Showing posts with label Himachal Pradesh. Show all posts
Showing posts with label Himachal Pradesh. Show all posts

17 June, 2017

शिमला में भी खिल गया कमल, अब कांग्रेस से हिमाचल भी छिनेगा

शिमला में भी खिल गया कमल, अब कांग्रेस से हिमाचल भी छिनेगा

bjp-victory-in-shimla-municipal-corporation-over-congress

Shimla, 17 June: आज कांग्रेस पार्टी के लिए एक और बुरी खबर आ गयी क्योंकि भारतीय जनता पार्टी ने उसे शिमला नगर निगम चुनाव में पटखनी दे दी, इस जीत से यह भी साफ़ हो गया है कि अगले वर्ष हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव जीतकर बीजेपी कांग्रेस के हाथों से हिमाचल की सत्ता भी छीन लेगी.

34 सीटों वाली शिमला नगर निगम में भारतीय जनता पार्टी ने 17 जगह जीत दर्ज की जबकि कांग्रेस को 12 सीटों से संतोष करना पड़ा, पांच आजाद उम्मीदवारों ने भी जीत दर्ज की है. आजादी के बाद शिमला नगर निगम पर पहली बार बीजेपी का राज होगा. 32 वर्ष पहले शिमला नगर निगम की स्थापना हुई थी, उसके बाद से कांग्रेस पार्टी का ही इसपर कब्ज़ा था लेकिन आज बीजेपी ने इतिहास बना दिया.

इस चुनाव में कांग्रेस के साथ साथ CPM को भी झटका मिला है क्योंकि 2012 नगर निगम चुनाव में CPM पार्टी से संजय चौहान की जीत हुई थी और उन्हें मेयर बनाया गया था, उनके अलावा CPM से तिकंदर पंवार की भी विजय हुई थी लेकिन इस चुनाव में दोनों ही हार गए

बीजेपी को बहुमत मिलने की वजह से मेयर भी इसी पार्टी का होगा, खबर है कि किसी महिला को मेयर बनाया जाएगा, नगर निगम में महिलाओं को 50 फ़ीसदी आरक्षण मिला है.

भारतीय जनता पार्टी के लिए यह चुनाव जीतना मुंह मांगे वरदान जैसा है क्योंकि अगले वर्ष हिमाचल विधानसभा चुनाव होने हैं, जीत की यह गूँज पूरे प्रदेश में सुनाई देगी और पूरे राज्य में कमल खिलने की संभावना बढ़ेगी, ऐसा लगता है कि मोदी कांग्रेस के हाथों से हिमाचल भी छीनने वाले हैं.

27 May, 2017

खुशखबरी, भारतीय जवानों ने 2 आतंकवादियों को और ठोंककर स्कोर पहुँचाया 6, बिना कोई विकेट खोये

खुशखबरी, भारतीय जवानों ने 2 आतंकवादियों को और ठोंककर स्कोर पहुँचाया 6, बिना कोई विकेट खोये

indian-army-killed-6-terrorists-in-rampur-tral-jammu-kashmir

रामपुर, जम्मू-कश्मीर: कश्मीर से एक खुशखबरी आयी है क्योंकि सुरक्षा बालों ने कुल मिलकर 6 आतंकवादियों को मार डाला है, चार आतंकवादी सुबह मारे गए थे, त्राल इलाके में 2 आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ जारी थी, दो घंटे की मुठभेड़ में उन्हें भी मारकर स्कोर 6 पर पहुंचा दिया और भारत का कोई विकेट भी नहीं गिरा, कल भी पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम के 2 सैनिक मारे गए थे, इस तरह से दो दिनों में 8 आतंकियों को मार दिया गया है.

मारे गए सभी आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं, उनके पास से भारी मात्रा में हथियार और युद्ध सामग्री बरामद की गयी है. सबसे ख़ास बात यह है कि इस मुठभेड़ में बुरहान वानी का वारिश और कश्मीरी आतंकवादी सब्जार अहमद भट्ट भी मारा गया है, पिछले कुछ दिनों से वह लगातार VIDEO अपलोड करके कश्मीरी युवाओं को जिहादी बना रहा था.

28 April, 2017

शिमला में ये कहकर मोदी ने उड़ा दी कांग्रेस की नींद: पढ़ें

शिमला में ये कहकर मोदी ने उड़ा दी कांग्रेस की नींद: पढ़ें

pm-narendra-modi-shimla-rally-congress-may-have-tension
Shimla, 28 April: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में एक विशाल रैली को संबोधित किया, इससे पहले मोदी ने शिमला में ही भारत सरकार की उड़ान योजना की शुरुआत की जिसमें 500 किलोमीटर हवाई सफ़र केवल 2500 रुपये में तय किया जा सकता है. मोदी ने इस योजना को गरीबों को समर्पित किया और कहा कि हमारी सरकार गरीबों को ध्यान में रखकर योजनायें बनाती है, मैं चाहता हूँ कि अब चप्पल पहनने वाला गरीब भी हवाई जहाज में सफ़र करे.

प्रधानमंत्री मोदी ने आज शिमला से ही हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों की हुंकार भर दी और इशारों इशारों में एक ऐसी बात बोल दी जिसे सुनकर कांग्रेस की नींद उड़ जाएगी क्योंकि हिमाचल प्रदेश में इस वक्त कांग्रेस की ही सरकार है और कांग्रेस वापसी का सपना देख रही है लेकिन आज कांग्रेस का वापसी का सपना टूट सकता है और उसकी नींद उड़ सकती है.

मोदी ने कहा कि पहले जब हम गुजरात में रहते थे और हिमाचल प्रदेश में बर्फ वर्षा होती थी तो हम तुरंत ऊनी कपडे निकाल लेते थे, हम सोचते थे कि अब हिमाचल में बर्फ़बारी हुई है, अब ठंठी हवाएं चलेंगी और पांच छः दिन में ठंड पड़नी शुरू हो जाएगी इसलिए हम पहले से ही तैयार हो जाते थे लेकिन अब वक्त बदल चुका है.

मोदी ने कहा कि अब उत्तर प्रदेश की हवा हिमाचल में आ रही है,  उत्तराखंड की हवा हिमाचल में आ रही है और दिल्ली की ताजा ताज हवा भी तो आ रही है. मोदी के कहने का मतलब ये था कि जिस प्रकार ने बीजेपी ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली MCD में धुंवाधार जीत हासिल की है अब उसकी हवा हिमाचल में भी आएगी और यहाँ पर भी बीजेपी की सरकार बनेगी.

मोदी ने कहा कि देश में विकास का युग तो है लेकिन जो इमानदारी से जीना चाहते हैं, इमानदारी के रास्ते पर चलना चाहते हैं उनके लिए स्वर्णिम युग आया है, मेरी कोशिश है कि इमानदारी का काम बढे, इमानदारों को अवसर मिले, देश इमानदारी के रास्ते पर चल पड़े, हम इस संकल्प के साथ काम कर रहे हैं.

मोदी ने कहा कि अब हमें हिमाचल प्रदेश में भी इमानदारी के युग का इन्तजार है, मतलब यहाँ भी कांग्रेस को उखाड़कर बीजेपी की सरकार बननी चाहिए.

मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान के किसी मुख्यमंत्री को शायद ही इतना समय वकीलों के पास बिताना पड़ रहा होगा जितना कांग्रेस के हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह बिता रहे हैं. 

08 January, 2017

शिमला, मनाली, डलहौजी में भारी बर्फबारी, लाखों पर्यटक फंसे

शिमला, मनाली, डलहौजी में भारी बर्फबारी, लाखों पर्यटक फंसे

snow-fall-in-shimla-manali-and-dalhousie-tourist-stuck

शिमला, 8 जनवरी: लोकप्रिय पर्यटन स्थलों शिमला, मनाली, चंबा और डलहौजी का रविवार को लगातार दूसरे दिन भी हिमाचल प्रदेश के अन्य हिस्सों से संपर्क टूटा रहा, जिसके कारण यात्री फंसे हुए हैं। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित है और यातायात प्रभावित होने के कारण रविवार को भी पर्यटक फंसे हुए हैं। 

शुक्रवार रात से ही शिमला और मनाली में बिजली की आपूर्ति बाधित है और पानी के पाइप टूट जाने के कारण पानी की आपूर्ति भी नहीं हो पा रही। 

एक सरकारी अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि मनाली से लगभग 40 किलोमीटर दूर कुल्लू के पास चंडीगढ़-मनाली राष्ट्रीय राजमार्ग पर बर्फ की मोटी चादर बिछी होने के कारण यातायात बंद है। 

शिमला में 53 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है। रविवार को यहां का न्यूनतम तापमान शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा। 

शिमला से करीब 15 किलोमीटर दूर शोगी के पास भी यातायात अवरुद्ध रहा। वहीं, कालका-शिमला लाइन पर रेल यातायात भी बाधित है। 

अधिकारी ने बताया कि किन्नौर जिला और शिमला के नारकंडा, जुब्बल, खड़ापठार, रोहरु और चोपाल समेत कई शहरों का भी भारी भर्फबारी के कारण संपर्क टूट गया है। 

एक सरकारी प्रवक्ता ने आईएएनएस को बताया कि राज्य सरकार द्वारा संचालित कोई भी बस शिमला के ऊपरी इलाकों में नहीं चलाई जा रही क्योंकि कुफरी और नारकंडा के बीच बड़ी संख्या में गाड़ियां फंसी हुई हैं। 

अधिकारी के मुताबिक, राष्ट्रीय राजमार्गो और प्रमुख सड़कों से बर्फ हटाने का काम जारी है।

पठानकोट-चंबा राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित बानीखेत के पास हुई भारी बर्फबारी के चलते खूबसूरत डलहौजी और चंबा का भी देश के अन्य हिस्सों से संपर्क टूटा हुआ है। 

धर्मशाला, पालमपुर, सोलन, ऊना, हमीरपुर और मंडी जैसे निचले इलाकों में बारिश हो के कारण तापमान में और गिरावट दर्ज हुई है। 

एक मौसम विज्ञानी के मुताबिक, "किन्नौर, लाहौल एवं स्पीति, शिमला, कुल्लू और चंबा जिलों समेत पूरे क्षेत्र में पिछले 24 घंटों में भारी बर्फबारी हुई है।" 

भूस्खलन होने की आशंका के चलते सरकार ने पर्यटकों को ऊंची पहाड़ियों पर न जाने की चेतावनी दी है। 

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि पश्चिमी विक्षोभ सोमवार से वापस हटना शुरू हो जाएगा। 

04 January, 2017

अनुराग ठाकुर के लिए एक और बुरी खबर, हिमाचल प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने HPCA से करार रद्द किया

अनुराग ठाकुर के लिए एक और बुरी खबर, हिमाचल प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने HPCA से करार रद्द किया

himachal-pradesh-government-cancel-agreement-with-hpca

शिमला, 4 जनवरी: भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष पद से हटाए गए अनुराग ठाकुर को बुधवार को एक और झटका लगा, जब हिमाचल प्रदेश सरकार ने उनकी अध्यक्षता वाली हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) से क्रिकेट स्टेडियम बनाने के लिए किया गया करार रद्द कर दिया। एक आधिकारिक वक्तव्य के अनुसार, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल ने कांगड़ा जिले के नूरपुर में एक आउटडोर स्टेडियम बनाने के लिए एचपीसीए के साथ किया गया करार रद्द करने का फैसला लिया।

एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि राज्य के खेल विभाग ने एचपीसीए को स्टेडियम के निर्माण और उसके रखरखाव के लिए पट्टे पर भूमि आवंटित की थी।

राज्य सरकार ने एचपीसीए के साथ यह करार पांच मई, 2012 को किया था। उस समय अनुराग के पिता प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार थी।

एचपीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि एचपीसीए की इस स्टेडियम के निर्माण पर पहले चरण में छह करोड़ रुपये खर्च करने की योजना थी। उन्होंने बताया कि अब तक स्टेडियम बनाने की दिशा में सिर्फ भूमि को समतल करने का काम ही हुआ है।

गौरतलब है कि एचपीसीए ने धर्मशाला स्थित बेहद खूबसूरत अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम सहित राज्य में पांच स्टेडियमों का निर्माण करवाया है। धर्मशाला स्टेडियम के निर्माण में 100 करोड़ रुपये की लागत आई थी।

दिसंबर, 2012 में हिमाचल में कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई, जिसके बाद सतर्कता आयोग और भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियों ने एचपीसीए पर फर्जीवाड़े और दुरुपयोग के मामले दर्ज किए हैं, जिसमें अनुराग और उनके पिता तथा राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल भी घेरे में हैं।

25 December, 2016

मोदी ने नोटबंदी करके नकद अर्थव्यवस्था पर बमबारी कर दी है, देश को तबाह कर दिया: राहुल गाँधी

मोदी ने नोटबंदी करके नकद अर्थव्यवस्था पर बमबारी कर दी है, देश को तबाह कर दिया: राहुल गाँधी

rahul-gandhi-attack-modi-notbandi-demonetisation-cashless-economy

धर्मशाला, 24 दिसंबर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां शनिवार को नोटबंदी के लिए केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यह फैसला गरीब विरोधी है, यह 50 कारपोरेट कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी 'देश की नकदी अर्थव्यवस्था पर बमबारी है। उन्होंने रैली को संबोधित करते हुए कहा, "कोई नोट कालाधन है या नहीं, यह इस पर निर्भर करता है कि वह किसके हाथ में है। जिसके हाथ में है वह ईमानदार शख्स है या भ्रष्ट।"

उन्होंने कहा, "एक तरफ ईमानदार आदमी है, तो दूसरी तरफ भ्रष्ट आदमी। मोदी मानते हैं यदि नोट भ्रष्ट आदमी के हाथ में जाता है, तो वह काला हो जाता है, उसका रंग बदल जाता है, मानो कोई जादू हो।"

राहुल ने कहा, "कोई नोट बेईमान नहीं होता, बेईमान तो उसे रखने वाला होता है। मोदी जी ने ढाई साल में कितने बेईमानों पर कार्रवाई की? उलटे नोट को बंद कर दिया, बेईमानों को नहीं।"

राहुल ने 40 मिनट के अपने भाषण में कहा कि कांग्रेस कैशलेस (नकदी रहित) प्रणाली के खिलाफ नहीं है, लेकिन इसे थोपा नहीं जाना चाहिए और यह एक 'बहाना' नहीं होना चाहिए।

राज्य में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के कार्यकाल के चार साल पूरे होने के मौके पर आयोजित रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, "नोटबंदी गरीबों, किसानों तथा मध्यम वर्गीय भारतीयों के खिलाफ उठाया गया कदम है।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, आपने तो भारत को दो हिस्सों में बांट दिया है। एक तरफ एक फीसदी अमीर लोग हैं, तो दूसरी तरफ मध्यम वर्गीय व गरीब तबके के 99 फीसदी लोग। मोदी के दोस्त सुपर रिच लोग मौज कर रहे हैं, और गरीब अपने खून-पसीने की कमाई पाने के लिए कतारों में खड़ा मर रहा है।"

राहुल ने कहा कि मोदी ने कहा था कि नोटबंदी के बाद हालात 50 दिनों के भीतर सुधर जाएंगे, लेकिन सुधरा क्या? अब तो सिर्फ छह दिन बचे हैं, छह से सात महीने में भी कोई सुधार नहीं आने वाला। 

उन्होंने कहा, "भारत में केवल छह फीसदी कालाधन नकद में है। बाकी 94 फीसदी रियल एस्टेट व सोने के रूप में और विदेशी बैंकों में है।"

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि हिमाचल की बागवानी (होर्टिकल्चर), कृषि (एग्रीकल्चर) व पर्यटन (टूरिज्म) क्षेत्र पर नोटबंदी का प्रतिकूल असर पड़ा है। इससे उबरने में लंबा वक्त लगेगा।

उन्होंने तीनों क्षेत्रों को मिलाकर उसे एचएटी (हैट) करार देते हुए कहा, "प्रधानमंत्री मोदी ने हिमाचल प्रदेश के सिर से हैट छीन लिया, ठीक उसी तरह जैसे भाजपा सरकारों ने मध्यप्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ में जनजाति समुदाय के लोगों से जमीन छीन ली।"

विदेशी बैंकों से कालाधन वापस लाने के प्रधानमंत्री के वादे पर सवाल उठाते हुए उन्होंने पूछा कि अगर उनकी सरकार वास्तव में कालाधन और भ्रष्टाचार मिटाने के प्रति गंभीर है, तो उन्होंने संसद के पटल पर स्विस बैंक में धन छिपाकर रखने वाले भारतीय खाताधारकों के नामों की सूची क्यों नहीं रखी।

रैली से पहले हिमाचली नृत्य में हिस्सा लेने वाले राहुल ने कहा कि मोदी के साथ अमेरिका का दौरा करने वाले कारपोरेट घराने अधिकांश रक्षा सौदों का ठेका ले रहे हैं और आलीशान कोठियां बनवा रहे हैं।

उन्होंने कहा, "चोर (कालाधन रखने वाले) बेहद शातिर होते हैं और जितना संभव हो सके उतनी ही कम रकम नकदी में रखते हैं। वे नकदी नहीं रखते। जिन्होंने भारी मात्रा में कालाधन जमा कर रखा है, वे उसे केवल नकद ही नहीं, बल्कि रियल एस्टेट, जेवर व अन्य रूपों में निवेश करके रखते हैं। बहुतों के खाते स्विस बैंक में हैं। स्विस बैंक में किनके खाते हैं, यह सरकार को पता है, फिर भी मोदी उन पर कार्रवाई नहीं करते।"

मोदी के उस कटाक्ष पर कि कांग्रेस के एक युवा नेता को बोलना आ गया है, राहुल ने कहा, "जब मैं सवाल पूछता हूं, तो प्रधानमंत्री मोदी मेरा मजाक उड़ाकर बात टालने का प्रयास करते हैं। वह लगातार ऐसा कर रहे हैं, जबकि मैं अपने सवालों के जवाब चाहता हूं। देश जानना चाहता है कि प्रधानमंत्री ने कंपनियों से रिश्वत ली है या नहीं। जांच होनी चाहिए, आखिर प्रधानमंत्री से जुड़ा मामला है।"

उन्होंने कहा कि भाजपा ने दिल्ली में बैंकों व एटीएम के बाहर कतारों में खड़े लोगों को लड्डू दिया है। आम आदमी के लिए लड्डू की कीमत तीन या पांच रुपये है, जबकि विजय माल्या को मोदी सरकार ने 1,200 करोड़ रुपये का लड्डू दिया है। यह बेहद गंभीर मामला है, और यह सब नोटबंदी की आड़ में हुआ है। कालाधन खत्म करने की बात सिर्फ जनता को गुमराह करने के लिए कहा जा रहा है। 

05 November, 2016

हिमाचल में बस नदी में गिरी, 10 मरे, कई घायल

हिमाचल में बस नदी में गिरी, 10 मरे, कई घायल

himachal-pradesh-news-10-people-dead-in-a-bus-accident-mandi

शिमला, 5 नवंबर: हिमाचल प्रदेश में मंडी शहर के पास ब्यास नदी में शनिवार को एक निजी बस गिर गई, और इस दुर्घटना में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक लोग घायल हो गए। बस में क्षमता से अधिक यात्री सवार थे। राज्य की राजधानी शिमला से करीब 200 किलोमीटर दूर 45 से अधिक लोगों से भरी बस मंडी से कुल्लू शहर की ओर जा रही थी, तभी यह बृंदावनी के पास नदी में गिर गई।

उपायुक्त संदीप कदम ने कहा कि दुर्घटना में 10 यात्रियों की मौत हो गई है।

उन्होंने कहा कि राहत और बचाव अभियान जारी है। घायलों को मंडी स्थित जोनल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि अधिकांश घायलों की स्थिति नाजुक है। बस को नदी से निकालने की कोशिश जारी है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि चालक ने सामने से आ रही एक मोटरसाइकिल को बचाने के चक्कर में अपना नियंत्रण खो दिया।

02 November, 2016

SIMI के जो आतंकी एक सिपाही का गला रेत कर भागे थे, कांग्रेस उनके लिए रो रही है: शिवराज सिंह

SIMI के जो आतंकी एक सिपाही का गला रेत कर भागे थे, कांग्रेस उनके लिए रो रही है: शिवराज सिंह

shivraj-singh-latest-news

अनूपपुर, 2 नवंबर: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के केंद्रीय जेल से फरार होने के बाद मुठभेड़ में मारे गए प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट अफ इंडिया (सिमी) के आठ विचाराधीन कैदियों को लेकर कांग्रेस की ओर से आए बयानों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने करारा हमला बोला है। उनका कहना है, 'बर्बरतापूर्ण कार्य करने वाले आतंकवादियों की मौत पर कांग्रेसी नेता विलाप कर रहे, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है।" शहडोल संसदीय क्षेत्र में होने वाले उप चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार ज्ञान सिंह का अनूपपुर में नामांकन दाखिल करने के मौके पर बुधवार को चौहान ने कहा, "भाजपा सरकार ने एक दशक में सिंचाई, बिजली, सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा के क्षेत्र में जितने प्रगति के कार्य किए हैं। कांग्रेस ने उतने कार्य 50 वर्षो में नहीं किए। कांग्रेस के नेताओं को मध्यप्रदेश का विकास रास नहीं आ रहा है।"

उन्होंने आगे कहा, "आठ आतंकवादी जो खंडवा जेल में आरक्षक की हत्या करके फरार हुए थे, प्रदेश की सर्वाधिक सुरक्षा वाली भोपाल जेल तोड़कर भागे। प्रदेश की पराक्रमी पुलिस ने आठ घंटे के भीतर उन्हें मार गिराया। आतंकवादी जेल में मुख्य आरक्षक का गला रेतकर भागे थे। उन्होंने पहले भी खंडवा जेल के आरक्षक की हत्या की थी। ऐसे बर्बरतापूर्ण कार्य करने वाले आतंकवादियों की मौत पर कांग्रेसी नेता विलाप कर रहे, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस ने पुलिस के बहादुर जवानों की शहादत का अपमान किया है।"

चौहान ने कहा कि भाजपा सरकार ने मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से अव्वल राज्य बनाया है और उसका हर संभव प्रयास होगा कि शहडोल भी देश में अव्वल नंबर का संसदीय क्षेत्र बने। इस मौके पर पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान मौजूद थे। 

ज्ञात हो कि दिवाली की रात को सिमी के आठ विचाराधीन कैदी एक प्रहरी रमाशंकर यादव की गला रेतकर हत्या करने के बाद भोपाल जेल से फरार हो गए थे। फरार होने के आठ घंटे बाद ही सभी आठों को शहर से कुछ किलोमीटर की दूरी पर पुलिस के संयुक्त दल ने मुठभेड़ में मार गिराया था। 

19 October, 2016

मोदी बोले: मेरी किस्मत अच्छी थी, 18 साल पहले ये प्रोजेक्ट शुरू हुए और उद्घाटन मैंने किया

मोदी बोले: मेरी किस्मत अच्छी थी, 18 साल पहले ये प्रोजेक्ट शुरू हुए और उद्घाटन मैंने किया

pm-modi-inaugurated-three-hydropower-projects-in-Himachal-pradesh

मंडी (हिमाचल प्रदेश), 18 अक्टूबर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को हिमाचल प्रदेश में तीन जल विद्युत परियोजनाओं का उद्घाटन किया, जिनकी संचयी उत्पादन क्षमता 1,752 मेगावॉट है। इन परियोजनाओं में नेशनल थर्मल पॉवर कार्पोरेशन की बिलासपुर जिले में 800 मेगावॉट की कोलडम परियोजना, एनएचपीसी की कुल्लू जिले में 540 मेगावाट की परवती स्टेज 3 परियोजना और सतलुज जल विद्युत निगम लि. की शिमला जिले में 412 मेगावॉट की रामपुर परियोजना शामिल हैं।

मई 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी की इस पहाड़ी राज्य की यह पहली यात्रा है। 

इन जलविद्युत परियोजनाओं से पैदा होने वाली बिजली की आपूर्ति हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर, पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और चंडीगढ़ को की जाएगी। 

कोलडम परियोजना की आधारशिला 5 जून, 2000 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने रखी थी।

परियोजनाओं का उद्घाटन करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि यह परियोजनाएं अटल जी की सरकार में करीब 18 साल पहले शुरू हुई थीं, उस समय मै हिमाचल प्रदेश का प्रभारी थी, मेरी किस्मत अच्छी थी कि मेरे राज्य का प्रभारी रहते ये परियोजनाएं शुरू हुई थीं और इनका उद्घाटन मैंने प्रधानमंत्री बनने के बाद किया। 

18 October, 2016

देश के दुश्मनों कान खोल कर सुन लो, जब मोदी जैसे PM होते हैं तो भारत की सेना इजराएल से भी घातक

देश के दुश्मनों कान खोल कर सुन लो, जब मोदी जैसे PM होते हैं तो भारत की सेना इजराएल से भी घातक

pm-modi-prased-indian-army-for-surgical-strike-like-israel-army

मंडी (हिमाचल प्रदेश), 18 अक्टूबर: आज प्रधानमंत्री मोदी ने फिर से भारतीय सेना की तारीफ करते हुए कहा कि अगर सेना को जौहर दिखाने का मौका मिलता है तो वह जौहर दिखाती है, इसलिए हमें मान लेना चाहिए कि हमारी सेना दुनिया में किसी से कम नहीं है और मौका मिलने पर हमारी सेना इजराएल सेना से भी खतरनाक हो जाती है। मोदी के कहने का मतलब था कि उन्होंने कांग्रेस की तरह सेना के हाथ बाँध कर नहीं रखे हैं इसलिए उनके प्रधानमंत्री रहते सेना इजराएल से भी खतरनाक हो गयी है।

मोदी ने हिमाचल प्रदेश के मंदी में एक रैली को संबोधित करते हुए सेवारत और सेवानिवृत्त दोनों सैनिकों के प्रति सम्मान प्रकट किया।

हिमाचल प्रदेश को वीर भूमि बताते हुए मोदी ने कहा कि करीब राज्य के हर परिवार से सशस्त्र बलों में सदस्य हैं।

मोदी ने भारतीय सेना के 29 सितंबर को नियंत्रण रेखा पार कर आतंकी लांच पैड पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक का संदर्भ देते हुए कहा कि पूरा देश इसकी चर्चा कर रहा है।

मोदी ने कहा, "इन दिनों पूरे देश में भारतीय सेना की वीरता की चर्चा हो रही है। यह भी कहा जा रहा है कि इस तरह का कार्य इजरायल ने किया था (त्वरित सैन्य प्रतिशोध)। देश ने देखा कि भारतीय सेना किसी से कम नहीं है।"

भारतीय सेना की सर्जिकल स्ट्राइक उड़ी में सेना के शिविर पर हुए आतंकी हमले के बाद की गई थी। हमले में भारत के 19 जवान शहीद हो गए थे।

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने लंबे समय से की जा रही मांग पर सशस्त्र बलों के लिए एक रैंक एक पेंशन नीति लागू की है।

11 October, 2016

हिमाचल में सप्ताह भर के कुल्लू दशहरा की शुरुआत

हिमाचल में सप्ताह भर के कुल्लू दशहरा की शुरुआत

International-Kullu-Dussehra-underway-in-Kullu-himachal-pradesh

कुल्लू, 11 अक्टूबर: हिमाचल प्रदेश के शहर कुल्लू में मंगलवार को शुरू हुए सप्ताह भर चलने वाले दशहरा उत्सव में 200 से ज्यादा देवी और देवताओं को एक साथ लाया गया। कुल्लू दशहरा सदियों पुराना उत्सव है जो विजयादशमी से शुरू होता है, जिस दिन देश के बाकी हिस्सों में यह उत्सव खत्म हो जाता है।

राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने 'रथ यात्रा' में भाग लेकर उत्सव का उद्घाटन किया। उन्होंने धालपुर में भगवान रघुनाथ के रथ को खींचकर इस कार्यक्रम की शुरुआत की।

इस मौके पर राज्यपाल ने लोगों को बधाई दी और इस त्योहार को बुराई पर सच्चाई की जीत का प्रतीक बताया।

राज्यपाल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश की संस्कृ ति विशिष्ट है और एक अलग पहचान रखती है। यहां साल भर मेले और उत्सव मनाए जाते हैं जो यहां की समृद्ध परंपराओं और लोगों की मान्यताओं की झलक दिखाते हैं।

इस उत्सव में कुल्लू घाटी के विभिन्न क्षेत्रों के करीब 245 देवताओं को शामिल किया जाता है।

देश के दूसरे हिस्सों की तरह कुल्लू में रावण, मेघनाद और कुंभकर्ण के पुतले नहीं जलाए जाते। इसके बजाए, इकट्ठे हुए देवता लंकादहन समारोह के दौरान 17 अक्टूबर को ब्यास नदी के तट पर 'बुराई के साम्राज्य' को नष्ट करेंगे।

भगवान रघुनाथ का रथ, दूसरे देवताओं की पालकियों के साथ ऐतिहासिक धालपुर मैदान में ड्रम व शहनाई के साथ पहुंचा।

हजारों लोगों ने भगवान रघुनाथ के पवित्र रथ को खींचा।

इस उत्सव की शुरुआत साल 1637 से मानी जाती है, जब राजा जगत सिंह कुल्लू पर राज करते थे और दशहरे में सभी स्थानीय देवताओं को भगवान रघुनाथ के अनुष्ठान समारोह के दौरान निमंत्रण देते थे।

तभी से सैकड़ों गावों के मंदिरों के देवताओं की वार्षिक सभा एक परंपरा बन गई है।