Showing posts with label Punjab. Show all posts
Showing posts with label Punjab. Show all posts

Thursday, February 23, 2017

AAP के सांसद भगवंत मान बोले, हरियाणा को नहीं देंगे पंजाब का पानी

AAP के सांसद भगवंत मान बोले, हरियाणा को नहीं देंगे पंजाब का पानी

bhagwant-mann-samachar-in-hindi

चंडीगढ़, 23 फरवरी: आम आदमी पार्टी (आप) ने गुरुवार को यहां साफ कहा कि पंजाब से हरियाणा में पानी के प्रवाह की इजाजत नहीं दी जाएगी। पार्टी सांसद भगवंत मान ने आप के पंजाब की सत्ता में आने की उम्मीद जताते हुए एक बयान में कहा कि पंजाब से हरियाणा में पानी का प्रवाह नहीं होने दिया जाएगा, क्योंकि पंजाब के पास फ़ालतू पानी नहीं है।

मान ने कहा, "AAP अपने रुख पर कायम है और नदी जल के मुद्दे को हल करने के लिए सभी जरूरी कानूनी और राजनीतिक कदम उठाएगी।"

पंजाब और हरियाणा के लोगों को शिरोमणि अकाली दल (शिअद) और इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के खतरनाक इरादे के प्रति सावधान करते हुए मान ने कहा कि दोनों दल सतलुज यमुना लिंक (एसवाईएल) का मुद्दा राजनीतिक उद्देश्यों से उठा रहे हैं। मान ने कहा कि इनेलो का सतलुज यमुना लिंक की खुदाई का आह्वान राजनीति से प्रेरित था।

मान ने इनेलो से पूछा कि वह शिअद के सत्ता में रहने के दौरान क्यों एसवाईएल नहर की खुदाई को लेकर दस सालों से चुप रही।

उन्होंने कहा, "शिअद सत्ता से बाहर जा रहा है और इनेलो ने अचानक एसवाईएल नहर की खुदाई का फैसला लिया है। यह कदम पंजाब में अगली सरकार के सामने मुश्किल खड़ा करने के लिए है।"

इनेलो ने गुरुवार को पंजाब सीमा पर एसवाईएल नहर खोदने के लिए एक जुलूस की अगुवाई की।

Thursday, February 9, 2017

पंजाब में 48 मतदान केंद्रों पर आज हो रही दोबारा वोटिंग

पंजाब में 48 मतदान केंद्रों पर आज हो रही दोबारा वोटिंग

re-polling-started-in-48-polling-booth-in-punjab

चंडीगढ़, 9 फरवरी: निर्वाचन आयोग (ईसी) की घोषणा पर पंजाब में पांच जिलों के 48 मतदान केंद्रों पर गुरुवार सुबह दोबारा मतदान शुरू हो गया। पंजाब के अमृतसर, मोगा, मुक्तसर, मनसा और संगरूर जिलों में मतदाता मतदान करने के लिए केंद्रों पर पहुंच रहे हैं। मतदान शाम पांच बजे तक जारी रहेगा।

पंजाब सरकार ने इन पांच जिलों में अवकाश की घोषणा की है।

अमृतसर संसदीय क्षेत्र और विधानसभा क्षेत्रों में कारखानों, दुकानों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों में भी 'वैतनिक अवकाश' की घोषणा की गई है।

निर्वाचन आयोग ने मंगलवार को पंजाब के इन पांच विधानसभा क्षेत्रों के 48 मतदान केंद्रों पर दोबारा चुनाव कराने का आदेश दिया था।

इन स्थानों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) और वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) उपकरणों में खराबी की वजह से चार फरवरी को मतदान प्रभावित हुआ था, जिस वजह से यह फैसला लिया गया।

मजीठा के 12 मतदान केंद्रों, मुक्तसर के नौ, संगरूर के छह, सर्दुलगढ़ के चार और मोगा के एक मतदान केंद्र पर दोबारा मतदान के आदेश दिए गए हैं।

इसके अलावा, अमृतसर लोकसभा सीट के 16 मतदान केंद्रों पर भी दोबारा मतदान के आदेश दिए गए हैं। इस सीट पर विधानसभा चुनाव के साथ ही चार फरवरी को मतदान हुआ था।

राज्य में रविवार को हुए मतदान के बाद 1,145 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम मशीनों में कैद हो गई, जिसमें 81 महिलाएं और एक किन्नर है। 

Tuesday, February 7, 2017

Punjab Election 2017: पंजाब में 48 जगह होगा पुनर्मतदान

Punjab Election 2017: पंजाब में 48 जगह होगा पुनर्मतदान

punjab-election-2017-re-polling-on-68-polling-booth
चंडीगढ़, 7 फरवरी:निर्वाचन आयोग ने मंगलवार को पंजाब के पांच विधानसभा क्षेत्रों के 48 मतदान केंद्रों पर दोबारा मतदान के आदेश दिए। निर्वाचन विभाग के अधिकारियों ने यहां मंगलवार को कहा कि पुनर्मतदान नौ फरवरी (गुरुवार) को होगा। 

निर्वाचन आयोग ने अमृतसर लोकसभा सीट के कुछ मतदान केंद्रों पर भी पुनर्मतदान का आदेश दिया है। सतलज-यमुना लिंक नहर मुद्दे पर पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के कारण यह सीट खाली हुई थी।

जिन विधानसभा क्षेत्रों में पुनर्मतदान होने हैं, उनमें मजीठा, संगरूर, मुक्तसर, मोगा तथा सारदुलगढ़ शामिल हैं।

चार फरवरी को हुए मतदान के दौरान इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में खराबी के चलते इन मतदान केंद्रों पर पुनर्मतदान होगा।

पंजाब में रविवार को संपन्न हुए मतदान में 81 महिला व एक किन्नर उम्मीदवार सहित कुल 1,145 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गई। मतगणना 11 मार्च को होगी।

Sunday, February 5, 2017

मोदी की मेरठ रैली का पंजाब में भी हुआ असर, एकाएक हुई धड़ाधड़ वोटिंग, अकाली-बीजेपी को फायदा

मोदी की मेरठ रैली का पंजाब में भी हुआ असर, एकाएक हुई धड़ाधड़ वोटिंग, अकाली-बीजेपी को फायदा

punjab-voting-increased-after-modi-meerut-rally-good-for-sad-bjp

लखनऊ , 5 फरवरी: कल पंजाब में मोदी की रैली का पंजाब में भी असर हुआ और दोपहर बाद इतनी रफ़्तार से वोटिंग हुई कि शाम होते होते वोटिंग का परसेंटेज 72 पहुँच गया, सुबह बहुत ही सुस्त रफ़्तार से वोटिंग चल रही थी जिसे देखकर कहा जा रहा था कि 50-55 फ़ीसदी वोटिंग ही हो पाएगी लेकिन जैसे ही मोदी ने 2 बजे मेरठ में धमाकेदार भाषण दिया और SCAM की परिभाषा दी एकाएक पंजाब के लोग घरों से निकले और वोट देने के लिए लाइनों में लग गए। 

माना जा रहा है कि यह वोटिंग अकाली दल और बीजेपी के पक्ष में हुई है, अगर ये सच हुआ तो अकाली दल और बीजेपी वापस सरकार बनाएगा, इस बात की इसलिए भी सम्भावना है क्योंकि मीडिया ने जितना दिखाया था अकाली दल उतनी कमजोर नहीं हुई है, मीडिया ने केवल शहरों में विरोधी दलों की भीड़ के आधार पर अकाली दल को कमजोर बताया जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में अकाली-बीजेपी की ही लहर थी। 

मेरठ रैली में मोदी ने कहा कि मेरी लड़ाई SCAM के खिलाफ है SCAM मतलब - सपा, कांग्रेस, अखिलेश और मायावती। जब तक SCAM का सफाया नहीं होगा विकास नहीं हो पाएगा, मोदी ने कहा कि मेरे खिलाफ कितने भी लोग इकठ्ठे हो जाएं, मेरे खिलाफ कितने भी गठबंधन बन जाएं लेकिन भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ मेरी लड़ाई कभी ख़त्म नहीं होगी, मै जब तक जिन्दा रहूँगा लुटेरों को चैन से बैठने नहीं दूंगा। 

मोदी की इस रैली को पंजाब के मीडिया ने भी कवर किया और टीवी पर दिखाया जिसे देखकर पंजाब के लोग घरों से निकले और वोट देने के लिए लाईन में लग गए। जिसे देखकर केजरीवाल ने मोदी पर हमला किया, उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग मोदी का गुलाम बन गया है, वो चुनाव के दिन भी रैलियां कर रहे हैं, टीवी पर आ रहे हैं, टीवी पर प्रचार कर रहे हैं और चुनाव आयोग खामोश बैठा है। केजरीवाल को शायद इसलिए गुस्सा आया क्योंकि यह वोटिंग अकाली दल और बीजेपी के लिए हुई थी। 

Saturday, February 4, 2017

पंजाब में रिकॉर्डतोड़ मतदान, दोपहर बार अचानक घर से निकले लोग और लग गए लम्बी लाइनों में

पंजाब में रिकॉर्डतोड़ मतदान, दोपहर बार अचानक घर से निकले लोग और लग गए लम्बी लाइनों में

punjab-poll-2017-72-percent-voting-recorded

Amritsar, 4 Feb: पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए मतदान शनिवार को शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। नई सरकार के गठन के लिए हुए इस मतदान में बड़ी संख्या में मतदाता अपने घरों से निकले वैसे सुबह के समय पंजाब में काफी धीमी वोटिंग दिख रही थे, पंजाब के लोग भी वोट देने में सुस्त लग रहे थे लेकिन दोपहर बाद अचानक लोग घरों से निकले और लम्बी लम्बी लाइनों में लगकर वोट देने लगे।

पिछले साल नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके गठबंधन सहयोगियों के लिए यह पहली परीक्षा है। पंजाब में 117 विधानसभा सीटों के लिए 1.99 करोड़ मतदाता अपने घरों से निकले। पंजाब में 72 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए 117 सीटों पर शनिवार को करीब 72 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। कुछ जगहों पर मामूली वाद-विवाद एवं झड़प को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। 

सतलुज नदी के दक्षिण में स्थित मालवा क्षेत्र में सुबह से ही लोगों में मतदान के प्रति खासा उत्साह दिखा। राज्य की 117 सीटों में से 69 सीटें मालवा क्षेत्र में पड़ती हैं, जो किसी पार्टी की जीत के लिए निर्णायक साबित होती हैं। यहां अकाली दल-भाजपा गठबंधन, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच कड़ा मुकाबला रहा।

संगरूर और फाजिल्का में सर्वाधिक 73 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। इसके बाद मनसा और फतेहगढ़ साहिब जिले में 72 फीसदी मतदान हुआ।

ब्यास नदी के उत्तर में स्थित माझा और ब्यास और सतलुज नदी के बीच बसे दोआब क्षेत्र में मतदान प्रतिशत अच्छा रहा। शाम पांच बजे तक कुछ विधानसभा सीटों पर 75 से 78 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।

अमृतसर और रोपड़ जिलों में शाम पांच बजे तक सबसे कम 60 फीसदी मतदान हुआ था।

क्या शहरी क्या ग्रामीण सभी इलाकों में मतदाताओं में गजब का उत्साह दिखा। ठंड के बावजूद लोग सुबह ही मतदान केंद्र पहुंच गए। मतदान शुरू होने के समय मतदान केंद्रों पर लंबी कतारें लग गईं थीं। 

अमृतसर लोकसभा सीट के लिए भी शनिवार को मतदान हुआ। 

कुछ मतदान केंद्रों पर तकनीकी वजहों से मतदान थोड़े विलंब से शुरू हुआ। करीब 150 मतदान केंद्रों से ईवीएम के सही नहीं काम करने की शिकायतें मिलीं। 

प्रदेश में कुल 22,614 मतदान केंद्र बनाए गए थे। राज्य में 2012 के विधानसभा चुनाव में 78.57 फीसदी मतदान हुआ था।

चुनाव में 1.98 करोड़ योग्य मतदाता थे। चुनाव मैदान में 1,145 उम्मीदवार थे, जिनमें 81 महिलाएं और एक किन्नर उम्मीदवार हैं। इस बार छह लाख से अधिक मतदाताओं को पहली बार मताधिकार मिला था।