Showing posts with label Madhya Pradesh. Show all posts
Showing posts with label Madhya Pradesh. Show all posts

Sep 13, 2017

MP के सतना जिले के स्कूलों में अब यस सर, यस मैडम की जगह छात्र बोलेंगे जय हिन्द, पढ़ें क्यों

MP के सतना जिले के स्कूलों में अब यस सर, यस मैडम की जगह छात्र बोलेंगे जय हिन्द, पढ़ें क्यों

mp-education-minister-vijay-shah-jai-hind-in-school-yas-sir-madam

मध्य प्रदेश में छात्रों को देशभक्त बनाने के लिए एक अनूठा प्रयोग किया जा रहा है और अगर यह प्रयोग सफल रहा तो पूरे राज्य में इसे लागू किया जाएगा ताकि छात्रों में शुरुआत से ही देशभक्ति का जज्बा जग सके. मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने यह प्रयोग सतना जिले के स्कूलों में किया है.

शिक्षा मंत्री विजय शाह ने सतना जिले के सभी स्कूलों को निर्देश दिए हैं कि अब अटेंडेंस लगाते वक्त छात्र यस सर और यस मैडम नहीं बल्कि जय हिन्द बोलें. यह आदेश 1 अक्टूबर से लागू किया जाएगा.  इस जिले के स्कूलों में अब हाजिरी लगाते वक्त छात्र यस सर यस मैडम नहीं बोलेंगे बल्कि जय हिन्द बोलेंगे.

विजय शाह ने कहा कि अभी यह प्रयोग सिर्फ सतना जिले में यह, अगर प्रयोग सफल रहा तो मुख्यमंत्री से परमिशन लेकर इसे पूरे राज्य में लागू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमने यह आदेश सिर्फ सरकारी स्कूलों के लिए दिया है, प्राइवेट स्कूलों को भी कहा गया है लेकिन उन्हें सिर्फ सुझाव के तौर पर कहा गया है क्योंकि यह देशभक्ति से जुड़ा मामला है.

Sep 8, 2017

ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल में शिक्षकों ने बनाया छात्रों को मुर्गा, पीछे जमाया धड़ाधड़, वीडियो वायरल

ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल में शिक्षकों ने बनाया छात्रों को मुर्गा, पीछे जमाया धड़ाधड़, वीडियो वायरल

mp-brilliant-public-school-teacher-made-student-murga

मध्य प्रदेश के अशोकनगर में ब्रिलिएंट पब्लिक स्कूल का एक वीडियो वायरल हो गया है जिसमें स्कूल के शिक्षकों ने दर्जनों छात्रों को एक साथ मुर्गा बना दिया और उन्हें छत पर मुर्गा बनाकर चला दिया. जो छात्र मुर्गा बनकर नहीं चल पा रहे थे शिक्षक लोग उनके पीछे डंडे से धड़ाधड़ जमा भी रहे थे. यह वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन हरकत में आ गया है.

अशोक नगर के जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि हमारे पास शिकायत आयी है, हम इस घटना के लिए जिम्मेदार शिक्षकों पर कार्यवाही करेंगे. छात्रों ने बताया है कि 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस पर वे लोग स्कूल नहीं आये थे इसलिए उन्हें मुर्गा बनाया गया और उनसे 50 रुपये भी मांगे गए.

Aug 20, 2017

शिवराज बोले: अबकी बार सभी बच्चों को फोन दूंगा लेकिन हाय-हेलो, हाउ डू यू डू के लिए नहीं बल्कि?

शिवराज बोले: अबकी बार सभी बच्चों को फोन दूंगा लेकिन हाय-हेलो, हाउ डू यू डू के लिए नहीं बल्कि?

shivraj-singh-promised-to-gift-12-th-pass-sudents-mobile-phone-mp

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज भोपाल में छात्र सम्मलेन को संबोधित किया और उनके सामने अपनी सरकार का बखान था. उन्होंने सभी छात्रों से वादा किया कि पैसे की कमीं से किसी भी बच्चे की पढ़ाई नहीं रुकेगी, आपका यह मामा आपका खर्च उठाएगा. उन्होंने कहा कि मेरी आपके सामने एक शर्त है अगर आप डॉक्टर बनेंगे तो 3 साल गाँव में रहकर सेवा करनी पड़ेगी, अगर आप इंजीनियर बनेंगे तो हमारे देश के लिए और प्रदेश को आगे बढाने के लिए काम करना पड़ेगा, आपका भविष्य बनने के बाद देश की तरक्की के लिए काम करना पड़ेगा.

उन्होंने कहा कि मेरे चाहे बेटे हों या बेटी, अगर 12वीं में 85 परसेंट लाते हैं तो हम उन्हें लैपटॉप दिलवाते हैं और अगर कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो इस बार हम फोन दिलवाएंगे. हम इसलिए फोन नहीं दिलवाएंगे कि आपको हाय-हेलो, हाउ डू यू डू करना है, बल्कि इसलिए ताकि पूरी दुनिया का ज्ञान उन बच्चों की ऊँगली के नीचे हो. वे जो चाहें वह जानकारी उनके सामने आ जाए इसलिए हमने उन्हें मोबाइल फोन देने की व्यवस्था की है.

शिवराज सिंह ने कहा कि हमारी सरकार में एक नहीं बल्कि अनेको योजनायें हैं लेकिन एक बात मेरे कलेजे में सुई की तरह चुभती थी, गरीब बच्चे हमसे कहते थे कि हमारे माँ-बाप हमारी पढ़ाई का खर्च नहीं उठा पा रहे हैं, हम कैसे पढ़ें, उसके बाद हमनें जितने भी गरीब बच्चे थे उनके लिए स्कॉलर की व्यवस्था की. हमने सभी वर्गों के गरीब बच्चों को यह स्कॉलर दी, हमने ST-SC, OBC के बच्चों को स्कॉलर दी तो सामान्य वर्ग के गरीब बच्चों को स्कॉलर दी, किसी के साथ भेदभाव नहीं दिया.

शिवराज सिंह ने कहा कि मेरे बच्चों, मैं आपके सपनों को मरने नहीं दूंगा, धन के अभाव में आपकी पढ़ाई रुकेगी नहीं, प्रतिभा कुंठित नहीं होगी, आपका कभी भी एडमिशन हो, चाहे IIM में, IIT में या मेडिकल कॉलेज में, आपकी पढ़ाई का खर्च मैं उठाऊंगा.

Aug 12, 2017

UP के बाद MP के भी मदरसा शिक्षा परिषद ने दिया 'आजादी दिवस मनाने, तिरंगा यात्रा निकालने का आदेश'

UP के बाद MP के भी मदरसा शिक्षा परिषद ने दिया 'आजादी दिवस मनाने, तिरंगा यात्रा निकालने का आदेश'

mp-madarsa-order-to-celebrate-independence-day-and-tiranga-march

उत्तर प्रदेश के बाद अब मध्य प्रदेश के भी मदरसा शिक्षा बोर्ड ने भी सभी मदरसों को आजादी दिवस मनाने और तिरंगा यात्रा निकालने के आदेश दिए हैं. मदरसा शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन सैयद इमाद उद्दीन ने कहा कि जो सच्चा इस्लाम का मानने वाला है उसे लाजमी तौर पर वतन से मुहब्बत करनी चाहिए इसलिए स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा और राष्ट्रीय गीत वन्दे मातरम भी गाया जाएगा.

उन्होंने कहा कि इस अवसर सभी मदरसों में सांस्कृतिक कार्यक्रम मनाने के अलावा तिरंगा यात्रा निकालने का भी आदेश दिया गया है.

इससे पहले आज उत्तर प्रदेश के मदरसा शिक्षा परिषद ने नयी शुरुआत करते हुए सभी मदरसों को स्वतंत्रता दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रम करने, राष्ट्रीय गीत वन्दे मातरम गाने और तिरंगा फहराने के आदेश दिए गए थे.

मदरसा शिक्षा परिषद् के आदेश की बीजेपी ने तारीफ की है. बीजेपी नेता सत्यपाल सिंह ने कहा कि यह शुरुआत बहुत अच्छी है और इससे देश के मुसलमानों को एक सीख मिलेगी. उन्होंने कहा कि वन्दे मातरम नारे ने देश की आजादी में बहुत बड़ी भूमिका निभाई थी इसलिए देश के सभी नागरिकों को आजादी का जश्न मनाते हुए वन्दे मातरम जरूर गाना चाहिए.

उन्होंने यह भी कहा कि यह गीत देश के लोगों को यूनाइट करता है और मन में जोश पैदा करता है. उन्होंने कहा कि मदरसा शिक्षा परिषद् को यह शुरुआत बहुत पहले ही कर देनी चाहिए थी लेकिन कोई बात नहीं क्योंकि देर आये दुरुस्त आए. उन्होने कहा कि यह शुरुआत देश के युवाओं में देशभक्ति का जज्बा पैदा करेगी.

Aug 5, 2017

मध्य प्रदेश में दो सगे भाइयों ने कर डाली शादी: पढ़ें क्यों

मध्य प्रदेश में दो सगे भाइयों ने कर डाली शादी: पढ़ें क्यों

mp-news-2-brothers-married-to-appease-rain-god

मध्य प्रदेश में एक अजीब सी खबर आयी है, दो सगे भाइयों ने आपस में शादी कर ली है, यह सब Rain God यानी इंद्र भगवान को खुश करने के लिए किया गया है ताकि इंद्र भगवान खुश हो जाएं और बारिश कर दें.

यह घटना इंदौर के मूसाखेड़ी गाँव की है, लोगों का कहना है कि वहां बारिश ना होने से किसानों का नुकसान हो रहा है इसलिए भगवान को खुश करने के लिए दोनों की शादी करा दी गयी है. यह सब केवल भगवान को खुश करने के लिए किया गया है. सोशल मीडिया पर इस घटना के काफी आलोचना हो रही है, लोग इसे अन्धविश्वास मान रहे हैं.

Aug 2, 2017

कांग्रेस की हालत बहुत खराब है, विधायक BJP में ना जाएं इसलिए उठाकर बैंगलोर में रख दिया: शिवराज

कांग्रेस की हालत बहुत खराब है, विधायक BJP में ना जाएं इसलिए उठाकर बैंगलोर में रख दिया: शिवराज

mp-chief-minister-shivraj-singh-make-fun-of-congress-party

आज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने भी कांग्रेस की मजबूरी का मजाक उड़ाया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस की हालत बहुत खराब हो गयी है, इनके विधायक भागकर बीजेपी में ना जा चले जाएं इसलिए उन्हें उठाकर बैंगलोर में रख दिया है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मध्य प्रदेश में कई क्षेत्रों का दौरा किया और कार्यकर्ताओं के साथ मुलाकत की, उन्होंने पाली नगर पालिका परिषद्, जयसिंह नगर और बिजुरी में एक आमसभा को संबोधित किया और कांग्रेस पार्टी का जमकर मजाक उड़ाया. 

उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस पार्टी ख़त्म हो रही है, हालत बहुत खराब है, इनके विधायक भागकर बीजेपी में आ रहे हैं, इन लोगों ने अपने विधायकों को बीजेपी में जाने से रोकने के लिए उन्हें उठाकर बैंगलोर में रख दिया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गुजरात में पिछले हप्ते 6 कांग्रेसी विधायक बीजेपी में शामिल हो गए, राज्य सभा चुनाव सर पर हैं, कांग्रेस ने अपने विधायकों को बीजेपी में जाने से रोकने के लिए उन्हें एकाएक बैंगलोर भेज दिया और एक रिजोर्ट में बंद कर दिया.

Jul 23, 2017

एक महीना पहले पैरों से कुचलते थे टमाटर, आज उसी टमाटर को बचाने के लिए लगे सुरक्षा गार्ड

एक महीना पहले पैरों से कुचलते थे टमाटर, आज उसी टमाटर को बचाने के लिए लगे सुरक्षा गार्ड

security-gaurd-deployed-for-tomatoes-in-indore-viral-news

टमाटर ने  जितनी तेजी से अपना रंग बदला है, उतनी तेजी से शायद ही किसी ने रंग बदला होगा, एक महीनें पहले इंदौर के ही किसान आन्दोलन के नाम पर टमाटर को अपने पैरों तले रौंद रहे थे, ट्रक के ट्रक टमाटर सड़कों पर फेंक दिए गए थे, आन्दोलनकारियों ने बेरहमी के साथ टमाटर पर अपना गुस्सा निकाला था लेकिन आज हालत यह हो रही है कि टमाटर की रक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड तैनात करने पड़ रहे हैं.

100 रुपये हुआ टमाटर के दाम

आपको बता दें कि एक महीनें पहले जब टमाटर के दाम 10 रूपए किलो थे तो किसना आन्दोलनकारियों ने टमाटर को सड़कों पर फेंक दिए थे, उन्हें पैरों से कुचलकर अपना गुस्सा निकाला था लेकिन आज टमाटर 100 रुपये में मिल रहा है तो इंदौर मंदिर के एक आढ़ती ने टमाटर की रक्षा के लिए चार चार सुरक्षा गार्ड तैनात किये हैं. एक एक टमाटर को बेटे की तरह संभलकर रखा जा रहा है.

मुंबई में हुई टमाटर की चोरी, इसलिए रखा सुरक्षा गार्ड

आढ़त मालिक का कहना है कि महाराष्ट्र में कुछ जगह टमाटर की चोरी की घटनाएं सामने आयी है इसलिए हम लोग पहले से ही तैयार हो गए हैं और टमाटर की रक्षा के लिए गार्ड तैनात करवाए हैं. आपको बता दें कि मुंबई में एक सब्जी की दूकान से 300 किलो टमाटर चोरी कर लिए गए थे. ये खबर जब इंदौर तक पहुंची तो दुकानदारों से सुरक्षा की मांग की और उनकी मांग पर गार्ड्स तैनात कर दिए गए.

कम हुई है टमाटर की पैदावार

मंडी के व्यापारियों का कहना है कि इस साल टमाटर की कम पैदावार हुई है इसलिए अगस्त तक मंहगाई बनी रहेगी. एक महीनें पहले 70000-8000 कैरट टमाटर आते थे लेकिन इस वक्त सिर्फ 1200 कैरट टमाटर आ रहे हैं. टमाटर की कम पैदावार की वजह से टमाटर के दाम आसमान छूने लगे हैं.

Jul 16, 2017

चुनाव आयोग ने  राष्ट्रपति चुनाव से एक दिन पहले BJP के 131 वोट कर दिए ख़त्म, दिया बड़ा झटका

चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव से एक दिन पहले BJP के 131 वोट कर दिए ख़त्म, दिया बड़ा झटका

bjp-mla-narottam-mishra-disqualified-to-vote-president-election

राष्ट्रपति चुनाव से एक दिन पहले चुनाव आयोग ने बीजेपी को बड़ा झटका देते हुए मध्य प्रदेश के दतिया से विधायक और मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री नरोत्तम मिश्रा को तीन साल के लिए चुनाव लड़ने और वोट देने के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है. नरोत्तम मिश्रा को अयोग्य घोषित करके चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी के 131 वोट भी कम कर दिए हैं.

नरोत्तम मिश्रा किसी भी कीमत पर राष्ट्रपति चुनाव में वोट देना चाहते थे इसलिए उन्होंने हाई कोर्ट में चुनाव आयोग के खिलाफ अपील की थी लेकिन हाई कोर्ट ने भी उनकी अपील को खारिज करते हुए चुनाव आयोग का फिसला बरकरार रखा. 

नरोत्तम मिश्रा ने यह भी कहा था कि मुझ पर लगाए गए पेड न्यूज़ के आरोप निराधार हैं, पैसे देने का कोई प्रमाण नहीं है, दतिया के विकास में बाधा डालने का प्रयास किया गया है. आपको बता दें कि नरोत्तम मिश्रा के खिलाफ कांग्रेस विधायक राजेंद्र भाटी ने वर्ष 2009 में पेड न्यूज़ का मामला दर्ज करवाया था, उन पर आरोप था कि 2008 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने लिमिट से अधिक पैसा खर्च किया था लेकिन चुनाव आयोग को उसका ब्यौरा नहीं दिया. 

narottam-mishra-latest-news-in-hindi-president-election
2008 का मामला, 2017 में मिली सजा

चुनाव आयोग ने वर्ष 2008 के पेड़ न्यूज़ के मामले में नरोत्तम मिश्रा को 10 वर्ष बाद 2017 में सजा दी है, उन्हें तीन साल के लिए चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित कर दिया है, वे राष्ट्रपति चुनाव में भी वोट नहीं दे पायेंगे इसलिए बीजेपी का 131 वोट अपने आप ख़त्म हो जाएगा. यह बीजेपी और NDA उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के लिए बड़ा झटका है क्योंकि कांग्रेस उम्मीदवार मीरा कुमार उन्हें कड़ी टक्कर दे रही हैं.

राष्ट्रपति चुनाव में राज्यवार वोटों के सख्या

अगर राज्यों में वोटों की संख्या के बारे में बात करें तो कुल वोटों की संख्या 5,49,495 है. अकेले मध्य प्रदेश में कुल वोटों की संख्या 30131 है, एक विधायक के वोटों की कीमत 131 है, नरोत्तम मिश्रा के अयोग्य घोषित होने के बाद BJP के 131 वोट कम हो गए हैं. नीचे राज्यवार वोटों की संख्या दी गयी है.

president-election-total-number-of-states-votes
 राष्ट्रपति चुनाव में टोटल वोटों की संख्या
राज्य की विधानसभा के वोटों की वैल्यू 5,49,495 है जबकि लोकसभा और राज्य सभा में कुल मिलाकर 5,44,408 वोट हैं. कुल मिलाकर 10,98,903 वोट हैं. नीचे वोटों की गिनती का फार्मूला दिया गया है.


president-election-total-votes
नरोत्तम मिश्रा नहीं दे पाएंगे वोट
आपको बता दें कि अब नरोत्तम मिश्रा सुप्रीम कोर्ट में अपील करेंगे लेकिन कल वो किसी भी कीमत में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट नहीं दे पाएंगे, आपको बता दें कि बीजेपी किसी भी कीमत पर अपने उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनाना चाहती है और इसके लिए कई विरोधी नेताओं को भी फोन किये जा रहे हैं लेकिन चुनाव आयोग ने चुनाव से सिर्फ एक दिन पहले बीजेपी को बड़ा झटका देते हुए 131 वोट कम कर दिए.अब भले ही नरोत्तम मिश्रा सुप्रीम कोर्ट में अपील करें लेकिन कल वो वोट नहीं कर पाएंगे, अब उनके मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में अगस्त में शुरू होगी.

कल है राष्ट्रपति चुनाव, 20 जुलाई को वोटों की गिनती
राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए कल यानी 17 जुलाई को मतदान किये जाएंगे, वोटों की गिनती 20 जुलाई को की जाएगी. बीजेपी और NDA की तरफ से रामनाथ कोविंद मैदान में हैं जबकि कांग्रेस और विपक्ष की तरफ से पूर्व लोकसभा स्पीकर और कांग्रेसी नेता मीरा कुमार मैदान में हैं. रामनाथ कोविंद की जीत शिवसेना, पीडीपी और JDU के समर्थन पर निर्भर करेगी, इन पार्टियों ने रामनाथ कोविंद को समर्थन का भरोसा तो दिया है लेकिन उनकी जीत तभी होगी जब ये भरोसा वोटों में परिवर्तित होगा.

Jul 6, 2017

गिरफ्तार किये गए योगेन्द्र यादव और मेधा पाटेकर: पढ़ें क्यों

गिरफ्तार किये गए योगेन्द्र यादव और मेधा पाटेकर: पढ़ें क्यों

yogendra-yadav-and-medha-patkar-arrested-in-mandsaur-mp
स्वराज पार्टी के नेता योगेन्द्र यादव, एक्टिविस्ट मेधा पाटेकर, परस सकलेचा और उनके साथियों को आज मध्य प्रदेश में गिरफ्तार कर लिया गया, ये लोग हिंसा प्रभावित मंदसौर में किसान रैली करके कथित तुअर पर किसानों को भड़काने का काम कर रहे थे.

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले मंडसौर में इसी तरह से नेताओं द्वारा भड़काए जाने के बाद किसानों ने उग्र विरोध प्रदर्शन किया था जिसके बाद पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत हो गयी थी, पुलिस इस बार ऐसा कोई भी हादसा नहीं होने देना चाहती इसलिए किसानों को भड़काने वाले नेताओं को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर रही है.

आपको बता दें कि योगेन्द्र यादव स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष हैं और राजनीतिक महत्वाकांक्षा पूरी करना चाहते हैं, किसानों को अपना वोटबैंक बनाकर वे मंजिल पर पहुंचना चाहते हैं, अगले वर्ष मध्य प्रदेश में चुनाव हैं इसलिए योगेन्द्र यादव ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी हैं.

Jun 21, 2017

YOGA DAY: कांग्रेसी ऐसे लेट गए जैसे मर गए हों, पढ़ें क्यों?

YOGA DAY: कांग्रेसी ऐसे लेट गए जैसे मर गए हों, पढ़ें क्यों?

international-yoga-day-congress-workers-shavaasana-in-bhopal
Bhopal, 21 June: आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है, देश विदेश में योग करके करोड़ों लोगों ने योग दिवस को धूम धाम से मनाया, भारत में बीजेपी नेताओं ने आम जनता के साथ जमकर योग किया तो कांग्रेस ने योग करने से परहेज किया क्योंकि कांग्रेस के युवराज अपनी नानी के घर इटली गए हैं इसलिए कांग्रेसियों को रास्ता दिखाने वाला कोई है.

योग के नाम पर भोपाल में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सिर्फ शवासन किया, वो भी मंडसौर में पुलिस फायरिंग का विरोध करने के लिए. मतलब कांग्रेसियों ने योग दिवस को भी बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन करने का माध्यम बना लिया.

शवासन करने के लिए कांग्रेस शव की मुद्रा में लेट गए और ऐसा जाहिर किया जैसे वे मर गए हों, ऐसा करके वे मंडसौर फायरिंग में किसानों की मौत की याद दिलाना चाहते थे, कांग्रेसियों ने इसे प्रोटेस्ट योग का नाम दिया, यह आयोजन भोपाल में पार्टी ऑफिस से बाहर किया गया, मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा कि वे सरकार का किसानों की मौत पर ध्यान खींचने के लिए यह योगा कर रहे हैं.

Jun 20, 2017

पाकिस्तान की जीत पर पाकिस्तान-जिंदाबाद बोलकर फोड़े पटाखे, MP पुलिस ने पकडे 15 जिहादी गद्दार

पाकिस्तान की जीत पर पाकिस्तान-जिंदाबाद बोलकर फोड़े पटाखे, MP पुलिस ने पकडे 15 जिहादी गद्दार

mp-police-arrested-15-jihadi-gaddar-celebrating-paksitan-victory
New Delhi, 20 June: ICC Champions Trophy में पाकिस्तान द्वारा भारत के हारने से कम से कम एक फायदा तो हुआ है, हिन्दुस्तानियों को पता चल गया है कि कहाँ कहाँ जिहादी गद्दार बैठे हुए हैं, कहाँ के लोगों से खतरा है और कहाँ जिहादी गद्दार अधिक हैं.

पाकिस्तान की जीत और भारत की हार पर भारत के कई जगह खुशियाँ मनाई गयी, पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाकर पटाखे फोड़े गए, लोगों ने साबित कर दिया कि ये लोग खाते तो भारत का हैं लेकिन इनके दिल में पाकिस्तान बसा हुआ है, भारत में एक दो जगह नहीं, हजारों-लाखों जगह गद्दारों ने अपना असली रूप दिखाया है. कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक, जहाँ जहाँ भी घनी मुस्लिम आबादी थी वहां पर पटाखे फोड़े गए.

कल मध्य प्रदेश पुलिस ने 15 जिहादी गद्दारों को बुरहानपुर में गिरफ्तार कर लिया, इस जगह का नाम भी देखिये, कश्मीर के आतंकवादी बुरहान-वानी के नाम पर हैं जिससे साबित हो जाता है कि इनके दिनों में आतंक, जिहाद और पाकिस्तान ही बसा हुआ था. ये लोग पाकिस्तान की जीत के बाद पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने लगे और जमकर पटाखे फोड़े, लेकिन पुलिस ने 15 गद्दारों को गिरफ्तार कर लिया है. फोटो क्रेडिट ANI ट्विटर.

Jun 14, 2017

मंडसौर के किसानों से मिले शिवराज सिंह, मृतकों के बैंक खाते में डालेंगे 1 करोड़ रुपये

मंडसौर के किसानों से मिले शिवराज सिंह, मृतकों के बैंक खाते में डालेंगे 1 करोड़ रुपये

cm-shivraj-singh-meet-farmers-of-mandsaur-madhya-pradesh
New Delhi: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह आज मंडसौर के किसानों से मिले और मृतक किसान परिवारों का दुःख साझा करके मृतकों को श्रधांजलि दी. शिवराज सिंह दो दिवसीय मंडसौर दौरे पर गए हैं और वे यहाँ के किसानों से मिलकर उनकी सभी समस्याओं को सुनेंगे.

शिवराज सिंह ने मृतक किसान परिवारों से वादा किया कि - किसान आन्दोलन के दौरान हुई हिंसा में जान गंवाने वाले घनश्याम धाकड़ के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा सरकार उठाएगी, इसके अलावा घनश्याम धाकड़ के परिजनों के बैंक खाते में RTGS के माध्यम से 1 करोड़ रुपये भी ट्रांसफर कर दिए गए हैं.

घनश्याम धाकड़ के अलावा शिवराज सिंह किसान आन्दोलन में जान गंवाने वाले ग्राम लोध के सत्यनारायण के पिता मांगीलाल से भी मिलकर संवेदनाएं व्यक्त की, उन्होंने इस परिवार के लोगों के बैंक खाते में 1 करोड़ रुपये जमा करवा दिए साथ ही वादा किया कि इस परिवार की गिरवी जमीन को जल्द ही छुड़वा दिया जाएगा. इसके अलावा परिवार के किसी एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी.

इसके बाद शिवराज सिंह नीमच के नयाखेड़ा में मृतक चैनसुख पाटीदार के निवास पर पहुंचकर परिजनों से मिले और शोक संवेदना व्यक्त की, शिवराज सिंह ने इस परिवार की भी हर संभव मदद करने का भरोसा जताया.

इसके बाद शिवराज सिंह मंडसौर के बरखेड़ा पंथ के अभिषेक पाटीदार के घर पहुंचकर श्रधांजलि दी, शिवराज सिंह ने अभिषेक के पिता दिनेश पाटीदार, माँ रूपा बाई पाटीदार और भाइयों मधुसूदन एवं संदीप से भेंट की और परिवार को 1 करोड करोड़ रुपये मुआवजा बैंक खाने में भेजने का वादा किया.

Jun 13, 2017

शांत पड़े मंडसौर में आग भड़काने जा रहे थे हार्दिक पटेल, पुलिस ने किया गिरफ्तार

शांत पड़े मंडसौर में आग भड़काने जा रहे थे हार्दिक पटेल, पुलिस ने किया गिरफ्तार

hardik-patel-arrested-in-neemach-going-mandsaur-madhya-pradesh
Neemach: मध्य प्रदेश का हिंसा प्रभावित क्षेत्र मंडसौर अब पूरी तरह से शांत हो चुका है लेकिन अब भी राजनेता यहाँ फिर से दंगे भड़काने का प्रयास कर रहे हैं ताकि इन्हें मोदी सरकार और बीजेपी के खिलाफ मुद्दा मिले, आज घोर मोदी विरोधी नेता हार्दिक पटेल भी मध्य प्रदेश की जनता को मोदी सरकार के खिलाफ भड़काने के लिए मंडसौर जा रहे थे लेकिन उन्हें भी नीमच में गिरफ्तार कर लिया गया.

हार्दिक पटेल चाहते हैं कि मध्य प्रदेश की तरह गुजरात में भी किसान आन्दोलन करें और यहाँ भी हिंसा भड़के ताकि बीजेपी के खिलाफ बड़ा मुद्दा मिल सके, हार्दिक पटेल जानते थे कि उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा इसके बावजूद भी वे मंडसौर के लिए निकल पड़े, हार्दिक पटेल जानते हैं कि उनकी गिरफ्तारी के बाद गुजरात के पटेल समाज के खून में उबाल आएगा और वे गुजरात में भी हिंसा-प्रदर्शन शुरू कर देंगे, अगर यहाँ भी बीजेपी सरकार ने उपद्रवियों पर गोलियां चला दी और कुछ लोग मर गए तो हार्दिक पटेल को मुंह माँगी मुराद मिल जाएगी क्योंकि वे फिर से बीजेपी के खिलाफ एक बड़ा आन्दोलन शुरू कर सकेंगे.

हार्दिक पटेल की योजनानुसार मध्य प्रदेश पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है, अब देखना ये है कि गुजरात के पटेल हार्दिक पटेल के झांसे में फंसकर गुजरात में प्रदर्शन, हिंसा और आगजनी करते हैं या नहीं.
सिर्फ 2 दिन का उपवास और खर्च किये 2 करोड़ रुपये, ट्विटर पर शिवराज का उड़ाया जा रहा 'उपहास'

सिर्फ 2 दिन का उपवास और खर्च किये 2 करोड़ रुपये, ट्विटर पर शिवराज का उड़ाया जा रहा 'उपहास'

dhongi-bjp-dhongi-cm-trending-on-twitter-shivaj-singh-slamed
भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेसी नेताओं द्वारा जगह जगह हिंसा और आगजनी के विरोध में सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने उपवास शुरू करके नहले पर दहला मारा था, देखते ही देखते मध्य प्रदेश शांत पड़ गया, लोग शिवराज सिंह की तारीफ करने लगे, उन्होंने किसानों को अच्छी तरह से अपना सन्देश भी दिया और किसानों ने उनकी बात को समझा भी लेकिन किसी को अंदाजा नहीं था कि शिवराज सिर्फ एक दिन में अपना उपवास ख़त्म करने 2 करोड़ का टेंट उखाड़ देंगे.

इस उपवास कार्यक्रम में शिवराज सिंह ने हर व्यवस्था की थी, फाइबर के टेंट लगाए गए थे, मुख्यमंत्री, मंत्रियों और बाबुओं के लिए कमरे बनाए गए थे, उनके लिए कूलर, पंखे, बेड, बिस्तर लगाए गए थे, सभी मंत्रियों का ऑफिस तम्बू में ही अरेंज कर दिया गया था, शिवराज सिंह ने दशहरा मैदान से ही सरकार चलाने का दावा किया था, ऐसा लगता था कि कम से कम 10 दिन तक यहाँ से सरकार चलेगी, यह सब व्यवस्था करने के लिए 2 करोड़ रुपये से अधिक खर्चा किया गया था, भारी सुरक्षा व्यावस्था तैनात थी, हर कोने को CCTV कैमरों की निगरानी में कर दिया गया था, परिंदा भी पर नहीं मार सकता था लेकिन अचानक ही शिवराज ने नारियल पानी पीकर उपवास ख़त्म कर दिया.

शिवराज सिंह के इस अनशन-उपवास की आज ट्विटर पर जमकर आलोचना हो रही है, उनका जमकर उपहास उड़ाया जा रहा है क्योंकि 2 करोड़ के खर्चे में उन्होने दो दिन तक भी उपवास नहीं किया, उन्होंने पहले दिन 12 बजे के करीब उपवास शुरू किया, भाषण दिया, शाम हो गयी, रात हो गयी, दूसरे दिन वे 10 बजे फिर उपवास स्थल पर आए और भाषण दिया और 12 बजे नारियल पानी पीकर उपवास ख़त्म कर दिया.

अब लोग बोल रहे हैं कि अगर 24 घंटे ही उपवास करना था तो 2 करोड़ रुपये खर्च करने की क्या जरूरत थी, कहीं भी टेंट लगाकर बैठ जाते, मीडिया कैमरे लेकर पहुँच जाती, लेकिन इतना तामझाम करने के बाद सिर्फ 24 घंटे का उपवास किया. देखिये ट्विटर पर क्या लिख रहे लोग - 

Jun 12, 2017

कांग्रेसी नेता दिलीप मिश्रा बोले, राहुल गाँधी की अगुवाई में MP के किसान सरकार पर गोली चलाएंगे

कांग्रेसी नेता दिलीप मिश्रा बोले, राहुल गाँधी की अगुवाई में MP के किसान सरकार पर गोली चलाएंगे

congress-leader-dilip-mishra-said-farmers-will-shoot-mp-sarkar
Satna: मध्य प्रदेश में दंगा भड़काने वाला एक और कांग्रेसी नेता का VIDEO सामने आया है, कांग्रेसी नेता दिलीप मिश्रा इस VIDEO में कह रहे हैं कि आने वाले समय में मध्य प्रेदश के किसान राहुल गाँधी की अगुवाई में मध्य प्रदेश की सरकार पर गोलियां चलाएंगे.

दिलीप मिश्रा ने कहा - मैं अपने एक एक शब्दों पर अमल करता हूँ, आपने ऐसी बात रखी थी कि सरकार के हर शब्द आपको तमाचे जैसे लग रहे थे, राहुल भैया के नेतृत्व में और आदरणीय अजय सिंह के नेतृत्व में उन किसानों को जिला कांग्रेस कमेटी की तरफ से 100 श्रधांजलि अर्पित करते हैं.

उन्होंने कहा कि हम यहाँ से इस बात की कसम खाकर जा रहे हैं कि मध्य प्रदेश में विपक्ष के नेता राहुल भैया की अगुवाई में, उनके नेतृत्व में आने वाले समय में सतना जिले का किसान इस सरकार के ऊपर गोली चलाएगा.

उन्होंने कहा,  साथियों, मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह की सरकार खुलेआम लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है, मेरी इस सभा के माध्यम से अपील है, जिसने लोकतंत्र की हत्या की हो, जिसनें किसानों की हत्या करी हो, जिन्होंने किसानों के ऊपर गोली चलाई हो, मैं इस सभा के माध्यम से आपसे अपील करता हूँ, कि आने वाले समय में मध्य प्रदेश की जनता इस सरकार पर गोली चलाएगी, तैयार हो जाइए.

Jun 11, 2017

मंत्री तोमर बोले, राहुल गाँधी को ट्रैफिक नियम भी नहीं पता, कांग्रेसी इन्हें बनाना चाहते हैं PM

मंत्री तोमर बोले, राहुल गाँधी को ट्रैफिक नियम भी नहीं पता, कांग्रेसी इन्हें बनाना चाहते हैं PM

mp-minister-narendra-tomer-said-rahul-gandhi-dont-know-traffic-rule
Bhopal: मध्य प्रदेश में हिंसा भड़काने के लिए लगातार कांग्रेसी नेताओं का नाम आ रहा है, पहला नाम जेंतेंद्र पटवारी क आया, उसके बाद श्याम गुर्जर का आया, उसके बाद शकुंतला खटीक का आया और उसके बाद डीपी धाकड़ का आया, ये सभी कांग्रेसी नेता अपने समर्थकों को गाड़ियाँ जलाने, रेलवे पटरियां खोदने, थाने जलाने और पत्थरबाजी करने की आदेश दे रहे थे.

नेताओं का नाम आने के बाद भी राहुल गाँधी मध्य प्रदेश के मंडसौर के लिए रवाना हो गए, मध्य प्रदेश की सीमा में प्रवेश करने पर वे एक बाइक पर बैठ गए, बाईक पर तीन लोग बैठे, ना तो ड्राइव करने वाले ने हेलमेट पहना और ना ही राहुल गाँधी ने हेलमेट पहना, बाइक पर तीन लोग बैठना ट्रैफिक नियम का उल्लंघन है और राहुल गाँधी को उस दिन यही कानून तोड़ने के लिए अरेस्ट किया गया था.

आज मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री नरेन्द्र तोमर ने राहुल गाँधी का मजाक बनाते हुए कहा कि जो व्यक्ति ट्रैफिक नियम नहीं जानता, कांग्रेसी लोग उसे प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं, अगर ये प्रधानमंत्री बन गए तो देश का बेडा गर्क समझो, फिर तो हमारा भगवान ही मालिक है.
मंडसौर घटना में दोषी किसी भी बदमाश को छोडूंगा नहीं: शिवराज

मंडसौर घटना में दोषी किसी भी बदमाश को छोडूंगा नहीं: शिवराज

shivraj-singh-promissed-high-level-investigation-of-mandsaur-kand

भोपाल: आज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शांति के लिए शुरू किये गए उपवास को तोड़ दिया, कल से ही मध्य प्रदेश में हिंसा और आगजनी समाप्त हो गयी है इसलिए आज गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने उपवास तोड़ने की प्रार्थना की, इसके अलावा कल मंदसौर में मारे गए किसानों के परिजनों ने भी उपवास तोड़ने की अपील की थी. आज बीजेपी के बड़े नेता कैलाश जोशी ने अपने हाथों से नारियल का जूस पिलाकर उपवास तुड़वाया.

उपवास तोड़ने के बाद शिवराज सिंह ने कहा कि मंडसौर घटना में दोषी किसी भी बदमाश को छोड़ा नहीं जाएगा, जितने भी अराजक तत्त्व हैं सब पकडे जाएंगे, निर्दोष किसानों को डरने की जरूरत नहीं है, बस हमें इतना ध्यान रखना है कि अराजक तत्वों को पहचान कर उन्हें अलग थलग करना है. मध्य प्रदेश शान्ति के लिए जाना जाता है, मैं यहाँ पर हिंसा का खेल बर्दास्त नहीं कर सकता.

शिवराज सिंह ने कहा कि मैंने लगातार 12 वर्षों से किसानों के लिए काम कर रहा हूँ ये बात विरोधी भी दिल से मानते हैं इसीलिए हमारी सरकार को साजिश के तहत किसान विरोधी साबित करने की कोशिश की जा रही है, उन्होंने कहा कि जब मैं 2003 में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बना तो बिजली नहीं आती थी लेकिन अब मध्य प्रदेश के जेनेरेटरों में जंग लग गयी है.

पढ़ें क्या कहा शिवराज सिंह ने
  • लगातार 12 सालों से किसानों के लिए काम कर रहा हूँ, ये विरोधी भी दिल से मानते हैं
  • मैंने कल ही स्वामीनाथन रिपोर्ट पढी है और उसे अमल में लाऊंगा
  • किसानों की सहमति से ही उनकी जमीन विकास के लिए ली जाएगी
  • यह संकल्प है मेरा कि कोई खेत बिना सिंचाई के नहीं रहने दूँगा
  • जो मध्यप्रदेश की धरती पर जन्म लेगा, उसको हर हाल में ज़मीन का मालिक बनाया जायेगा
  • ऐसी व्यवस्था करेंगे कि किसान को पहले से पता चलेगा कि कब कौन सी फसल कितनी मात्रा में लगाना है
  • मैंने नर्मदा मैया के जल को क्षिप्रा में ले जाने की बात कही तो लोगों ने कहा असंभव, आज आपके सामने प्रत्यक्ष प्रमाण है
  • मध्य प्रदेश में हर साल फसलों का उत्पादन दोगुना हो जाता है
  • मध्यप्रदेश पूरी दुनिया में कृषि उत्पादन बढ़ाने में नंबर एक है। कृषि विकास दर 20% से अधिक है
  • कृषि उत्पादन बढ़ाने में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन है
  • स्वामीनाथन आयोग ने 4% ब्याज कहा, हमने माइनस 10% ब्याज की व्यवस्था की
  • जब-जब किसानों पर संकट आया, मैं मंत्रालय, सीएम हाउस से निकलकर खेतों तक गया
  • एक पिता के 4 पुत्र हो गए, इसलिए ज़मीन का टुकड़ा छोटा हो गया। खेती के साथ उद्यम करें, तो सरकार ऋण उपलब्ध करायेगी
  • प्याज़ जैसी समस्या आती रहती है। मूल्य स्थिरीकरण कोष बना रहे हैं, ताकि किसान को अपने उत्पाद का सही मूल्य मिल सके
  • मध्यप्रदेश की हर पंचायत में किसान-उपभोक्ता केंद्र बनेगा
  • मध्यप्रदेश में हम हर नगर पालिका, हर पंचायत में किसान हाट बना रहे हैं, जहाँ किसान अपना उत्पाद बेच सकेगा
  • समर्थन मूल्य के नीचे शिवराज कोई फसल नहीं खरीदेगा। अगर कोई खरीदने की कोशिश करेगा तो उसे अपराध माना जाएगा
  • अगले साल से खसरा किसानों के घर नि:शुल्क भिजवाई जाएगी
  • मंदसौर घटना की उच्चस्तरीय जांच की जायेगी। दोषियों को नहीं छोड़ेंगे। निर्दोष किसानों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है
  • सब मिलकर अराजक तत्वों को अलग- थलग करने का काम करें। प्रदेश में शांति बहाली में सहयोग दें
दूध फेंकने वाले किसान नहीं बल्कि बदमाश हैं, किसान कभी दूध नहीं फेंक सकता: शिवराज सिंह

दूध फेंकने वाले किसान नहीं बल्कि बदमाश हैं, किसान कभी दूध नहीं फेंक सकता: शिवराज सिंह

shivraj-singh-told-badmash-are-throwing-milk-farmers-never-do
भोपाल: आज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने शांति के लिए शुरू किये गए उपवास को तोड़ दिया, कल से ही मध्य प्रदेश में हिंसा और आगजनी समाप्त हो गयी है इसलिए आज गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने उपवास तोड़ने की प्रार्थना की, इसके अलावा कल मंदसौर में मारे गए किसानों के परिजनों ने भी उपवास तोड़ने की अपील की थी. आज बीजेपी के बड़े नेता कैलाश जोशी ने अपने हाथों से नारियल का जूस पिलाकर उपवास तुड़वाया.

इससे पहले किसानों का नाम लेकर सड़कों पर दूध और सब्जियां फेंकने वाले उपद्रवियों पर शिवराज सिंह जमकर बरसे, उन्होंने कहा कि किसान कभी भी दूध को फेंक नहीं सकता, जितने भी लोग सड़क पर दूध बहा रहे हैं वे लोग बदमाश हैं और किसी पार्टी से प्रेरित हैं.

शिवराज सिंह ने कहा कि मैंने लगातार 12 वर्षों से किसानों के लिए काम कर रहा हूँ ये बात विरोधी भी दिल से मानते हैं इसीलिए हमारी सरकार को साजिश के तहत किसान विरोधी साबित करने की कोशिश की जा रही है, उन्होंने कहा कि जब मैं 2003 में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बना तो बिजली नहीं आती थी लेकिन अब मध्य प्रदेश के जेनेरेटरों में जंग लग गयी है.

पढ़ें क्या कहा शिवराज सिंह ने
  • लगातार 12 सालों से किसानों के लिए काम कर रहा हूँ, ये विरोधी भी दिल से मानते हैं
  • मैंने कल ही स्वामीनाथन रिपोर्ट पढी है और उसे अमल में लाऊंगा
  • किसानों की सहमति से ही उनकी जमीन विकास के लिए ली जाएगी
  • यह संकल्प है मेरा कि कोई खेत बिना सिंचाई के नहीं रहने दूँगा
  • जो मध्यप्रदेश की धरती पर जन्म लेगा, उसको हर हाल में ज़मीन का मालिक बनाया जायेगा
  • ऐसी व्यवस्था करेंगे कि किसान को पहले से पता चलेगा कि कब कौन सी फसल कितनी मात्रा में लगाना है
  • मैंने नर्मदा मैया के जल को क्षिप्रा में ले जाने की बात कही तो लोगों ने कहा असंभव, आज आपके सामने प्रत्यक्ष प्रमाण है
  • मध्य प्रदेश में हर साल फसलों का उत्पादन दोगुना हो जाता है
  • मध्यप्रदेश पूरी दुनिया में कृषि उत्पादन बढ़ाने में नंबर एक है। कृषि विकास दर 20% से अधिक है
  • कृषि उत्पादन बढ़ाने में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन है
  • स्वामीनाथन आयोग ने 4% ब्याज कहा, हमने माइनस 10% ब्याज की व्यवस्था की
  • जब-जब किसानों पर संकट आया, मैं मंत्रालय, सीएम हाउस से निकलकर खेतों तक गया
  • एक पिता के 4 पुत्र हो गए, इसलिए ज़मीन का टुकड़ा छोटा हो गया। खेती के साथ उद्यम करें, तो सरकार ऋण उपलब्ध करायेगी
  • प्याज़ जैसी समस्या आती रहती है। मूल्य स्थिरीकरण कोष बना रहे हैं, ताकि किसान को अपने उत्पाद का सही मूल्य मिल सके
  • मध्यप्रदेश की हर पंचायत में किसान-उपभोक्ता केंद्र बनेगा
  • मध्यप्रदेश में हम हर नगर पालिका, हर पंचायत में किसान हाट बना रहे हैं, जहाँ किसान अपना उत्पाद बेच सकेगा
  • समर्थन मूल्य के नीचे शिवराज कोई फसल नहीं खरीदेगा। अगर कोई खरीदने की कोशिश करेगा तो उसे अपराध माना जाएगा
  • अगले साल से खसरा किसानों के घर नि:शुल्क भिजवाई जाएगी
  • मंदसौर घटना की उच्चस्तरीय जांच की जायेगी। दोषियों को नहीं छोड़ेंगे। निर्दोष किसानों को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है
  • सब मिलकर अराजक तत्वों को अलग- थलग करने का काम करें। प्रदेश में शांति बहाली में सहयोग दें
शिवराज सिंह की उपवास-अपील का हुआ असर, मध्य प्रदेश में बंद हो गयी हिंसा, आगजनी और प्रदर्शन

शिवराज सिंह की उपवास-अपील का हुआ असर, मध्य प्रदेश में बंद हो गयी हिंसा, आगजनी और प्रदर्शन

shivraj-singh-fast-appeal-worked-peace-in-madhya-pradesh

Bhopal: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की उपवास अपील ने काम करना शुरू कर दिया है, कल से ही शिवराज सिंह ने शान्ति के लिए उपवास शुरू किया था और कल से ही राज्य में शान्ति हो गयी, अब ना तो कहीं पर किसानों का प्रदर्शन हो रहा है, ना हिंसा हो रही है, ना लूटपाट हो रही है, ना आगजनी हो रही है और ना ही सब्जियां और दूध फेंका जा रहा है. हाँ कांग्रेस पार्टी के कुछ नेता और कार्यकर्ता जरूर प्रदर्शन कर रहे हैं जो कि बेअसर है.

शिवराज सिंह ने दोतरफा एक्शन शुरू किया है, पहला तो हिंसा भड़काने वाले कांग्रेसी नेताओं को नजर रखी जा रही है, कई नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तारी का नोटिस दिया है, कई कांग्रेसी नेता पकडे जा चुके हैं और कई फरार हो चुके हैं, करीब 500 से अधिक प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया जा चुका है इसीलिए अब किसी में प्रदर्शन करने की हिम्मत नहीं हो रही है.

शिवराज सिंह ने दूसरा एक्शन किसानों को मनाने और उनतक अपना सन्देश पहुंचाने का किया है, इसके लिए उन्होने भोपाल के दशहरा मैदान में उपवास शुरू किया है, उन्होंने बहुत बड़ा पंडाल लगाया है, पूरी सरकार वहीँ से चल रही है, सभी मंत्री वहीँ से काम कर रहे हैं, पूरा सरकारी तंत्र वहीँ पर पहुंच गया है, पंडाल में ही मंत्रियों के रुकने की व्यवस्था की गयी है और वहीँ से उन्हें काम करने का आदेश दिया गया है.

इसके अलावा सभी किसान संगठनों को भी शिवराज ने वहीँ पर आने का निमंत्रण दिया है, कल से ही हजारों किसान शिवराज सिंह से मिलकर उन्हें अपनी समस्याएँ बता रहे हैं, शिवराज सिंह ने कहा है कि मेरे लिए किसान सबसे पहले हैं, मैं उनकी समस्याएँ समाप्त करने के लिए पूरी ताकत लगा दूंगा.

आज सुबह ही मध्य प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से मुलाक़ात करके उन्हें उपवास तोड़ने की अपील की, उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में राज्य में कहीं पर भी हिंसा नहीं हुई है इसलिए उपवास तोड़ दें लेकिन शिवराज सिंह उनकी बात नहीं माने, वे आज सुबह दशहरा मैदान में आये और भजन गाने लगे.
MP में कांग्रेस की सारी प्लानिंग हुई बेकार, शिवराज सिंह ने एक ही वार में कर दिया सबको चित

MP में कांग्रेस की सारी प्लानिंग हुई बेकार, शिवराज सिंह ने एक ही वार में कर दिया सबको चित

shivraj-singh-defeat-congress-conspiracy-in-madhya-pradesh

Bhopal: अगर आप सही से सोचेंगे तो समझ जाएंगे कि मध्य प्रदेश में हिंसा फ़ैलाने के पीछे कांग्रेस पार्टी का मकसद क्या था, दरअसल कांग्रेस पार्टी का दो मकसद है, एक तो देशभर के किसानों को मोदी सरकार के खिलाफ भड़काना और दूसरा मध्य प्रदेश में होने वाले अगले चुनाव में शिवराज सिंह को हराना.

कांग्रेस ने इसी मकसद से मंडसौर कांड की प्लानिंग की थी, पुलिस फायरिंग की आड़ में 6 लोगों को मरवाया गया और उन्हें किसान बताया गया जबकि जांच में पता चला है कि उनके पास कोई जमीन ही नहीं है, अगर उनके पास जमीन ही नहीं है तो वे किसान किस बात के हुए, अगर उनके पास जमीन नहीं है, वे किसान नहीं हैं तो वे कर्जमाफी की मांग किसलिए कर रहे हैं, मतलब साफ़ है कि यह सारा खेल कांग्रेस पार्टी ने रचा है और कांग्रेसी विधायक जीतू पटवारी का VIDEO भी सामने आया है जिसमें वे मंडसौर में उपद्रिवियों को भड़काकर दंगा-फसाद करवा रहे हैं.

कांग्रेस ने सोचा था कि अगर किसानों के नाम पर हिंसा और आगजनी करेंगे तो किसानों पर सरकार गोलियां जरूर चलाएगी जिसके बाद राज्य के सभी किसान शिवराज सरकार के खिलाफ हो जाएंगे, अगर ऐसा हुआ तो मध्य प्रदेश में अगला चुनाव कांग्रेस जीत जाएगी लेकिन उनका पूरा प्लान ही बेकार हो गया, शिवराज सिंह ने एक ही वार में उनकी पूरी प्लानिंग बेकार कर दी, अब मध्य प्रदेश के किसान फिर से शिवराज सिंह के साथ हो गए हैं.

कांग्रेस के लिए सबसे बड़े दुःख की बात यह है कि कल वे 6 परिवार भी शिवराज सिंह से मिलने गए जिनके घर के लड़के पुलिस फायरिंग में मारे गए थे, इससे पहले कांग्रेस के भड़काने पर इन लोगों ने शिवराज सिंह से 1 करोड़ रूपया लेने से इनकार कर दिया था और कहा था कि शिवराज सिंह अगर चाहें तो हमसे 2 करोड़ ले लें.

कांग्रेस इन्हीं 6 किसानों के नाम पर पूरे देश में आन्दोलन करना चाहती थी, ट्रेनें टोकना चाहती थी, हाईवे जाम करना चाहती थी, दंगा-फसाद करके देश के किसानों को मोदी सरकार के खिलाफ करना चाहती थी लेकिन अब ये किसान शिवराज सिंह के साथ आ गए हैं, कल सभी किसानों ने शिवराज सिंह से मुलाक़ात की और उनसे उपवास तोड़ने की प्रार्थना करके राज्य के लिए काम करने की प्रार्थना की लेकिन शिवराज सिंह ने कहा कि मैं किसानों का बेटा हूँ, अगर मेरे किसान भूखे प्यासे रहकर सड़कों पर प्रदर्शन करेंगे तो मैं भी भूखा रहकर खुद को कष्ट दूंगा और तब तक कष्ट देता रहूँगा जब तक राज्य में हिंसा ख़त्म नहीं हो जाती.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शिवराज सिंह ने कांग्रेस के नहले पर दहला मारा है, अब सभी किसान शिवराज सिंह से मिलने भोपाल के दशहरा मैदान में जा रहे हैं और उनसे मिलकर बहुत खुश हो रहे हैं, शिवराज सिंह ने कहा है कि अब मैं यहीं से सरकार चलाऊंगा, किसानों की समस्याएँ सुनूंगा और उसे समाप्त करने की कोशिश करूँगा, मैं किसानों से प्रार्थना करता हूँ कि किसी के बहकावे में ना आयें और हिंसा में भाग ना लें, मैं खुद किसानों का बेटा हूँ और उनका दर्द समझता हूँ.

उन्होंने कहा कि मैं मध्य प्रदेश का बेटा हूँ, मेरा राज्य मेरे लिए मंदिर के समान है और मंदिर में कोई हिंसा करे तो मुझे बहुत कष्ट होता है क्योंकि मैंने 11 साल तक मध्य प्रदेश की सेवा की है, अपनी हर साँस राज्य को दी है, उस राज्य को बर्बाद होते हुए मैं नहीं देख सकता.

कहने का मतलब ये है कि शिवराज सिंह ने बहुत अच्छी तरह से किसानों को अपना सन्देश पहुंचा दिया है और किसान उनका सन्देश समझ भी गए हैं, अब सड़क पर सिर्फ कांग्रेस पार्टी के नेता हैं, अब इनके साथ ना किसान हैं और ना ही किसानों का नाम, अब कांग्रेसी नेताओं की पोल खुल गयी है, हिंसा भड़काने का आदेश देते कई नेताओं के VIDEO भी आ चुके हैं जिससे पूरे देश में यह सन्देश गया है कि किसान नहीं बल्कि कांग्रेस ही हिंसा कर रही है. शिवराज सिंह ने पूरे देश को यह भी सन्देश दे दिया है कि सिर्फ उनके राज्य में किसानों को -10 परसेंट पर ब्याज दिया जाता है, मतलब किसानों को लोन 1 लाख रुपये मिलता है तो उन्हें सिर्फ 90 हजार वापस करना पड़ता है, अब शिवराज सिंह की तारीफ हो रही है.

इससे भी बड़ी बात ये है कि पहले मीडिया का ध्यान राज्य की हिंसा पर थे, वे हिंसा करने वालों को ढूंढ रहे थे ताकि उन्हें कोई Breaking News मिले और उनकी TRP बढे लेकिन अब उनका भी खेल ख़त्म हो गया है, अब मीडिया का ध्यान शिवराज सिंह के उपवास पर लग गया है, कोई उनके उपवास में कमीं निकाल रहा है तो कोई उसे अच्छा बता रहा है, मीडिया वालों को सबसे अधिक नुकसान हुआ है क्योंकि राज्य में जितना अधिक हिंसा होती, जितना अधिक आग लगाई जाती मीडिया को उतना अधिक मसाला मिलता और उनकी TRP बढती लेकिन अब उनके सपनों पर पानी फिर गया है.

शिवराज सिंह ने एक ही झटके में कांग्रेस और मीडिया के सपनों पर पानी फेर दिया है, सबको मैदान में अकेले ही चित कर दिया है.