Showing posts with label Punjab. Show all posts
Showing posts with label Punjab. Show all posts

Thursday, March 23, 2017

SAD नेता प्रेम सिंह ने बनाया सिद्धू का मजाक, इन्हें कॉमेडी ही करनी है तो मंत्री क्यों बनाया?

SAD नेता प्रेम सिंह ने बनाया सिद्धू का मजाक, इन्हें कॉमेडी ही करनी है तो मंत्री क्यों बनाया?

sad-leader-prem-singh-citicize-navjot-singh-sidhu-for-comedy-show
चंडीगढ़, 23 मार्च: पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की कॉमेडी शो में काम करने की जिद ने उनके विरोधियों को भी कहने का मौका दे दिया है, आज शिरोमणि अकाली दल (SAD) के नेता प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने भी सिद्धू का मजाक उड़ाते हुए कहा कि मंत्री जनता के लिए 24 घंटे ड्यूटी पर रहते हैं लेकिन सिद्धू तो कह रहे हैं कि मैं शाम 6 बजे के बाद अपना काम करूँगा, अगर इन्हें 24 घंटे काम नहीं करना था, अगर इन्हें कॉमेडी शो ही करना था तो अमरिंदर सिंह ने इन्हें मंत्री क्यों बनाया। 

प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने अमरिंदर सिंह पर भी सवाल खड़े करते हुए कहा कि एक मंत्री कॉमेडी शो में काम करने की जिद कर रहा है और वे कोई कड़ा एक्शन नहीं ले पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज सिद्धू जिस पद पर बैठे हैं, जनता को किसी भी समय ड्यूटी देनी पड़ सकती है, उन्हें 24 घंटे जनता की सेवा में हाजिर रहना होगा, अगर वे कॉमेडी शो करेंगे तो उनका काम कौन करेगा। 

उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह को सिद्धू पर कठोर एक्शन लेते हुए उन्हें टीवी शो में काम करने से रोकना चाहिए, लेकिन मुझे लगता है कि अमरिंदर सिंह स्वयं कन्फ्यूज हैं। 

जानकारी के लिए बता दें कि कल नवजोत सिंह सिद्धू ने साफ़ साफ़ कहा था कि वे कॉमेडी शो में काम करना नहीं छोड़ेंगे, वे शाम 6 बजे के बाद कुछ भी करें इसके लिए किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए, अगर मैं पार्टी टाइम बिजनेस नहीं करूँगा तो अपना खर्चा कैसे चलाऊंगा, क्या मैं भी औरों की तरह भ्रष्टाचार करूँ, नहीं, मैं भ्रष्टाचार नहीं करूँगा और पैसे कमाने के लिए कॉमेडी शो में काम करता रहूँगा। 
किसी को समझ में नहीं आ रहा हैं नवजोत सिंह सिद्धू का ये तर्क, करवा रहे हैं अपनी ही बेइज्जती

किसी को समझ में नहीं आ रहा हैं नवजोत सिंह सिद्धू का ये तर्क, करवा रहे हैं अपनी ही बेइज्जती

navjot-singh-sidhu-comedy-show-issue-people-making-fun-of-him
Chandigarh, 23 March: नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब की जनता ने पांच साल अपनी सेवा के लिए चुना है, पंजाब की जनता अपने खून पसीने की कमाई से पांच साल तक सिद्धू का खर्चा चलाएगी, उन्हें बंगला, गाडी, खाना, पीना सब कुछ मिलेगा और उनका हर जगह आना जाना फ्री रहेगा, सिद्धू एक मंत्री होने के नाते पांच साल तक बिना एक पैसा खर्च किये कहीं भी घूम सकते हैं, किसी भी होटल में खा सकते हैं, किसी भी प्लेन में बैठ सकते हैं और यह सब खर्चा पंजाब की जनता उठाएगी। सिद्धू का खर्चा उठाने के अलावा पंजाब की जनता उन्हें हर महीने दो ढाई लाख रुपये की सैलरी भी देगी और पांच साल बाद अगर सिद्धू चुनाव हारकर घर बैठ जाएंगे तो भी उन्हें जीवन भर 80 हजार रुपये हर महीने पेंशन के रूप में मिलेंगे। 

अब आप सोचिये, अगर पंजाब की जनता सिद्धू का पूरा खर्चा उठा रही है और उन्हें जीवनभर 80 हजार रुपये पेंशन भी देगी तो वह सिद्धू से 24 घंटे काम भी तो लेगी लेकिन यह क्या, सिद्धू तो कह रहे हैं कि मैं शाम 6 बजे के बाद जनता की सेवा करूँगा ही नहीं, मतलब शाम 6 से सुबह 9 बजे तक वे जनता के पैसों की रोटी तोड़कर आयेंगे लेकिन शाम 6 बजे के बाद वे जनता के लिए काम नहीं करेंगे बल्कि टीवी पर कॉमेडी शो करके अतिरिक्त पैसा कमाएंगे 

सिद्धू का कहना है कि घर का खर्चा चलाने के लिए अगर मैं साइड बिजनेस नहीं करूँगा तो क्या दिन भर ऑफिस में बैठकर भ्रष्टाचार करूँ, क्या यह सही रहेगा, सिद्धू भाई, आपको भ्रष्टाचार करने की क्या जरूरत है, आपको पांच साल तो एक भी पाई नहीं खर्च करनी है, पांच साल तक आपको हर महीने ढाई लाख रुपये मिलेंगे उसके बाद जीवन भर आपको 80 हजार रुपये पेंशन मिलेगी। पांच साल बाद आप साइड बिजनेस भी करना और 80 हजार की पेंशन भी लेना। 

नवजोत सिंह सिद्धू साइड बिजनेस करने के लिए जो तर्क दे रहे हैं वो किसी को समझ में नहीं आ रहा है, सोशल मीडिया पर उनकी जमकर हंसी उड़ाई जा रही है, आज उनकी सबसे अधिक बेइज्जती उस वक्त हुई जब पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर ये कॉमेडी शो में काम करना चाहते हैं तो मैं इन्हें कोई और मंत्रालय दे देता हूँ, कोई ऐसा मंत्रालय जहाँ पर काम ना हो, मतलब नकारा मंत्रालय हो, सिद्धू वहां नकारों की तरह बैठेंगे और कॉमेडी शो भी करेंगे। 

अमरिंदर सिंह की बात सुनकर लोगों को सिद्धू की हंसी उड़ाने का और मौका मिल गया, इस वक्त ट्विटर पर सिद्धू का साइड शो ट्रेंड कर रहा है, लोग सिद्धू की जमकर खिंचाई कर रहे हैं। 

Tuesday, March 21, 2017

मैं 6 बजे के बाद कुछ भी करूँ, कामेडी करूँ या धंधा, किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए: नवजोत सिद्धू

मैं 6 बजे के बाद कुछ भी करूँ, कामेडी करूँ या धंधा, किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए: नवजोत सिद्धू

panjab-minister-navjot-singh-sidhu-image
अमृतसर, 21 मार्च: पंजाब की कांग्रेस सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू कॉमेडी नाईट विथ कपिल टीवी शो में काम करने को लेकर अड़े हुए हैं, पूरा देश उनका विरोध कर रहा है और सोशल मीडिया पर उनकी जमकर फजीकत हो रही है, लोग कह रहे हैं कि पंजाब के लोगों ने आपको अपनी सेवा करने के लिए चुना है इसलिए आब कॉमेडी छोड़ दीजिये और जनता की सेवा कीजिये। 

दिन-रात हो रही फजीहत से नवजोत सिंह सिद्धू नाराज होने लगे हैं, आज पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इस मामले पर कानूनी सलाह ली है, इसी पर प्रतिक्रिया देते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि बॉस इस ऑलवेज राईट, मतलब बॉस हमेशा ठीक करता है। 

इसके बाद उन्होने अजीब सा तर्क दिया, उन्होंने कहा कि कभी कभी मैं सातों दिन सुबह से लेकर शाम तक काम करता हूँ इसलिए मैं शाम 6 बजे के बाद टीवी शो करूँ, कॉमेडी करूँ या कोई और धंधा करूँ इसमें किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए, यह ऑफिस ऑफ़ प्रॉफिट का मामला नहीं है।

अगर नवजोत सिंह सिद्धू अपना धंधा ना छोड़ पाए तो पंजाब की जनता के साथ धोखा होगा क्योंकि वे खुद पंजाब के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल पर धंधा करने का आरोप लगाते थे, अगर सुखबीर सिंह बादल गलत थे तो नवजोत सिंह सिद्धू भी गलत हैं। सिद्धू ने बादलों को धंधेबाज बताते हुए कांग्रेस को चुनाव जितवाया, लेकिन अब खुद अपना धंधा नहीं छोड़ पा रहे हैं। लगता है पंजाब वालों के साथ धोखा हुआ है। 

Saturday, March 18, 2017

हमने ज्यादा खिला दिया इसलिए पंजाबियों ने उल्टी कर दी, जल्द ही लोग हमें याद करेंगे: सुखबीर बादल

हमने ज्यादा खिला दिया इसलिए पंजाबियों ने उल्टी कर दी, जल्द ही लोग हमें याद करेंगे: सुखबीर बादल

sukhbir-singh-dabal-latest-news-in-hindi

अमृतसर, 18 मार्च: पंजाब के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और सिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने बड़ा बयान दिया है, उन्होंने पंजाब में हार पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जब किसी को ज्यादा खिला दिया जाए तो उन्हें उल्टी हो जाती है, वास्तव में हमने पंजाब के लोगों को ज्यादा खिला दिया इसलिए उन्हें उल्टी हो गयी लेकिन जिस तरह से उल्टी होने के बाद फिर से भूख लगती है और खाने की वैल्यू पता चलती है उसी तरह से जब पंजाब के लोग पांच साला सूखे रहेंगे तो हमारी वैल्यू पता चल जाएगी। 

उन्होंने कहा कि जब तक लोगों पर बीतती नहीं है उन्हें अच्छे-बुरे का पता नहीं चलता, कुछ दिन में लोगों को पता चल जाएगा कि क्या अच्छा है और क्या बुरा।

जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में पंजाब चुनावों में सिरोमणि अकाली दल और बीजेपी गठबंधन को हार का सामना करना पड़ा, पंजाबियों ने सत्ता परिवर्तन करते हुए बहुमत के साथ कांग्रेस की सरकार बनायी है, कांग्रेस ने चुनाव से पहले लम्बे चौड़े वादे किये थे, हर घर में घी-दूध भिजवाने और हर घर में सरकारी नौकरी देने का वादा किया गया था, अब देखना है कि कांग्रेस अपने वादे कैसे और कब तक पूरे करती है। 

Friday, March 17, 2017

सुखबीर बादल पर धंधा करने का आरोप लगाते थे सिद्धू लेकिन अपना धंधा छोड़ने से खटाक से मना कर दिया

सुखबीर बादल पर धंधा करने का आरोप लगाते थे सिद्धू लेकिन अपना धंधा छोड़ने से खटाक से मना कर दिया

navjot-singh-sidhu-will-do-dhandha-in-night-public-work-in-day
अमृतसर, 17 मार्च: नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब में चुनाव से पहले बड़ी बड़ी बातें करते थे, पंजाब को पता नहीं क्या क्या बनाने की बात करते थे, कर्ज से मुक्त करने, आत्मनिर्भर बनाने, किसानों की दशा सुधारने, नशे से मुक्ति दिलाने आदि की बात करते थे, ऐसा लगता था कि ये पंजाब को सिंगापूर या न्यूयॉर्क बना देंगे लेकिन मंत्री बनने के बाद उनकी कलई खुल गयी है, उन्होंने साबित कर दिया है कि वे जो कहते हैं वे विल्कुल भी नहीं करते और केवल अपना स्वार्थ देखते हैं। 

आपने देखा होगा कि सुखबीर सिंह बादल पर अब तक कोई भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा है उसके बावजूद भी नवजोत सिंह सिद्धू उनके लिए पता नहीं कितने गंदे गंदे शब्द बोलते थे, उन्हें धंधेबाज बताते थे, कहते थे कि अकाली दल के लोग सरकार नहीं चला रहे हैं बल्कि धंधा कर रहे हैं और मैं इनका धंधा बंद करवाकर रहूँगा। 

यह बात सच है कि अगर कोई विधायक या सांसद चुना गया है तो उसे धंधा बंद करके जनता की सेवा पर ध्यान देना चाहिए, अगर सुखबीर सिंह बादल पंजाब के उप-मुख्यमंत्री थे तो उन्हें धंधा यानी अपना कोई बिजनेस नहीं करना था क्योंकि इससे ध्यान बंट जाता है और जनता की सेवा में कमी रह जाती है। 

सुखबीर बादल ने गलती की तो उसके लिए उन्हें सजा भी मिली, जनता ने उनकी सरकार को उखाड़कर फेंक दिया, लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू तो उनका विरोध करके विधायक और मंत्री बने हैं, अगर सिद्धू बादलों को भ्रष्टाचारी और धंधेबाज ना बताते तो ना तो कांग्रेस की सरकार बनती और ना ही सिद्धू की जीत होती। 

लेकिन यह क्या! सिद्धू तो कह रहे हैं कि वे भले ही विधायक और मंत्री बन गए हैं लेकिन अपना धंधा नहीं बंद करेंगे, वे अपना धंधा करने के लिए दिन में 3 बजे निकल जाएंगे, रात भर धंधा करेंगे और सुबह तक लोगों की नींद खुलने से पहले आ जाएंगे। 

सिद्धू को कपिल शर्मा कॉमेडी शो के लिए करोड़ों रुपये मिलते हैं, वे पिछले कई वर्षों से इस शो में ठहाके लगा रहे हैं, एक तरह से वे कपिल शर्मा के बिजनेस यानी धंधे में साझेदार है और अपना धंधा बंद नहीं करना चाहते क्योंकि उन्हें करोड़ों रुपये की कमाई होती है। 

अब कोई सिद्धू से पूछे, अगर तुम रात भर धंधा करोगे और दिन में झपकियाँ मारोगे तो काम कब करोगे, वैसे भी विधायक, सांसद और मंत्री 24 घंटे ड्यूटी पर रहते हैं, उन्हें छुट्टी नहीं मिलती, दूसरों को धंधेबाज बताने वाला आदमी खुद कैसे धंधा कर सकता है, सिद्धू को अब दो ढाई लाख रुपये की सैलरी मिलेगी, हर सुख सुविधा मिलेगी, सरकारी गाडी मिलेगी, देश में कहीं भी आने जाने का किराया मिलेगा और अगले चुनाव में हारने के बाद भी आजीवन पेंशन मिलेगी, उसके बाद भी सिद्धू कहते हैं - मैं अपना धंधा बंद नहीं करूँगा। क्या पंजाब में मलाई खाने के लिए गए हैं सिद्धू।

अब आप लोग बताइये, अगर सुखबीर सिंह धंधा करते थे तो उनका आधा ध्यान अपने धंधे पर रहता था और आधा ध्यान सरकार चलाने में रहता था, अब अगर नवजोत सिंह सिद्धू भी कॉमेडी नाईट में काम करते रहेंगे तो क्या उनका मन काम में लगेगा, उनका भी तो आधा समय शूटिंग करने, डायलाग रटने, तैयारी करने, आने जाने में लग जाएगा, अब आप बताइये, सुखबीर बादल और नवजोत सिंह सिद्धू में क्या फर्क रह जाएगा। कहते हैं जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है वह खुद भी उसी में गिरता है। नवजोत सिंह सिद्धू ने सुखबीर सिंह बादल के लिए गड्ढा खोदा और खुद उसी में गिर गए, अब सोशल मीडिया पर उनकी जमकर फजीहत हो रही है, लोगों ने उनका जोक बनाना शुरू कर दिया है।