Showing posts with label Politics. Show all posts
Showing posts with label Politics. Show all posts

Feb 18, 2018

2013 में बहुत ताकतवर थे राहुल गाँधी, नीरव मोदी से मिले और बैंक ने दे दिया 1550 करोड़ का लोन

2013 में बहुत ताकतवर थे राहुल गाँधी, नीरव मोदी से मिले और बैंक ने दे दिया 1550 करोड़ का लोन

rahul-gandhi-went-in-nirav-modi-cocktail-party-bank-release-lone

नई दिल्ली: 2013 में राहुल गाँधी ना तो कांग्रेस के अध्यक्ष थे, ना उपाध्यक्ष थे, ना कोई मंत्री थे और ना ही कोई बड़े पद पर थे, वे सिर्फ अमेठी के सांसद थे, उसके बाद भी वह बहुत ताकतवर नेता थे, उनकी ताकत का इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह 2013 में एक दिन नीरव मोदी की कॉकटेल पार्टी में गए और उसके दूसरे ही दिन इलाहाबाद बैंक ने उनके लिए 1550 करोड़ रुपये का लोन जारी कर दिया.

यह खुलासा कांग्रेस के ही पूर्व नेता शहजाद पूनावाला ने किया है, उनकी नजर में राहुल गाँधी की वजह से ही नीरव मोदी ने घोटाला किया है, राहुल और नीरव मोदी के बीच में दोस्ती थी और इसी लिए वह नीरव की ज्वेलरी शोरूम के उद्घाटन के मौके पर कॉकटेल पार्टी में गए थे, उसके दूसरे ही दिन बैंक ने उन्हें लोन जारी कर दिया.

शहजाद पूनावाला ने पीएनबी घोटाले पर 9 तथ्य रखे
  • 2006 में IT स्कैनर ने नीरव मोदी और उनके मामा, चाचा पर उंगली उठायी
  • 2011 में पीएनबी स्कैम शुरू होता है
  • 2013 में NSE ऑफ़ SEBI ने गीतांजलि कंपनी को 6 महीनें के लिए सस्पेंड किया
  • 2013 में ही उसे तीन महीनें के अंदर फिर से बहाल किया जाता है
  • 2013 में ही अगस्त में LIC जैसी बड़ी इस फ्रॉड कंपनी के साढ़े 4 फ़ीसदी का निवेश करती है, यह सब किसके इशारे पर करती है
  • फाइनेंस मिनिस्ट्री पूछती है कि इसमें निवेश क्यों हुआ लेकिन जवाब नहीं मिलता और फाइल बंद हो जाती है
  • 2013 में ही ये दिनेश दूबे जिनको प्रताड़ित किया गया, उन्होंने ईमेल के जरिये घोटाले की जानकारी दी लेकिन उन्हें प्रताड़ित करके उनके तीन साल के कार्यकाल को ख़त्म कर दिया गया.
  • 2013 में ही गोकुल नाथ सेट्टी जिसकी वजह से घोटाला हुआ, उसकी ट्रान्सफर होने वाली थी लेकिन रोक दी गयी, यह सब किसके इशारे पर हुआ
  • इसके बाद 2013 में ही राहुल गाँधी कॉकटेल पीने के लिए नीरव मोदी के पास खुद पहुँचते हैं और उसके दूसरे ही दिन 1550 करोड़ रुपये का लोन पास हो जाता है.
शहजाद पूनावाला ने खोल दिया राहुल गाँधी और नीरव मोदी के PNB घोटाले का कच्चा चिट्ठा, जरूर पढ़ें

शहजाद पूनावाला ने खोल दिया राहुल गाँधी और नीरव मोदी के PNB घोटाले का कच्चा चिट्ठा, जरूर पढ़ें

shehzad-poonavalla-exposed-rahul-gandhi-nirav-modi-pnb-scam

नई दिल्ली: शहजाद पूनावाला कई वर्षों तक कांग्रेस पार्टी में रहे हैं इसलिए कांग्रेस, नीरव मोदी और पीएनबी घोटाले के बारे में वह अन्य लोगों से अधिक जानते हैं, उन्होंने टीवी डिबेट में कांग्रेस, नीरव मोदी, राहुल गाँधी और पीएनबी घोटाले का कच्चा चिट्ठा खोकर रख दिया.

शहजाद पूनावाला ने पीएनबी घोटाले पर 7 तथ्य रखे.

  • 2006 में IT स्कैनर ने नीरव मोदी और उनके मामा, चाचा पर उंगली उठायी
  • 2011 में पीएनबी स्कैम शुरू होता है
  • 2013 में NSE ऑफ़ SEBI ने गीतांजलि कंपनी को 6 महीनें के लिए सस्पेंड किया
  • 2013 में ही उसे तीन महीनें के अंदर फिर से बहाल किया जाता है
  • 2013 में ही अगस्त में LIC जैसी बड़ी इस फ्रॉड कंपनी के साढ़े 4 फ़ीसदी का निवेश करती है, यह सब किसके इशारे पर करती है
  • फाइनेंस मिनिस्ट्री पूछती है कि इसमें निवेश क्यों हुआ लेकिन जवाब नहीं मिलता और फाइल बंद हो जाती है
  • 2013 में ही ये दिनेश दूबे जिनको प्रताड़ित किया गया, उन्होंने ईमेल के जरिये घोटाले की जानकारी दी लेकिन उन्हें प्रताड़ित करके उनके तीन साल के कार्यकाल को ख़त्म कर दिया गया.
  • 2013 में ही गोकुल नाथ सेट्टी जिसकी वजह से घोटाला हुआ, उसकी ट्रान्सफर होने वाली थी लेकिन रोक दी गयी, यह सब किसके इशारे पर हुआ
  • इसके बाद 2013 में ही राहुल गाँधी कॉकटेल पीने के लिए नीरव मोदी के पास खुद पहुँचते हैं
शहजाद पूनावाला ने यह भी बताया कि आज रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया है कि काग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी का कोई तो लेन-देन नीरव मोदी के साथ हुआ है.

शहजाद ने कहा कि मेरा राहुल गाँधी और कांग्रेस से यह सवाल है कि जब आपके कार्यकाल में इतने लाल फ्लैग आये तो आपने इस घोटाले को पहले ही ख़त्म क्यों नहीं किया, इस घोटाले को आगे क्यों बढ़ने दिया. यह भी सवाल है कि इस घोटाले के पीछे हाथ किसका है. उन्होंने यह भी कहा कि कपिल सिब्बल ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में दूसरे आरोपी मेहुल चौकसी को मेहुल भाई बोल रहे हैं, इसका मतलब है कि भाई-चारा निभाया जा रहा है.
सभी BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM MODI, इसे अपना दफ्तर समझें और हमेशा सिर्फ देश के लिए काम करें

सभी BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM MODI, इसे अपना दफ्तर समझें और हमेशा सिर्फ देश के लिए काम करें

pm-modi-inaugurates-the-new-bharatiya-janata-party-hq-in-new-delhi

नई दिल्ली: आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नई दिल्ली में बीजेपी के नए हेडक्वार्टर का उद्घाटन किया, इस दफ्तर का निर्माण मोदी सरकार बनने के एक साल बाद ही शुरू हुआ था, 2 साल में बनकर यह तैयार हुआ है, इस बिल्डिंग में पार्टी की जरूरत की सभी सुविधाएं हैं साथ ही बीजेपी आईटी सेल के लिए भी जगह है, अब से बीजेपी इसी कार्यालय से अपनी चुनावी रणनीति बनाएगी और मीडिया और देशवासियों के साथ इन्ट्रेक्शन करेगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने इस दफ्तर के उद्घाटन के मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इसे आप अपना दफ्तर समझें लेकिन यहाँ पर बैठकर सिर्फ देश के बारे में सोचें क्योंकि यह दफ्तर सिर्फ देश के लिए काम करने के लिए बना है.

मोदी ने कहा कि इस दफ्तर का निर्माण एक सपना पूरा होने जैसा है, आज करोड़ों बीजेपी कार्यकर्ताओं का सपना पूरा हुआ है, इस दफ्तर के निर्माण से कार्यकर्ताओं के बीच अपनेपन का भाव बढेगा और देश के लिए काम करने का जज्बा बढेगा. उन्होंने कहा कि आज बीजेपी कार्यकर्ताओं की संख्या 12 करोड़ से ऊपर पहुँच चुकी है, यह दफ्तर हमारी और आपकी कर्मभूमि है.

इस अवसर पर पूर्व उप-प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवानी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सीनियर नेता मुरली मनोहर जोशी सहित बीजेपी के सभी बड़े नेता मौजूद थे. अब से बीजेपी के दफ्तर का नया एड्रेस 6A, दीन दयाल मार्ग, नई दिल्ली होगा.
कपिल मिश्रा ने बतायी केजरीवाल और घोटालेबाज नीरव मोदी के अन्दर की बात, पढ़ें

कपिल मिश्रा ने बतायी केजरीवाल और घोटालेबाज नीरव मोदी के अन्दर की बात, पढ़ें

kapil-mishra-exposed-arvind-kejriawal-and-nirav-modi-link-pnb-scam

नई दिल्ली: इस समय नीरव मोदी के पीएनबी बैंक घोटाले की देश में सबसे अधिक चर्चा है, हर कोई जानता है कि यह घोटाला पूर्व कांग्रेस सरकार में हुआ था लेकिन इसकी जांच मोदी सरकार के समय हुई हैं कांग्रेस और अन्य विरोधी पार्टियाँ बीजेपी सरकार पर ही इसका आरोप लगा रही हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी इस घोटाले पर रोजाना प्रतिक्रिया दे रहे हैं और मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं लेकिन आज उनके ही पूर्व साथी और दिल्ली के विधायक कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और नीरव मोदी के बीच अन्दर की बात का खुलासा किया है.

कपिल मिश्रा ने एक ट्वीट में कहा है कि - #PNBScam में बेनामी कम्पनी के डायरेक्टर Hemprakash Sharma ने AAP को 5 April 2014 को चंदा दिया. उस समय के FM Chidambaram आज केजरीवाल सरकार के वकील. AAP द्वारा उस समय के RBI Head Raghuram Rajan को RS की पेशकश और Nobel Prize देने की वकालत.

Feb 17, 2018

5000 करोड़ के घोटाले के आरोपी से मिला रहे हैं हाथ, यह फोटो भविष्य में मोदी को कर सकती है बदनाम

5000 करोड़ के घोटाले के आरोपी से मिला रहे हैं हाथ, यह फोटो भविष्य में मोदी को कर सकती है बदनाम

pm-narendra-modi-hand-shake-with-rahul-gandhi-rs-5000-crore-scam

नई दिल्ली: आजकल कब कौन घोटालेबाज निकल जाए किसी को पता नहीं चलता, कल तक नीरव मोदी बड़ा बिजनेसमैन समझा जाता था, बड़े बड़े नेता उसके साथ खड़े होने में अपनी सान समझते थे और उसकी पार्टियों में जाते थे लेकिन वह अचानक घोटालेबाज निकल गया तो उसके साथ हाथ मिलाने वाले और पार्टियों में जाने वालों की भी बदनामी होने लगी.

नीरव मोदी दाओस भी पहुँच गया और मोदी के साथ CEO की ग्रुप फोटो में खड़ा हो गया, बाद में इसी फोटो को दिखाकर कांग्रेस ने मोदी को बदनाम करना शुरू कर दिया.

अब कुछ लोग राहुल गाँधी और मोदी की हाथ मिलाते हुए फोटो शेयर कर रहे हैं, लोगों का कहना है कि मोदी को 5000 करोड़ रुपये के घोटाले के आरोपी से हाथ नहीं मिलाना चाहिए, कल यह फोटो भी उनके लिए परेशानी का सबब बन सकती है, अगर राहुल गाँधी घोटाले में दोषी पाए गए तो यह फोटो वायरल करके लोग फिर से मोदी और बीजेपी को बदनाम करने लगेंगे.