Showing posts with label India. Show all posts
Showing posts with label India. Show all posts

24 May, 2017

ट्विटर के दोगलेपन का सबसे बड़ा सबूत, आजादी गैंग को कुछ भी बोलने की इजाजत, देशभक्तों को नहीं

ट्विटर के दोगलेपन का सबसे बड़ा सबूत, आजादी गैंग को कुछ भी बोलने की इजाजत, देशभक्तों को नहीं

twitter-double-standards-only-freedom-of-speech-to-azadi-gang
New Delhi: हम ट्विटर के दोगलेपन का सबसे बड़ा सबूत देने जा रहे हैं और इस सबूत पर मोदी सरकार को तुरंत एक्शन लेना चाहिए और ट्विटर को सबक सिखाना चाहिए वरना ट्विटर ऐसे ही आजादी गैंग को बढ़ावा देता रहेगा और उन्हें जवाब देने वाले देशभक्तों को ट्विटर बैन करता रहेगा.

आज ट्विटर ने सांसद परेश रावल के खाते को इसलिए सस्पेंड किया है क्योंकि उन्होने एंटी-नेशनल, कश्मीर की आजादी की समर्थक और पाकिस्तान प्रेमी लेखिका अरुंधती रॉय के खिलाफ ट्वीट किया था, परेश रावल ने लिखा था कि - कश्मीर में पत्थरबाजों को जीप से बाँधने के बजाय अरुंधती रॉय को बांधना चाहिए. परेश रावल के इस ट्वीट के बाद ट्विटर ने उन्हें वार्निंग दी और उन्हें अपना ट्वीट डिलीट करना पड़ा.

अब आप दूसरा उदाहरण देखिये, JNU में कश्मीर की आजादी की समर्थक शेहला राशिद ने भी ऐसा ही ट्वीट किया था, उन्होने तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जीप से बाँधने की बात कही थी, उन्होंने ट्वीट में लिखा था - यूपी पुलिस को योगी आदित्यनाथ को जीप से बाँध देना चाहिए ताकि हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्त्ता पुलिस पर हमला ना करें, उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा था - दिल्ली पुलिस को रामजस कॉलेज के ABVP गुंडों को जीप से बाँध देना चाहिए ताकि ABVP के दूसरे गुंडे पत्थर ना फेंकें.

अब आप खुद देखिये, परेश रावल और शेहला राशिद दोनों ने एक जैसा ट्वीट किया था, फर्क सिर्फ इतना था कि परेश रावल ने देशद्रोह की आरोपी अरुंधती रॉय को जीप से बाँधने की बात कही थी जबकि शेहला राशिद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जीप से बांधने की बात की थी लेकिन ट्विटर ने परेश रावल को अकाउंट बैन करने की धमकी देकर ट्वीट डिलीट करवा दिया जबकि शेहला राशिद को कुछ नहीं कहा गया ऐसा इसलिए क्योंकि वह एंटी नेशनल हैं, कश्मीर की आजादी की समर्थक हैं, भारत के टुकड़े टुकड़े करना चाहती हैं.

अब आप सोच रहे होंगे कि शेहला राशिद को ट्विटर ने बोलने की आजादी क्यों दे रखी है, उत्तर है, ट्विटर इंडिया का हेड कश्मीर का एक कट्टर मुसलमान है जिसका नाम राहील खुर्शीद है, वह भी कश्मीर की आजादी का समर्थक है इसलिए आजादी गैंग को बढ़ावा दे रहा है और देशभक्तों को ट्विटर से हटा रहा है, आज उसनें अभिजीत का अकाउंट सस्पेंड कर दिया जिससे नाराज होकर उनके साथी सोनू निगम ने खुद ही ट्विटर को अलविदा कह दिया, आज ट्विटर पर दो राष्ट्रभक्त कम हो गए हैं.
आजादी गैंग के सरदार राहील खुर्शीद के पास है ट्विटर इंडिया की कमान, इसलिए देश का तिरंगा गायब

आजादी गैंग के सरदार राहील खुर्शीद के पास है ट्विटर इंडिया की कमान, इसलिए देश का तिरंगा गायब

indian-flag-not-in-twitter-india-dp-because-raheel-khursheed-head
New Delhi: आप खुद सोचिये, जब आपको पता चलेगा कि हर देश के ट्विटर अकाउंट की प्रोफाइल पिक्चर में उस देश का तिरंगा लगा है लेकिन भारत के ट्विटर खाते में भारत का तिरंगा गायब है तो आपको कैसा लगेगा, बुरा लगेगा ना. मुझे भी बुरा लगा क्योंकि मैंने देखा कि हर देश के ट्विटर पेज पर उसका देश का फ्लैग लगा है लेकिन भारत के ट्विटर पेज पर भारत का तिरंगा, भारत की पहचान गायब है.

ट्विटर पर भारत की पहचान गायब करके भारत का अपमान किया गया है और यह अपमान ट्विटर इंडिया के चीफ राहील खुर्शीद ने किया है, राहील खुर्शीद कश्मीर के एक मुसलमान हैं इसलिए कहा जा रहा है कि अन्य कश्मीरी मुसलमानों की तरह शायद वे भी भारत को नहीं मानते, शायद वे भी खुद को भारतीय कहलाना पसंद नहीं करते, शायद उन्हें तिरंगा लगाने में शर्म आती होगी या उनके इस काम से पाकिस्तान और कश्मीरी पत्थरबाज नाराज हो जाएंगे इसलिए उन्होंने भारत के ट्विटर पेज से तिरंगा ही गायब कर दिया.

जानकारी के अनुसार राहील खुर्शील कश्मीर की आजादी चाहने वालों का समर्थन कर रहे हैं, भारत के टुकड़े टुकड़े करने वालों का समर्थन कर रहे हैं, अरुंधती रॉय, शेहला रशीद, कन्हैया कुमार, उमर खालिद, जैसे लोगों को प्रमोट कर रहे हैं इसलिए वे उन लोगों का अकाउंट बैन कर देते हैं जो आजादी गैंग पर हमला करते हैं, आज उन्होंने सिंगर अभिजीत का अकाउंट बैन करके ट्विटर पर भी जिहाद शुरू कर दिया है.
आप भी समझिये खेल, ट्विटर क्यों कर रहा है आजादी गैंग का समर्थन, देशभक्त अभिजीत को क्यों किया बैन

आप भी समझिये खेल, ट्विटर क्यों कर रहा है आजादी गैंग का समर्थन, देशभक्त अभिजीत को क्यों किया बैन

raheel-khursheed-twitter-india-head-kashmiri-muslim-ban-abhijeet

New Delhi: ट्विटर के बारे में बहुत बड़ा खुलासा हुआ है जिसके बाद लोगों को पता चल जाएगा कि ट्विटर भारत में क्यों आजादी गैंग का समर्थन कर रहा है, देशद्रोहियों को क्यों बढ़ावा दे रहा है जबकि देशभक्तों का अकाउंट ही सस्पेंड कर दे रहा है ताकि वे देशद्रोहियों को जवाब ना दे सकें.

खुलासा हुआ है कि ट्विटर कंपनी का इंडिया का जो हेड है वह कश्मीर का एक मुसलमान है जिसका नाम राहील खुर्शीद है, उसके अन्दर भी कश्मीर की आजादी का कीड़ा बुलबुला रहा होगा इसलिए वह कश्मीर की आजादी चाहने वाले भारत के देशद्रोहियों का समर्थन कर रहा है, शेहला राशिद, कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अरुंधती रॉय आदि का साथ दे रहा है जबकि देशभक्तों का ट्विटर अकाउंट ही सस्पेंड कर दे रहा है, आज उसने मशहूर सिंगर और देशभक्त अभिजीत का ट्विटर अकाउंट बंद कर दिया जिसके विरोध में सोनू निगम ने खुद ही ट्विटर को अलविदा कह दिया.

कल JNU की अफजल गैंग उर्फ़ आजादी गैंग की एक सदस्य शेहला राशिद ने बीजेपी पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगाया था, अभिजीत ने भी शेहला राशिद का बिना नाम लिए कहा कि वह भी सेक्स के बदले पैसे लेती हैं और उन पर ग्राहकों को संतुष्ट ना कर पाने के आरोप लगते हैं. ट्विटर ने अभिजीत की इसी बात पर उनका अकाउंट ही सस्पेंड कर दिया.

अब सवाल यह उठता है कि ट्विटर पर लोग दिन रात एक दूसरे को गाली देते रहते हैं, कई लोग तो पता नहीं कितनी गन्दी गन्दी गालियाँ देते रहते हैं लेकिन राहील खुर्शीद उनका अकाउंट तो नहीं बंद करता, कश्मीर के कितने युवा आतंकवादियों को सपोर्ट करते हैं, ISIS का झंडा लहराते हैं, राहील खुर्शीद उन्हें तो बैन नहीं करता तो इतनी जल्दी अभिजीत का अकाउंट क्यों बंद किया, उत्तर साफ़ है, अभिजीत ने आजादी गैंग की सदस्य अरुंधती रॉय और शेहला रशीद के खिलाफ ट्वीट किया था जो राहील खुर्शीद को पसंद नहीं आया इसलिए उसनें देशभक्त अभिजीत का अकाउंट ही बंद कर दिया.

देशभक्तों को ट्विटर पर नहीं मिलेगी फ्रीडम ऑफ़ स्पीच

अभिजीत का अकाउंट बंद किये जाने से यह भी साफ़ हो गया है कि जब तक राहील खुर्शीद ट्विटर इंडिया के हेड रहेंगे तब तक ट्विटर आजादी गैंग का समर्थन करता रहेगा, उन्हें ही फ्रीडम ऑफ़ स्पीच मिलेगी, उन्हें ही लोगों को गलियां देने की छूट रहेगी, अनाप शनाप बकने की छूट रहेगी जब देशभक्त लोग एंटी नेशनल के खिलाफ बोलेंगे तो उन्हें बैन कर दिया जाएगा, उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया जाएगा, उन्हें बोलने से रोक दिया जाएगा.

ट्विटर की इसी पालिसी से नाराज होकर आज सोनू निगम ने खुद ही अपने अकाउंट डिलीट कर दिया और सभी देशभक्तों से आग्रह किया है कि अपना ट्विटर अकाउंट बंद का दें क्योंकि यहाँ पर सिर्फ देशद्रोहियों और आजादी गैंग को ही फ्रीडम ऑफ़ स्पीच मिलेगी.
बात के मर्द निकले सोनू निगम, सच में डिलीट कर दिया ट्विटर अकाउंट, हर देशभक्त ठोंक रहा सलाम

बात के मर्द निकले सोनू निगम, सच में डिलीट कर दिया ट्विटर अकाउंट, हर देशभक्त ठोंक रहा सलाम

sonu-nigam-deleted-twitter-account-24-may-2017

नई दिल्ली: सोनू निगम ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि बन्दे में बड़ा दम है, सोनू निगम ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि उनमें देशभक्ति का जज्बा सबसे अधिक है और वे बातों के मर्द हैं और अपनी बात से पीछे नहीं हटते हैं.

आज ट्विटर पर हर कोई फॉलोवर की संख्या बढाने और नीला निशान पाने के लिए परेशान है, लेकिन सोनू निगम ने 70 लाख फॉलोवर वाला अकाउंट एक मिनट में डिलीट कर दिया, उन्होंने एक सच्चे हिन्दुस्तानी होने का फर्ज निभा दिया है, उन्होंने अपने दोस्त अभिजीत को सच्चे मन से सपोर्ट किया है जिसका अकाउंट ट्विटर ने छोटी से बात पर डिलीट कर दिया.

अब लगता है कि ट्विटर को भी सबक सिखाने का समय आ गया है क्योंकि ट्विटर कमाई के घमंड में इतना चूर हो गया कि राष्ट्रभक्त अभिजीत का अकाउंट ही बंद कर दिया, अभिजीत पिछले कुछ समय ने ट्विटर पर काफी एक्टिव हैं और देशद्रोहियों को कड़ी भाषा में जवाब देते हैं, कल उन्होंने JNU की एंटी-नेशनल स्टूडेंट शेहला राशिद को जमकर खरी खोटी सुनाई थी, ट्विटर पर शेहला राशिद से इतनी हमदर्दी हो गयी कि अभिनीत का अकाउंट ही बंद कर दिया.

जैसे ही इस घटना की खबर सिंगर सोनू निगम को हुई, उन्होंने ट्विटर पर खासी नाराजगी व्यक्त करते हुए ट्विटर को अलविदा कहने का फैसला किया, सोनू निगम ने आज एक के बाद एक कुल 24 ट्वीट कर डाले, उन्होंने कहा कि मैं ट्विटर छोड़ने जा रहा हूँ, मेरे करीब 70 लाख फॉलोवर इस फैसले से निराश होंगे लेकिन यह जरूरी है क्योंकि ट्विटर को सबक सिखाना जरूरी है.

सोनू निगम ने कहा कि मैं ट्विटर को छोड़कर ढोंगी लोगों को चुनौती दे रहा हूँ और मेरा मनना है कि सभी तार्किक, देशभक्त और मानवतावादी लोगों को ऐसा करना चाहिए, ट्विटर छोड़ देना चाहिए.

सोनू ने किया अभिजीत का समर्थन

सोनू निगम ने अभिजीत का समर्थन करते हुए कहा अभिजीत की भाषा से कोई असहमत हो सकता है लेकिन शेहला राशिद ने बीजेपी पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगाया है, क्या यह भाषा नहीं है, क्या इससे बीजेपी समर्थक नहीं भड़केंगे.

23 May, 2017

पाकिस्तान पर बम बरसाने की कार्यवाही का रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने किया समर्थन, बताया सही कदम

पाकिस्तान पर बम बरसाने की कार्यवाही का रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने किया समर्थन, बताया सही कदम

defense-minister-arun-jaitley-says-we-support-army-action-on-loc

New Delhi: रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने पाकिस्तान पर बम बरसाने की भारतीय सेना की कार्यवाही की तारीफ करते हुए कहा है कि कश्मीर में शान्ति स्थापित करने के लिए ऐसी कार्यवाही की जरूरत है, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत में लगातार आतंकी भेज रहा है, भारतीय सेना घाटी में आतंकी वारदात को रोकने के लिए इसी तरह से नपी तुली कार्यवाही करती रही है और आगे भी करती रहेगी.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आक सेना ने पाकिस्तानी पोस्ट को तबाह करते हुए एक VIDEO जारी किया है जिसमें राकेट लांचर, एंटी टैंक मिसाइल्स और अन्य बड़े हथियारों से 24 सेकंड में पाकिस्तानी पोस्ट को तबाह और बर्बाद कर दिया गया है, सेना ने कहा है कि पाकिस्तान हम पर नहीं बल्कि हम पाकिस्तान पर डोमिनेट करते हैं और उसपर कड़ी कार्यवाही करते रहते हैं, सेना के अधिकारी ने बताया कि हाल ही में आतंकियों की घुसपैठ में मदद करने वाले पाकिस्तानी पोस्ट को हमने तबाह कर दिया. देखें VIDEO.
भारतीय सेना के इस बहादुरी भरे काम की कांग्रेस ने भी तारीफ की है, कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि देश की सेना के साहस और उनकी बहादुरी को सलाम करते हैं और पाकिस्तान को जवाब देने वाली इस कार्यवाही के लिए सेना को मुबारकवाद देते हैं.

मेजर ने जारी किया पाकिस्तान की तबाही का VIDEO


पाकिस्तान की पोस्ट की तबाही वाला VIDEO काफी दिनों से सोशल मीडिया पर घूम रहा था लेकिन आज सेना के मेजर अशोक नरूला ने एक प्रेस कांफ्रेंस करके VIDEO की पुष्टि कर दी, उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना सशस्त्र आतंकवादियों की मदद करता रहता है और इस दौरान वे हमारे अग्रिम सेना पोस्टों को अपनी चौकियों और बंकरों की मदद से एंगेज करता रहता है. कई बार वे ऐसा करते हुए हमारे गावों को भी नुकसान पहुंचा देते हैं.

उन्होंने बताया कि हमारे काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन के तहत हम चाहते हैं कि पाकिस्तान घुसपैठ को बंद करें, ऐसा करने के लिए हम LC को समय समय पर डोमिनेट करते रहते हैं, इस दौरान हम उन पक्सितानी पोस्टों को नुकसान पहुंचाते हैं जो आतंकवादियों की घुसपैठ में मदद करते हैं. हम ऐसा घुसपैठ रोकने के लिए करते हैं.

उन्होंने कहा कि अब बर्फ पिघल रही है और पासेस खुल रहे हैं तो घुसपैठ की संभावनाएं भी बढ़ रही हैं, कल नौगाम सेक्टर में चार आतंकी मारे गए हैं जो हमारी चिंता को सही साबित करते हैं इसलिए आवश्यक है कि हम काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन को और भी मजबूत बनाएं. हम शान्ति चाहते हैं लेकिन आतंकवाद से कोई समझौता नहीं कर सकते, हाल ही में हमने नौशेरा में एक पाकिस्तानी पोस्ट को नुकसान पहुँचाया है जो हमारी काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन का हिस्सा है.

भारत ने पाकिस्तान पर दागे ‘बम’ तो कांग्रेसी नेता राजीव त्यागी ने कर लिए ‘आँख, मुंह और कान बंद’

भारत ने पाकिस्तान पर दागे ‘बम’ तो कांग्रेसी नेता राजीव त्यागी ने कर लिए ‘आँख, मुंह और कान बंद’

congress-leader-rajeev-tyagi-closed-eyes-ear-mouth-taal-thonk-ke

New Delhi: कांग्रेसी नेता भी अजीब हैं, जब भारतीय सैनिक मारे जाते हैं तो ये मोदी सरकार को दोष देते हैं, सरकार को कमजोर और कायर कहने लगते हैं लेकिन जब भारत की सेना पाकिस्तान पर बम दागती है, पाकिस्तान में धुंवा धुंवा कर देती है, वहां पर लाशों की कतार लगा देती है तो कांग्रेसियों को बमों की आवाज इतनी बुरी लगती है कि ये अपनी ऑंखें, कान, नाक और मुंह बंद कर लेते हैं ताकि बमों की आवाज इन्हें सुनाई ना, पाकिस्तान से आ रही चीत्कार की आवाज इन्हें सुनाई ना दे, कल ये लोग कहेंगे कि भारत ने कहाँ जवाब दिया, भारत ने कब हमला किया, हमने तो देखा नहीं, अरे भाई, आप लोग देखोगे कैसे, आप लोगों ने तो अपनी ऑंखें, अपना मुंह, अपनी नाक और अपने कान बंद कर रखे हो.

कुछ दिनों पहले पाकिस्तानी सेना ने दो भारतीय सैनिकों का सिर काट लिया था, कांग्रेस ने इस इसे मुद्दा बनाकर खूब भुनाया था, भारत ने भी पाकिस्तान को करारा जवाब दिया, करीब 10 सैनिकों को उसी दिन मार डाला लेकिन कांग्रेसियों ने उसे नहीं देखा, आज भारतीय सेना ने पाकिस्तानी पोस्ट को बर्बाद करने वाली VIDEO जारी करते हुए कहा कि हम चुप नहीं बैठे हैं, हम इस वक्त पाकिस्तान पर डोमिनेट कर रहे हैं, हम खुद पाकिस्तानी चौकियों पर हमले कर देते हैं, घुसपैठ से पहले ही कई पाकिस्तानी पोस्ट को तबाह कर देते हैं, यह हमारी काउंटर टेररिज्म ऑपरेशन का हिस्सा है लेकिन हम बताते नहीं हैं, हाल ही में हमने नौशेरा में एक पक्सितानी पोस्ट को तबाह कर दिया, सेना ने VIDEO भी रलीज किया.

सेना के VIDEO को पूरी दुनिया ने देखा लेकिन कांग्रेसियों ने अपनी ऑंखें, कान, नाक और मुंह बंद कर दिया ताकि इन धमाकों की आवाज उन्हें ना सुनाई दे. आज ताल ठोंक के कार्यक्रम की बहस में कांग्रेस प्रवक्ता ने अपनी ऑंखें, कान, नाक और मुंह बंद कर लिए लेकिन देश की जनता कांग्रेसियों के चरित्र को भली भाँती समझ रही है.
परेश रावल के बाद सुब्रमनियम स्वामी भी बोले, देशद्रोही अरुंधती राय को जीप के आगे बांधना चाहिए

परेश रावल के बाद सुब्रमनियम स्वामी भी बोले, देशद्रोही अरुंधती राय को जीप के आगे बांधना चाहिए

swamy-support-paresh-rawal-arundhati-roy-should-tied-on-jeep

New Delhi: पाकिस्तान प्रेमी और कश्मीर की आजादी की समर्थक लेखिका अरुंधती रॉय के खिलाफ परेश रावल और सुब्रमनियम एक हो गए हैं, परेश रावल ने कल ट्वीट करके कहा था कि कश्मीर में पत्थरबाज को जीप के आगे बाँधने के बजाय अरुंधती रॉय को बाँध देना चाहिए.
आज सुब्रमनियम स्वामी ने भी परेश रावल का समर्थक करते हुए कहा कि अरुंधती रॉय को को कश्मीर में जीप के आगे बांधना चाहिए, अगर ऐसा किया जाएगा तो कश्मीर के पत्थरबाजों को एक देशद्रोही महिला पर पत्थर मारने में मजा आएगा.

स्वामी ने कहा कि जब आप एक पाकिस्तान समर्थक नेता को जीप के आगे बांधेंगे तो देशद्रोही पत्थरबाज उसे अपना नेता मानते हुए उसपर पत्थर नहीं फेंकेंगे और रास्ता साफ़ कर देंगे लेकिन अगर आप अरुंधती रॉय को जीप के आगे बांधेंगे तो पत्थरबाज उसकी परवाह नहीं करेंगे और उसपर पत्थर फेंकेंगे क्योंकि वे यह सोचेंगे, जो महिला अपने देश के प्रति वफादार नहीं हुई वह किसी के लिए क्या वफादार होगी.

जब उनसे पूछा गया कि क्या बीजेपी वाले लोग भी अरुंधती रॉय को पत्थर मारेंगे तो स्वामी ने कहा कि - हम बीजेपी वाले ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि हम आधुनिक लोकतंत्र में जी रहे हैं और नियमों का पालन करते हैं.

22 May, 2017

पहले स्कूलों में अध्यापकों का पढ़ाने पर ध्यान रहता था, अब मिड-डे-मील से अनाज चुराने पर रहता है

पहले स्कूलों में अध्यापकों का पढ़ाने पर ध्यान रहता था, अब मिड-डे-मील से अनाज चुराने पर रहता है

bad-impact-of-mid-day-meal-yojna-in-primary-schools-of-india
New Delhi: आज आप किसी भी माँ-बाप से पूछकर देखिये - क्या वे अपने बच्चों को सरकारी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ाना चाहते हैं तो उसका उत्तर होगा, नहीं. जब आप कारण पूछेंगे तो वह बताएँगे कि - सरकारी स्कूलों में पढ़ाई नहीं होती. जब आप पूछेंगे कि - सरकार स्कूलों में क्यों पढ़ाई नहीं होती तो वे बताएँगे कि अब अध्यापकों का ध्यान बच्चों को पढ़ाने पर नहीं बल्कि मिड-डे-मील योजना में से राशन चुराने पर रहता है, अब वे दिनभर यही सोचते रहते हैं कि मिड-डे-मील में से कितना राशन बचेगा, उनके हिस्से में कितना माल आएगा, वे घर पर कितना राशन लेकर जाएंगे. अब दिन भर पढ़ाने के बजाय करीब 90 फ़ीसदी अध्यापकों का ध्यान लूट खसोट पर रहता है. इसीलिए सरकारी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ाई नहीं होती.

प्राइमरी स्कूलों की असलियत जानकार ही आज माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में भेजने से डर रहे हैं, प्राइवेट स्कूलों में बच्चों को पढ़ाना उनकी मजबूरी बन गयी है क्योंकि मिड-डे-मील योजना आने के बाद सभी के सभी सरकारी प्राइमरी स्कूलों पर से अचानक माँ-बाप का भरोसा उठ गया, देखते ही देखते सभी सरकारी प्राइमरी स्कूल खाली हो गयी और प्राइवेट स्कूल भरने लगे. अब हालत यह है कि कोई भी माँ-बाप अपने बच्चों को प्राइमरी स्कूलों में पढने के लिए नहीं भेजना चाहता, सबसे बुरी हालत उत्तर प्रदेश में है. वहां पर प्राइमरी स्कूलों में शिक्षा की हालत बहुत दयनीय है और अगर तुरंत ही इन स्कूलों पर बंद कर दिया जाय तो सरकार का बहुत पैसा बचेगा क्योंकि सरकारी शिक्षकों को सरकार 50 हजार से अधिक की सैलरी दे रही है लेकिन पढ़ाने के मामले में वे 0 हैं क्योंकि उनका ध्यान राशन चुराने पर अधिक रहता है.

सरकार ने मिड-डे-मील योजना यह सोचकर शुरू की थी कि बच्चों को पोषण मिलेगा, स्वास्थ्यवर्धक खाना मिलेगा, बच्चों से कुपोषण दूर होगा, माँ-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाना शुरू कर देंगे, बच्चों की उपस्थिति बढ़ जाएगी, साक्षरता बढ़ जाएगी, सब कुछ सही हो जाएगा लेकिन हुआ उसका उल्टा.

पहले प्राइमरी स्कूलों के प्रधानाचार्य इस कोशिश में रहते थे कि किस प्रकार से बच्चों को अधिक से अधिक ज्ञान दिया जाए ताकि हमारा भी प्रमोशन हो, समाज में मान सम्मान बढे, बच्चे पढ़ लिखकर अपने माँ-बाप और हमारा नाम रोशन करें लेकिन अब ज्यादातर प्रधानाचार्य यह सोचते हैं कि बच्चों को कितना कम खिलाएं, बच्चों के हिस्से में से कितना राशन बचाएं कि हर रोज हमारे घर पर भी 100-50 किलो राशन पहुँच जाय, साथ ही लूट का कुछ हिस्सा स्कूल के अन्य अध्यापकों और कर्मचारियों को बाँट दिया जाय ताकि कोई उनके खिलाफ आवाज ना उठा पाए.

अब आप खुद सोचिये, अगर प्राइमरी स्कूलों के प्रधानाचार्य दिन भर राशन चुराने में लगे रहेंगे तो बच्चों को क्या शिक्षा देंगे, अगर स्कूलों के अध्यापकों का ध्यान अपने हिस्से पर रहेगा तो वे बच्चों को क्या पढाएंगे. इसीलिए प्राइमरी स्कूलों की हालत दिनों दिन दयनीय होती जा रही है, जरूरी नहीं कि यह सब केवल उत्तर प्रदेश में हो रहा है, यह गलत काम भारत के सभी राज्यों में हो रहा है, सरकार को तुरंत ही यह योजना बंद करनी चाहिए और अगर मदद करनी ही है तो कुछ पैसा बच्चों के खाते में भेज देना चाहिए ताकि वे खुद खरीदकर खा सकें.

सरकार बच्चों को भेजती है सब-कुछ, उन्हें मिलती है सिर्फ खिचड़ी

सबसे हैरानी की बात तो ये है कि केंद्र सरकार प्राइमरी स्कूलों के बच्चों को खाने के लिए सब कुछ भेजती है, उन्हें बढ़िया अनाज भेजा जाता है, बढ़िया क्वालिटी की दाल और चावल भेजा जाता है, सब्जियों और फलों के पैसे भेजे जाते हैं लेकिन इसमें से बहुत कुछ रास्ते में ही लूट लिया जाता है और बचा खुचा स्कूल के टीचर लूट लेते हैं, बच्चों को सिर्फ खिचड़ी खिलाकर घर भेज दिया जाता है. स्कूलों में बहुत बड़ा भ्रष्टाचार हो रहा है, जो खाना बच्चों के लिए भेजा जाता है उसे चोर और भ्रष्टाचारी अधिकारी, प्रधानाचार्य और अध्यापक मिलकर लूट खाते हैं, बच्चों को सिर्फ खिचड़ी मिलती है. सरकार को तुरंत ही इस मामले पर ध्यान देना चाहिए वरना पूरा शिक्षा तंत्र खोखला हो जाएगा और बाद में कुछ नहीं बचेगा.

20 May, 2017

चुनाव आयोग ने राजनीतिक पार्टियों को दिया EVM टेम्परिंग का चैलेंज, आओ, दम है तो हैक करके दिखाओ

चुनाव आयोग ने राजनीतिक पार्टियों को दिया EVM टेम्परिंग का चैलेंज, आओ, दम है तो हैक करके दिखाओ

election-commission-give-open-challenge-to-hack-evm

New Delhi: आज भारतीय चुनाव आयोग ने बड़ा कदम उठाते हुए सभी राजनीतिक पार्टियों को EVM में टेम्परिंग करने का खुला चैलेंज दे दिया है, इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों को तीन लोगों को 26 मई से पहले नोमिनेट करना पड़ेगा और उनका नाम चुनाव आयोग को भेजना पड़ेगा, 3 जून के बाद उन्हें 4 घंटे में EVM टेम्परिंग करके दिखाना पड़ेगा.

EVM में टेम्परिंग की चुनौती के साथ साथ चुनाव आयोग ने यह भी आश्वासन दिया कि भविष्य के सभी इलेक्शन में EVM के साथ साथ VVPATs भी इस्तेमाल किये जाएंगे ताकि सभी मतदाता अपने वोट का सत्यापन कर सकें. चुनाव योग के अध्यक्ष नसीम जैदी ने आज एक प्रेस कांफ्रेंस करके ये जानकारी दी.

नसीम जैदी ने कहा कि हम एक बार फिर से कहते हैं कि हमारे EVM टेम्पर प्रूफ हैं और यह भारत का गौरव है कि हमारे पास ऐसी EVM हैं जो दुनिया में किसी के पास नहीं हैं, उन्होंने कहा कि EVM को हैक करना नामुमकिन है क्योंकि इसमें ना तो इन्टरनेट चलता है ना वाई-फाई चलता है, रही बात मदरबोर्ड बदलने की तो मदरबोर्ड बदलने के बाद यह हमारी EVM नहीं रहती, बल्कि परिवर्तित EVM हो जाती है, क्योंकि जब अन्दर से EVM का सिस्टम निकालकर दूसरा सिस्टम लगा दिया जाएगा तो वह दूसरे सिस्टम के हिसाब से काम करने लग जाएगी.

चुनाव आयोग ने EVM में टेम्परिंग के लिए कुछ शर्तें रखी हैं -
  • मदरबोर्ड को बदला नहीं जाएगा
  • कंट्रोल यूनिट और EVM की बटनों के साथ कुछ भी कर सकते हैं
  • बैलट यूनिट के साथ भी छेड़छाड़ की पूरी छूट मिलेगी
  • एक्सटर्नल हार्डवेयर का इस्तेमाल किया जा सकेगा, जैसे रिमोट या कोई और डेवाईस
  • 26 मई से पहले सभी राजनीतिक पार्टियों को EVM टेम्परिंग में भाग लेने का आवेदन देना होगा
  • इसके लिए तीन लोगों के नाम चुनाव आयोग को भेजने पड़ेंगे
  • केवल भारतीय इंजिनियरों को मौका मिलेगा क्योंकि विदेशी इंजिनियर हमारी EVM को देखकर टेक्नोलॉजी चुरा सकते हैं
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मार्च में हुए विधानसभा चुनावों के बाद ही बीजेपी विरोधी पार्टियाँ EVM टेम्परिंग का मुद्दा उठा रही हैं, सबसे पहले मायावती ने यह मुद्दा उठाया था उसके बाद अरविन्द केजरीवाल इसे पकड़कर बैठ गए, उनके एक विधायक सौरभ भरद्वाज ने नकली EVM हैक करके खुद को तीस मार खान साबित किया और केवल 3 घंटे में किसी भी EVM को हैक करने का दावा किया, अब चुनाव आयोग ने उन्हें 4 घंटे दिए हैं, अब उनकी इज्जत दांव पर है, अगर वे EVM हैक ना कर सके तो उनकी बहुत बेइज्जती हो जाएगी.

18 May, 2017

PM MODI का आज हो गया व्यक्तिगत नुकसान

PM MODI का आज हो गया व्यक्तिगत नुकसान

union-minister-anil-madhav-dave-death-modi-told-personal-loss

नई दिल्ली: आज मोदी सरकार के लिए बहुत बुरी और दुखी कर देने वाली खबर है क्योंकि मोदी सरकार में केंद्रीय राज्य पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया, अनिल माधव 61 वर्ष के थे और उनका AIIMS में इलाज चल रहा था, अचानक दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उनके निधन पर गहरा दुःख जताया है और इसे व्यक्तिगत नुकसान बताया है, मोदी ने कहा कि वे कल शाम को अनिल माधव के साथ थे और उनसे पर्यावरण से जुड़े प्रमुख नीतिगत मामलों पर चर्चा कर रहे थे.

जानकारी के लिए बता दें कि अनिल माधव दवे 2009 से बीजेपी के राज्य सभा सदस्य हैं, साथ ही मोदी के गहरे दोस्त भी हैं, वे मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले के रहने वाले थे.

रिपोर्ट के अनुसार उन्हें फेफड़ों में कैंसर हो गया था, पहले उन्हें निमोनिया बताया गया था लेकिन जब उन्हें कैंसर की जानकारी मिली तो वे सदमा बर्दास्त नहीं कर पाए और दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हुआ.

17 May, 2017

मुस्लिम महिलाओं का ‘तीन तलाक और हलाला’ जारी रहना चाहिए, सुनवाई बंद करे SC: कपिल सिब्बल

मुस्लिम महिलाओं का ‘तीन तलाक और हलाला’ जारी रहना चाहिए, सुनवाई बंद करे SC: कपिल सिब्बल

kapil-sibal-disappointed-crores-of-muslim-women-on-triple-talaq

New Delhi: कांग्रेस पार्टी में एक से बढ़कर एक वकील हैं जिसमें सबसे बड़ा नाम है कपिल सिब्बल का, कपिल सिब्बल भले ही कांग्रेस के बड़े नेता हैं और वे केंद्र सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं लेकिन वे पैसा कमाने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं और किसी भी हद तक गिरने को तैयार रहते हैं और गिर भी जाते हैं.

मुस्लिम संस्था आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक़ पर सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के लिए कपिल सिब्बल को अपना वकील बनाया है, कपिल सिब्बल की सुप्रीम कोर्ट में बहुत चलती है, उनके आगे बड़े बड़े जजों की बोलती बन हो जाती है, कल उन्होंने अपना जलवा दिखाते हुए तीन तलाक के समर्थन में अजीब अजीब तर्क रखकर करोड़ों मुस्लिम महिलाओं को दुखी कर दिया.

कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि तीन तलाक़ मुस्लिमों की आस्था से जुड़ा मामला है, जिस तरह से हिन्दू लोग भगवान राम में आस्था रखते हैं, अगर अयोध्या में राम का जन्म आस्था का विषय हो सकता है तो मुस्लिमों में तीन तलाक़ आस्था का विषय क्यों नहीं हो सकता, सुप्रीम कोर्ट को तीन तलाक़ मामले पर सुनवाई रोकनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मुस्लिमों में तलाक और हलाला पिछले 1400 वर्षों से जारी है इसलिए आगे भी इसे जारी रखना चाहिये.

पहले भी दे चुके हैं रामसेतु पर विवादास्पद बयान

ऐसा नहीं है कि कपिल सिब्बल ने पहली बार विवादास्पद तथ्य रखे हैं, इससे पहले UPA-2 सरकार में केंद्रीय मंत्री रहते हुए उन्होने कोर्ट में राम सेतु का अस्तित्व मानने से ही इनकार कर दिया था, उन्होंने कहा था कि रामसेतु जैसी कोई चीज नहीं है, यह एक कोरी कल्पना है. उस समय कपिल सिब्बल केन्द्रीय मंत्री होने के साथ साथ केंद्र सरकार के वकील भी थे.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मुस्लिमों में तीन तलाक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में 11 मई से सुनवाई चल रही है, इस मामले की पैरवी करने के लिए AIMPLB ने कपिल सिब्बल को अपना वकील बनाया है. आज भी इस मामले की सुनवाई होगी और कुछ ही दिनों में अंतिम फैसला आ जाएगा.

15 May, 2017

भारत ने अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट में मजबूती के साथ रखा कुलभूषण जाधव का पक्ष: पढ़ें क्या कहा

भारत ने अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट में मजबूती के साथ रखा कुलभूषण जाधव का पक्ष: पढ़ें क्या कहा

india-backed-kulbhushan-yadav-in-icj-at-hague-against-pakistan

New Delhi: भारत ने आज हेग स्थित अंतर्राष्ट्रीय अदालत में पाकिस्तान के झूठे दावे की पोल खोलते हुए बहुत ही मजबूती के साथ कुलभूषण जाधव का पक्ष रखा. भारत की तरफ से मशहूर वकील हरीश साल्वे ने कुलभूषण जाधव की पैरवी की और कोर्ट से उनकी फांसी की सजा पर रोक लगाने की मांग की, हरीश साल्वे ने कहा कि हमें शक है कि इस मामले की सुनवाई पूरी होने से पहले ही पाकिस्तान कुलभूषण जाधव को फांसी पर लटका देगा जबकि उसके पास ना तो पर्याप्त सबूत हैं और ना ही कोई ठोस दस्तावेज.

भारत ने रखे ये तथ्य
  • जाधव के माता-पिता पाकिस्तान जाना चाहते हैं लेकिन जाधव के परिवारवालों की तरफ से वीजा आवेदन अभी भी लंबित है
  • हमने 16 बार मदद की गुहार लगाई लेकिन जाधव को काउंसलर मदद नहीं दी गई
  • पाकिस्तान ने जाधव को फांसी की सजा देते समय मानवाधिकारों को ताक पर रखा
  • पाकिस्तान ने वियना संधि की
     धारा 36(1बी)
     उल्लंघन किया, भारत की मांगें नहीं मानी
  • जाधव की गिरफ्तारी के बाद भारत को कोई जानकारी नहीं दी गई
  • मौजूदा स्थिति बेहद गंभीर है और इसीलिए भारत ने ICJ के हस्तक्षेप की मांग की है
  • पाकिस्तान की तरफ से जाधव के ट्रायल को लेकर कोई दस्तावेज भारत को नहीं दिया गया
  • जाधव को ईरान से अगवा किया गया और जबरदस्ती बयान लिया गया
  • भारत चाहता है कि कुलभूषण जाधव को लेकर पाकिस्तान की सैन्य अदालत के फैसले को अमान्य करार दिया जाए
  • पाकिस्तान ICJ के फैसले को चुनौती नहीं दे सकता है
  • भारत ने ICJ को बताया कि उसे डर है कि इस सुनवाई के पूरा होने से पहले ही कुलभूषण जाधव को फांसी पर चढ़ा दिया जाएगा
  • पाकिस्तान ने राजनयिक मदद न देने की भी कोई वजह नहीं बताई
  • जाधव को सिर्फ बयान के आधार पर आरोपी बताया गया है। यह बयान जाधव से उस वक्त जबरन लिया गया था जब वह सेना की हिरासत में थे
  • पाकिस्तान ने कूटनीतिक नियमों का पालन नहीं किया है
  • पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव के खिलाफ तैयार की गई चार्जशीट भारत को नहीं दी
  • पाकिस्तान ने जाधव के अधिकारों का हनन किया, भारत को जानकारी नहीं कि जाधव को पाकिस्तान में कहां रखा गया है
पाकिस्तान ने क्या कहा?
  • जाधव को पाकिस्तान के बलूचिस्तान से पकड़ा गया था
  • पाकिस्तान ने कहा कि उसने जांच की डीटेल भारत को भेजी थी
  • पाकिस्तान ने कहा कि जाधव का कन्फेशन विडियो 'पुख्ता सबूत' है
  • पाकिस्तान ने कहा कि जाधव ईरान के रास्ते पाकिस्तान में घुसे थे
  • पाक वकील ने कहा कि कोर्ट को जाधव के कबूलनामे को सुनना चाहिए। यह हर जगह उपलब्ध है
  • भारत जाधव मामले में ICJ का राजनीतिक इस्तेमाल कर रहा है
  • पाकिस्तान ने कहा कि इस मामले को कोर्ट को खारिज कर देना चाहिए

11 May, 2017

हजारों लोग इसलिए जस्टिन बीबर का शो देखने गए थे ताकि लोग समझें 'इन्हें अंग्रेजी समझ में आती है'

हजारों लोग इसलिए जस्टिन बीबर का शो देखने गए थे ताकि लोग समझें 'इन्हें अंग्रेजी समझ में आती है'

justin-bieber-mumbai-show-why-45-thousand-indian-watch-show

मुंबई: हिंदुस्तान हिंदी का देश है, हमारे देश में अंग्रेजी से अधिक हिंदी न्यूज़ चैनल देखे जाते हैं, अंग्रेजी समाचार पत्र से अधिक हिंदी  समाचार पत्र पढ़े जाते हैं, अंग्रेजी फिल्मों से अधिक हिंदी  फ़िल्में देखी जाती हैं और अंग्रेजी टीवी शो से अधिक हिंदी टीवी शो देखे जाते हैं, हमारे देश में जितने हिंदी और क्लासिकल गानें अच्छे लगते हैं उतने मधुर अंग्रेजी गाने नहीं लगते इसके बावजूद भी हजारों लोग लाखों रुपये की टिकट खरीदकर विदेशी सिंगर जस्टिन बीबर का शो देखने जाते हैं और इतना पागल हो जाते हैं जैसे उन्होंने जग जीत लिया हो.

कल जस्टिन बीबर का मुंबई में शो था, इस शो को देखने के लिए करीब 45 हजार भारतीय पहुंचे थे, बहुत बड़ी व्यवस्था की गयी थी, पार्किंग के लिए जगह कम पड़ गयी, कई लोगों को 4 किलोमीटर दूर अपनी कार पार्क करनी पड़ी उसके बावजूद भी वे शो देखने गए.

हमारे देश के लोग दिखावा बहुत करते हैं, दिखावा करने के लिए अगर इन्हें लाईन में भी खड़े होना पड़े तो हो जाएंगे, ये लोग बैंकों के बाहर लाइन में नहीं लग सकते लेकिन विदेशी गायक का शो देखने के लिए इतने पागल हो जाते हैं कि 4 किलोमीटर पैदल भी चलना पड़े तो मंजूर है. जितने भी लोगों ने जस्टिन बीबर का शो देखा है आप उनसे अगर 10 गानों में से 1 भी गाना सुनाने के लिए बोलिए तो वे नहीं सुना पायेंगे लेकिन अगर इन लोगों को कोई हिंदी फिल्म दिखा दो तो उसका एक या दो गाना जरूर याद हो जाएगा.

कल हमारे देश के पढ़े लिखे दिखावटी लोगों ने करीब 200 करोड़ रुपये जस्टिन बीबर पर फूंक दिए, किसी ने 75 हजार की टिकट ली, किसी ने 50 हजार की टिकट ली, किसी ने 25 हजार की टिकट ली और किसी ने 15 हजार रुपये की टिकट ली. 45 हजार दिखावटी लोगों में से हजारों लोग ऐसे भी रहे होंगे जो केवल यह दिखावा करने के लिए जस्टिन बीबर का शो देखने गए होंगे कि उन्हें अंग्रेजी समझ में आती है और अंग्रेजी गाना सुनकर उन्होंने बड़ा तीर मार दिया हो.

जस्टिन बीबर ने बनाया मूर्ख

अब खबर आ रही है कि जस्टिन बीबर ने दिखावटी भारतीयों को मूर्ख बना दिया, ये लोग उन्हें Live सुनने गए थे लेकिन बीबर ने Recorded Song चला दिया और केवल होंठ हिलाते रहे, अब लोग नाराज हो रहे हैं कि बीबर ने हमें मूर्ख बनाया है. इसके अलावा बीबर 4 दिन के लिए भारत आये थे लेकिन वे शो ख़त्म करने के तुरंत बाद अपने घर रवाना हो गए, बॉलीवुड के कई कलाकारों ने उनके लिए पार्टी भी रखी थी लेकिन वे सबको ठेंगा दिखाते हुए चले गए, उन्होंने 2 ही घंटों में अरबों रुपये कमा लिए, उनका कम निकल गया तो भारत में क्यों रुकेंगे, यहाँ के लोग उनके पीछे इतने बावले हो गए थे कि सोच भी नहीं सकते. अब जैसे ही उन्हें पता चला कि बीबर ने उन्हें मूर्ख बना दिया, खुद गाने के बजाय केवल होंठ हिलाते रहे और लोगों ने समझा कि वो खुद गा रहे हैं.
आज दो दिवसीय श्रीलंका दौरे पर जाएंगे PM MODI

आज दो दिवसीय श्रीलंका दौरे पर जाएंगे PM MODI

pm-narendra-modi-2-day-vizit-to-shri-lanka

नई दिल्ली: भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज से दो दिवसीय श्रीलंका दौरे पर जा रहे हैं, वहां पर वे नुवारा इलिया क्षेत्र में जिला बेस अस्पताल का उद्घाटन करेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस अस्पताल के निर्माण के लिए भारत सरकार ने भी 50 करोड़ रुपये दिए हैं इसके अलावा भारत सरकार ने श्रीलंका में इमरजेंसी एम्बुलेंस सेवा वरदान की भी शुरुआत की है.

अस्पताल का उद्घाटन के अलवा प्रधानमंत्री मोदी अंतर्राष्ट्रीय वैसाक समारोह में भी भाग लेंगे और दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूत करेंगे, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरीसेना भारत दौरे पर आये थे और उन्होंने मोदी को श्रीलंका आने का निमंत्रण दिया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत हेल्थकेयर के क्षेत्र में श्रीलंका की काफी मदद कर रहा है, वर्ष मार्च 2015 में मोदी ने श्रीलंका यात्रा के दौरान 88 इमरजेंसी एम्बुलेंस सेवा की शुरुआत की थी जो श्रीलंका के लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है, आज मोदी इस कदम को और आगे बढाते हुए जिला बेस अस्पताल का उद्घाटन करके श्रीलंका को एक और बड़ा तोहफा देंगे.

10 May, 2017

पाकिस्तान के लिए बुरी खबर, भारतीय कुलभूषण जाधव की फांसी पर अंतर्राष्ट्रीय अदालत ने लगाई रोक

पाकिस्तान के लिए बुरी खबर, भारतीय कुलभूषण जाधव की फांसी पर अंतर्राष्ट्रीय अदालत ने लगाई रोक

kulbhushan-jadhav-fansi-stopped-by-international-court

New Delhi: आज भारत के लिए एक बड़ी खुशखबरी है जबकि पाकिस्तान के लिए बहुत बुरी खबर है क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय अदालत ने भारतीय कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा पर रोक लगा दी है, उन्हें पाकिस्तानी की सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई थी.

रिपोर्ट के अनुसार आज अंतर्राष्ट्रीय अदालत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पत्र लिखकर कुलभूषण जाधव की फांसी की सजा रोकने का आदेश दिया है, भारत ने पाकिस्तान की सैन्य अदालत के फैसले के खिलाफ 8 मई को हेग स्थित अंतर्राष्टीय अदालत में कुलभूषण यादव की फांसी रोकने की अपील की थी. भारत की तरफ से वकील हरीश साल्वे ने कुलभूषण जाधव का पक्ष रखा और उन्हें बताया कि पाकिस्तान ने कुलभूषण का ना तो पक्ष सुना और ना ही भारतीय दूतावास को उनसे मिलने की इजाजत दी.

जानकारी के लिए बता दें कि कुलभूषण जाधव की माँ अवंती जाधव ने पिछले महीने पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में जाधव की फांसी रोकने की याचिका दायर की थी.

आज विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने खुद ट्वीट करके बताया कि जाधव के मामले में भारत को बड़ी कामयाबी मिली है.

08 May, 2017

पाकिस्तान ने छुपकर किया था वार, लेकिन भारत ने दुनिया को दिखाकर पाकिस्तान पर छोड़ी मिसाइल: VIDEO

पाकिस्तान ने छुपकर किया था वार, लेकिन भारत ने दुनिया को दिखाकर पाकिस्तान पर छोड़ी मिसाइल: VIDEO

indian-army-fired-anti-tank-guided-missile-on-pakistan
New Delhi : कल भारतीय सेना ने दो सैनिकों की शहादत का बदला ले ही लिया, भारत ने पाकिस्तान में एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल दागकर उसके कई बंकर को उड़ा दिया जिसमें कई पाकिस्तानी सैनिक भी उड़ गए, भारतीय सेना के इस बदले का VIDEO सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है जिसके देखकर भारतीयों का सीना गर्व से फूलकर चौड़ा हो गया है.

सबसे ख़ुशी की बात ये है कि पाकिस्तानी सेना से सिख रेजिमेंट के दो सैनिकों के सर काटे थे और बदला भी सिख रेजिमेंट ने लिया है, कल सिख रेजिमेंट ने भारत सरकार से आदेश मिलने के बाद पाकिस्तान पर एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल दाग दीं, आप भी देखें VIDEO.

इससे भी ख़ुशी की बात ये है कि पाकिस्तान ने भारत पर छुपकर वार किया था, सुबह सुबह बिना बताये हमला किया था लेकिन भारत ने पाकिस्तान को मारकर दुनिया को भी दिखा दिया. भारत ने साबित कर दिया कि पाकिस्तान कायर है और भारत बहादुर है और सीना तानकर जवाब देता है.
56 इंच वाले का कमाल, भारतीय सेना ने एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइलों से पाकिस्तानी टैंकों को उड़ाया

56 इंच वाले का कमाल, भारतीय सेना ने एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइलों से पाकिस्तानी टैंकों को उड़ाया

indian-army-attack-paksitani-tank-using-anti-tank-guided-missiles

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बार बार साबित करते हैं कि उनका सीना 56 इंच का है लेकिन लोग बार बार भूल जाते हैं, पहले उड़ी हमला हुआ तो लोग बोले कि मोदी का सीना 56 इंच का नहीं है, उसके बाद मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक करवाकर साबित किया कि उनका सीना 56 इंच का है, कुछ दिन पहले पाकिस्तानी सेना ने पूंछ जिले की कृष्णा घाटी सेक्टर में दो भारतीय सैनिकों का सर काट लिया तो फिर से लोगों ने कहना शुरू कर दिया कि मोदी सीना 56 का नहीं है लेकिन मोदी ने आज फिर से साबित कर दिया कि उनका सीना 56 इंच का है.

दो भारतीय सैनिकों का सर काटे जाने के बाद सोशल मीडिया पर मोदी सरकार की बहुत आलोचना हुई लेकिन अब सीमा पर पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारतीय सेना ने अब अपनी ताकत का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है, भारत ने कल पाकिस्तान के कई टैंकों को एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइलों से उड़ा दिया, इन मिसाइलों से भारतीय सेना ने एक किलोमीटर दूर बैठे बैठे निशाना साधा और देखते ही देखते पाकिस्तानी टैंकों के चीथड़े उड़ गए. सबसे ख़ुशी की बात है कि सिख रेजिमेंट के सैनिकों के सर काटे गए थे तो बदला भी सिख रेजिमेंट ने लिया है.

जानकारी के लिए बता दें कि कुछ दिन पहले पूंछ जिले की कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तानी सेना ने सीजफायर का उल्लंघन किया, दो भारतीय सैनिकों को गोली मारने के बाद पाकिस्तानी सेना के कुछ जवान भारतीय सीमा में घुस गए और दोनों सैनिकों का सर काटकर अपने साथ ले गए, इस घटना के बाद भारत के लोग बहुत गुस्सा हुए और भारत सरकार से बदला लेने की मांग करने लगे.

मोदी सरकार और भारतीय सेना ने देशवासियों को मायूश नहीं होने दिया और बॉर्डर पर मिसाइलों को तैनात कर दिया, बहुत कम लोग जानते हैं कि भारत के पास स्वदेशी तकनीक से विकसित एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल हैं जो GPRS से चलती हैं, इन मिसाइलों से कई किलोमीटर दूर बैठकर सटीक निशाना लगाया जा सकता है और दुश्मन को तबाह किया जा सकता है.

कल भारतीय सेना ने इन्हीं मिसाइलों का इस्तेमाल किया, इससे पहले भारत ने अंडमान निकोबार में मिसाइलों का परीक्षण भी किया था, पाकिस्तान ने सोचा नहीं होगा कि भारत हम पर दागने के लिए ही इस मिसाइल का परीक्षण कर रहा है, कल भारतीय सेना ने सच में पाकिस्तान में कई मिसाइलों को दागकर कम से कम 20 पाकिस्तानी सैनिकों का काम तमाम कर दिया है.

भारतीय सेना का कहना है कि ये तो अभी ट्रायल है, अभी पाकिस्तान को और कीमत चुकानी है, उसने हमारे सैनिकों का सर काटकर जो गुस्ताखी की है उसकी कड़ी सजा भुगतनी ही पड़ेगी.

सबूत के तौर पर ये VIDEO देखिये जिसे खुद सेना के पूर्व मेजर गौरव आर्या ने ट्वीट किया है. यह VIDEO देखकर हर भारतीय का सर गर्व से ऊंचा हो जाएगा.

05 May, 2017

फिर खुल गयी केजरीवाल की फाइल, गृह मंत्रालय ने AAP के विदेशी चंदे की पाई पाई का माँगा हिसाब

फिर खुल गयी केजरीवाल की फाइल, गृह मंत्रालय ने AAP के विदेशी चंदे की पाई पाई का माँगा हिसाब

home-ministry-ask-aam-aadmi-party-sources-of-foreign-funding

नयी दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल और आम आदमी पार्टी की मुसीबत फिर से बढ़ने वाली है क्योंकि गृह मंत्रालय ने आम आदमी पार्टी से विदेशी चंदे का पूरा व्योरा माँगा है, मतलब चंदा देने वालों का नाम पता और एड्रेस माँगा है ताकि पता चल सके कि उन्हें चंदा देने वाले कौन लोग हैं, क्या काम करते हैं और कहाँ रहते हैं, गृह मंत्रालय यह जानना चाहता है कि कहीं आतंकवादी और देश के दुश्मन तो उन्हें फंडिंग नहीं कर रहे है.

यह भी हो सकता है कि अलगाववादी और देश के टुकड़े टुकड़े करने की चाहत रखने वाले लोग ही उन्हें फंडिंग कर रहे हों क्योंकि केजरीवाल और आदम आदमी पार्टी की छवि लड़ने वाले पार्टी की है, अगर पंजाब में इनकी सरकार बनती केंद्र और राज्य में टकराव होता और पंजाब को देश से अलग करने का प्रयास किया जाता.

जानकारी के अनुसार गृह मंत्रालय ने FCRA के तहत पाया है कि आप के विदेशी चंदे में कुछ जानकारियां संदेहास्पद हैं, 16 मई तक चंदा देने वालों की विस्तृत जानकारी देने का आदेश दिया गया है.

गृह मंत्रलाय के इस आदेश को AAP नेताओं ने AAP को परेशान करने की रणनीति बताया है, आप प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा कि कल CBI ने सचिवालय पर छापा मारा और आज चंदे की जानकारी माँगी, इससे साफ़ है कि बीजेपी वालों ने आप पार्टी को एक बार फिर से परेशान करने का काम शुरू कर दिया है.
आज सिर्फ चीन और पाकिस्तान सदमें में, सभी पडोसी कर रहे हैं भारत की जय जयकार, कमाल हो गया

आज सिर्फ चीन और पाकिस्तान सदमें में, सभी पडोसी कर रहे हैं भारत की जय जयकार, कमाल हो गया

isro-launch-gsat-9-a-gift-for-neighbors-only-pakistan-china-upset
New Delhi: आज भारत से सच में कमाल करके दिखा दिया है, भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन ISRO ने सतीश धवन सेंटर से GSAT-7 सैटेलाईट को सफलतापूर्वक लांच करके पडोसी देशों को बड़ा गिफ्ट दिया, इस गिफ्ट की वजह से भारत के सभी पडोसी देश हमारी जय जय कार कर रहे हैं, सिर्फ पाकिस्तान और चीन ही सदमें हैं क्योंकि ये दोनों हमारे दुश्मन देश हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस सफलता पर ख़ुशी व्यक्त करते हुए GSAT-9 को भारत के 5 पडोसी देशों - श्री लंका, नेपाल, भूटान, अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश और मालदीव्स को समर्पित किया हालाँकि पाकिस्तान ने इसका फायदा लेने से खुद ही इनकार कर दिया है क्योंकि वह दुश्मन देश से कोई गिफ्ट नहीं चाहता, इसके अलावा चाइना का अपना खुद का सैटेलाईट है, हालाँकि भारत के मुकाबले उसका सैटेलाईट काफी कमजोर है.

इस सैटेलाईट के माध्यम से भारत के साथ साथ पाँचों पडोसी देश भी कम्युनिकेशन, आपदा प्रबंधन, प्राकृतिक संसाधनों का मानचित्रण, टेलीमेडिसिन, IT कनेक्टिविटी और लोगों को जोड़ने में मदद पा सकते हैं, कुल मिलाकर कहें तो ये सैटेलाईट SAARC देशों के लिए बहुत फायदेमंद होने वाले हैं. देखिये भारत के पडोसी देश कितने खुश हैं - 







 इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने #ISRO के सभी वैज्ञानिकों को बधाई दी और उनकी कड़ी मेहनत की तारीफ की, उन्होंने कहा कि मुझे अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है. उन्होंने कहा कि इस सैटेलाईट के माध्यम से सभी पड़ोसी देशों का विकास होगा और हमारे रिश्ते अच्छे होंगे, उन्होंने अफ़ग़ानिस्तान, श्रीलंका, भूटान, नेपाल, मालदीव्स और बांग्लादेश को इस प्रोग्राम में भागीदार बनने के लिए शुभकामनाएं दी.
प्रभु का एक और जबरजस्त काम, अब बिना टिकट वालों ने घूस नहीं लूट पाएंगे TT, बनाना होगा टिकट

प्रभु का एक और जबरजस्त काम, अब बिना टिकट वालों ने घूस नहीं लूट पाएंगे TT, बनाना होगा टिकट

railway-minister-suresh-prabhu-good-work

नई दिल्ली : रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज एक और बेहतरीन काम किया है, इस काम से आम आदमियों को राहत तो मिली ही है, ट्रेन में टिकट चेक करने वालों (TTE) की ऊपरी कमाई बंद करने का जुगाड़ भी कर दिया है, नए नियम के अनुसार अब ट्रेन में बिना टिकट चढ़ने के बाद भी TTE से रिजर्वेशन या वेटिंग टिकट ले सकते हैं और वो भी बिना जुर्माना दिए हुए, इसके लिए आपको TTE को सिर्फ 10 रुपये अधिक देने होंगे.

मान लीजिये आपकी ट्रेन छूटने वाली है और आप टिकट नहीं खरीद पाए, या आप स्लीपर क्लास में आप बिना टिकट के चढ़ गए, ऐसी हालत में आप TTE के पास जाइए और उससे वेटिंग टिकट मांग लीजिये, अगर ट्रेन में सीटें खाली होंगी तो वह आपको कन्फर्म टिकट देगा, अगर सीटें खाली नहीं होंगी तो वेटिंग टिकट देगा, उसके पास एक मशीन भी होगी जीनें ट्रेन में खाली सीटों की जानकारी मिलेगी.

यह सुविधा अरक्षित और अनारक्षित दोनों के लिए शुरू हुई है लेकिन आरक्षित में केवल सुपरफास्ट ट्रेनों में ही अभी ये सुविधा शुरू हुई है, जल्द ही एक्सप्रेस ट्रेनों में भी यह सुविधा शुरू हो जाएगी.

अब तक TTE लोग बिना टिकट यात्रियों को जुर्माने के नाम पर डराते थे और उनसे घूस लेकर उनका वेटिंग टिकट बना देते थे लेकिन अब वे ऐसा नहीं कर पाएंगे क्योंकि यात्री खुद उनके पास जाकर टिकट ले सकते हैं, और उन्हें देना पड़ेगा, पहले TTE यात्रियों को कहते थे कि आपका ट्रेन के सोर्स और डेस्टिनेशन तक टिकट बनेगा और 500 रुपये जुर्माना भी देना पड़ेगा, मतलब यात्रियों का 1000-2000 का खर्च बताते थे, इसके बाद यात्री डर जाते थे और जुगाड़ ढूंढते थे, ऐसे में TTE उनके घूस मांगते थे और वेटिंग टिकट बना देते थे लेकिन अब वे ऐसा नहीं कर पाएंगे, सरकार ने उनकी ऊपरी कमाई पर लात मार दी है, बेईमानी बंद.