Showing posts with label India. Show all posts
Showing posts with label India. Show all posts

Wednesday, January 18, 2017

भारत और विश्व को एक-दूसरे की जरूरत: PM MODI

भारत और विश्व को एक-दूसरे की जरूरत: PM MODI

india-and-world-need-one-another-sayd-pm-narendra-modi

नई दिल्ली, 17 जनवरी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि विश्व को एक आगे बढ़ते भारत की उतनी ही जरूरत है, जितनी कि भारत को विश्व की। प्रधानमंत्री ने वैश्वीकरण के लक्ष्यों को चुनौती देने वाले 'स्थानीय संकीर्ण और संरक्षणवादी रवैए' के प्रति आगाह किया और कहा कि अराजक तत्व अस्थिरता, हिंसा और चरमपंथ को हवा दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने यह बात भारत के महत्वाकांक्षी भू-राजनैतिक सम्मेलन 'रायसीना डायलॉग' के द्वितीय संस्करण के उद्घाटन सत्र में कही।

प्रधानमंत्री ने एशिया-प्रशांत के लिए एक नए खुले और समावेशी सुरक्षा ढांचे की जरूरत पर जोर दिया और कहा कि पाकिस्तान अगर भारत से बातचीत चाहता है तो उसे इसके लिए आतंकवाद से किनारा करना होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, "भारत में बदलाव वैश्विक संदर्भो से परे नहीं है। हमारी आर्थिक तरक्की, युवाओं के लिए रोजगार के अवसर, पूंजी, प्रौद्योगिकी, बाजार, संसाधन तक हमारी पहुंच और हमारे देश की सुरक्षा-ये सभी विश्व में होने वाले घटनाक्रम से अभिन्न रूप से जुड़े हुए हैं। लेकिन, यही बात पलटकर भी इतनी ही सही है। विश्व के लिए भी एक आगे बढ़ता हुआ भारत उतना ही जरूरी है, जितना विश्व भारत के लिए।"

मोदी ने कहा कि सुधार तब तक काफी नहीं है, जबतक कि वह अर्थव्यवस्था व समाज में बदलाव न करे।

उन्होंने कहा, "2014 में भारत के लोगों ने नई शुरुआत की। बदलाव के जनादेश के साथ एकमत से उन्होंने मुझे सरकार सौंपी। बदलाव केवल मनोभाव नहीं, बल्कि मानसिकता के लिए, बदलाव गहराई से उद्देश्यपूर्ण कार्रवाई के लिए, बदलाव साहसिक निर्णय लेने के लिए।"

मोदी ने कहा, "सुधार अकेले काफी नहीं है, जबतक कि वह अर्थव्यवस्था व समाज में बदलाव न करे।"

उन्होंने कहा, "रोजाना, मेरे काम की सूची इसी उत्प्रेरक से निर्देशित होती है कि सभी भारतीयों की सुरक्षा तथा समृद्धि के लिए भारत में बदलाव व सुधार करना है।"

प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान से कहा कि अगर वह भारत के साथ बातचीत चाहता है, तो उसे आतंकवाद से किनारा करना होगा।

'रायसीना डायलॉग' में मौजूद अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई, आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री केविन रुड, कनाडा के पूर्व प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर और अन्य हस्तियों की मौजूदगी में मोदी ने कहा, "भारत अकेले शांति के पथ पर नहीं चल सकता है। पाकिस्तान को भी शांति की राह अपनानी होगी। अगर पाकिस्तान, भारत के साथ बातचीत चाहता है, तो उसे आतंकवाद से किनारा करना होगा।"

प्रधानमंत्री ने चीन के संबंध में कहा कि यह कोई असामान्य बात नहीं है कि दो विशाल पड़ोसियों के बीच कुछ मतभेद हों। उन्होंने कहा कि वह और चीन के राष्ट्रपति इस बात पर सहमत हैं कि दोनों देशों को मिलकर आर्थिक व व्यापारिक सहयोग के विशाल क्षेत्र में कदम बढ़ाना होगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत और अमेरिका के संबंधों का हर स्तर पर विस्तार हो रहा है। उन्होंने कहा, "अमेरिका के साथ संबंधों में उठाए गए हमारे कदमों ने आर्थिक, व्यावसायिक, व्यापारिक, सुरक्षा जैसे तमाम क्षेत्रों को गति, महत्व और मजबूती प्रदान की है।"

मोदी ने कहा, "नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मेरी बातचीत हुई है। इसमें हमारे बीच यह सहमति बनी कि हम अपनी रणनीतिक साझेदारी में हासिल की गई इन उपलब्धियों को और मजबूत बनाएंगे।"

प्रधानमंत्री ने मध्य पूर्व के देशों, रूस, जापान और अन्य महत्वपूर्ण देशों के साथ भारत के रिश्तों के और बेहतर होने की बात कही।

'रायसीना डायलॉग' का आयोजन थिंकटैंक आब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन ने विदेश मंत्रालय के सहयोग से किया है।
अभी भी कांग्रेस को नहीं आई सद्बुद्धि, नोटबंदी के खिलाफ सभी RBI दफ्तरों का घेराव करेगी कांग्रेस

अभी भी कांग्रेस को नहीं आई सद्बुद्धि, नोटबंदी के खिलाफ सभी RBI दफ्तरों का घेराव करेगी कांग्रेस

congress-will-blockade-each-rbi-offices-agaisnt-notbandi

नई दिल्ली, 17 जनवरी: कांग्रेसी नेताओं का अभी भी दिमाग नहीं खुल रहा है, नोटबंदी के बाद कई राज्यों की जनता ने चुनावों में कांग्रेस को करारा सबक सिखाया है लेकिन इनको अब तक सद्बुद्धि नहीं आयी। अब कांग्रेस ने देश एक सभी बड़े शहरों के RBI दफ्तरों का घेराव करने का फैसला किया है। 

कांग्रेस नोटबंदी के खिलाफ विरोध जताने और देश के केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता खत्म किए जाने के खिलाफ बुधवार से दिल्ली में और देश के अन्य हिस्सों में स्थित भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के 25 कार्यालयों का घेराव शुरू करेगी। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, "वक्त की जरूरत है कि रुपये की आपूर्ति पूरी तरह पुराने ढर्रे पर लौटे, नोटबंदी के बाद मची तबाही की जवाबदेही तय की जाए और देश के आम नागरिकों पर हाड़-तोड़ मेहनत कर कमाए गए रुपये अपने बैंक खातों से निकालने पर लगा प्रतिबंध हटाया जाए।"

उन्होंने कहा, "पीएमओ के आगे घुटने टेकने वाले आरबीआई का घेराव देश के विभिन्न हिस्सों में 18 से 23 जनवरी के बीच किया जाएगा।"

राष्ट्रीय राजधानी में इस घेराव का नेतृत्व वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा करेंगे, वहीं मुंबई में सुरजेवाला, कोलकाता में एन. संजीव रेड्डी, बेंगलुरू में पृथ्वीराज चव्हाण, चेन्नई में ऑस्कर फर्नाडीज, चंडीगढ़ में राजीव शुक्ला, देहरादून में कपिल सिब्बल, पणजी में के.सी. वेणुगोपाल, लखनऊ में शकील अहमद, जयपुर में गुरुदास कामत, अहमदाबाद में सुशील कुमार शिंदे और पटना में सलमान खुर्शीद घेराव का नेतृत्व करेंगे।

सुरजेवाला ने कहा, "मोदी सरकार और आरबीआई द्वारा आज (मंगलवार) एटीएम से रुपये निकालने पर लगा 24,000 रुपये प्रति सप्ताह का प्रतिबंध न हटाने का फैसला देशवासियों के साथ बेईमानी है।"

उन्होंने कहा, "रुपयों की आपूर्ति बहाल करने में अक्षमता के चलते देश की अर्थव्यवस्था पंगु हो गई है, हजारों लोगों की नौकरी चली गई है और दिन-ब-दिन लोगों का काम- धंधा चौपट हो रहा है।"

उन्होंने आगे कहा, "उर्जित पटेल के नेतृत्व में आरबीआई स्वतंत्र मुद्रा नियामक और आर्थिक वृद्धि में अहम योगदान देने वाले संस्थान की भूमिका न निभाकर सिर्फ किसी डाकघर जैसा रह गया है और सिर्फ मोदी सरकार से मिले आदेशों का पालन करने वाला पालतू बनकर रह गया है। यह देश के लिए शर्मनाक है।"

Tuesday, January 17, 2017

पढ़ें: कांग्रेस का चुनाव चिन्ह जब्त कराने बीजेपी नेता क्यों पहुंचे चुनाव आयोग के पास?

पढ़ें: कांग्रेस का चुनाव चिन्ह जब्त कराने बीजेपी नेता क्यों पहुंचे चुनाव आयोग के पास?

bjp-leader-reached-election-commission-to-seize-congress-symbol

नई दिल्ली, 17 जनवरी: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को निर्वाचन आयोग से कांग्रेस का चुनाव चिह्न 'जब्त' करने की मांग की। उल्लेखनीय है कि राहुल ने हाल ही में कांग्रेस के चुनाव चिह्न की तुलना धार्मिक महापुरुषों से की थी।

पांच राज्यों में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को निर्वाचन आयोग से राहुल गांधी द्वारा 11 जनवरी को दिल्ली में 'जन वेदना सम्मेलन' के दौरान दिए बयान की शिकायत की।

मुख्तार अब्बास नकवी और प्रकाश जावड़ेकर के नेतृत्व में निर्वाचन आयोग पहुंचे भाजपा प्रतिनिधिमंडल में पार्टी महासचिव अरुण सिंह सहित कई अन्य नेता शामिल थे।

नकवी ने पत्रकारों से कहा, "राहुल गांधी का बयान चुनाव से पहले सांप्रदायिक सद्भाव भंग करने की साजिश के अलावा और कुछ नहीं है। धार्मिक महापुरुषों से अपने चुनाव चिह्न की तुलना कर वह लोगों से कहना चाहते हैं कि कांग्रेस को वोट देकर वे अपने धर्म को वोट देंगे।"

उन्होंने कहा, "यह और कुछ नहीं, बल्कि धर्म के नाम पर वोट मांगना है। न सिर्फ यह गलत है, बल्कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन भी है। इसलिए हमने इस मामले में सख्त कार्रवाई की मांग की है। कांग्रेस का चुनाव चिह्न जब्त होना चाहिए।"

कांग्रेस पर सांप्रदायिक राजनीति करने का आरोप लगाते हुए नकवी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ उसके गठबंधन का उपहास भी उड़ाया।

उन्होंने कहा, "अब कांग्रेस ने चूंकि सपा से गठबंधन कर लिया है, तो उनका न्यूनतम साझा कार्यक्रम अब सांप्रदायिकता, भ्रष्टाचार और कुशासन होगा।"
अबकी बार हो जाइए तैयार, पहली बार 26 जनवरी की परेड में NSG कमांडों भी दिखाएंगे जौहर

अबकी बार हो जाइए तैयार, पहली बार 26 जनवरी की परेड में NSG कमांडों भी दिखाएंगे जौहर

nsg-commando-will-participate-in-republic-day-parade-in-hindi

New Delhi, 17 January: NSG कमानों यानी ब्लैक कैट कमांडो के बारे में सभी लोगों ने सुना है लेकिन अभी तक सीधे सीधे किसी ने भी NSG कमांडों को नहीं देखा होगा, केवल आतंकवादी और देश एक दुश्मन ही NSG कमांडों और उनकी बहादुरी को देख पाते हैं लेकिन इनकी बदकिस्मती से ये लोग जिन्दा नहीं रह पाते। 

देशवासियों के लिए खुशखबरी है क्योंकि इस वर्ष पहली बार गणतंत्र दिवस की परेड में NSG कमांडों भी हिस्सा लेंगे और अपना जलवा दिखाएंगे। अब तक NSG का नाम सुनकर दुश्मनों की रूह काँप जाती है, देशवासियों में वीरता की अनुभूति होती है, इस बार गणतंत्र दिवस पर जब NSG कमांडों अपना करतब दिखाएँगे तो हो सकता है आप उनकी बहादुरी को देखकर दंग रह जाएं क्योंकि अब तक जो चीजें आप फिल्मों में देखते थे वही चीजें अपनी आँखों से देख पायेंगे। 

कहा जाता है कई NSG कमांडों इंसान के जिस्म में फौलाद लेकर चलते हैं, ये इतने ताकतवर होते हैं कि एक एक कमांडों 100 लोगों पर भारी पड़ते हैं। 

जानकारी एक मुताबिक राजपथ पर 140 कमांडों हिस्सा लेंगे, कमांडों होने की वजह से ये चलेंगे नहीं बल्कि दौड़चाल करेंगे। ये सभी कमांडो काउंटर टेरर टास्क फ़ोर्स के हैं इसलिए दौड़चाल के साथ NSG की दूसरी क्षमताओं का भी प्रदर्शन किया जाएगा। 

इस प्रदर्शन में आतंकवाद से लड़ाई में दक्षता के अलावा एंटी हाईजैकिंग ऑपरेशन और जैविक, रासायनिक और परमाणु खतरों से निपटने की क्षमताओं का प्रदर्शन भी शामिल है। 

अपने प्रतीक सुदर्शन चक्र की तरह ये कमांडो देश को आश्वासन भी देंगे कि जब तक वो हैं वे हर मुश्किल घड़ी से देशवासियों को बाहर निकाल लायेंगे क्योंकि ये मौत से डरते नहीं बल्कि मरने के लिए जीते हैं। 

Monday, January 16, 2017

खुशखबरी, अब ATM से निकालिए 10 हजार रुपये, RBI ने किया ऐलान

खुशखबरी, अब ATM से निकालिए 10 हजार रुपये, RBI ने किया ऐलान

atm-withdrawal-limit-increased-to-10000-daily-hindi-news

New Delhi, 16 January: कैश पर निर्भर लोगों के लिए खुशखबरी है क्योंकि RBI ने ATM से कैश निकालने की लिमिट बढाने का फैसला लिया है, अब बचत खाते वाले ग्राहक ATM से 10 हजार रुपये निकाल सकेंगे हालाँकि एक हप्ते में अभी भी केवल 24 हजार ही निकाल सकेंगे। जिसका मतलब है कि हप्ते में दो दिन ही 10 हजार रुपये निकाल सकेंगे अभी तक यह लिमिट 4500 रुपये थी।

इसके अलावा करंट अकाउंट से एक हप्ते में पैसे निकासी की सीमा 50 हजार से बढाकर 1 लाख रुपये कर दी गयी है।

RBI ने पाया है कि अब बैंकों में भीड़ ख़त्म हो गयी है और ATM में भी प्रॉपर कैश की सप्लाई की जा रही है इसलिए ATM से पैसे निकासी सीमा बढ़ा दी गयी।