Showing posts with label Politics. Show all posts
Showing posts with label Politics. Show all posts

Nov 23, 2017

मीडिया की झूठी अफवाहों में ना आयें, मोदी सरकार नहीं कर रही चेक-बंदी, सरकार ने खुद बताया

मीडिया की झूठी अफवाहों में ना आयें, मोदी सरकार नहीं कर रही चेक-बंदी, सरकार ने खुद बताया

media-fake-news-about-cheque-bandi-against-modi-sarkar-exposed

गुजरात चुनाव में बीजेपी को नुकसान पहुंचाने के लिए कुछ मीडिया चैनल मोदी सरकार के बारे में गलत अफवाह फैला रहे हैं कि मोदी सरकार नोटबंदी के बाद जल्द ही चेकबंदी करने वाली है, अब चेक से फंड का आदान प्रदान बंद होने वाला है. ऐसी ख़बरें फैलाकर मीडिया चैनल मोदी सरकार के बारे में यह सन्देश देना चाहते हैं कि अब सिर्फ ऑनलाइन या मोबाइल के जरिये ही पैसों का लेन-देन होगा, मीडिया वाले सोच रहे हैं कि गरीब और कम पढ़े लिखे लोगों में मोदी सरकार के खिलाफ दहशत फ़ैल जाए क्योंकि ऐसे लोग अधकतर चेक से ही लेन-देन करते हैं.

आज मोदी सरकार ने खुद ही बताया कि - मीडिया के एक वर्ग में इस आशय की खबरें आ रही हैं कि केन्द्र सरकार डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से निकट भविष्य में बैंक चेकबुक सुविधा वापस ले सकती है। हालांकि, इस बात से इन्कार किया जाता है कि बैंक चेकबुक सुविधा वापस लेने का कोई भी प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन है।

इस संबंध में इस बात पर विशेष जोर दिया जाता है कि वैसे तो सरकार भारत को ‘लेस कैश‘ अर्थव्यवस्था में तब्दील करने और डिजिटल तथा इलेक्ट्रॉनिक लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन चेक वास्तव में धनराशि भुगतान परिदृश्य का अभिन्न अंग है और इसके साथ ही यह व्यापार एवं वाणिज्य की रीढ़ है।
रोहित सरदाना के ट्वीट ने मचाया बवाल, पूरी दुनिया के जिहादी और कट्टरपंथी पड़े जान के पीछे, पढ़ें

रोहित सरदाना के ट्वीट ने मचाया बवाल, पूरी दुनिया के जिहादी और कट्टरपंथी पड़े जान के पीछे, पढ़ें

aaj-tak-journalist-rohit-sardana-threatened-by-jihadi-elements-world

नई दिल्ली: आज तक न्यूज़ चैनल के पत्रकार रोहित सरदाना के एक ट्वीट ने बवाल मचा दिया है, कहते हैं कि भारत में अभिव्यक्ति की आजादी है लेकिन रोहित सरदाना को ट्विटर पर अपनी अभिव्यक्ति की आजादी दिखाना मंहगा पडा है, उन्हें देश और विदेश से लाखों जिहादी लोग फोन पर धमकियाँ दे रहे हैं, उन्हें और उनके परिवार को ख़त्म करने की बात कर रहे हैं.

आपको बता दें कि रोहित सरदाना ने 16 नवम्बर को एक ट्वीट में कहा था कि - अभिव्यक्ति की आजादी, फिल्मों के नाम सेक्सी दुर्गा, सेक्सी राधा रखने में ही है क्या, क्या आपने सेक्सी फातिमा, सेक्सी आएशा या सेक्सी मेरी जैसी नाम सुने हैं फिल्मों के.

rohit-sardana-controversial-tweet

रोहित सरदाना के इस ट्वीट से मुस्लिम कट्टरपंथी बौखलाए हुए हैं, दिन रात रोहित सरदाना को देश और विदेश से धमकियाँ मिल रही हैं, रोहित सरदाना धमकी वाले नंबरों का स्क्रीनशॉट लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस के पास भेज रहे हैं, अब तक उन्हें सैकड़ों फोन कॉल्स और ऑडियो मैसेज आ चुके हैं.



BCCI ने अपनी प्रतिष्ठा गँवा दी है, मुझे हटाकर बोर्ड का और नुकसान हुआ है: अनुराग ठाकुर

BCCI ने अपनी प्रतिष्ठा गँवा दी है, मुझे हटाकर बोर्ड का और नुकसान हुआ है: अनुराग ठाकुर

anurag-thakur-told-bcci-lost-its-reputation-and-earning-also

पिछले साल इस महीनें तक अनुराग ठाकुर BCCI के अध्यक्ष थे, सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था, भारतीय टीम सभी फोर्मेट में नंबर वन पर थी लेकिन अचानक सुप्रीम कोर्ट ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें ना मानने का हवाला देकर अनुराग ठाकुर को BCCI अध्यक्ष पद से हटाकर BCCI को अपने कब्जे में ले लिया और BCCI पर शासन चलाने के लिए चार सदस्यों की एक कमेटी (कमेटी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेटर CoA) बना दी. अनुराग ठाकुर के अलावा BCCI सचिव अजय शिर्के को भी बर्खास्त कर दिया गया.

पिछले एक साल से BCCI सुप्रीम कोर्ट के कब्जे में है, अनुराग ठाकुर ने लोढ़ा कमेटी की 90 फ़ीसदी सिफारिशे मान ली थीं लेकिन बाद में जो कमेटी आयी उसनें बची हुई 10 फ़ीसदी शर्तें नहीं मानी जबकि इन्हीं शर्तों को ना मानने की वजह से अनुराग ठाकुर को बर्खास्त कर दिया गया था.

अनुराग ठाकुर ने कल सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित कमेटी पर हमला बोलते हुए कहा कि इनके शासन में BCCI ने अपनी प्रतिष्ठा गँवा दी है, अब BCCI ना तो पैसे कमा पा रही है और ना ही इन्होने लोढ़ा कमेटी की शर्तें मानी हैं, जब इन्हें शर्तें नहीं माननी थीं तो हमें क्यों हटाया गया.

अनुराग ठाकुर ने कहा कि यह वह BCCI नहीं है जो एक साल पहले हुआ करती थी, अब बोर्ड ने अपनी प्रतिष्ठा गँवा दी है, अब हमें देखना चाहिए कि हम लोगों को हटाकर BCCI को क्या मिला है, उन्होंने कुछ सफलता पायी है या गंवाया है. हमने 1 अक्टूबर 2016 तक लोढ़ा कमेटी की 90 फ़ीसदी शर्तें मान ली थीं लेकिन 11 महीनों में इन्होने बची हुई 10 सिफारिशें क्यों नहीं मानीं.

Nov 22, 2017

गरीब ने लिखा मोदीजी को पत्र, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

गरीब ने लिखा मोदीजी को पत्र, सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

poor-man-wrote-letter-to-modiji-become-viral-on-social-media

नयी दिल्ली: एक गरीब आदमी ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा है जिसमें अपना दुखड़ा रोया है और बताया है कि प्राइवेट कंपनियों में मजदूरों का क्या हाल है, किस प्रकार से अत्याकर किया जाता है और थोड़ी सैलरी देकर उन्हें घर भेज दिया जाता है, गरीब आदमी ने मोदी से कोई जतन करके सैलरी बढाने की मांग की है ताकि वह भी पेट भरकर खाना खा सकें, घर खरीद सकें और चैन की नींद सो सकें.

चिट्ठी में लिखा है - मोदीजी, सविनय निवेदन है कि कोई भी प्राइवेट कंपनी, प्राइवेट स्कूल या प्राइवेट शॉप में जॉब करने पर हमें 6000 से 8000 रुपये हर महीनें मिलते हैं और बदले में हमसे 10 से 12 घंटे काम कराते हैं. 

उसनें बताया कि सरकारी दफ्तरों में चपरासी हर महीनें 40000 से 45000 रुपये सैलरी पाते हैं और सिर्फ 8 घंटे ड्यूटी करनी पड़ती है, मोदी जी हम ये नहीं चाहते कि हमें 8 घंटे की ड्यूटी दो, आप हमें 12 घंटे की ही ड्यूटी दो लेकिन हमें इतनी इनकम दो ताकि हमारे 2 बच्चे स्कूलों में पढ़ सकें, हम भी दो टाइम पेट भरकर खाना खा सकें, परिवार में अगर कोई बीमार हो तो उसकी दवाई खरीद सकें, हम भी 10 साल जॉब करके घर खरीद सकें, एक सरकारी नौकरी वाला चपरासी सिर्फ पांच साल में घर खरीद लेता है लेकिन हम ऐसा नहीं कर पाते. सिर्फ 8000 रुपये में ये सब कैसे हो सकता है.

माननीय मोदी जी, आपने अनुरोध है कि प्राइवेट संस्थाओं के वर्करों पर थोडा ध्यान दें, उन्हें 6000 नहीं 20000 से 25000 तक सैलरी मिले ताकि उनके परिवार का गुजारा हो जाए, आपकी अति कृपा होगी. धन्यवाद, आपका गरीब नागरिक.

poor-man-letter-to-modi-ji
फ्लाइट हुई लेट तो एयरपोर्ट पर भड़क गयी युवती, दिखाया ऐसा क्रोध, उड़ गए मंत्री अल्फांस के होश

फ्लाइट हुई लेट तो एयरपोर्ट पर भड़क गयी युवती, दिखाया ऐसा क्रोध, उड़ गए मंत्री अल्फांस के होश

women-passenger-get-angry-seeing-minister-alphons-after-flight-late

इंफाल एयरपोर्ट पर फ्लाइट लेट होने से एक महिला यात्री केंद्रीय मंत्री को देखकर भड़क गयी और मंत्री जी के सामने अफसरों को ऐसी डांट पिलायी कि मंत्री जी के होश उड़ दये, दरअसल महिला एक डॉक्टर बतायी जा रही है, पटना में उसके भाई का निधन हुआ था और उसे भाई के अंतिम संस्कार में शामिल होना था लेकिन फ्लाइट दो घंटे देर हो गयी.

महिला को किसी ने बता दिया कि केंद्रीय टूरिज्म राज्य मंत्री केजे अल्फांस की वजह से फ्लाइट देर हो गयी है. उसके बाद मंत्रीजी जैसे ही फ्लाइट के बाहर आये महिला उनपर भड़क गयी और उन्हें अपनी परेशानी बतायी, महिला ने कहा कि आप लोगों की वजह से मेरे फ्लाइट दो घंटे लेट हो गयी, पटना में मेरे भाई का निधन हुआ है, मेरे परिवार वाले मेरा इन्तजार कर रहे हैं लेकिन मैं यहाँ पर अटकी पड़ी हुईं और वो भी आप लोगों की वजह से.

बात दरअसल यह थी कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मणिपुर के दौरे पर हैं, इम्फाल में उनका भी प्लेन लैंड करने वाला था, प्रोटोकॉल के मुताबिल जब तक राष्ट्रपति का प्लेन शकुशल लैंड नहीं हो जाता तब तक कोई भी फ्लाइट उड़ान नहीं भर सकती, इसी वजह से महिला की फ्लाइट 2 घंटे लेट हो गयी लेकिन इसका गुस्सा राज्य मंत्री अल्फांस को झेलना पडा.

महिला इस वजह से भी अधिक गुस्से में थी क्योंकि उनके भाई की मौत हो गयी थी, पटना में उसके अंतिम संस्कार की तैयारी चल रही थी, महिला को अंतिम बार अपने भाई को देखना था लेकिन फ्लाइट लेट होने से उसका आपा खो गया.

बाद में टूरिज्म मंत्री केजे अल्फांस ने बताया कि महिला को गुस्से में देखकर वह उसके पास गए थे, उसकी फ्लाइट उनकी वजह से नहीं लेट हुई थी बल्कि राष्ट्रपति के प्रोटोकॉल की वजह से हुई थी, उन्होंने महिला को समझाने की कोशिश की थी लेकिन वह अधिक गुस्से में थी.
ये लोग मुंह में चांदी का चम्मच लेकर पैदा हुए हैं इसलिए उड़ा रहे हैं मोदीजी का मजाक: अनिल विज

ये लोग मुंह में चांदी का चम्मच लेकर पैदा हुए हैं इसलिए उड़ा रहे हैं मोदीजी का मजाक: अनिल विज

minister-anil-vij-slammed-congress-party-for-insulting-modi-by-tweet

नई दिल्ली: गुजरात चुनाव से पहले जारी घमासान के बीच गुजरात युवा कांग्रेस के एक ट्वीट ने विवाद को जन्म दे दिया है। यूथ कांग्रेस के ट्विटर हैंडल पर जारी एक पोस्टर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चायवाला बताकर उनका मजाक बनाया गया जिसका भाजपा ने कड़े शब्दों ने विरोध किया। 

अब इस पोस्ट को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा जा रहा है। हरियाणा के स्वास्थय मंत्री अनिल विज भी कांग्रेस के खिलाफ मैदान में उतर चुके हैं। अनिल विज ने ट्वीट किया है कि - देश को इस बात पर गर्व है कि नरेंद्र मोदी जो बचपन में चाय बेचते थे, वह ऊपर उठकर देश के प्रधान मंत्री बने. मोदी जी आप आदमी की मुश्किलों से वाकिफ हैं इसीलिए उनका हल भी कर रहे हैं। जो चांदी का चम्मच मुहँ में लेकर पैदा हुए वह क्या जाने गरीबी क्या होती है। अनिल विज का इशारा राहुल गाँधी की तरफ था जो पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी के बेटे हैं और कांग्रेस पार्टी इसी वजह से उन्हें प्रधानमंत्री पद का दावेदार बनाना चाहती है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गुजरात युवा कांग्रेस ने कल अपने ट्विटर हैंडल पर यह ट्वीट किया था जिसमें मोदी को चायवाला बताकर उनका अपमान करने की कोशिश की गयी थी.

gujarat-yuva-congress-tweet
केंद्रीय मंत्री गुर्जर ने कांग्रेस को जमकर लगायी फटकार, बोले, मोदीजी का अपमान करके अच्छा नहीं किया

केंद्रीय मंत्री गुर्जर ने कांग्रेस को जमकर लगायी फटकार, बोले, मोदीजी का अपमान करके अच्छा नहीं किया

krishan-pal-gurjar-slammed-congress-for-insulting-pm-narendra-modi

फरीदाबाद के सांसद और मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने मोदी के लिए अपमानजनक ट्वीट के लिए कांग्रेस पार्टी को जमकर फटकार लगाई है.

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने आज एक ट्वीट किया है जिसमे उन्होंने लिखा है कि पहले शशि थरूर द्वारा भारत का गौरव बढ़ाने वाली मानुषी छिल्लर का अपमान और अब कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ‘युवा देश’ द्वारा ज़मीन से उठ कर प्रधान मंत्री बने नरेंद्र मोदी जी का अपमान। सभ्रांतवादी कांग्रेस अपनी वंशपरंपरा में इतनी मदमस्त है कि बुनियादी शिष्टाचार भूल चुकी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कल गुजरात युवा कांग्रेस की ऑनलाइन मैगजीन युवा देश ने प्रधानमंत्री मोदी के लिए बहुत ही अपमानजनक ट्वीट किया जिसमें मोदी को चायवाला बताकर नीचा दिखाने की कोशिश की गयी.

modi-meme-tweet-congress
खुशखबरी, सुखोई प्लेन ने हवा, जमीन के बाद जल से भी ब्रह्मोस मिसाइल दागकर बनाया विश्व रिकॉर्ड

खुशखबरी, सुखोई प्लेन ने हवा, जमीन के बाद जल से भी ब्रह्मोस मिसाइल दागकर बनाया विश्व रिकॉर्ड

sukhoi-fighter-plane-successfully-test-fire-supersonic-cruise-missile-triad

भारतीयों के लिए आज फिर से गर्व करने का दिन है क्योंकि सुखोई लड़ाकू विमान ने समुंदर से ब्रह्मोस मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है, पहली बार सुखोई विमान ने समुन्द्र ने निशाने को मार गिराया गया है, इससे पहले हवा और जमीन से सुखोई विमान का परीक्षण किया जा चुका है जो सफल रहा है, अब सुखोई विमान से हवा, पानी और जमीन तीनों जगह से मार की जा सकती है.

जैसे ही मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने DRDO और ब्रह्मोस मिसाइल बनाने वाली टीम को बधाई दी. उन्होंने कहा कि आज सुखोई विमान ने जल से भी ब्रम्होस मिसाइल से लक्ष्य को गिराकर भारत ने विश्व रिकॉर्ड बनाया है.

raksha-mantri-nirmala-sitharaman-latest-news-in-hindi

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फायर की जाने वाली मिसाइल का वजन 2.5 टन था. यह दुनिया में सबसे वजनी मिसाइल थी जिसे सुखोई 30 MKI विमान पर लोड किया गया और दूसरी मिसाइल को इससे मार गिराया गया. आपकी जानकारी के लिए बता दें सुखोई विमान को भारत की DRDO और रूसी कंपनी NPOM ने एक साथ मिलकर बनायी है.
महागलती का अहसास होते ही कांग्रेस ने मांग ली मोदी से माफी

महागलती का अहसास होते ही कांग्रेस ने मांग ली मोदी से माफी

congress-condemn-yuva-desh-tweet-for-insulting-pm-modi-chay-wala

अहमदाबाद: कांग्रेस ने अपनी महागलती का अहसास होने के कुछ ही देर बाद मोदी से माफी मांग ली, बात दरअसल ये थी कि मंगलवार को भारतीय युवा कांग्रेस की ऑनलाइन पत्रिका युवा देश ने प्रधानमंत्री को चाय वाला बोलकर उनका मजाक उड़ाने की कोशिश की थी.

yuva-desh-insulted-pm-modi-chaay-wala

इस ट्वीट के बाद कांग्रेस पार्टी की चौतरफा निंदा होने लगी, राहुल गाँधी को पहले ही पता था कि मोदी का अपमान कांग्रेस के लिए भारी साबित हो सकता है इसलिए उन्होंने पहले ही अपने कार्यकर्ताओं को मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पड़ी करने से रोका था लेकिन युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता नहीं माने और मोदी के खिलाफ अपमानजनक ट्वीट कर ही दिया.

कांग्रेस ने कुछ ही घंटे बाद बाद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक ट्वीट की निंदा की और माफी मांगी लेकिन बीजेपी नेताओं ने कांग्रेस को करारा जवाब देते हुए कहा कि मोदी का अपमान कांग्रेस को मंहगा पड़ेगा और यह सिर्फ मोदी का अपमान नहीं है बल्कि चाय बेचने वाले करोड़ों गरीबों का अपमान है.

Nov 21, 2017

कहीं दीपिका पादुकोण की नाक ना काट ले जाएं राजपूत इसलिए पुलिस ने घर के बाहर बढ़ाया पहरा

कहीं दीपिका पादुकोण की नाक ना काट ले जाएं राजपूत इसलिए पुलिस ने घर के बाहर बढ़ाया पहरा

police-alert-to-save-padmavati-deepika-padukone-naak-from-rajput

मुंबई: पद्मावती फिल्म में महारानी पद्मावती का रोल करके ठुमके लगाने वाली दीपिका पादुकोण से पूरा राजपूत समाज नाराज है, कुछ दिन पहले एक बड़े राजपूत नेता मकराना ने दीपिका पादुकोण की नाक काटने की धमकी दी थी, उन्होंने कहा था कि हम महिलाओं पर हाथ नहीं उठाते लेकिन लक्ष्मण ने जिस प्रकार से सूर्पनखा की नाक काटी थी, वही कदम हम भी उठा सकते हैं.

यही सोचकर पुलिस वाले भी परेशान हैं, प्रशासन सोच में पड़ गयी है, राजपूतों की नाराजगी देखकर प्रशासन सोच रहा है कि कहीं सच में दीपिका पादुकोण की नाक ना काट ली जाय, अगर ऐसा हुआ तो पुलिस की भी नाक कट जाएगी, इसलिए बेंगलुरु में दीपिका पादुकोण के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है, पुलिस वालों को पहरे पर बिठा दिया गया है.

इसके अलावा भाजपा नेता सूरजपाल अम्मू अपने बयान पर कायम हैं और अब उन्होंने बयान दिया है कि यदि जावेद अख्तर नहीं सुधरते हैं तो उन्हें जूतों की माला पहनाएंगे, यही नहीं एक टीवी चैनल पर उन्होंने फिर दोहराया कि फिल्म की हीरोइन दीपिका पादुकोण और निर्माता संजय लीला भंसाली का सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा. 

उन्होंने फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी का रोल करने वाले रणवीर सिंह के पैर तोड़ने की धमकी भी दी। उधर कई संगठनों ने दीपिका की नाक काटने की धमकी पहले से दी है जिसे देखते हुए दीपिका के घर बेंगलुरु में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। उनके घर के सामने रात दिन जवान तैनात हैं। 
बेरोजगारों को मोदी सरकार ने कमाई करने का दिया सुनहरा मौका, गाड़ियों की फोटो खींचो और पैसा कमाओ

बेरोजगारों को मोदी सरकार ने कमाई करने का दिया सुनहरा मौका, गाड़ियों की फोटो खींचो और पैसा कमाओ

nitin-gadkari-told-send-photo-illegal-car-parking-earn-commission

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने बेरोजगारों को कमाई का एक बड़ा मौका दिया है। इस काम में ज्यादा मेहनत नहीं करने पड़ेंगे बस कुछ कार पार्किग वाले अड्डों पर जाना पड़ेगा और जो कार ठीक से पार्किंग नहीं की गईं हैं उनकी तस्वीर खींच सम्बंधित विभाग या पुलिस के पास भेजना पड़ेगा। 

कार मालिकों पर जुर्माना लगाया जाएगा और आपको उस जुर्माने का दस फीसदी कमीशन मिल जाएगा। अगर आपको दिन भर में दस कारों की तस्वीरें मिल गईं तो कम से कम आपको 500 रूपये मिल जाएंगे। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कल देश के लोगों से अपील की कि अगर कोई पार्किंग के नियम तोड़ कर गलत जगह पर अपनी कार खड़ी करता है तो उसकी तस्वीर खींचकर संबंधित अधिकारियों या प्राधिकरणों को भेजें. इसके आधार पर संबंधित वाहन मालिक से लिए जाने वाले जुर्माने का 10 प्रतिशत इनाम फोटो भेजने वाले व्यक्ति को मिल जायेगा।

उन्होंने कहा कि मोटर वाहन अधिनियम में, मैं एक नया प्रावधान जोड़ने जा रहा हूं. इसके तहत सड़क पर कोई भी गाड़ी खड़ी हो, तो सिर्फ मोबाइल से उसकी तस्वीर खींचकर संबंधित विभाग या पुलिस को भेजनी होगी। उसके आधार पर वाहन मालिक पर 500 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा और इसकी 10 प्रतिशत राशि शिकायतकर्ता को जाएगी।

Nov 20, 2017

एक और खुशखबरी, मोदी सरकार बनी दुनिया की तीसरी सबसे भरोसेमंद सरकार, एक्शन वाले PM का कमाल

एक और खुशखबरी, मोदी सरकार बनी दुनिया की तीसरी सबसे भरोसेमंद सरकार, एक्शन वाले PM का कमाल

modi-sarkar-become-world-third-most-trusted-government-73-parcent

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कामों की वजह से भारतीयों को एक बार फिर से गर्व करने का मौका मिला है, दुनिया के कई देशों में सरकारों पर से लोगों का भरोसा कम हो रहा है लेकिन मोदी सरकार पर भारतीयों का भरोसा बढ़ता जा रहा है, जी हाँ, मोदी सरकार दुनिया की तीसरी सबसे भरोसेमंद सरकार बन गयी है.

अंतर्राष्ट्रीय संस्था OECD ने दुनिया की भरोसेमंद सरकारों का सर्वे किया जिसमें भारत को तीसरा स्थान हासिल हुआ, भारत के 73 फ़ीसदी लोग मोदी सरकार पर भरोसा करते हैं जबकि 27 फ़ीसदी लोग उनपर भरोसा नहीं करते, हो सकता है कि ये कांग्रेसी या अन्य पार्टियों के लोग हों.

भारत से ऊपर सिर्फ स्विट्जरलैंड और इंडोनेशिया की सरकारें हैं, स्विट्जरलैंड सरकार पर वहां की 82 फ़ीसदी जनता भरोसा करती है जबकि इंडोनेशिया की सरकार पर वहां की 82 फ़ीसदी जनता भरोसा करती है, तीसरे नंबर पर 73 फ़ीसदी के साथ भारत है.

मोदी सरकार पर जब जनता के भरोसे का कारण पूछा गया तो लोगों ने उनके एक्शन की वजह बतायी, मोदी सरकार जिस तरह से भरष्टाचार, कालाधन और घोटालों के खिलाफ कार्यवाही कर रही है उससे जनता का भरोसा बढ़ता जा रहा है. मोदी सरकार सर्जिकल स्ट्राइक करके दुश्मनों को भी करारा जवाब देती है, नोटबंदी करके सारा कालाधन समाप्त कर दिया और GST लागू करके टैक्स चोरी ख़त्म करवा दी, देश के लोगों को लगता है कि अगर इस देश को कोई सुधार पाएगा तो सिर्फ मोदी, वरना कोई नहीं, क्योंकि भारत के सिस्टम में बीमारी बहुत अन्दर तक घुस गयी है और इस बीमारी का इलाज मोदी बहुत अच्छी तरह से कर रहे हैं.
संबित पात्रा बोले, जब राहुल गाँधी बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष तो पोलिंग-काउंटिंग की नौटंकी क्यों

संबित पात्रा बोले, जब राहुल गाँधी बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष तो पोलिंग-काउंटिंग की नौटंकी क्यों

sambit-patra-make-fun-of-rahul-gandhi-appointment-congress-president

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी का फिर से मजाक बनाया है, दरअसल सुबह से ही ख़बरें आ रही हैं कि 19 दिसम्बर को राहुल गाँधी कांग्रेस के अध्यक्ष बन जाएंगे. हालाँकि यह भी खबरे आ रही हैं कि 5 दिसम्बर को चुनाव का ऐलान होगा, 13 दिसम्बर को पोलिंग होगी और 19 दिसम्बर को चुनाव के नतीजे घोषित किये जाएंगे.

संबित पात्रा ने ऐसी ख़बरें सुनकर कांग्रेस का मजाक उड़ाते हुए कहा कि जब युवराज की ताजपोशी तय है, जब कांग्रेसियों ने एक ही परिवार को वोट देने का फैसला तय करके रखा है तो इन्टरनल पोल की जरूरत क्या है.

rahul-gandhi-congress-president

Nov 19, 2017

BJP नेता बोले, छोड़ दूंगा BJP, समाज की बेइज्जती मंजूर नहीं, भंसाली का सर लाने वाले को 10 करोड़

BJP नेता बोले, छोड़ दूंगा BJP, समाज की बेइज्जती मंजूर नहीं, भंसाली का सर लाने वाले को 10 करोड़

bjp-haryana-media-chief-suraj-pal-amu-price-10-crore-bhansali-head

भंसाली के लिए बुरी खबर है क्योंकि अब उनके सर की कीमत 5 करोड़ से बढ़कर 10 करोड़ हो गयी है, उसपर पहले मेरठ के एक राजपूत नेता अभिषेक सोम ने 5 करोड़ रुपये का ईनाम रखा था लेकिन अब हरियाणा के BJP नेता और BJP IT सेल के चीफ मीडिया कोऑर्डिनेटर सूरज पाल अमु ने 10 करोड़ का ईनाम रख दिया है साथ ही सर काटने वाले व्यक्ति के परिवार का भी पूरा ख्याल रखा जाएगा.

सूरज पाल ने पार्टी छोड़ने का संकेत देते हुए कहा कि मैं पद के लालच में चुप नहीं बैठूँगा, अगर बीजेपी से जाना पडा तो जाऊँगा लेकिन पद्मावती फिल्म को किसी भी सूरत में रिलीज नहीं होने दूंगा.

उन्होंने मोदी से कहा - मोदी जी आपको बोलना तो पड़ेगा, मैं भाजपा का प्रवक्ता हूँ, हरियाणा राज्य का मीडिया कोऑर्डिनेटर हूँ, लेकिन अगर मुझे भाजपा से त्यागपत्र देना पड़ा तो मैं दूंगा लेकिन मोदी जी आपको बोलना पड़ेगा, राजनाथ सिंह जी बोलना पड़ेगा, गडकरी जी बोलना पड़ेगा.

उन्होंने वसुंधरा जारे को भी सन्देश देते हुए कहा - वो कहती हैं कि फिल्म के अन्दर काट छांट करनी पड़ेगी, अरे वसुंधरा जी, काट छांट तो छोड़ो, हम इस फिल्म को चलने ही नहीं देंगे, आप भी महारानी हो, पहली बार हिंदुस्तान के राजघरानों की महारानियाँ सड़कों पर तलवारों को लेकर आयी हैं, आज हमारी बहन बेटियां सड़कों पर आयी हैं, हमारे साथ में महारानी बैठी हैं, ऐसे ऐसे लोग बैठे हैं, जिनको हम कहानियों में सुना करते थे, लेकिन हमारे राजाओं के ऊपर, हमारी रियासतों के ऊपर कोई अपशब्द बोलेगा तो तो बर्दास्त नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि - आप संख्या बल पर मत जाना, यहाँ पर तमिलनाडु, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, अनेकों अनेक प्रदेश के लोग मौजूद हैं, आज पूरा हिंदुस्तान जल रहा है, परन्तु बहनों भाइयों बोलना तो पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि - वोट लेने के लिए राजपूत, मुसलमानों की ऐसी तैसी करने के लिए राजपूत, वोट लेने के बाद अपमान कराने के लिए राजपूत, बोलना तो पड़ेगा मोदी जी, बोलना तो पड़ेगा, गुजरात का चुनाव है, हम आपको वोट दिलाना चाहते हैं, लेकिन शर्त ये है कि आर्टिकल 5 के तहत आप अपनी पॉवर का इस्तेमाल करते हुए इस फिल्म को कूड़े कचरे में डाल दें तो फिल्म चलेगी ही नहीं.
राजपूत नेता से बोले पाकिस्तानी आतंकवादी, भंसाली का विरोध बंद कर दो वरना बम से उड़ा देंगे

राजपूत नेता से बोले पाकिस्तानी आतंकवादी, भंसाली का विरोध बंद कर दो वरना बम से उड़ा देंगे

pakistani-terrorists-threaten-rajput-leaders-for-protest-against-bhansali

जयपुर: संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ के विरोध करने वालों को अब पाकिस्तान से भी धमकी दी गई है। प्रर्दशन कर रहे करणी सेना के राजस्थान चीफ महिपाल सिंह मकराना को कथित तौर पर पाकिस्तान से फोन पर धमकी दी गई है, फोन पर कहा गया कि वो करणी सेना प्रमुख लोकेंद्र सिंह कलवी की हत्या कर देंगे। फोन पर उनसे कहा गया कि मैं पद्मावती के खिलाफ अपना विरोध बंद कर दूं।’

मकराना के अनुसार कराची से आए फोन से 1993 जैसे धमाके कराने की भी धमकी दी गई। कथित फोन के बाद मकराना का कहना है कि हमने पहले ही कहा था पद्मावती निर्माण के लिए आंतकी संगठनों से पैसा मिला है। ED और CBI द्वारा इसके जांच की जाने चाहिए। 

उधर करणी सेना चीफ लोकेन्द्र सिंह कलवी ने कहा है कि दीपिका पादुकोण किस हैसियत से हमें चैलेन्ज कर रही है कि फिल्म रिलीज होकर रहेगी। क्या उसनें संजय लीला भंसाली की नाक नहीं काट दी? सैकड़ों करोड़ रुपये भंसाली के नहीं लगे हैं, वो सब मिडिल ईस्ट से आये हैं, दाऊद के पैसे लगे हैं.
बड़े बाप की औलाद नहीं हूँ, हराम का नहीं खाया, खून नहीं किया, इसलिए नेता नही बन सकता: पूनावाला

बड़े बाप की औलाद नहीं हूँ, हराम का नहीं खाया, खून नहीं किया, इसलिए नेता नही बन सकता: पूनावाला

shahzad-poonawalla-told-what-need-to-be-done-to-become-a-leader

अगर आपको नेता बनना है तो आपको किसी का खून करना पड़ेगा, हराम का पैसा कमाना पड़ेगा, दंगे कराने पड़ेंगे और किसी बड़े बाप की औलाद होंना पड़ेगा, यह हम नहीं कह रहे हैं, यह बात कांग्रेस के शहजादे शहजाद पूनावाला का कहना है.

कल ट्विटर पर एक आदमी ने पूनावाला को कहा कि तुम नेता नहीं बन सकते, उसके ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए शहजाद पूनावाला ने कहा - बिलकुल सही कहा, नेता नहीं बन सकता, ना किसी का खून किया, ना हराम का पैसा कमाया, ना देंगे करवाए और ना ही किसी बड़े बाप की औलाद हूँ, इसलिए अपनी हैसियत जानता हूँ, कार्यकर्ता ही हूँ.

shehzad-poonawala-latest-news-in-hindi

शहजाद पूनावाला का यह ट्वीट देखकर लोग उनका और कांग्रेस पार्टी का मजाक उड़ाने लगे, आप नेता कपिल मिश्रा ने कहा - एक ही सेंटेंस में कांग्रेस के सारे बड़े बड़े नेताओं की पोल खोल दी, शाहजाद भाई, आप पर गर्व है.
kapil-mishra-make-fun-of-shehzad-poonawala
अन्य लोगों ने भी कांग्रेस पार्टी और शहजाद पूनावाला का जमकर मजाक उड़ाया, एक ने कहा - अच्छा तो नेता बनने के लिए खून करना पड़ता है, हराम का पैसा कमाना पड़ता है, तभी कांग्रेस में दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, कपिल सिब्बल, राहुल गाँधी जैसे बड़े बड़े नेता हैं.

एक अन्य ने कहा कि - तो क्या अपनी अम्मा सोनिया की तरफ इशारा कर रहा है क्या.

shehzad-poonawala-news
बिना अनुभव के PM बनना चाहते हैं राहुल गाँधी लेकिन राफेल के लिए अम्बानी को बता रहे हैं फ्रेशर

बिना अनुभव के PM बनना चाहते हैं राहुल गाँधी लेकिन राफेल के लिए अम्बानी को बता रहे हैं फ्रेशर

rahul-gandhi-question-why-anil-ambani-given-rafale-deal-no-experience

राहुल गाँधी पिछले 13 वर्षों से सांसद हैं, वे ना तो किसी राज्य की सरकार में मंत्री रहे हैं और ना ही केंद्र सरकार में मंत्री रहे हैं लेकिन फिर भी प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं, मतलब बिना अनुभव के ही प्रधानमंत्री बनने का सपना पाले हुए हैं.

राहुल गाँधी खुद तो बिना अनुभव हे ही प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं, तीन साल से मोदी प्रधानमंत्री हैं लेकिन उससे पहले वे 13 साल तक गुजरात के मुख्यमंत्री थे और उनके पास पूरा अनुभव था लेकिन राहुल गाँधी ने अब तक किसी भी संवैधानिक पर की जिम्मेदारी नहीं संभाली है उसके बावजूद भी सबसे बड़े पद पर बैठना चाहते हैं.

राहुल गाँधी की तरह ही अनिल अम्बानी के रिलायंस ग्रुप को रक्षा क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है उसके बावजूद भी मोदी सरकार ने उन्हें राफेल बनाने के कॉन्ट्रैक्ट में फ्रेंच कंपनी Dassault Aviation के साथ शामिल कर लिया. मतलब फ्रेंच कंपनी Dassault Aviation मुख्य रूप से भारत में राफेल विमान बनाएगी और अनिल अम्बानी का रिलायंस ग्रुप इसमें साझीदार होगा, मतलब दोनों कंपनियों के जॉइंट वेंचर के अंतर्गत राफेल विमान भारत में बनाया जाएगा.

राहुल गाँधी मोदी सरकार पर सवाल खड़ा कर रहे है कि अनिल अम्बानी की कंपनी को रक्षा क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है उसके बाद भी उन्हें राफेल के कॉन्ट्रैक्ट में क्यों शामिल किया है, HAL को यह कॉन्ट्रैक्ट क्यों नहीं दिया गया जिसके पास अनुभव है.

कल राहुल गाँधी ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण पर हमला बोला , उन्होंने कहा कि डियर रक्षामंत्री, यह शर्मनाक है कि आपके बॉस आपको चुप करा रहे हैं. कृपया हमें बताएं - राफेल डील का फाइनल प्राइस क्या है, क्या प्रधानमंत्री ने पेरिस में राफेल डील की घोषणा करने से पहले CCS की परमीशन ली थी, प्रधानमंत्री मोदी ने अनुभवी कंपनी HAL को नजअंदाज करके AA रेटेड व्यापारी को इस डील में शामिल क्यों किया जिसे रक्षा क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है.

rahul-gandhi-on-rafale-deal-news-in-hindi

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में HAL के अलावा रक्षा क्षेत्र में किसी भी कंपनी को अनुभव नहीं है लेकिन मोदी चाहते हैं कि भारत में मेक इन इंडिया योजना के तहत रक्षा क्षेत्र में भी प्रतिस्पर्धा बढे, देश के व्यापारी इस क्षेत्र में आगे आयें और इन्वेस्टमेंट करें ताकि धीरे धीरे भारत में ही हथियारों और फाइटर प्लेन का निर्माण होने लगे ताकि विदेशों से ये सब चीजें खरीदने ने अथाह पैसा ना खर्च पड़े. राहुल गाँधी चाहते हैं कि सिर्फ HAL को सभी कॉन्ट्रैक्ट दिए जाएं क्योंकि उनके पास अनुभव है जबकि मोदी चाहते हैं कि फ्रेशर को भी मौका दिया जाए ताकि इस क्षेत्र में निवेश करने वालों का हौसला बढे और प्रतिस्पर्धा बढे. इसी वजह से अनिल अम्बानी की कंपनी को राफेल डील में शामिल किया गया है. 
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण बोलीं, राहुल के पास कुछ नहीं है तो राफेल डील पर झूठ फैला रहे हैं

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण बोलीं, राहुल के पास कुछ नहीं है तो राफेल डील पर झूठ फैला रहे हैं

nirmala-sitharaman-hit-back-at-rahul-gandhi-spreading-lie-rafale-deal

भारतीय जनता पार्टी के नेता कांग्रेस पर बोफोर्स तोप और ऑगस्टा वेस्टलैंड हेलीकाप्टर घोटाले का मुद्दा उठाते है तो अब कांग्रेस ने भी मोदी सरकार के खिलाफ राफेल डील में घोटाले का आरोप लगाया है, राहुल गाँधी का कहना है कि मोदी सरकार ने हर एक राफेल विमान में 1000 करोड़ रुपये खाए हैं. 10 साल पहले हम इसे केवल 500 करोड़ में खरीदने वाले थे लेकिन मोदी सरकार एक राफेल विमान 1500 करोड़ में खरीद रही है, राहुल गाँधी को शायद यह नहीं पता कि 10 साल तक बैंक में पैसे रखने पर तीन गुना हो जाते हैं उसी तरह से 10 साल बाद राफेल की कीमत भी तीन गुना बढ़ गयी और इसमें टेक्नोलॉजी भी अपग्रेड हो गयी, मतलब पहले हलके राफेल विमान का सौदा हुआ था लेकिन अब अत्याधुनिक राफेल विमान का सौदा हुआ है जो परमाणु हथियार भी ले जा सकता है.

कल राहुल गाँधी ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण पर हमला बोला , उन्होंने कहा कि डियर रक्षामंत्री, यह शर्मनाक है कि आपके बॉस आपको चुप करा रहे हैं. कृपया हमें बताएं - राफेल डील का फाइनल प्राइस क्या है, क्या प्रधानमंत्री ने पेरिस में राफेल डील की घोषणा करने से पहले CCS की परमीशन ली थी, प्रधानमंत्री मोदी ने अनुभवी कंपनी HAL को नजअंदाज करके AA रेटेड व्यापारी को इस डील में शामिल क्यों किया जिसे रक्षा क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं है.

rahul-gandhi-on-rafale-deal-news-in-hindi

आज निर्मला सीतारमण ने राहुल गाँधी को जवाब दिया, उन्होंने कहा कि राफेल डील में कोई भ्रष्टाचार नहीं है, सभी औपचारिकताएं पूरी की गयी हैं, राहुल गाँधी के पास कोई मुद्दा नहीं है, गुजरात में हार साफ़ दिख रही है इसलिए राफेल डील पर झूठ फैलाकर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं.

Nov 18, 2017

राहुल रॉय बोले, साँसों की जरूरत है जैसे, जिन्दगी के लिए, बीजेपी की जरूरत है वैसे, विकास के लिए

राहुल रॉय बोले, साँसों की जरूरत है जैसे, जिन्दगी के लिए, बीजेपी की जरूरत है वैसे, विकास के लिए

actor-rahul-roy-join-bhartiya-janta-party-in-delhi-warm-welcome

भारतीय जनता पार्टी के परिवार का विस्तार होता ही जा रहा है, आज आशिकी फिल्म के हीरो राहुल रॉय ने भी बीजेपी का दामान थामकर परिवार को और मजबूत कर दिया. उन्होंने केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और अन्य बीजेपी नेताओं की मौजूदगी में बीजेपी के दामन थामा.

बीजेपी पार्टी में शामिल होने के बाद उन्होंने प्रेस वार्ता को संबोधित किया, उन्होंने कहा कि आज उनकी जिन्दगी का बहुत अच्छा दिन है, नरेन्द्र मोदी जी, अमित शाह जी देश को आगे ले जा रहे हैं, उन्होंने ऐसा बदलाव किया है कि अब विश्व का भारत को देखने का नजरिया बदल रहा है.

प्रेस कांफ्रेंस में उन्होने अपनी फिल्म आशिकी का गाना, गाया, साँसों की जरूरत है जैसे, जिन्दगी के लिए, बीजेपी की जरूरत है वैसे, विकास के लिए.
श्रीश्री का विरोध करने में ओवैसी के सुर में सुर मिला रहे हैं महंत नरेन्द्र गिरी और वेदांती

श्रीश्री का विरोध करने में ओवैसी के सुर में सुर मिला रहे हैं महंत नरेन्द्र गिरी और वेदांती

mahant-narendra-giri-and-owaisi-telling-sri-sri-ravi-shankar-nautanki

श्री श्री रवि शंकर के राम मंदिर मामले में कूदने से इतनी बात तो साफ़ हो गयी है कि हिन्दुओं में ही एकजुटता नहीं है, यह भी पता चला कि राम मंदिर की लड़ाई लड़ने के लिए विश्व हिन्दू परिषद और अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कॉपीराईट ले रखा है, और किसी को इस मुद्दे पर बोलने का हक नहीं है, अगर कुछ लोग बातचीत करके समस्या का समाधान करने की कोशिश करते हैं तो उन्हें ये लोग नौटंकीबाज बताते हैं.

हिन्दुओं के लिए बहुत ही दुर्भाग्य की बात है कि श्री श्री का विरोध करने में विश्व हिन्दू परिषद के बड़े नेता, कट्टरपंथी ओवैसी जैसे नेताओं के सुर में सुर मिला रहे हैं, ओवैसी ने पहले से ही श्री श्री रवि शंकर को नौटंकीबाज बताना शुरू कर दिया था जिसका मतलब है कि श्री श्री रवि शंकर के अयोध्या जाने से वह दुखी था लेकिन उसके सुर में सुर मिलाते हुए राम विलास वेदांती और महंत नरेन्द्र गिरी ने भी श्री श्री को नौटंकीबाज बताना शुरू कर दिया, यहाँ पर विश्व हिन्दू परिषद के नेता ओवैसी के साथ हो गए.

ऐसा लगता है कि ये लोग राम मंदिर मुद्दे का समाधान ही नहीं चाहते, इसी आन्दोलन की वजह से ये लोग करोडपति बन गए, राम विलास वेदांती सांसद बन गए, महंत नरेन्द्र गिरी अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष बन गए, अब कहते हैं कि हमने लड़ाई लड़ी है, हमने कुर्बानी दी है, अरे भाई आपने कुर्बानी दी है तो आपको फायदा भी मिला है, अब अगर कोई बातचीत की पहल कर रहा है तो आप लोगों को उसका साथ देना चाहिए.

दुनिया जानती है कि श्री श्री रवि शंकर आर्ट ऑफ़ लिविंग के माध्यम से पूरी दुनिया में हिंदुत्व का परचम लहरा रहे हैं, हिंदुत्व का सन्देश दे रहे हैं, उनका योगदान कम नहीं माना जा सकता, लेकिन ये लोग उन्हें घोटालेबाज और भ्रष्टाचारी बता रहे हैं, जाँच से बचने का आरोप लगा रहे हैं.

वास्तव में विश्व हिन्दू परिषद् के नेता राम मंदिर मुद्दे का समाधान करने का क्रेडिट दूसरों को नहीं देना चाहते, इन्हें लग रहा है कि अगर श्री श्री की पहल के बाद मुस्लिम पक्ष मान गया तो उन्हें क्रेडिट मिल जाएगा, इसलिए ये लोग श्री श्री को नौटंकीबाज बता रहे हैं, लेकिन यहाँ पर सवाल यह है कि अगर आपको क्रेडिट लेना है तो 25 साल से इन्तजार क्यों कर रहे हो, अब तक तुम्हें राम मंदिर बना लेना चाहिए था, सुप्रीम कोर्ट के आदेश का इन्तजार क्यों कर रहे हो.

इन लोगों की राजनीति देखकर ऐसा लग रहा है कि ये लोग राम मंदिर बनाना ही नहीं चाहते, ऐसा इसलिए क्योंकि राम मंदिर बनने से इन लोगों का धंधा चौपट हो जाएगा, लाखों करोड़ों का चंदा आना बंद हो जाएगा, महंतगिरी समाप्त हो जाएगी. शायद इसी राजनीति की वजह से आज तक राम मंदिर नहीं बन सका और आगे भी नहीं बन पाएगा.