी, तारीख और समय लिख लो, 11 मार्च 2017 दोपहर 1 बजे बीजेपी की सरकार बन जाएगी और उत्तर प्रदेश के अच्छे दिन आ जाएंगे। 
शीला दीक्षित का बयान सुनाकर अमित शाह ने राहुल गाँधी का बना दिया मजाक, उड़वा दी हंसी: पढ़ें

शीला दीक्षित का बयान सुनाकर अमित शाह ने राहुल गाँधी का बना दिया मजाक, उड़वा दी हंसी: पढ़ें

amit-shah-samachar-in-hindi
आजमगढ़: आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गाँधी का बजाक बना दिया और उनकी हंसी उड़वा दी, इसके लिए उन्होंने कांग्रेस की नेता और दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बयान का सहारा लिया। अमित शाह ने कहा कि आपने सुना होगा, कांग्रेस ने शीला दीक्षित को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किया था लेकिन अब उन्हें गायब करके सपा के साथ गठबंधन कर लिया।

अमित शाह ने बताया कि आज मैंने शीला दीक्षित का टाइम्स ऑफ़ इंडिया में बयान पढ़ा जिसमें उन्होंने कहा है कि राहुल गाँधी अभी Mature यानी समझदार नहीं हैं, उन्हें समझदार होने में थोड़ा समय दीजिये।

अमति शाह ने कहा - शीला जी, आपकी बात तो पूरा देश जानता है लेकिन वे Mature यानी समझदार नहीं हैं तो आप उन्हें उत्तर प्रदेश में क्यों थोप रही हैं। ये मैं नहीं कह रहा हूँ, ये शीला दीक्षित ने कहा है कि राहुल गाँधी अभी समझदार नहीं हैं। 

अमित शाह ने कहा - ये उत्तर प्रदेश की धरती कोई प्रयोग भूमि है क्या? क्या यहाँ पर सीखने के लिए किसी को भेजना है, अरे उत्तर प्रदेश तो समस्याओं का दरिया है, इन समस्याओं का समाधान करने के लिए कलेजा चाहिए, इन दोनों शहजादों के पास कलेजा नहीं है, ये उत्तर प्रदेश की समस्या का समाधान नहीं कर सकते, उत्तर प्रदेश की समस्या का समाधान नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार ही कर सकती है।

अमित शाह ने कहा कि ये दोनों शहजादे ऐसे हैं, एक से तो उसकी माँ परेशान है और दूसरे से उसका बाप परेशान है और दोनों से पूरा उत्तर प्रदेश परेशान है।
हम रमजान व दिवाली में भेद नहीं करते: अखिलेश यादव

हम रमजान व दिवाली में भेद नहीं करते: अखिलेश यादव

akhilesh-yadav-samachar-in-hindi
फैजाबाद, 24 फरवरी: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि समाजवादी लोग रमजान और दिवाली में भेद नहीं करते। हम विकास की बात करते हैं और भाजपा वाले श्मशान व कब्रिस्तान की बात कर रहे हैं। फैजाबाद में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि मोदी गंगा और सरयू नदी की कसम खाकर बताएं कि वाराणसी को 24 घंटे बिजली मिल रही है या नहीं?

अखिलेश ने जनसभा में उड़ी भीड़ से कहा, "हम उप्र में सरकार बनाना चाहते हैं, इसलिए हम आप लोगों से अपील करने आए हैं कि यहां के प्रत्याशी को जिताएं।"

उप्र की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती पर हमला करते हुए अखिलेश ने कहा, "बुआ से सावधान रहना, क्योंकि वह तीन बार भाजपा के साथ मिलकर रक्षाबंधन मना चुकी हैं।"

अखिलेश ने मायावती पर लोकसभा चुनाव में अपना वोट भाजपा को स्थानांतरित करा देने का भी आरोप लगाया।

मुख्यमंत्री ने कहा, "बसपा में बिना पैसे के टिकट नहीं मिलता। उस पार्टी से आप क्या उम्मीद कर सकते हैं?"

कांग्रेस के साथ गठबंधन पर उन्होंने कहा, "अब साइकिल के हैंडल पर हाथ आ गया है तो उप्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनने जा रही है।"
नोटबंदी के बाद बड़ी ताकतें झूठ फैलाने में लगी हैं लेकिन लोग तीसरी आंख से सच देख रहे हैं: MODI

नोटबंदी के बाद बड़ी ताकतें झूठ फैलाने में लगी हैं लेकिन लोग तीसरी आंख से सच देख रहे हैं: MODI

modi-gonda-rally-taja-samachar-in-hindi
गोंडा: प्रधानमंत्री मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एक बड़ी चुनावी रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद देश की बड़ी बड़ी ताकतें झूठ फैलाने और लोगों को भ्रमित करने में लगी हैं लेकिन हिंदुस्तान के लोग भगवान शिव की तरह तीसरी आँख से सच देख रहे हैं। 

मोदी ने कहा कि हमारे देश के सामान्य व्यक्ति चाहे वो पढ़े लिखें हो या ना हो, स्कूल का दरवाजा झांका हो या ना हो, अखबार पढ़ते हों या ना पढ़ते हों लेकिन भगवान शिव की तरह हिंदुस्तान के लोगों में एक तीसरा नेत्र होता है और उस तीसरे नेत्र से वो भली भाँती परख लेते हैं कि सच क्या है, झूठ क्या है, सही क्या है गलत क्या है, कौन सा रास्ता सही है कौन सा रास्ता है।

मोदी ने कहा कि हमारे देश में झूठ मूठ आरोप लगाने वालों की कमी नहीं है, अनाप शनाप बयानबाजी करने वालों की कमी नहीं है, हर दिन नया झूठ बोलने में माहिर लोगों की कमी नहीं है, झूठ फैलाने का भरपूर प्रयास होता है और अगर उस झूठ को सुनें, रोज चल रही बातों को देखें तो कोई भी इंसान डर जाएगा लेकिन उसके बावजूद भी हमारे देश का गरीब से गरीब इंसान भी सच को भली भाँती पकड़ लेता है। 

मोदी ने कहा कि जब से मैंने भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ कड़े कदम उठाना शुरू किया है और 8 नवम्बर को रात 8 बजे नोटबंदी की तब से बहुत बड़ी ताकत देश को भ्रमित करने के लिए, झूठ फैलाने के लिए जी जान से जुटी हुई है, उनको देश की चिंता कम है, देश की आर्थिक स्थिति की चिंता कम है, नोटबंदी होने से क्या नफ़ा-नुकसान हुआ इसकी भी चिंता कम है, उनको चिंता इस बात की है कि वो बड़े बड़े लोग होने के बावजूद भी बच नहीं पाए। 

मोदी ने बताया कि मायावती और मुलायम सिंह ने तो खुलेआम संसद में कह दिया था कि मोदीजी करना है तो करो लेकिन बीच में 7-8 दिन मौका तो दे दो, कुछ समय तो दे दो। मोदी ने कहा - जिन जिन को परेशानी हुई है, जिन जिन का लुट गया था वे इकठ्ठे हो गए हैं। 

मोदी ने कहा कि आपने पिछले 15 साल में सपा और बसपा दोनों अलग अलग बातें बोलते थे लेकिन नोटबंदी के बाद दोनों एक ही बात बोलने लगे। मोदी को बुरा भला कहने लगे। इन लोगों ने इतना झूठ फैलाया है उसे सुनकर कोई भी डर जाय लेकिन देश की जनता इनकी बातों में नहीं आयी और सच को पकड़ लिया।

मोदी ने बताया कि अभी अभी ओडिशा में चुनाव हुए, वहां बीजेपी को झंडा रखने की भी जगह नहीं मिलती थी लेकिन चुनाव में गरीब लोगों ने बीजेपी को भारी जनसमर्थन दिया और विशाल जीत हुई।

कल महाराष्ट्र के चुनाव के नतीजे आये, कांग्रेस कहीं नजर नहीं आ रही है, पूरी साफ़ हो गयी। चंडीगढ़ में भी कांग्रेस साफ़ हो गयी, गुजरात में पंचायत चुनाव हुए, कर्णाटक के स्थानीय चुनाव हुए, पिछले तीन महीने में जहाँ भी चुनाव हुए, जनता ने तीसरे नेत्र की ताकत से बीजेपी को समर्थन दिया और बीजेपी को विजयी बनाया।
मोदी ने कहा कि अगर ओडिशा के लोग बीजेपी का समर्थन करते हैं, चंडीगढ़ के पढ़े लिखे लोग बीजेपी को समर्थन देते हैं, महाराष्ट्र में बीजेपी के लोग समर्थन देते हैं तो हमारी जिम्मेदारी बढ़ जाती है इसलिए अब हमारे अन्दर काम करने की ताकत बढ़ गयी है इसलिए मैंने भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ मैंने जो लड़ाई छेडी है उससे पीछे हटने वाला नहीं हूँ। देश में 70 वर्षों में जितना भी धन लूटा गया है उसे मैं वापस लाकर गरीबों को दूंगा। 

Thursday, February 23, 2017

मोदी इतने बड़े पद पर होकर हमें हराने के लिए दौड़ रहे हैं समझो BJP बाजी हार चुकी है: अखिलेश यादव

मोदी इतने बड़े पद पर होकर हमें हराने के लिए दौड़ रहे हैं समझो BJP बाजी हार चुकी है: अखिलेश यादव

taja-news-akhilesh-yadav-in-hindi
बलरामपुर: उत्तर प्रदेश के बलरामपुर की जनसभा में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि 'प्रधानमंत्री इतने बड़े पद पर बैठे हैं और मुकाबला किससे कर रहे हैं? वह मुकाबला हमसे कर रहे हैं। इसी से समझ लेना चाहिए कि भाजपा यह बाजी हार गई है।'

उन्होंने कहा कि गुमराह करने के मामले में भाजपा से बड़ा दूसरा कोई दल नहीं हो सकता। भाजपा यह बाजी हार चुकी है, इसलिए वह विकास की बात करने के बजाय अन्य मुद्दों की बात कर जनता को गुमराह करने का काम कर रही है।

अखिलेश ने कहा, "हम तो कहते हैं कि हम विकास के मुद्दे पर बहस को तैयार हैं। भाजपा बताए कि उसने तीन वर्षो में क्या किया? और हम भी बताएंगे कि हमने पांच वर्षो में क्या किया? प्रधानमंत्री कहते हैं कि थानों में सपा के दफ्तर चल रहे हैं, लेकिन उनको मालूम ही नहीं है कि उप्र में 100 नं. चालू हो गया है।"

अखिलश ने कहा, "प्रधानमंत्री ने पुलिस कर्मियों को इशारा किया है कि समाजवादियों की मदद कीजिए, क्योंकि उनको मालूम है कि भाजपा यह बाजी हार गई है। शायद भाजपा को यह नहीं पता कि प्रदेश में जितनी पुलिस भर्तियां समाजवादी सरकार ने की हैं, उतनी आज तक किसी ने नहीं की हैं।"

उन्होंने बलरामपुर की जनता से अपील करते हुए कहा, "समाजवादियों के हाथ मजबूत कीजिए और हमारा साथ दीजिए। हम आपके हाथ मजबूत करेंगे।"
PM MODI बोले, महाराष्ट्र में आज कांग्रेस डूब गयी, अब यूपी में अखिलेश को भी ले डूबेगी सनम

PM MODI बोले, महाराष्ट्र में आज कांग्रेस डूब गयी, अब यूपी में अखिलेश को भी ले डूबेगी सनम

daily-hindi-news
बहराइच: प्रधानमंत्री मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के बहराइच में चुनावी रैली को संबोधित किया, मोदी ने महाराष्ट्र निकाय चुनावों की चर्चा करते हुए कहा कि आज महाराष्ट्र में कांग्रेस डूब गयी है और अब यूपी में अखिलेश को भी लेकर डूब जाएगी। 

मोदी ने कहा कि चुनावों में सत्ताधारी पार्टियाँ और मुख्यमंत्री अपने पांच साल के काम का हिसाब देते हैं लेकिन अखिलेश जी अपने किसी काम का हिसाब नहीं दे रहे हैं लेकिन टीवी पर बेशर्म बनाकर कह रहे हैं कि 'काम बोलता है'. इनका काम नहीं बोलता बल्कि कारनामे बोलते हैं, जब आप उत्तर प्रदेश की सड़कों पर गाडी चलाते हैं तो काम नहीं बोलता बल्कि ट्रक के पहिये बोलते हैं। 

मोदी ने कहा कि अखिलेश को उत्तर प्रदश के भविष्य की चिंता नहीं है, अभी कुछ दिन पहले उन्होंने कहा कि हमने दिल बड़ा करके समझौता किया है क्योंकि हमारे परिवार में सभी बड़े लोग हमें हराना चाहते थे। अखिलेश बोलते हैं कि हमने दिल बड़ा करके गठबंधन किया है, अखिलेश जी, आपने दिल बड़ा करके नहीं बल्कि दिल कड़ा करके गठबंधन किया है, मजबूरी में किया है और ये आपको बचा पाएंगे क्या?

मोदी ने कहा कि आज महाराष्ट्र में चुनाव के नतीजे आ रहे हैं और हर जगह कांग्रेस डूब गयी है, अभी दो दिन पहले ओडिशा में चुनाव रिजल्ट आये वहां से भी कांग्रेस साफ़ हो गयी, आज महाराष्ट्र के चुनावी नतीजे आ रहे हैं वहां भी कांग्रेस कहीं नजर नहीं आती है। अखिलेश जी, वो तो डूबे, तुम्हें भी ले डूबे सनम, अब आप बच नहीं सकते, उत्तर प्रदेश की जनता ऐसे अवसरवादी गठबंधन को कभी भी स्वीकार नहीं कर सकती।

मोदी ने कहा कि जो लोग गाँव गाँव यात्राएं निकालकर दो महीने पहले कहते थे '27 साल यूपी बेहाल' अचानक आपने उन्हें गले लगा लिया, आज  '27 साल यूपी बेहाल' कहें वाले और सत्ता ले दौरान यूपी को बेहाल करने वाले एक हो गए। अब कहने वाले और करने वाले मिल गए हैं इसलिए अब उत्तर प्रदेश का क्या हाल होगा इसका आप अंदाजा लगा सकते हैं। 
मोदी बोले: हाँ मैं गधों से प्रेरणा लेता हूँ और 125 करोड़ मालिकों के लिए गधे जैसा काम करता हूँ

मोदी बोले: हाँ मैं गधों से प्रेरणा लेता हूँ और 125 करोड़ मालिकों के लिए गधे जैसा काम करता हूँ

pm-narendra-modi-bahraich-rally-hindi-news
बहराइच: प्रधानमंत्री मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के बहराइच में चुनावी रैली को संबोधित किया, आज मोदी ने अखिलेश यादव के गधे वाले बयान का जवाब दिया, उन्होंने कहा कि राजनीति में सभी नेताओं की आलोचना होती है, अखिलेश जी, आप मोदी पर हमला करो समझ सकता हूँ, बीजेपी पर हमला करो समझ सकता हूँ लेकिन आप तो बेचारे गधे के ऊपर हमला करने लगे, आपको गधों से भी डर लगता है क्या? अरे वो तो आपसे इतना दूर है, आप उससे डरते काहे हो। 

मोदी ने कहा कि मैं हैरान हूँ, आपकी जातिवादी मानसिकता है, ऊंच नीच का भेदभाव करने वाली मानसिकता है लेकिन अब आप पशुओं में भी ऊंच नीच का भाव देखने लग गए, गधा आपको इतना बुरा लगने लग गया, बहुत स्वाभाविक है क्योंकि आपकी सरकार तो तो इतनी तेज है कि अगर किसी की भैंस खो जाय तो पूरी सरकार लग जाती है, यही तो आपकी सरकार की पहचान है। 

मोदी ने कहा - अखिलेश जी, आपको पता नहीं है गधा भी हमें प्रेरणा देता है, अगर दिल दिमाग साफ़ हो तो प्रेरणा ले भी सकते हैं, गधा अपने मालिक के लिए वफादार होता है, गधा अपने मालिक के लिए उतना काम करता है जितना मालिक चाहता है, इसके अलावा गधा सबसे कम खर्चे वाला होता है। 

मोदी ने कहा कि गधा कितना भी बीमार हो, कितना भी खाली पेट हो, कितना ही थका हुआ हो लेकिन अगर मालिक उससे काम लेता है तो सहन करता हुआ भी अपने मालिक का दिया काम पूरा करके रहता है, अखिलेश जी, ये सवा सौ करोड देशवासी मेरे मालिक हैं, वो मुझसे जितना काम लें करता हूँ, बिना छुट्टी लिए करता हूँ, थक जाऊं तो भी करता हूँ, कभी भूखा रहा तो भी करता हूँ क्योंकि गधे से प्रेरणा लेता हूँ और बड़े गर्व से लेता हूँ क्योंकि मैं अपने सवा सौ करोड़ देशवासियों के लिए गधे से भी अधिक मजदूरी करता हूँ और गर्व करता हूँ कि मैं अपने मालिकों के काम आता हूँ। 

मोदी बोले - गधे की पीठ पर चाहे चूना होता, चाहे चीनी हो कभी वह भेद नहीं करता है, चीनी हो तो ज्यादा चलना, चूना हो तो कम चलना, ये गधे का स्वाभाव नहीं होता है, वो तो उन लोगों का होता है जो भ्रष्टाचार में डूबे होते हैं, किस रंग का नोट टेबल पर आता है उसके हिसाब से काम करते हैं लेकिन गधा ऐसा काम नहीं करता है। 

मोदी ने कहा - अखिलेश जी, जिस गुजरात के गधों से आपको इतनी नफरत है लेकिन ये वही गुजरात है जिसने दयानंद सरस्वती को जन्म दिया, ये वही गुजरात है जिसनें महात्मा गाँधी को जन्म दिया था, वही गुजरात है जिसनें सरदार पटेल को जन्म दिया था, वही गुजरात है जिसमें भगवान कृष्ण ने यहाँ से जाकर वहां पर बसना स्वीकार किया था। 

अंत में मोदी ने कहा कि अखिलेश जी, ये देश हमारा है, हर कोना हमारा है, ये नफरत का भाव आपको शोभा नहीं देता है।

मोदी ने कहा कि अखिलेश जी के अज्ञान के बारे में मैं क्या कहूँ, लेकिन अच्छा होता कि जिनको आपने गले लगाया है उनको भी जरा गौर से देखते, उनको भी जरा समझने का प्रयास करते, आपको पता होना चाहिए, जिनको आपने गले लगाया है उनकी जब सरकार थी, जिनके गले लगकर आप लोगों से वोट मांग रहे हो उस UPA सरकार ने 2013 में इन्हीं गुजरात के गधों का डॉक टिकट निकाला था। अखिलेश जी, वो गधा कितना होनहार होगा, वो गधा कितना महत्वपूर्ण होगा, ये अब आपको समझ में आ गया होगा। 
UP Poll 2017: चौथे चरण में 2 घंटों में 10 फ़ीसदी वोटिंग

UP Poll 2017: चौथे चरण में 2 घंटों में 10 फ़ीसदी वोटिंग

up-poll-2017-4th-phase

लखनऊ, 23 फरवरी: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के तहत गुरुवार को 12 जिलों की 53 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और शुरुआती दो घंटों में यानी सुबह नौ बजे तक 10.20 फीसदी मतदान होने की सूचना है। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी व इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति डी. वी. भोसले ने भी सुबह इलाहाबाद में मतदान किया।

राज्य निर्वाचन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सुबह नौ बजे तक इलाहाबाद में 9.60 फीसद, बांदा में 10.58 प्रतिशत, चित्रकूट में 11.40 प्रतिशत, फतेहपुर में 9.72 प्रतिशत, हमीरपुर में 10.50 प्रतिशत, झांसी में 10.40 प्रतिशत, जालौन में 8.67 प्रतिशत, कौशाम्बी में 11.80 प्रतिशत, प्रतापगढ़ में 9.75 प्रतिशत, रायबरेली में 10.23 प्रतिशत और महोबा में 13 प्रतिशत मतदान होने की सूचना है।

रायबरेली जिले के सदर विधानसभा 180 की बूथ संख्या 256 में दो घंटे विलंब से मतदान शुरू हुआ। झांसी में बबीना विधानसभा क्षेत्र के बरुआसागर में बूथ नंबर 101 सरस्वती मंदिर स्कूल में भी ईवीएम में खराबी आने की वजह से एक घंटे मतदान प्रभावित हुआ। भाजपा प्रत्याशी ने शिकायत दर्ज कराई है।

ज्ञात हो कि 53 विधानसभा सीटों पर कुल 680 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें 61 महिला उम्मीदवार हैं।

उन्होंने बताया कि मतदान सुबह सात बजे शुरू हो गया, जो सायं पांच बजे तक चलेगा। सबसे ज्यादा मतदाता ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में हैं। इस क्षेत्र में मतदाताओं की संख्या 4,53,162 है, जबकि सबसे कम मतदाता अयाहशाह (फतेहपुर) विधानसभा क्षेत्र में 2,60,439 हैं। 

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी. वेंकटेश ने बताया कि चौथे चरण में दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 91,507 है। मतदान केन्द्रों की संख्या 12,492 है, जबकि 19,487 मतदेय स्थल बनाए गए हैं।

उन्होंने बताया कि इस चरण में कुल 680 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें महिला प्रत्याशियों की संख्या 61 है। सबसे अधिक 26 प्रत्याशी इलाहाबाद उत्तरी सीट पर हैं। सबसे कम छह प्रत्याशी खागा विधानसभा (फतेहपुर), कुंडा (प्रतापगढ) और मंझनपुर (कौशाम्बी) में है।

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इस चरण में 3,26,473 (18-19 वर्ष) युवा मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। चौथे चरण में मतदेय स्थलों पर 1308 डिजिटल कैमरा तथा 991 वीडियो कैमरा की व्यवस्था की गई है।
BMC Election Result 2017: शुरुआती नतीजों में शिवसेना BJP से आगे

BMC Election Result 2017: शुरुआती नतीजों में शिवसेना BJP से आगे

bmc-election-result-2017
मुंबई: BMC चुनावों के नतीजे आने शुरू हो गए हैं, शुरुआती रुझानों में शिवसेना भारतीय जनता पार्टी से आगे है, शिवसेना अब तक 90 सीटों पर आगे हैं जबकि बीजेपी 55 सीटों पर आगे है, कांग्रेस ने 20 जबकि एनसीपी ने भी 5 सीटों पर बढ़त बना ली है, MNS ने भी 10 सीटों पर बढ़त बना ली है जबकि अन्य ने 4 सीटों पर बढ़त बनायी है।

शुरुआत में ऐसा लग रहा है कि बीजेपी और शिवसेना के बीच के लड़ाई होगी, कांग्रेस थोडा सा टक्कर देगी लेकिन NCP जो पिछली बार विपक्ष में थी इस बार वह सबसे पीछे चल रही है। 
UP Poll 2017: कड़ी सुरक्षा के बीच चौथे चरण के लिए मतदान जारी, इलाहबाद, राएबरेली में भी वोटिंग

UP Poll 2017: कड़ी सुरक्षा के बीच चौथे चरण के लिए मतदान जारी, इलाहबाद, राएबरेली में भी वोटिंग

up-poll-2017-4th-phase

लखनऊ, 23 फरवरी: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण का मतदान कड़ी सुरक्षा के बीच गुरुवार सुबह सात बजे शुरू हो गया। इस चरण में 680 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं जबकि तीन लाख से अधिक युवा मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। 

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी टी वेंकटेश ने यह जानकारी देते हुए कहा कि चौथे चरण में 12 जिलों के 53 विधानसभा क्षेत्रों में वोट डाले जा रहे हैं। इस दौरान 1,84,82,166 करोड मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या 1,00,31,093 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 84,50,039 है। थर्ड जेन्डर की संख्या 1,034 है। 

उन्होंने बताया कि मतदान सुबह 7.00 बजे शुरू हो गया जो शाम 5.00 बजे तक चलेगा। 

सबसे ज्यादा मतदाता ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में है। इस क्षेत्र में मतदाताओं की सख्ंया 4,53,162 है जबकि सबसे कम मतदाता 241 अयाहशाह (फतेहपुर) विधानसभा क्षेत्र में 2,60,439 हैं। 

टी वेंकटेश ने बताया कि चौथे चरण में दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 91,507 है। मतदान केन्द्रों की संख्या 12,492 है जबकि 19487 मतदेय स्थल बनाये गये हैं। 

उन्होंने बताया कि इस चरण में कुल 680 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें महिला प्रत्याशियों की संख्या 61 है। सबसे अधिक 26 प्रत्याशी इलाहाबाद उत्तरी सीट पर हैं। सबसे कम 6 प्रत्याशी खागा विधानसभा (फतेहपुर), कुंडा (प्रतापगढ) और मंझनपुर (कौशाम्बी) में है। 

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इस चरण में 3,26,473 (18-19 वर्ष) युवा मतदाता पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। चौथे चरण में मतदेय स्थलों पर 1308 डिजिटल कैमरा तथा 991 वीडियो कैमरा की व्यवस्था की गई है। 
वरुण गाँधी ने एकाएक बदला अपना रंग, बोलने लगे राहुल गाँधी की भाषा, मोदी सरकार पर निकाली खुंदक

वरुण गाँधी ने एकाएक बदला अपना रंग, बोलने लगे राहुल गाँधी की भाषा, मोदी सरकार पर निकाली खुंदक

varun-gandhi-latest-news-in-hindi

इंदौर, 22 फरवरी: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के फायर ब्रांड नेता और सांसद वरुण गांधी ने एकाएक अपना रंग बदल लिया है और अब वे राहुल गाँधी यानी अपने सौतेले भाई की भाषा बोलने लगे हैं। आज उन्होंने केंद्र सरकार पर ही करारा हमला बोलते हुए कहा है कि बीते दो वर्षो में कर्ज से परेशान 50 हजार से ज्यादा किसान आत्महत्या कर चुके हैं और विजय माल्या 10 हजार करोड़ रुपये लेकर भाग गया और कोई कुछ नहीं कर पाया।

इंदौर के एक निजी विद्यालय के कार्यक्रम में मंगलवार रात हिस्सा लेने पहुंचे वरुण ने बगैर किसी का नाम लिए केंद्र सरकार और उद्योगपतियों पर हमला बोला। उन्होंने कहा, "छोटे-मोटे कर्ज के चलते बीते दो वर्षो में 50 हजार से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या कर ली, जबकि आंकड़े प्रति वर्ष साढ़े सात हजार किसानों की आत्महत्या की जानकारी देते हैं। वहीं 10 हजार करोड़ रुपये कर्ज लेकर विजय माल्या भाग गया और उसका कोई कुछ नहीं कर पाया।"

उन्होंने आगे कहा कि जिसे विजय माल्या का गारंटर बताया गया, उस मनमोहन के बैंक खाते में मात्र 1100 रुपये है और वह जेल में है, वहीं माल्या विदेश घूम रहा है। 

गांधी ने देश की असमानता की ओर इशारा करते हुए कहा, "एक तरफ मुंबई में दो लाख लोग फुटपाथ पर सोते हैं और एक चार सदस्यीय परिवार के पास 27 माले का मकान है। इसी तरह देश में 95 ऐसे लोग हैं, जिनकी संपत्ति पांच हजार करोड़ रुपये से ज्यादा है। वर्ष 1991 तक एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं था, जिसकी संपत्ति पांच हजार करोड़ रुपये से ज्यादा रही हो।"

वरुण ने किसानों की घटती आमदनी और देश की बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं का जिक्र करते हुए केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। 

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में गांधी को भाजपा ने कोई जिम्मेदारी नहीं सौंपी, इससे वह नाराज चल रहे हैं। उनकी यह नाराजगी मंगलवार को खुलकर सामने आई।

वरुण गाँधी यहीं नहीं रुके, उन्होंने रोहित वेमुला का जिक्र करते हुए कहा कि उसका सुसाइड लेटर देखकर वे रोने लगे थे और अन्दर से टूट गए थे, वेमुला ने जिन परिस्थितियों में सुसाइड किया था यह दुखी करने वाला था। 
ऐसा लगता है कि वरुण गाँधी को पता चल गया है कि उन्हें उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री उम्मीदवार नहीं बनाया जाएगा, बीजेपी ने उन्हें स्टार प्रचारक भी नहीं बताया इसलिए वे मोदी सरकार पर ही खुंदक निकाल रहे हैं। 
UP में फिर रेप, 8वीं की छात्रा से गैंगरेप करके VIDEO भी वायरल किया

UP में फिर रेप, 8वीं की छात्रा से गैंगरेप करके VIDEO भी वायरल किया

allahabad-8th-class-chhatra-gangrape
इलाहाबाद, 22 फरवरी: उत्तर प्रदेश की संगम नगरी इलाहाबाद के झूंसी के एक गांव में पांच युवकों ने आठवीं की छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म कर उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। बुधवार को आरोपी युवकों के खिलाफ नामजद रपट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लिया है।

वैलेंटाइन डे पर हुए दुष्कर्म के बाद भी चुप पीड़िता का वीडियो देखने के बाद गांववालों ने किशोरी के पिता को सूचना दी, जिसके बाद पीड़ित किशोरी से जानकारी लेने के बाद पिता ने बुधवार को पुलिस में आरोपी युवकों के खिलाफ नामजद रपट दर्ज कराई है। पुलिस ने कई युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। वहीं पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए भेजा है। 

जानकारी के मुताबिक, झूंसी के एक गांव में किसान की बेटी कक्षा आठ की छात्रा है, जो बीती 14 फरवरी की सुबह शौच के लिए गई थी। तभी पांच युवक उसे खेत में खींच ले गए और तमंचे के बल पर उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध करने पर उसे पीटा और दुष्कर्म करते हुए मोबाइल से वीडियो बना लिया। युवकों ने किशोरी को धमकी दी कि किसी से बताया तो वीडियो सभी को भेज देंगे। बदनामी और भय की वजह से छात्रा खामोश रही। 

आरोपियों ने बाद में यह वीडियो वायरल कर दिया। गांव के कई लोगों ने व्हाट्सएप एवं फेसबुक पर वीडियो देखा तो पीड़िता के पिता को बताया। इसके बाद घरवाले छात्रा को लेकर झूंसी थाने पहुंचे। गांव के ही मयंक, रंजीत सहित पांच युवकों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। 

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कई युवकों को पूछताछ के लिए उठा लिया है। एसएसपी शलभ माथुर ने बताया, "मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। एसपी गंगापार मुन्ना लाल को जांच के लिए कहा गया है। आरोपियों को छोड़ा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।"

Wednesday, February 22, 2017

अमित शाह बोले, कमल पर ये समझकर बटन दबाएँ कि 'कसाब' से मुक्ति पानी है

अमित शाह बोले, कमल पर ये समझकर बटन दबाएँ कि 'कसाब' से मुक्ति पानी है

congress-sapa-baspa-is-kasab
गोरखपुर, 22 फरवरी: उत्तर प्रदेश के चुनावी महाभारत में स्कैम, कब्रिस्तान-श्मशान और गुजरात के गधे के बाद अब 'कसाब' की भी एंट्री हो गई है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चौरी-चौरा की चुनावी रैली में धमाकेदार बयान देते हुए कहा कि कहा कि उप्र को कसाब से मुक्ति चाहिए।

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हर जगह बीजेपी की लहर चल रही है और बहुमत के साथ सरकार बननी तय है, मेरी आपसे विनती है कि आप जब कमल के निशान पर बटन दबाएँ तो किसी को विधायक बनाने के लिए नहीं, मुख्यमंत्री बदलने के लिए भी नहीं, सरकार बदलने के लिए भी नहीं, आप कमल का बटन उत्तर प्रदेश के भाग्य बदलने के लिए दबाइए। 

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पिछले 15 साल से साप-बसपा, बसपा-सपा का जो क्रम चला है, ये बुआ-भतीजा का जो शासन चला है उसकी वजह से उत्तर प्रदेश बर्बाद हो गया है, उन्होंने कहा कि पहले पहले हमारी बर्बादी के लिए दो ही बहुत थे लेकिन अब तीसरा भी आ गया है, उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को इस बार इस कसाब से मुक्ति पानी है, मैं फिर से बोलता हूँ - उत्तर प्रदेश की जनता इस बार कसाब से मुक्ति पा ले। कसाब का मतलब कुछ और मत निकाल लेना। क से कांग्रेस पार्टी, स से है समाजवादी पार्टी और ब से है.... अमित शाह ने ब का अर्थ तो नहीं बताया लेकिन भीड़ वालों ने अपने आप समझकर बहुजन समाज पार्टी बोल दिया। 

अमित शाह ने कहा कि आप लोग जबतक इस कसाब से मुक्ति नहीं पा लोगे उत्तर प्रदेश का भला नहीं होने वाला। आप मुझे बताइये - आपने गाँव में बिजली आती है क्या? हर गाँव में अस्पताल बन गया है क्या? किसानों का धान खरीदा जा रहा है क्या? सस्ती दवाओं की खुल गयी हैं क्या? 

अमित शाह ने कहा कि आप लोग हर बात का जवाब नहीं नहीं में दे रहे हो लेकिन अखिलेश जी कहते हैं 'काम बोलता है'।

अमित शाह ने कहा कि मैं बताता हूँ कि अखिलेश ने क्या काम कराया है - उत्तर प्रदेश हत्याओं के मामले में नंबर एक बन गया है। हर रोज 23 माताओं बहनों के साथ बलात्कार होता है, बलात्कार के मामले में उत्तर प्रदेश नंबर वन है, चोरी, डकैती और अपहरण के मामले में उत्तर प्रदेश नंबर वन बन चुका है इसीलिए अखिलेश जी कहते हैं 'काम बोलता है'।

अमित शाह ने कहा कि अखिलेश को पता था कि उत्तर प्रदेश में हार होने वाली है इसलिए उन्होंने मजबूरी में कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया, अगर उन्हें हार का डर ना होता तो कांग्रेस को वो 105 सीटें क्यों देते। 
उमा भारती बोलीं, अखिलेश अकेले हमें कड़ी टक्कर देते लेकिन राहुल का हाथ पकड़कर BJP की जीत पक्की की

उमा भारती बोलीं, अखिलेश अकेले हमें कड़ी टक्कर देते लेकिन राहुल का हाथ पकड़कर BJP की जीत पक्की की

uma-bharti-told-akhilesh-cofirmed-bjp-victory-alliance-with-rahul
Lucknow, 22 Feb: लखनऊ, 22 फ़रवरी: भारतीय जनता पार्टी की फायरब्रांड नेता और मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार की जीत का दावा करते हुए आज प्रेस वार्ता की जिसमें उन्होंने बताया कि तीन चरणों का चुनाव पूरा हो चुका है और जनता के मूंड को देखकर हमें पूरा विश्वास है कि उत्तर प्रदेश में दो तिहाई बहुमत से सरकार बनने जा रही है। 

उन्होंने कहा कि इससे पहले भी 1991 में उत्तर प्रदेश में बीजेपी लहर चली थी और उस लहर को मैंने अपनी आँखों से खुद देखा था क्योंकि मैं यहाँ की मुख्य प्रचारक थी, लेकिन वर्तमान लहर उससे कहीं अधिक है इसलिए मुकाबले में कोई बचा नहीं है, मेरा अपना अनुमान है कि हमारे साथ लड़ाई में कोई नहीं है। 

उन्होंने कहा कि मेरी अपनी राय है कि अगर अखिलेश ने राहुल के साथ गठबंधन ना किया होता तो हमारी सरकार फिर भी बनती लेकिन अखिलेश बहुत दमदार नंबर 2 होते लेकिन जैसे ही उन्होंने राहुल का हाथ पकड़ा हमारी जीत पक्की हो गयी। 

उन्होंने बताया कि राहुल भले ही कांग्रेस पार्टी में बड़ी पोजीशन पर हैं लेकिन भारत की राजनीति में बहुत हे हलके लिए जाते हैं, हम तो उन्हें हल्के में नहीं लेते लेकिन वे खुद ऐसी ऐसी बातें करते हैं कि उनको गंभीरता से लेना मुश्किल हो जाता है। 

उन्होंने कहा कि ऐसे में अगर अखिलेश अकेले लड़ते तो शायद दमदार नंबर 2 होते लेकिन उन्होंने राहुल का हाथ पकड़कर हमारी जीत पक्की कर दी, उन्होने कांग्रेस को 105 सीटें दी है जिनमें से 80 सीटें तो हम ले जाएंगे, बहन जी 20 सीटों तक रह जाएंगी और हम 250 से अधिक सीटें लेकर बहुमत के साथ सरकार बना लेंगे। 
उमा भारती बोलीं, पहली ही कैबिनेट मीटिंग में उत्तर प्रदेश की BJP सरकार पूरे करेगी दो बड़े वादे

उमा भारती बोलीं, पहली ही कैबिनेट मीटिंग में उत्तर प्रदेश की BJP सरकार पूरे करेगी दो बड़े वादे

uma-bharti-press-conference-in-lucknow-22-2-2017-up-election
लखनऊ, 22 फ़रवरी: भारतीय जनता पार्टी की फायरब्रांड नेता और मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार की जीत का दावा करते हुए आज प्रेस वार्ता की जिसमें उन्होंने बताया कि तीन चरणों का चुनाव पूरा हो चुका है और जनता के मूंड को देखकर हमें पूरा विश्वास है कि उत्तर प्रदेश में दो तिहाई बहुमत से सरकार बनने जा रही है। 

उन्होंने उत्तर प्रदेश के लोगों को भरोसा जताते हुए कहा कि जैसे ही उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार बनेगी हम पहली ही मीटिंग में दो बड़े वादे पूरे करेंग, पहला को छोटे और सीमान्त किसानों का कर्ज माफ़ कर देंगे, दूसरा वादा ये पूरा करेंगे कि बुंदेलखंड विकास बोर्ड का गठन करके यहाँ के किसानों की हालत सुधारने का काम करेंगे। 

उन्होंने बताया कि बुंदेलखंड में छोटे और सीमान्त किसान पूरे राज्य में सबसे अधिक हैं इसलिए कर्ज माफी का लाभ भी बुंदेलखंड के किसानों को सर्वाधिक होगा। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड की 53 सीटों में से 19 सीटों वाला है लेकिन चर्चा का विषय बहुत है, पूरी दुनिया में और पूरे भारत में तीन कारणों से चर्चा का विषय बना हुआ है। यह भारत के सबसे गरीब तीन इलाकों में से एक है। यह इलाका अत्यधिक गरीब होने के कारण भी चर्चा का विषय है। यहाँ पर पानी तो है लेकिन इसका उपयोग ना तो सिंचाई के लिए हो पा रहा है और ना ही पीने के लिए।

उन्होंने कहा कि आज मध्य प्रदेश की तरफ वाला बुंदेलखंड सिंचाई के मामले में समुद्र बन गया है लेकिन उत्तर प्रदेश का बुंदेलखंड सूख गया है, बुंदेलखंड विकास बोर्ड का गठन करने के बाद हम यूपी के बुंदेलखंड को भी समुद्र बना देंगे और सूखे की समस्या ख़त्म हो जाएगी, किसानों को पानी मिलने लगेगा।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने बुंदेलखंड के लिए 3630 करोड़ रुपये मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश दोनों सरकारों को जारी किये लेकिन आज दोनों राज्यों में आप अंतर देखंगे तो चौंक जायेंगे, उत्तर प्रदेश सरकार ने इस राशी का केवल 40 फ़ीसदी हिस्सा खर्च किया और शेष राशी वापस चली है, 40 फ़ीसदी में से भी अधिकतर पैसा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया। मध्य प्रदेश ने इस राशी का पूरा उपयोग किया और खेती में 10 गुना तरक्की कर ली। 
हम 300 सीटें जीतकर बहुमत की सरकार बनाएंगे, BJP तीसरे चौथे स्थान पर रहेगी: मायावती

हम 300 सीटें जीतकर बहुमत की सरकार बनाएंगे, BJP तीसरे चौथे स्थान पर रहेगी: मायावती

mayawati-sayd-bsp-will-win-300-seats-bjp-fighting-for-4th-place
लखनऊ, 21 फरवरी 2017 (आईपीएन)। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायवाती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के श्मशान-कब्रिस्तान वाले बयान पर करारा हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने राजनीति का स्तर गिरा दिया है।मायवाती ने प्रधानमंत्री पर गलत बयानबाजी का आरोप लगाते हुए पूछा कि क्या भाजपा शासित सभी राज्यों के सभी गांवों में शमशान घाट है?

बसपा प्रमुख ने यहां मंगलवार को कहा कि मोदी को अहसास हो चुका है कि यूपी में भाजपा की सरकार नहीं बनने जा रही है, इसलिए वह गलत बयानी कर रहे हैं।

मायावती ने कहा, "मोदी जी यह क्यों नहीं बताते कि क्या भाजपा शासित राज्यों के सभी गांवों में श्मशान है? उन्हें पहले इन राज्यों में श्मशान बनवाना चाहिए। प्रधानमंत्री ने राजनीति का स्तर गिरा दिया है और यह देश की राजनीति के लिए ठीक नहीं है।"

उन्होंने कहा कि पिछले दो-तीन दिनों से प्रधानमंत्री गलत बयानबाजी कर रहे हैं। चुनाव में जाति और धर्म की बातें कर रहे हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि उनकी पार्टी यहां चुनाव हार रही है। 

मायावती ने राज्य में 300 सीटें जीतने का दावा करते हुए कहा, "हम 300 से ज्यादा सीटें जीतकर पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएंगे। भाजपा तीसरे-चौथे नंबर की लड़ाई लड़ रही है। भाजपा की कांग्रेस-सपा गठबंधन के साथ लड़ाई है।" 

उन्होंने भाजपा को सबसे बड़ी जातिवादी पार्टी बताते हुए आरोप लगाया कि वह चुनावों को सांप्रदायिक रंग देना चाह रही है। यह सांप्रदायिक और जातिवादी पार्टी है, जो सद्भाव में विश्वास नहीं रखती। 

मायावती ने कहा, "भाजपा ने एक भी मुसलमान को टिकट नहीं दिया, लेकिन 'सबका साथ सबका विकास' की रट लगाकर लोगों को गुमराह कर रही है, जबकि बसपा सभी धर्मों का सम्मान करती है। हमने कभी किसी के साथ कोई पक्षपात या भेदभाव नहीं किया।"

बसपा प्रमुख ने यह भी कहा, "हमारी सरकार के दौरान सभी धर्मो के पर्वो के दौरान बिजली, पानी और कानून-व्यवस्था की तगड़ी व्यवस्था रहती थी।"

Tuesday, February 21, 2017

BJP ने कहा: सपाइयों ने जब CM की पत्नी को खुलेआम छेड़ दिया तो आम महिलाओं का क्या हाल होगा?

BJP ने कहा: सपाइयों ने जब CM की पत्नी को खुलेआम छेड़ दिया तो आम महिलाओं का क्या हाल होगा?

bjp-said-cm-wife-not-safe-in-up-then-what-about-aam-women

इलाहाबाद, 21 फ़रवरी: भारतीय जनता पार्टी के नेता खासकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अमित शाह अपनी सभी रैलियों में उत्तर प्रदेश में गुंडाराज और महिलाओं के बलात्कार का मुद्दा उठा रहे हैं, मोदी कहते हैं कि उत्तर प्रदेश में चाहे रात हो या दिन हो, महिलाओं का निकलता मुश्किल है, महिलाओं के घर से बाहर निकलते ही उनके पीछे गुंडे पड़ जाते हैं। आज भारतीय जनता पार्टी को एक ऐसा वीडियो मिल गया जिसमें खुद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव के साथ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्त्ता बदतमीजी कर रहे हैं और खुलेआम उन्हें छेड़ रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी ने ये वीडियो शेयर करके कहा है कि उत्तर प्रदेश में जब मुख्यमंत्री की पत्नी सुरक्षित नहीं हैं, जब उन्हें सपा के आदमियों से डर लग रहा है तो उत्तर प्रदेश की आम महिलाओं के साथ क्या होता होगा। देखें VIDEO.


आपने देखा होगा कि भारतीय जनता पार्टी के नेता उत्तर प्रदेश में गुंडाराज का आरोप लगाते हैं। आज इस गुंडाराज और अराजकता का शिकार खुद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव हो गयीं, किसी तरह अपना दामन बचाकर वह रैली से वापस गयीं, उसके बाद भी उनकी कार को समाजवादी देवरों ने घेर लिया, कार को ही लोग छू लेना चाहते थे, हर कोई डिम्पल यादव को छू लेना चाहता था। 

डिम्पल यादव इलाहबाद में एक रैली को संबोधित करने पहुंची थीं, जैसे ही वो मंच पर पहुंची लोग नारेबाजी करने लगे, कोई मानने को तैयार नहीं था, लोग भाभी भाभी चिल्ला रहे थे, डिम्पल यादव भाभी बनकर वहां गयीं भी थीं और उत्तर प्रदेश चुनावों में वे खुद युवाओं की भाभी बनी हुई हैं और अखिलेश यादव को भैया बनाया हुआ है। भाभी को आया देखकर लोग चिल्ला रहे थे और हंसी मजाक कर रहे थे। 

जब लोगों ने ज्यादा ही नारेबाजी करने लगे तो मंच का संचालन करने वाली मैडम ने कहा कि देखिये आप लोगों की हरकतों से आपके भैया बहुत नाराज होंगे, उन्हें विल्कुल भी अच्छा नहीं लगेगा। आप शांत रहिये वरना भाभी विल्कुल भी नहीं बोलेंगी। 

इसके बाद जब ज्यादा ही हंगामा होने लगा तो डिम्पल मंच पर भाषण देने आ गयीं, उन्होंने सोचा कि शायद मेरे बोलने के बाद ही ये लोग चुप हो जाँय लेकिन समाजवादी देवर तो कुछ और ही सोचकर आये थे, उन्होंने और जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया इसके बाद डिम्पल यादव ने कहा चुप रहिये, शांत रहिये, मुझे आपसे डर लग रहा है। 

इसके बाद डिम्पल यादव ने देवरों को धमकी देते हुए कहा - कल अखिलेश भैया आ रहे हैं ना, तब आप लोगों के नाम मैं उनसे बताने वाली हूँ। 

इसके बाद भी देवर नहीं माने तो डिम्पल ने कहा - अच्छा कमाल है, कहाँ से ट्रेनिंग पाई है? आप लोग तो अनुशासन में ही नहीं हैं, बहुत बुरी बात है। इसके बाद डिम्पल ने एक देवर की तरफ इशारा करते हुए कहा - इन्हीं का नाम दे देना, कल मैं भैया से इन्हीं का नाम बताउंगी, कल तुम्हारे भैया तुमसे मिलेंगे।
इसके बाद भी जब डिम्पल के समाजवादी देवर नहीं मानें तो डिम्पल यादव को वहां से बिना भाषण दिए वापस जाना पड़ा लेकिन उसके बाद भी देवर लोग नहीं मानें और उनके पीछे लग गए, उनकी कार को घेर लिया। बहुत ही मुश्किल से डिम्पल यादव को अपना दामन बचाकर वहां से भागना पड़ा। देखें वीडियो। 
एक तरफ नारे लग रहे थे 'जय श्री राम' दूसरी तरफ 'जय अखिलेश', राम-रावण के युद्ध की याद हुई ताजा

एक तरफ नारे लग रहे थे 'जय श्री राम' दूसरी तरफ 'जय अखिलेश', राम-रावण के युद्ध की याद हुई ताजा

bjp-raised-slogan-jai-shree-ram-sapa-raised-slogan-jai-akhilesh
इलाहाबाद, 21 फरवरी: जब राव रावण का युद्ध हुआ था तो दोनों तरफ की सेनायें जब युद्ध करने के लिए निकलती थीं तो राम की तरव वानर सेना थी जो जय श्री राम का नारा लगाती थी लेकिन रावण की तरफ राक्षसों की सेना थी जो 'जय लंकेश' का नारा लगाती थी। एक तरफ 'जय श्री राम' के नारे लगते थे तो दूसरी तरफ 'जय लंकेश' के नारे लगते थे क्योंकि रावण खुद को भगवान से भी अधिक शक्तिशाली समझता था और राक्षस भी उसे भगवान मानते थे। 

आज इलाहाबाद में दो रोड शो निकले, पहला रोड शो भारतीय जनता पार्टी का निकला। इस रोड शो के सेनापति अमित शाह थे, उनका काफिला अल्लापुर पुलिस थाने के निकलकर घंटाघर तक गया। रोड शो में भारी जनसैलाब उमड़ा। लेकिन उस रोड शो में जय श्री राम के नारे लगे, इसके अलवा मोदी मोदी और अमित शाह जिंदाबाद के नारे भी लगे लेकिन अधिकतर नारे 'जय श्री राम' के लगे। 

दूसरा रोड शो कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का निकला। इस शो के सेनापति दो थे, पहले राहुल गाँधी और दूसरे अखिलेश यादव। इनका रोड शो बोल्सन चौराहे से निकलकर आनंद भवन की तरफ गया। इस रोड शो में 'जय अखिलेश' के नारे लगे। इसके अलावा 'जय जय जय जय जय अखिलेश' के नारे लगे। इस रोड शो में एक बार भी 'जय श्री राम' के नारे नहीं लगे। 

दोनों रोड शो को देखकर और दोनों तरफ के नारे देखकर उन लोगों को एक बार फिर से राम रावण के युद्ध की याद ताजा हो गयी जो लोग रामानंद द्वारा रचित रामायण धारावाहिक देखते हैं। जो लोग दशहरा के मौके पर रामलीला देखते है, टीवी पर रामायण देखते हैं उन्हें पता होगा कि रावण की सेना 'जय लंकेश' के नारे लगाती है और राम की सेना 'जय श्री राम' के नारे लगाती है। हर साल विजयदशमी के समय टीवी पर रामायण दिखाया जाता है।
राहुल गाँधी और अखिलेश यादव के रोड शो में उमड़ा जनसैलाब, अमित शाह को दी पूरी टक्कर

राहुल गाँधी और अखिलेश यादव के रोड शो में उमड़ा जनसैलाब, अमित शाह को दी पूरी टक्कर

rahul-gandhi-akhilesh-yadav-road-show-in-allahabad
इलाहाबाद, 21 फरवरी: आज उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद महानगर में पहले अमित शाह और उसके बाद सपा-कांग्रेस ने रोड शो किया और जनता के सामने अपनी अपनी ताकत का प्रदर्शन किया, भीड़ के मामले में राहुल-अखिलेश के रोड शो ने अमित शाह को पूरी टक्कर दी और एक बारगी ऐसा लगा कि आज सभी भाजपाई, सभी सपा और सभी कांग्रेसी इकठ्ठे हो गए हों। जबरजस्त भीड़ आयी, सभी स्कूल और कॉलेज बंद रखे गए, भीड़ को कण्ट्रोल करने में पुलिस वालों के पसीने छूट गए। 

राहुल गांधी तथा अखिलेश यादव ने बोल्सन चौराहे से अपने रोड शो की शुरुआत की। महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद उन्होंने रोड शो शुरू किया। सफेद कुर्ता तथा जींस पैंट पहने राहुल गांधी ने सड़क के दोनों ओर खड़े लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया।

सफेद कुर्ता-पायजामा, काली जैकेट व पार्टी के समर्थन वाला लाल टोपी पहने अखिलेश यादव अपने युवा समर्थकों को अनुशासित करते, सड़क से हटने तथा उनकी बस को रास्ता देने का आग्रह करते नजर आए।

कांग्रेस तथा समाजवादी पार्टी (सपा) के हजारों कार्यकर्ता काफिले में आगे चल रहे थे और अखिलेश तथा राहुल गांधी के समर्थन में नारे लगा रहे थे। प्रचार के लिए विशेष तौर पर तैयार की गई बस आनंद भवन से सिविल लाइंस और फिर गोल्फ पार्क तक गई।

उधर, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी इसी समय में एक रोड शो किया, लेकिन उनका मार्ग अलग था। शाह ने रोड शो की शुरुआत चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ की। उनका काफिला अल्लापुर पुलिस थाने के निकट से घंटाघर तक गया। पूरे मार्ग पर भाजपा समर्थक अपने घरों की छतों से काफिले पर गुलाब की पंखुड़ियां बरसाते रहे।

उत्तर प्रदेश में चौथे चरण के मतदान के तहत इलाहाबाद में गुरुवार 23 फ़रवरी को विधानसभा की 12 सीटों के लिए मत डाले जाएंगे।