Showing posts with label International. Show all posts
Showing posts with label International. Show all posts

23 May, 2017

जेम्स बांड सीरीज हे हीरो रोजर मूर का कैंसर की वजह से निधन

जेम्स बांड सीरीज हे हीरो रोजर मूर का कैंसर की वजह से निधन

james-bond-series-heero-roger-moore-deadth-due-to-cancer

लन्दन: जेम्स बांड सिरीज के पूर्व हीरो सर रोजर मूर का आज 89 वर्ष की आयु में निधन हो गया, वे काफी समय से कैंसर की बेमारी से जूझ रहे थे लेकिन इस जानलेवा बीमारी ने आखिरकार उन्हें हरा ही दिया और 89 वर्ष की आयु में उनका स्वर्गवाश हो गया.

उनके निधन का समाचार उनके परिवार वालों ने उनके ही ट्विटर हैंडल पर दिया, उनके बेटे ने कहा - बड़े दुःख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि आज सर रोजर मूर का निधन हो गया, हम बहुत दुखी हैं.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रोजर मूर का जन्म 14 अक्टूबर 1927 को स्टॉकवेल, लन्दन में हुआ था, वे जेम्स बांड सीरीज फिल्म के तीसरे हीरो थे, उन्होंने 1973 से 1985 के बीच जेम्स बांड सिरीज की सात फिल्मों में काम किया था.

उनकी बेस्ट फ़िल्में -  'The Spy Who Loved Me', "Live And Let Die', 'For Your Eyes Only.'
मैनचेस्टर बम धमाके में 19 की मौत, PM MODI ने की कड़ी निंदा

मैनचेस्टर बम धमाके में 19 की मौत, PM MODI ने की कड़ी निंदा

india-pm-narendra-modi-condemn-manchester-blast-19-death

New Delhi: कल ब्रिटेन के मैनचेस्टर शहर में एक म्यूजिक कंसर्ट के दौरान जोरदार बम धमाका हुआ जिसमें कम से कम 20 लोगों की मौत हो गयी जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो गए हैं, लगभग सभी देशों ने इस हमले की कड़ी निंदा की है, हमारे भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी इस धमाके की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि - मैनचेस्टर हमले से गहरा दुःख पहुंचा है, हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं, हम दुःख ही इस घडी में पीड़ित परिवार के साथ हैं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामता करते हैं.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कल मैनचेस्टर एरेना में पॉप सिंगर एरियाना ग्रैंडे का शो चल रहा था, समारोह भीड़ से खचाखच भरा था, लोग आनंद में खोये हुए थे, रात 10.35 पर अचानक धमाके की आवाज आयी, देखते ही देखते लोगों में दहशत मच गयी, हर तरह मची हुई थी, ब्लास्ट के फ़ौरन बाद एरेना को खाली करवा लिया गया. रिपोर्ट के अनुसार ब्लास्ट एरेना की खिड़की के पास हुआ जिसमें 19 लोगों की मौत हो गयी जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो गए.

फिलहाल अभी तक इस हमले की किसी आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है हालाँकि इसे एक आत्मघाटी विस्फोट बताया जा रहा है, पुलिस ने कैथेड्रल गार्डन में भी एक जिन्दा बम बरामद किया है जिसे निष्क्रिय कर दिया गया है.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने भी इस हमले की निंदा की है और इसे आतंकी हमला समझकर जांच करने के आदेश दिए हैं.

20 May, 2017

रक्षा विशेषज्ञों ने जताई आशंका, नीच पाकिस्तान ने शायद पहले ही कर दी है कुलभूषण जाधव की हत्या

रक्षा विशेषज्ञों ने जताई आशंका, नीच पाकिस्तान ने शायद पहले ही कर दी है कुलभूषण जाधव की हत्या

indian-defens-experts-fear-kulbhushan-jadhav-killed-by-pakistan

New Delhi: अंतर्राष्ट्रीय न्यायिक अदालत द्वारा कुलभूषण जाधव की फांसी रोकने के आदेश के बावजूद भी पाकिस्तान अपनी बात पर कायम है, पाकिस्तान हमेशा यही रट लगा रहा है कि हम अन्तर्रष्ट्रीय अदालत का आदेश नहीं मानेंगे, हमारे पास कुलभूषण जाधव के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं, राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा और कुलभूषण जाधव को राजनयिक मदद किसी भी कीमत पर नहीं पहुंचाई जाएगी.

सबसे बड़ा सवाल तो यही उठता है कि अगर पाकिस्तान को अन्तर्रष्ट्रीय अदालत का आदेश नहीं मानना था तो उसनें अदालत में पैरवी क्यों की, उसके वकील ने पाकिस्तान को सही साबित करने के लिए पूरी ताकत क्योंकि लगाई और जब पाकिस्तान केस हार गया तो वह अंतर्राष्ट्रीय अदालत का आदेश क्यों नहीं मान रहा है.

अब भारतीय रक्षा विशेषज्ञ आशंका जता रहे हैं कि पाकिस्तान ने शायद पहले ही कुलभूषण जाधव की हत्या कर दी है, पाकिस्तना ने या तो टार्चर करके कुलभूषण जाधव को मार डाला और बाद में उनको फांसी की सजा सुनाने का नाटक रचा ताकि दुनिया को ये ना लगे कि पाकिस्तान ने कैदी के साथ अन्याय किया है साथ ही मानवाधिकार का उल्लंघन किया है.

आज पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के सलाहकार और विदेश मंत्री सरताज अजीज ने भी साफ़ साफ़ कहा कि पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय अदालत के आदेश को नहीं मानेगा और उसके सामने सभी विकल्प खुले हैं, सरताज अजीज के इस बयान के बाद भारतीय रक्षा विशेषज्ञों ने कुलभूषण जाधव की ह्त्या की आशंका जताई है, यह भी हो सकता है कि कुलभूषण जाधव ऐसी हालत में ना हों कि उन्हें दुनिया के सामने लाया जा सके.

अगर पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय अदालत का आदेश नहीं मानेगा तो भी उसकी छवि खराब होगी और अगर उसनें कुलभूषण जाधव की हत्या पहले कर दी है तो भी उसकी बदनामी होगी क्योंकि जिस दिन कुलभूषण जाधव को फांसी दी जाएगी, उस दिन तो उनकी सूरत पाकिस्तान को दिखानी ही पड़ेगी, अब सवाल ये है कि अगर पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की हत्या पहले ही कर दी है तो वह फांसी पर किसे चढ़ाएगा, वह किसी को फांसी पर चढ़ाएगा या चुपचाप ये बता देगा कि कुलभूषण जाधव को फांसी दी जा चुकी है और उनकी लाश किसी को नहीं मिलेगी. पाकिस्तान इतना नीच देश है कि वहां पर कुछ भी हो सकता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर पाकिस्तान ने अंतर्राष्ट्रीय अदालत का आदेश नहीं माना तो यह मामला UNSC में जाएगा वीटो पॉवर वाले पाँचों देश इस केस का फैसला करेंगे, पाकिस्तान को भरोसा है कि चीन उसकी मदद जरूर करेगा और अपने वीटो का अधिकार करके कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा बरकरार रखेगा.

19 May, 2017

कुलभूषण जाधव पर भारत की कूटनीतिक जीत से बौखलाया पाक बोला 'हम नहीं मानेंगे ICJ की बात'

कुलभूषण जाधव पर भारत की कूटनीतिक जीत से बौखलाया पाक बोला 'हम नहीं मानेंगे ICJ की बात'

pakistan-disappoint-of-icj-verdict-over-kulbhushan-jadhav

नई दिल्ली : कुलभूषण जाधव मामले में भारत को पाकिस्तान पर बड़ी कूटनीतिक जीत मिली है जिसकी वजह से पाकिस्तान तिलमिला गया है और ICJ कोर्ट का आदेश मानने से इनकार कर दिया है, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कल दिनांक 18 मई को अंतर्राष्ट्रीय न्यायायिक अदालत ने पाकिस्तान की दलीलों को दरनिकार करके और भारत की दलीलों को स्वीकार करके कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगा दी थी साथ ही कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुँच देने का आदेश दिया था.

कुलभूषण जाधव की फांसी रुकने के आदेश के बाद भारत में खुशियाँ मनाई जा रही हैं जबकि पाकिस्तान में दुःख का माहौल है, पाकिस्तान के आला अधिकारी तिलमिलाए हुए हैं, पाकिस्तान सरकार ने तो ICJ कोर्ट का आदेश मानने से ही इनकार कर दिया है.

कल पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने प्रेस कांफ्रेंस करके भारत पर जमकर हमला वोला, जकारिया ने कहा कि भारत ने इस मामले को अंतर्राष्ट्रीय न्यायिक अदालत में मानवीय नजरिये से पेश करके दुनिया भारत के लोगों का ध्यान भटकाया है, भारत ऐसे आदमी को बचाना चाहता है जिसकी वजह से पाकिस्तान के कई निर्दोष नागरिक मारे गए, पाकिस्तान के राष्ट्रहित में हम ICJ का फैसला मंजूर नहीं करेंगे. 

11 May, 2017

संसद में अपनी नवजात बच्ची को स्तनपान कराकर छा गयी ऑस्ट्रेलिया की सांसद लारिसा वाटर्स

संसद में अपनी नवजात बच्ची को स्तनपान कराकर छा गयी ऑस्ट्रेलिया की सांसद लारिसा वाटर्स

australia-senator-larissa-waters-breastfeed-her-daughter

ऑस्ट्रेलिया के राज्य क्वींसलैंड की सांसद लारिसा वाटर्स अपने 2 महीने की नवजात बच्ची को संसद भवन में ही स्तनपान कराकर दुनिया भर में छा गयी हैं और महिलाओं के सामने अनूठा उदाहरण भी पेश किया है. उनकी बच्ची का नाम अलिया है जिसे उन्होंने 2 महीने पहले ही जन्म दिया है. संसद में स्तनपान करने वाली आलिया दुनिया की पहली बच्ची बन गयी हैं.

अपनी बच्ची को स्तनपान कराते हुए लारिसा वाटर्स ने ट्विटर पर फोटो शेयर की और कहा - मुझे बहुत गर्व है कि मेरी बेटी आलिया संघीय संसद में स्तनपान करने वाली पहली बच्ची बन गयी है.
जानकारी के लिए बता दें कि लारिसा वाटर्स ऑस्ट्रेलिया ग्रीन पार्टी की सह-उप नेता हैं, वह मंगलवार को ही मैटरनिटी लीव से वापस लौटी थीं लेकन उन्होंने अपनी बेटी को घर पर छोड़ने के बजाय अपने साथ संसद में ले आयीं, चर्चा में भाग लिया, और काम के दौरान ही उन्होने अपनी बेटी को स्तनपान भी कराया.

आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें कि पहले ऑस्ट्रेलिया की संसद में नवजात बच्चों को स्तनपान कराना प्रतिबंधित था लेकिन लारिसा वाटर्स ने पिछले साल ने संसद में आवाज उठाकर बच्चों को स्तनपान कराने के कानून में परिवर्तन करा दिया और संसद में स्तनपान कराने से प्रतिबन्ध हटा लिया गया.

06 May, 2017

भारत की सफलता पर रोया पाकिस्तान, बोला, हमें इस प्रोग्राम में शामिल ही नहीं करना चाहता था भारत

भारत की सफलता पर रोया पाकिस्तान, बोला, हमें इस प्रोग्राम में शामिल ही नहीं करना चाहता था भारत

india-launch-gsat-5-paksitan-upset-because-he-lost-opportunity

इस्लामाबाद: भारत ने आज GSAT-5 उपग्रह लांच करके साउथ एशिया के 6 देशों को बड़ा आसमानी तोहफा दिया है लेकिन पाकिस्तान ने यह तोहफा लेने से खुद ही इनकार कर दिया क्योंकि वह आतंकवाद के रास्ते पर चलना चाहता है, अगर वह भारत का तोहफा कबूल कर लेता और आतंकवाद के रास्ते पर भी चलता रहता तो उसकी दुनिया में बहुत बदनामी हो जाती.

बहरहाल, पाकिस्तान ने यह तोहफा ना लेने का इल्जाम भी भारत पर लगाया है, उसने कहा की भारत ने पहले ही कहा था कि वह यह उपग्रह खुद बनाएगा, खुद लांच करेगा और खुद ही मॉनिटर करेगा, इसलिए हमारा इस प्रोग्राम में शामिल होने का सवाल ही नहीं पैदा होगा, जब भारत ने हमें उपग्रह के निर्माण में शामिल ही नहीं किया तो हम भारत से तोहफा क्यों लें.

दरअसल पाकिस्तान चाहता था कि भारत उसे उपग्रह के निर्माण, लांचिंग और संचालन के प्रोग्राम में शामिल कर ले ताकि पाकिस्तान भी भारत की अंतरिक्ष तकनीक सीख जाए लेकिन भारत अपनी टेक्नोलॉजी अपने दुश्मन देश पाकिस्तान को क्यों देगा, यही सब सोचकर भारत ने साउथ एशिया के किसी भी देश को उपग्रह निर्माण, लांच और सञ्चालन में शामिल नहीं किया है और सभी देशों को अपनी तरफ से तोहफा दिया है, अब ये देश भारत को कुछ फीस देकर इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर सकेंगे.

अब साउथ एशिया के पाँचों देश - श्री लंका, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, नेपाल, भूटान और मालदीव्स भारत के सैटेलाईट का इस्तेमाल करके आगे बढ़ेंगे और विकास करेंगे जबकि पाकिस्तान आतंकवाद के रास्ते पर आगे बढ़कर भारत के विनाश का सपना देखता रहेगा. एक तरह से यह भी कह सकते हैं कि अब भारत SAARC देशों का भाग्य विधाता बन गया है क्योंकि भारत जितनी सस्ती टेक्नोलॉजी दुनिया के किसी भी देश में नहीं है, अब भारत पर साउथ एशिया के सभी देश निर्भर हो गए हैं. चीन का अपना खुद का सैटेलाईट है लेकिन भारत की तुलना में उसका खर्च बहुत अधिक है.

29 April, 2017

डेनी क्वॉन को मंहगा पड़ा 'बहुत सेक्सी' होना, सरकार ने लगाया फिल्म करने पर प्रतिबन्ध

डेनी क्वॉन को मंहगा पड़ा 'बहुत सेक्सी' होना, सरकार ने लगाया फिल्म करने पर प्रतिबन्ध

actress-denny-kwan-very-hot-ban-for-acting-in-films
कैंबोडिया, 29 अप्रैल: कम्बोडिया की के फिल्म अभिनेत्री डेनी क्वान को फिल्म में एक्टिंग करने से सिर्फ इसलिए प्रतिबंधित कर दिया गया है क्योंकि वह बहुत ही सेक्सी हैं, जानकारी के लिए बता दें कि 24 वर्षीय डेनी क्वान अब तक कई फिल्मों में काम कर चुकी हैं, हाल ही में डेनी क्वान और कम्बोडिया की कल्चर एवं फाइन आर्ट्स मत्रालय के साथ उनका एक सेशन था जिसमें उन्होंने काफी हॉट कपडे पहन रखे थे, सरकार ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन मना और उन्हें शूटिंग करने से बैन कर दिया.

जानकारी के अनुसार अब डेनी क्वान पर 12 महीने तक शूटिंग करने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है, अब वे 12 महीने तक कैमरे के सामने नहीं आ पाएंगी, कई लोगों ने कम्बोडिया सरकार के इस फैसले की आलोचना की है, हालाँकि सरकार का कहना है कि हमें पहले ही डेनी क्वान को बता दिया था कि कैसे कपडे पहनने हैं लेकिन उन्होंने भड़काऊ कपडे पहनकर अचार संहिता का उल्लंघन कर दिया.

इस मामले पर अभिनेत्री डेनी क्वान ने कहा कि जब मंत्रालय ने उन्हें पहली बार बुलाया था तो बेटी की तरह ट्रीट किया था और शिक्षित किया गया, वे जैसा चाहें वैसे कपडे पहनने का अधिकार रखती हैं, वह मंत्रालय के साथ शूटिंग करने के लिए हॉट कपड़ों में गयीं तो उन्हें बैन कर दिय गया.

28 April, 2017

चौंकाने वाली खबर, आतंकी दाऊद इब्राहीम की पाकिस्तान में मौत

चौंकाने वाली खबर, आतंकी दाऊद इब्राहीम की पाकिस्तान में मौत

dawood-ibrahim-death-in-pakistan-media-reports

New Delhi, 28 April: अभी इस खबर की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि आतंकवादी दाऊद इब्राहीम की पाकिस्तान में मौत हो गयी है, बताया जा रहा है कि दाऊद इब्राहीम को काफी समय से ब्रेन में ट्यूमर था जिसके इलाज के लिए पाकिस्तान के मिलिट्री हॉस्पिटल में उनकी ब्रेन सर्जरी की गयी थी, उसका ऑपरेशन सफल नहीं हुआ और उसकी मौत हो गयी, मिलिट्री हॉस्पिटल में ही उसनें अंतिम सांस ली.

रिपोर्ट के अनुसार दाऊद इब्राहीम का ऑपरेशन 22 अप्रैल को किया गया था, उसे अंतिम बार 19 अप्रैल को देखा गया था, सर्जरी के बाद उसकी हालत काफी सीरियस हो गयी थी और उसे वेंटीलेटर पर रखा गया था.
 देखा गया था।

जानकारी के लिए बता दें कि दाऊद इब्राहीम भारत का सबसे बड़ा दुश्मन और मोस्ट वांटेड आतंकवादी है, वह 1993 में मुंबई में बड़ा बम धमाका करके फरार हो गया था, उस धमाके में 300 लोगों की मौत हो गयी थी जबकि 700 लोग घायल हो गए थे, उस वारदात को अंजाम देने के बाद दाऊद इब्राहीम पाकिस्तान में ISI और पाकिस्तानी सेना की सुरक्षा में रहता था, पाकिस्तान में ही बैठकर वह भारत में अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देता था, भारत में अभी भी उसका जाल फैला हुआ था, अमेरिका ने उसे अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर रखा है.
डोनाल्ड ट्रम्प की उड़ी नींद, बोले, लगता है नार्थ कोरिया के साथ होगा महासंग्राम, छिड़ेगा युद्ध

डोनाल्ड ट्रम्प की उड़ी नींद, बोले, लगता है नार्थ कोरिया के साथ होगा महासंग्राम, छिड़ेगा युद्ध

donald-trump-told-chances-of-war-between-america-and-north-Korea
Washington, 28 April: नार्थ कोरिया को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की नींद उड़ गयी है, अब उन्हें आशंका सता रही है कि नार्थ कोरिया के साथ उन्हें युद्ध करना पड़ सकता है और अगर ऐसा हुआ तो बहुत नुकसान हो सकता है.

आज डोनाल्ड ट्रम्प के कार्यकाल के 100 दिन पूरे हो गए, उन्होंने मीडिया को इंटरव्यू देते वक्त कहा कि अगर नार्थ कोरिया ने परमाणु कार्यक्रम जारी रखा तो अमेरिका उसके खिलाफ युद्ध छेड़ सकता है, ऐसा होने पर अमेरिका और नार्थ कोरिया के बीच बहुत बड़ा संघर्ष हो सकता है क्योंकि नार्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन किसी भी कीमत पर पीछे हटने को तैयार नहीं है. वह अमेरिका का इंतजार कर रहा है और उसनें युद्ध का अभ्यास भी शुरू कर दिया है.

डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि वह चाहते हैं कि आर्थिक प्रतिबन्ध लगाकर शान्ति के साथ इस समस्या से निपटा जाय लेकिन अगर नार्थ कोरिया का यही रूख रहा तो सैन्य कार्यवाही करनी ही पड़ेगी, उन्होंने कहा कि हम कूटनीतिक ढंग के समस्याओं को हल करना पसंद करते हैं लेकिन नार्थ कोरिया के मामले में हर कोशिश बेकार गयी है.

फिलहाल अमेरिका ने कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु मिसाइल से लैश पनडुब्बी को भेज दिया है, नार्थ कोरिया ने भी पनडुब्बी को ध्वस्त करने की चेतावनी दी है, नार्थ कोरिया ने पूरी तरह से युद्ध करने का मन बना दिया है और अगर युद्ध हुआ तो सबसे अधिक नुकसान साउथ कोरिया और जापान को होगा क्योंकि नार्थ कोरिया मिसाइल हमला करने दोनों देशों को तहस नहस कर देगा क्योंकि अमेरिका की सेनायें दोनों देशों में मौजूद हैं.

23 April, 2017

‘किम जोंग उन’ ने डोनाल्ड ट्रम्प को धमकाया, भद्दे जानवर जैसा है तुम्हारा युद्धपोत, उड़ा दूंगा

‘किम जोंग उन’ ने डोनाल्ड ट्रम्प को धमकाया, भद्दे जानवर जैसा है तुम्हारा युद्धपोत, उड़ा दूंगा

kim-jong-un-threaten-donald-trump-to-destroy-us-warship

प्योंगयांग, 23 अप्रैल: नार्थ कोरिया के शासक किम जोंग उन को कोई तानाशाह बोलता है कोई सनकी बोलता है और कोई पागल भी बोल देता है लेकिन इतना तो तय है कि वह किसी से डरते नहीं हैं यहाँ तक कि विश्व के सबसे ताकतवर देश अमेरिका और सबसे ताकतवर नेता डोनाल्ड ट्रम्प से भी नहीं डरते हैं, आज उन्होंने डोनाल्ड ट्रम्प को साफ़ साफ़ धमकी दी कि अगर उन्होंने नार्थ कोरिया पर हमला करने की कोशिश की तो उनके जानवर से दिखने वाले भद्दे युद्धपोत को उड़ा देंगे.

आज नार्थ कोरिया के सरकारी अखबार में अमेरिकी युद्धपोत कार्ल विन्सन को जानवर जैसा भद्दा बताया गया है और किम जोंग ने उसे उड़ाने की धमकी दी है.

अखबार में लिखा गया है कि अमेरिका का भद्दा युद्धपोत कार्ल विन्सन भले ही परमाणु मिसाइलों से लैश है लेकिन हमारी सेना एक ही हमले में इसे नेस्तनाबूद करने के लिए तैयार है, ये हमारी सेना को अपनी ताकत दिखाने का असली मौका होगा.

जानकारी के लिए बता दें कि डोनाल्ड ट्रम्प ने खुद बयान दिया था कि उनका युद्धपोत कार्ल विन्सन नार्थ कोरिया को सबक सिखाने के लिए आगे बढ़ रहा है, इसके बाद नार्थ कोरिया ने कहा था कि अमेरिका हमें कमजोर देश समझने की भूल ना करे क्योंकि हमारे पास ऐसी ताकत है कि हम केवल 3 बमों से पूरी दुनिया तबाह कर सकते हैं. नार्थ कोरिया की इस धमकी के बाद तीसरे विश्व युद्ध का खतरा बढ़ गया है साथ ही जापान में डर का माहौल है क्योंकि नार्थ कोरिया जापान को ही सबसे बड़ा दुश्मन मानता है और पहला हमला वो जापान पर ही करेगा. नार्थ कोरिया की धमकी के बाद जापान में भी परमाणु बम विकसित करने मांग उठने लगी है ताकि नार्थ कोरिया के हमलों का जवाब दिया जा सके.

15 April, 2017

बेटी के साथ अवैध संबंध के शक में काट डाला युवक का लिंग

बेटी के साथ अवैध संबंध के शक में काट डाला युवक का लिंग

a-father-chops-penis-of-15-year-boys-for-relation-with-daughter
Lahore: पाकिस्तान के लाहौर शहर से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आयी है, खबर है कि एक बेटी के बाप ने अपनी बेटी के 15 वर्षीय आशिक का सिर्फ इसलिए लिंग काट डाला क्योंकि उसे शक था कि युवक और उसकी बेटी के बीच में अवैध संबंध हैं, उस व्यक्ति ने युवक का लिंग काटने के अलावा उसकी ऑंखें भी निकला लीं.

इस मामले में पीड़ित परिवार का कहना है कि पहले उसके बेटे को तीन लोगों ने लाहौर में अपहरण किया और उसके बाद युवक के साथ दिल दहलाने वाली घटना को अंजाम दिया, फिलहाल युवक को डॉक्टरों से किसी तरह से बचा लिया है.

रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और घटना की जांच शुरू कर दी है, युवक का लिंग काटने के अलावा उसकी ऑंखें भी गोद दी गयी थीं, उसे रावी नदी के पास सूनसान जगह पर तड़पता हुआ छोड़कर सभी आरोपी फरार हो रहे थे, हालाँकि वहां से गुजरते हुए एक राहगीर ने उसे खून से लथपथ देखा तो तुरंत अस्पताल में भर्ती करा दिया और उसकी जान बचा ली.

14 April, 2017

अमेरिका ने गिराया आतंकियों पर 'महाबम', देखें तबाही का VIDEO

अमेरिका ने गिराया आतंकियों पर 'महाबम', देखें तबाही का VIDEO

us-army-moab-distruction-video-in-afghanistan-isis-camp

काबुल, 14 अप्रैल: अफगानिस्तान के नांगरहर प्रांत में अमेरिकी बम हमले में इस्लामिक स्टेट (ISIS) के 36 आतंकवादी मारे गए। अमेरिकी सेना ने शक्तिशाली GBU-43 बम गुरुवार को गिराया, जिसे 'Mother Of All Bomb' यानी MOAB भी कहा जाता है। अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता मुहम्मद रदमानिश ने शुक्रवार को बताया कि बमबारी के दौरान बड़ी मात्रा में आतंकवादियों के हथियार भी नष्ट किए गए।

अमेरिकी सेना ने जीबीयू-43 बम नांगरहर प्रांत के आचिन जिले में गुरुवार को उन गुफाओं को निशाना बनाकर गिराए, जिनका इस्तेमाल आतंकवादी अपने ठिकानों के रूप में करते थे। इसके लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की अनुमति ली गई थी।

आज US ARMY ने इस बम का वीडियो भी जारी किया, आप भी इस VIDEO को देख सकते हैं-

10 April, 2017

कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने सुनाई फांसी की सजा

कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने सुनाई फांसी की सजा

pakistan-court-order-sentenced-to-death-to-kulbhushan-jadhav

इस्लामाबाद: पाकिस्तान से एक बड़ी खबर आयी है जिसके अनुसार भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में फांसी की सजा सुना दी है, कुलभूषण जाधव भारतीय नौ सेना में अधिकारी थे लेकिन उन्होंने अपने पद से इस्तीफ़ा देकर खुद का बिजनेस शुरू किया था, वह इरान में रहते थे लेकिन पाकिस्तान का दावा है कि उन्हें बलोचिस्तान में भारतीय खुफिया एजेंसी RAW के लिए जासूसी करते गिरफ्तार किया गया था,

पाकिस्तानी दावे के अनुसार कुलभूषण जाधव को 3 मार्च 2016 को बलूचिस्तान के चमान इलाके से गिरफ्तार किया गया था, पाकिस्तान की ISI ने बयान जारी किया है कि दुश्मन देश के जासूस को पाकिस्तानी आर्मी एक्ट (PAA) के तहत जनरल कोर्ट मार्शल द्वारा मौत की सजा दी जाती है, आज आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने उनकी मौत की सजा पर मुहर लगा दी.

पाकिस्तान ने कुलभूषण पर लगाए थे गंभीर आरोप

पाकिस्तना ने कुलभूषण पर गंभीर आरोप लगाए थे जिसमें -

  • विध्वंशकारी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप
  • क्वेटा के आतंकवाद निरोधन विभाग ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया था
  • पिछले साल जाधव का इकबालिया बयान जारी किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि वे भारतीय नौसेना के सेवारत अधिकारी हैं
  • उनके खिलाफ RAW के लिए काम करने का आरोप है

07 April, 2017

दोस्त बने जानी दुश्मन, अमेरिका और रूस में शुरू हुई जंग की तैयारी, बुलायी गयी आपात बैठक

दोस्त बने जानी दुश्मन, अमेरिका और रूस में शुरू हुई जंग की तैयारी, बुलायी गयी आपात बैठक

russia-america-war-vladimir-putin-called-emergency-meeting-unsc

दमिश्क, 7 अप्रैल: आपने सुना होगा कि अमेरिका चुनाव से पहले रूस ने ट्रम्प को जिताने के लिए हैकिंग की, पता नहीं यह आरोप सही था या गलत लेकिन पुतिन और ट्रम्प को दोस्त बताया जाने लगा, लेकिन आज वही दोस्त जानी दुश्मन बन गए हैं क्योंकि सीरिया ने अमेरिका के समर्थन वाले सीरिया पर केमिकल अटैक कर दिया जिसमें करीब 50 लोग मर गए, उसका बदला लेते हुए अमेरिका ने रूस के समर्थन वाले सीरिया पर क्रूज मिसाइलों से हमला कर दिया जिसमें करीब 15 लोग मारे गए.

अमेरिका के जवाबी हमले से रूस बौखला गया है, आज राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने कहा कि ये हमले एक संप्रभु देश पर आक्रमण और अंतर्राष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन है। रूस ने अमेरिका को चेताते हुए कहा कि इससे रूस के साथ उसके संबंध खराब होंगे।

इन हमलों के कुछ ही घंटों के भीतर रूस ने सीरिया के आसमान में टकराव रोकने से संबंधित अमेरिका के साथ हुए एक समझौते को रद्द कर दिया।

रूस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से सीरिया की स्थिति पर चर्चा के लिए एक आपातकाल बैठक बुलाने का आग्रह किया है।

सीरिया ने इस मिसाइल हमले को अमेरिकी आक्रमण बताया है और रूस और ईरान से इस मुद्दे पर चर्चा की है।

सीरिया की असद सरकार के खिलाफ यह अमेरिका द्वारा किया गया पहला प्रत्यक्ष सैन्य हमला है। 

ट्रंप ने फ्लोरिडा में संवाददाताओं से कहा कि सीरिया ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के आग्रहों को दरकिनार किया है।

अमेरिका सीरिया में रासायनिक हमलों के लिए असद सरकार को जिम्मेदार ठहरा रहा है। इन हमलों में 70 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि अमेरिका के युद्धक विमानों से दागी गई 59 मिसाइलों में से सिर्फ 23 ही सही निशाने पर लगीं।

अमेरिका का कहना है कि उसने मिसाइल दागने से पहले रूस और तुर्की को सूचित कर दिया था। 

रूस के राष्ट्रपति के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने कहा कि उम्मीद है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद अमेरिकी हमले की निंदा करेगा।

रूसी संघ परिषद की रक्षा और सुरक्षा संबंधित समिति के अध्यक्ष विक्टर ओजेरोव ने शुक्रवार को कहा कि सीरिया में अमेरिकी हमला संयुक्त राष्ट्र के एक सदस्य के खिलाफ आक्रमण की कार्रवाई है।
रासायनिक हमलों के जवाब में ट्रम्प ने की सीरिया पर बड़ी कार्यवाही, दाग दी 59 क्रूज मिसाइलें

रासायनिक हमलों के जवाब में ट्रम्प ने की सीरिया पर बड़ी कार्यवाही, दाग दी 59 क्रूज मिसाइलें

donald-trump-big-action-us-fired-59-cruise-missile-on-syria

वाशिंगटन, 7 अप्रैल: अमेरिका ने सीरिया में रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के बाद इस दिशा में कड़ी कार्रवाई करते हुए सीरियाई सैन्यअड्डों पर हवाई हमले करने शुरू कर दिए हैं। अमेरिका ने सीरिया में रासायनिक हमलों के लिए असद सरकार को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराया है।

ट्रंप ने मार-ए-लागो में संवाददाताओं से कहा, "मैंने आज (गुरुवार) सीरिया के उन सैन्यअड्डों पर हमले का आदेश दिया, जहां से रासायानिक हमले किए गए थे।" 

अमेरिका ने सीरिया पर 59 क्रूज मिसाइलें दागी हैं। यह अमेरिका द्वारा बशर अल-असद सरकार पर किया गया पहला सीधा सैन्य हमला है।

अमेरिका ने सीरिया के शहर होम्स के शायरत सैन्यअड्डे पर टॉमहॉक मिसाइलें दागीं। 

ट्रंप ने पुष्टि करते हुए कहा कि उन्होंने सीरिया में हुए रासायनिक हमलों पर कड़ा रुख अपनाते हुए सीरिया सरकार के खिलाफ एकतरफा सैन्य कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।

ट्रंप ने कहा, "अमेरिका के लिए इस तरह के घातक रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल को रोकना जरूरी है।"

ट्रंप ने 'सभी सभ्य देशों' से सीरिया में रक्तपात रोकने की दिशा में काम करने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा, "इस पर कोई विवाद ही नहीं है कि सीरिया ने प्रतिबंधित रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल कर रासायनिक हथियार कन्वेंशन के तहत नियमों का उल्लंघन किया है और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अपीलों को खारिज किया है।"

ट्रंप ने कहा, "असद के व्यवहार को बदलने के लिए वर्षों के प्रयास बुरी तरह से असफल रहे हैं।"

सीएनएन के मुताबिक, अमेरिकी सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि ये हमले सीरिया सैन्यअड्डे के रनवे, विमानों और ईंधन भंडारण ठिकानों को निशाना बनाकर किए गए। ये मिसाइलें पूर्वी भूमध्यसागर से युद्धपोतों के जरिये दागी गईं।

रूस ने मिसाइल दागे जाने से कुछ मिनट पहले ही अमेरिका को सीरिया पर सैन्य हमले के 'नकारात्मक परिणाम भुगतने' की चेतावनी दी थी।

04 April, 2017

अंतिम फाइट में जमकर कूटे गए अंडरटेकर, WWE को कह दिया हमेशा के लिए अलविदा

अंतिम फाइट में जमकर कूटे गए अंडरटेकर, WWE को कह दिया हमेशा के लिए अलविदा

undertaker-says-wwe-alwida-forever

रैसल मोनिया, 3 अप्रैल: रेसलिंग की दुनिया में एक ऐसा नाम जिसके सामने बड़े बड़े योद्धा काँप जाते थे जिसके पंच किसी मौत से कम नहीं हुआ करते थे, आज डेडमैन के नाम से मशहूर द अंडरटेकर ने रेसलिंग की दुनिया से हमेशा के लिए अलविदा कह दिया।

आपको बता दे कि अंडरटेकर उन चुनिंदा स्टार्स में है जिन्होंने लंबे समय तक रेसलिंग की दुनिया में कई दिग्गजो जैसे कि ब्रोक लेसनर, बतिस्ता, बिग शो, गोल्डबर्ग, कर्ट एंगल  ट्रिपल एच,अर्नाल्ड को धूल चटाई है। 

लेकिन जीवन के आखरी पड़ाव वाले मैच में रोमन रेन्स के सुपर पंच के सामने डेडमैन की एक न चली और रैसल मोनिया में उन्हें हार का सामना करना पड़ा, आज अंतिम फाइट में उनकी जमकर कुटाई हुई। 

आज रोमन ने अंडरटेकर की इतनी कुटाई कर दी कि वे काफी देर तक रिंग में ही लेटे रहे।  बाद में उसने अपना जैकेट और हैट उतारकर रिंग में ही रख दिया और हमेशा के लिए बाय बाय कह दिया।  यह देखते ही दर्शक दीर्घा में सन्नाटा छा गया मानो उनके फैन्स के ऊपर पहाड़ सा गिर गया हो। 

डेडमैन की रैसल मोनिया में दूसरी हार हुई इसके पहले पिछले साल  ब्रॉक  लैसनर के हाथो शिकस्त झेलनी पड़ी थी, अंडरटेकर 100 से ज्यादा ख़िताब जीतने वाले इकलौते WWE फाइटर हैं। 

31 March, 2017

बीवी का नाम लेकर फूट फूट कर रोने लगा पाकिस्तानी, आधे रास्ते से वापस लौटाई गयी फ्लाइट

बीवी का नाम लेकर फूट फूट कर रोने लगा पाकिस्तानी, आधे रास्ते से वापस लौटाई गयी फ्लाइट

pakistan-news-in-hindi

नई दिल्ली 31  मार्च: पाकिस्तान से एक फनी खबर आयी है, एक व्यक्ति को प्लेन में अपनी बीवी की इतनी याद आ गयी कि वह फूट फूट कर रोने लगा, लोग इतना परेशान हो गयी कि दुबई जा रहे प्लेन को आधे रास्ते से वापस पाकिस्तान लौटाना पड़ा और इसके लिए इमरजेंसी लैंडिंग भी करानी पड़ी।

खबर के अनुसार इरफ़ान हाकिम अली की नयी नयी शादी हुई थी, अपनी बीवी के पास ज्यादा समय भी नहीं बिता पाया था कि उसके परिवार वालों ने उसे नौकरी के लिए दुबई भेजने का कार्यक्रम तय कर दिया, इरफ़ान हाकिम अली आधे अधूरे मन से प्लेन में बैठा और दुबई के लिए उड़ गया।

इरफ़ान हाकिम अली शाहीन फ्लाइट से दुबई के लिए जा रहा था, अचानक बीच रास्ते में उसे अपनी नयी नवेली बीवी की याद आ गयी, इसके बाद वह दहाड़े मारकर और फूट फूट कर रोने लगा, उसे रोते देखकर फ्लाइट में बैठे लोग परेशान हो गए, कुछ लोगों ने उससे रोने का कारण पूछा तो उसने बताया कि उसकी बीवी मर गयी है।

इसके बाद फ्लाइट चालकों ने प्लेन वापस मोड़ने का निर्णय लिया, इसके लिए लाहौर में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी, एयरपोर्ट अधिकारीयों ने इरफ़ान से पूछा कि आपकी बीवी कैसे मरी तो उसने बताया, मेरी बीवी मरी नहीं है, मेरी अभी नई नई शादी हुई है, मैं अपनी बीवी से बहुत प्यार करता हूँ, उसकी जुदाई का गम बर्दास्त नहीं हुआ इसलिए मैं फूट फूट कर रोने लगा।

बीवी से इतना प्यार देखकर एयरपोर्ट अधिकारियों ने उसके ऊपर कोई कार्यवाही नहीं की और उसे उसकी पत्नी के पास भेज दिया। 

26 March, 2017

शर्मनाक वारदात, 15 वर्षीय किशोरी के साथ सामूहिक गैंगरेप करते हुए फसबुक पर LIVE प्रसारण

शर्मनाक वारदात, 15 वर्षीय किशोरी के साथ सामूहिक गैंगरेप करते हुए फसबुक पर LIVE प्रसारण

gangrape-news-in-america-live-telecast-on-facebook

न्यूयार्क, 26 मार्च: अमेरिका से बेहद दिल दहला देने वाली घटना आई है। एक 15 वर्षीय किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम देते हुए दुष्कर्मियों ने इसका फेसबुक लाइव के जरिए सीधा प्रसारण भी किया। घटना सामने आने के बाद पीड़िता के परिवार वालों को सुरक्षित स्थान पर भेज दिया गया है। स्थानीय मीडिया के जरिए यह जानकारी मिली।

समाचार वेबसाइट 'शिकागो डॉट सनटाइम्स डॉट कॉम' पर प्रसारित खबर में कहा गया है कि घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पीड़िता और पीड़िता के परिवार वालों को धमकियां मिलनी शुरू हो गईं और उन्हें परेशान किया जाने लगा। इसके बाद अधिकारियों ने पीड़िता और उसके परिवार वालों को सुरक्षित स्थान पर भेज दिया।

खबर के अनुसार, पांच से छह लोगों ने किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और इस दौरान दुष्कर्म की घटना को फेसबुक लाइव के जरिए प्रसारित करते रहे। सबसे भयावह बात तो यह है कि फेसबुक लाइव पर 40 व्यक्ति लड़की के साथ दुष्कर्म होता देखते रहे, लेकिन किसी ने भी पुलिस को इत्तला तक नहीं की।

पीड़िता की मां ने जब शिकागो पुलिस में अपनी बेटी के लापता होने की शिकायत की, तब जाकर पुलिस के संज्ञान में यह वारदात आई। पीड़िता की मां ने शिकायत में कहा कि उनकी बेटी बीते रविवार को पड़ोसी के यहां गई हुई थी और तब से लौटी ही नहीं।

महिला ने शिकागो पुलिस को फेसबुक लाइव के स्क्रीन शॉट भी पुलिस को दिखाए। पुलिस अगले दिन पीड़िता की तलाश करने में सफल रही और उसके परिवार वालों के पास पहुंचा दिया गया।

पीड़िता की मां ने बताया कि दुष्कर्म का वीडियो वायरल होने के बाद से उन्हें इस तरह की धमकियां मिल रही हैं कि वे उनकी बेटी को उठा ले जाएंगे।

उन्होंने यह भी बताया कि पड़ोस के बच्चे घटना को लेकर उनका मजाक उड़ा रहे हैं और पीड़िता को देखने की गरज से उनके दरवाजे की घंटी बजाते रहते हैं।

पुलिस अधिकारियों को पीड़िता के घर की रखवाली के लिए भी कहा गया है।

23 March, 2017

लंदन आतंकी हमले पर PM MODI ने जताया दुःख, सिर्फ हम बता रहे हैं आतंकी का नाम: पढ़ें

लंदन आतंकी हमले पर PM MODI ने जताया दुःख, सिर्फ हम बता रहे हैं आतंकी का नाम: पढ़ें

london-terrorist-attack-5-dead-pm-modi-says-india-stands-with-uk
New Delhi, 23 March: लंदन में UK पार्लियामेंट से बाहर हुए आतंकवादी हमले पर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गहरा दुःख जताते हुए कहा है कि दुःख और संकट की इस घड़ी में हम पाडित परिवार वालों के साथ हैं, हम यह भी भरोसा दिलाते हैं कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हम UK के साथ खड़े हैं, प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट के जरिये ये बातें कहीं। 

जानकारी के लिए बता दें कि कल एक इस्लामिक आतंकवादी ने लंदन शहर में यूनाइटेड किंगडम की संसद के बाहर कार से आतंकवादी हमला कर दिया, उसने अपनी कार फूटपाथ पर चढ़ा दी और कारीग 40 लोगों को कुचल दिया जिसमें से 4 लोगों की मौत हो गयी, उसके बाद उसने अपनी कार साइड में दे मारी, उसके बाद इस्लामिक आतंकवादी कार से उतरा और एक पुलिसवाले को चाकुओं से गोद दिया, घटनास्थल पर ही पुलिसकर्मी की भी मौत हो गयी, इसके बाद पुलिस ने आतंकवादी को शूट कर दिया। 

रिपोर्ट के अनुसार घटना में मारे गए आतंकवादी का नाम अबू इज्जादीन है, हालाँकि कुछ मीडिया वाले उसका नाम बताने से डर रहे हैं, शायद किसी को बुरा लग जाए कि मारे गए आतंकवादी का धर्म इस्लाम है। 

15 March, 2017

डोनाल्ड ट्रम्प ने CIA को भी दिया ड्रोन हमलों का अधिकार

डोनाल्ड ट्रम्प ने CIA को भी दिया ड्रोन हमलों का अधिकार

donald-trump-permit-cia-for-drone-attack-on-terrorists
वाशिंगटन, 14 मार्च: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सीआईए को संदिग्ध आतंकवादियों को खिलाफ ड्रोन हमला करने का अधिकार दिया है। यह अधिकार पहले पेंटागन के पास था। वॉल स्ट्रीट जर्नल की सोमवार की रिपोर्ट में बताया गया है कि ट्रंप का यह निर्णय पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की नीति से अलग है, जिन्होंने केंद्रीय खुफिया एजेंसी की अर्धसैनिक बल के रूप में भूमिका सीमित कर दी थी। 

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, ओबामा प्रशासन के दौरान सीआईए के ड्रोन का इस्तेमाल संदिग्ध आतंकवादियों की टोह लेने और जासूसी करने के लिए ही किया जाता था और उसके बाद हमला करने की जिम्मेदारी सेना की थी।

रिपोर्ट में कहा गया कि सीआईए और पेंटागन द्वारा साल 2016 के मई में पाकिस्तान में किए गए एक ड्रोन हमले में तालिबानी सरगना अजतार मंससुरिन को मार गिराया गया था। यह ड्रोन से किए जाने हमले से आतंकवादियों को मार गिराने का एक सफल उदाहरण है। 

ओबामा ने अपने प्रशासन के आखिरी दिनों में ड्रोन से हमला करने का अधिकार केवल पेंटागन को दे दिया था, ताकि पारदर्शिता सुनिश्चित हो।