Showing posts with label Election. Show all posts
Showing posts with label Election. Show all posts

Thursday, September 15, 2016

अब मै दावे के साथ कहता हूँ, मणिपुर में बीजेपी की सरकार बननी तय: अमित शाह

अब मै दावे के साथ कहता हूँ, मणिपुर में बीजेपी की सरकार बननी तय: अमित शाह

amit-shah-said-bjp-victory-confirmed-in-manipur-from-2-3-majority

इंफाल, 14 सितम्बर: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस हर हाल में मणिपुर विधानसभा चुनाव हारेगी और भाजपा का सत्ता में आना निश्चित है। हफ्ता कंगजेइबंग में एक सभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, "अकर्मण्य और भ्रष्ट कांग्रेस सरकार को जाना है। लोगों की यहां भारी भीड़ देख मैं आश्वस्त हूं कि राज्य में भाजपा की सरकार बनेगी।"

उन्होंने कहा कि सुबह दिल्ली में मुझसे कुछ पत्रकारों ने पूछा कि मणिपुर में क्या होने वाला है, उस समय मै कुछ दुविधा और असमंजस में था लेकिन यहाँ आने के बाद रैली में भारी भीड़ देखकर मेरी दुविधा दूर हो गयी है, अब मै दावे के साथ कह सकता हूँ कि मणिपुर बीजेपी जी जीत तय है, यहाँ दो दिहाई बहुमत से हमारी सरकार बनेगी और लोग कांग्रेस को उखाड़ फेंकेंगे।

शाह के साथ केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और असम के वित्तमंत्री हिमांता विश्व सर्मा भी हैं। अगले साल के शुरुआत में मणिपुर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

भाजपा नेता ने जोर देकर कहा कि मणिपुर में विकास के कोई चिन्ह नहीं मिलते हैं, जबकि धन की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने कहा, "सीएजी ने सिद्ध किया है कि मणिपुर सरकार 5000 करोड़ रुपये के उपयोग के प्रमाण पत्र पेश नहीं कर सकती है।"

शाह ने कहा, "जब लोग इस लूट की राशि के बारे में पूछेंगे तो कांग्रेस चुनाव लड़ने लायक नहीं रह जाएगी।"

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पदभार संभालने से पहले ही पूर्वोत्तर पर विशेष ध्यान देने की बात कही थी।

उन्होंने कहा, "मोदी का निर्देश है कि केंद्रीय मंत्री को हर पंद्रह दिनों पर पूर्वोत्तर का दौरा करना चाहिए। यह इस पिछड़े इलाके का विकास सुनिश्चित करने के लिए है।"

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पूरे पूर्वोत्तर इलाके को रेलवे के मानचित्र पर लाना है। उन्होंने आगे कहा, "सड़क संपर्क का विस्तार म्यांमार और अन्य दक्षिण एशियाई देशों तक किया जा रहा है।"

सर्मा ने मणिपुर के मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह की तुलना असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगई से की।

जावड़ेकर ने कहा, "विकास की राशि निजी जेबों में चली गई है।"

संभावना है कि राज्य में दो दिवसीय प्रवास के दौरान शाह और उनकी टीम साल 2017 में सत्ता छीनने की रणनीति तैयार करेंगे।

Monday, September 12, 2016

बड़ी खबर: UP में बीजेपी की आंधी देखकर मायावती के चार विधायक टूटकर BJP में शामिल

बड़ी खबर: UP में बीजेपी की आंधी देखकर मायावती के चार विधायक टूटकर BJP में शामिल

up-latest-news-4-bsp-mlas-join-bjp-modi-lahar

लखनऊ, 12 सितंबर: उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को एक बार फिर झटका लगा है। बसपा के चार विधायक सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा के विधायकों को पार्टी कार्यालय में सदस्यता दिलाई। लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में सोमवार को एक समारोह में बसपा के विधायकों महावीर राणा, रोमी साहनी, रोशन लाल वर्मा व ओम कुमार ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

इन चारों विधायकों पर हालांकि राज्यसभा चुनाव के दौरान क्रास वोटिंग करने का आरोप लगा था। बाद में बसपा की मुखिया मायावती ने इनको पार्टी से निलंबित कर दिया था। चारों विधायकों को पार्टी में शामिल करते हुए मौर्य ने कहा कि भाजपा की स्वीकार्यता लगातार बढ़ रही है, इसीलिए पार्टी की नीतियों से सहमत होकर लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं।

इस दौरान हालांकि केशव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा। खनन मंत्री गायत्री प्रसाद व पंचायती राज मंत्री राजकिशोर की बर्खास्तगी पर उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव इन मंत्रियों को बर्खास्त करके अपना दामन नहीं बचा सकते।

केशव ने कहा, “यदि मुख्ममंत्री अखिलेश यादव को वाकई भरोसा था कि गायत्री प्रजापति व राजकिशोर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं तो वह अब तक चुप्पी क्यों साधे हुए थे? अवैध खनन में तीन लाख करोड़ रुपये का घोटाला होने के बाद उनकी आंख खुली है।”

केशव ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपनी जिम्मेदारियों से बच नहीं सकते। नैतिकता के आधार पर उन्हें स्वयं पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की किसान यात्रा को लेकर केशव प्रसाद ने चुटकी ली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के युवराज खाट सभा कर रहे हैं, लेकिन यदि लोगों को मुफ्त में खटिया न लेनी होती तो उनकी सभाओं में कोई नहीं आता। सपा और बसपा के सहयोग से 10 वर्ष तक शासन करने वाले राहुल आज अखिलेश के कुशासन पर चुप क्यों हैं?

मायावती पर पलटवार करते हु, केशव ने कहा कि बसपा के नेताओं से ही जानकारी मिली है कि मायावती स्वयं चाहती हैं कि उप्र में दलितों का उत्पीड़न होता रहे, ताकि उनकी राजनीति भी चमकती रहे।