Showing posts with label Sports. Show all posts
Showing posts with label Sports. Show all posts

Jul 12, 2017

एक के बदले विराट कोहली की टीम को मिल गए 3 कोच

एक के बदले विराट कोहली की टीम को मिल गए 3 कोच

virat-kohli-get-three-coach-in-bcci-team-india-news-in-hindi

विराट कोहली किस्मत के धनी हैं क्योंकि उन्हें आज एक कोच के बदले तीन तीन कोच मिल गए, पिछले महीनें अनिल कुंबले ने यह कहते हुए टीम इंडिया के कोच पद से इस्तीफ़ा दे दिया था कि विराट कोहली उन्हें पसंद नहीं करते हैं, करीब 20 दिनों बाद टीम इंडिया के लिए फिर से कोच पद के लिए इंटरव्यू हुआ लेकिन एक के बदले तीन तीन कोच चुना गया है. मतलब अनिल कुंबले के बदले विराट कोहली को तीन कोच मिल गए हैं.

आज साबित हो गया है कि विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह हैं, सचिन, सौरव और वीवीएस लक्ष्मण पर भले ही कोच का चुनाव करने की जिम्मेदारी थी लेकिन कोच वही चुना गया जिसे विराट कोहली चाहते थे, जी हाँ, विराट कोहली के मनपसंद रवि शास्त्री को टीम इंडिया का हेड कोच चुन लिया गया है जबकि जहीर खान को बोलिंग कोच चुना गया है, राहुल द्रविण को विदेश में बैटिंग सलाहकार चुना गया है, तीनों की नियुक्ति 2019 वर्ल्ड कप तक होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही BCCI टीम के हेड कोच के लिए इंटरव्यू लिया था. कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था.

कहा जा रहा है कि गांगुली, सचिन और लक्ष्मण की पहली पसंद वीरेंद्र सहवाग थे लेकिन विराट कोहली से जब सहवाग के नाम पर परामर्श लिया गया तो उन्होंने CAC के निर्णय को रिजेक्ट कर दिया जिसके बाद रवि शास्त्री को हेड कोच चुनकर विराट कोहली को खुश कर दिया गया.

Jul 11, 2017

विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह, मिल गया मनचाहा कोच

विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह, मिल गया मनचाहा कोच

ravi-shastri-appointed-head-coach-of-team-india-virat-kohli-win

आज साबित हो गया है कि विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह हैं, सचिन, सौरव और वीवीएस लक्ष्मण पर भले ही कोच का चुनाव करने की जिम्मेदारी थी लेकिन कोच वही चुना गया जिसे विराट कोहली चाहते थे, जी हाँ, विराट कोहली के मनपसंद रवि शास्त्री को टीम इंडिया का हेड कोच चुन लिया गया है जबकि जहीर खान को बोलिंग कोच चुना गया है, एक और हैरान करने वाली और अच्छी खबर ये है कि राहुल द्रविण को विदेश में बैटिंग कोच चुना गया है, तीनों की नियुक्ति 2019 वर्ल्ड कप तक होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही BCCI टीम के हेड कोच के लिए इंटरव्यू लिया था. कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था.

कहा जा रहा है कि गांगुली, सचिन और लक्ष्मण की पहली पसंद वीरेंद्र सहवाग थे लेकिन विराट कोहली से जब सहवाग के नाम पर परामर्श लिया गया तो उन्होंने CAC के निर्णय को रिजेक्ट कर दिया जिसके बाद रवि शास्त्री को हेड कोच चुनकर विराट कोहली को खुश कर दिया गया.
रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर चल रही है झूठी खबर, पढ़ें क्या है सच्चाई

रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर चल रही है झूठी खबर, पढ़ें क्या है सच्चाई

ravi-shastri-not-selected-head-coach-of-bcci-team

रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर एक झूठी खबर चलाई जा रही है, कहा जा रहा है कि उन्हें BCCI क्रिकेट टीम का हेड कोच चुन लिया गया है लेकिन यह खबर गलत है, उन्होंने हेड कोच के लिए इंटरव्यू तो दिया था लेकिन अभी उनका सिलेक्शन फाइनल नहीं हुआ है, BCCI की कोच सिलेक्शन कमेटी ने अभी और समय माँगा है जिसका मतलब है कि रवि शास्त्री को कोच नहीं चुना गया है, अगर उन्हें चुना गया होता तो अब तक फाइनल निर्णय आ चुका होता.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही हेड कोच पद के लिए इंटरव्यू लिया था, CAC ने करीब 6 लोगों का इंटरव्यू दिया था जिसमें रवि शास्त्री के अलावा मास्टर ब्लास्टर वीरेंद्र सहवाग भी शामिल थे, हमारी जानकारी के अनुसार सौरव गांगुली की पसंद वीरेंद्र सहवाग हैं इसलिए उनके बारे में राय लेने के लिए सौरव गांगुली विराट कोहली से चर्चा करना चाहती है, इसीलिए अभी कोच का निर्णय फाइनल नहीं हुआ है.

रवि शास्त्री का चुनाव ना करने का सबसे बड़ा कारण उनकी उम्र है, रवि शास्त्री 55 साल के हो चुके हैं, उनके अन्दर वह ऊर्जा नहीं है जो एक कोच में होनी चाहिए, वे अब ना तो बोलिंग कर सकते हैं और ना ही बैटिंग, जबकि वीरेंद्र सहवाग की खुद की स्पोर्ट्स अकैडेमी है, इस लिहाज से उन्हें अच्छा अनुभव है और उनके अन्दर अभी काफी ऊर्जा भी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था. इस वक्त वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री के नामों पर ही चर्चा चल रही है, माना जा रहा है कि दोनों में से ही किसी एक को हेड कोच चुना जाएगा.

Jul 10, 2017

इंटरव्यू देने के लिए वीरेंदर सहवाग पहुंचे

इंटरव्यू देने के लिए वीरेंदर सहवाग पहुंचे

virendra-sehwag-head-coach-team-india-bcci-reach-for-interview
भारत के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग BCCI टीम के हेड कोच के पद के लिए इंटरव्यू देने के लिए BCCI हेडक्वार्टर पहुँच गए हैं, वीरेंदर सहवाग के अलावा पूर्व भारतीय कप्तान रवि शास्त्री ने भी आवेदन दिया है, पहले ऐसी खबर आ रही थी कि वीरेंदर सहवाग ने कोच पद के लिए आवेदन नहीं किया है लेकिन आज इंटरव्यू के लिए पहुंचकर उन्होंने सबको चौंका दिया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कार्यकाल ख़त्म होने से पहले पूर्व हेड कोच अनिल कुंबले ने इस्तीफ़ा दे दिया था, भारत को एक उम्दा कोच की तलाश है, वीरेंद्र सहवाग हेड कोच की कमीं पूरी कर सकते हैं, लेकिन उन्हें रवि शास्त्री से कड़ी टक्कर मिलेगी क्योंकि वे टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की पसंद हैं.

इंटरव्यू लेने के लिए क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली और सचिन गांगुली पहुँच गए हैं. मुंबई के BCCI हेडक्वार्टर में ये इंटरव्यू लिया जाएगा.


Jun 26, 2017

BCCI प्रेसिडेंट विनोद राय बोले 'विराट कोहली बॉस नहीं हैं, उनसे पूछकर नहीं रखा जाएगा कोच'

BCCI प्रेसिडेंट विनोद राय बोले 'विराट कोहली बॉस नहीं हैं, उनसे पूछकर नहीं रखा जाएगा कोच'

bcci-chief-vinod-rai-said-virat-kohli-will-not-appoint-team-coach
New Delhi, 26 June: चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के हाथों करारी हार झेलने वाले BCCI क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को आज BCCI अध्यक्ष विनोद राय ने उनकी असली जगह दिखा दी और उनका घमंड चूर चूर कर दिया. विनोद राय ने कहा कि विराट कोहली BCCI के बॉस नहीं हैं इसलिए हम उनसे पूछकर कोच की नियुक्ति नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि टीम के लिए जो उपयुक्त होगा उसे ही कोच बनाया जाएगा, हम इसलिए लिए विराट कोहली से नहीं पूछेंगे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले BCCI टीम के हेड कोच अनिल कुंबले ने यह कहते हुए इस्तीफ़ा दे दिया था कि विराट कोहली नहीं चाहते कि मैं कप्तान बना रहूँ, उन्हें मेरा स्टाइल और काम करने का ढंग पसंद नहीं है, अनिल कुंबले ने यह भी बताया कि BCCI ने उन्हें अचानक ये जानकारी दी जिसे सुनकर उन्हें आश्चर्य भी हुआ क्योंकि उन्होंने हमेशा कप्तान और कोच बीच की सीमा रेखा को पहचाना था और उसकी रिस्पेक्ट की थी लेकिन BCCI ने विराट कोहली की बात बताकर मुझे हैरान कर दिया इसलिए मेरे पद पर बने रहने का कोई मतलब नहीं है.

अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद भारत में विराट कोहली की बहुत आलोचना हुई थी और उन्हें घमंडी बताया जाने लगा था, इस घटना से दो दिन पहले BCCI टीम पाकिस्तान से बुरी तरह से हार गयी थी इसलिए लोग पहले से ही नाराज थे. कुछ लोग तो ये भी कहने लगे थे कि अब विराट कोहली ही BCCI के बॉस हैं, ना खाता ना बही, जो विराट कहें वही सही. लेकिन आज BCCI के अध्यक्ष विनोद राय ने विराट कोहली को उनकी औकात बताते हुए कहा कि कप्तान चुनने का निर्णय सिलेक्शन कमेटी करेगी, विराट कोहली से नहीं पूछा जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विराट कोहली को शुरू से अनिल कुंबले नहीं पसंद थे, विराट कोहली पहले ही चाहते थे कि रवि शास्त्री कोच बनें लेकिन CAC ने उनकी मांग को दरनिकार करते हुए अनिल कुंबले को हेड कोच चुन लिया. सिलेक्शन के बाद अनिल कुंबले भले ही टीम इंडिया के कोच बन गए लेकिन विराट कोहली के दिल में रवि शास्त्री ही बसे हैं, इसीलिए BCCI ने कहा है कि विराट कोहली से पूछकर कोच नहीं रखा जाएगा, मतलब इस बार भी विराट कोहली को रवि शास्त्री नहीं मिलेंगे.