Showing posts with label Sex and Relationship. Show all posts
Showing posts with label Sex and Relationship. Show all posts

Aug 8, 2017

ये 7 फ़ूड बेडरूम में आपको बना देंगे पॉवरफुल: पढ़ें

ये 7 फ़ूड बेडरूम में आपको बना देंगे पॉवरफुल: पढ़ें

top-foods-to-increase-sex-power-in-males

बिस्तर पर हर आदमी पॉवरफुल दिखना चाहता है ताकि उसके वैवाहिक जीवन में प्रसन्नता बनी रहे लेकिन पॉवरफुल बनने के लिए पॉवरफुल भोजन भी करना चाहिए, कुछ लोग पॉवरफुल तो बनना चाहते हैं लेकिन वो अपनी डाईट पर ध्यान नहीं देते. ऐसे लोगों के लिए हम 7 ऐसे फ़ूड आइटम का नाम बताने जा रहे हैं जिसे अपने भोजन और खाने की आदतों में शामिल करके आप अपनी सेक्स पॉवर बढ़ा सकते हैं. 

1. डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट खाने से दिमाग में सेरोटोनिन और डोपामाइन जैसे हार्मोन्स का स्तर बढ़ जाता है जो हमें खुश रखता है और मूंड बना देता है, मूंड बनने की वजह से Ejaculation का समय बढ़ जाता है. चॉकलेट में फेनिल-एथिलामाइन भी होता है तो हमें बिस्तर में खो जाने को प्रेरित करता है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तनाव और बिना मूंड के सेक्स करने से Ejaculation का समय घट जाता है और ऐसे लोग बिस्तर में जल्द ही ढेर हो जाते हैं. अगर आपको भी अपनी पॉवर बढ़ानी है तो हप्ते में एक दो बार डार्क चॉकलेट जरूर खाएं.

2. नट्स 

नट्स को एनेर्जी बूस्टर माना जाता है, रोजाना नट्स खाने से स्टैमिना बढ़ता है और कमजोरी ख़त्म होती है, स्टैमिना बढ़ने से सेक्स पॉवर भी पढ़ जाता है, अपने भोजन में बादाम, ब्राजील नट्स, अखरोट, मूंगफली जरूर शामिल करें और असर खुद देखिये.

3. लहसुन-प्याज

लहसुन और प्याज तो सेक्स पॉवर के भण्डार होते हैं इसलिए भ्रह्मचर्य का जीवन जीने वाले लोग लहसुन और प्याज से परहेज करते हैं क्योंकि लहसुन प्याज खाने से सेक्स हार्मोन्स बढ़ जाते हैं और लोग पार्टनर की तलाश में लग जाते हैं लेकिन योगी लोगों को इस सब की जरूरत नहीं होती इसलिए लहसुन प्याज खाना बंद कर देते हैं लेकिन अगर आप वैवाहिक जीवन में हैं तो लहसुन-प्याज जरूर खाएं.

4. ब्रोकोली और धनिया

कम लोगों को ही पता होगा कि हरी धनिया और हरा ब्रोकोली कमाल की सब्जियां होती हैं जिसे खाने से एस्ट्रोजन घटता है और सेक्स हारमोंस टेस्टोस्टेरोन बढ़ जाता है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि धनिया में Androsteron होता है जो गंधहीन हारमोंस होता है और पुरुषों के पसीने से निकलता है. यह हारमोंस पुरुषों को जल्दी ही मूंड में ला देता है.

5. फिश (मछली)

फिश में कमाल की सेक्स पॉवर होती है, फिश में विटामिन B होता है जो स्टैमिना बढ़ा देता है, विटामिन B3 एनारोबिक मेटाबोलिज्म का इंचार्ज होता है जो सेक्सुअल एनर्जी और सेक्सुअल अंगों की तरफ ब्लड फ्लो को बढ़ा देता है. इसका नतीजा यह होता है कि सेक्स में एन्जॉयमेंट बढ़ जाता है और समय भी.

6. ओट्स या जई या दलिया

ओट्स या जई की दलिया सेक्स पॉवर के लिए रामवाण चीज होती है, कुछ लोग दलिया को मरीजों का भोजन बताते हैं लेकिन जब ऐसे लोग दलिया के फायदे जानेंगे तो रोजाना दलिया खाना शुरू कर देंगे. ओट्स हमारे शरीर में सेक्स हार्मोन्स Testosterone का लेवल बढ़ा देता है, अपने भोजन में सिर्फ 8 सप्ताह यानी दो महीनें लगातार दलिया शामिल करने से सेक्स पॉवर अपने आप बढ़ जाएगी.

7. व्हे प्रोटीन यानी मठ्ठा, छाछ, लस्सी

मठ्ठा, छाछ, लस्सी में एक ऐसा प्रोटीन होता है जो हमारे शरीर को खूबसूरत बनाता ही है, हमें बेड पर भी ताकतवर बना देता है. यह प्रोटीन शरीर में Testosterone का लेवल बढ़ा देता है जो हमें बिस्तर पर भी सुपर पॉवर बना देता है,

Jul 29, 2017

रिसर्च में दावा, नींद का अभाव महिलाओं की सेक्स ड्राइव को प्रभावित नहीं करता: पढ़ें

रिसर्च में दावा, नींद का अभाव महिलाओं की सेक्स ड्राइव को प्रभावित नहीं करता: पढ़ें

study-reveal-sleep-deprivation-has-no-effect-on-female-sex-drive

हाल ही में सेक्स पर की गयी स्टडी में एक नया खुलासा हुआ है, स्टडी के अनुसार नींद का अभाव महिलाओं की सेक्स ड्राइव पर कोई प्रभाव नहीं डालता जबकि पुरुषों के मामले में ऐसा नहीं है. रिपोर्ट के अनुसार एक रात जागने के बाद पुरुष लोग नींद लेना अधिक पसंद करते हैं, मतलब अगर उन्हें सेक्स ऑफर किया जाए तो भी वे नींद लेना अधिक प्रिफर करेंगे लेकिन महिलाओं के मामले में ऐसा नहीं है, रात भर जागने के बाद भी अगर महिलाओं को सेक्स करने का मौका मिले तो उनकी उत्तेजना में कोई कमी नहीं आती.

रिपोर्ट में लिखा है कि रात्रि जागरण करने के बाद पुरुषों का सेक्स में कम इंटरेस्ट दिखा जबकि महिलाओं ने सेक्स में उतना ही इंटरेस्ट लिया जितना वे नार्मल तौर पर लेती हैं, यही नहीं उनकी उत्तेजना में भी कोई कमी नहीं आयी.

रिपोर्ट के लेखक माइकल निताबच जो येल यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं, उन्होंने कहा कि एक जीव एक समय में एक ही चीज कर सकता है, हमने पाया है कि एक महिलाओं और पुरुषों में एक न्यूरोनल कनेक्शन नींद और सेक्स के बीच क्रियाओं को नियंत्रित करता है. 

इस रिसर्च में महिलाओं और पुरुषों दोनों की सेक्स और नींद के दौरान न्यूरोनल गतिविधियों की जांच की गयी, जिसमें पाया गया कि सेक्सुअली उत्तेजित पुरुषों को कम नींद आयी जबकि सेक्सुअली उत्तेजित महिलाओं को गहरी नींद आयी. इस स्टडी की रिपोर्ट जर्नल नेचर कम्युनिकेशन में पब्लिस की गयी है. एक रात जागने पर पुरुषों ने सेक्स के बजाय नींद लेना अधिक पसंद किया जबकि महिलाओं में सेक्स में इंटरेस्ट में कोई कमीं नहीं आयी.

Jun 26, 2017

अगर शरीर में होगी यह कमी तो प्रेग्नेंट होने में होगी परेशानी

अगर शरीर में होगी यह कमी तो प्रेग्नेंट होने में होगी परेशानी

pregnancy-tips-for-women-in-hindi

New Delhi: गर्भावस्था महिलाओं के जीवन की सामान्य प्रक्रिया है लेकिन कई महिलाओं को गर्भावस्था में पहुँचने के लिए बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, कई महिलाएं यह भी नहीं समझ पातीं कि उन्हें प्रेग्नेंट होने में क्यों परेशानी आ रही है, कई महिलायें डॉक्टर्स के पास दौड़ते दौड़ते परेशान हो जाती है और उनका समय के साथ साथ धन भी खर्च हो जाता है. आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि गर्भ धारण करने के लिए क्या क्या तैयारी करनी चाहिए.

अपनी जीवनशैली सुधारें

कुछ लोग गर्भ धारण करने के लिए भगवान भरोसे रहते हैं, मतलब वे सोचते हैं कि जब होना होगा तब हो जाएगा, ऐसे लोग टेंशन नहीं लेते, कई बार पुरुषों में कोई कमी होती है जिसकी वजह से गर्भ धारण करने में परेशानी होती है और कई बार पुरूषों में कमीं नहीं होती तो भी महिलाओं को गर्भावस्था में परेशानी होती है. ऐसी महिलाओं को अपनी जीवनशैली में सुधार लाना चाहिए. मतलब जब भी गर्भावस्था धारण करने का मन करे योग-एक्सरसाइज शुरू कर देना चाहिए, स्मोकिंग और ड्रिंकिंग बंद कर देनी चाहिए.

शरीर में खून (Hemoglobin) की जांच कराएं

अगर शरीर में खून की कमी होगी तो प्रेग्नेंट होने में परेशानी जरूर आएगी, कई महिलाओं को पता ही नहीं होता कि खून की कमी की वजह से उन्हें प्रेग्नेंट होने में समस्या आ रही है, नतीजा यह होता है कि वे डॉक्टर्स के पास दौड़ते दौड़ते परेशान हो जाती हैं और डॉक्टर्स उन्हें जमकर लूटते हैं.

महिलाओं के शरीर में 12 से 15.5 ग्राम हीमोग्लोबिन होना चाहिए, जिस महिला का हीमोग्लोबिन 10-12 ग्राम के बीच में होता है उसे मासिक की समस्या होती है इसलिए गर्भधारण करने में समस्या होती है, और जिस महिला के खून में हीमोग्लोबिन 10 ग्राम से कम होता है उसे मासिक नहीं आता इसलिए गर्भधारण करने का सवाल ही नहीं पैदा होता.

इसलिए गर्भधारण की तैयारी करने से पहले अपना हीमोग्लोबिन चेक करवा लें, अगर हीमोग्लोबिन 12 ग्राम से कम हो तो अपने खान पान में बदलाव लायें, मतलब हरी साग-सब्जियां और फल खाना शुरू कर दें, जितनी ज्यादा हरी सब्जियां खाएंगी शरीर में हीमोग्लोबिन उतना बढ़ता जाएगा. अपने खान पान में बदलाव लाकर कुछ समय के बाद फिर से हीमोग्लोबिन की जांच करवाएं, अगर हीमोग्लोबिन 12 ग्राम से ऊपर आ जाए तो प्रेग्नेंट होने में आसानी हो जाएगी.

गर्भ धारण करने के लिए सही समय पर करें सेक्स

गर्भ धारण करने के लिए सबसे जरूरी होता है सही समय पर सेक्स, मतलब पीरियड्स शुरू होने की तारीख और अगला पीरियड शुरू होने की तारीख के बीच में सेक्स करने से प्रेग्नेंट होने के 99 परसेंट चांसेस होते हैं. मतलब अगर आपका पीरियड 1 तारीख को होता है तो प्रेग्नेंट होने के लिए 12 तारीख से 17 तारीख के बीच में सेक्स करें. दरअसल हर पीरियड्स के बीच में ओवरी से अंडे निकलते हैं जिसकी लाइफ 24 घंटे की होती है, अगर इस समय पुरुषों का स्पर्म महिलाओं के अंडे से चिपक जाता है तो महिलायें प्रेग्नेंट हो जाती हैं.

उदाहरण के लिए समझिये

मान लीजिये 1 तारीख हो महिला का पीरियड शुरू हुआ. ऐसे में 14-15 तारीख के आसपास ओवरी से अंडा निकलता है. अगर 12-14-15 तारीख को सेक्स किया गया और 15 को अंडा निकला तो पुरुष का स्पर्म महिला के गर्भाशय में 2-3 दिन तक घूमते रहते हैं, ऐसे में स्पर्म तुरंत ही अंडे से चिपक जाएगा और महिला प्रेग्नेट हो जाएगी. अगर 15 तारीख को अंडा निकला तो वह गर्भाशय में 24 घंटे तक जिन्दा रहता है ऐसे में 16 को सेक्स करने पर भी महिला प्रेग्नेंट हो जाएगी.

कहने का मतलब ये है कि 1 तारीख को अगर पीरियड होता हिया तो 12 से 16 तारीख पर सेक्स करने से प्रेग्नेंट होने के 99 परसेंट चांस होते हैं.

Apr 10, 2017

रिसर्च में दावा, सही से SEX करने पर 70 फ़ीसदी महिलाओं का 20 बार हो सकता है ORGASM

रिसर्च में दावा, सही से SEX करने पर 70 फ़ीसदी महिलाओं का 20 बार हो सकता है ORGASM

women-can-have-20-orgasm-during-sex-doctors-claimed-in-reserch
लन्दन, 10 अप्रैल: SEX के समय पुरुषों का एक ही बार स्खलन होता है, दूसरी बार तैयार होने में कुछ समय लग सकता है और कुछ लोगों को कई घंटे या दूसरे दिन का इन्तजार करना पड़ता है लेकिन एक रिसर्च में दावा किया गया है कि सेक्स के दौरान करीब 70 फ़ीसदी महिलाओं का एक ही सत्र में 20 बार Orgasm यानी पानी निकल सकता है, इसका मतलब है कि महिलायें 20 बार क्लोमक्स पर पहुँचने का अनुभव कर सकती हैं और उनकी सेक्स लाइफ बहुत अच्छी हो सकती है लेकिन इसके लिए उनका पार्टनर सही होना चाहिए.

ये भी पढ़ें: कोई दवा मत खाएं, सिर्फ एक आसान एक्सरसाइज से आप बन सकते हैं ‘लंबी रेस का घोडा’

कई रिसर्च में पहले ही बताया जा चुका है कि सेक्स के दौरान कई महिलाओं में एक से अधिक बार Orgasm होता है, हाल ही में डॉ डेविड डेलविन और उनकी पत्नी डॉ क्रिस्टीन वेब्लर ने 20-24 साल की 1250 महिलाओं से उनके Orgasm को लेकर सवाल पूछे.

रिसर्च सर्वे में उन्होंने पाया कि - 
  • बड़ी संख्या में महिलाओं को Orgasm यानी सम्भोग के विषय में समस्याएं कर चिंताएं थीं
  • कुछ महिलाएं और पुरुष अभी भी यही सोचते हैं कि केवल पेनिस को अन्दर बाहर करने से ही महिलाओं को Orgasm हो जाता है यानी पेनिस की रगड़ उन्हें क्लाइमेक्स पर पहुँचा सकती है
  • अधिकतर महिलाओं को रोजाना यानी हमेशा सेक्स के समय 1-4 बार Orgasm होता था
  • 5 में से 4 महिलाओं का पेनिस से Orgasm होता ही नहीं था और उन्हें Orgasm तक पहुँचने के लिए उनके Clitoris को रगड़ना पड़ता था
  • करीब 12 फ़ीसदी महिलाओं को सेक्स के समय दर्द होता था
  • महिलाओं के बीच स्खलन (Ejaculation) भी आम पाया गया, 50 फ़ीसदी महिलाओं को स्खलन होता था
  • महिलाओं में स्खलन के समय निकलने वाले पानी की मात्रा भी ठीक ठाक थी
  • ज्यादातर महिलाओं को पार्टनर द्वारा Clitoris यानी भाग्नाशय को टच करने से अधिक ख़ुशी मिलती थी
ये भी पढ़ें: गर्भवती होने के लिए कब करना चाहिए सेक्स, सटीक समय

डॉक्टरों ने निष्कर्ष में कहा कि ऐसा नहीं है कि सभी महिलाओं में एक से अधिक बार Orgasm हुआ था लेकिन करीब 70 फ़ीसदी महिलाओं को एक से अधिक बार Orgasm हुआ था और कईयों को 20 बार Orgasm हुआ था जिसका मतलब है कि अगर महिलाओं से सही से सेक्स किया जाए तो उन्हें एक ही सत्र में 20 बार Orgasm हो सकता है.

Feb 13, 2017

आज है KISS DAY, पढ़ें किस करने के क्या हैं लाभ

आज है KISS DAY, पढ़ें किस करने के क्या हैं लाभ

kiss-day
New Delhi, 13 Feb: दोस्ती और प्यार-मोहब्बत का सप्ताह चल रहा है, आज किस डे है और कल फाइनल यानी वैलेंटाइन डे यानी प्रेम दिवस है। किस डे पर प्रेमी जोड़े किस करते हैं और वैलेंटाइन डे पर फाइनल कर देते हैं। इसलिए आज हम बताने जा रहे हैं कि किस करने के क्या क्या लाभ हैं और जीवन में किस करना क्यों जरूरी है, हम यह भी बता देना चाहते हैं कि अगर आपके पास किस करने के लिए कोई नहीं है तो किसी को जबरजस्ती किस विल्कुल ना करें, बस अच्छे पल का इन्तजार करें।

- किस करने से हर तरह का तनाव ख़त्म हो जाता है
- किस करने से तनाव बढ़ाने वाली हार्मोन यानी स्ट्रेस हार्मोन LDL Cortisol का लेवल कम हो जाता है जबकि आनंद बढ़ाने वाले हार्मोन Serotonin का लेवल बढ़ जाता है
- किस करने से ध्यान लगाने ही ताकत यानी कंसंट्रेशन बढ़ती है, कई कई लोग तो 24-24 घंटे किस करने का रिकॉर्ड बना चुके हैं
- किस Endorphins हार्मोन जिसे फील-गुड हार्मोन भी कहते हैं उसका लेवल बढ़ा देता है
- नॉवेल यानी नाभि पर किस करने से सेक्स हार्मोन यानी Testosterone का लेवल बढ़ जाता है यानी मूंड बन जाता है।
- किस करने से ब्लड प्रेशर तुरंत कम हो जाता है
- किस करने से सिरदर्द में आराम मिलता है
- किस करने से आपका दिल खुश रहता है, अगर दिल खुश तो आपकी दुनिया खुश

किस के बारे में यह भी कहा जाता है कि - जब दो लोग किस करते हैं तो एक दूसरे के हार्मोन का आदान प्रदान होता है जिसकी वजह से दोनों की इम्युनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। कुछ लोग तो ये भी कहते हैं कि A Kiss A Day Keeps the Doctors Away, यानी हर रोज एक किस आपको डॉक्टर से बचा सकती है। 

Jan 21, 2017

अब पार्टनर से दूर रहकर भी कर सकते हैं सेक्स की फीलिंग

अब पार्टनर से दूर रहकर भी कर सकते हैं सेक्स की फीलिंग

mobile-app-for-long-distance-relationship

जमाने के साथ सेक्स में एन्जॉयमेंट का तरीका भी बदल रहा है, पुराने जमाने में लोग चिट्ठी पर्त्री में अपने प्यार का इजहार करते थे, फिर मोबाइल आ गया तो लोग मोबाइल पर बातचीत करके भी रिलेशनशिप बनाने लगे. अब ऐसे ऑनलाइन मोबाइल एप आ गए हैं जिसके द्वारा दूर रहकर भी रिलेशनशिप का मजा लिया जा सकता है. वैसे पास रहकर एन्जॉय करने का मजा ही अलग है लेकिन अब अगर किसी मजबूरी वश दूर रहन पड़ा तो भी रिलेशनशिप का अनुभव लिया जा सकता है। 

अब सेक्स टॉयज का ज़माना आ गया है जो विशेषकर प्यार करने वालों के लिए बने हैं, टेक्नोलॉजी के माध्यम से इनमें ऐसे सेंसर लगे होते हैं कि इन्हें प्राइवेट पार्ट में लगाते ही पूरी तरह उत्तेजित कर देते हैं, मोबाइल एप के जरिये इन खिलौनों को ऑपरेट किया जाता है। एप के जरिये पार्टनर दूर रहकर भी पास वाले टच का अहसास देते हैं। इसमें सबसे बढ़िया खासियत यह होती है कि दोनों पार्टनर एक दूसरे के सेक्स टॉयज को कंट्रोल कर सकते हैं। इन खिलौनों को रिमोट के जरिये भी कण्ट्रोल किया जाता है।

Jan 19, 2017

ऑनलाइन-पोर्न देखने वाले ध्यान दें, ना लाये ऐसे विचार वरना हो सकता है बहुत खतरनाक

ऑनलाइन-पोर्न देखने वाले ध्यान दें, ना लाये ऐसे विचार वरना हो सकता है बहुत खतरनाक

be-careful-while-watching-video

सेक्स हर आदमी के जीवन की आवश्यकता है और जो किसी करणवश सेक्स नहीं कर पाता वह इसके बारे में सोचता है, कुछ लोग सेक्स के बारे में इतने उत्सुक होते हैं कि इन्टरनेट पर पोर्न देखने लगते हैं लेकिन उनकी यह आदत कभी कभी खतरनाक भी हो जाती है क्योंकि पोर्न फिल्मों में जैसा दिखता है वैसा असलियत में होता नहीं है लेकिन ज्यादातर देखते वाले यह बात नहीं जान पाते और मानसिक रोगी हो जाते हैं। 

सेक्स हर आदमी की जरूरत होती है, इसके बारे में सोचने में भी कोई बुराई नहीं है और पोर्न देखने में भी कोई बुराई नहीं है लत हर चीज की बुरी होती है। अगर एंटरटेनमेंट के लिए कोई पोर्न देखता है तो उसमें बुराई नहीं है, अगर उत्तेजना प्राप्त करने के लिए कोई पोर्न देखता है तो भी कोई बुराई नहीं है लेकिन अगर कोई सेक्स की लत पाल लेता है और पोर्न फिल्मों में दिखाई गयी चीजों से अपनी तुलना करने लगता है तो वह बुरा है और ऐसे लोग मानसिक रोगी हो जाते हैं। 

सबसे पहले यह जान लीजिये कि पोर्न फिल्मों में जैसा दिखता है वैसे होता नहीं है, कैमरे के द्वारा मैग्नीफाई करके चीजों को बढ़ा चढ़ाकर दिखाया जाता है जो भोले भाले लोग समझ नहीं पाते और गलतफहमी का शिकार हो जाते हैं। कई लोग अपनी तुलना पोर्न स्टारों से करने लगते हैं। कुछ लोगों के अन्दर यह विचार आते हैं कि पोर्न स्टारों के अन्दर हमसे अधिक ताकत होती है, जरूर हमारे अन्दर कोई कमी है। ये विचार बहुत खतरनाक हैं। 

जो लोग पोर्न फिल्मों के कलाकारों के पौरुष से अपने पौरुष की तुलना करने लगते हैं वह खुद में और उनमें तुलना करने लगते हैं और अपनी ताकत को कम समझने लगते हैं, धीरे धीरे उनमें हीन भावना आने लगती है, तिल तिल कर मरने लगते हैं, नीम हकीमों के पास ताकत की दवाई लेने के लिए पहुँच जाते हैं और उनके द्वारा बहका दिए जाते हैं।

यही नहीं महिलाओं पर भी पोर्न देखने का बुरा प्रभाव पड़ता है, वे लोग भी अपने साथियों की तुलना उनके साथ करने लगती हैं, अपेक्षा करने लगती हैं कि उनका साथी भी उनके साथ उसी तरह से 'काम' करे जिस तरह से पोर्न स्टार करते हैं। अगर महिलाएं भी तुलना करने लगती हैं तो समझ लीजिये उन्हें भी पोर्न को गलत तरह से देख रही हैं। 

अगर आपके मन भी पोर्न देखते हुए ऐसे विचार आते हैं तो समझिये कि यह बहुत खतरनाक है, आप पोर्न को गलत तरीके से देख रहे हैं। हो सकता है कि आप किसी बड़ी बीमारी के शिकार भी बन जाएं। आपको सावधान रहने की जरूरत है। 

Jan 18, 2017

कोई दवा मत खाएं, सिर्फ एक आसान एक्सरसाइज से आप बन सकते हैं ‘लंबी रेस का घोडा’: तुरंत पढ़ें

कोई दवा मत खाएं, सिर्फ एक आसान एक्सरसाइज से आप बन सकते हैं ‘लंबी रेस का घोडा’: तुरंत पढ़ें

how-to-increase-sex-power-by-simple-exercise-in-hindi

शारीरिक और मानसिक स्वास्थय के लिए सेक्स हर आदमी की जरूरत है, सेक्स ना करने वालों को कई बीमारियाँ जैसे हाई ब्लड प्रेशर, प्रोस्टेट कैंसर, हार्ट अटैक आदि हो सकती हैं इसलिए हर आदमी शान्ति के लिए सेक्स के पीछे भागता है और कुछ ऐसे भी लोग होते हैं तो सेक्स के पीछे इतने पागल हो जाते हैं कि सेक्स मिलने पर वे इन्तजार नहीं कर पाते और कई बीमारियों के शिकार बनकर अपना मानसिक स्वास्थय भी खराब कर लेते हैं। 

जल्दबाजी में सेक्स करने वालों को शीघ्रपतन की समस्या पैदा हो जाती है जिसकी वजह से यह बीमारी धीरे धीरे मानसिक बीमारी में बदल जाती है। कुछ लोग ऐसे में मंहगी मंहगी दवाइयाँ खाना शुरू कर देते हैं, कुछ नीम हकीमों में पास जाकर अपना पैसा लुटाने लगते हैं और कुछ वियाग्रा जैसी दवाइयाँ खाकर अपने शरीर को और बर्बाद कर लेते हैं। 

 ऐसे लोगों के लिए आज हम एक ऐसी आसान सी एक्सरसाइज बताने जा रहे हैं जिसे करने पर आप लम्बी रेस का घोडा बन जाएंगे और आपकी जिन्दगी सुख से भरपूर हो जाएगी। 

लॉन्ग ड्राइव और सेक्स में सम्बन्ध

मान लीजिये आपको कार लेकर दिल्ली से मुंबई 'लॉन्ग ड्राइव' पर जाना है, अगर आप नॉन स्टॉप और तेज स्पीड से कार लेकर जाएंगे तो रास्ते में आपकी गाड़ी के टायर फट जाएंगे और आप भी थक जाएँगे लेकिन अगर आप रुक रुक कर और चाय नाश्ता करके अपना सफ़र तय करेंगे तो आपकी गाडी के टायर भी नहीं फटेंगे और आप थकेंगे भी नहीं। यही बात सेक्स में भी लागू होती है, अगर आप नॉन स्टॉप जाने की कोशिश करते हैं तो आपके टायर फट जाते हैं और आप बीच रास्ते में ही फंस जाते हैं। 

दोनों लोग संतुष्ट हो तभी आता है सेक्स का मजा

जो लोग अपनी ख़ुशी के लिए सेक्स करते हैं वे सफल नहीं हो पाते, जो लोग सेक्स को अपने साथी की ख़ुशी के लिए करते हैं वे सफल होते हैं और वही लोग लम्बी रेस का घोडा भी बन पाते हैं। जिनके अन्दर सहनशक्ति नहीं है वे अच्छी तरह से सेक्स नहीं कर पाते। सेक्स करने का तभी फायदा है जब स्त्री और पुरुष दोनों संतुष्ट हों। 

एक्सरसाइज के बारे में पढ़ें

पेशाब रोकने की कला सभी लोग जानते हैं लेकिन यह नहीं जानते होंगे कि पेशाब रोकने के लिए शरीर में मौजूद के अंग जिसे 'स्फिंक्टर' (Sphincter) कहते है उसे दबाना या सिकोड़ना पड़ता है, जब भी आपको तेज पेशाब या टॉयलेट लगती है तो आप इसी अंग को दबाकर पेशाब या टॉयलेट रोकते हैं। यही अंग आपको लम्बी रेस का घोडा बना सकता है बस हमें इसे मजबूत बनाने की जरूरत है। इसी अंग की वजह से लिंग में करंट आता है और उत्तेजित होने पर आप अपने लिंग को हिला या झटका दे पाते हैं। 

पहली एक्सरसाइज

पहली एक्सरसाइज में आप जब भी टॉयलेट जाएं पेशाब को बीच बीच में रोकें, हर बार ऐसा करें, इस अभ्यास को आप अपनी जिन्दगी का हिस्सा बना लें। आपको हमेशा ध्यान रहना चाहिए कि पेशाब को बीच बीच में रोककर करना है। ऐसा करने से स्फिंक्टर मजबूत बन जाता है और आपके अन्दर पेशाब और वीर्य रोकने की ताकत आ जाती है। 

दूसरी एक्सरसाइज

दूसरी एक्सरसाइज में आपको यही एक्सरसाइज बिना पेशाब किये करनी है, पेशाब करते हुए आपने स्फिंक्टर को महसूस किया होगा, अब आपको कुर्सी पर काम करते हुए, चलते हुए, बेड पर लेटे हुए यह एक्सरसाइज करनी है। आपको अपने स्फिंक्टर को दबाना है और छोड़ना है। जिस प्रकार से आप सांस रोकते और छोड़ते हैं उसी प्रकार से आपको स्फिंक्टर को दबाना है और छोड़ना है। पहले एक सेकंड के लिए दबाएँ, फिर 10 सेकंड के लिए दबाएँ, फिर 20 सेकंड के लिए दबाएँ, फिर एक मिनट के लिए दबाएँ। धीरे धीरे आप इस एक्सरसाइज के मास्टर बन जाएंगे। याद रखिये, यह एक्सरसाइज भी आपको केवल एक दो दिन नहीं करनी है, आपको इसे अपनी जिन्दगी का हिस्सा बनाना पड़ेगा तभी आप लम्बी रेस का घोडा बन सकते हैं। 

तीसरी एक्सरसाइज

यह एक्सरसाइज आपको उत्तेजित अवस्था में या सेक्स करते हुए करनी है। इस अवस्था में स्फिंक्टर दबाने से उत्तेजना का लेवल कम हो जाता है, वीर्य भी वापस जाने लगता है। सेक्स करते हुए उत्तेजना बढ़ती जाती है लेकिन रूककर स्फिंक्टर को बार बार सिकोड़ने से उत्तेजना घट जाती है, वापस सेक्स करने पर फिर से उत्तेजना बढ़ती है, फिर बार बार स्फिंक्टर दबाने से उत्तेजना वापस कम होती है। 

उदाहरण के लिए समझिये, मान लीजिये उत्तेजना का लेवल है 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10. लगातार सेक्स करने पर धीरे धीरे उत्तेजना 1 से शुरू होकर 10 पर पहुँच जाती है। अगर आप 10 पर नहीं रुकेंगे तो आपकी गाड़ी का टायर फट जाएगा और आप बीच रास्ते में ही फंस जाएंगे। इसलिए 7-8 लेवल पर ही रुक जाएं और स्फिंक्टर को सिकोड़ना शुरू कर दें। 10 बार स्फिंक्टर सिकोड़ेंगे तो आप वापस 5-6 लेवल पर पहुँच जाएंगे। 5-6 लेवल पर पहुँचने पर वापस गाडी दौड़ाना शुरू कीजिये और फिर से 7-8 पर गाडी रोक दीजिये और 10 बार स्फिंक्टर दबाकर छोडिये। आप फिर से 5-6 पर पहुँच जाएंगे। इसी प्रकार से आप अपनी गाडी 5-6 और 7-8 के बीच में दौड़ाते रहिये। ऐसा करने पर आप आसानी से लॉन्ग ड्राइव कर सकेंगे और मास्टर बन जाएंगे। 

कुछ लोग जो इस कला में पारंगत हो जाते हैं वे 9 लेवल पर पहुँचने जब उनका वीर्य निकलने वाला होता है तो वे कसकर स्फिंक्टर को 1 मिनट तक दबाकर रखते हैं, ऐसे में जो वीर्य निकलने वाला होता है वह वापस चला जाता है और वे बिना स्खलित हुए फिर से पहले लेवल पर पहुँच जाते हैं, ऐसे लोग अपनी मर्जी से ही वीर्य निकालते हैं। यह सभी लोग नहीं कर पाते, कुछ लोग ही ऐसा कर पाते हैं, और ऐसे लोग कामदेव जैसे शक्तिशाली हो जाते हैं। 
इन 5 स्थानों पर कभी भी ना करने दें सेक्स, वर्ना भुगतेंगी आप

इन 5 स्थानों पर कभी भी ना करने दें सेक्स, वर्ना भुगतेंगी आप

avoid-sex-at-these-places-to-save-from-infections

जमाना बदल रहा है और लोग जागरूक हो रहे हैं, अब लोग अपना अच्छा बुरा समझने लगे हैं लेकिन कुछ लोग अभी भी अज्ञानतावश या आलस की वजह से चीजों को नजरअंदाज करने की कोशिश करते हैं जिसका उन्हें अंजाम भी भुगतना पड़ता है। सेक्स को लेकर भी लोग जागरूक हो रहे हैं, पहले लोग कहीं भी शुरू हो जाते थे लेकिन अब सोच विचार कर ही सेक्स करते हैं। 

सेक्स करते समय खासकर महिलाओं को ध्यान देना चाहिए कि वह जगह उनके लिए सही है या नहीं क्योंकि सेक्स के दौरान इन्फेक्शन होने की सम्भावना महिलाओं को अधिक होती है इसलिए कुछ स्थानों पर महिलाओं को सेक्स से बचना चाहिए। 

अनसेफ जगह पर सेक्स करने से खतरनाक बैक्टीरिया और वायरस का इन्फेक्शन हो सकता है, घर में सेक्स करना सेफ है लेकिन भीड़भाड़ वाले और कुछ अन्य स्थानों पर ये बैक्टीरिया छुपे रहते हैं और आपके शरीर के संपर्क में आ सकते हैं। जैसे - हवाई जहाज या ट्रेन टॉयलेट, जिम का लॉकर रूम, सिनेमा हॉल, पार्क और समुद्री बीच। 

- कुछ लोग हवाई जहाज या ट्रेन के टॉयलेट में ही सेक्स करना शुरू कर देते हैं, ऐसी जगहों पर सैकड़ों लोग टॉयलेट करते हैं, कुछ लोग हाथ धोते हैं, कुछ लोग नहीं धोते हैं, ऐसे स्थानों पर खतरनाक जीवाणु छिपे होते हैं जो आपके शरीर के संपर्क में आ सकते हैं। 

- ठीक इसी तरह से जिम के लॉकर रूम में कुछ अलग तरह के बैक्टीरिया पनपते हैं जिन्हें गर्म और नर्म वातावरण काफी भाता है, इस जगह पर नंगे पाँव घूमने या लेटने से बैक्टीरिया आपके सम्पर्क में आ सकते हैं। 

- कुछ लोग सिनेमाहाल में भी सेक्स करने लगते हैं, आपको बता दें कि सिनेमाहाल की कुर्सियां और कारपेट कई कई महीने तक साफ़ नहीं किये जाते, इन स्थानों पर हजारों लाखों लोग जूते चप्पल पहनकर आते हैं, कई लोग स्पिट भी कर देते हैं। इसलिए इस स्थान पर सम्बन्ध बनाने से बचें वरना एक गलती आपको बहुत भारी पड़ सकती है। 

- पार्क में सेक्स करना सबसे खतरनाक होता है क्योंकि खुला स्थान होने की वजह से यहाँ आपको काफी तरह के बैक्टीरिया, वायरस और फंगाई मिल जाएंगे। पार्क में लेटकर सेक्स करना आपको सबसे अधिक नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए आप संभल कर रहें। 

- समुद्री बीच पर कचरा, चिड़ियों का मल, लोगों का थूकना, ये सब बीच को काफी गन्दा कर देता है, साथ ही पाली के भी कई तरह के बैक्टीरिया आपके संपर्क में आ सकते हैं इसलिए संभल कर रहें। 

Jan 17, 2017

महिलाओं के लिए गर्भधारण करने का सबसे बढ़िया समय

महिलाओं के लिए गर्भधारण करने का सबसे बढ़िया समय

pregnancy-tips-in-hindi

महिलाएं 50 साल तक कभी भी माँ बन सकती हैं और कोई कोई तो 60 साल में भी माँ बन जाती हैं लेकिन शरीर हर समय एक सा नहीं रहता, जैसे जैसे हमारी उम्र बढ़ती जाती है हमारा शरीर कमजोर होता जाता है, हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती जाती है इसलिए माँ बनने का सबसे सही समय तब होता है जब हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता सबसे अधिक हो।

रोग प्रतिरोधक क्षमता का माँ बनने से क्या है सम्बन्ध

रोग प्रतिरोधक क्षमता हमारे शरीर को रोगों से बचाने के काम करती है, जब हमारे शरीर में पोषक तत्वों की मात्रा सही होती है तो रोग प्रतिरोधक क्षमता भी सही होता है। 20-25 वर्ष में हमारा शरीर सबसे अधिक मजबूत होता है और इसी उम्र में रोग प्रतिरोधक क्षमता भी सबसे अधिक होती है इसलिए अगर इस उम्र में कोई महिला माँ बनती है तो माँ के साथ साथ होने वाला बच्चा भी सेहतमंद होता है और उसके भी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी हो जाती है। 25-30 वर्ष की उम्र भी बच्चे के लिए सही होती है लेकिन जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है शरीर के हार्मोन्स में बदलाव आते रहते है जिसकी वजह से शरीर में कई तरह की कमी भी हो जाती है। 

उदाहरण के लिए मान लीजिये, किसी महिला को टीवी है, टीवी का मतलब होता है शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता का नष्ट हो जाना, ऐसे में अगर कोई महिला माँ बनती है, या महिला के माँ बनने के बाद उसे टीवी हो जाती है तो उसके बच्चे को भी टीवी की बीमारी हो जाती है। 

इसलिए महिलाओं को चाहिए कि 25 वर्ष की उम्र में माँ बनने की कोशिश जरूर करें ताकि होने वाला बच्चा पूरी उम्र सेहतमंद रहे। 
जानें, मासिक ख़त्म होने के कितने दिन बाद महिलाओं को होती है सेक्स की सबसे तेज इक्षा

जानें, मासिक ख़त्म होने के कितने दिन बाद महिलाओं को होती है सेक्स की सबसे तेज इक्षा

when-women-need-male-after-ending-menstruation-in-hindi

New Delhi: सेक्स ऐसी चीज होती है जो महिलाओं और पुरुषों दोनों को शारीरिक और मानसिक संतुष्टि देकर शरीर के ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखती है, सेक्स ना करने वालों का ब्लड प्रेशर हाई रहता है, महिलाओं को सेक्स करने से शारिक और मानसिक लाभ के साथ साथ भावनात्मक लाभ भी होते हैं, उनकी शारीरिक संरचना में बदलाव आता है, इसके अलावा सेक्स के दौरान अपने पार्टनर से मिली संतुष्टि से आत्मविश्वास भी बढ़ता है।

वैसे तो महिलाओं को सेक्स की किसी भी समय चाहत हो सकती है लेकिन माहवारी ख़त्म होने के पांच से सात दिन बाद उन्हें सेक्स की तीव्र इक्षा होती है, उस समय उनके हार्मोन्स सबसे अधिक सक्रिय हो जाते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो माहवारी के पांच से सात दिन बाद किये गए सेक्स का लाभ कम से कम 12 दिनों तक रहता है। 

इस समय सेक्स इक्षाएं इसलिए भी तीव्र होती हैं क्योंकि माहवारी के बाद ब्लीडिंग ख़त्म हो जाते हैं, उसके बाद महिलाओं को तीन चार दिन पहले जैसी अवस्था में आने में लग जाते हैं, जब महिलाएं नार्मल हो जाती हैं तो सेक्स हार्मोन्स सक्रिय हो जाते हैं और इक्षा भी प्रबल होती जाती है। 

Jan 16, 2017

मौसम का फायदा उठायें, ये सफ़ेद प्याज दूर कर देगी पुरुषों की सभी कमजोरी, भर देगी भण्डार

मौसम का फायदा उठायें, ये सफ़ेद प्याज दूर कर देगी पुरुषों की सभी कमजोरी, भर देगी भण्डार

health-benefit-of-white-onion-in-potency-in-hindi

New Delhi, 16 January: कहते हैं सर्दी का मौसम खाने पीने का दिन होता है, इन मौसम में खाने के लिए हर चीज मिल जाता है वो भी सस्ते में। जवान लोगों के लिए सर्दी का मौसम हर लिहाज से बढ़िया होता है, सम्बन्ध बनाने में भी सर्दी का मौसम बढ़िया होता है, खाने में भी सर्दी का मौसम बढ़िया होता है और कमजोरी दूर करने में भी सर्दी का मौसम बढ़िया होता है। 

इस मौसम में पुरुषों को अपनी कमजोरी दूर करने के लिए एक से बढ़कर एक विकल्प मौजूद हैं, सेक्स पॉवर की सबको जरूरत होती है, कोई नीम हकीमों के पास जाता है, कोई जड़ी बूटियाँ खाता है, कोई दवाइयाँ खाता है और कोई वियाग्रा जैसे खतरनाक दवाइयाँ खाता है लेकिन याद रखिये वियाग्रा जैसी दवाइयाँ तब तक काम नहीं करती जब तक की आपके शरीर के अन्दर वीर्य नहीं रहता। 

सेक्स पॉवर के लिए आपके शरीर में वीर्य रहना चाहिए और गाढा रहना चाहिए, शरीर में वीर्य रहने के लिए ऐसी चीजें भी खानी जरूरी होती हैं जिसे खाने से वीर्य बनता हो। ऐसे ही खाने वाली चीजों में सफ़ेद प्याज भी होती है जो सर्दियों में खूब मिलती है, अगर सर्दी में ये प्याज खाते रहें तो आपका वीर्य भण्डार भर जाता है और काफी गाढा भी हो जाता है, अगर वीर्य गाढा हो जाता है तो सीघ्रपतन की समस्या समाप्त होती है। 

सफ़ेद प्याज को सब्जी से अधिक औषधि माना जाता है, इसमें प्रोटीन, कार्बोहाईड्रेट और कई तरह के विटामिन्स होते हैं। 

फायदे

सफ़ेद प्याज खाने से वीर्य भण्डार भर जाता है जिसकी वजह से यौन रोग, स्वप्नदोष, सेक्स ना करने की इक्षा, शीघ्रपतन, कमजोरी, थकान और अन्य समस्याएँ सही हो जाती हैं। याद रखें, सफ़ेद प्याज की आप चटनी भी बनाकर खा सकते हैं। हरी सब्जी के रूप में भी आप इसका इस्तेमाक कर सकते हैं और कुछ लोग जूस बनाकर भी पीते हैं। 
गर्भवती होने के लिए कब करना चाहिए सेक्स, सटीक समय

गर्भवती होने के लिए कब करना चाहिए सेक्स, सटीक समय

sex-time-to-get-pregnant-ke-liye-kab-karen-sex-hindi-news

New Delhi: अभी भी हमारे देश में 50 फ़ीसदी से भी अधिक लोगों को नहीं पता है कि संतान उत्पत्ति के लिए कब सेक्स करना चाहिए। ज्यादातर लड़कियों को शादी के बाद नहीं पता होता कि मासिक धर्म के कितने दिन बाद उनके प्रेग्नेंट होने की संभावना सबसे अधिक होती है, कई पुरुष साथी को भी यह बात नहीं पता होती और लोग बिना बॉल देखे बैटिंग करते हैं, ऐसे में जिन्हें बच्चा नहीं चाहिए होता वे क्लीन बोल्ड हो जाते हैं और टेंशन में आ जाते हैं। 

ज्यादातर लड़कियां शर्म की वजह से किसी से पूछती ही नहीं हैं कि प्रेग्नेंट होने का रिस्क सबसे अधिक कब होता है लिहाजा कुछ लोग तो मासिक धर्म ख़त्म होने के बाद ही कंडोम का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं, जब कि इसकी जरूरत उस समय होती ही नहीं है। आइये हम आपको बताते हैं कि अगर संतान की चाहत है तो कब सेक्स किया जाए और संतान नहीं चाहिए तो कितने दिन तक सेक्स से परहेज किया जाय। 

सभी महिलाओं का पीरियड या मासिक धर्म 28-35 दिन का होता है, मान लीजिये किसी महिला का मासिक धर्म 1 तारीख हो आया और 5 तारीख हो ख़त्म हुआ। आप 1 तारीख अपने डायरी में नोट कर लीजिये और अगले पीरियड का इन्तजार कीजिये। मान लीजिये आपका अगला पीरियड भी 1 तारीख हो आया गया। आप अपनी डायरी में फिर से 1 तारीख नोट कर लीजिये। अब पिछली 1 तारीख से से अगली 1 तारीख तक गिनेंगे तो 30 दिन होंगे। इसका मतलब है कि आपका पीरियड का अंतराल 30 दिनों का होता है। 

अब आप 30 दिन का आधा कर लीजिये तो 15 होगा। यानी 15 तारीख के आस पास अगर आप सेक्स करेंगी तो प्रेग्नेंट होने की सम्भावना सबसे अधिक होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि 15 तारीख के आस पास आपकी ओवरी से एक अंडा निकलता है, जिसका जीवन 24 घंटे होता है, इस 24 घंटे में अगर आपके पति ने आपके साथ सेक्स किया तो उनका स्पर्म आपके अंडे से टकरा जाएगा। स्पर्म अंडे में प्रवेश कर जाएगा और आपको प्रेग्नेंट कर देगा। 

जरूरी नहीं कि आप 15 को सेक्स करें तभी आप प्रेग्नेंट हों, अगर आप 13 या 14 को सेक्स करेंगी तो भी प्रेग्नेंट हो सकती हैं और 16 या 17 को सेक्स करेंगी तो भी प्रेग्नेंट हो सकती हैं। मान लीजिये आपने पति के साथ 13 या 14 को सेक्स किया, ऐसे में पति का स्पर्म आपके गर्भाशय में 2-3 दिन तक घूमता रहता है, ऐसे में 14 या 15 को अंडा निकलने पर स्पर्म अंडे में प्रवेश कर जाएगा और आपको प्रेग्नेंट कर देगा। 

मान लीजिये आपका अंडा निकला 15 को, ऐसे में वह 24 घंटे जिन्दा रहेगा, अगर 16 या 17 को सेक्स किया गया तो भी आप प्रेग्नेंट हो सकती हैं। मतलब बीच के पांच दिन में प्रेग्नेंट होने की सबसे अधिक संभावना रहती है इसलिए अगर बच्चा चाहते हैं तो पांच दिन या तो रोजाना या दूसरे दिन सेक्स करें। अगर बच्चा नहीं चाहती तो पांच दिन या तो सेक्स ना करें या कंडोम लगा कर सेक्स करें। 

गलतफहमी दूर करें

कुछ लोग पीरियड ख़त्म होने के बाद ही कंडोम लगाना शुरू कर देती हैं यह सोचकर कि वह प्रेग्नेंट हो जाएगी, यह पूरी तरह से गलत है, पीरियड ख़त्म होने के 10 दिन तक बिना डर के बिना कंडोम लगाए सेक्स कर सकती हैं और पीरियड आने के 10 दिन पहले से भी बिना कंडोम लगाए सेक्स कर सकती हैं। इस दौरान 100 परसेंट आप प्रेग्नेंट नहीं होंगी। 


Jan 15, 2017

लड़कियों के इशारों से समझें, आज उनका कुछ करने का मूंड है या नहीं

लड़कियों के इशारों से समझें, आज उनका कुछ करने का मूंड है या नहीं

how-to-know-women-want-sex-by-their-gesture-hindi-news

New Delhi: कहते हैं महिलाओं को भगवान भी नहीं समझ पाए तो इंसान क्या चीज है। महिलाओं की इक्षाओं को समझना बहुत ही मुश्किल है, महिलाएं वैसे तो बात करने में बहुत तेज होती हैं, हर तरह की बातें आप उनसे कर सकते हैं लेकिन बात जब सेक्स और फीलिंग्स ही आती है तो वह शांत हो जाती हैं, उनकी सेक्स की फीलिंग्स और इक्षाओं को समझना मुश्किल होता होता है।

पुरुष अधिकतर यह भी नहीं समझ पाते की महिलाओं का सेक्स मूंड कब होता है इसलिए पुरुष बिस्तर में मार खा जाते हैं क्योंकि जब महिलाओं का मूंड होता है तो पुरुषों का नहीं होता और जब पुरुषों का मूंड होता है तो महिलाओं का मूंड नहीं होता, सेक्स में मजा तभी आता है जब एक साथ दोनों का मूंड हो।

वैसे महिलाओं के कुछ इशारे बताते हैं कि उनका मूंड है या नहीं, ये इशारे कई तरह के हो सकते हैं, शरीर के कई अंग आपको इशारे करके बताते हैं कि अब टूट पड़ने का समय आ गया है।

1.  तेज़ी से सांस लेना

जब भी महिलाओं का मन होता है तो वे तेजी से और गहरी गहरी साँसें लेना शुरू करती हैं, इसका कारण यह है कि जब शरीर में उत्तेजना बढ़ती है तो उसे ऑक्सीजन की जरूरत अधिक होती है, ऐसे में उत्तेजना का शांत होना बहुत जरूरी है, जैसे ही काम हो जाता है साँसें भी थम जाती हैं।

2. हाथ झांघ पर रखना

महिलाओं का जब मन होता है तो वे आपको छूने ही कोशिश करती हैं, अगर वह आपकी जाघों को छोने या सहलाने की कोशिश करें तो तुरंत समझ जाएं कि समय हो गया है, आप भी उनकी हरकत का उन्हीं की अंदाज में जवाब दे सकते हैं। इसके बाद तो खूब जमेगी जब मिल बैठेंगे दीवाने दो।

3. उत्तेजित करने वाले कपड़े पहने 

अक्सर शांत रहने वाली महिलाएं जब ओपन या उत्तेजक कपडे पहनें या आपसे पूछें कि मै कैसी लग रही हूँ तो समझ लीजिये कि उनका मूंड है, झट से उनकी तारीफ कर दीजिये और शुरू हो जाइए।

5. जब भी वो करीब आयें

अगर आपकी पार्टनर आपके करीब आये, आपके पीछे दोनों कन्धों पर हाथ रखकर खड़ी हो जाए तो समझ लीजिये कि उनका मूंड है, इसके बाद चुबनों की बरसात शुरू कर दें।

6. जब वो तड़पने और मचलने लगे

जब भी आपकी पार्टनर तड़पने लगे, अपने शरीर को मचलने लगे, पैरों को रगड़ने लगे तो समझ लीजिये कि वह आपसे लिपटना चाहती है, आपको अपने आगोश में लेकर प्यार करना चाहती है। आप भी उसके प्यार का जवाब अपने प्यार से दीजिये और शुरू हो जाइए।
कौन खरीदे इतनी मंहगी वियाग्रा, घर पर ही ये तेल बनाएं, 10 गुना बढ़ाएं सेक्स पॉवर, बन जाएं कामदेव

कौन खरीदे इतनी मंहगी वियाग्रा, घर पर ही ये तेल बनाएं, 10 गुना बढ़ाएं सेक्स पॉवर, बन जाएं कामदेव

oil-to-increase-sex-power-in-beds-option-for-viagra-in-hindi

New Delhi: सेक्स पॉवर बढाने के लिए आजकल हर आदमी केवल वियाग्रा की तलाश में रहता है लेकिन हर आदमी के पास वियाग्रा खरीदने की हैसियत नहीं होती साथ ही वियाग्रा खाने से कई तरह से नुकसान भी होते हैं। कई बार तो वियाग्रा खाना बहुत भारी पड़ जाता है और अस्पताल में हार्ट अटैक तक हो जाता है।

आज हम आपको एक ऐसे तेल के बारे में बता रहे हैं जो घर पर ही आसानी से बनाया जा सकता है और उसके इस्तेमाल से सेक्स पॉवर 10 गुना बढ़ाई जा सकती है साथ ही इसके इस्तेमाल से कोई नुकसान भी नहीं होता।

तेल के लिए सामग्री

दालचीनी का तेल: 20 ग्राम, जैतून का तेल 60 ग्राम

बनाने की विधि:

तेल को बनाने की विधि बहुत आसान है, पहले दोनों तेल दूकान से खरीद लें उसके बाद एक कांच की शीशी में 20 ग्राम दालचीनी का तेल और 60 ग्राम जैतून का तेल भरकर मिला लें।

इस्तेमाल की विधि:

तेल तैयार करने के बाद जब भी सम्भोग का मन हो उससे पहले दो-चार बूँद तेल अपने हाथों में लें और हलके हलके लिंग पर मसाज करें। यह तेल वीर्य को गाढा करता है साथ ही उत्तेजना भी बढाता है। इससे सेक्स के समय में बढ़ोतरी होती है और नियमित इस्तेमाल करने पर कामदेव जैसी ताकत आ जाती है, इससे सेक्स का आनंद भी कई गुना बढ़ जाता है। याद रखें, यह तेज रोजाना इस्तेमाल ना करें, हप्ते में केवल एक बार इस तेल का इस्तेमाल करें। 
क्या करें जब रात में सेक्स के लिए आपके पास कोई ना हो?

क्या करें जब रात में सेक्स के लिए आपके पास कोई ना हो?

hindi-news-online-sex-best-option-for-single-person-in-night

New Delhi: सेक्स विशेषज्ञों का कहना है कि जब भी इंसान उत्तेजित हो उसे सेक्स जरूर करना चाहिए, अगर सेक्स ना करे तो ऐसी कोई ना कोई चीज जरूर करनी चाहिए जिससे उसे संतुष्टि मिले, अगर कोई व्यक्ति ऐसा नहीं करता तो उसे कई बीमारियाँ होने की संभावनाएं रहती हैं। 

विशेषज्ञों की मानें तो आजकल की तनाव भरी जिन्दगी में एक पार्टनर का होना बहुत जरूरी है क्योंकि दिनभर की भागदौड़ भरी जिन्दगी में हर इंसान को प्यार की दो बातें करनी जरूरी हैं। आपके परिवार में कितने भी लोग हों और आपसे बात करते हों लेकिन एक व्यक्ति ऐसा भी होना चाहिए जो आपको शारीरिक और मानसिक संतुष्टि दे सके। जो संतुष्टि एक पार्टनर से मिलती है वह किसी और से नहीं मिल सकती। 

इस दुनिया में हजारो लाखों लोग ऐसे भी होते हैं जिनके पास सेक्स के लिए साथी नहीं होते उनके लिए ऑनलाइन सेक्स आसान विकल्प हो सकता है। कुछ लोग तो ऐसे भी होते हैं जो जिन्दगी भर अकेले रहते हैं। कुछ लोग शादी करने के बजाय अकेला रहना अधिक पसंद करते हैं। 

जिसके पास पार्टनर नहीं है उनके लिए ऑनलाइन सेक्स आसान रास्ता है जिसके द्वारा शारीरिक और मानसिक संतुष्टि मिल सकती है, जैसे - 

  • अगर आप अपने पार्टनर से दूर हैं और काफी दिनों से मिले नहीं हैं तो अप उससे इन्टरनेट पर वीडियो कॉल करके उसे देखते हुए उत्तेजित बातें कर सकते हैं। 
  • आप एक दूसरे को मनचाही अवस्था में देख सकते हो और उनके साथ कुछ भी अनुभव कर सकते हो। 
  • एक दूसरे को वेब कैम में देखते हुए हस्तमैथुन कर सकते हैं
  • अपरिचित व्यक्तियों के साथ भी ऑनलाइन एन्जॉय किया जा सकता है। 
  • ऑनलाइन कैमरे के सामने अपने कपड़ों को उतारकर भावनाओं का आदान प्रदान किया जा सकता है, लड़कियों की तुलना में लड़के ऐसा करना अधिक पसंद करते हैं। 
  • अगर आप अकेले हैं और आज तक किसी के साथ संबंध नहीं बनाया है तो ऑनलाइन कांड करके आपको अधिक आनंद आएगा। 
  • शादीशुदा लोग भी इस माध्यम से एन्जॉय कर सकते हैं। 

याद रखें, खुद को संतुष्ट करने के लिए किसी के साथ जबरजस्ती करने या उसका रेप करने की कभी भी कोशिश ना करें, आपके पास कई विकल्प मौजूद हैं जिसमें से ऑनलाइन भी एक आप्शन है।
इस यूनिवर्सिटी में सिखाया जाता है रोमांस, लड़के-लड़कियों को लुभाने, रिझाने और मदहोश करने के तरीके

इस यूनिवर्सिटी में सिखाया जाता है रोमांस, लड़के-लड़कियों को लुभाने, रिझाने और मदहोश करने के तरीके

china-tianjin-university-teach-how-to-seduce-opposite-sex

New Delhi: जमाना बदल रहा है, पहले सेक्स, रोमांस और लड़के-लड़कियों को लुभाने की बातों को सीक्रेट रखा जाता था लेकिन अब इन सब चीजों की पढ़ाई भी होने लगी है। चीन की तियानजिन यूनिवर्सिटी अपने यहाँ रोमांस करने के तरीके, लड़के लड़कियों को लुभाने रिझाने और प्यार में मदहोश करने के तरीके सिखाती है, इसके लिए बाकायदा कोर्ट कराया जाता है। 

यह कोर्स शी शू नाम के ट्यूटर पढ़ाते हैं, वे लड़कों लड़कियों को सेफ प्रेजेंटेशन से लेकर अपोजिट सेक्स को लुभाने के तरीके सबकुछ सिखाते हैं। 

शी शू पॉवरपॉइंट के माध्यम से सिखाते हैं कि अपना लुक कैसे बेहतर करें, कपडे कैसे पहलें, लड़कियों से बातचीत कैसे करें, उन्हें अपनी तरह कैसे खींचें, लड़कियों को प्रपोज कैसे करें और प्रस्ताव ठुकराए जाने पर लड़कियों से व्यवहार कैसे करें। 

शी शू कहते हैं कि वे छात्रों को किस करना नहीं सिखाते लेकिन अपोजिट सेक्स के साथ अच्छा बर्ताव करना सिखाते हैं, कोर्स में सात सेशन होते हैं, इसमें इंसानों को दूसरों से प्यार करना सिखाते हैं, खुद से प्यार करना सिखाते हैं, रिश्तों से जुडी कुछ कानूनी बातें भी सिखाई जाती हैं।