Showing posts with label Tamil Nadu. Show all posts
Showing posts with label Tamil Nadu. Show all posts

Thursday, December 22, 2016

तमिलनाडु के मुख्य सचिव के घर पर छापे की प्रक्रिया पूरी, सरकार ने मुख्य सचिव को पद से हटाया

तमिलनाडु के मुख्य सचिव के घर पर छापे की प्रक्रिया पूरी, सरकार ने मुख्य सचिव को पद से हटाया

girija-vaidyanathan-appointed-tamil-nadu-chief-secretary-at-rama-rav

चेन्नई, 22 दिसम्बर: तमिलनाडु के मुख्य सचिव पी. रामा मोहन राव के आवास पर आयकर (आईटी) विभाग के छापेमारी की प्रक्रिया पूरी हो गई है। आयकर विभाग ने बुधवार सुबह राव के आवास पर छापा मारा था और यह प्रक्रिया रातभर चली।

विभाग ने राज्य सचिवालय में राव के कार्यालय और उनसे और उनके बेटे के साथ ही कुछ अन्य लोगों से जुड़े कई अन्य स्थानों पर भी छापा मारा।

आईटी अधिकारियों के मुताबिक, 12 स्थानों पर छापा मारा गया।

आईटी विभाग के अधिकारियों ने कहा कि जिन परिसरों में छापा मारा गया, वहां से नए नोटों में नकदी बरामद की गई है।

विडंबना यह है कि राव के पास सतर्कता आयुक्त और प्रशासनिक सुधार आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार भी है। हालाँकि अब उन्हें पद से हटा दिया गया है, अब उनके स्थान पर गिरिजा वैद्यनाथन को तमिल नाडु का मुख्य सचिव बनाया गया है और उन्होंने अपना पदभार ग्रहण भी कर लिया है। 

कई वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों की वरिष्ठता को नजरअंदाज करके राव को इस पद पर नियुक्त किया गया था।

सूत्रों ने बताया है कि राव के आवास और कार्यालय पर छापे के तार इससे पहले जे. शेखर रेड्डी, श्रीनिवासालु और प्रेम नामक तीन व्यवसायियों के आवासों पर मारे गए छापों से जुड़े हैं।

आयकर विभाग ने तीनों व्यवसायियों के पास से 177 किलोग्राम सोना, अमान्य घोषित 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों में 96 करोड़ की नकदी और नए नोटों में 34 करोड़ की नकदी जब्त की थी।

इनमें से एक ठेकेदार रेड्डी ने कथित तौर पर तमिलनाडु सरकार के लिए काफी काम किया हुआ है। 

सीबीआई ने बुधवार को तीनों को गिरफ्तार कर लिया। 

द्रमुक और पीएमके के नेताओं ने मुख्य सचिव को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है। a
बड़ी खबर, DRI ने चेन्नई एयरपोर्ट से 1.34 करोड़ रुपये के नए नोट पकडे, पांच लोग गिरफ्तार

बड़ी खबर, DRI ने चेन्नई एयरपोर्ट से 1.34 करोड़ रुपये के नए नोट पकडे, पांच लोग गिरफ्तार

directorate-of-revenue-intelligence-dri-arrest-5-person-with-new-notes

Chennai, 22 December: नोटबंदी के बाद चोरों की धरपकड़ का सिलसिला जारी है, आज चेन्नई से एक और बड़ी बड़ी खबर आयी है, भारत सरकार के खुफिया राजस्व निदेशालय - DRI ने पांच लोगों को 1.34 करोड़ रुपये के नए नोटों के साथ पकड़ा है, सभी नोट 2000 रुपये के हैं। ये लोग इन रुपयों को कहीं बाहर ले जाने की फिराक में थे लेकिन DRI के हत्थे चढ़ गए। 

चेन्नई में अब तक सबसे अधिक नोट घोटाले के मामले सामने आये हैं, यहीं से शेखर रेड्डी को पकड़ा जा चुका है जिसके पास से 130 करोड़ के नोट और 131 किलो सोना पकड़ा गया था, कल तमिल नाडु के मुख्य सचिव के घर पर भी इनकम टैक्स ने छापा मारा था। रात भर छापेमारी चलती रही और आज कई अफसरों को गिरफ्तार करके थाने ले जाया गया है।

Wednesday, December 21, 2016

तमिलनाडु के मुख्य सचिव के आवास पर IT का छापा

तमिलनाडु के मुख्य सचिव के आवास पर IT का छापा

income-tax-raid-tamil-nadu-chief-secretary-p-rama-hohan-rav-house

चेन्नई, 21 दिसम्बर: तमिलनाडु के मुख्य सचिव पी. रामा मोहन राव के आवास पर बुधवार को आयकर (आईटी) विभाग के अधिकारियों ने छापा मारा। एक वरिष्ठ आईटी अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, "तमिलनाडु के मुख्य सचिव के आवास पर छापा मारा गया।"

आईटी विभाग ने हाल ही में जे. शेखर रेड्डी, श्रीनिवासालु और प्रेम नामक तीन व्यवसायियों के पास से 177 किलोग्राम सोना, अमान्य घोषित 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों में 96 करोड़ की नकदी और नए नोटों में 34 करोड़ की नकदी जब्त की थी।

Monday, December 19, 2016

चेन्नई हाई कोर्ट ने मक्का मस्जिद में चलने वाली शरीयत अदालत पर लगाई रोक: पढ़ें क्यों

चेन्नई हाई कोर्ट ने मक्का मस्जिद में चलने वाली शरीयत अदालत पर लगाई रोक: पढ़ें क्यों

chennai-high-court-ban-shariyat-adalat-running-in-makka-masjid

चेन्नई, 19 दिसम्बर: मद्रास उच्च न्यायालय ने सोमवार को आदेश दिया कि यहां मक्का मस्जिद नाम की मस्जिद से एक शरीयत अदालत नहीं चल सकती है। यह जानकारी एक वरिष्ठ अधिवक्ता ने दी। अदालत ने यह भी आदेश दिया कि सरकार यह सुनिश्चित करे कि इस तरह की अदालत काम नहीं करे। उच्च न्यायालय ने इस संबंध में एक स्थिति रिपोर्ट भी प्रस्तुत करने को कहा है।

वरिष्ठ अधिवक्ता ए. सिराजुद्दीन रहमान ने आईएएनएस से कहा कि अदालत ने एक प्रवासी भारतीय अब्दुर रहमान की जनहित याचिका पर सुनवाई करने के बाद यह आदेश दिया।

मक्का मस्जिद चेन्नई के अन्नासलाई इलाके में स्थित है।

याचिकाकर्ता के अनुसार, शरीयत परिषद एक अदालत की तरह काम कर रही है।

उच्च न्यायालय ने स्पष्ट किया कि धार्मिक स्थल केवल धार्मिक उद्देश्यों के लिए हैं।

सिराजुद्दीन ने कहा कि याचिकाकर्ता अपनी पत्नी के साथ दोबारा रह सकने के लिए पहले शरीयत परिषद की शरण में गया था, लेकिन उस पर तलाक देने के लिए दबाव डाला गया। इसलिए उसने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने का फैसला किया।

Wednesday, December 14, 2016

'वरदा' तूफान से चेन्नई में तबाही, जंगल जैसा मंजर

'वरदा' तूफान से चेन्नई में तबाही, जंगल जैसा मंजर

vardah-cyclone

चेन्नई/विजयवाड़ा, 13 दिसंबर: चेन्नई में तूफान 'वरदा' के दस्तक देने के एक दिन बाद मंगलवार को जब लोग सुबह उठे तो उन्हें एक अलग ही मंजर दिखाई दिया। हर जगह टूटे हुए पेड़ पड़े थे, जिनसे सड़कें बाधित थीं। यहां-वहां साइन बोर्ड और होर्डिग्स पड़े हुए थे। परिसरों की दीवारें क्षतिग्रस्त थीं। टूटे हुए पेड़ों के नीचे दबे वाहन थे, बिजली और दूध की आपूर्ति बाधित थी।

रिहायशी कॉलोनियों में रहने वाले लोग तूफान वरदा से मची तबाही को देखकर दंग थे और परिसरों में टूटे पड़े पेड़, पौधों और टहनियों को उठा रहे थे। 

सरकारी कंपनी में काम करने वाले एक कर्मचारी के.मुरलीधरन ने आईएएनएस से कहा, "घर में न तो बिजली थी और न ही दूध। इसलिए हमने एक होटल में जाकर खाने का फैसला किया। होटल ने हालांकि कहा कि वे कार्ड से भुगतान नहीं ले रहे हैं, क्योंकि स्वाइप मशीनें काम नहीं कर रही हैं। हमें घर वापस आकर किसी तरह खाना बनाकर खाना पड़ा।"

रिहायशी इलाकों में टूटे हुए पेड़ों को देख रहे कारोबारी ए.विश्वनाथ ने कहा, "ऐसा लगा रहा है जैसे हम जंगल के बीच में हों।"

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम ने सोमवार को जारी बयान में कहा कि 4,000 से अधिक पेड़ उखड़ गए हैं।

स्थानीय लोगों के मुताबिक, यह संख्या बढ़ भी सकती है।

हालांकि, नगर निगम ने यातायात के लिए सड़कों पर टूटे पड़े पेड़ हटा दिए हैं। रिहायशी इलाकों से इन्हें हटाने में अभी कुछ दिनों का समय लग सकता है।

बस सेवाएं दोबारा शुरू कर दी गई हैं। हालात सामान्य होने में अभी कुछ और वक्त लगेगा।

जिस स्थान पर पूर्व मुख्यमंत्री जे.जयललिता को दफनाया गया है, वहां चक्रवाती तूफान के बावजूद कैनोपी अपनी जगह पर ही है।

जयललिता को दफनाए गए स्थान के आसपास पानी आने से रोकने के लिए रेत से भरे कई बैग चारों ओर लगाए गए हैं।

सरकार ने चेन्नई, तिरुवल्लुर और कांचीपुरम जिलों में सभी शैक्षणिक संस्थानों के लिए अवकाश की घोषणा की है।

तूफान वरदा से उत्तर चेन्नई तापीय बिजली केंद्र (एनसीटीपीएस) की 600 मेगावाट इकाई-1 में बिजली उत्पादन प्रभावित हुआ है। 

पीओएसओसीओ के मुताबिक, एनसीटीपीएस की दो अन्य इकाइयों (600 मेगावाट तथा दूसरी 210 मेगावट) में विद्युत उत्पादन ठप हो गया है।

पीओएसओसीओ ने कहा कि तीनों इकाइयों से विद्युत उत्पादन कितने समय में फिर से शुरू होगा, इसकी कोई जानकारी नहीं है।

इसी तरह, बिजली आपूर्ति लड़खड़ाने से मद्रास नाभिकीय विद्युत केंद्र (एमएपीएस) की 200 मेगावाट की दो इकाइयों में विद्युत उत्पादन सोमवार शाम से ही ठप है। 

पीओएसओसीओ के मुताबिक, एनसीटीपीएस की इकाई-1 संयंत्र ने तेज हवाओं के कारण सोमवार सुबह काम करना बंद कर दिया, जबकि दूसरे 600 मेगावाट के संयंत्र ने बिजली बाधित होने के कारण काम करना बंद कर दिया।

पीओएसओसीओ ने कहा कि एनसीटीपीएस की 210 मेगावाट इकाई के काम न करने के कारणों की जांच की जा रही है।

चेन्नई, कांचीपुरम तथा तिरुवल्लूर जिलों में विद्युत आपूर्ति बहाल करने में एक या दो दिन का समय और लगेगा। 

तूफान से प्रभावित इन तीनों जिलों में बिजली आपूर्ति कब बहाल होगी, यह बताने के लिए कोई शीर्ष अधिकारी उपलब्ध नहीं हुए।

आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में तूफान 'वरदा' से दो लोगों की मौत हो गई। क्षेत्र में भारी बारिश का दौर जारी है।

सोमवार की देर रात जारी एक बयान में मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम ने कहा, "तूफान वरदा के कारण 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवा की वजह से क्षतिग्रस्त हुई पावर लाइनों की मरम्मत के लिए तमिलनाडु विद्युत बोर्ड ने 4,000 कर्मचारियों को तैनात किया है।"

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि उत्तर चेन्नई, तिरुवल्लूर तथा कांचीपुरम जिलों में विद्युत आपूर्ति को बहाल करने में दो दिन का समय लगेगा।

Sunday, December 11, 2016

AIDMK पार्टी ने नारी किया बयान, जयललिता के बियोग में 470 लोग मर गए, सबको मिलेंगे 3 लाख रुपये

AIDMK पार्टी ने नारी किया बयान, जयललिता के बियोग में 470 लोग मर गए, सबको मिलेंगे 3 लाख रुपये

aidmk-said-400-people-death-in-disconnection-of-jayalalithaa-amma

Chennai, 11 December: AIDMK पार्टी ने आज एक बयान जारी करके कहा है कि जयललिता के निधन के गम में तमिलनाडु में अब तक 470 लोगों की मौत हुई है, इन सभी लोगों के परिवार को राज्य सरकार की तरफ से सहायता राशि प्रदान की जाएगी। 

जयललिता का निधन 8 दिसम्बर को हुआ था और मात्र तीन दिनों में 470 लोगों की मौत हो चुकी है, अगर यही ट्रेंड जारी रहा तो आने वाले दिनों में मरने वालों की संख्या 2-3 हजार तक पहुँच सकती है और ये भी हो सकता है कि किसी और वजह से मरे व्यक्ति के परिवार वाले भी 3 लाख रुपये के लालच में यह बताने लगें कि उनकी मौत जयललिता के गम में हुई है।

कुछ लोग यह भी कह रहे हैं कि कहीं AIDMK वालों ने जयललिता की मौत का क्रेडिट लेने के लिए कोई प्लान तो नहीं बनाया है क्योंकि उनके बयानों को देखकर ऐसा लग रहा है कि 470 लोगों के मरने का उन्हें गर्व हो रहा हो। उन्हें ख़ुशी हो रही हो। जयललिता की मौत के गम में जितने भी लोग मरेंगे, AIDMK पार्टी वाले ढोल पीट पीटकर उतनी ही ख़ुशी से यह बात बताएँगे। 2000 लोग मर गए तो वे ज्यादा ही ढोल पीटेंगे। 

Saturday, December 10, 2016

ओ तेरी की, ठेकेदारों के यहाँ छापेमारी में बरामद हुए अरबों रुपये, 2000 नोटों के 24 करोड़ रुपये

ओ तेरी की, ठेकेदारों के यहाँ छापेमारी में बरामद हुए अरबों रुपये, 2000 नोटों के 24 करोड़ रुपये

chennai-it-raid-24-crore-2000-rs-notes-ceased-after-demonetisation

चेन्नई, 10 दिसंबर: तमिलनाडु में शनिवार को एक व्यापारी की कार से आयकर विभाग ने 24 करोड़ रुपये के नए नोट बरामद किए, 2000 रुपये के नोटों की यह सबसे बड़ी धरपकड़ है। एक अधिकारी ने बताया कि वेल्लोर जिले से बरामद ये सभी 2000 रुपये के नए नोट थे। आयकर अधिकारी ने बताया , "हमलोगों ने वेल्लौर में 24 करोड़ रुपये जब्त किए हैं। छापेमारी अभी जारी है। " 

अधिकारी के अनुसार, "जब्त रुपये भारतीय रिजर्व बैंक में जमा किए जाएंगे।" 

तीन व्यवसायियों- जे. शेखर रेड्डी, श्रीनिवासालू और प्रेम के ठिकानों पर छापेमारी का यह तीसरा दिन है। आठ दिसंबर से ही छापेमारी शुरू हुई थी। 

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने शुक्रवार को कहा था कि आयकर विभाग ने 96.89 करोड़ रुपये नकद 500 और 1000 रुपये के नोट बरामद किए हैं। 9.63 करोड़ रुपये के 2000 रुपये के नए नोट और करीब 36.29 करोड़ रुपये का 127 किलो सोना बरामद किया गया है। 

बताया जाता है कि इनमें सबसे ज्यादा रेड्डी की कार से ही रकम बरामद की गई है। रेड्डी ठेकेदार है और उसने तमिलनाडु सरकार के लिए कई काम कराए हैं। 

वह तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) बोर्ड के सदस्य भी था। शनिवार को छापेमारी और नकदी और सोना बरामद होने के बाद उसे पद से हटा दिया गया। 

Friday, December 9, 2016

नोटबंदी के बाद चोरों में मची भगदड़, IT रेड में 100 करोड़ रुपये कैश और 100 किलो सोना बरामद

नोटबंदी के बाद चोरों में मची भगदड़, IT रेड में 100 करोड़ रुपये कैश और 100 किलो सोना बरामद

notbandi-it-dept-raid-in-chennai-rs-100-crore-cash-100-kg-gold-seixed

New Delhi, 9 December: नोटबंदी के बाद कालेधन के चोरों और बेईमानों में भगदड़ मच गयी है, लोग बेईमानी से कमाए गए अकूत धन को छिपाने और उसे सफ़ेद करने के लिए हाथ पाँव मार रहे हैं, इस कोशिश में कई लोग सफल भी हो रहे हैं लेकिन उनसे भी ज्यादा लोग पकडे जा रहे हैं। 

नोटबंदी के बाद चोरों के पकडे जाने का प्रोग्राम जारी है और जोर शोर से चल रहा है, आज चेन्नई में इनकम टैक्स वालों से सबसे बड़ी रेड की जिसमें  100 करोड़ रुपये कैश और 100 किलोग्राम सोना जब्त किया गया, यह रकम 8 स्थानों पर मारी गयी रेड में बरामद हुई है। 

Wednesday, December 7, 2016

क्या नोटबंदी की खबर सुनकर जयललिता को आया हार्ट अटैक?

क्या नोटबंदी की खबर सुनकर जयललिता को आया हार्ट अटैक?

is-notbandi-demonetisation-reason-behind-jayalalithaa-heart-attack

New Delhi, 7 December: जयललिता पिछले 3-4 महीने से बीमार थीं लेकिन नोटबंदी के बाद अचानक वे सही होने लगी थीं लेकिन इससे पहले कि वे पूरी तरह से ठीक होकर फिर से अपना कामकाज संभाल पातीं उन्हें जोर का हार्ट अटैक आया, उनके जिगर और फेफड़ों ने काम करना ख़त्म कर दिया उनकी मौत हो गयी।

उनकी मौत के बाद कुछ लोग अंदाजा लगा रहे हैं कि नोटबंदी की खबर भी उनके हार्ट अटैक का कारण बन सकती है क्योंकि उनके पास अरबों रुपये थे, पिछले साल  ही उन्होंने 113 करोड़ की इनकम दिखाई थी जिसकी वजह से उनपर आय से अधिक संपत्ति का केस चला था, उन्हें जेल भेजा गया, मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा। 

हो सकता है कि उनके पास मौजूद अरबों रुपये के नोट 500 और 1000 रुपये में हों, अब उनके पास तो कोई है नहीं जो उनके लिए लाईन में लगकर नोट बदलवाए, ऐसा करने के बाद वे पकड़ी भी जा सकती थी और बदनामी भी होती। शायद इसी टेंशन से उन्हें हार्ट अटैक आया होगा। उन्होंने सोचा होगा कि अब मेरे नोट कौन बदलवाएगा, मेरे नोट तो रद्दी हो गए। 

पैसे के अलावा जयललिता के पास हजारों सैंडिलें, चप्पल, साड़ियाँ, दर्जनों कारें भी थीं। उन्हें रानियों जैसे जीने का शौक था। नोटबंदी के बाद उन्हें बहुत नुकसान हुआ था, ऊपर से वे बीमार थीं। शायद यही वजह उनके हार्ट अटैक का कारण बन गयी। 

Tuesday, December 6, 2016

प्यार के दुश्मनों ने जीते जी मिलने नही दिया लेकिन मरने के बाद अपने MGR से जा मिलीं जयललिता

प्यार के दुश्मनों ने जीते जी मिलने नही दिया लेकिन मरने के बाद अपने MGR से जा मिलीं जयललिता

relationship-between-j-jaylalithaa-and-m-g-ramachandran-mgr

चेन्नई, 6 दिसम्बर: तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता को यहां मरीना बीच पर उनके राजनीतिक गुरु तथा ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के संस्थापक एम.जी.रामचंद्रन (एमजीआर) के स्मारक के निकट मंगलवार शाम दफन कर दिया गया। अब हर किसी के मन में यह सवाल है कि जयललिता को MGR के बगल में ही क्यों दफनाया गया। पूरा देश इस रहस्य को जानने के लिए परेशान है। 

हमारी जानकारी के मुताबिक जयललिता एम.जी.रामचंद्रन से उसी समय से प्रेम करती थीं जब दोनों एक साथ फिल्मों में काम करते थे, इस प्रेम का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है - एक बार राजस्थान के रेगिस्तान में दोनों एक फिल्म की सूटिंग कर रहे थे, धूप की वजह से जयललिता को चलने में परेशानी हो रही थी, उनके पैर जब जलने लगे तो एमजीआर ने उन्हें अपनी गोद में उठा लिया। 

दुर्भाग्य से एमजीआर पहले से ही शादीशुदा थे इस वजह से जयललिता हमेशा के लिए उनकी नहीं हो सकी, लेकिन उन्होंने किसी और से शादी नहीं कि और एमजीआर के प्यार के सहारे अपनी जिन्दगी काटने का फैसला किया। बाद में एमजीआर की पत्नी और उनके भाइयों को इस बारे में पता चला तो उन्होंने जयललिता से बैर रखना शुरू कर दिया। बाद में एमजीआर राजनीति में चले आये और तमिल नाडु के मुख्यमंत्री बन गए, धीरे धीरे उन्होंने जयललिता को भी राजनीति में खींच लिया और उन्हें अपने से दूर नहीं होने दिया। 

जब एमजीआर का निधन हुआ तो उनकी पत्नी और भाइयों ने जयललिता को उनसे मिलने नहीं दिया हालाँकि जब एमजीआर का शव राजाजी हाल में रखा गया तो जयललिता वहां पहुँच गयी और दो दिन तक उनके शव के सिरहाने पर खड़ी रहीं, उस समय कई लोगों ने उन्हें चिकोटियां काट काट कर परेशान करने की कोशिश की लेकिन जयललिता वहां से तस से मस नहीं हुई। 

जब एमजीआर की अंतिम यात्रा शुरू हुई तो जयललिता उनके साथ साथ चलनी लगी, उन्हें पैदल चलने देखकर एक पुलिसवाले ने उन्हें गाडी में अन्दर खींचने की कोशिश की लेकिन एमजीआर की पत्नी के भाइयों ने जयललिता को धक्के मारकर गाडी से उतार दिया। बाद में जयललिता ने एमजीआर की प्रॉपर्टी में अपना दावा पेश किया और आधी प्रॉपर्टी की मालकिन बन गयीं। बाद में जयललिता अपने प्रेमी एमजीआर की तरह ही तमिल नाडु की मुख्यमंत्री बन गयीं। 

आज मरने के बाद जयललिता की इक्षानुसार उन्हें अपने प्रेमी एमजीआर के बगल में मरीन बीच पर दफना दिया गया, एक प्रकार ने जीते समय उन्हें एमजीआर से दूर रखा गया लेकिन मरने के बाद वे एमजीआर के पास जाकर लेट गयीं। 

जयललिता दो महीने से भी ज्यादा समय से चेन्नई के एक अस्पताल में भर्ती थीं। रविवार शाम उन्हें दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद सोमवार रात 11.30 बजे उनका निधन हो गया। उन्हें 22 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

जयललिता के पार्थिव शरीर को लोगों के अंतिम दर्शन के लिए मंगलवार सुबह पोज गार्डन स्थित उनके आवास से राजाजी हॉल लाया गया।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, दिल्ली, कर्नाटक तथा पुडुचेरी के मुख्यमंत्री, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी जयललिता को अंतिम श्रद्धांजलि दी।

शाम को राजाजी हॉल से जयललिता की अंतिम यात्रा शुरू हुई। जयललिता का पार्शिव शरीर एक सैन्य वाहन पर रखा हुआ था, जिसे मरीना बीच ले जाया गया।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम, जयललिता की निकटस्थ सहयोगी शशिकला नटराजन तथा अन्य लोग सेना के उस वाहन में बैठे थे, जिससे मुख्यमंत्री का पार्थिव शरीर कांच के एक बक्से में रखकर ले जाया जा रहा था।

मुख्यमंत्री के पार्थिव शरीर को ले जा रहा यह वाहन धीरे-धीरे मरीना बीच की तरफ बढ़ रहा था। इस बीच सड़कों पर हजारों की तादाद में लोग अपने प्रिय नेता की एक झलक पाने के लिए खड़े रहे।

मरीना बीच पर सैन्य सम्मान के बाद जयललिता के पार्थिव शरीर को कांच के बॉक्स से निकालकर चंदन की लकड़ी से बने एक ताबूत में रखा गया।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद, पन्नीरसेल्वम तथा तमिलनाडु के राज्यपाल सी.विद्यासागर राव ने वहां जयललिता के पार्थिव शरीर पर पुष्पांजलि अर्पित की।

शव की अंत्येष्टि के दौरान सारे विधि-विधान शशिकला तथा उनके संबंधियों ने किए। 
ख़त्म हुई अम्मा की अंतिम यात्रा, मरीना बीच पर अंतिम क्रिया, अविवाहित होने की वजह से दफनाया जाएगा

ख़त्म हुई अम्मा की अंतिम यात्रा, मरीना बीच पर अंतिम क्रिया, अविवाहित होने की वजह से दफनाया जाएगा

news-amma-jayalalithaa-funeral-started-at-marina-beach-chennai

चेन्नई, 6 दिसम्बर: तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे.जयललिता की अंतिम यात्रा राजाजी भवन से मरीना बीच के लिए मंगलवार शाम 4 बजे शुरू हो गई और 5.45 पर ख़त्म हुई, मरीना बीच पर ही उनकी अंत्येष्टि की जाएगी। जयललिता को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की पुष्पांजलि के तुरंत बाद ताबूत को सेना के एक वाहन पर लाद दिया गया, जो धीरे-धीरे मरीना बीच की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया। 

जयललिता की अंतिम यात्रा में लाखों लोग उनके साथ चल रहे थे, दोनों तरफ लाखों लोगों का जमावड़ा दिखाई दे रहा था, ऐसा लग रहा था कि जैसे पूरा राज्य ही उनके अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़ा हो।

जयललिता का अंतिम संस्कार हिन्दू धर्म के मुताबिक किया जा रहा है, हिन्दू धर्म में विवाहित लोगों को जलाने की प्रथा है जबकि अविवाहित लोगों को दफनाया जाता है।

जानकारी के अनुसार इसी स्थान पर जयललिता की याद में एक स्मारक बनाया जाएगा ताकि उनके चाहने वाले भविष्य में उन्हें याद कर सकें और उनके काल्पनिक दर्शन कर सकें। इसी स्थान पर जयललिता के राजनीतिक गुरु MGR को भी दफनाया गया था। 
धर्मेन्द्र और जयललिता ने फिल्म 'इज्जत' में साथ काम किया था, पूरी फिल्म देखने के लिए क्लिक करें

धर्मेन्द्र और जयललिता ने फिल्म 'इज्जत' में साथ काम किया था, पूरी फिल्म देखने के लिए क्लिक करें

dharmendra-jayalalithaa-film-ijjat-video-viral-after-amma-death

मुंबई, 6 दिसम्बर: दिग्गज अभिनेता धर्मेद्र ने मंगलवार को कहा कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे. जयललिता के निधन से वह बहुत दुखी और हैरान हैं। दोनों ने हिंदी फिल्म 'इज्जत' में साथ काम किया था। धर्मेद्र (81) ने एक मराठी चैनल 'टीवी9' से कहा, "मैं बहुत हैरान हूं। वह मेरी सह-कलाकार थीं। हमने 1968 में फिल्म 'इज्जत' में साथ काम किया था।"

पूरी फिल्म यहाँ पर देखें: 


भावुक धर्मेद्र ने कहा, "उस समय शूटिंग के सिलसिले में हम लगभग डेढ़ महीने कुल्लू-मनाली (हिमाचल प्रदेश) में रहे। वह वहां अपनी मां के साथ थीं, जिन्होंने हम लोगों के लिए खाना भी बनाया।" 

अभिनेता ने बताया कि इसके बाद से जब भी वह चेन्नई जाते, उनसे टेलीफोन पर बात करते, लेकिन वह सालों से उनसे नहीं मिले।

अभिनेता का कहना है कि जब उन्हें जयललिता के बहुत बीमार होने का पता चला तो उन्होंने उनके ठीक होने के लिए लगातार प्रार्थना की। 

जयललिता ने बेहतरीन गानों वाली सुपरहिट फिल्म 'इज्जत' से बॉलीवुड में कदम रखा था। फिल्म में उन्होंेने आदिवासी लड़की झुमकी का किरदार निभाया था, जो एक बड़े घराने के लड़के (धर्मेद्र) के प्यार में पड़ जाती है। 
एफ.सी. मेहरा निर्मित और टी. प्रकाश राव निर्देशित इस फिल्म में तनूजा भी थीं। 
दोस्त को अंतिम विदाई देते हुए छलक आयी मोदी की ऑंखें, भारी मन से कहा 'अलविदा मेरे दोस्त'

दोस्त को अंतिम विदाई देते हुए छलक आयी मोदी की ऑंखें, भारी मन से कहा 'अलविदा मेरे दोस्त'

pm-modi-tribute-to-his-close-friend-j-jayalalithaa-in-chennai

चेन्नई, 6 दिसम्बर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे. जयललिता को श्रद्धांजलि दी। मोदी और जयललिता की दोस्त विशेष थी और जयललिता मोदी के सभी फैसलों में उनका साथ देती थीं, इसीलिए जैसे ही मोदी को उनके निधन की खबर मिली उन्होंने तुरंत ट्वीट करके उनके निधन पर दुःख जताया और विशेष विमान से चेन्नई के लिए निकल पड़े। 

जयललिता को अंतिम विदाई देते हुए प्रधानमंत्री मोदी की भी आँखें छलक आयीं, उन्होंने हाथ जोड़कर उन्हें विदा किए और जयललिता की ख़ास शशिकला के सर पर हाथ रखकर उन्हें आशीर्वाद दिया, शशिकला भी मोदी को देखकर फूट फूट कर रोने लगीं, मोदी ने उन्हें सांत्वना ही और उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया। 

 जयललिता का सोमवार रात को निधन हो गया था।

मोदी एक विशेष विमान से चेन्नई पहुंचे। वह हवाईअड्डे से हेलीकॉप्टर में बैठकर राजाजी सभागार के पास पहुंचे, जहां तिरंगे में लिपटा जयललिता का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया है।

राज्यपाल सी. विद्यासागर राव ने चेन्नई हवाईअड्डे पर मोदी की अगुवाई की।

प्रधानमंत्री ने सड़क किनारे खड़े लोगों का अभिवादन किया।

प्रधानमंत्री ने राजाजी सभागार में जयललिता के उत्तराधिकारी ओ. पन्नीरसेल्वम और उनकी करीबी शशिकला नटराजन को सांत्वना दी।

मोदी ने जयललिता के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित किया, जहां भारी संख्या में लोग एआईडीएमके नेता को श्रद्धांजलि देने के लिए एकत्रित थे।

प्रधानमंत्री ने लौटने से पहले पन्नीरसेल्वम को गले लगाकर सांत्वना दी।

जयललिता का अंतिम संस्कार मंगलवार शाम को मरीना बीच में उनके मार्गदर्शक एम.जी. रामचंद्रन के स्मारक के पास पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा।
जयललिता एक प्रतिष्ठित और साहसी नेता थीं: एमके स्टालिन

जयललिता एक प्रतिष्ठित और साहसी नेता थीं: एमके स्टालिन

Hindi-news-mk-stalin-told-jayalalithaa-was-a-distinguished-leader

चेन्नई, 6 दिसम्बर: द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) पार्टी के नेता एम.के.स्टालिन ने तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे.जयललिता के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें एक प्रतिष्ठित और साहसी नेता बताया। स्टालि ने ट्वीट कर कहा, "हमारी मुख्यमंत्री जयललिता के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। इस दुखी की घड़ी में मेरी संवेदनाएं पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ हैं।"

स्टालिन ने एक अन्य ट्वीट में कहा, "वह एक प्रतिष्ठित और साहसी नेता थीं। यह तमिलनाडु के लोगों के लिए एक अपूरणीय क्षति है।" 

गौरतलब है कि जयललिता का सोमवार रात को अपोलो हॉस्पिटल्स में निधन हो गया था। उन्हें एक दिन पहले ही दिल का दौरा पड़ा था।
कुछ ही देर में चेन्नई पहुंचेंगे PM MODI, जयललिता को देंगे श्रद्धांजलि

कुछ ही देर में चेन्नई पहुंचेंगे PM MODI, जयललिता को देंगे श्रद्धांजलि

j-jayalalithaa-death-pm-modi-leave-for-chennai-to-give-tribute
Photo Courtesy: ANI
नई दिल्ली, 6 दिसम्बर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे.जयललिता के निधन के बाद उन्हें श्रद्धांजलि देने मंगलवार को चेन्नई के लिए रवाना हो चुके हैं, कुछ ही देर में वे #RajajiHall पहुंचकर उन्हें श्रद्धांजलि देंगे। जयललिता का सोमवार रात 11.30 पर निधन हो गया था।

मोदी सुबह 9.30 बजे चेन्नई के लिए रवाना हुए। वह सीधे राजाजी सभागार जाएंगे और जयललिता को श्रद्धांजलि देंगे।

मोदी ने इससे पहले जयललिता के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट कर कहा, "जयललिता के निधन की खबर से दुखी हूं। उनके निधन से देश की राजनीति में बड़ा शून्य पैदा हो गया है।"

जयललिता के अंतिम संस्कार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम.वेंकैया नायडू और सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री पी.राधाकृष्णन केंद्र सरकार का प्रतिनिधित्व करेंगे।

गौरतलब है कि जयललिता का सोमवार रात 11.30 बजे अपोलो हॉस्पिटल में निधन हो गया था। उन्हें एक दिन पहले ही दिल का दौरा पड़ा था।
जयललिता ने अदम्य साहस के साथ जीवन जिया: सोनिया गांधी

जयललिता ने अदम्य साहस के साथ जीवन जिया: सोनिया गांधी

rip-amma-jayalalithaa-death-sonia-gandhi-praised-her-for-courage

नई दिल्ली, 6 दिसम्बर: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे.जयललिता के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने अदम्य साहस के साथ जीवन जिया है। सोनिया ने जारी बयान में कहा, "मैं जे.जयललिता के निधन की खबर सुनकर बहुत दुखी हूं। एआईएडीएमके की नेता और तमिलनाडु के रूप में वह लोगों से जुड़ी हुई थीं और उन्होंने गरीबों के जीवन में सुधार के लिए कई नीतियां बनाईं।"

सोनिया गांधी ने कहा, "कांग्रेस पार्टी, मेरा परिवार और मैं स्वयं तमिलनाडु के लोगों और एआईएडीएमके में उनके समर्थकों के दुख और पीड़ा को साझा करते हैं।"

गौरतलब है कि जयललिता का सोमवार रात अपोलो अस्पताल में निधन हो गया था।
जयललिता के बाद पनीर बने तमिल नाडु के मुख्यमंत्री, ली शपथ

जयललिता के बाद पनीर बने तमिल नाडु के मुख्यमंत्री, ली शपथ

hindi-news-paneerselvam-next-tamil-nadu-cm-jayalalithaa-death

चेन्नई, 6 दिसम्बर: तमिलनाडु की दिवगंत मुख्यमंत्री जे.जयललिता के निधन के बाद वित्त मंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम ने मंगलवार को राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। जयललिता के निधन के कुछ ही घंटों के भीतर पन्नीरसेल्वम को ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) के विधायक दल का नेता चुना गया।

उन्हें बाद में राज्यपाल सी.विद्यासागर राव ने राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

पन्नीरसेल्वम तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने हैं।
जिन्दगी की जंग हार गयीं तमिल नाडु की मुख्यमंत्री जयललिता, अम्मा ने 11.30 PM पर ली अंतिम सांस

जिन्दगी की जंग हार गयीं तमिल नाडु की मुख्यमंत्री जयललिता, अम्मा ने 11.30 PM पर ली अंतिम सांस

news-tamil-nadu-cm-jayalalithaa-death-11-30-pm-5-december-2016

चेन्नई, 5 दिसम्बर: तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता आखिरकार जिन्दगी की जंग हार गयीं, कल रात 11.30 बजे उन्होंने अपनी जिन्दगी की अंतिम सांस ली। अपोलो अस्पताल ने आधिकारिक बयान जारी करके उनकी मौत की पुष्टि की और उनकी मौत की वजह हार्ट अटैक बताया। अस्पताल ने कहा कि जयललिता को बचानी की पूरी कोशिश की गयी, स्टाफ के लोगों के पूरी मेहनत से काम किया लेकिन हम उन्हें बचा नहीं सके।

जयललिता के निधन के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके गहरा दुःख व्यक्त किया और कहा कि मुख्यमंत्री जयललिता तमिल नाडू के गरीबों की आवाज और जरूरत थीं। उनके निधन ने भारतीय राजनीति में काफी गैप पैदा हो गया है। वे लोगों के साथ संपर्क में रहती थीं, गरीबों के लिए काम करती थीं, और लोगों को प्रेरणा देने का काम करती थीं। मै इस दुःख की घड़ी में उनके चाहने वालों और तमिल नाडु की जनता के साथ हूँ। 


गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी उनकी मौत पर गहरा दुःख व्यक्त करते हुए उन्हें गरीबों की आवाज बताया।

Monday, December 5, 2016

झुका दिया गया था AIDIMK का झंडा, फिर से दोबारा लहराया, अम्मा के प्रशंसकों में फिर जगी आशा

झुका दिया गया था AIDIMK का झंडा, फिर से दोबारा लहराया, अम्मा के प्रशंसकों में फिर जगी आशा


चेन्नई, 5 दिसम्बर: तमिल नाडू की मुख्यमंत्री जयललिता की हालत बेहद नाजुक है और उनकी अंतिम खबर ही आनी बाकी है, कुछ ही देर पहले AIDMK का झंडा झुका दिया गया था जिसके बाद ऐसा लग रहा था कि जयललिता के बचने के अब कोई चांसेस नहीं हैं लेकिन अचानक ही AIDMK का झंडा फिर से लहराने लगा जिसके बाद जयललिता के प्रशंसक एक भी फिर आशावान हो उठे। 

तमिलनाडु स्थित अपोलो अस्पताल में मुख्यमंत्री जे.जयललिता के इलाज में सहायता कर रहे लंदन के एक चिकित्सक ने जयललिता की हालत को 'अत्यंत गंभीर' बताया है। रिचर्ड बेले ने एक बयान में कहा, "स्थिति अत्यंत गंभीर है, लेकिन मैं इस बात की पुष्टि कर सकता हूं कि उनकी हालत में सुधार के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।"

ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) की नेता जयललिता (68) को 22 सितंबर को ओपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रविवार शाम उन्हें दिल का दौरा पड़ा है।

उन्हें ईसीएमओ तथा अन्य जीवन रक्षक प्रणालियों पर रखा गया है। ईसीएमओ या एक्स्ट्राकोर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजेनेशन जिंदगी व मौत के बीच झूल रहे और हृदय तथा फेफड़े की परेशानियों से जूझ रहे मरीजों के लिए जीवनरक्षक प्रणाली है।

बेले ने कहा, "उपलब्ध जीवन रक्षक प्रणाली का यह सबसे उन्नत स्तर है।"

जयललिता को दिल का दौरा पड़ने की खबर पर दुख जताते हुए बेले ने कहा, "इस मुश्किल घड़ी में मेरी प्रार्थना मैडम, उनके परिवार, उनके प्रशंसकों तथा तमिलनाडु के लोगों के साथ है।"

लंदन ब्रिज अस्पताल में चिकित्सक बेले सितंबर से ही जयललिता के इलाज में अपोलो अस्पताल के चिकित्सकों की मदद कर रहे हैं। वह उसी माह अस्पताल में भर्ती हुई थीं।
सबसे बड़ी डॉक्टरों की टीम ने शुरू किया जयललिता का इलाज, लोगों का रो रो कर बुरा हाल

सबसे बड़ी डॉक्टरों की टीम ने शुरू किया जयललिता का इलाज, लोगों का रो रो कर बुरा हाल

biggest-team-of-doctors-started-j-jayalalithaa-treatment-people-crying

चेन्नई, 5 दिसम्बर: तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे.जयललिता को दिल का दौरा पड़ने के बाद उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। अपोलो अस्पताल में चिकित्सकों का एक दल उनकी जांच कर रहा है। जयललिता सितंबर से यहां भर्ती हैं। कल उन्हें बहुत तगड़ा वाला हार्ट अटैक आया है जिसकी वजह से उन्हें CCU में रखा गया है, इस वक्त सबसे बड़ी डॉक्टरों की टीम उनका इलाज कर रही है। AIIMS के भी 4 डॉक्टर उनके इलाज के लिए पहुँच चुके हैं। उनके प्रशंसक अस्पताल के बाहर इकठ्ठे हो गए हैं और लोगों का रो रो कर बुरा हाल है। हर कोई हाय अम्मा हाय अम्मा कहकर रो रहा है। 

अस्पताल के बाहर रविवार रात से ही जयललिता के प्रशंसकों की भारी भीड़ उमड़ी हुई है। देशभर से लोग और नेता उनके जल्द ठीक होने की प्रार्थना कर रहे हैं।

अपोलो अस्पताल की संयुक्त प्रबंध निदेशक संगीता रेड्डी ने सोमवार को कहा, "हमारे चिकित्सक मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की जांच कर रहे हैं और वे पूरी जी-जान से जुटे हुए हैं।"

महराष्ट्र के राज्यपाल सी.विद्यासगार राव मुंबई से अपोलो अस्पताल पहुंचे और जयललिता की तबीयत के बारे में पूछताछ की।

हालांकि, उन्होंने अस्पताल के दौरे के बाद कोई बयान जारी नहीं किया।

इससे पहले उनके अपोलो अस्पताल के दौरे के बाद राजभवन ने एक बयान जारी किया था।

अस्पताल ने रविवार रात जारी बयान में कहा, "तमिलनाडु की मुख्यमंत्री को आज साम दिल का दौरा पड़ा है। उनका चेन्नई के अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा है और चिकित्सकों और विशेषज्ञों का एक दल उनके स्वास्थ्य पर निगरानी बनाए हुए हैं।"

अस्पताल की ओर से जारी ट्वीट के मुताबिक, "लंदन से डॉक्टर रिचर्ड बील से भी सलाह ली गई है और उन्होंने हमारे ह्रदय रोग एवं श्वास रोग विशेषज्ञों के दल से सहमति जताई है।"

अस्पताल ने एक अन्य ट्वीट में कहा, "मुख्यमंत्री जयललिता आम जनता की नेता हैं। आईए, उनके जल्द ठीक होने की कामना करें।"

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी जयललिता के जल्द ठीक होने की कामना की है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, "जयललिता को दिल का दौरा पड़ने की खबर से व्यथित हूं। उनके जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।"

डीएमके प्रमुख एम.करुणानिधि और उनके बेटे एवं पार्टी नेता एम.के.स्टालिन ने भी ट्वीट कर जयललिता के जल्द ठीक होने की कामना की।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने भी ट्वीट कर जयललिता के जल्द ठीक होने की प्रार्थना की।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जयललिता के स्वास्थ्य पर चिंता व्यक्त करते हुए उनके जल्दी ठीक होने की कामना की।