Showing posts with label Rajasthan. Show all posts
Showing posts with label Rajasthan. Show all posts

Oct 15, 2017

काटकर खा ना जाएं इसलिए मुस्लिम परिवार से 51 गायों को छीनकर हिन्दुओं ने भेजी गौशाला

काटकर खा ना जाएं इसलिए मुस्लिम परिवार से 51 गायों को छीनकर हिन्दुओं ने भेजी गौशाला

alwar-news-hindus-community-take-51-cows-from-muslim-family
Credit ANII Image
गायों को लेकर हिन्दुओं का मुस्लिमों पर से भरोसा ख़त्म हो रहा है, अकबरुद्दीन ओवैसी जैसे नेता जो खुलेआम गाय खाने की बात करते हैं उन्होंने मुस्लिमों पर से भरोसा ख़त्म करवा दिया है, अब जैसे ही कोई हिन्दू मुस्लिमों के घर में गाय बंधी देखता है तो उसे शक होता है.

ऐसा ही एक मामला आज राजस्थान के अलवर से सामने आया है, एक मुस्लिम परिवार के घर में 51 गायें थीं, हिन्दू कार्यकर्ताओं को शक हुआ कि इन्हें काटकर खा लेंगे तो सभी गायों को छुड़वाकर उन्हें गौशाला में भेज दिया गया. 

मुस्लिम परिवार ने पुलिस पर भी मिलीभगत का आरोप लगाया है लेकिन पुलिस ने सभी आरोपों से इनकार लिया है, यह मामला 10 दिन पहले का है लेकिन आज प्रकाश में आया है. शिकायत करते वाली महिला आभा खान ने इस मामले में किशनगढ़ पुलिस स्टेशन और SDM के ऑफिस में एफिडेविट भी जमा किया है.

Oct 12, 2017

वसुंधरा राजे से मिलकर बोले संजय दत्त, राजस्थान में बहुत काम किया है मैडम ने, विकास हुआ है

वसुंधरा राजे से मिलकर बोले संजय दत्त, राजस्थान में बहुत काम किया है मैडम ने, विकास हुआ है

sanjay-dutt-meet-with-vasundhara-raje-praise-her-for-development

आज बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त ने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से जयपुर में मुलाकात की. दोनों की मुलाकत करीब एक घंटे चली, इस दौरान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने संजय दत्त का स्वागत किया. 

वसुंधरा राजे से मिलने के बाद संजय दत्त  बोले - वसुंधरा राजे जी ने राज्य में बहुत अच्छा काम किया है, कनेक्टिविटी को मजबूत किया है, बीकानेर में भी विकास देखने को मिला है. 

माना जा रहा है कि राजस्थान चुनाव में संजय दत्त बीजेपी के समर्थन में चुनाव प्रचार करेंगे।

Oct 4, 2017

सास-ससुर और जेठ की हत्यारी गीता ने कहा 'ये लोग मेरा रेप करते थे इसलिए मार डाला'

सास-ससुर और जेठ की हत्यारी गीता ने कहा 'ये लोग मेरा रेप करते थे इसलिए मार डाला'

rajasthan-triple-murder-case-geeta-told-why-she-killed-sas-sasur-jeth

राजस्थान के अलवर जिले में कुछ दिनों पहले एक ही परिवार के तीन लोगों का मर्डर हुआ था जिसमें पुलिस ने बहू को गिरफ्तार किया था. बहू गीता पर आरोप था कि उसनें ही अपनी सास-ससुर और जेठ की ह्त्या की है, आज गीता ने चौंकाने वाला खुलासा किया, उसनें पुलिस पूछताछ में खुलासा करते हुए कहा - मेरे ससुर और जेठ मेरे साथ रेप करते थे और सास भी उनका सास देती थी इसीलिए मैंने तीनों लोगों को मार डाला, मैंने जो कुछ किया, खुद की इज्जत बचाने और अपनी बेटी की जिन्दगी के लिए किया.

गीता ने कहा कि मेरे साथ ये लोग हमेशा मार पीट करते थे, उसनें यह भी बताया कि उसके पति विनय की हत्या भी जेठ पंकज ने की थी और उसे खुदखुशी का रूप दे दिया था. उसके ससुराल वाले तंत्र मंत्र में यकीन करते थे, बेटी होने के शक में उसका दो बार गर्भपात करवाया गया. उसकी जिन्दगी को नरक बना दिया गया था, इसीलिए उसने यह कदम उठाया.

Sep 23, 2017

21 वर्षीय युवती के रेप के आरोपी फलाहारी बाब को 15 दिन की न्यायिक हिरासत

21 वर्षीय युवती के रेप के आरोपी फलाहारी बाब को 15 दिन की न्यायिक हिरासत

falahari-baba-kaushlendra-prapannacharya-arrested-in-rape-case

बाबा राम रहीम के बाद एक और बाबा रेप के आरोप में फंस चुके हैं, इस बाबा का नाम है फलाहारी बाबा उर्फ़ कौशलेन्द्र प्रपन्नाचार्य जो राजस्थान के अलवर के रहने वाले हैं, आज इन्हें अलवर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. कोर्ट में पेश करने के बाद इन्हें 15 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. फलाहारी बाबा पर उनके आश्रम की रहने वाली एक 21 वर्षीय युवती ने रेप का आरोप लगाया है. यह महिला छत्तीसगढ़ के विलासपुर की रहने वाली है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बाबा फलाहारी पर रेप का आरोप पिछले हप्ते ही लगा था लेकिन यह खबर सुनने के बाद ही फलाहारी बाबा बेहोश हो गए थे, उनकी उम्र 70 वर्ष है, उन्हें सुगर और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत थी, आज मेडिकल जांच में उन्हें सही पाए जाने के बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कौशलेन्द्र प्रपन्नाचार्य केवल फल खाते हैं इसलिए इन्हें फलाहारी
बा बोला जाता है.

Sep 19, 2017

एक्स्ट्रा क्लास के बहाने छात्रा से स्कूल डायरेक्टर और टीचर करते थे गैंगरेप, गिरफ्तार किये गए

एक्स्ट्रा क्लास के बहाने छात्रा से स्कूल डायरेक्टर और टीचर करते थे गैंगरेप, गिरफ्तार किये गए

school-director-and-teacher-gangrape-girls-student-arrested-news

राजस्थान के सिकार जिले से एक शर्मनाक खबर आयी है. जानकारी के अनुसार सिकार हाई स्कूल में एक छात्रा से स्कूल डायरेक्टर और टीचर ने कई महीनों तक गैंगरेप किया. ये लोग छात्रा को एक्स्ट्रा क्लास के बहाने स्कूल में बुलाते थे और उसके साथ गैंगरेप करते थे, जब लड़की प्रेग्नेंट हो गयी तो इन दोनों ने जबरजस्ती उसका गर्भपात भी करवा दिया.

यह घटना तब ध्यान में आयी जब गर्भपात के बाद युवती की बहुत अधिक मात्रा में ब्लीडिंग होने लगी और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. उसकी हालत खराब होने की वजह से उसे जयपुर के एक अस्पताल में रिफर किया गया है जहाँ पर उसकी हालत सीरियस है.

अजीतगढ़ पुलिस थाने ने इस मामले में स्कूल डायरेक्टर जगदीश और टीचर जगत को गिरफ्तार कर लिया गया. घटना की जांच शुरू कर दी गयी है. 

Sep 17, 2017

दुखद समाचार, मोदी के साथी MP महंत चांदनाथ का निधन

दुखद समाचार, मोदी के साथी MP महंत चांदनाथ का निधन

alwar-bjp-mp-mahant-chandnath-death-on-17-september-2017

बीजेपी और मोदी के लिए बहुत बुरी खबर आ रही है. राजस्थान के अलवर से सांसद महंत चांदनाथ का आज निधन हो गया. महंत चांदनाथ एक हिन्दू राष्ट्रवादी नेता माने जाते थे और अलवर से बीजेपी सांसद थे, उनके जाने से लोकसभा में बीजेपी का एक सांसद कम हो गया है.

आपको बता दें कि महंत चांदनाथ मस्तनाथ यूनिवर्सिटी के चांसलर भी थे, उन्हें 29 जुलाई को महंत बालकनाथ का उत्तराधिकारी घोषित किया गया था जिसमें महंत योगी आदित्यनाथ अरु बाबा रामदेव भी शामिल हुए थे.

राजनीतिक कैरियर
  • महंत चांदनाथ 2004 में बीजेपी के टिकट पर अलवर से लोकसभा चुनाव लड़े लेकिन कांग्रेस के करण सिंह यादव से चुनाव हार गए
  • 2004 में ही उन्हें बहरोड़ सीट के उपचुनाव में बीजेपी का MLA उम्मीदवार बनाया गया, उन्होंने पार्टी के ही बागी नेता जसवंत सिंह यादव को 13000 वोटों से हरा दिया.
  • 2014 लोकसभा चुनाव में उन्होंने अलवर से कांग्रेस उम्मीदवार जीतेन्द्र सिंह को हरा दिया और संसद बन गए
  • आज 17 सितम्बर को उनका निधन हो गया, उनके निधन का कारण अभी नहीं पता चल पाया है

Sep 11, 2017

मुस्लिमों की भीड़ ने पुलिसकर्मी को मारा, कांग्रेस में अगर दम है तो उठाये मोब लिंचिंग का मुद्दा

मुस्लिमों की भीड़ ने पुलिसकर्मी को मारा, कांग्रेस में अगर दम है तो उठाये मोब लिंचिंग का मुद्दा

muslims-mob-lynching-of-police-cop-in-jaipur-for-vehicle-checking

पिछले संसद सत्र में कांग्रेस पार्टी ने मोब लिंचिंग का मुद्दा उठाया था. उनका कहना था कि हिन्दुओं की भीड़ मुस्लिमों को मार दे रही है, कांग्रेस ने जुनैद का मुद्दा उठाया था जिसे बल्लभगढ़ में ट्रेन के अन्दर सीट-विवाद में मार दिया गया था. कल ऐसी ही एक घटना जयपुर में सामने आयी जहाँ पर मुस्लिमों की भीड़ ने एक पुलिसकर्मी को मार डाला और 10 को घायल कर दिया. अब सवाल यह है कि क्या कांग्रेस पार्टी इसे मोब लिंचिंग मानेगी, क्या इसका मामला संसद में उठाएगी. अभी तक इस घटना के खिलाफ किसी भी कांग्रेसी नेता ने अपना मुंह नहीं खोला है. किसी भी नेता ने इस घटना के खिलाफ सख्त कर्यवाही की मांग नहीं की है क्योंकि यहाँ पर मारने वाले मुस्लिम हैं.

मुस्लिमों की भीड़ ने क्यों मारा सिपाही को 

बात सिर्फ इतनी थी कि जयपुर के रामगंज थाना एरिया में पुलिस ने गाड़ियों की चेकिंग के लिए नाका लगाया था. उसी दौरान एक मुस्लिम दिखा तो पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया लेकिन वह भागने लगा. पुलिस ने उसे तुरंत पकड़कर एक दो हाथ लगा दिया और लगाना भी चाहिए क्योंकि पुलिस के रोकने पर उसे रुकना चाहिए, अगर कोई भागता है तो पुलिस को उसपर शक होना लाजमी है.

इसके बाद वह मुस्लिम युवक अपने घर गया और अपने साथ 100-200 मुसलामानों की भीड़ लाया. उन्होंने तुरंत ही रामगंज थाने को चारों तरफ से घेर लिया और पत्थरबाजी कार दी. पुलिस वालों ने जब उन्हें रोकना चाहा तो उन्होने पुलिस वालों को मारना शुरू कर दिया जिसमें 1 पुलिसकर्मी मर गया और 10 घायल हो गए. उन्होंने कई गाड़ियाँ भी जला दीं जिसमें बाद पुलिस ने भीड़ पर फायरिंग की जिसमें मुहम्मद आदिल नाम के एक युवक की मौत हो गयी और कई घायल हो गए. इसके बाद बवाल और मच गया जिसके बाद पुलिस ने कई इलाकों में इन्टरनेट सेवा बंद कर दी और कर्फ्यू लगा दिया. अभी भी जयपुर के कई इलाकों में कर्फ्यू है और स्कूल कॉलेज बंद हैं.

अब यहाँ पर सोचने वाली बात यह है कि क्या पुलिस वाले ने मुस्लिम युवक को चेकिंग के लिए रोककर गलती कर दी. क्या मुस्लिमों की चेकिंग ही नहीं करनी चाहिए वरना ये लोग अपने साथ 100-200 की भीड़ लाकर मार काट मचा देंगे. पुलिस वालों को ही मार डालेंगे. यह अपने आप में सोचने वाली बात है. 
दरोगा ने मुस्लिम युवक की बाइक चेक की, मुस्लिमों ने जयपुर को बना दिया कश्मीर, डर जाओगे पढ़कर

दरोगा ने मुस्लिम युवक की बाइक चेक की, मुस्लिमों ने जयपुर को बना दिया कश्मीर, डर जाओगे पढ़कर

news-and-information-about-jaipur-clash-between-muslim-and-police

अब तक आप सोचते होंगे कि कश्मीर में ही हिंसा होती है, कश्मीर में ही पत्थरबाजी होती है, कश्मीर में ही जिहादियों की भीड़ सड़क पर निकलकर पुलिस और सेना के जवानों को अकेला देखकर उन्हें ख़त्म कर देती है, कल यही काम जयपुर में हुआ. कल जयपुर के लोगों ने कश्मीर का अनुभव कर लिया. कल जयपुर की पुलिस ने भी कश्मीर का अनुभव देख लिया. कल मुस्लिमों की भीड़ ने ऐसा डरावना रूप दिखाया जिसे देखकर कोई कह ही नहीं सकता कि भारत के मुस्लिम डरे हुए हैं. हर आदमी यही कहेगा कि मुस्लिम डरते नहीं बल्कि डराते हैं.

आप देखते होंगे कि पुलिस वाले नाके पर हर किसी की बाइक करते हैं, हिन्दू बहुल इलाके में आज तक किसी ने पुलिस की जांच का विरोध नहीं किया है लेकिन कल जयपुर के रामगंज इलाके में एक पुलिस वाले ने एक मुस्लिम युवक की बाइक को चेक करने के लिए रोका. पुलिस के रोकने पर जब युवक भागने लगा तो पुलिस वाले ने उसे पकड़कर एक दो हाथ लगा दिए.

इसके बाव वह युवक अपने घर गया और अपने साथ सैकड़ों लोगों को ले आया. वे सभी लोग रामगंज पुलिस थाने पर इकठ्ठे हो गए और पुलिस वालों के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. इसके बाद वे हिंसक हो गए और पुलिस वालों पर पत्थरबाजी शुरू कर दी. वे लोग पुलिस वालों को मार देना चाहते थे. पुलिस वालों की गलती ये थी कि उन्होने मुसलमान युवक की बाइक चेक करने के लिए रोक दिया.

मुसलमानों की भीड़ जब हिंसक हो गयी तो पुलिस वालों को भी उनपर एक्शन लेना पड़ा. मुसलामानों की भीड़ पुलिस वालों को मार डालना चाहती थी, सभी अपने साथ लाठी डंडे ले आये थे, भीड़ ने एक पुलिस वाले को पकड़कर मार डाला. इसके बाद पुलिस ने भी भीड़ पर फायरिंग की जिसमें एक युवक मुहम्मद रईस उर्फ़ आदिल की मौत हो गयी जबकि 14 लोग घायल हो गए. 10 पुलिसकर्मी भी घायल हो गए. जब माहौल ज्यादा ही गर्म हो गया तो पुलिस ने कई क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया.

मुसलामनों की भीड़ ने पुलिस की कई गाड़ियों को जलाकर ख़ाक कर दिया. कई दुकानों में भी आग लगा दी गयी. सभी मुसलमान अल्लाह-हु-अकबर का नारा लगा रहे थे.

पुलिस ने तुरंत ही जयपुर में इन्टरनेट सेवा बंद कर दी. आज स्कूल कॉलेज बंद करा दिए. यह सब देखकर ऐसा लग रहा था कि यह राजस्थान का जयपुर शहर नहीं बल्कि कश्मीर का श्रीनगर है.

Aug 29, 2017

मोदी बोले, कांग्रेस इतना बुराई फैलाकर गयी थी, कोई ढीला ढीला आदमी होता तो डर जाता, लेकिन मैं..

मोदी बोले, कांग्रेस इतना बुराई फैलाकर गयी थी, कोई ढीला ढीला आदमी होता तो डर जाता, लेकिन मैं..

pm-modi-slams-congress-inaugurate-15000-crore-project-in-rajasthan

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज उदयपुर में करीब 15000 रुपये से भी अधिक की विकास योजनाओं का शुभारम्भ किया. इस प्रोजेक्ट में करीब 13 नेशनल हाईवे का निर्माण करके राजस्थान को चमकाया जाएगा. मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 15 हजार करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट का एक साथ शुभारम्भ राजस्थान के इतिहास की एक अद्भुत घटना है.

मोदी ने कहा कि योजनाओं की घोषणाएं करना, चुनाव के समय भाँती भाँती के वादे करना, अख़बारों में बहुत बड़ी बड़ी हेडलाइन छप जाना, सबके गले में माला डाल देना, ये सारे खेल हम देश भली भाँती देखते आये हैं और वर्षों से यही चला है. हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती यही है, इन पुरानी बुराइयों को ख़त्म करने में इतनी ताकत लगती है जिसकी आप कल्पना नहीं कर सकते.

मोदी ने कहा कि वो लोग देश को ऐसी हालत छोड़कर गए हैं, सारी व्यवस्था ऐसी चरमरा गयी है, बुराइयां इतनी प्रवेश कर गयी हैं. अगर कोई ढीला ढाला इंसान होता तो शायद इन समस्याओं को देखते ही डर जाता लेकिन हम ज़रा अलग मिटटी से बने हैं. हमें चुनौतियों को चुनने की आदत है और चुनौतियों को चुनौती देने की भी आदत है. हम चुनौतियों को स्वीकार करते हुए, रास्ते खोजते हुए, देश को मंजिल पर ले जाने के लिए जी-जान से जुटने का माजा भी रखते हैं.

मोदी ने कहा कि चम्बल नदी पर ब्रिज बनने में 11 साल लगे. यह काम 2006 में शुरू हुआ और 2017 में बनकर पूरा हुआ, इसका बजट 300 करोड़ रुपये था. अब मैं बताता हूँ कि सरकार-सरकार में फर्क क्या होता है. काम करने वाली सरकार किसको कहते हैं. ये समझने के लिए ये घटना काफी है.

मोदी ने बताया कि एक छोटा सा 300 करोड़ की लागत का ब्रिज अगर सामान्य पद्धति से भी बनाएं तो साल डेढ़ साल में बन जाता है लेकिन कांग्रेस को यही पुल बनाने में 11 साल लग गए. मोदी ने बताया कि आज हमारी सरकार ने 5600 करोड़ के प्रोजेक्ट 2014 में हमारी सरकार बनने के बाद शुरू किये थे और आज केवल 3 साल के भीतर भीतर उनका लोकार्पण भी हो गया.

मोदी ने कहा कि हमने उस संस्कृति को लाने का प्रयास किया है कि हम जिस काम की शुरुआत करेंगे उसे पूरा करने का काम भी हम ही करेंगे. मोदी ने कहा कि जब कोई योजना में देरी हो जाती है तो उसका एक आध चुनाव में लाभ मिल जाता है लेकिन जब वह योजना लटक जाती है तो करोड़ों रुपये बर्बाद हो जाते हैं. इस तरह से देश का पूरा अर्थतंत्र देश के डिब्बे में पड़ी हुई योजनाएं ही खा जाती हैं. इन गड्ढे में पड़ी योजनाओं को बाहर निकालने में मेरी इतनी ताकत लग रही है इसका आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते. मोदी ने कहा कि इस ब्रिज का काम भी बंद पड़ा था, कोर्ट कचहरी में उलझा हुआ था लेकिन हमने सरकार में आने के बाद इसे फिर से शुरू करवाया और काम पूरा कर दिया.

Aug 23, 2017

फिर से CBI ने खोल दी फाइल, बहुत दुखी हैं रॉबर्ट वाड्रा: पढ़ें

फिर से CBI ने खोल दी फाइल, बहुत दुखी हैं रॉबर्ट वाड्रा: पढ़ें

rajasthan-government-order-cbi-probe-in-robert-vadra-land-deal

रॉबर्ट वाड्रा एक बार फिर से दुखी हो गए हैं क्योंकि राजस्थान सरकार ने उनके पीछे एक बार फिर से CBI और ED छोड़ दी है. रॉबर्ट वाड्रा ने सोशल मीडिया पर अपना दुःख साझा करते हुए कहा है कि वसुंधरा राजे सरकार को अपनी पुलिस और इंटेलिजेंस पर भरोसा नहीं है इसलिए मुझे प्रताड़ित करने के लिए CBI और ED का सहारा लिया जा रहा है लेकिन सच भले ही परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं हो सकता, मुझे कितना भी परेशान कर लो लेकिन तुम मुझे नुकसान नहीं पहुँचा सकते.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पूर्व कांग्रेस सरकार में रॉबर्ट वाड्रा ने कुछ कंपनियों के साथ मिलकर बीकानेर में लैंड डील की थी. उन्होंने किसानों से सस्ती जमीन खरीदकर उसे मंहगे दामो में बेचकर अरबों रुपये कमाए थे हालाँकि उन्होने कांग्रेस सरकार का फायदा उठाते हुए सभी सबूत मिटा दिए. इसी वजह से राजस्थान की पुलिस उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं जुटा सकी. अब सबूत जुटाने के लिए CBI और ED की मदद मांगी गयी है तो रॉबर्ट वाड्रा परेशान हैं.

रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि यह मुझे बदनाम करने की एक और कोशिश है. राजस्थान की पुलिस ने मेरे खिलाफ 26 अगस्त 2014 में रिपोर्ट दर्ज की थी. तीन साल बाद उन्होने चार्जशीट फाइल की, दस्तावेज तैयार किये लेकिन अभी तक उन्हें कोई सबूत नहीं मिल सका. उन कंपनियों और मेरे बीच रिश्ते का कोई सबूत नहीं है इसके बावजूद भी मुझे बदनाम किया जा रहा है. 

क्या है बीकानेर जमीन घोटाला

बीकानेर जमीन घोटाले में 18 FIR दर्ज की गयी हैं जिसमें से 4 रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ हैं. आरोपों के अनुसार रॉबर्ट वाड्रा की कंपनियों ने गैरकानूनी तरीके से 275 बीघा जमीन खरीदी. कुल 1400 बीघा जमीन फर्जी नामों से खरीदी गयी. किसानों को बहुत कम पैसा दिया गया और उन्हें दूसरे स्थान पर घर भी नहीं दिया गया. राजस्थान सरकार को कांड तो समझ में आ रहा है लेकिन इसे इस तरह से अंजाम दिया गया है जिसका पता सिर्फ CBI ही लगा सकती है.

Jul 23, 2017

लोग बोले, वाह अमित शाह, खुद भी जमीन पर भोजन किया और महारानी जी को भी जमीन पर बिठा दिया

लोग बोले, वाह अमित शाह, खुद भी जमीन पर भोजन किया और महारानी जी को भी जमीन पर बिठा दिया

amit-shah-and-vasungahra-raje-eat-food-at-dalit-family-on-ground

अमित शाह इस वक्त राजस्थान के दौरे पर हैं और जनता से मिलकर आगे की रणनीति बना रहे हैं, कल उन्होंने अपनी पार्टी के एक बूथ कार्यकर्त्ता रमेश पचारिया के घर पर भोजन किया, रमेश पचारिया को दलित समाज का बताया जा रहा है. अमित शाह ने कहा कि रमेश पचारिया के यहाँ का भोजन अत्यंत स्वादिस्ट था, राजस्थानी भोजन के लिए उन्होने रमेश पचारिया के परिवार को धन्यवाद किया.

यहाँ यह पर ख़ास बात यह थी कि अमित शाह एक साथ राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी जमीन पर बैठकर भोजन किया, इससे पहले किसी ने भी वसुंधरा राजे को जमीन पर बैठकर भोजन करते नहीं देखा था. वसुंधरा राजे राजस्थान के धोलपुर की महारानी भी रही हैं, उनके पिताजी जीवाजी राव सिंधिया ग्वालियर के राजा था. उनकी माता विजय राजे सिंधिया महारानी के साथ साथ जनसंघ-बीजेपी की ताकतवर नेता थीं.

वसुंधरा राजे को जमीन पर बैठकर भोजन करते देखकर कई लोगों ने प्रतिक्रिया दी, लोगों ने अमित शाह से कहा कि आपको तो जमीन पर भोजन करते हुए कई बार देखा है लेकिन आश्चर्य महारानी को देखकर हुआ.

एक अन्य ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को देखकर अच्छा लगा, अमित शाह की वजह से उन्हें गरीबों के साथ बैठने का मौका मिला.
amit-shah-and-vasundhara-raje-eat-foot-at-dalit-family

Jul 20, 2017

राहुल गाँधी बोले, हमारी सरकार नहीं है फिर भी हम लोन करवा देंगे क्योंकि 'हममे है दम'

राहुल गाँधी बोले, हमारी सरकार नहीं है फिर भी हम लोन करवा देंगे क्योंकि 'हममे है दम'

rahul-gandhi-said-i-am-powerful

कल राहुल गाँधी ने राजस्थान में भाषण के दौरान जमकर फेंका. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार नहीं है लेकिन फिर भी हमारे अन्दर इतनी ताकत है कि हम किसानों का कर्जा माफ़ करवा रहे हैं, हमने यूपी में किसानों का लोन माफ़ करवा दिया अब राजस्थान के भी किसानों का लोन माफ़ करवा देंगे.

उन्होंने कहा कि लोन माफ़ करवाने के लिए हम किसानों के साथ सड़कों पर उतरेंगे, आन्दोलन करेंगे, मैं खाली बैठा हूँ, आप मुझे कहीं भी बुलवा लेना, भाषण की जरूरत पड़े तो भाषण करवा लेना, यात्रा की जरूरत पड़े तो यात्रा करवा लेना, आन्दोलन की जरूरत पड़े तो आन्दोलन में ले जाना लेकिन मैं आपका पूरा साथ दूंगा.

राहुल बोले कि हम राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को चैन से सोने नहीं देंगे, जब तक लोन माफ़ नहीं करेंगे हम सड़कों पर आन्दोलन करेंगे और लोन माफ़ करवाकर ही दम देंगे, जब लोन माफ़ हो जाएगा तो मैं दोबारा आपके पास आऊंगा और आपको गले लगाकर आपको बधाई दूंगा.

Jul 19, 2017

अब वसुंधरा राजे को चैन से सोने नहीं देंगे राहुल गाँधी, अब राजस्थान में करेंगे बवाल: पढ़ें क्यों

अब वसुंधरा राजे को चैन से सोने नहीं देंगे राहुल गाँधी, अब राजस्थान में करेंगे बवाल: पढ़ें क्यों

rahul-gandhi-will-start-andolan-in-rajasthan-for-kisan-karj-maafi

आज राहुल गाँधी ने राजस्थान के बंसवारा में किसान रैली को संबोधित किया और मोदी सकरार और भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला, राहुल गाँधी ने युवाओं की बेरोजगारी और किसानों की बदहाली के लिए मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया, उन्होंने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को चैन से ना सोने देने की धमकी दे डाली.

राहुल गाँधी ने कहा कि हमारी पार्टी किसानों के साथ खड़ी है और आगे भी किसानों के लिए लड़ती रहेगी. हमें उत्तर प्रदेश में किसानों का लोन माफ़ करवा दिया. राजस्थान में भी कांग्रेस पार्टी दबाव डालकर आपका कर्जा माफ़ करेगी.

राहुल गाँधी ने कहा कि हम यहाँ पर इनके चीफ मिनिस्टर को तब तक सोने नहीं देंगे जब तक कि ये आपका कर्जा माफ़ नहीं करेंगे. यहाँ पर पूरी कांग्रेस पार्टी उतरेगी, हम आदिवादिस्यों, किसानों के साथ उतरेंगे और इनको कर्जा माफ़ होने तक सोने नहीं देंगे और जब कर्ज माफ़ हो जाएगा तो मैं यहाँ पर फिर से आऊंगा और आपको बधाई दूंगा, आपसे गले मिलूँगा.

राहुल गाँधी ने कहा कि कर्जा माफ़ होने तक आप हमें जहाँ भी ले जाना चाहते हो, जिस जिल में भी ले जाना चाहते हो ले जाओ, यात्रा करा है यात्रा कराओ, भाषण देना है तो भाषण दिलवाओ, आन्दोलन में ले जाना है उसमें ले जाओ, लेकिन कांग्रेस पार्टी राजस्थान के किसानों का दबाव डालकर कर्जा माफ़ काराएगी.

राहुल गाँधी ने कहा कि हम सरकार में नहीं हैं, अगर सरकार में होते तो इस भाषण की जरूरत ही नहीं पड़ती, वैसे ही हो जाता काम. लेकिन आप कांग्रेस पार्टी की ताकत देखिये हम दबाव डालकर इनसे काम कराएंगे.
UP में कर्जा माफ़ किया मोदी-योगी ने, राहुल गाँधी बोले ‘मैंने माफ़ करवा दिया’, बड़े होशियार निकले

UP में कर्जा माफ़ किया मोदी-योगी ने, राहुल गाँधी बोले ‘मैंने माफ़ करवा दिया’, बड़े होशियार निकले

rahul-gandhi-speak-lie-in-kisan-rally-over-kisan-karz-maafi-in-up
आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने राजस्थान के बंसवारा में किसान रैली को संबोधित किया और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर राजनीतिक हमला किया. उन्होंने आज बहुत ही होशियारी का परिचय भी दिया, उत्तर प्रदेश में कर्जमाफी का क्रेडिट कांग्रेस को दे दिया जबकि कर्जमाफी का वादा प्रधानमंत्री मोदी ने किया था और माफ़ योगी सरकार ने किया था, मतलब कर्ज माफ़ किया मोदी-योगी ने लेकिन राहुल गाँधी बोले कि मैंने उत्तर प्रदेश में कर्ज माफ़ करवा दिया.

राहुल गाँधी ने कहा कि हमारी पार्टी किसानों के साथ खड़ी है और आगे भी किसानों के लिए लड़ती रहेगी. हमें उत्तर प्रदेश में किसानों का लोन माफ़ करवा दिया. राजस्थान में भी कांग्रेस पार्टी दबाव डालकर आपका कर्जा माफ़ करेगी.

राहुल गाँधी ने कहा कि हम यहाँ पर इनके चीफ मिनिस्टर को तब तक सोने नहीं देंगे जब तक कि ये आपका कर्जा माफ़ नहीं करेंगे. यहाँ पर पूरी कांग्रेस पार्टी उतरेगी, हम आदिवादिस्यों, किसानों के साथ उतरेंगे और इनको कर्जा माफ़ होने तक सोने नहीं देंगे और जब कर्ज माफ़ हो जाएगा तो मैं यहाँ पर फिर से आऊंगा और आपको बधाई दूंगा, आपसे गले मिलूँगा.

राहुल गाँधी ने कहा कि कर्जा माफ़ होने तक आप हमें जहाँ भी ले जाना चाहते हो, जिस जिल में भी ले जाना चाहते हो ले जाओ, यात्रा करा है यात्रा कराओ, भाषण देना है तो भाषण दिलवाओ, आन्दोलन में ले जाना है उसमें ले जाओ, लेकिन कांग्रेस पार्टी राजस्थान के किसानों का दबाव डालकर कर्जा माफ़ काराएगी.

राहुल गाँधी ने कहा कि हम सरकार में नहीं हैं, अगर सरकार में होते तो इस भाषण की जरूरत ही नहीं पड़ती, वैसे ही हो जाता काम. लेकिन आप कांग्रेस पार्टी की ताकत देखिये हम दबाव डालकर इनसे काम कराएंगे.

Jul 5, 2017

झूठे केस में बरी होने से खुश हो गए संत आसाराम, मिल गया इन्साफ

झूठे केस में बरी होने से खुश हो गए संत आसाराम, मिल गया इन्साफ

latest-news-sant-asaram-clean-chit-fromipc-dhara-384-and-66-a
संत आसाराम और उनके भक्तों के लिए खुशखबरी है क्योंकि नाबालिक छात्रा के यौन शोषण के आरोप में सजा काट रहे आसाराम को गुरुवार को एडीजे कोर्ट से आंशिक राहत मिली है, एडीजे कोर्ट ने आसाराम को IPC की धारा 384 एवं 66A आईटी एक्ट से बरी कर दिया है. जानकारी के लिए बता दें कि आसाराम के खिलाफ नाबालिक छात्रा के यौन शोषण के आरोप के साथ साथ पुलिस के खिलाफ दुष्प्रचार करने एवं धमकाने का भी आरोप लगा था और इसी के तहत उनपर IPC की धारा 353, 355, 384, 117, 189, 120 एवं आईटी एक्ट की धारा 66A के तहत मुकदमा दर्ज हुआ था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उदयमीर थाने के तत्कालीन थानाधिकारी हरजीराम ने आसाराम के खिलाफ पुलिस को धमकाने एवं दुष्प्रचार का मामला दर्ज किया था, पुलिस ने इस मामले में आसाराम के खिलाफ IPC की धारा 353, 355, 384, 117, 189, 120 एवं आईटी एक्ट की धारा 66A में जोधपुर महानगर मजिस्ट्रेट संख्या तीन की अदालत में चालान पेश किया था. 

मजिस्ट्रेट ने चालान पेश होने के बाद आईपीसी की धारा 384 के तहत आसाराम को तलब किया था जिसके खिलाफ आसाराम के पक्ष ने एडीजे कोर्ट संख्या 6 में निगरानी याचिका पेश की थी. आसाराम की तरफ से एडीजे कोर्ट में अधिवक्ता नीलेश वोहरा एवं गोकुलेश बोहरा ने पैरवी की, जबकि सरकार की तरफ से सरकारी वकील नरेश मूलचंदानी ने पक्ष रखा, कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद आसाराम को आंशिक राहत देते हुए उन्हें IPC की धारा 384 एवं 66A आईटी एक्ट से बरी कर दिया, अब आसाराम के खिलाफ महानगर मजिस्ट्रेट संख्या तीन के सपक्ष आईपीसी की धारा 353, 355, 117, 189 एवं 120 के तहत ही मुकदमा चलेगा और इन मामलों में भी बरी होने की संभामना है.

Jun 26, 2017

आनंदपाल के एनकाउंटर को क्यों बताया जा रहा है फर्जी: पढ़ें

आनंदपाल के एनकाउंटर को क्यों बताया जा रहा है फर्जी: पढ़ें

anandpal-encounter-fake-rumors-on-social-media

नई दिल्ली 26 जून: पांच लाख के इनामी गैंगेस्टर आनंदपाल सिंह के एनकाउंटर को फर्जी बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि राजस्थान पुलिस इस मामले पर झूंठ बोल रही है. गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का एनकाउंटर पुलिस ने  शनिवार की रात 10.25 बजे किया था.  इस इनामी बदमाश को पकड़ने के लिए 50 थानों के 5 हजार पुलिसकर्मी दिन रात लगे हुए थे.

आनंदपाल सिंह के एडवोकेट ने इस एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए कहा है कि उसको हरियाणा से पकड़कर लाया गया था और चुरु में मैनेज कर फर्जी एनकाउंटर किया गया है.  पुलिस की पूरी कहानी में कई ऐसे झोल हैं, जिस पर बहुत सारे लोगों को भरोसा नहीं हो रहा है. उसके लोकेशन के बारे में उसके भाईयों तक को पता नहीं होता था, तो पकड़ा कैसे गया.

उसके पास 400 कारतूस बचे थे और वो एके-47 से गोलियां बरसा रहा था फिर भी पुलिस ने उसके पास जाकर पीठ में कैसे गोली मार दी. इस एनकाउंटर में घायल सभी पुलिसकर्मी राजपूत है, ऐसे कैसे हो गया. चूंकि राजपूतों की सहानुभूति आनंदपाल के साथ रहती थी, कहीं इस वजह से तो ऐसा नहीं दिखाया गया. वह सरेंडर करना चाहता था, लेकिन सुरक्षा के साथ. आने वाले समय ये मामला कई मोड़ ले सकता है.

Jun 25, 2017

MODI-BJP राज में बदमाशों के आये बुरे दिन, राजस्थान में ठोंका गया खतरनाक गैंगस्टर आनंदपाल

MODI-BJP राज में बदमाशों के आये बुरे दिन, राजस्थान में ठोंका गया खतरनाक गैंगस्टर आनंदपाल

gangster-anandpal-encounter-by-rajasthan-police-in-churu-image

जयपुर 25 जून: बीजेपी शासित राज्यों में बदमाशों के बुरे दिन आ गए हैं क्योंकि गैंगस्टर लोग चुन चुन कर मारे जा रहे हैं, ऐसा लगता है कि फिल्मों का कोई एक्शन सीन जारी है, आज राजस्थान के चुरू में कुख्यात इनामी गैंगस्टर आनंदपाल को ठोंक दिया गया, इससे पहले अप्रैल 2017 में हरियाणा के कुख्यात इनामी गैंगस्टर सुरेंद्र ग्योंग को ठोंका गया था. दोनों ही बदमाशों ने कई राज्यों की पुलिस के नाक में दम कर रखा था लेकिन जैसे ही राजस्थान और हरियाणा में बीजेपी की सरकार बनी दोनों ही गैंगस्टर ठोंक दिए गए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राजस्थान की पुलिस ने काफी समय पहले से ही आनंदपाल को ठोंकने का प्लान बना रखा था, आनंदपाल को भी अपने अंजाम की भनक लग गयी थी इसलिए वह पिछले डेढ़ साल से फरार चल रहा था लेकिन कल आखिरकार उसे ख़त्म कर दिया गया. उसे शनिवार करीब रात 11.25 बजे SOG की टीम ने शुरू के मालासर में मारा गया, मुठभेड़ के दौरान आनंदपाल और उसके साथियों ने पुलिस टीम पर AK 47 राइफल से करीब 100 राउंड फायर किया लेकिन पुलिस ने विशेष सावधानी बरतते हुए आनंदपाल के सीने में 6 गोलियां दाग दीं.

इस दौरान SOG के CI सूर्यवीर सिंह के हाथ में फ्रैक्चर आया जबकि पुलिसकर्मी मोहन सिंह बदमाशों की गोलियों से घायल हो गए हलाँकि उनकी हालत खतरे से बाहर है, अनंगपाल के पास से 2 AK 47 और 400 गोलियां मिली हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले SOG ने आनंदपाल के दो भाइयों देवेन्द्र उर्फ़ गुट्टू और विक्की को हरियाण के सिरसा से गिरफ्तार किया था, उन्हीं दोनों से पता चला कि आनंदपाल चुरू के मालासर में श्रवण सिंह के घर पर छिपा हुआ है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आनंदपाल को राजस्थान पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर रखा था लेकिन सितम्बर 2015 में नागौर की एक अदालत में पेशी के बाद वापस अजमेर जेल ले जाते वक्त वह पुलिस की गिरफ्त से फरार हो गया था और चुरू में शरण ले रखी थी लेकिन आखिरकार कल उसका अंत हो ही गया.

Jun 4, 2017

पेड़ पर चढ़कर बोले केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल 'यहाँ पर नेटवर्क प्रॉब्लम हैं, जल्द लगाओ टावर'

पेड़ पर चढ़कर बोले केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल 'यहाँ पर नेटवर्क प्रॉब्लम हैं, जल्द लगाओ टावर'

arjun-ram-meghwal-climb-on-tree-to-talk-over-phone-in-bikaner
New Delhi: आज राजस्थान में केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल के संसदीय क्षेत्र बीकानेर के एक गाँव में मोदी सरकार के डिजिटल इंडिया की हवा निकल गयी जब स्वयं मंत्री साहब को फोन पर बात करने के लिए सीढियां लगाकर पेड़ पर चढ़ना पड़ा. इससे यह भी साबित हो गया है कि देश के कई क्षेत्रों, कई गाँवों में अभी भी नेटवर्क की समस्या है, ये लोग चाहकर भी डिजिटल नहीं हो सकते.

आज केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल अपने संसदीय क्षेत्र बीकानेर के धोलिया गाँव के दौरे पर आये थे, यह गाँव बीकानेर शहर से 12 किलोमीटर की दूरी है स्थिति है.

उसके दौरे के समय गाँव वालों ने शिकायत की कि गाँव में पानी की बहुत समस्या है लेकिन ऑफिसर ना तो उनकी शिकायत सुनते हैं और ना ही फोन उठाते हैं. तुरंत ही अर्जुन मेघवाल ने अफसर को फोन लगाया लेकिन नेटवर्क ही नहीं मिला, वे काफी देर तक फोन मिलाते रहे लेकिन नेटवर्क गायब था.यह देखकर गाँव वालों ने बताया कि साहब यहाँ पर नेटवर्क ही नहीं आता, फोन करने के लिए पेड़ पर चढ़ना पड़ता है.

इसके बाद मंत्री साहब ने सीढियां मंगाई और पेड़ पर चढ़ गए, पेड़ पर चढ़ने के बाद फोन मिलाया तो तुरंत फोन लग गया और बात भी हो गयी,  उन्होने आरोपी अफसर से बात की और समस्या के बारे में बताया, उन्होंने अफसर को तुरंत आदेश दिया कि गाँव में दूषित पानी को साफ़ करने के लिए RO लगाया जाय ताकि गाँव वालों को पीने का शुद्ध पानी मिल सके.

उन्होने नेटवर्क की समस्या का भी समाधान कर दिया, उन्होंने 13 लाख रुपये की लागत से BSNL कंपनी को टावर लगाने का आदेश दिया.

फिलहाल केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल के पेड़ पर चढ़कर बात करने का VIDEO वायरल हो गया है, कांग्रेस पार्टी को बैठे बिठाए मोदी सरकार के खिलाफ मुद्दा मिल गया है. देखें VIDEO.

May 30, 2017

कांग्रेसियों द्वारा गौ-हत्या होते देखकर कांग्रेसियों का भी जागा जमीर, 1600 लोगों ने छोड़ी पार्टी

कांग्रेसियों द्वारा गौ-हत्या होते देखकर कांग्रेसियों का भी जागा जमीर, 1600 लोगों ने छोड़ी पार्टी

congress-workers-leaving-party-after-congress-leader-murder-cow
जालौर राजस्थान: खुलेआम गाय काटकर देश के 100 करोड़ हिन्दुओं की भावनायें भड़काना कांग्रेस पार्टी ओके मंहगा पड़ रहा है क्योंकि अब कांग्रेसियों का जमीन जागने लगा है और लोग पार्टी छोड़ने लगे हैं, आज राजस्थान में 1600 लोगों ने यह कहते हुए कांग्रेस पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया कि -पार्टी की गलत नीतियों एवं केरल में पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा गौ-ह्त्या किये जाने से हमारी भावनाओं को ठेस पहुंची है, अतः हम इस पार्टी के सदस्य नहीं बने रह सकते.
जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले मोदी सरकार की गौ-हत्या बैन पालिसी का विरोध करते हुए केरल में कांग्रेसी नेताओं ने गाय का क़त्ल किया, उसके मांस का आपस में वितरण किया और, यही नहीं हजारों कांग्रेसी कार्यकर्त्ता कटी हुई गाय का सर लेकर सड़कों पर कदमताल किया.

देश के करोड़ों हिन्दू कांग्रेसियों के इस जघन्य अपराध को देख नहीं सके, अब कांग्रेस में शामिल हिन्दू कार्यकर्त्ता भी पार्टी से इस्तीफ़ा देने लगे हैं.

May 11, 2017

शादी समारोह में दर्दनाक हादसा, दीवार गिरने से 25 मरे

शादी समारोह में दर्दनाक हादसा, दीवार गिरने से 25 मरे

rajasthan-bharatpur-shadi-samaroh-wall-fallen-25-people-dead

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर जिले से आज एक दर्दनाक खबर आयी है, एक शादी समारोह के दौरान भोजन कर रहे लोगों पर अचानक मैरिज होम की दीवार उनके सर पर गिर पड़ी और देखते ही देखते मैरिज होम की दीवार के मलबे में दब गए.

इस दर्दनाक हादसे में कम से कम 25 लोगों की मौत हुई है जबकि 30 से अधिक लोग घायल हुए हैं, घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. मृतकों में 8 महिलाएं, 11 पुरुष और 5 बच्चे शामिल हैं.

जानकारी के अनुसार भोजन के दौरान अचानक तेज आंधी और तूफ़ान चलने लगा जिसकी वजह से मैरिज होम की दीवार भरभराकर ढह गयी.

रिपोर्ट के अनुसार मैरिज हाल को एक लड़के की शादी के लिए बुक कराया गया था, बरात जयपुर के जौहरी बाजार से भरतपुर आयी थी, समारोह में करीब 800 लोग मौजूद थे, जहाँ पर खाने के स्टॉल लगे थे वहां की दीवार गिर गयी जिसकी वजह से खाना खा रहे लोग दीवार के नीचे 50-60 लोग दब गए.

पुलिस ने मैरिज होम मालिक को हिरासत में ले लिया है क्योंकि दीवार को कमजोर बनाये जाने की वजह से यह हादसा हुआ है, अगर मैरिज होम की दीवारें मजबूत होतीं तो यह दर्दनाक हादसा नहीं होता.