Showing posts with label Uttar Pradesh. Show all posts
Showing posts with label Uttar Pradesh. Show all posts

23 June, 2017

दलितों की हितैषी नहीं नकलची है कांग्रेस, हमारे प्रत्याशी की कर रही है नक़ल: YOGI Adityanath

दलितों की हितैषी नहीं नकलची है कांग्रेस, हमारे प्रत्याशी की कर रही है नक़ल: YOGI Adityanath

yogi-adityanath-slams-congress-for-copying-dalit-politics
New Delhi, 22 June: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को नकलची पार्टी बताया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी दलितों की हितैषी नहीं है क्योंकि अगर उन्हें दलित को राष्ट्रपति बनाना होता तो मीरा को पहले ही मैदान में उतार दिया होता, उन्होंने हमारे प्रत्याशी की नक़ल करके दलित नेता के तौर पर मीरा कुमार को मैदान में उतारा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीजेपी नेता रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने से दो दिन पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी के अलावा कई विपक्षी नेताओं के घर पर जाकर उनसे उम्मीदवार के नाम पर चर्चा की थी, बीजेपी ने सोनिया गाँधी ने पूछा था कि आप लोग किसे राष्ट्रपति बनाना चाहते हो लेकिन कांग्रेस ने उस वक्त किसी का नाम नहीं बताया, अगर कांग्रेस ने पहले ही मीरा कुमार को मैदान में उतारा होता तो बीजेपी को हर हाल में उनका समर्थन करना पड़ता लेकिन कांग्रेस इस मामले में आलस कर गयी.

जब बीजेपी ने देखा कि कांग्रेस के पास कोई प्रत्याशी नहीं है तो उन्होंने रामनाथ कोविंद को मैदान में उतार दिया, जब उनका बैकग्राउंड देखा गया तो वे दलित निकले, मीडिया ने हल्ला मचा दिया, जब कांग्रेस ने देखा कि बीजेपी ने एक दलित नेता को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया है तो उन्होंने मीरा कुमार को मैदान में उतार दिया हालाँकि मीरा कुमार के पिता दलित हैं लेकिन पति ब्राह्मण हैं.

22 June, 2017

मालिक ने नौकरी से निकाला तो नौकर से उसकी 6 वर्ष की मासूम बच्ची से किया रेप, पढ़ें क्या हुआ फिर?

मालिक ने नौकरी से निकाला तो नौकर से उसकी 6 वर्ष की मासूम बच्ची से किया रेप, पढ़ें क्या हुआ फिर?

a-man-beaten-till-death-for-allegedly-raping-a-minor-girl-in-aligarh

Aligarh, 22 June: उत्तर प्रदेश के अलीगढ जिले में एक व्यक्ति ने रंजिश के तहत एक 6 वर्ष की बच्ची का रेप और मर्डर कर दिया, गाँव वालों को जैसे ही ये बात पता चली, लोग क्रोधित हो गए और इसी क्रोध की आग में पीट पीटकर आरोपी का मर्डर कर दिया.

यह घटना अलीगढ जिले के भीकमपुर गाँव की है, आरोपी बदायूं जिले का था और लडकी के पिता की Snacks की दुकान में नौकरी करता था, एक महीने पहले उसे नौकरी से निकाल दिया गया था जिसके बाद वह बदला लेने के लिए गाँव में ही मंडरा रहा था. एक दिन मौका देखकर आरोपी अपने मालिक की 6 वर्ष की बच्ची को बहला फुसलाकर खेत में ले गया और उसका रेप कर दिया, बाद में उसनें बच्ची की हत्या भी कर दी.

बच्ची के गायब होने के बाद माँ-बाप ने उसकी तलाश शुरू कर दी, उसकी लाश खेत में पड़ी हुई थी और आरोपी भी उसी के पास शराब के नशे में धुत्त बैठा हुआ था, इसके तुरंत बाद स्थानीय लोगों ने आरोपी को पीटना शुरू कर दिया, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को रोका लेकिन अस्पताल में आरोपी की मौत हो गयी.

21 June, 2017

भारी संख्या में लोगों को योग करते देखकर खुश हो गए MODI, बोले, योग करते रहो बीमारियों को भूल जाओ

भारी संख्या में लोगों को योग करते देखकर खुश हो गए MODI, बोले, योग करते रहो बीमारियों को भूल जाओ

international-yoga-day-in-ramabai-ambedkar-maidan-lucknow
New Delhi, 21 June: आज उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के रमाबाई आबेडकर मैदान में अन्तर्रष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योगा कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी भाग लिया और लाखों लोगों के साथ योगा किया. मोदी ने कहा कि योग करने से ही बीमारियाँ दूर होंगी और मन को शान्ति मिलेगी इसलिए योगा को अपने जीने की आदत बना लेनी चाहिए.

आज का योग दिवस कार्यक्रम इसलिए भी ख़ास बन गया क्योंकि योग करते वक्त लखनऊ में बारिश होने लगी जिसके बाद योग के लिए बिछाई गयी दरी को लोगों ने ओढ़ लिया जिसे देखकर मोदी खुश हो गए, उन्होंने कहा कि आज लखनऊ वालों ने यह भी सिखा दिया कि योग-दरी का कैसे इस्तेमाल किया जाए.

लाखों लोगों को एक साथ योगा करते देखकर मोदी खुश हो गए, उन्होंने कहा कि योगा मन को स्थिर रखता है और किसी भी प्रकार के उतार चढ़ाव के बीच भी स्वस्थ मन के साथ जीने की कला सिखाता है. उन्होंने कहा कि आज मैं लखनऊ के इस विशाल मैदान में हजारों लोगों को देख रहा हूँ जो इस बात का सन्देश दे रहे हैं कि जीवन में योग का तो महत्व है ही लेकिन अगर बारिश आ जाए तो योग-दरी का कैसे उपयोग हो सकता है, ये भी लखनऊ वालों ने दिखा दिया क्योंकि लगातार बारिश के बावजूद भी आप सब यहाँ पर डटे हुए हैं, आपका यह प्रयास सराहनीय है.

20 June, 2017

मुलायम ने राष्ट्रपति पद के लिए किया रामनाथ कोविंद का समर्थन, बताया मजबूत और योग्य उम्मीदवार

मुलायम ने राष्ट्रपति पद के लिए किया रामनाथ कोविंद का समर्थन, बताया मजबूत और योग्य उम्मीदवार

mulayam-singh-support-ramnath-kovind-for-president-post

Lucknow, 20 June: समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बात मानते हुए राष्ट्रपति पद के लिए NDA उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि रामनाथ जी इस पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवार हैं.

आज मुलायम सिंह ने कहा कि - वे रामनाथ कोविंद को काफी समय से जानते हैं, मेरे उनके साथ बहुत बढ़िया रिश्ते रहते हैं, बीजेपी ने एक मजबूत उम्मीदवार चुना है, सबसे बढ़िया बात ये है कि बीजेपी के पास बहुमत है, उन्होंने यह भी कहा कि मुझे नहीं पता कि विपक्ष वाले क्या करेंगे लेकिन मेरा उनको पूरा समर्थन है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद का समर्थन करने वालों की संख्या बढती ही जा रही है हालाँकि बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने अब तक उन्हें समर्थन नहीं दिया है.

इससे पहले तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के अध्यक्ष और तेलंगाना के मुख्यमंत्री KC Rao और ओड़िशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल के अध्यक्ष भी रामनाथ कोविंद को समर्थन दे चुके हैं. मतलब अगर अब कांग्रेस और शिवसेना उन्हें समर्थन नहीं भी देंगे तो भी रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनने से नहीं रोक सकता.

इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी रामनाथ कोविंद के नाम पर ख़ुशी जताई थी लेकिन समर्थन देने का फैसला सोनिया गाँधी पर छोड़ दिया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रामनाथ कोविंद ने आज बिहार के राज्यपाल पद से इस्तीफ़ा दे दिया, कई पार्टियों के समर्थन के बाद अब उनका राष्ट्रपति बनना तय है.

19 June, 2017

योगी ने UP की सभी पार्टियों से किया आग्रह, UP के बेटे Ramnath Kovind को बनायें राष्ट्रपति

योगी ने UP की सभी पार्टियों से किया आग्रह, UP के बेटे Ramnath Kovind को बनायें राष्ट्रपति

cm-yogi-appeal-all-up-parties-to-support-ramnath-kovind-president
New Delhi, 19 June: भारतीय जनता पार्टी की तरफ से बिहार के गवर्नर Ram Nath Kovind का नाम राष्ट्रपति पद के लिए प्रस्तावित किया गया है, किसी को आशा नहीं थी कि एकाएक नए चेहरे को राष्ट्रपति पद के लिए चुना जाएगा क्योंकि इससे पहले सुषमा स्वराज और लाल कृष्ण आडवाणी का नाम आगे चल रहा था लेकिन बीजेपी की संसदीय बोर्ड की मीटिंग में Ram Nath Kovind का नाम प्रोपोज किया गया जिसे सभी ने मंजूर भी कर लिया, माना जा रहा है कि राष्ट्रपति पद के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने ही उनका नाम सुझाया है.

रामनाथ कोविंद का नाम राष्ट्रपति के लिए सामने आये के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का शुक्रिया अदा किया और उत्तर प्रदेश की सभी राजनीतिक पार्टियों से आग्रह किया कि राजनीति से ऊपर उठकर सभी लोग उत्तर प्रदेश के बेटे Ramnath Kovind का राष्ट्रपति पद के लिए समर्थन करें.
Ram Nath Kovind का परिचय
  • वर्तमान में बिहार के राज्यपाल हैं (8 अगस्त 2015 से)
  • बीजेपी की तरफ से 12 साल तक (1994-2000 and 2000-2006) राज्यसभा सांसद रह चुके हैं 
  • पेशे से वकील हैं और दिल्ली में प्रैक्टिस करते हैं
  • बीजेपी दलित मोर्चा के अध्यक (1998-2002) रह चुके हैं
  • आल इंडिया कोली समाज के अध्यक्ष रह चुके हैं
  • बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रह चुके हैं
  • Ram Nath Kovind का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को कानपुर में हुआ
  • हिन्दू धर्म को मानते हैं

16 June, 2017

Love Propoal ठुकरा दिया तो युवक ने जानवरों की तरह पीटना शुरू कर दिया, मार खाकर खूब रोई युवती

Love Propoal ठुकरा दिया तो युवक ने जानवरों की तरह पीटना शुरू कर दिया, मार खाकर खूब रोई युवती

youth-assaults-girl-after-she-rejected-love-proposal-in-pilibhit-up
Piliphit, 16 June: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत से एक शर्मनाक खबर आयी है, एक युवक ने अचानक एक युवती को पीटना शुरू कर दिया, लड़की पिटाई से डरकर रोने लगी और खुद को बचाने लगी लेकिन लड़का मानने को तैयार नहीं था, उसनें युवती को जमकर पीटा, CCTV कैमरे में यह घटना रिकॉर्ड हो गयी जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाही शुरू कर दी है.

पूछताछ में पता चला है कि लड़की ने लड़के का लव प्रपोजल ठुकरा दिया था जिससे लड़के को गुस्सा आ गया और उसनें लड़की को पीटना शुरू कर दिया, लडकी के साथ उसकी दोस्त भी थी लेकिन उसनें उसे बचाने की कोशिश नहीं की. अगर वह अपनी दोस्त को बचाती तो शायद उसकी भी पिटाई हो जाती.

पुलिस ने VIDEO फुटेज के आधार पर लड़के के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है और उसकी तलाश शुरू कर दी है, अगर आप भी लड़के की इस करतूत को शर्मनाक मानते हैं तो इस पोस्ट को जमकर शेयर करें ताकि लड़के को सजा मिल सके.

15 June, 2017

भारत अगर जीतेगा Champion Trophy तो 5 दिन फ्री में कपड़े प्रेस करेगा ये युवक

भारत अगर जीतेगा Champion Trophy तो 5 दिन फ्री में कपड़े प्रेस करेगा ये युवक

india-win-champion-trophy-azad-from-agra-press-clothes-free-5-day

आगरा: आगरा में एक युवक क्रिकेट का इतना दीवाना है कि अगर भारत Chamipion Trophy का फाइनल जीत लेगा तो यह युवक पांच दिन फ्री में कपडे प्रेस करेगे, यह युवक कपडे प्रेस करके ही अपनी रोजी रोटी चलाता है लेकिन पांच दिन तक फ्री में कपडे प्रेस करके यह खुशियाँ मनाएगा.

इस लड़के का नाम आजाद है, इसका कहना है कि 2011 में जब भारत में विश्व कप जीता था तो इसनें 15 दिन तक फ्री में कपडे प्रेस किये थे, ये छोटा मैच है इसलिए इसमें जीतने पर पांच दिन फ्री में कपडे प्रेस करेगा.

यह युवक आगरा के लोहामंडी थाना क्षेत्र के जयपुर हाउस का निवासी है, जब भी भारत कोई बड़ा टूर्नामेंट जीतता है यह लोगों के कपडे फ्री में प्रेस करके अपनी ख़ुशी का इजहार करता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज भारत और बांग्लादेश के बीच सेमी फाइनल मैच हो रहा है जिसमें भारत की जीत तय है, पाकिस्तान पहले ही फाइनल में अपनी जगह बना चुका है, अब फाइनल में भारत और पाकिस्तान का मुकाबला होना है इसलिए सबकी नजरें आने वाले फाइनल मैच पर टिक गयी हैं.

14 June, 2017

राहुल गाँधी को 'पप्पू' बोलने पर कांग्रेस नेता पद से बर्खास्त

राहुल गाँधी को 'पप्पू' बोलने पर कांग्रेस नेता पद से बर्खास्त

rahul-gandhi-is-pappu-told-congress-leader-vinay-pardhan-meerut
Meerut: राहुल गाँधी को पप्पू कहना एक कांग्रेसी नेता को बहुत मंहगा पड़ा है क्योंकि उन्हें अपने जिलाध्यक्ष पद से हाथ धोना पड़ा है, यह खबर उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले की है, मेरठ में कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष विनय प्रधान ने फेसबुक पर अपने के पोस्ट में राहुल गाँधी को पप्पू बता दिया, देखते ही देखते उनकी पोस्ट वायरल हो गयी, बीजेपी वालों ने उसे ट्रेंड कर दिया, जैसे ही कांग्रेस को पता चला, पार्टी से तत्काल कार्यवाही करते हुए जिलाध्यक्ष विनय प्रधान को सभी पदों से निलंबित कर दिया गया.

पद से हटाये जाने के बाद विनय प्रधान बीजेपी नेताओं पर जमकर बरसे, उन्होंने कहा कि बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता मनोज त्यागी ने उनके खिलाफ साजिश करके उनकी आधी पोस्ट को वायरल किया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राहुल गाँधी को बीजेपी नेता पप्पू कहकर बहुत चिढ़ाते हैं, ऐसे में जब कोई कांग्रेसी नेता ही राहुल गाँधी को पप्पू बोल दे तो बीजेपी को समझ लो मुंह माँगा वरदान मिल गया. विनय प्रधान ने जैसे ही राहुल गाँधी को पप्पू कहा बीजेपी वालों ने जमकर राहुल गाँधी का मजाक उड़ाया, यही बात कांग्रेस पार्टी को अखर गयी और विनय प्रधान को पद से बर्खास्त कर दिया गया.

11 June, 2017

मथुरा में दर्दनाक हादसा, नहर में डूबी कार, 10 की मौत

मथुरा में दर्दनाक हादसा, नहर में डूबी कार, 10 की मौत

car-falls-into-canal-on-mathura-bharatpur-road-10-killed

मथुरा: मथुरा से एक दर्दनाक खबर आयी है जिसके अनुसार एक कार के नहर में गिरकर डूबने से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गयी है, यह घटना मथुरा-भरतपुर रोड पर हुई जहाँ पर एक कार अपना संतुलन खोकर फतेहपुर नहर में गिर गयी.

रिपोर्ट के अनुसार इनोवा कार में सवार सभी यात्री बालाजी दर्शन करने के लिए जा रहे थे, सुबह 4.30 पर अचानक कार चला रहे दृवार को नींद की झपकी आयी और देखते ही देखते कार नहर में समा गयी.

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से अब तक 9 लाशें बरामद कर ली गयी हैं, जिनके नाम हैं - महेश शर्मा, दीपिका शर्मा, पूनम, हार्दिक, रितिक, रोहन, खुशबू, हिमांशु और सुरभी, ये सभी लोग बरेली जिला, शुभाष नगर, राजीव कॉलोनी के रहने वाले हैं. नहर में गिरते ही ड्राइवर कार से निकल गया लेकिन उसकी भी मौत हो गयी है.

06 June, 2017

बदमाशों ने की BJP नेता की हत्या, गुस्साई भीड़ ने एक हत्यारे को पीट पीट कर मार डाला

बदमाशों ने की BJP नेता की हत्या, गुस्साई भीड़ ने एक हत्यारे को पीट पीट कर मार डाला

nathura-varma-murder-in-agra-crowd-beat-one-accused-till-death

आगरा: आगरा से एक बड़ी खबर आयी है, सोमवार रात में बीजेपी नेता नाथूराम वर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गयी, इस घटना के बाद उनके समर्थन क्रोधित हो गए, गोली नाथूराम के दुश्मन दो भाइयों ने मारी थी, भीड़ को जैसे ही पता चला उन्होंने आरोपियों को ढूँढा और दोनों की जमकर पिटाई शरू कर दी, दोनों भाइयों में से एक आरोपी (नाम-सुधीर) को भीड़ ने पीट पीटकर मार डाला, दूसरे भाई समर सिंह की हड्डियाँ तोड़कर उसे अस्पताल में भिजवा दिया.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह घटना फतेहाबाद के डोकी इलाके की है, दोनों आरोपी भाई बाइक पर सवार होकर आये थे, उन्होंने नाथूराम वर्मा को 6 गोलियां मारी थी जिसकी वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गयी.

इस घटना की सूचना जैसे ही पुलिस को मिली, भारी पुलिस बल मौके पर पहुँच गया लेकिन तब तक आरोपियों की पिटाई कर दी गयी थी, पुलिस ने जब भीड़ को रोकने का प्रयास किया तो उनकी भी एक वैन को आग लगा दी गयी.

इसके बाद जिले के DM गौरव दयाल और एसएसपी दिनेश चन्द्र दूबे मौके पर पहुंचे, इस मामले में करीब 200 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, इलाके में भारी पुलिस बल तैनात है. फिलहाल हालात काबू में हैं लेकिन स्थिति तनावपूर्ण है.
10वीं पास 1 लाख लड़कियों को CM YOGI देंगे 10-10 हजार रुपये

10वीं पास 1 लाख लड़कियों को CM YOGI देंगे 10-10 हजार रुपये

up-yogi-sarkar-will-award-rs-10-thousand-for-girls-passed-in-10th
Lucknow: कल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जन्मदिन था, अपने जन्मदिन पर योगी ने उत्तर प्रदेश की लकड़ियों को बड़ा उपहार दिया, इस वर्ष 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली हर बालिका को 10-10 हजार रुपये का इनाम देना का ऐलान किया गया है.

इस वर्ष करीब 1 लाख लड़कियां 10वीं में पास हुई हैं, सभी को योगी सरकार ने 10 हजार रुपये नकद देकर लड़कियों को शिक्षा के प्रति और अधिक आकर्षित करने का प्रयास किया है.

उत्तर प्रदेश में शिक्षा का स्टार सुधारने के लिए योगी सरकार का यह बहुत ही अच्छा फैसला है क्योंकि अगले वर्ष से उत्तर प्रदेश में नक़ल पर रोक लग जाएगी, अब जो पढ़ाई करेगा वही पास होगा, 10 हजार रुपये ईनाम मिलने से लड़कियां मन लगाकर पढ़ाई करेंगी, अगर लड़कियां पढ़ेंगी तो लड़कों पर भी पढ़ाई का प्रेसर पड़ेगा. आज जो लौंडे लफंगई कर रहे हैं वे भी पढ़ाई करेंगे तो उत्तर प्रदेश का कायाकल्प होते देर नहीं लगेगी.

03 June, 2017

उत्तर प्रदेश के बिजली चोर ये जरूर पढ़े लें वरना पछताएंगे

उत्तर प्रदेश के बिजली चोर ये जरूर पढ़े लें वरना पछताएंगे

yogi-sarkar-sarvada-yojna-for-electricity-theft-read-details
Lucknow: पिछली सरकारों में लोग बिजली चोरी करते करते अपनी आदत से इतने मजबूर हो गए हैं कि योगी सरकार में भी बिजली चोरी करने से बाज नहीं आ रहे हैं, उत्तर प्रदेश में करीब 70 फ़ीसदी लोग बिजली चोरी करते हैं, जिसकी वजह से सरकारी खजाने को घाटा तो होता ही है लोगों को 24 घंटे बिजली भी नहीं मिल पाती क्योंकि लोग अपने हिस्से की बिजली खुद चुरा लेते हैं, सरकार अपने घर से तो लोगों को बिजली देगी नहीं.

अब योगी सरकार ने बिजली चोरों को सुधारने के लिए सर्वदा योजना लांच की है, अगर इस योजना को अपनाकर लोगों ने अवैध कनेक्शन को वैध नहीं कराया तो बहुत पछताना पड़ेगा इसलिए उत्तर प्रदेश के सभी बिजली चोर यह बातें जरूर पढ़ लें - 
  • बिजली चोरों को पकड़ने के लिए स्पेशल टीम बनेगी, हर जिले में बिजली थाने बनेंगे
  • बिजली चोरी की धनराशी का 6 गुना अधिक जुर्माना वसूला जाएगा
  • बिजली चोरी करते हुए पकडे जाने पर पांच साल की सजा
  • बिजली चोरों को 2 साल तक बिजली कनेक्शन भी नहीं मिलेगा
योगी सरकार ने कहा है कि - उत्तर प्रदेश के लोग सर्वदा योजना का लाभ लेकर अवैध कनेक्शन को वैध करा लें और सदा के लिए निश्चिन्त हो जाएँ, सर्वदा योजना का मतलब इमानदार उग्भोक्ताओं को सम्मान और बिजली चोरों की बेइज्जती, यह योजना 20 जून तक लागू रहेगी, रजिस्ट्रेशन 15 जून तक करा सकते हैं.
sarvada-yojna-details

02 June, 2017

‘पेट्रोल चोर’ और ‘मिलावटखोर’ पंप वालों के लिए बुरी खबर, योगी सरकार ने किया STF का गठन

‘पेट्रोल चोर’ और ‘मिलावटखोर’ पंप वालों के लिए बुरी खबर, योगी सरकार ने किया STF का गठन

yogi-sarkar-constitute-stf-for-petrol-chori-and-adulteration-pump

Lucknow: पूरे देश के पेट्रोल पम्पों पर चिप के माध्यम ने पेट्रोल की छोटी की जा रही है और इसका पर्दाफाश सबसे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने किया था वो भी योगी सरकार के आने के बाद, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने जो काम किया है वह काम भारत के किसी भी राज्य में नहीं हो रहा है, अब योगी ने नहले पर दहला मारते हुए एक और धमाकेदार काम करने का फैसला किया है.

योगी सरकार ने पेट्रोल पम्पों द्वारा पेट्रोल-डीजल की चोरी और मिलावटखोरी पर लगाम लगाने के लिए स्पेशल टास्क फ़ोर्स (STF) की 10 टीमें बनानें का फैसला किया है. इन टीमों की अगुवाई लखनऊ के DM राज शर्मा करेंगे, अब तक 157 पेट्रोल पम्प शक के दायरे में हैं, ये टीमें सबकी चोरी की जांच करेंगी और दूसरे पम्पों पर एकाएक छापा मारकर उनकी चोरी का पर्दाफाश करेंगी.

रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ में कुल 202 पेट्रोल पम्प हैं जिसमें से 157 पेट्रोल चोरी और मिलावटखोरी के लिए शक के दायरे में आ गए हैं, योगी सरकार को अंदेशा है कि यह गलत काम पूरे राज्य में हो रहा है इसलिए STF की 10 टीमें बनाकर इन्हें छापा मारने के लिए तैयार किया गया है.

लखनऊ की STF टीम ने इससे पहले 7 पेट्रोल पम्पों पर छापा मारकर धोखाधड़ी का पर्दाफाश किया था और 23 लोगों को गिरफ्तार किया था, इन सभी पम्पों पर चिप के माध्यम से चोरी की जाती थी. 15 इलेक्ट्रॉनिक चिप और 29 रिमोट कण्ट्रोल भी बरामद किये गए थे.

STF ने अपनी जांच में पाया था कि 3000 रुपये की चिप का इस्तेमाल करके पेट्रोल की चोरी की जाती है और एक तरफ से सभी ग्राहकों को चूना लगाया जाता है. इस चिप को रविन्द्र नाम के एक व्यक्ति ने डेवेलोप किया था, अब तक वह उत्तर प्रदेश में 1000 लोगों को ये चिप बेच चुका है जिसका मतलब है कि कम से कम 1000 पेट्रोल पम्पों पर चोरी हो रही है.

बहरहाल, योगी सरकार ने जब से पेट्रोल चोरी का पर्दाफाश किया है, पेट्रोल चोर पंप मालिकों में हडकंप मच गया है और उन्होने कुछ दिनों के लिए चोरी बंद कर दी है लेकिन जैसे ही मामला ठंढा पड़ेगा वे फिर से यह काम शुरू कर देंगे इसलिए योगी सरकार ने उनसे एक कदम आगे बढ़कर STF का गठन कर दिया ताकि जैसे ही कोई पम्प चोरी करे, उसपर छापा मारकर उसे पकड़ लिया जाए.

31 May, 2017

ये है योगी सरकार, रामपुर छेड़छाड़ कांड में 12 दरिंदे गिरफ्तार

ये है योगी सरकार, रामपुर छेड़छाड़ कांड में 12 दरिंदे गिरफ्तार

rampur-women-molestation-case-12-accused-held-out-of-14

Rampur: उत्तर प्रदेश के रामपुर में दो महिलाओं से छेड़छाड़ करके उनकी वीडियो बनाने वाले 14 दरिंदों ने सोचा भी नहीं होगा कि सिर्फ एक हप्ते के अन्दर उन्हें पकड़कर जेल में बंद कर दिया जाएगा, उन्होने शायद योगी सरकार को हलके में ले लिया, ये भी हो सकता है कि वे सपा सरकार के सपने में ही जी रहे हों और ये भी हो सकता है कि उन्हें अपने आजम खान पर बहुत विश्वास रहा हो क्योंकि रामपुर आजम खान का गढ़ माना जाता है, सपा सरकार में बिना आजम खान की इजाजत के पत्ता भी नहीं हिलता था, यहाँ तक कि सरकार जाने के बाद भी आजम खान ने जिले के DM को हडका दिया था. यही नहीं इस मामले के सामने आने के बाद आजम खान ने कहा था कि महिलाओं को घर से बाहर निकलना ही नहीं चाहिए.

कहने का मतलब ये है कि शैतान लड़कों ये योगी सरकार को हलके में लेकर महिलाओं के साथ दरिंदगी दिखाई, उनका VIDEO बनाया और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड किया, ये योगी सरकार का ही कमाल था कि पुलिस ने इस मामले में स्वतः संज्ञान लिया, शिकायत ना मिलने के बावजूद भी मामले में तेजी दिखाई गयी और सिर्फ एक हप्ते में 14 में से 12 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं.

आज उत्तर प्रदेश पुलिस ने रामपुर कांड में शामिल दो और आरोपियों को गिरफ्तार कर दिया, वीडियो में कुल 14 लड़के दिखे थे जिसमें से अब तक 12 गिरफ्तार किये जा चुके हैं. ये लोग ना केवल महिलाओं को छेड़ रहे थे, राक्षसों की तरह ठहाके लगा रहे थे, उन्हें गिद्धों की तरह नोच रहे थे और उन्हें घसीटकर जंगलों की तरफ उनका रेप करने ले जा रहे थे. उस समय उनके दिमाग में वहशीपन उतर आया था. हालाँकि किसी तरह दोनों महिलाओं ने भागकर अपनी इज्जत बचाई थी.
राम मंदिर पर CM YOGI ने दिया बड़ा बयान: पढ़ें

राम मंदिर पर CM YOGI ने दिया बड़ा बयान: पढ़ें

yogi-adityanath-started-to-solve-ram-mandir-issue-hindu-muslim
अयोध्या: आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में भगवान राम का दर्शन करके राम मंदिर का मुद्दा फिर से गरमा दिया और शाम होते होते बड़ा बयान भी दे दिया. आज योगी ने पहले हनुमानगढ़ी, फिर रामलला और उसके बाद सरयू नदी पर राम की पड़ी के दर्शन किये. सुबह से सबकी नजर योगी आदित्यनाथ पर टिकी थीं.

अयोध्या का दर्शन करने के बाद योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर पर बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि - अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि के विवाद का बातचीत के माध्यम से दोनों पक्ष समाधान निकाल सकें तो सरकार आपके साथ खड़ी है.

योगी ने यह भी कहा कि - संवाद का उचित अवसर आया है, सुप्रीम कोर्ट ने इस बात की अपील की है और हमें इस बात को ध्यान में रखकर नए प्रयास प्रारंभ करने चाहियें.

उन्होंने कहा कि लखनऊ में कई मुस्लिम संगठनों ने अयोध्या में राम जन्मभूमि हिन्दू समाज को सौंपने की वकालत की है है, यह सुनकर हमें बहुत अच्छा लगा.

कुल मिलाकर योगी के कहने का मतलब ये था कि आपसी सौहार्द और संवाद से ही राम मंदिर बनाया जाएगा, वे चाहते हैं कि जिस प्रकार से कई मुस्लिम संगठनों ने राम जन्मभूमि को हिन्दुओं को सौंपने की वकालत की है उसी तरह से अयोध्या के मुस्लिमों को भी हिन्दुओं को राम जन्मभूमि सौंपकर राम मंदिर बनाने में सहयोग देना चाहिए.

योगी ने अयोध्या के विकास का वादा करते हुए कहा कि हमारी सरकार 350 करोड़ रुपये अयोध्या के विकास पर खर्च करेगी, पूरे अयोध्या में हम LED स्ट्रीट लाइट लगवाएंगे, अयोध्या को सबसे साफ़ सुथरा और विकसित शहर बनाया जाएगा.
15 साल में पहली बार ‘जय श्री राम’ के नारों ने गूंजा अयोध्या, YOGI ने किया रामलला के दर्शन

15 साल में पहली बार ‘जय श्री राम’ के नारों ने गूंजा अयोध्या, YOGI ने किया रामलला के दर्शन

jai-shree-ram-slogan-raised-in-ayodhya-as-cm-yogi-reached

अयोध्या: आज 15 वर्षों में पहली बार भगवान् राम की नगरी अयोध्या 'जय श्री राम' के नारों से गूँज रही है क्योंकि 15 वर्षों में पहली बार एक रामभक्त मुख्यमंत्री बना है और भगवान् राम का दर्शन करने अयोध्या पहुंचा है, जी हाँ आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या पहुँचते ही राम-नगरी जय श्री राम के नारों से गूँज उठी, राम भक्तों में फिर से राम मंदिर निर्माण का विश्वास जाग चुका है.

आज अयोध्या पहुँचने पर योगी अदियानाथ ने सबसे पहले हनुमान गढ़ी में हनुमान के दर्शन किये जो रिवाज भी हैं क्योंकि अयोध्या जाने वाला हर व्यक्ति पहले हनुमान गढ़ी मंदिर में जाकर हनुमान के दर्शन करता है उसके बाद रामलला का दर्शन करने रामजन्मभूमि पर जाता है, योगी भी हनुमानगढ़ी के बाद रामजन्मभूमि गए और श्री राम का दर्शन किया.

इसके बाद योगी आदित्यनाथ राम की पेड़ी पर गए और सरयू नदी की पूजा अर्चना की और प्रदेश की बेहतरी के लिए आशीर्वाद माँगा, ऐसी मान्यता है कि यहाँ पर साफ़ मन से आशीर्वाद मांगने पर हर मनोकामना पूरी होती है.

30 May, 2017

रामपुर में दलित महिलाओं को छेड़ने वाले सभी मुस्लिम इसलिए चूहों की तरह बिल में घुस गयी BHIM ARMY

रामपुर में दलित महिलाओं को छेड़ने वाले सभी मुस्लिम इसलिए चूहों की तरह बिल में घुस गयी BHIM ARMY


Rampur: उत्तर प्रदेश के रामपुर में दलित महिलाओं को छेड़ने वाले 4 और लड़के पकडे गया हैं और इस तरह से पकडे गए आरोपियों की संख्या बढ़कर 9 पहुँच चुकी है, गौर करने वाली बात यह है कि महिलाओं को छेड़ने वाले सभी लड़के मुस्लिम समाज के हैं जबकि जिन महिलाओं को छेड़ा गया है वो दलित समाज से हैं, इससे भी हैरान करने वाली बात है कि उत्तर प्रदेश में दलितों पर अन्याय के खिलाफ युद्ध करने का दावा करने वाली भीम आर्मी का कहीं नामो निशान नहीं दिख रहा है.

हाल ही में BHIM ARMY ने सहारनपुर में राजपूतों के हिलाफ़ सिर्फ इसलिए युद्ध छेड़ दिया क्योंकि वे महाराणा प्रताप की झांकी निकालना चाहते थे लेकिन दलित समाज के लोगों को ये मंजूर नहीं था, यही नहीं BHIM ARMY ने दिल्ली के जंतर मंतर में दलितों का मसीहा होने का दावा करने के लिए बहुत बड़ा प्रदर्शन भी किया.

लेकिन जब BHIM ARMY ने देखा कि रामपुर में दलित महिलाओं पर अत्याचार करने वाले, उन्हें छेड़ने वाले, उनकी इज्जत को सोशल मीडिया पर नीलाम करने वाले मुस्लिम हैं तो BHIM ARMY चूहों की तरह बिल में घुस गयी, अब ना तो ये लोग धरना कर रहे हैं, ना प्रदर्शन कर रहे हैं और ना ही हैवानों को फांसी की मांग कर रहे हैं, अगर छेड़ने वाले हिन्दू सवर्ण होते तो BHIM ARMY वाले अब तक तांडव मचा देते, पता नहीं कितने दंगे हो जाते, अब तक सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता रामपुर में डेरा दाल चुके होते, मीडिया वाले वहीँ से LIVE रिपोर्टिंग कर रहे होते लेकिन अब ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा है, ना मीडिया इस मामले को तूल दे रहे हैं क्योंकि इससे इस्लाम धर्म बदनाम हो जाएगा.

आज गिरफ्तार किये गए 4 लोगों में से एक 16 वर्ष का नाबालिक शैतान है जिसका नाम रहीस है जबकि बाकी बालिक हैं, उनके नाम - फाजिल, भूरा और कासिम हैं. अब तक 9 मुस्लिम गिरफ्तार किये जा चुके हैं.
रामपुर कांड: अगर दलित महिलाओं को छेड़ने वाले हिन्दू होते तो मीडिया वाले अब तक मचा देते कोहराम

रामपुर कांड: अगर दलित महिलाओं को छेड़ने वाले हिन्दू होते तो मीडिया वाले अब तक मचा देते कोहराम

rampur-molestation-kand-media-not-telling-accused-are-muslims

रामपुर: रामपुर की घटना पर नजर डालिए, दो दलित समाज की लड़कियों को 10-12 मुस्लिम युवकों ने खुलेआम छेड़ा, उनके साथ बदतमीजी की हद पार कर दी और VIDEO भी बना लिया लेकिन मीडिया वालों ने ना तो छेड़ने वालों का नाम बताया और ना ही उनका धर्म बताया, ना ही इसे बड़ा मुद्दा बनाया, अगर इन दलित लड़कियों को राजपूत या सवर्ण छेड़ देते तो मीडिया वाले अब तक कोहराम मचा चुके होते और एक दो साल तक यह मुद्दा छाया रहता और राहुल गाँधी, केजरीवाल, मायावती, ममता बनर्जी अब तक रामपुर में डेरा डाल चुके होते. सभी मीडिया चैनलों की गाड़ियाँ रामपुर में पहुँच जाती, वहीँ से LIVE रिपोर्टिंग होती लेकिन छेड़ने वाले लड़ने मुस्लिम हैं इसलिए मीडिया खामोश हो गयी है.

इसी तरह कल दिल्ली में एक ई-रिक्शा ड्राइवर को 2 लोगों ने सिर्फ इसलिए पीट पीट कर मार डाला क्योंकि क्योंकि उसनें दोनों युवाओं को खुले में पेशाब करने से मना किया था, दोनों हत्यारे युवक मुस्लिम हैं और उनके नाम - मोहम्मद आरिफ और मुहम्मद अरबाज हैं लेकिन मीडिया ने उनका नाम जानते हुए भी नहीं बताया क्योंकि इससे इस्लाम धर्म खतरे में आ जाता है और दोगले मीडिया इस बात का बहुत ख्याल रखते हैं, अगर पीटने वाले हिन्दू धर्म के होते, सवर्ण होते और जिसकी हत्या हुई है, वह दलित होता तो मीडिया वाले पीटने वालों की जाती, धर्म और गोत्र तक बता देते ताकि दलित राजनीति करने वालों को सरकार के खिलाफ बोलने का मौका मिल जाए.

ई-रिक्शा ड्राइवर रविन्द्र की कोई गलती नहीं थी, वह तो मोदी सरकार के स्वच्छ भारत अभियान से प्रेरित था, बीमारियों के प्रति जागरूक था, दिल्ली में GTB मेट्रो स्टेशन से बाहर दोनों मुस्लिम युवक खुले में पेशाब कर रहे थे, दोनों युवक दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ते हैं, उन्हें शायद मोदी सरकार या मोदी के स्वच्छ भारत अभियान ने बहुत नफरत रही होगी इसलिए जैसे ही ई-रिक्शा ड्राइवर ने उन्हें पेशाब करने से रोका, दोनों को इतना गुस्सा आ गया कि उसकी पीट पीटकर जान ले ली लेकिन दोगली मीडिया ने दोनों युवकों का नाम छुपा लिया.

अगर यही घटना किसी मुस्लिम के साथ हुई होती और पीटने वाले हिन्दू होते तो मीडिया वाले छापते - राजपूतों ने निर्दोष मुस्लिम की पीट पीट कर की हत्या. इसके बाद सभी विरोधी राजनीतिक पार्टियाँ मुस्लिम के घर का दौरा करतीं, असहिष्णुता का मुद्दा बनाया जाता और पूरे देश में बवाल मचा दिया जाया, पूरे विश्व में भारत को बदनाम कर दिया जाता, मानवाधिकार संगठन हरकत में आ जाते, अंतर्राष्ट्रीय अदालत और यूनाइटेड नेशन में यह मामला पहुँच जाता, मीडिया वाले और विपक्षी पार्टियाँ पूरे एक साल तक तांडव मचाते रहते.

खैर, जो हुआ सो हुआ, लेकिन मोदी सरकार तुरंत एक्शन में आयी, केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने रविन्द्र के घर का दौरा किया, उसकी पत्नी को MCD में नौकरी दी गयी और उसे स्वच्छ भारत अभियान में जान देने के लिए 1 लाख रुपये का इनाम दिया गया.
मंत्री स्वाती सिंह ने किया 'बीयर बार' का उद्घाटन, CM YOGI ने पूछा 'काहे किया ये मैडम'

मंत्री स्वाती सिंह ने किया 'बीयर बार' का उद्घाटन, CM YOGI ने पूछा 'काहे किया ये मैडम'

cm-yogi-asks-report-from-swati-singh-over-beer-bar-inauguration

Lucknow: नशाखोरी और गुंडागर्दी को मुद्दा बनाकर सत्ता में आयी योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्री अब खुद बीयर बार खुलवा रहे हैं तो बीजेपी सरकार और खासकर योगी की जमकर आलोचना हो रही है, 20 मई को उत्तर प्रदेश सरकार में महिला, परिवार कल्याण, मातृत्व और शिशु कल्याण मंत्री स्वाती सिंह ने अपने हाथों से लखनऊ में एक बीयर बार का उद्घाटन किया, देखते ही देखते यह घटना एक बड़ी खबर बन गयी और योगी सरकार की जमकर आलोचना होने लगी, लोग बोलने लगे कि यह नाम के योगी सरकार है, काम तो भोगियों के लिए कर रही है.

जब योगी आदित्यनाथ ने देखा कि उनकी इज्जत की धज्जियाँ उड़ाई जा रही हैं तो उन्होंने स्वाती सिंह ने पूछा, आखिर आपको क्या जरूरत थी यह सब करने की, आप इस मामले में अपनी सफाई दीजिये. सूचना के अनुसार योगी इस वक्त स्वाती सिंह से बहुत नाराज हैं और हो सकता है कि उन्हें मंत्री पद से हटा दें क्योंकि स्वाती सिंह ने सरकार को बदनाम करने वाला काम किया है.

बीयर बार का उद्घाटन करने के मौके पर रायबरेली के एसपी गौरव सिंह और उन्नाव की एसपी नेहा पाण्डेय भी उपस्थति थे, दोनों ही पति-पत्नी हैं और इस मौके पर मौजूद रहने के लिए आधे दिन की छुट्टी ली थी, लखनऊ रेंज के IG जय नारायण ने इन दोनों से भी जवाब माँगा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश की महिलाओं को योगी सरकार पर बहुत भरोसा था, लोग सोच रही थीं कि अगर योगी आयेंगे तो शराब बंद करवा देंगे लेकिन जब इनके मंत्री ही बीयर बार का उद्घाटन कर रहे हैं तो लोग हैरान हैं, आखिर योगी सरकार भोगियों के लिए कैसे काम कर सकती है.
बाबरी विध्वंश मामला: CBI कोर्ट आज आडवाणी, जोशी और उमा भारती पर तय करेगी आरोप

बाबरी विध्वंश मामला: CBI कोर्ट आज आडवाणी, जोशी और उमा भारती पर तय करेगी आरोप


Lucknow: बाबरी मस्जिद विध्वंध मामले में आज बड़ा दिन है क्योंकि लखनऊ की विशेष CBI अदालत आज बीजेपी के बड़े नेताओं लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और केंद्रीय मंत्री उमा भारती के खिलाफ आज साजिश रचने का आरोप तय करने वाली है, अदालत ने तीनों नेताओं को पेश होने का हुक्म दिया है.

आज तीनों नेता विशेष अदालत में CBI जज SK Yadav के समक्ष पेश होंगे, तीनों नेता अपने अपने घरों से लखनऊ के लिए प्रस्थान कर चुके हैं.

तीनों उपरोक्त नेताओं के अलावा बीजेपी सांसद विजय कटियार, विश्व हिन्दू परिषद् के नेता विष्णु हरी डालमिया और साध्वी रिताम्बरा को भी कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है.

अदालत ने सभी आरोपियों को पेश होने का आदेश देने के साथ साथ यह भी कहा था कि सुनवाई की तारीख नहीं बढ़ाई जाएगी और ना ही किसी को पेशी से छूट दी जाएगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 19 अप्रैल को सीबीआई की सिफारिश पर बीजेपी नेताओं आडवाणी, जोशी, उमा भारती, विनय कटियार सहित कई अन्य लोगों पर बाबरी बिध्वंश मामले में आपराधिक साजिश रचने का मामला दर्ज करने और इस मामले की सुनवाई 2 साल से पूरी करने का आदेश दिया था.