Showing posts with label Jammu and Kashmir. Show all posts
Showing posts with label Jammu and Kashmir. Show all posts

24 May, 2017

चाहते तो 20 पत्थरबाजों को ठोंक देते मेजर गोगोई, लेकिन एक को जीप से बांधकर बख्श दी सबकी जान

चाहते तो 20 पत्थरबाजों को ठोंक देते मेजर गोगोई, लेकिन एक को जीप से बांधकर बख्श दी सबकी जान

stone-pelter-farooq-ahmed-dar-still-in-shock-leetul-gogoi-tied-in-jeep

श्रीनगर: एक पत्थरबाज को जीप से बांधकर 20 पत्थरबाजों की जान बचाने वाले मेजर लीतुल गोगोई की पूरा देश तारीफ कर रहा है, सेना ने उन्हें मेडल से भी नवाजा है, कल मेजर गोगोई ने मीडिया के सामने बयान जारी करके बताया कि उस दिन पत्थरबाजों की भीड़ बहुत हिंसक हो गयी थी, फायरिंग की जरूरत थी लेकिन अगर वे फायरिंग करते तो कम से कम 20 लोगों की मौत होती इसीलिए उन्होंने पत्थरबाजों के गैंग को लीड करने वाले फारूक अहमद डार को उठा लिया और उसे जीप के आगे बाँध दिया, इस नेक काम की वजह से पत्थरबाजों ने सेना पर पत्थर बरसाने बंद कर दिए और फायरिंग नहीं करनी पड़ी.

अब आप खुद सोचिये मेजर गोगोई कितना नेकदिल हैं, अगर वे चाहते तो पत्थरबाजों पर फायरिंग करके कम से कम 20 पत्थरबाजों को ठोंक देते और उन्हें जन्नत की सैर करा देते लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया, पत्थरबाजों की जान बख्श दी उन्होंने और एक को जीप से बांधकर पत्थरबाजी बंद करवा दी.

मेजर गोगोई ने कहा कि उस दिन जब हम पोलिंग स्टेशन के पास पहुंचे तो पत्थरबाजी शुरू हो चुकी थी, लोग बहुत हिंसक लग रहे थे, महिलाओं, बच्चों के अलावा युवा लोग पत्थरबाजों कर रहे थे, हम पर पेट्रोल बम भी फेंके गए थे, पत्थरबाजों की भीड़ को एक स्थानीय निवासी फारूक अहमद डार लीड कर रहा था, हम फायरिंग करने जा रहे थे, अचानक मेरे दिमाग में एक विचार आया, मैंने फारूक अहमद डार को उठाकर जीप में डाला, जब बात नहीं बनी तो हमने उसे जीप के आगे बाँध दिया और देखते ही देखते पत्थरबाजी बंद हो गयी, इस तरह से करीब दर्जनों लोगों की जान बच गयी.
जीप से बाँधा गया पत्थरबाज बोला, अभी भी सदमें में हूँ

जीप से बाँधा गया पत्थरबाज बोला, अभी भी सदमें में हूँ

stone-pelter-farooq-ahmed-dar-still-in-shock-leetul-gogoi-tied-in-jeep

श्रीनगर: एक पत्थरबाज को जीप से बांधकर 12 लोगों की जान बचाने वाले मेजर लीतुल गोगोई की पूरा देश तारीफ कर रहा है, सेना ने उन्हें मेडल से भी नवाजा है, कल मेजर गोगोई ने मीडिया के सामने बयान जारी करके बताया कि उस दिन पत्थरबाजों की भीड़ बहुत हिंसक हो गयी थी, फायरिंग की जरूरत थी लेकिन अगर वे फायरिंग करते तो कम से कम 12 लोगों की मौत होती इसीलिए उन्होंने पत्थरबाजों के गैंग को लीड करने वाले फारूक अहमद डार को उठा लिया और उसे जीप के आगे बाँध दिया, इस नेक काम की वजह से पत्थरबाजों ने सेना पर पत्थर बरसाने बंद कर दिए और फायरिंग नहीं करनी पड़ी.

वहीँ जीप से बांधे गए पत्थरबाज फारूक अहमद डार का कहना है कि मेजर गोगोई को सम्मानित करके सेना ने न्याय की हत्या की है, क्या वह अपने बेटे को भी इसी तरह से जीप के आगे बांधेंगे. मुझे ढाल बनाने के बजाय सेना को पत्थरबाजों से खुद लड़ाई लडनी चाहिए थी, मुझे इस तरह से प्रताड़ित करने की क्या जरूरत थी.

पत्थरबाज फारूक अहमद डार ने कहा है कि उस घटना की वजह से आज भी मैं सदमें में हूँ, मुझे रातों को नींद नहीं आती, मुझे कुछ दिन अस्पताल में भर्ती होना पड़ा, मुझे इतना टेंशन है कि डॉक्टर ने काउंसलिंग के लिए बोला है, मेरा काम बंद हो गया है, कर्ज बढ़ गया है.

फारूक अहमद डार जी, अगर आप पत्थरबाजी करोगे, सेना पर हमला करोगे, देशद्रोही करोगे और पाकिस्तान की भक्ति करोगे तो सदमें में रहना ही पड़ेगा.

23 May, 2017

MODI की शक्तिशाली सेना ने पाकिस्तान की चौकियों की तबाही का दिखाया VIDEO, कांग्रेस ने की तारीफ

MODI की शक्तिशाली सेना ने पाकिस्तान की चौकियों की तबाही का दिखाया VIDEO, कांग्रेस ने की तारीफ

indian-army-destroyed-pakistani-post-in-nawshera-video-released
New Delhi: विपक्षी और कांग्रेस लोग कहते हैं कि मोदी सरकार पाकिस्तान को जवाब नहीं दे पा रही है, बॉर्डर पर सैनिक शहीद हो रहे हैं, मोदी का 56 इंच का सीना पिचक गया है, मोदी डरपोक प्रधानमंत्री हैं, मोदी कायर हैं, भारतीय सेना कुछ नहीं कर पा रही है, पाकिस्तान हमें मार रहा है आदि.

आज फिर भारतीय सेना ने साबित कर दिया है कि पाकिस्तानियों की जितना मोदी सरकार में ठुकाई हो रही है वैसी पहले कभी नहीं हुई, सेना ने पाकिस्तानी पोस्ट को तबाह करते हुए एक VIDEO भी जारी किया है जिसमें राकेट लांचर, मिसाइल्स और अन्य बड़े हथियारों से देखते ही देखते पाकिस्तानी पोस्ट को तबाह और बर्बाद कर दिया गया है, सेना ने आज इस कार्यवाही की VIDEO जारी करते हुए कहा है कि पाकिस्तान हम पर नहीं बल्कि हम पाकिस्तान पर डोमिनेट करते हैं और उसपर कड़ी कार्यवाही करते रहते हैं, सेना के अधिकारी ने बताया कि हाल ही में आतंकियों की घुश्पैठ में मदद करने वाले पक्सितानी पोस्ट को हमने तबाह कर दिया. देखें VIDEO.
भारतीय सेना के इस बहादुरी भरे काम की कांग्रेस ने भी तारीफ की है, कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देश की सेना के साहस और उनकी बहादुरी को सलाम करते हैं और पाकिस्तान को जवाब देने वाली इस कार्यवाही के लिए सेना को मुबारकवाद देते हैं.

मेजर ने जारी किया पाकिस्तान की तबाही का VIDEO


पाकिस्तान की पोस्ट की तबाही वाला VIDEO काफी दिनों से सोशल मीडिया पर घूम रहा था लेकिन आज सेना के मेजर अशोक नरूला ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके VIDEO की पुष्टि कर दी, उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना सशस्त्र आतंकवादियों की मदद करता रहता है और इस दौरान वे हमारे अग्रिम सेना पोस्टों को अपनी चौकियों और बंकरों की मदद से एंगेज करता रहता है. कई बार वे ऐसा करते हुए हमारे गावों को भी नुकसान पहुंचा देते हैं.

उन्होंने बताया कि हमारे काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन के तहत हम चाहते हैं कि पाकिस्तान घुसपैठ को बंद करें, ऐसा करने के लिए हम LC को समय समय पर डोमिनेट करते रहते हैं, इस दौरान हम उन पक्सितानी पोस्टों को नुकसान पहुंचाते हैं जो आतंकवादियों की घुसपैठ में मदद करते हैं. हम ऐसा घुसपैठ रोकने के लिए करते हैं.

उन्होंने कहा कि अब बर्फ पिघल रही है और पासेस खुल रहे हैं तो घुसपैठ की संभावनाएं भी बढ़ रही हैं, कल नौगाम सेक्टर में चार आतंकी मारे गए हैं जो हमारी चिंता को सही साबित करते हैं इसलिए आवश्यक है कि हम काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन को और भी मजबूत बनाएं. हम शान्ति चाहते हैं लेकिन आतंकवाद से कोई समझौता नहीं कर सकते, हाल ही में हमने नौशेरा में एक पाकिस्तानी पोस्ट को नुकसान पहुँचाया है जो हमारी काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन का हिस्सा है.
पत्थरबाज को जीप से बाँधने वाले मेजर को सेना ने किया सम्मानित, लोग बोले 'इंडियन आर्मी जिंदाबाद'

पत्थरबाज को जीप से बाँधने वाले मेजर को सेना ने किया सम्मानित, लोग बोले 'इंडियन आर्मी जिंदाबाद'

major-leetul-gogoi-honored-by-indian-army-tied-stone-pelter-jeep

New Delhi: भारतीय सेना ने आज फिर से देशवासियों को गर्व करने का मौका दे दिया है, कुछ दिनों पहले एक पत्थरबाज को जीप से बांधकर घुमाने वाले मेजर Leetul Gogoi को खुद आर्मी चीफ ने मेडल से नवाजा है. यह खबर सुनते ही पूरे देश में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी, आर्मी चीफ ने मेजर को सम्मानित करके यह भी साबित कर दिया कि उन्हें सेना के अफसरों पर भरोसा है और वे जम्मू और कश्मीर की महबूबा सरकार के सामने झुकने वाले नहीं हैं.

इससे पहले मेजर गोगोई पर एक पत्थरबाज को जीप से बाँधने के कारण JK पुलिस ने FIR दर्ज की थी, जिसके बाद पूरा देश क्रोध की आग में जल उठा था लेकिन आर्मी चीफ ने कल मेजर गोगोई को क्लीन चिट देते हुए ना केवल सभी आरोपों से बरी किया, उन्हें बेस्ट सर्विस मेडल से भी सम्मानित किया.

जानकारी के लिए बता दें कि मेजर गोगोई 53 राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट में सेवारत हैं. उन्होंने पिछले महीने एक कश्मीरी पत्थरबाज को उस वक्त जीप के आगे बाँध दिया था जब लोकसभा चुनाव को बाधित करने के लिए पत्थरबाज सेना पर पत्थर बरसा रहे थे, जैसे ही एक पत्थरबाज को पकड़कर जीप से बाँध दिया गया, पत्थरबाजों ने पत्थरबाजी बंद कर दी क्योंकि अगर वे पत्थर फेंकते तो उनके साथी का ही सर फूटता.

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस फोटो को ट्वीट करते हुए इसे मानवाधिकारों का उल्लंघन बताया था जिसके बाद मुद्दा गरमा गया था और महबूबा सरकार ने सेना के मेजर पर FIR दर्ज करवाई थी. 

जम्मू कश्मीर सरकार के इस कदम को नजरअंदाज करते हुए खुद आर्मी चीफ विपिन रावत ने मेजर गोगोई को हाल ही में मेडल प्रदान किया और यह भी जता दिया कि सेना महबूबा सरकार के दबाव में आने वाली नहीं है.

अब पूरे देश के लोग खुश हैं और आर्मी की जय जय कार कर रहे हैं क्योंकि एक बार फिर से सेना का मान सम्मान बढ़ा है साथ ही अधिकारियों के स्वाभिमान की रक्षा हुई है, अगर गोगोई पर कोई कार्यवाही होती तो देश कभी भी आर्मी चीफ को माफ़ नहीं करता.

21 May, 2017

कश्मीर में जारी है आतंकियों की ठुकाई, आज फिर ठोंके गए 2 आतंकवादी

कश्मीर में जारी है आतंकियों की ठुकाई, आज फिर ठोंके गए 2 आतंकवादी

kashmir-nowgam-2-more-terrorists-killed-in-today-encounter

Nowgam, Kashmir: कश्मीर में आतंकवादियों की ठुकाई जारी है, कल भी दो आतंकवादी ठोंके गए थे तो आज 2 आतंकवादी और ठोंक दिए गए, इस तरह से दो दिन में चार आतंकवादियों को जन्नत भेज दिया गया, हालाँकि इस मुठभेड़ में तीन भारतीय जवान भी शहीद हो गए.

जानकारी के अनुसार आज 2 आतंकवादियों ने जम्मू और कश्मीर के नौगाम सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश की, दोनों को देखते ही गोली मार दी गयी, इस इलाके में पिछले दो दिनों से ही आतंकवादियों की सफाई का अभियान जारी है लेकिन इन्हें जन्नत पहुँचने की इतनी जल्दी है कि खुद ही मरने चले आते हैं.

मारे गए आतंकवादियों के पास से 4 हथियार और युद्ध सामग्री बरामद की गयी है, सभी आतंकवादी लश्करे तैयबा के बताये जा रहे हैं.

17 May, 2017

आज रक्षा मंत्री अरुण जेटली और सेना प्रमुख विपिन रावत करेंगे श्रीनगर का दौरा

आज रक्षा मंत्री अरुण जेटली और सेना प्रमुख विपिन रावत करेंगे श्रीनगर का दौरा

arun-jaitley-and-army-chief-to-review-security-in-srinagar-today

श्रीनगर: आज केंद्रीय रक्षा मंत्री अरुण जेटली और सेना प्रमुख विपिन रावत कश्मीर घाटी का दौरा करके एंटी टेरर ऑपरेशन और सुरक्षा हालात का जायजा लेंगे साथ ही पाकिस्तान द्वारा लगातार सीजफायर उल्लंघन पर पर कार्यवाही पर रणनीति बनायेंगे.

जानकारी के लिए बता दें कि कृष्णा घाटी सेक्टर में दो भारतीय सैनिकों के सर काटे जाने के बाद पाकिस्तान के साथ लगातार तनाव की स्थिति बनी हुई है, पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा अंजाम दी गयी इस घटना को भारत ने बर्बरतापूर्ण बताया था.

जानकारी के लिए बता दें कि आज ही श्रीनगर में GST काउंसिल की दो दिवसीय बैठक हो रही है, अरुण जेटली वित्त मंत्री के तौर पर GST Council की बैठक में भाग लेंगे और रक्षा मंत्री के तौर पर घाटी और बॉर्डर का दौरान करेंगे.

14 May, 2017

कश्मीर में दो आतंकियों के दिन पूरे, बहादुर जवानों ने ठोंका

कश्मीर में दो आतंकियों के दिन पूरे, बहादुर जवानों ने ठोंका

handwara-waripora-encounter-indian-army-killed-2-let-terrorists

श्रीनगर: कश्मीर से आज एक बड़ी खबर आयी है, रिपोर्ट के अनुसार आज कुपवाड़ा के हंदवाड़ा इलाके के वारिपोरा गाँव में लश्करे तैयबा के दो खतरनाक आतंकियों और सेना के बीच जोरदार मुठभेड़ हुई जिसमें दोनों आतंकियों को सेना के बहादुर जवानों ने ठोंक दिया.

जानकारी के अनुसार मारे गए दोनों आतंकवादी कुपवाड़ा में आर्मी बेस कैम्प पर हमले में भी शामिल थे जिसमें तीन जवान शहीद हो गए थे, इन आतंकियों को सेना उसी दिन से तलाश रही थी और आज ये दोनों हत्थे चढ़ ही गए, सेना के जवानों ने भी इन्हें ठोंकने में देर नहीं लगाई.

रिपोर्ट के अनुसार दोपहर करीब 3.30 बजे सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हुई, केवल आधे घंटे में जवानों ने दोनों आतंकियों को ठोंक दिया और आर्मी कैम्प पर हुए हमले का बदला ले लिया.

06 May, 2017

अगर गिलानी इतना ही बड़ा जिहादी है तो इसने अपने बच्चों को जिहादी क्यों नहीं बनाया: जीतेन्द्र सिंह

अगर गिलानी इतना ही बड़ा जिहादी है तो इसने अपने बच्चों को जिहादी क्यों नहीं बनाया: जीतेन्द्र सिंह

jitendra-singh-slams-gilani-for-teaching-kashmiri-students-jihad

New Delhi : अलगाववादी नेता गिलानी ने कश्मीर के लोगों को स्कूल ना भेजने की अपील की है क्योंकि इससे वे पढ़ लिख कर अपने धर्म और अपनी संस्कृति से दूर हो जाएंगे और जिहादी नहीं बन पाएंगे. मतलब गिलानी कश्मीरी बच्चों को पढ लिखकर अच्छा आदमी बनाने के बजाय जिहादी बनाना चाहता है ताकि वे आतंकवादी बनकर कश्मीरी की आजादी के लिए लड़ सकें.

गिलानी को सबसे करारा जवाब केंद्रीय मंत्री जीतेन्द्र सिंह ने दिया है, उन्होंने कहा कि अगर गिलानी इतना ही बड़ा जिहादी है तो इसने अपने बच्चों को जिहादी क्यों नहीं बनाया, उन्होंने कहा कि गिलानी जिहाद के नाम पर अपनी रोजी रोटी सेंक रहा है, ये अपने बच्चों को तो विदेशी स्कूलों में पढाता है, अन्य सभी अलगाववादी नेता अपने बच्चों को बड़े बड़े और मंहगे स्कूलों में पढ़ा रहे हैं, सभी अलगाववादी नेताओं के बच्चे बड़े बड़े स्कूलों में पढ़ते हैं और अंगरेजी बोलते हैं लेकिन ये लोग गरीब कश्मीरियों को जिहादी बनने की ट्रेनिंग दे रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि इस वक्त कश्मीर में सेना ने भी कई स्कूल खोल रखें हैं जिसमें पढने के लिए बहुत सारे कश्मीरी बच्चों ने दाखिला लिया है, सेना के स्कूल में इसलिए भी लोग पढने जा रहे हैं क्योंकि वहां पर उन्हें सुरक्षा मिलती है, यही सब देखकर गिलानी बौखला गया और कश्मीरी लोगों को अपने बच्चों को स्कूलों में पढ़ाने के बजाय जिहादी बनाने की अपील कर डाली.
कश्मीरियों ने बोलीं महबूबा मुफ़्ती, अब इस दलदल से हमें सिर्फ एक व्यक्ति निकाल सकता है और वो है..

कश्मीरियों ने बोलीं महबूबा मुफ़्ती, अब इस दलदल से हमें सिर्फ एक व्यक्ति निकाल सकता है और वो है..

mehbooba-mufti-said-kashmir-become-daldal-only-pm-modi-can-help

Jammu: कश्मीर समस्या पर बोलते हुए मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने आज बड़ा बयान दिया है, उन्होंने मान लिया है कि कश्मीर इस वक्त एक दलदल बन गया है और इस दलदल से कश्मीरियों को सिर्फ एक व्यक्ति निकाल सकता है और वो हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी. महबूबा ने कहा कि मोदी जो भी फैसला लेंगे देश उसे मानेगा और वे ही कश्मीर के बारे में कोई फैसला लेंगे और इसे दलदल से निकालेंगे.

महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एक ताकतवर नेता हैं क्योंकि उन्होंने पाकिस्तान के लाहौर में जाकर दुनिया को आश्चर्यचकित कर दिया था, ये ताकत की निशानी है, इससे पहले वाले प्रधानमंत्री भी पाकिस्तान जाना चाहते थे लेकिन उन्होंने जुर्रत नहीं की.

हाल ही में कांग्रेस के एक नेता GS Charak ने कहा था कि PDP-BJP की सरकार में जम्मू का कोई विकास नहीं हुआ, इसपर बोलते हुए महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि कश्मीर में हालात सही नहीं हैं और इसका नुकसान जम्मू को भी हो रहा है लेकिन जम्मू में कई टूरिस्ट प्लेसेस हैं जिनके विकास के लिए हमने प्रयास किया है.

04 May, 2017

आज कश्मीर में होगा कुछ बड़ा, ‘सेना CRPF और पुलिस’ 24 गाँवों को घेरकर कर रही आतंकियों की तलाश

आज कश्मीर में होगा कुछ बड़ा, ‘सेना CRPF और पुलिस’ 24 गाँवों को घेरकर कर रही आतंकियों की तलाश

army-started-massive-anti-terror-operation-in-shopian-kashmir

Srinagar: आज कश्मीर में कुछ बड़ा होने वाला है क्योंकि सेना, CRPF और पुलिस ने मिलकर कश्मीर के शोपियां में आतंकियों के सफाई का अभियान शुरू किया है, आज सुबह ही हजारों सैनिकों ने करीब 24 गावों को एक साथ घेर लिया और आतंकियों की खोज शुरू कर दी.

माना जा रहा है कि हाल ही घटनाओं में शामिल हुए दर्जनों आतंकी इसी इलाके में छुपे हुए हैं और आतंकी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं, दो दिन पहले इन आतंकियों ने पांच पुलिसकर्मियों और दो बैंक कर्मियों की हत्या करके बैंक के पैसे और पुलिसवालों के हथियार लूट ले गए थे, इसके अलावा सेना के एक कैम्प पर हमला करके तीन जवानों की हत्या कर दी गयी थी. कल भी एक बैंक लूटी गयी थी.

सेना को खबर मिली है कि ये आतंकी इन्हीं 20 गाँवों में छुपे हुए हैं और मौका पाते ही आतंकी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं, इसलिए आज 24 गाँवों को एक साथ घेर लिया ताकि आतंकियों के बचने और निकल भागने का कोई रास्ता ही ना मिले. माना जा रहे हैं कि ये आतंकी पाकिस्तान में लश्करे तैयबा से ट्रेनिंग लेकर कश्मीर में घुसे हैं.

खबर के अनुसार सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू भी हो गयी है, कुछ स्थानीय युवक सेना पर पत्थरबाजी कर रहे हैं लेकिन उससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला क्योंकि आज सेना ने आतंकियों को ख़त्म करने का पूरा मन बना लिया है.
बैंक लूटने आते हैं और पुलिसवालों की राइफलें मुफ्त में ले जाते हैं महबूबा के बहके बच्चे?

बैंक लूटने आते हैं और पुलिसवालों की राइफलें मुफ्त में ले जाते हैं महबूबा के बहके बच्चे?

another-bank-looted-by-kashmiri-terrorists-in-pulwama-kashmir
New Delhi : जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती काश्मरी के पत्थरबाजों और आतंकवादियों को बहके बच्चे बताती हैं, अब इनके बहके बच्चे कश्मीर में खूब बैंक लूट रहे हैं, बोरी में भर भर कर रुपये ले जा रहे हैं, रुपये के साथ साथ ये लोग पुलिस वालों से हथियार भी छीन लेते हैं.

मतलब महबूबा के राज में पत्थरबाज आतंकियों को रुपये के साथ साथ हथियार भी मिल रहा है, इनकी जब मर्जी होती है, किसी भी बैंक में घुस जाते हैं और सारे रुपये लूट लेते हैं, इसके अलावा बैंक की सुरक्षा में लगे पुलिसवालों से हथियार भी छीन लेते हैं.

ऐसा लगता है कि महबूबा मुफ़्ती ने अपने बहके बच्चों पर गोलियां चलाने से पुलिस वालों को रोक रखा है, वरना बैंक में आते ही लुटेरों पर गोलियां चलाना पुलिसवालों का फर्ज बनता है, लेकिन पुलिस वाले ऐसा नहीं करते, पत्थरबाज आतंकी आराम से आते हैं, बैंक वालों को धमकाकर रुपये लूट ले जाते हैं, इसके अलावा पुलिस वालों से राइफल भी चीन ले जाते हैं और उसी राइफल से सेना पर गोलियां चलाते हैं.

दो दिन पहले महबूबा के बहके बच्चों ने कुलगाम में पांच पुलिस कर्मियों सहित दो बैंक कर्मियों की हत्या कर दी थी और सारा रुपये लूटकर फरार हो गए थे, रुपये के अलावा पुलिस वालों की 5 राइफल भी लूट ले गए.

आज फिर पत्थरबाज आतंकियों ने पुलवामा में नेहामा ककापोरा इलाके में एक बैंक लूट लिया.
अब देखिए, अपने बहके बच्चों को महबूबा मुफ़्ती ने क्या सन्देश दिया - उन्होंने कहा कि मैं पूछना चाहती हूँ कि बैंक को लूटकर और सिपाहियों की हत्या करके आपको क्या मिलेगा, युवाओं से अपील करती हूँ कि कश्मीर में शान्ति स्थापित करने में सहायता करें. 
आपने देखा ना, एक तरफ आतंकी पुलिस वालों की हत्या कर रहे हैं, उनसे हथियार छीनकर सेना पर गोलियां चला रहे हैं, बैंक से रुपये लूट रहे हैं और दूसरी तरह महबूबा मुफ़्ती उनसे शान्ति की अपील कर रही हैं, उनके जेहन में आतंकियों के लिए ना दर्द है और ना ही गुस्सा है क्योंकि उन्होंने इससे पहले इनके नाम पर ही राजनीतिक रोटी सेंकती रही हैं महबूबा मुफ़्ती, इससे पहले पत्थरबाजों की ही सरदार थीं महबूबा मुफ़्ती इसीलिए हत्यारों से शान्ति की अपील कर रही हैं. 

03 May, 2017

पत्थरबाज जिहादियों के सरदार उमर अब्दुल्ला ने की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मुलाक़ात

पत्थरबाज जिहादियों के सरदार उमर अब्दुल्ला ने की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मुलाक़ात

omar-abdulla-meet-sonia-gandhi-in-new-delhi-over-kashmir-issue

New Delhi: कश्मीर में पत्थरबाज आतंकवादियों का समर्थन करने वाले भारत के गद्दार नेता उमर अब्दुल्ला ने आज दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी से मुलाक़ात करके कश्मीर के अजेंडे पर बात की और उनसे कश्मीर मसले पर चर्चा की, इस वक्त कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस का अजेंडा एक ही लग रहा है और वो है कश्मीर के पत्थरबाज जिहादियों को भड़काकर कश्मीर में अशांति फैलाना ताकि BJP-PDP सरकार को फेल बताया जा सके.

जानकारी के लिए बता दें कि इस वक्त उमर अब्दुल्ला और उनके अब्बा फारूक अब्दुल्ला खुलेआम पत्थरबाजों के समर्थन के खड़े हो गए हैं, जब सेना ने अपने बचाव के लिए एक पत्थरबाज को गाडी के बोनट पर बाँध दिया था तो उमर अब्दुल्ला को बहुत पीड़ा हुई थी, उन्होंने तुरंत ही पत्थरबाज की फोटो शेयर करके सेना की आलोचना की थी.

उनके अब्बा और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला तो पत्थरबाजों को देशभक्त बताते हैं और कश्मीर को अलग देश मानते हैं इसीलिए दोनों को इस वक्त देश का सबसे बड़ा गद्दार कहा जा रहा है और इनकी कांग्रेस के साथ बहुत बन रही है.
7 लोगों के हत्यारे इस आतंकवादी को देखकर बोले लोग 'कुरान के साथ ही क्योंकि दिखते हैं आतंकी'

7 लोगों के हत्यारे इस आतंकवादी को देखकर बोले लोग 'कुरान के साथ ही क्योंकि दिखते हैं आतंकी'

kulgam-attack-jk-police-release-terrorist-photo-5-lakh-prize-for-info
श्रीनगर: आपने सुना होगा, कुछ दिन पहले कश्मीर के कुलगाम में बैंक की एक कैश वैन पर हमला करके 5 पुलिसकर्मियों और दो बैंक कर्मियों की हत्या कर दी गयी थी, वैन से कैश भी लूट लिया गया था और राइफल भी लूट ली गयी थी, उस आतंकी की पहचान कर ली गयी, फोटो में जो आतंकी कुरान पढ़ रहा है उसी आतंकी ने उस घटना को अंजाम दिया था और 7 लोगों की हत्या करके फरार है.

जम्मू और कश्मीर पुलिस ने इस आतंकवादी की फोटो जारी करते हुए ऐलान किया है कि इसकी खबर देने वाले को 5 लाख का ईनाम दिया जाएगा.

इसकी फोटो देखकर कई लोग कह रहे हैं कि 'आखिर कुरान के साथ ही आतंकवादी फोटो क्यों खिंचवाते हैं और कुरान लेकर अपने साथ क्यों चलते हैं.

02 May, 2017

मोदी सरकार का आदेश मिलते ही भारतीय सेना ने उड़ा दी 3 पाकिस्तानी चौकियां, कर दिया धुँवा धुँवा

मोदी सरकार का आदेश मिलते ही भारतीय सेना ने उड़ा दी 3 पाकिस्तानी चौकियां, कर दिया धुँवा धुँवा

indian-army-destroyed-3-pakistani-army-post-after-poonch-attack
नई दिल्ली, 2 मई: अगर सुविधा, ताकत और हथियारों की बात की जाय तो भारतीय सेना पाकिस्तान से 10 गुना अधिक ताकतवर है लेकिन भारत कभी भी पाकिस्तान पर पहले हमला नहीं करता, कल पूँछ जिले में बॉर्डर पर पाकिस्तान सेना से दो भारतीय जवानों की हत्या करके उनके शव के टुकड़े टुकड़े कर दिए थे, पूरे देश में पाकिस्तान से बदला लेने की मांग की जा रही है.

मोदी सरकार ने भी तुरंत ही सेना को खुली कार्यवाही का आदेश दे दिया, भारतीय सेना को जैसे ही सरकार से आदेश मिला उन्होंने तुरंत तीन पाकिस्तानी चौकियों को तबाह कर दिया और उनके इलाकों में धुँवा धुँवा कर दिया. पाकिस्तानी सैनिक पूंछ की तरफ LOC से आये थे तो भारत ने भी वहीँ पर हमला किया और तीनों चौकियों को तबाह कर दिया.

जानकारी के अनुसार अपने साथियों को भारतीय सीमा में प्रवेश दिलाने के लिए पाकिस्तानी सैनिकों ने कवर फायरिंग की थी, पाकिस्तानी सैनिकों ने किरपान और पिम्पल पोस्ट से फायरिंग की थी तो सेना से भी दोनों पोस्ट को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया. यह भी बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी सेना करीब 250 मीटर अन्दर तक भारतीय सीमा में घुस आयी थी और वहीँ पर उन्होंने दो सैनिकों की हत्या करने के बाद उनके शव को काट दिया.

भारत में इस वक्त गुस्से का माहौल है क्योंकि शहीद सैनिकों के परिवार वाले एक के बदले 50 पाकिस्तानी सैनिकों के सिर की मांग कर रहे हैं इसलिए आने वाले समय में भारत पाकिस्तान और और बड़ी कार्यवाही कर सकता है, आज भारत और पाकिस्तानी के DGMO में बात भी होने वाली है और रक्षा मंत्री अरुण जेटली भी प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात करके आगे की रणनीति बनायेंगे.

01 May, 2017

कश्मीर में आतंकियों ने फिर कर दिया बड़ा काण्ड, कैश वैन पर हमला करके 7 लोगों को मार डाला

कश्मीर में आतंकियों ने फिर कर दिया बड़ा काण्ड, कैश वैन पर हमला करके 7 लोगों को मार डाला

kulgam-terrorist-attack-7-policeman-and-2-bank-employee-killed
श्रीनगर, 1 मई: कश्मीर में आतंकवादियों ने अज फिर से खून का नंगा नाच खेला है, एक तरफ पाकिस्तानी सेना ने हमला किया है तो दूसरी तरह आतंकियों ने कश्मीर के अन्दर ही हमला किया है, बॉर्डर पर पाकिस्तानी सेना ने दो जवानों की हत्या कर दी और बाद में उन्हें शक को भी खराब कर दिया तो कश्मीर के अन्दर कुलगाम में आतंकियों ने बैंक की के कैश वैन पर हमला करके 7 लोगों को मार डाला.

मारे गए लोगों में 5 पुलिसकर्मी और 2 बैंक कर्मी हैं, पुलिसवालों को मारने के बाद आतंकी उनकी 5 SLR राइफल भी लूटकर ले गए.
पाकिस्तानियों ने आज फिर से 2 भारतीय जवानों का काट डाला सर, सेना को अटैक करने का दिया गया आदेश

पाकिस्तानियों ने आज फिर से 2 भारतीय जवानों का काट डाला सर, सेना को अटैक करने का दिया गया आदेश

pakistan-army-mutilates-2-indian-soldiers-body-in-poonchh

श्रीनगर, 1 मई: आज समझ लो कि पाकिस्तान ने अपनी सभी हदें पार कर दी हैं, आज पूंछ जिले की सीमा पर पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए रॉकेट लाँचर से हमला कर दिया जिसमें 2 जवान शहीद हो गए, पाकिस्तानी इतने पर ही नहीं माने, भारतीय सीमा में घुसे और दोनों मृत जवानों के शरीर को क्षत विक्षत कर दिया, ये भी कहा जा रहा है कि हेमराज की तरह ही दोनों जवानों के सर काटे गए हैं.

भारत की तरफ सभी पाकिस्तान को माकूल जवाब दिया जा रहा है हालाँकि अभी तक इस बात की खबर नहीं आयी है कि भारत ने पाकिस्तान का कितना नुकसान किया है. सेना की तरह से पाकिस्तान पर अटैक करने के आदेश दे दिए गए हैं, जल्द ही कोई बड़ी खबर सुनाई देगी.

जानकारी के अनुसार आज सुबह 8.30 से ही पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू कर दी थी, इस हमले में रॉकेट लाँचर के अलावा भारी और स्वचालित हथियार भी शामिल थे.

इस हमले में एक आर्मी जवान के अलावा BSF का एक जवान भी शहीद हो गया, भारत की तरफ से जवाबी कार्यवाही जारी है, आज हमले के तुरंत बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई जिसमें अजीत डोवाल और आर्मी चीफ भी शामिल थे, गृह मंत्री ने कड़ी कार्यवाही का आदेश दे दिया है. मीटिंग में कश्मीर के अलावा सुकमा में नक्सल हमले पर भी चर्चा की गयी.
पाकिस्तान ने की हद पार, भारतीय सीमा पर कर दिया रॉकेट लांचर से हमला, 2 जवान शहीद

पाकिस्तान ने की हद पार, भारतीय सीमा पर कर दिया रॉकेट लांचर से हमला, 2 जवान शहीद

pakistan-killed-2-indian-soldier-in-poonch-seasefire-violation
 श्रीनगर, 1 मई: आज समझ लोग कि पाकिस्तान ने अपनी सभी हदें पार कर दी हैं, आज पूंछ जिले की सीमा पर पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन करते हर रॉकेट लाँचर से हमला कर दिया जिसमें 2 जवान शहीद हो गए, भारत की तरफ सभी पाकिस्तान को माकूल जवाब दिया जा रहा है हालाँकि अभी तक इस बात की खबर नहीं आयी है कि भारत ने पाकिस्तान का कितना नुकसान किया है.

जानकारी के अनुसार आज सुबह 8.30 से ही पाकिस्तान ने फायरिंग शुरू कर दी थी, इस हमले में रॉकेट लाँचर के अलावा भारी और स्वचालित हथियार भी शामिल थे.

इस हमले में एक आर्मी जवान के अलावा BSF का एक जवान भी शहीद हो गया, भारत की तरफ से जवाबी कार्यवाही जारी है, आज हमले के तुरंत बाद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने हाई लेवल मीटिंग बुलाई जिसमें अजीत डोवाल और आर्मी चीफ भी शामिल थे, गृह मंत्री ने कड़ी कार्यवाही का आदेश दे दिया है. मीटिंग में कश्मीर के अलावा सुकमा में नक्सल हमले पर भी चर्चा की गयी.

30 April, 2017

कश्मीर घाटी में बमबारी करके सभी पत्थरबाज आतंकियों को एक साथ दफन देना चाहिए: प्रवीण तोगड़िया

कश्मीर घाटी में बमबारी करके सभी पत्थरबाज आतंकियों को एक साथ दफन देना चाहिए: प्रवीण तोगड़िया

praveen-todagia-advise-carpet-bombing-in-kashmir-ghanti
New Delhi, 30 April: विश्व हिन्दू परिषद् के मुखिया प्रवीण तोगड़िया ने कश्मीर मसले को लेकर एक बहुत ही धमाकेदार बयान दिया है, उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि कश्मीर घाटी के नागरिकों ने सेना के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है, यह आसानी से नहीं रुकने वाला, अब आतंकवादियों को सबक सिखाने के लिए उनके ऊपर कारपेट बॉम्बिंग यानी एकतरफा बमबारी करके सभी पत्थरबाजों और तन्क्वादियों को एक साथ दफ़न कर देना चाहिए.

प्रवीण तोगड़िया परशुराम जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे, उन्होंने कहा कि सेना पर पत्थरबाजी और आतंकी हमला रोकने के लिए अब घाटी में कारपेट बॉम्बिंग जरूरी है, घाटी में बमबारी करके एक साथ पूरी घाटी को ही तबाह कर देना चाहिए, सभी आतंकियों और पत्थरबाजों को एक साथ दफ़न करने का वक्त आ गया है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी कश्मीर में 80 हजार करोड़ का राहत पैकेज जारी कर रहे हैं, उन्हें इस पर पुनः विचार करना चाहिए और मेरी सलाह मानें तो इस पैसे का इस्तेमाल किसानों के हितों के लिए करना चाहिए, आज किसानों की हालत खराब है, लोग आत्महत्या करने के लिए मजबूर हैं, मोदी जी 80 हजार कश्मीर में देंगे तो पत्थर मिलेगा लेकिन अगर किसानों को देंगे तो उससे खाना मिलेगा.

28 April, 2017

सुप्रीम कोर्ट से बोली केंद्र सरकार, ना रुकेगी पैलेट गन, ना करेंगे अलगाववादियों से बात

सुप्रीम कोर्ट से बोली केंद्र सरकार, ना रुकेगी पैलेट गन, ना करेंगे अलगाववादियों से बात

center-told-sc-will-not-talk-to-separatist-will-use-pallet-gun

नई दिल्ली, 28 अप्रैल: आज पत्थरबाजों को लेकर केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट के बीच फिर से बहस हुई, केंद्र सरकार से सुप्रीम कोर्ट के जजों से साफ़ साफ़ कह दिया कि हम ना तो पैलेट गन का इस्तेमाल रोकेंगे और ना ही आजादी आजादी का नारा लगाने वाले अलगाववादियों से बातचीत करेंगे.

केंद्र सरकार की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए अटार्नी जेनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि हम पैलेट गन के इस्तेमाल पर तब तक बैन नहीं लगाएंगे जब तक कश्मीर में पत्थरबाजी होती रहेगी, हम पैलेट गन का इस्तेमाल उस वक्त करते हैं जब हमारे जवानों की जान को खतरा होता है, हमने पत्थरबाजों के लिए अन्य विकल्प ढूंढें हैं लेकिन अत्यंत मुश्किल हालात में हम पैलेट गन का भी इस्तेमाल करेंगे.

इसके बाद मुकुल रोहतगी ने कहा कि हम उन अलगाववादियों से कैसे बातचीत करें तो भारत की बर्बादी का नारा लगाते हैं, जिनका अजेंडा ही कश्मीर का विभाजन है हम उनके साथ बैठकर कैसे बात करें, उनसे किस प्रकार का विचार विमर्श करें, हम केवल जनता के प्रतिनिधियों से बातचीत के लिए तैयार हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि जम्मू और कश्मीर हाई कोर्ट के बार एसोसिएशन ने सुप्रीम कोर्ट में पैलेट गन पर रोक लगाने और बातचीत में हुर्रियत को भी शामिल करने की अपील की थी. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से उसका पक्ष रखने को कहा था.

जब केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से साफ़ साफ़ कह दिया कि हम पैलेट गन का इस्तेमाल करते रहेंगे और अलगाववादियों से बातचीत नहीं करेंगे तो सुप्रीम कोर्ट ने भी बार एसोसिएशन से साफ़ साफ कह दिया कि आप लोग पहले कश्मीर में शान्ति स्थापित करने में मदद करें, पत्थरबाजी रुकवाएं, अगर आप लोग पत्थरबाजी रुकवा देंगे तो हम भी केंद्र सरकार को पैलेट गन पर बैन लगाने का आदेश दे देंगे.

सुप्रीम कोर्ट ने बार एसोसिएशन से यह भी कहा कि कश्मीर में बातचीत करने के लिए आप लोग ऐसे लोगों को चुनिए जो जनता के प्रतिनिधि हों और शांति के पक्षधर हों, हम केंद्र सरकार को अलगाववादियों से बातचीत करने का आदेश नहीं दे सकते.

27 April, 2017

कश्मीरी जिहादी मांग रहे थे ठोंके गए आतंकी का शव तो सेना से एक पत्थरबाज को भी भेज दिया ऊपर

कश्मीरी जिहादी मांग रहे थे ठोंके गए आतंकी का शव तो सेना से एक पत्थरबाज को भी भेज दिया ऊपर

indian-army-killed-jihadi-stone-pelter-asking-terrorist-body
श्रीनगर, 27 अप्रैल: कश्मीर में आज फिर से जबरजस्त खून खराबा हुआ, पहले आतंकियों ने कुपवाड़ा आर्मी कैम्प पर बड़ा हमला करके तीन सैनिकों को शहीद कर दिया, उसके बाद सेना ने भी दो आतंकियों को मार गिराया. खुनी खेल इतने पर ही ख़त्म नहीं हुआ, आतंकी के मारे जाने के बाद स्थानीय जिहादी कश्मीरी सड़कों पर उतर आये और मारे गए आतंकी का शव मांगने लगे लेकिन सुरक्षाबलों ने शव देने के इनकार कर दिया, इसके बाद पत्थरबाजों ने प्रदर्शन किया, जब बात बढ़ गयी तो सेना के एक पत्थरबाज जिहादी को भी ऊपर भेज दिया.

जानकारी के अनुसार आतंकी के मारे जाने के बाद आतंक समर्थक कश्मीरी जिहादी सड़कों पर उतर आये, देखते ही देखते सैकड़ों लोग सुरक्षाबलों के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे, ये लोग आतंकियों की लाश मांग रहे थे, जैसे ही जिहादियों की भीड़ उग्र होने लगी पहले सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले छोड़े, इसके बाद भी जिहादी नहीं माने तो सुरक्षाबलों ने फायरिंग कर दी जिसमें एक जिहादी की मौत हो गयी जबकि कई घायल हो गए.

जानकारी के लिए बता दें कि आतंकियों ने आर्मी के बेस कैम्प पर आज सुबह ही हमला किया था, इस हमले में कैप्टन सहित तीन जवान शहीद हो गए थे, बाद में दो आतंकी भी मार दिए गए, ये आतंकी सेना की वर्दी पहनकर आये थे जिसकी वजह से इन्हें पहचाना नहीं जा सका.