Showing posts with label Sports. Show all posts
Showing posts with label Sports. Show all posts

Oct 20, 2017

श्रीसंत की इस बात से और चिढ़ गया BCCI, बोला ना इंडिया से खेलने देंगे और ना विदेश से खेलने देंगे

श्रीसंत की इस बात से और चिढ़ गया BCCI, बोला ना इंडिया से खेलने देंगे और ना विदेश से खेलने देंगे

bcci-said-sreesanth-will-not-play-for-any-other-country-not-india

क्रिकेट खिलाडी श्रीसंत ने आज BCCI को और नाराज कर दिया है, आज श्रीसंत ने एक ऐसी बात बोल दी जिसे सुनकर BCCI को मिर्ची लग गयी, उसनें बौखलाहट में कहा कि श्रीसंत ना तो भारत से खेल पाएंगे और ना ही किसी और देश की तरफ से खेल पाएंगे.

बात दरअसल यह है कि श्रीसंत पर BCCI ने मैच फिक्सिंग के आरोप में आजीवन प्रतिबंध लगाया था लेकिन कोई दोष साबित नहीं हो सका तो केरल हाई कोर्ट ने उनपर से प्रतिबन्ध हटाने का आदेश दिया, हालाँकि अभी तक BCCI ने उन पर से प्रतिबन्ध नहीं हटाया है.

आज श्रीसंत ने एक मीडिया संस्थान से इंटरव्यू में कहा कि मुझपर BCCI ने बैन लगाया है ICC ने कोई बैन नहीं लगाया, अगर मैं BCCI से नहीं खेल सकता तो किसी अन्य देश से तो खेल ही सकता हूँ. वैसे भी BCCI एक प्राइवेट संस्था है, भले ही यह कहा जाता है कि हम भारत की तरफ से खेलते हैं, या टीम इंडिया से खेलते हैं लेकिन सच यह है कि BCCI एक प्राइवेट संस्था है.

उन्होंने कहा की मैं इस वक्त 34 साल का हूँ, मेरा कैरियर सिर्फ चार-पांच साल का है, मैं क्रिकेट से प्यार करता हूँ इसलिए मैं इसे भूल नहीं सकता हूँ.

श्रीसंत की बात सुनकर BCCI को बहुत मिर्ची लगी, उन्होंने तुरंत ही प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि श्रीसंत किसी भी देश से नहीं खेल पाएंगे, उनपर प्रतिबन्ध जारी रहेगा. सीके खन्ना ने कहा कि BCCI का लीगल पोजीशन बहुत साफ़ है, श्रीसंत किसी भी अन्य देश से नहीं खेल पाएंगे.
वीरू से बोले बिजेंदर, तने खेलना छोड़ दिया हमने देखना छोड़ दिया, बैटरी धर के देखते थे तेरा मैच

वीरू से बोले बिजेंदर, तने खेलना छोड़ दिया हमने देखना छोड़ दिया, बैटरी धर के देखते थे तेरा मैच

bijedner-singh-wish-virender-sehwag-happy-birthday-20-october

आज भारत के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का जन्मदिन है, हर कोई उनके जन्मदिन की शुभकामनाएं व्यक्त कर रही है, उन्हें बधाई दे रहा है. भारत के बाक्सिंग चैम्पियन बिजेंदर सिंह ने भी उन्हें बधाई दी लेकिन उनका अंदाज विल्कुल अलग था.

उन्होंने कहा कि - तने खेलना छोड़ दिया हमने देखना छोड़ दिया ना तो वो भी जमाना था जिब भाई की बैटिंग ट्रैक्टर की बैटरी धर के देखा करते, हैप्पी बर्थडे बीरेंद्र सहवाग.


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज वीरेंद्र सहवाग का 39वां जन्मदिन है. उन्हने दोस्तों और प्रशसंकों की तरफ से बधाइयों का तांता लगा हुआ है.

वीरेंद्र सहवाग भारत के सबसे धाकड़ बल्लेबाज माने जाते हैं, उनकी बैटिंग से बड़े बड़े गेंदबाजों का पसीना छूट जाता था, जब वे अपने फॉर्म में बैटिंग करते थे तो सिर्फ चौके छक्कों से बात करते थे.

Oct 18, 2017

अनिल कुंबले के बर्थडे पर BCCI ने किया ऐसा ट्वीट कि करना पड़ा डिलीट, पढ़ें क्या लिख दिया

अनिल कुंबले के बर्थडे पर BCCI ने किया ऐसा ट्वीट कि करना पड़ा डिलीट, पढ़ें क्या लिख दिया

bcci-deleted-tweet-on-anil-kumble-birthday-read-why-18-october

अनिल कुंबले भले ही भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे हों लेकिन वे भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान भी रहे हैं, बल्लेबाज भी रहे हैं और एक साल तक हेड कोच भी रहे हैं. कल उनका हैप्पी बर्थडे था, उन्हें विश करने के लिए BCCI ने ट्वीट किया जिसमें अनिल कुंबले को सिर्फ गेंदबाज बताया गया, BCCI यह भूल गया कि अनिल कुंबले कप्तान और कोच भी रह चुके हैं.

BCCI के इस ट्वीट को देखते ही अनिल कुंबले के चाहने वालों ने BCCI को जमकर फटकार लगा दी. जब BCCI को अपनी गलती का अहसास हुआ तो उन्होने फटाफट ट्वीट को डिलीट कर दिया और फिर से ट्वीट किया. 

पुराना ट्वीट डिलीट करने के बाद BCCI ने दोबारा ट्वीट किया जिसमें कहा - टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और लीजेंड अनिल कुंबले को हैप्पी बर्थडे. #HappyBirthdayJumbo.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अनिल कुंबले ने बिना थके और बिना आराम किये 132 टेस्ट और 271 वनडे क्रिकेट मैच खेले हैं. उन्होंने 2008 में रिटायरमेंट लिया था. उन्होंने 619 टेस्ट विकेट लिए हैं, वे विश्व के दूसरे गेंदबाज हैं जिन्होंने टेस्ट में एक पारी के सभी 10 विकेट लिए हैं.

Oct 15, 2017

युवाओं से बोले सुरेश रैना, आज का दर्द कल की ताकत है, हमेशा करेंगे एक्सरसाइज

युवाओं से बोले सुरेश रैना, आज का दर्द कल की ताकत है, हमेशा करेंगे एक्सरसाइज

suresh-raina-said-never-skip-exercise-today-pain-tomorrow-strength

भारतीय क्रिकेट टीम एक खिलाडी आजकल जिम में ज्यादा ही पसीना बहा रहे हैं और चाहते हैं कि हमारे देश के युवा भी पसीना बहायें और निरंतर एक्सरसाइज करते रहें, वैसे हेल्थ एक्सपर्ट भी कहते हैं कि हम सभी को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए, अच्छे स्वास्थ्य के लिए प्रतिदिन सैर, योग, व्यायम और पौष्टिक भोजन खाना चाहिए।

विशेषज्ञों के अनुसार हम स्वस्थ रहते हैं तो हमारा शरीर और दिमाग तेजी से काम करता हैं, यही नहीं अच्छे स्वास्थय के जरिये हम अपने जीवन में सफलता भी हासिल कर सकते हैं क्योंकि सफलता की कुंजी अच्छा स्वस्थ्य भी होता है.

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाडी सुरेश रैना अपने स्वास्थ्य पर खास ध्यान देते है, उनका कहना है कि वे अपनी सेहत से कभी समझौता नहीं करते. वे प्रतिदिन सुबह जल्दी उड़ते हैं, दौड़ के लिए जाते हैं, योग करते है और जिम में खूब पसीना बहाते हैं.

आज सुरेश रैना ने जिम में एक्सरसाइज करते हुए अपनी वीडियो पोस्ट की है, उन्होने वीडियो सन्देश में कहा - हम सभी को प्रतिदिन व्यायाम करना चाहिए. व्यायाम करने से शरीर को भले ही आज दर्द हो लेकिन यही दर्द कल हमारी ताकत बन जाता है, इसलिए एक्सरसाइज कभी नहीं छोड़ना चाहिए. आप भी देखें यह वीडियो.

Sep 20, 2017

धोनी के लिए बड़ी खुशखबरी, मिलेगा पदम भूषण अवार्ड

धोनी के लिए बड़ी खुशखबरी, मिलेगा पदम भूषण अवार्ड

bcci-nominte-mahednra-singh-dhoni-for-padam-bhushan-award

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के लिए खुशखबरी है. BCCI ने उनका नाम पदम भूषण के लिए भेजा है. पदम भूषण हमारे देश का तीसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान अवार्ड है. पहले भारत रत्न, फिर पदम विभूषण और उसके बाद पदम भूषण.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI ने इस बार सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी का नाम ही पदम अवार्ड के लिए भेजा है इसलिए धोनी को यह अवार्ड मिलना तय है. 

इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी को अर्जुन अवार्ड, राजीव गाँधी खेत रत्न अवार्ड और पद्म श्री अवार्ड मिल चुका है. पद्म श्री देश का चौथा सबसे बड़ा अवार्ड है.

आपको बता दें कि अब तक पदम भूषण अवार्ड देश के 10 क्रिकेट खिलाड़ियों को ही मिल चुका है, इस क्लब में शामिल होने वाले महेंद्र सिंह धोनी देश के 11वें खिलाडी होंगे. अब तक यह अवार्ड - सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, सुनील गावस्कर, राहुल द्रविड़, चंदू बोर्डे, दिनकर बलवंत देवधर, कोत्तारी नायडू और लाला अमरनाथ को मिल चुका है.

शानदार रहा है धोनी का रिकॉर्ड

महेंद्र सिंह धोनी ने अपना कैरियर 2004 में शुरू किया था. उन्होंने 302 एकदिवसीय मैचों में 9737 रन बनाए हैं जबकि 90 टेस्ट मैचों में 4876 रन बनाए हैं. उन्होंने 78 T20 मैचों में भी 1212 रन बनाए हैं. धोनी को भारत के सबसे सफलतम कप्तानों में गिना जाता है.

Sep 15, 2017

वीरेंद्र सहवाग ने कोच पद की भर्ती को लेकर किया धमाकेदार खुलासा, बोले, अब कभी नहीं करूँगा आवेदन

वीरेंद्र सहवाग ने कोच पद की भर्ती को लेकर किया धमाकेदार खुलासा, बोले, अब कभी नहीं करूँगा आवेदन

virender-sehwag-will-not-apply-for-team-india-coach-post-for-ever

भारत के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने आज BCCI में कोच पर नियुक्ति को लेकर विस्फोटक खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि मैं टीम इंडिया का हेड कोच इसलिए नहीं बन पाया क्योंकि मेरी BCCI में सेटिंग नहीं थी, अगर मेरी सेटिंग होती तो मैं जरूर हेड कोच चुना जाता इसलिए अब मैं कभी कोच पद के लिए आवेदन नहीं करूँगा.

वीरेंदर सहवाग ने कहा कि मैंने कोच पद के लिए सोचा ही नहीं था, मैं आवेदन भी नहीं कर रहा था लेकिन BCCI के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी और महाप्रबंधक खेल विकास एमवी श्रीधर मेरे पास आए थे और मुझे आवेदन करने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि आप के चयन होने के चांस हैं इसलिए आप को जरूर आवेदन करना चाहिए. मैंने उनकी बातों में आकर आवेदन कर दिया लेकिन मेरी विराट कोहली से सेटिंग नहीं थी इसलिए मैं कोच नहीं चुना गया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच अनिल कुंबले ने विराट कोहली से मनमुटाव की वजह से पद से इस्तीफ़ा दे दिया था जिसके बाद फिर से कोच पद के लिए भर्ती निकली थी, जिसके लिए रवि शास्त्री ने भी अप्लाई किया था, विराट कोहली और रवि शास्त्री के बीच सेटिंग थी इसलिए उन्हें ही हेड कोच चुना गया जबकि वीरेंदर सहवाग को निराश होना पड़ा.

Aug 27, 2017

मोदी के इस ऐलान से सचिन तेंदुलकर हुए ख़ुशी से गदगद: पढ़ें

मोदी के इस ऐलान से सचिन तेंदुलकर हुए ख़ुशी से गदगद: पढ़ें

sachin-tendulkar-happy-modi-announced-sports-latent-search-portal

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में देशवासियों को संबोधित किया. मोदी ने आज एक ऐसा ऐलान कर दिया इसकी हर कोई तारीफ कर रहा है, क्रिकेट के मास्टर कहे जाने वाले मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर भी मोदी के इस ऐलान से खुश हो गए और ट्विटर पर मोदी की तारीफ कर दी. उन्होंने कहा - मन की बात में स्पोर्ट्स टैलेंट सर्च पोर्टल लांच होने की खबर सुनकर उत्साहित हूँ, यह कदम देश में अच्छे खिलाडियों की खोज करने में मदद करेगा.

sachin-tendulkar-praised-pm-modi-for-sports-latest-search-portal

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज मन की बात कार्यक्रम में PM मोदी ने देश के युवाओं को खेल के लिए प्रेरित करते हुए कहा कि भारत एक युवा देश हैं और देश के युवाओं को खेल के मैंदान में दिखना चाहिए लेकिन आज कंप्यूटर, इन्टरनेट के युग में बच्चें और युवा सारा दिन फेसबुक, ट्विटर, इन्स्टाग्राम से जुड़े रहते है या फिर कम्प्यूटर पर ही फ़ीफ़ा, क्रिकेट गेम खेलते हुए दिखते है. 

मोदी ने कहा कि इन्टरनेट के युग में कोई भी मैंदान में जाकर खेलना पसंद नहीं करता हैं. जबकि शरीर और मस्तिष्क का विकास मैंदान में खेल कर ही होता है. एक समय था जब बच्चे घर से बाहर खेलने के लिए जाते थे तो माँ पूछती थी कि घर कब वापस लौटोगे, लेकिन आज समय इतना बदल गया है कि माँ को कहना पड़ता है कि घर से बाहर खेलने कब जाओगे.

मोदी ने कहा - कोई भी प्रतिभाशाली बच्चा, जिसे खेल में उपलब्धि है, इस पोर्टल पर अपना बायो डेटा या वीडियो अपलोड कर सकता है। खेल मंत्रालय उभरते खिलाड़ियों का चयन करके उन्हें प्रशिक्षण देगा। उन्होंने बताया कि खेल मंत्रालय कल यह पोर्टल लॉन्च करेगा.

Jul 12, 2017

एक के बदले विराट कोहली की टीम को मिल गए 3 कोच

एक के बदले विराट कोहली की टीम को मिल गए 3 कोच

virat-kohli-get-three-coach-in-bcci-team-india-news-in-hindi

विराट कोहली किस्मत के धनी हैं क्योंकि उन्हें आज एक कोच के बदले तीन तीन कोच मिल गए, पिछले महीनें अनिल कुंबले ने यह कहते हुए टीम इंडिया के कोच पद से इस्तीफ़ा दे दिया था कि विराट कोहली उन्हें पसंद नहीं करते हैं, करीब 20 दिनों बाद टीम इंडिया के लिए फिर से कोच पद के लिए इंटरव्यू हुआ लेकिन एक के बदले तीन तीन कोच चुना गया है. मतलब अनिल कुंबले के बदले विराट कोहली को तीन कोच मिल गए हैं.

आज साबित हो गया है कि विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह हैं, सचिन, सौरव और वीवीएस लक्ष्मण पर भले ही कोच का चुनाव करने की जिम्मेदारी थी लेकिन कोच वही चुना गया जिसे विराट कोहली चाहते थे, जी हाँ, विराट कोहली के मनपसंद रवि शास्त्री को टीम इंडिया का हेड कोच चुन लिया गया है जबकि जहीर खान को बोलिंग कोच चुना गया है, राहुल द्रविण को विदेश में बैटिंग सलाहकार चुना गया है, तीनों की नियुक्ति 2019 वर्ल्ड कप तक होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही BCCI टीम के हेड कोच के लिए इंटरव्यू लिया था. कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था.

कहा जा रहा है कि गांगुली, सचिन और लक्ष्मण की पहली पसंद वीरेंद्र सहवाग थे लेकिन विराट कोहली से जब सहवाग के नाम पर परामर्श लिया गया तो उन्होंने CAC के निर्णय को रिजेक्ट कर दिया जिसके बाद रवि शास्त्री को हेड कोच चुनकर विराट कोहली को खुश कर दिया गया.

Jul 11, 2017

विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह, मिल गया मनचाहा कोच

विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह, मिल गया मनचाहा कोच

ravi-shastri-appointed-head-coach-of-team-india-virat-kohli-win

आज साबित हो गया है कि विराट कोहली ही BCCI के असली बादशाह हैं, सचिन, सौरव और वीवीएस लक्ष्मण पर भले ही कोच का चुनाव करने की जिम्मेदारी थी लेकिन कोच वही चुना गया जिसे विराट कोहली चाहते थे, जी हाँ, विराट कोहली के मनपसंद रवि शास्त्री को टीम इंडिया का हेड कोच चुन लिया गया है जबकि जहीर खान को बोलिंग कोच चुना गया है, एक और हैरान करने वाली और अच्छी खबर ये है कि राहुल द्रविण को विदेश में बैटिंग कोच चुना गया है, तीनों की नियुक्ति 2019 वर्ल्ड कप तक होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही BCCI टीम के हेड कोच के लिए इंटरव्यू लिया था. कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था.

कहा जा रहा है कि गांगुली, सचिन और लक्ष्मण की पहली पसंद वीरेंद्र सहवाग थे लेकिन विराट कोहली से जब सहवाग के नाम पर परामर्श लिया गया तो उन्होंने CAC के निर्णय को रिजेक्ट कर दिया जिसके बाद रवि शास्त्री को हेड कोच चुनकर विराट कोहली को खुश कर दिया गया.
रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर चल रही है झूठी खबर, पढ़ें क्या है सच्चाई

रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर चल रही है झूठी खबर, पढ़ें क्या है सच्चाई

ravi-shastri-not-selected-head-coach-of-bcci-team

रवि शास्त्री के बारे में सोशल मीडिया पर एक झूठी खबर चलाई जा रही है, कहा जा रहा है कि उन्हें BCCI क्रिकेट टीम का हेड कोच चुन लिया गया है लेकिन यह खबर गलत है, उन्होंने हेड कोच के लिए इंटरव्यू तो दिया था लेकिन अभी उनका सिलेक्शन फाइनल नहीं हुआ है, BCCI की कोच सिलेक्शन कमेटी ने अभी और समय माँगा है जिसका मतलब है कि रवि शास्त्री को कोच नहीं चुना गया है, अगर उन्हें चुना गया होता तो अब तक फाइनल निर्णय आ चुका होता.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BCCI की क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी ने कल ही हेड कोच पद के लिए इंटरव्यू लिया था, CAC ने करीब 6 लोगों का इंटरव्यू दिया था जिसमें रवि शास्त्री के अलावा मास्टर ब्लास्टर वीरेंद्र सहवाग भी शामिल थे, हमारी जानकारी के अनुसार सौरव गांगुली की पसंद वीरेंद्र सहवाग हैं इसलिए उनके बारे में राय लेने के लिए सौरव गांगुली विराट कोहली से चर्चा करना चाहती है, इसीलिए अभी कोच का निर्णय फाइनल नहीं हुआ है.

रवि शास्त्री का चुनाव ना करने का सबसे बड़ा कारण उनकी उम्र है, रवि शास्त्री 55 साल के हो चुके हैं, उनके अन्दर वह ऊर्जा नहीं है जो एक कोच में होनी चाहिए, वे अब ना तो बोलिंग कर सकते हैं और ना ही बैटिंग, जबकि वीरेंद्र सहवाग की खुद की स्पोर्ट्स अकैडेमी है, इस लिहाज से उन्हें अच्छा अनुभव है और उनके अन्दर अभी काफी ऊर्जा भी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोच पद के लिए CAC ने रवि शास्त्री, वीरेंद्र सहवाग, लालचंद राजपूत, रिचर्ड पाइबस और टॉम मूडी का इंटरव्यू लिया था. इस वक्त वीरेंद्र सहवाग और रवि शास्त्री के नामों पर ही चर्चा चल रही है, माना जा रहा है कि दोनों में से ही किसी एक को हेड कोच चुना जाएगा.

Jul 10, 2017

इंटरव्यू देने के लिए वीरेंदर सहवाग पहुंचे

इंटरव्यू देने के लिए वीरेंदर सहवाग पहुंचे

virendra-sehwag-head-coach-team-india-bcci-reach-for-interview
भारत के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग BCCI टीम के हेड कोच के पद के लिए इंटरव्यू देने के लिए BCCI हेडक्वार्टर पहुँच गए हैं, वीरेंदर सहवाग के अलावा पूर्व भारतीय कप्तान रवि शास्त्री ने भी आवेदन दिया है, पहले ऐसी खबर आ रही थी कि वीरेंदर सहवाग ने कोच पद के लिए आवेदन नहीं किया है लेकिन आज इंटरव्यू के लिए पहुंचकर उन्होंने सबको चौंका दिया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कार्यकाल ख़त्म होने से पहले पूर्व हेड कोच अनिल कुंबले ने इस्तीफ़ा दे दिया था, भारत को एक उम्दा कोच की तलाश है, वीरेंद्र सहवाग हेड कोच की कमीं पूरी कर सकते हैं, लेकिन उन्हें रवि शास्त्री से कड़ी टक्कर मिलेगी क्योंकि वे टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की पसंद हैं.

इंटरव्यू लेने के लिए क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली और सचिन गांगुली पहुँच गए हैं. मुंबई के BCCI हेडक्वार्टर में ये इंटरव्यू लिया जाएगा.


Jun 26, 2017

BCCI प्रेसिडेंट विनोद राय बोले 'विराट कोहली बॉस नहीं हैं, उनसे पूछकर नहीं रखा जाएगा कोच'

BCCI प्रेसिडेंट विनोद राय बोले 'विराट कोहली बॉस नहीं हैं, उनसे पूछकर नहीं रखा जाएगा कोच'

bcci-chief-vinod-rai-said-virat-kohli-will-not-appoint-team-coach
New Delhi, 26 June: चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान के हाथों करारी हार झेलने वाले BCCI क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को आज BCCI अध्यक्ष विनोद राय ने उनकी असली जगह दिखा दी और उनका घमंड चूर चूर कर दिया. विनोद राय ने कहा कि विराट कोहली BCCI के बॉस नहीं हैं इसलिए हम उनसे पूछकर कोच की नियुक्ति नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि टीम के लिए जो उपयुक्त होगा उसे ही कोच बनाया जाएगा, हम इसलिए लिए विराट कोहली से नहीं पूछेंगे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले BCCI टीम के हेड कोच अनिल कुंबले ने यह कहते हुए इस्तीफ़ा दे दिया था कि विराट कोहली नहीं चाहते कि मैं कप्तान बना रहूँ, उन्हें मेरा स्टाइल और काम करने का ढंग पसंद नहीं है, अनिल कुंबले ने यह भी बताया कि BCCI ने उन्हें अचानक ये जानकारी दी जिसे सुनकर उन्हें आश्चर्य भी हुआ क्योंकि उन्होंने हमेशा कप्तान और कोच बीच की सीमा रेखा को पहचाना था और उसकी रिस्पेक्ट की थी लेकिन BCCI ने विराट कोहली की बात बताकर मुझे हैरान कर दिया इसलिए मेरे पद पर बने रहने का कोई मतलब नहीं है.

अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद भारत में विराट कोहली की बहुत आलोचना हुई थी और उन्हें घमंडी बताया जाने लगा था, इस घटना से दो दिन पहले BCCI टीम पाकिस्तान से बुरी तरह से हार गयी थी इसलिए लोग पहले से ही नाराज थे. कुछ लोग तो ये भी कहने लगे थे कि अब विराट कोहली ही BCCI के बॉस हैं, ना खाता ना बही, जो विराट कहें वही सही. लेकिन आज BCCI के अध्यक्ष विनोद राय ने विराट कोहली को उनकी औकात बताते हुए कहा कि कप्तान चुनने का निर्णय सिलेक्शन कमेटी करेगी, विराट कोहली से नहीं पूछा जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि विराट कोहली को शुरू से अनिल कुंबले नहीं पसंद थे, विराट कोहली पहले ही चाहते थे कि रवि शास्त्री कोच बनें लेकिन CAC ने उनकी मांग को दरनिकार करते हुए अनिल कुंबले को हेड कोच चुन लिया. सिलेक्शन के बाद अनिल कुंबले भले ही टीम इंडिया के कोच बन गए लेकिन विराट कोहली के दिल में रवि शास्त्री ही बसे हैं, इसीलिए BCCI ने कहा है कि विराट कोहली से पूछकर कोच नहीं रखा जाएगा, मतलब इस बार भी विराट कोहली को रवि शास्त्री नहीं मिलेंगे.
सलमान को पछाड़कर Facebook पर सबसे ज्यादा फॉलो किये जाने वाले दूसरे भारतीय बने विराट कोहली

सलमान को पछाड़कर Facebook पर सबसे ज्यादा फॉलो किये जाने वाले दूसरे भारतीय बने विराट कोहली

virat-kohli-become-second-most-followed-indians-on-facebook

New Delhi, 26 June: Facebook पर विराट कोहली सबसे ज्यादा फॉलो किये जाने वाले दूसरे भारतीय बन गए हैं, उन्होंने सलमान खान को पछाड़कर यह स्थान हासिल किया है, अब उनसे आगे सिर्फ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं. विराट कोहली अभी सिर्फ 28 वर्ष के हैं, जब से उन्होने टीम इंडिया की कमान संभाली है, उनकी पॉपुलरिटी बढती जा रही है.

इस वक्त Facebook पर विराट कोहली के 3,57, 34,461 फॉलोवर्स हैं. फॉलोवर्स बनाने के मामले में विराट कोहली ने कप्तान बनने के बाद तेज रफ़्तार पकड़ी है, कप्तान बनने के बाद ही उन्होंने दीपिका पादुकोण और प्रियंका चोपड़ा को पीछे छोड़ा है, यही नहीं क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर भी उनसे 7.1 मिलियन फॉलोवर्स पीछे हैं.

Facebook पर सबसे अधिक फॉलो किये जाने वाले 10 भारतीय
  • नरेन्द्र मोदी - 4,22,90,529
  • विराट कोहली - 3,57,34,461
  • सलमान खान - 3,51,24,086
  • दीपिका पादुकोण - 3,40,49,783
  • प्रियंका चोपड़ा - 3,17,56,266
  • यो यो हनी सिंह - 3,04,83,399
  • इंडियन क्रिकेट टीम - 28,66,5667
  • सचिन तेंदुलकर - 28,53,8885
  • Laughing Colours - 28,42,4734
  • श्रेया घोषाल - 28,30,0686

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 12 महीने में विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम को कई सीरीज में जीत मिली है, इस जीत ने ना सिर्फ टीम इंडिया को नंबर वन पर पहुंचा दिया बल्कि विराट कोहली भी चमक रहे हैं. टीम इंडिया ने भारत में खेली गयी टेस्ट सीरीज में न्यू जीलैंड, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को हराया, वन-डे में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया को हराया, इसके अलावा Champions Trophy में उप-विजेता का खिताब मिला.

Jun 24, 2017

भारतीय हॉकी टीम का जानदार और शानदार प्रदर्शन, पाकिस्तान को 6-1 से धो दिया

भारतीय हॉकी टीम का जानदार और शानदार प्रदर्शन, पाकिस्तान को 6-1 से धो दिया

indian-hockey-team-beat-paksitan-from-6-1-in-world-hockey-league

London, 24 June: भारतीय हॉकी टीम ने आज फिर से जानदार और शानदार प्रदर्शन करते हुए वर्ल्ड हॉकी लीग के प्ले-ऑफ में एक बार फिर से पाकिस्तान को 6-1 से धो डाला और क्रिकेट टीम की तरह भारत की नाक नहीं कटने दी.

भारत को अब टूर्नामेंट में पांचवे या छठे स्थान के लिए कनाडा से भिड़ना पड़ेगा. जानकारी के लिए बता दें कि भारत ने वर्ल्ड हॉकी लीग में लगातार दूसरी बार पाकिस्तान को धोया है, इससे पहले 18 जून को शुरुआती मैच में भी भारत ने पाकिस्तान को धोया था.

भारत की तरफ से रमनदीप सिंह, मंदीप सिंह, तलविंदर, आकाशदीप सिंह और हरमनप्रीत सिंह ने गोल किये, पाकिस्तान सिर्फ के गोल कर सका, उसकी तरह से अजीज अहमद ने गोल किया.

Jun 22, 2017

ANIL KUMBLE के अपमान के बाद करोड़ों लोगों को हुई BCCI और विराट कोहली से नफरत, दे रहे बद्दुवा

ANIL KUMBLE के अपमान के बाद करोड़ों लोगों को हुई BCCI और विराट कोहली से नफरत, दे रहे बद्दुवा

anil-kumble-get-full-support-from-social-media-virat-kohli-not

New Delhi, 22 June: BCCI और विराट कोहली द्वारा Anil Kumble का अपमाना क्रिकेट प्रेमियों को सहन नहीं हो रहा है, करोड़ों लोग BCCI टीम से नफरत करने लगे हैं और विराट कोहली को घमंडी कप्तान बताया जा रहा है, लोग कह रहे हैं कि विराट कोहली अगर अनिल कुंबले का अपमान कर सकते हैं, उन्हें सभी खिलाडियों के सामने अपशब्द कह सकते हैं तो कल को सचिन, सौरभ, लक्ष्मण और द्रविण जैसे महान खिलाडियों का भी अपमान कर सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण CAC यानी क्रिकेट एडवाइजरी कमेटी के सदस्य हैं और इन्हीं तीनो ने BCCI टीम के हेड कोच के लिए अनिल कुंबले का चुनाव किया था लेकिन विराट कोहली उन्हें पसंद नहीं करते थे, विराट कोहली पहले ही चाहते थे कि अनिल कुंबले की जगह रवि शास्त्री को हेड कोच बनाया जाए लेकिन CAC ने विराट कोहली की बात नहीं मानी. विराट कोहली पिछले के साल से यह टीस मन में पाले हुए थे और इसी का गुस्सा निकालने के लिए वह कथित तौर पर पाकिस्तान से ICC चैंपियंस ट्रॉफी में जान बूझकर फाइनल मैच हार गए और भारत की नाक कटवा दी.

भारत की हार के दो ही दिन बाद अनिल कुंबले ने यह कहते हुए कोच पद से इस्तीफ़ा दे दिया कि विराट कोहली नहीं चाहते मैं कोच पद पर रहूँ, अनिल कुंबले ने को BCCI ने कल पद छोड़ने को कहा था, अनिल कुंबले को 8 दिन का समय दिया गया था लेकिन उन्होंने उससे पहले ही इस्तीफ़ा दे दिया.

अनिल कुंबले का अपमान क्रिकेट प्रेमियों को बर्दास्त नहीं हुआ क्योंकि अनिल कुंबले के अन्दर जीत का जो जज्बा है वो विराट कोहली के अन्दर नहीं है क्योंकि अनिल कुंबले ने अपने कैरियर के एक मैच में पाकिस्तान के सभी 10 खिलाडियों को आउट किया था. दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान का वह मैच कौन भूल सकता है. ऐसे महान खिलाडी के अपमान को लोग पचा नहीं पा रहे हैं और विराट कोहली को घमंडी बताकर BCCI टीम को जमकर बद्दुवायें दे रहे हैं, कई लोग तो यह भी कह रहे हैं कि बेस्टइंडीज दौरे पर भारत सभी मैच हार जाए.

जानकारी के लिए बता दें कि भारत के इतिहास में पहली बार हुआ है कि किसी कोच को सिर्फ इसलिए पद छोड़ने को कहा गया है क्योंकि कप्तान को उसका स्टाइल पसंद नहीं है, पहली बार किसी कप्तान को सुपर पॉवरफुल दिखाया गया है, आज ऐसा लग रहा है कि BCCI में विराट कोहली से बड़ा बादशाह कोई नहीं है. कुछ लोग तो ये भी कह रहे हैं कि CAC से सचिन, सौरव और लक्ष्मण को भी इस्तीफ़ा दे देना चाहिए क्योंकि आगे इन लोगों का भी अपमान हो सकता है.

Jun 21, 2017

अब पाकिस्तान को हराने के लिए नहीं, Anil Kumble को हराने के लिए खेलते हैं Virat Kohli, डूब करो

अब पाकिस्तान को हराने के लिए नहीं, Anil Kumble को हराने के लिए खेलते हैं Virat Kohli, डूब करो

shameless-virat-kohli-play-to-defeat-anil-kumble-not-pakistan

New Delhi, 21 June: अब ज़माना बदल रहा है, अब BCCI टीम के खिलाडी पकिस्तान को हराने के लिए नहीं बल्कि कोच को हराने के लिए मैदान में उतरते हैं, ICC Champions Trophy में भारत का पाकिस्तान के साथ मुकाबला था लेकिन इस मैच में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली पाकिस्तान को हराने के लिए नहीं खेल रहे थे, ये BCCI टीम के कोच Anil Kumble को हराने के लिए खेल रहे थे, ये सोच रहे थे कि अगर हम पाकिस्तान से हार जाएंगे तो Anil Kumble कोच पद से इस्तीफ़ा दे देंगे.

18 जून को BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली और उनके खिलाडियों ने पाकिस्तान के सामने क्यों घुटने टेक दिए, किसी ने पाकिस्तान का मुकाबला करने की क्यों कोशिश नहीं की और हार्दिक पांड्या को छोड़कर हर खिलाडी क्यों मरा मरा सा खेल रहा था, आज इसका खुलासा हुआ है.

दरअसल विराट कोहली और सीनियर खिलाडी जैसे महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह, रोहित शर्मा और रविन्द्र जडेजा अनिल कुंबले को कोच पद से हटाना चाहते थे, अगर भारत पाकिस्तान से मैच जीत जाता तो अनिल कुंबले को इसका श्रेय मिलता और उन्हें पद से हटाना मुश्किल होता इसलिए भारत के सीनियर खिलाडी जान बूझकर आउट हो गए, यही नहीं हार्दिक पांड्या खुलकर खेल रहे थे तो उन्हें भी रन आउट करवा दिया गया था, इसका सबूत ये है कि रविन्द्र जडेजा 0 रन पर खेल रहे थे, जब हार्दिक पण्ड्या खुलकर खेलने लगे तो विराट कोहली ने पानी पिलाने के बहाने एक खिलाडी को रविन्द्र जडेजा के पास भेजा, अब आप ही सोचो, रविन्द्र जडेजा अभी आये ही थे तो उन्हें इतनी जल्दी प्यास कैसे लग सकती है, उन्होंने दूसरी ही गेंद पर हार्दिक पांड्या को रन आउट करा दिया, अगर हार्दिक 10 ओवर और खेल लेते तो भारत मैच जीत जाता.

इसका खुलासा कल हुआ जब अनिल कुंबले ने खुद इस बात की जानकारी दी, उन्होंने बताया कि विराट कोहली नहीं चाहते कि कप्तान पद पर बना रहूँ, उन्हें मेरा स्टाइल पसंद नहीं है, उन्होंने BCCI से यह भी कहा है कि कोई भी सीनियर खिलाडी कुंबले को कप्तान नहीं देखना चाहता इसलिए मैं पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूँ. दो दिन पहले विराट कोहली ने अनिल कुंबले को खिलाडियों के सामने अपशब्द भी बोले थे और अनिल कुंबले को बाहर निकालने के लिए पाकिस्तान से हारने की तैयारी करके आये थे. इसीलिए विराट कोहली जान बूझकर आउट हो गए और बाद में पाकिस्तानी खिलाडियों के साथ पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया, देखिये ऊपर वाली फोटो.

भारत के महान खिलाडी अनिल कुंबले का बहुत बड़ा अपमान हुआ है क्योंकि कल उन्हें अचानक बताया गया कि BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली को उनका स्टाइल पसंद नहीं है, यही नहीं विराट कोहली ने BCCI से कहा कि टीम का कोई भी सीनियर खिलाड़ी अनिल कुंबले को कोच पद पर नहीं देखना चाहता. अनिल कुंबले को यह बेइज्जती बर्दास्त नहीं हुई और उन्होंने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया.

यही नहीं दो दिन पहले अनिल कुंबले और BCCI खिलाडियों की मीटिंग हुई थी जिसमें विराट कोहली ने ने कुंबले को अपशब्द भी कहे थे, जैसे ही लोगों ने विराट कोहली की इस हरकत को सुना लोग गुस्सा हो गए, लोगों का कहना है कि Anil Kumble को नहीं बल्कि घमंडी विराट कोहली को हटाना चाहिए और इसकी जगह भुवनेश्वर को टीम का कप्तान बनाना चाहिए.
अब लोगों को समझ में आया, पाकिस्तान की जीत पर क्यों जश्न मना रहे हैं विराट कोहली और युवराज

अब लोगों को समझ में आया, पाकिस्तान की जीत पर क्यों जश्न मना रहे हैं विराट कोहली और युवराज

virat-kohli-latest-news-in-hindi

New Delhi, 21 June: 18 जून को BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली और उनके खिलाडियों ने पाकिस्तान के सामने क्यों घुटने टेक दिए, किसी ने पाकिस्तान का मुकाबला करने की क्यों कोशिश नहीं की और हार्दिक पांड्या को छोड़कर हर खिलाडी क्यों मरा मरा सा खेल रहा था, आज इसका खुलासा हुआ है.

दरअसल विराट कोहली और सीनियर खिलाडी जैसे महेंद्र सिंह धोनी, युवराज सिंह, रोहित शर्मा और रविन्द्र जडेजा अनिल कुंबले को कोच पद से हटाना चाहते थे, अगर भारत पाकिस्तान से मैच जीत जाता तो अनिल कुंबले को इसका श्रेय मिलता और उन्हें पद से हटाना मुश्किल होता इसलिए भारत के सीनियर खिलाडी जान बूझकर आउट हो गए, यही नहीं हार्दिक पांड्या खुलकर खेल रहे थे तो उन्हें भी रन आउट करवा दिया गया था, इसका सबूत ये है कि रविन्द्र जडेजा 0 रन पर खेल रहे थे, जब हार्दिक पण्ड्या खुलकर खेलने लगे तो विराट कोहली ने पानी पिलाने के बहाने एक खिलाडी को रविन्द्र जडेजा के पास भेजा, अब आप ही सोचो, रविन्द्र जडेजा अभी आये ही थे तो उन्हें इतनी जल्दी प्यास कैसे लग सकती है, उन्होंने दूसरी ही गेंद पर हार्दिक पांड्या को रन आउट करा दिया, अगर हार्दिक 10 ओवर और खेल लेते तो भारत मैच जीत जाता.

इसका खुलासा कल हुआ जब अनिल कुंबले ने खुद इस बात की जानकारी दी, उन्होंने बताया कि विराट कोहली नहीं चाहते कि कप्तान पद पर बना रहूँ, उन्हें मेरा स्टाइल पसंद नहीं है, उन्होंने BCCI से यह भी कहा है कि कोई भी सीनियर खिलाडी कुंबले को कप्तान नहीं देखना चाहता इसलिए मैं पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूँ. दो दिन पहले विराट कोहली ने अनिल कुंबले को खिलाडियों के सामने अपशब्द भी बोले थे और अनिल कुंबले को बाहर निकालने के लिए पाकिस्तान से हारने की तैयारी करके आये थे. इसीलिए विराट कोहली जान बूझकर आउट हो गए और बाद में पाकिस्तानी खिलाडियों के साथ पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया, देखिये ऊपर वाली फोटो.

भारत के महान खिलाडी अनिल कुंबले का बहुत बड़ा अपमान हुआ है क्योंकि कल उन्हें अचानक बताया गया कि BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली को उनका स्टाइल पसंद नहीं है, यही नहीं विराट कोहली ने BCCI से कहा कि टीम का कोई भी सीनियर खिलाड़ी अनिल कुंबले को कोच पद पर नहीं देखना चाहता. अनिल कुंबले को यह बेइज्जती बर्दास्त नहीं हुई और उन्होंने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया.

यही नहीं दो दिन पहले अनिल कुंबले और BCCI खिलाडियों की मीटिंग हुई थी जिसमें विराट कोहली ने ने कुंबले को अपशब्द भी कहे थे, जैसे ही लोगों ने विराट कोहली की इस हरकत को सुना लोग गुस्सा हो गए, लोगों का कहना है कि Anil Kumble को नहीं बल्कि घमंडी विराट कोहली को हटाना चाहिए और इसकी जगह भुवनेश्वर को टीम का कप्तान बनाना चाहिए.
Anil Kumble का अपमान देखकर गुस्साए लोग बोले 'कुंबले को नहीं घमंडी विराट कोहली को हटाओ'

Anil Kumble का अपमान देखकर गुस्साए लोग बोले 'कुंबले को नहीं घमंडी विराट कोहली को हटाओ'

cricket-fans-angry-after-anil-kumble-insult-virat-kohli-ghamandi-hai
New Delhi, 21 June: भारत के महान खिलाडी अनिल कुंबले का बहुत बड़ा अपमान हुआ है क्योंकि कल उन्हें अचानक बताया गया कि BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली को उनका स्टाइल पसंद नहीं है, यही नहीं विराट कोहली ने BCCI से कहा कि टीम का कोई भी सीनियर खिलाड़ी अनिल कुंबले को कोच पद पर नहीं देखना चाहता. अनिल कुंबले को यह बेइज्जती बर्दास्त नहीं हुई और उन्होंने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया.

यही नहीं दो दिन पहले अनिल कुंबले और BCCI खिलाडियों की मीटिंग हुई थी जिसमें विराट कोहली ने ने कुंबले को अपशब्द भी कहे थे, जैसे ही लोगों ने विराट कोहली की इस हरकत को सुना लोग गुस्सा हो गए, लोगों का कहना है कि Anil Kumble को नहीं बल्कि घमंडी विराट कोहली को हटाना चाहिए और इसकी जगह भुवनेश्वर को टीम का कप्तान बनाना चाहिए.

महान खिलाड़ी Anil Kumble को मंहगा पड़ा BCCI टीम का कोच बनना, विराट कोहली ने बेइज्जत करके हटवाया

महान खिलाड़ी Anil Kumble को मंहगा पड़ा BCCI टीम का कोच बनना, विराट कोहली ने बेइज्जत करके हटवाया

virat-kohli-abuse-anil-kumble-step-down-as-bcci-team-head-coach
New Delhi, 21 June: आज भारत के महान क्रिकेट खिलाडियों को एक सीख मिली है और वो ये है कि वर्तमान BCCI टीम का कोच मत बनो वरना बेइज्जत करके हटा दिए जाओगे, अनिल कुंबले भारत के महान खिलाडियों में से एक हैं, उन्होंने हर मैच भारत के लिए खेला था, देशभक्ति के जज्बे के साथ खेला था लेकिन आज के क्रिकेटर उन्हीं से बदला लेने के लिए, उन्हें कोच पद से हटाने के लिए पाकिस्तान से जान बूझकर हार गए, विराट कोहली जानबूझकर पाकिस्तान से हारे ताकि इसका इल्जाम अनिल कुंबले पर आये और वे इस्तीफ़ा दे दें, विराट कोहली की ये चाल कामयाब भी हुई क्योंकि सच में अनिल कुंबले से इस्तीफ़ा दे दिया.

इस्तीफ़ा देना तो ठीक है लेकिन अनिल कुंबले को बेइज्जत करके निकाला गया है, उन्हें अचानक कल बताया गया कि विराट कोहली को उनका स्टाइल पसंद नहीं है और भारत का कोई भी सीनियर खिलाडी उन्हें कोच के रूप में नहीं देखना चाहता, अब बेचारे अनिल कुंबले क्या करते, कितनी बेइज्जती सहते, उन्होंने कल BCCI टीम के हेड कोच से इस्तीफ़ा दे दिया और एक भावनात्मक चिट्ठी भी लिखी जिसे पढ़कर भारत के देशभक्त क्रिकेट प्रेमियों का खून उबल जाएगा. पढ़ें -

कल अचानक BCCI ने मुझे पहली बार बताया कि BCCI टीम के कप्तान विराट कोहली को Head Coach के रूप में मेरा स्टाइल पसंद नहीं है, मुझे यह सुनकर बहुत आश्चर्य हुआ (इससे पहले कुंबले को कभी भी ये बात नहीं बताई गयी). मैंने हमेशा कोच और कप्तान के बीच की सीमारेखा का सम्मान किया था, यद्यपि BCCI ने कहा कि वह मेरे और कप्तान के बीच में मतभेद को सुलझाने का प्रयास करेगी लेकिन मेरी लिए कोच पद पर बने रहना मुश्किल है क्योंकि जब टीम का कप्तान ही मुझसे बैर रख रहा है तो मैं कोच कैसे बने रह सकता हूँ, इसीलिए मैं कोच पद से इस्तीफ़ा दे रहा हूँ.
आपने देखा, अनिल कुंबले के सामने अगर देखा जाए तो विराट कोहली कुछ भी नहीं हैं, अभी तक भारत के लोग विराट कोहली में एक अच्छा कप्तान ढूंढ रहे हैं और आधे लोग उन्हें हटाने की मांग भी करने लगे हैं लेकिन अनिल कुंबले एक अच्छे खिलाडी के साथ साथ एक अच्छे कप्तान भी थे, इसके बावजूद भी विराट कोहली ने उन्हें बेइज्जत करके कोच पद से हटवा दिया. 

Jun 20, 2017

भारत की हार मानकर बच्चे फूट-फूट कर रोते हैं, हमारे खिलाडी सिर्फ BCCI और पैसे के लिए खेलते हैं

भारत की हार मानकर बच्चे फूट-फूट कर रोते हैं, हमारे खिलाडी सिर्फ BCCI और पैसे के लिए खेलते हैं

cricket-players-only-play-for-money-and-bcci-not-for-india
New Delhi, 20 June: भारत के करोड़ों लोग BCCI खिलाडियों को भारतीय खिलाडी समझकर इनके मैच देखते हैं और भारत की हार समझकर फूट फूट कर रोते हैं, इन करोड़ों लोगों को शायद यह नहीं पता कि हमारे खिलाडी देश के लिए नहीं खेलते, ये सिर्फ पैसे के लिए खेलते हैं, सिर्फ BCCI के लिए खेलते हैं और BCCI के लिए देश कोई मायने नहीं रखता क्योंकि BCCI ना सरकार के अधीन है और ना ही RTI के अधीन, तो किस वजह से BCCI टीम को भारतीय टीम कहा जाता है और किस वजह से लोग भावनात्मक हो जाते हैं, हाल ही में एक VIDEO वायरल हुआ है जिसमें एक पाकिस्तान द्वारा भारत की हार पर एक बच्चा फूट फूट कर रो रहा है, देखें VIDEO.


पढ़ें BCCI की कमाई की असलियत


क्या आप जानते हैं कि BCCI विश्व की सबसे अमीर क्रिकेट संस्था है, अगर आप जानते हैं तो शायद यह नहीं जानते होंगे कि BCCI विश्व की सबसे अमीर क्रिकेट संस्था कैसे बनी, आखिर BCCI के पास पैसा कहाँ से आता है. हम आपको बताते हैं, हम BCCI के खिलाडियों को भारतीय खिलाडी समझकर उनके मैच देखते हैं, हम इसे देशभक्ति से जोड़ लेते हैं, भावनात्मक हो जाते हैं, जबकि बड़े बड़े लोग हमारी भावना से खेलकर बहुत बड़ी प्लानिंग कर रहे होते हैं.

हम क्रिकेट को देशभक्ति से जोड़कर दिन भर TV पर चिपके रहते हैं, हम TV पर जितना अधिक देर तक चिपकते हैं, TV पर उतने ही मंहगे मंहगे विज्ञापन दिखाए जाते हैं, उन्हीं विज्ञापन के पैसे BCCI के पास पहुँचते हैं, मतलब हमारा ही पैसा BCCI के पास पहुँचता है क्योंकि हम वही चीजें खरीदते हैं जो टीवी पर दिखायी जाती हैं, टीवी पर बार बार प्रचार आने से उन प्रोडक्ट्स के नाम हमारे दिमाग में बस जाते हैं और हम दुकान पर उन्ही प्रोडक्ट्स का नाम बोलते हैं जो टीवी पर हमारे दिमाग में घुसाया जाता है.

मान लीजिये हम मैच देख रहे हैं, बार बार Lux साबुन का प्रचार आ रहा है, बार बार प्रचार आने से Lux हमारे दिमाग में बस गया, मान लो हम दुकान पर गए और साबुन माँगा, दुकानदार पूछेगा - कौन सा साबुन चाहिए तो हम झट से बोल देंगे Lux दे दो. अब मान लो 10 करोड़ लोग मैच देख रहे हैं, 10 करोड़ लोगों में से Lux का प्रचार सुनकर अगर 1 करोड़ लोगों ने भी हर हफ्ते Lux साबुन खरीदा तो कंपनी की हर हप्ते कम से कम 15 करोड़ रुपये का साबुन बिकेगा और अगर एक साबुन पर 5 रुपये का भी मुनाफ़ा आया तो हर हप्ते 5 करोड़ रुपये की कमाई होगी. पांच करोड़ में से कंपनी वाले 1 करोड़ रुपये BCCI को दे देंगे जो मैच के दौरान Lux के विज्ञापन दिखाएगा. इसी तरह से TV पर हजारों प्रोडक्ट्स का विज्ञापन आता है और BCCI को हजारों करोड़ रुपये कमाई होती है.

BCCI है प्राइवेट संस्था, सरकार के अधीन नहीं है

अब आप सोच रहे होंगे कि ये पैसे हमारे देश के काम आते हैं तो आप गलत हैं, ये BCCI ने आज तक अपनी कमाई का हिसाब नहीं दिया, BCCI भारत सरकार और RTI को मानता ही नहीं, हमारे पैसे से BCCI के बड़े बड़े अधिकारी विदेश में मौज करते हैं, बड़े बड़े होटल में रुकते हैं, आलिशान गाड़ियों में घुमते हैं, मतलब हर ऐश करते हैं और हमारे पैसों को विदेश में मौज मस्ती में उड़ा देते हैं. ये पैसे कभी देश के काम नहीं आते बल्कि मौज मस्ती में उडाये जाते हैं. इसी कमाई से कुछ पैसा BCCI अपने खिलाडियों को देता है और ये खिलाडी BCCI के आगे दुम हिलाते हैं, अगर BCCI कहेगा कि मैच जीतने के लिए खेलो तो ये खिलाडी मैच जीतने के लिए खेलेंगे, अगर BCCI कहेगा कि मैच हारने के लिए खेलो तो ये खिलाडी मैच हारने के लिए खेलते हैं, आपने देखा होगा कि पाकिस्तान के साथ फाइनल मैच में हमारे खिलाडी विल्कुल ढीले ढाले थे, हार्दिक पांड्या को छोडकर किसी भी खिलाडी को देखकर ऐसा नहीं लगा कि ये मैच जीतने के लिए खेल रहा है, सभी खिलाडियों का जोश और उत्साह गायब था.