Showing posts with label Delhi. Show all posts
Showing posts with label Delhi. Show all posts

Monday, March 27, 2017

खतरे में केजरीवाल की कुर्सी, 1 AAP MLA BJP में शामिल, 35 तैयार, दिल्ली में बन सकती है BJP सरकार

खतरे में केजरीवाल की कुर्सी, 1 AAP MLA BJP में शामिल, 35 तैयार, दिल्ली में बन सकती है BJP सरकार

aap-mla-from-bawana-delhi-join-bjp-35-others-ready

New Delhi, 27 March: दिल्ली से एक बड़ी खबर आयी है, बवाना से आप विधायक वेद प्रकाश ने केजरीवाल पर दिल्ली वालों के साथ वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफ़ा देकर BJP में शामिल हो गए हैं, उन्होंने यह दावा भी किया है कि 35 और विधायक केजरीवाल से नाराज चल रहे हैं और वे भी बीजेपी में शामिल हो सकते हैं, अगर ऐसा हो गया तो दिल्ली में भी बीजेपी सरकार बन जाएगी, हाल ही में अरुणाचल प्रदेश में ऐसा ही हुआ था सभी कांग्रेसी विधायकों ने बीजेपी में शामिल होकर वहां पर बीजेपी सरकार बनवा दी, अब दिल्ली में यही कहा जा सकता है कि केजरीवाल की कुर्सी खतरे में है, हो सकता है कि उनकी सरकार गिर जाय।

आप को लगा बड़ा झटका

दिल्ली में होने वाले नगर निगम चुनाव से ठीक पहले आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक वेद प्रकाश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए हैं। बवाना से आप विधायक वेद प्रकाश सोमवार को भाजपा में शामिल हुए। यहां नगर निगम चुनाव 23 अप्रैल को होने वाले हैं। इसे आप के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है।

वेद प्रकाश ने आरोप लगाया कि आप में लोकतंत्र नहीं रह गया है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 2015 में विधानसभा चुनाव जीतने से पहले जो वादे किए थे, उन्हें पूरे नहीं कर रहे। उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में यह भी दावा किया कि 35 और विधायक बीजेपी में आना चाहते हैं।

प्रकाश ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में भाजपा में शामिल होने की घोषणा की। इस दौरान दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी भी मौजूद थे।

उत्तर, पूर्व व दक्षिण दिल्ली नगर निगमों के 272 वार्डो के लिए वोट 23 अप्रैल को डाले जाएंगे, जिसके परिणाम 25 अप्रैल को घोषित होंगे।

Sunday, March 26, 2017

अब मुस्लिम भी जुड़ने लगे हैं BJP के साथ, हजारों मुस्लिम रामलीला मैदान में बोले Vote For BJP

अब मुस्लिम भी जुड़ने लगे हैं BJP के साथ, हजारों मुस्लिम रामलीला मैदान में बोले Vote For BJP

muslim-will-vote-for-bjp-in-delhi-mcd-election-2017
नई दिल्ली, 26 मार्च: अब मुस्लिम भी समझने लगे हैं कि राजनीतिक पार्टियाँ उन्हें वोटबैंक की तरह इस्तेमाल करती हैं और उनकी तुस्टीकरण की बातें करके उन्हें केवल विकास में पीछे ढकेल रही हैं, मुसलमान इन पार्टियों की बातों में इस कदर आ जाते थे कि बीजेपी को हराने के लिए वोट करते थे लेकिन अब मुस्लिम भी राजनीतिक पार्टियों के राजनीतिक गणित को समझने लगे हैं और बीजेपी से जुड़कर उन्हें करारा जवाब भी दे रहे हैं। 

पिछले दिल्ली विधानसभा चुनाव में मुसलामानों से कांग्रेस को कमजोर देखकर बीजेपी को हराने के लिए केजरीवाल की आम आदमी पार्टी को वोट दिया और केजरीवाल ने खुद कैमरे के सामने कबूल किया कि मुस्लिम सिर्फ बीजेपी को हराना चाहते हैं, उसका नतीजा यह हुआ कि केजरीवाल चुनाव जीत गए लेकिन आज पूरी दिल्ली केजरीवाल को वोट देकर खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। 

अब माहौल ऐसा बदला है कि मुसलमान भी बीजेपी से जुड़ने लगे हैं, कल रामलीला मैदान में आयोजित पञ्च परमेश्वर सम्मलेन में हजारों मुस्लिम भी आये और उन्होंने बीजेपी को वोट देने और पार्टी के लिए प्रचार करने का प्रण लिया। ऐसा लगता है कि मुसलामानों को बीजेपी का सबका साथ और सबका विकास वाला फार्मूला रास आने लगा है, अगर दिल्ली में मुसलामानों ने बीजेपी को वोट दिया तो MCD चुनावों में केजरीवाल की हार और बीजेपी की जीत निश्चित है। 
MCD जीतेंगे तो केजरीवाल करेंगे गृह टैक्स माफ़, 710 करोड़ का होगा नुकसान, दिल्ली को करेंगे बर्बाद

MCD जीतेंगे तो केजरीवाल करेंगे गृह टैक्स माफ़, 710 करोड़ का होगा नुकसान, दिल्ली को करेंगे बर्बाद

ajay-makan-says-agar-kejriwal-jitenge-to-dilli-ho-jaegi-barbaad

नई दिल्ली, 25 मार्च: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की जीत होती है, तो राजधानी में गृह कर खत्म कर दिया जाएगा। केजरीवाल ने यहां संवाददाताओं से कहा, "अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव में 'आप' सत्ता में आती है तो रिहायशी गृह कर खत्म कर दिए जाएंगे। बकाया गृह कर भी माफ कर दिए जाएंगे।"

केजरीवाल के इस वादे से दिल्ली को 710 करोड़ का नुकसान होगा इसलिए कांग्रेस बीजेपी अध्यक्ष अजय माकन ने कहा है कि "आप की अयोग्य सरकार ने राजधानी को बर्बाद कर दिया है। अब अगर आप एमसीडी चुनाव में जीत जाते हैं तो अरविंद केजरीवाल दिल्ली की जनता का और नुकसान करेंगे।"

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने कहा है कि आप ने मुफ्त वाई-फाई और डीटीसी की बसों में सुरक्षाकर्मी तैनात करने का वादा अब तक पूरा नहीं किया है।

क्या कहा केजरीवाल ने

केजरीवाल के मुताबिक, आम आदमी पार्टी ने गृह कर से संबंधित सभी गणना पूरी कर ली है।

उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो लोगों के धन के साथ भ्रष्टाचार होने से बचाया जाएगा, और उसका इस्तेमाल गृह कर समाप्त करने के बाद आने वाले आर्थिक बोझ से निपटने में किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने बिजली की दर को कम करने सहित अपने सभी चुनावी वादे पूरे किए हैं।

जनगणना के मुताबिक, दिल्ली की आबादी 1.68 करोड़ है और दिल्ली के तीनों नगर निगमों में 8-9 लाख लोग गृह कर देते हैं, जिसमें वाणिज्यिक संपत्ति भी शामिल है।

उत्तरी और पूर्वी नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक, संपत्ति कर के रूप में दोनों नगर निगमों ने अब तक क्रमश: 560 करोड़ रुपये और 150 करोड़ रुपये अर्जित किए हैं।

नगर निगम के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर आईएएनएस को बताया, "गृह कर सहित संपत्ति कर हमारी आय का मुख्य स्रोत है। अगर इस योजना को लागू किया गया तो नगर निगम को 500 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।"

वहीं केजरीवाल ने कहा कि अगर 'आप' नगर निगम चुनाव जीतती है तो एक वर्ष के भीतर पार्टी एमसीडी को पूरी तरह बदल देगी। यह एक लाभदायी संस्थान बन जाएगा, जो वर्तमान में धन की कमी से गुजर रहा है।

उन्होंने कहा, "अगर आप नगर निगम चुनाव में सत्ता में आई तो एमसीडी कर्मचारियों के वेतन समय पर जारी किए जाएंगे।"

मनोज तिवारी ने भी बताया शर्मनाक

वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस घोषणा को शर्मनाक करार दिया है।

इस घोषणा की आलोचना करते हुए तिवारी ने कहा, "यह कहना शर्मनाक है कि अगर एक बार दिल्ली के नगर निगम चुनाव में उनकी पार्टी जीतती है तो गृह कर खत्म कर दिया जाएगा। पिछले दो वर्षो के दौरान केजरीवाल सरकार ने कई बार तीनों नगर निगमों को सख्ती के साथ गृह कर वसूलने, खासकर अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वालों से गृह कर वसूलने के लिए लिखा है।"

Saturday, March 25, 2017

केजरीवाल कुछ मत करें, बस अपने विधायकों को संभाल लें तो दिल्ली पर मेहरबानी हो जाएगी: अमित शाह

केजरीवाल कुछ मत करें, बस अपने विधायकों को संभाल लें तो दिल्ली पर मेहरबानी हो जाएगी: अमित शाह

amit-shah-attack-kejriawl-in-delhi-ramleela-maidan-mcd-election

नई दिल्ली, 25 मार्च: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज नई दिल्ली के रामलीला मैदान में MCD चुनावों के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की, अमित शाह के निशाने पर दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी और मुख्यमंत्री केजरीवाल रहे।

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल साफ़ सुथरे प्रशासन का दावा करने सत्ता में आये थे, वे कानून व्यवस्था दुरुस्त करने की बात करते हैं, कानून व्यवस्था तो उनके हाथ में नहीं है इसलिए कानून व्यवस्था ठीक करने का सपना छोड़ दें, वे बस अपने विधायकों को संभाल कर रखें तो दिल्ली की जनता पर बहुत बड़ी मेहरबानी हो जाएगी। 

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल के एक पूर्व कानून मंत्री फर्जी डिग्री के मामले में पकडे जाते हैं, महिला कल्याण मंत्री रेप के मामले में धरे जाते हैं और आशुतोष जी उनकी तुलना गाँधी जी से करते हैं, उनके खाद्य मंत्री रिश्वत लेते हुए पकडे जाते हैं।

अमित शाह ने कहा कि ये सूची केवल 1, 2, 3 लोगों की नहीं है बल्कि उनके 13 विधायकों पर सरकार बनने के बाद अपराधिक मामले दर्ज हुए हैं, राजनीति के अन्दर केजरीवाल परिवर्तन की बातें करते थे, अपराध ख़त्म करने की बातें करते थे लेकिन आज केजरीवाल के 13 विधायक आपराधिक मामलों में पकडे गए हैं लेकिन केजरीवाल दिल्ली की जनता को जवाब नहीं देते हैं। केजरीवाल जी वादों को छोडिये, अगर आपके अन्दर थोड़ी सी भी शर्म बची है तो MCD चुनावों में प्रचार करने से पहले इन 13 विधायकों पर कार्यवाही करके दिखाओ, जरा सी भी शर्म बची है तो आप पार्टी के घोटालों के लिए न्यायिक जांच करा दो। 
इतने कम समय में इतना भ्रष्टाचार किसी ने नहीं किया जितना केजरीवाल सरकार ने किया: अमित शाह

इतने कम समय में इतना भ्रष्टाचार किसी ने नहीं किया जितना केजरीवाल सरकार ने किया: अमित शाह

amit-shah-says-kejriwal-sarkar-broken-all-record-of-corruption

नई दिल्ली, 25 मार्च: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज नई दिल्ली के रामलीला मैदान में MCD चुनावों के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की, अमित शाह के निशाने पर दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आम आदमी पार्टी और मुख्यमंत्री केजरीवाल रहे।

अमित शाह ने कहा कि MCD चुनाव होने वाले हैं, हमारे एक तरफ 10 साल केंद्र में सरकार चलाने वाली UPA-कांग्रेस है जिसपर 12 लाख करोड़ के घपले और घोटाले का आरोप है और दूसरी तरफ AAP पार्टी है जिसकी दिल्ली में सरकार चल रही है।

केजरीवाल सरकार ने तोड़े घोटालों के सभी रिकॉर्ड

अमित शाह ने कहा कि जब 2014 में कांग्रेस को निकालकर दिल्ली में AAP को लाया गया तो दिल्ली की जनता को लग रहा था कि अब एक अच्छा शासन मिलेगा, लेकिन जिस प्रकार से दिल्ली में केजरीवाल सरकार चली है, इतने कम समय में दिल्ली में किसी भी सरकार ने भ्रष्टाचार नहीं किया है जितना भ्रष्टाचार केजरीवाल सरकार ने किया है।

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल के निजी सचिव लेन-देन के मामले में गिरफ्तार हुए, प्याज की खरीद में घोटाला हुआ, दिल्ली महिला आयोग के ऑफिस में भर्ती में घोटाला हुआ, CNG की परमिट में घोटाला हुआ, पाने के टैंकर में घोटाला हुआ, LED लाइट खरीदने में घोटाला हुआ, उनके एक मंत्री से हवाला के कारोबार में पूछताछ हुई।

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल सरकार के घोटालों की मेरे पास बहुत लम्बी सूची है - दिल्ली परिश्रम बोर्ड में भर्ती का घोटाला हुआ, वफ्फ बोर्ड में भी भर्ती का घोटाला हुआ, जल बोर्ड के अन्दर भी करोड़ों रुपये का घोटाला हुआ और सबसे बड़ा घोटाला यह हुआ कि दिल्ली की जनता की कमाई को केजरीवाल ने पंजाब, गोवा, तमिल-नाडु, गुजरात और कलकत्ता के अन्दर प्रचार में खर्च कर दिया और इसके लिए इन्हें हाई कोर्ट ने फटकार भी लगाईं।

अमित शाह ने बीजेपी के कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि आप लोग केजरीवाल सरकार के घोटालों को दिल्ली के जन जन तक पहुंचाने का काम करें, जिस प्रकार की राजनीति AAP पार्टी ने शुरू की है मैं मानता हूँ कि देश में एक अलग राजनीति की शुरुआत हुई है। 

केजरीवाल ने नहीं पूरे किये कई वादे

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल सरकार हमने सवाल कर रहे हैं कि किसानों से कर्जा माफी का वादा बीजेपी सरकार ने पूरा नहीं किया, केजरीवाल जी, हमारी सरकार बने अभी केवल एक सप्ताह हुए हैं और हम एक एक करके सभी वादे पूरे करके फिर से प्रचार के लिए जाएंगे, आप हमारी चिंता मत कीजिये, आपके तो ढाई साल पूरे होने वाले हैं, आपने दिल्ली की जनता के सामने जो वादा किया था, मैंने आपने हिसाब तो नहीं मांगता क्योंकि हिसाब तो उससे माँगा जाता है जो जिम्मेदार होता है लेकिन मैं आपको जरूर याद दिलाता हूँ। 
  • आपने 500 नए स्कूल बनाने का वादा किया था एक भी नहीं बनाया
  • 29000 शिक्षकों की भर्ती की बात की थी, एक भी नहीं हुई
  • 30 नए डिग्री कॉलेज बनाने का वादा किया था, एक भी नहीं बनाया
  • 3 नए ITI और 5 नयी पॉलिटेक्निक बनानी थी, एक भी नहीं बनाया
  • यूनिफाइड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी बनानी थी, नहीं बनाई
  • महिलाओं की सुरक्षा के लिए 3 पेज भरकर वादे किये गए थे, 3 लाइन भी नहीं पूरी की
  • 900 प्राइमरी हेल्थ सेण्टर खोलने थे, कुछ नहीं खोला
  • अस्पतालों में 30000 नए बेड बनाने थे, कुछ नहीं बनाया
  • सुपरस्पेसियलिटी अस्पताल की सेवायें बढानी थी, कुछ नहीं किया
  • 60 करोड़ का आवंटन करने के बाद भी आम आदमी कैंटीन बनाने वाले थे लेकिन कहीं भी कैंटीन नहीं बनाई
  • 2 लाख पब्लिक टॉयलेट बनाने का वादा किया था 2000 भी नहीं बनाए
  • स्थाई कर्मचारियों को परमानेंट करने का वादा किया था, एक को भी नहीं किया
अमित शाह ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि वे केजरीवाल के झूठे वादों की पोल खोलने के लिए घर घर जाएं, एक बात और है, जब चुनाव आने वाले होते हैं तो केजरीवाल वादों की झड़ी लगा देते हैं लेकिन चुनाव के बाद जब दिल्ली वाले केजरीवाल को ढूंढते हैं तो वे कभी गोवा में मिलते हैं, कभी पंजाब में मिलते हैं, कभी गुजरात में मिलते हैं और कभी तमिल नाडु में मिलते हैं। 

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल जहाँ जहाँ जाते हैं वहां हारने का रिकॉर्ड बनाकर आये हैं, चाहे वो लोकसभा का चुनाव हो, चाहे पंजाब का चुनाव हो और चाहे महाराष्ट्र का चुनाव हो, वे जहाँ जहाँ भी लड़े हैं वहां हारने का रिकॉर्ड बनाकर आये हैं। 

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल साफ़ सुथरे प्रशासन का दावा करने सत्ता में आये थे, कानून व्यवस्था तो उनके हाथ में नहीं है इसलिए कानून व्यवस्था ठीक करने का सपना छोड़ दो, आप बस अपने विधायकों को संभाल कर रखो तो दिल्ली की जनता पर बहुत बड़ी मेहरबानी हो जाएगी। 

अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल के एक पूर्व कानून मंत्री फर्जी डिग्री के मामले में पकडे जाते हैं, महिला कल्याण मंत्री रेप के मामले में धरे जाते हैं और आशुतोष जी उनकी तुलना गाँधी जी से करते हैं, उनके खाद्य मंत्री रिश्वत लेते हुए पकडे जाते हैं।

अमित शाह ने कहा कि ये सूची केवल 1, 2, 3 लोगों की नहीं है बल्कि उनके 13 विधायकों पर सरकार बनने के बाद अपराधिक मामले दर्ज हुए हैं, राजनीति के अन्दर केजरीवाल परिवर्तन की बातें करते थे, अपराध ख़त्म करने की बातें करते थे लेकिन आज केजरीवाल के 13 विधायक आपराधिक मामलों में पकडे गए हैं लेकिन केजरीवाल दिल्ली की जनता को जवाब नहीं देते हैं। केजरीवाल जी वादों को छोडिये, अगर आपके अन्दर थोड़ी सी भी शर्म बची है तो MCD चुनावों में प्रचार करने से पहले इन 13 विधायकों पर कार्यवाही करके दिखाओ, जरा सी भी शर्म बची है तो आप पार्टी के घोटालों के लिए न्यायिक जांच करा दो। 

उन्होंने कहा कि 2014 के बाद देश में जहाँ भी चुनाव हुए वहां पर लगभग लगभग हर जगह भारतीय जनता पार्टी की जीत हुई लेकिन दिल्ली और बिहार में ही हम चुनाव नहीं जीत पाए, इन स्थानों पर हमारे वोट शेयर में जरूर बढ़ोत्तरी हुई लेकिन चनावों में हमें सीटें नहीं मिल पाई और हमारी सरकार नहीं बनी। 

अमित शाह ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी का हर कार्यकर्त्ता यहाँ से संकल्प लेकर जाए कि जो कमी विधानसभा चुनाव में रह गयी थी वो कहीं MCD चुनावों में पूरी करें और दिल्ली में भी भारतीय जनता पार्टी का परचम लहरा लें। 

अमित शाह ने कहा कि 2014 में जब हम चुनाव में गए थे तो पूरे देश में एक अजीब तरह का माहौल था,  पूरे देश में हताशा थी, निराशा थी, युवाओं में आक्रोश था, महिलाओं की सुरक्षा अनिश्चित थी, बॉर्डर पर सीमायें असुरक्षित थी और दुनिया में भारत का गौरव गिरता जा रहा था, उस समय देश ने नरेन्द्र मोदी को अपना नेता चुना, भारतीय जनता पार्टी को चुना और दो तिहाई बहुमत से भी अधिक सीटें बीजेपी के नेतृत्व में NDA को दीं, इसके बाद एक के बाद एक जिस प्रकार से मोदीजी ने देश का काम अपने हाथों में लिया, आज देश की परिस्थिति में परिवर्तन दिखाई देना शुरू हो गया है।

अमित शाह ने कहा कि तीन साल हो गए, आज प्रधानमंत्री मोदी ने इस प्रकार से सरकार चला रहे हैं कि हमारे विरोधी भी उनपर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने की हिम्मत नहीं कर सकते। 
रामलीला मैदान में दहाड़े मनोज तिवारी, झूठे-प्रपंचियों और धोखेबाजों को सबक सिखाने का समय आ गया है

रामलीला मैदान में दहाड़े मनोज तिवारी, झूठे-प्रपंचियों और धोखेबाजों को सबक सिखाने का समय आ गया है

manoj-tiwari-appeal-delhi-people-to-teach-a-lession-to-arvind-kejriwal

नई दिल्ली, 25 मार्च: दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आज दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित पञ्च परमेश्वर बूथ सम्मलेन को संबोधित करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को सबक सिखाने की अपील की, उन्होंने कहा कि दिल्ली में MCD चुनाव आने वाले हैं, अब समय आ गया है कि जिन लोगों ने आपके साथ धोखा किया, आपने झूठ बोलकर चुनाव जीता, उन्हें आप सबक सिखाओ। 

मनोज तिवारी ने कहा कि आज पूरी दुनिया में भारतीय जनता पार्टी का परचम लहरा रहा है, हमने उत्तर प्रदेश में सरकार बनायी, उत्तराखंड, असम, मणिपुर और गोवा में भी सरकार बनायी, हर तरफ भगवा ही भगवा दिख रहा है लेकिन दिल्ली अभी भी सफ़ेद है, अब दिल्ली को भी आने वाले MCD, लोकसभा और विधानसभा में केसरिया रंग से रंग देंगे। 

मनोज तिवारी ने बूथ कार्यकर्ताओं से कहा कि अब आपको दिल्ली में घर घर जाना है, एक एक दरवाजा खटखटाना है, दिल्ली को न्याय दिलाना है, दिल्ली से झूठे, प्रपंचियों को दूर भागना है और हम सब को मिलकर मतदाताओं के साथ मीठा रिश्ता बनाना है।

मनोज तिवारी ने बताया कि जब से उन्हें प्रदेश की जिम्मेदारी मिली है, हमने अपना घर बार छोड़कर दिल्ली की झुग्गियों में समय बिताना शुरू कर दिया, हम दिल्ली गाँवों में गए, व्यापारियों के पास गए, उन्हें अपने पार्टी के बारे में बताया, मोदीजी के बारे में बताया।

उन्होंने बताया कि हमने झुग्गी वालों के यहाँ समय बिताकर उनका दर्द समझा है, केजरीवाल ने उन्हें पानी देने का वादा किया था लेकिन वे आज भी प्यासे मर रहे हैं, 5-6 घंटे टैंकर के इन्तजार में खड़े रहते हैं, उनका इतना समय बर्बाद हो जाता है, केजरीवाल ने उनसे वोट तो ले लिए लेकिन पानी नहीं दे पाए। दिल्ली में बैठी हुई झूठी और प्रपंची सरकार ने उनसे वोट तो ले लिए लेकिन उन्हें नल भी नहीं दिया।

मनोज तिवारी ने कहा कि हमने इस अभियान को पञ्च परमेश्वर नाम इसलिए दिया है क्योंकि दिल्ली वालों के साथ अन्याय हुआ है और इस अन्याय का बदला लेने के लिए आपको बूथ पर खड़ा होना पड़ेगा, आप लोग पञ्च परमेश्वर की भूमिका में हैं।

मनोज तिवारी ने अपने भाषण की समाप्ति पर एक कविता सुनाई -
हो गयी है पीर, पर्वत की पिघलना चाहिए
इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए
आग तेरे सीने में हो या मेरे सीने में सही
हो कहीं भी आग लेकिन आग जलनी चाहिए

Friday, March 24, 2017

मनोज तिवारी ने पूरी कर दी 95 वर्षीय बुजुर्ग की अंतिम इक्षा

मनोज तिवारी ने पूरी कर दी 95 वर्षीय बुजुर्ग की अंतिम इक्षा

delhi-bjp-president-mp-manoj-tiwari-meet-95-year-old

नई दिल्ली, 24 मार्च: हर आदमी की एक अंतिम इक्षा होती है जिसे वह पूरा करना चाहता है, कोई भगवान से मिलना चाहता है तो कोई दूर रह रहे अपने बेटे से मिलना चाहता है तो कोई बड़े नेताओं से मिलना चाहता है, इसी प्रकार से दिल्ली के एक 95 वर्षीय वृद्ध व्यक्ति घनश्याम  ने भी अपने बेटे दिनेश को अपनी अंतिम इक्षा के बारे में बताया, उन्होंने कहा कि मैं अंतिम बार मनोज तिवारी से मिलना चाहता हूँ। 

इसके बाद वृद्ध घनश्याम के बेटे दिनेश ने दिल्ली  बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी को फेसबुक पर सन्देश भेजा और अपने पिता की अंतिम इक्षा के बारे में बताया, मनोज तिवारी यह सन्देश देखते ही भावुक हो गए क्योंकि बहुत कम लोग ही होते हैं तो अंतिम समय में नेताओं को देखना चाहते हैं, मनोज तिवारी ने तुरंत जवाब दिया कि मैंने उनकी अंतिम इक्षा जरूर पूरी करूँगा। 

इसके बाद मनोज तिवारी बुधवार देर रात को बुराड़ी में रहने वाले वृद्ध व्यक्ति घनश्याम से मिलने उसके घर पहुँच गए, इस वक्त मनोज तिवारी MCD चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं इसके बावजूद भी उन्होंने चुनाव प्रचार से वक्त निकाला और घनश्याम के घर पर पहुँच गए। 

मनोज तिवारी ने घर पहुंचकर वृद्ध का हाल चाल पूछा, घनश्याम ने भी मनोज तिवारी की खातिरदारी की और उन्हें भोजन कराकर आशीर्वाद दिया।
बड़ा दम है YOGI में, संभाल रहे हैं 37 मंत्रालय, केजरीवाल के पास एक भी मंत्रालय नहीं, निठल्ले हैं

बड़ा दम है YOGI में, संभाल रहे हैं 37 मंत्रालय, केजरीवाल के पास एक भी मंत्रालय नहीं, निठल्ले हैं

difference-between-yogi-adityanath-and-arvind-kejriwal-as-cm

Lucknow, 24 March: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बड़े हिम्मत वाले हैं क्योंकि उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार में अपने पास 37 मंत्रालय रखे हैं मतलब वे 37 मंत्रालयों की जिम्मेदारी संभालेंगे वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने अपने पास एक भी मंत्रालय नहीं रखा है, मतलब दिल्ली सरकार में उनके कन्धों पर कोई जिम्मेदारी नहीं है, अगर उनकी सरकार में कुछ गलत होगा तो केजरीवाल साफ़ साफ़ यह कहकर बाख जाएंगे कि मेरे पास तो कोई मंत्रालय ही नही है। आप खुद देखिये -
list-of-ministries-under-arvind-kejriwal-in-delhi-government
फोटो में दिख रहा है, अरविन्द केजरीवाल के पास कोई मत्रालय नही है

अब आप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पोर्टफोलियो देखिये, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास 37 मंत्रालय रखे हैं जिसमें - गृह, आवास एवं शहरी नियोजन, राजस्व, खाद्य एवं रसद, नागरिक आपूर्ति, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, अर्थ एवं संख्या, भूतत्व एवं खनिकर्म, बाढ़ नियंत्रण, कर निबंधन, कारागार, सामान्य प्रशासन, सचिवालय प्रशासन, गोपन, सर्तकता, नियुक्ति, कार्मिक, सूचना, निर्वाचन, संस्थागत वित्त, नियोजन, राज्य सम्पत्ति, नगर भूमि, उत्तर प्रदेश पुनर्गठन समन्वय, प्रशासनिक सुधार, कार्यक्रम कार्यान्वयन, राष्ट्रीय एकीकरण, अवस्थापना, समन्वय, भाषा, वाह्य सहायतित परियोजना, अभाव, सहायता एवं पुनर्वास, लोक सेवा प्रबंधन, किराया नियंत्रण, उपभोक्ता संरक्षण, बाट माप शामिल है। देखिये फोटो
list-of-yogi-adityanath-ministries-in-up-government
योगी आदित्यनाथ के मंत्रालयों की लिस्ट
आपने देखा होगा चाहे प्रधानमंत्री हो या किसी राज्य के मुख्यमंत्री, वे अपने पास सभी महत्वपूर्ण मंत्रालय रखते हैं, प्रधानमंत्री मोदी के पास भी सबसे अधिक मंत्रालय हैं, इसके अलावा सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों का भी आप प्रोफाइल देखें तो उनके पास सबसे अधिक मंत्रालय होते हैं लेकिन सिर्फ अरविन्द केजरीवाल ही ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिनके पास कोई मंत्रालय नहीं है। 
ट्विटर पर छा गए हैं सर जी, ट्रेंड हो रहा है 'एक था केजरीवाल'

ट्विटर पर छा गए हैं सर जी, ट्रेंड हो रहा है 'एक था केजरीवाल'

ek-tha-kejriwal-top-twitter-trend-image
New Delhi, 24 March: आज सरजी यानी अरविन्द केजरीवाल ट्विटर पर छा गए हैं क्योंकि 'एक था केजरीवाल' ट्विटर पर सबसे टॉप पर ट्रेंड कर रहा है। अब हम बताने जा रहे हैं कि एक था केजरीवाल क्यों ट्रेंड कर रहा है, बात दरअसल ये है कि अब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता ही केजरीवाल के विरोध में सड़कों पर उतर आये हैं, उनके पुतले जला रहे हैं, उनसे मुक्ति की गुहार लगा रहे हैं, अब AAP कार्यकर्त्ता ही कह रहे हैं कि हमने केजरीवाल को वोट देकर गलती की थी, अब हम उन्हें MCD चुनावों में वोट नहीं देंगे। 

आज दिल्ली के फर्ज बाजार इलाके में AAP कार्यकर्ताओं ने ही केजरीवाल का पुतला जलाया साथ ही केजरीवाल हाय हाय के नारे भी लगाए, इस प्रदर्शन में स्थानीय लोग भी शामिल थे। AAP कार्यकर्ताओं का कहना है कि केजरीवाल ने लोगों को बेवकूफ बनाकर चुनाव जीता था लेकिन उन्होंने चुनाव जीतने के बाद कोई काम नहीं किया, सारी पब्लिक बहुत परेशान है, इसलिए हम उन्हें MCD चुनावों में वोट नहीं देंगे, अब हम उनसे मुक्ति चाहते हैं। 

प्रदर्शन करने वाले स्थानीय लोगों और AAP कार्यकर्ताओं के अनुसार उनके इलाके में कई दिनों से प्रदूषित पानी सप्लाई किया जा रहा है, लेकिन उनकी सुनवाई के लिए कोई भी तैयार नहीं है, इलाके के लोगों ने मटका फोड़कर विरोध प्रदर्शन किया, AAP कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस इलाके के लोगों ने केजरीवाल को जिताने के लिए कड़ी मेहनत की थी लेकिन उनके इलाके में गंदे पानी की सप्लाई लगातार जारी है, बच्चे, बूढ़े गन्दा पानी पीकर बीमार पड़ रहे हैं।

इसी बात के लिए ट्विटर पर #एक_था_केजरीवाल टॉप पर ट्रेंड कर रहा है, लोग केजरीवाल की जमकर बजा रहे हैं, उनकी जमकर ऐसी तैसी कर रहे हैं, लोग कह रहे हैं कि अब केजरीवाल विलुप्त होने के कगार पर हैं.

जिन लोगों ने लालच में आकर केजरीवाल को दिया था वोट, वो आपिये ही जला रहे हैं उनका पुतला, फंस गए

जिन लोगों ने लालच में आकर केजरीवाल को दिया था वोट, वो आपिये ही जला रहे हैं उनका पुतला, फंस गए

arvind-kejriwal-putla-burnt-by-aap-workers-in-farj-bajaar-area-image
नई दिल्ली, 24 मार्च: दिल्ली के लोगों ने बड़ी उम्मीदों के साथ केजरीवाल को वोट देकर उन्हें मुख्यमंत्री बनाया था लेकिन पिछले दो वर्षों में केजरीवाल दिल्ली के बजाय पंजाब, गोवा और गुजरात में चुनाव प्रचार में लगे रहे, नतीजा यह हुआ कि दिल्ली दो साल पहले जिस जगह पर खड़ी थी आज भी वहीं पर खड़ी है, दिल्ली का विकास रुक गया है, लोगों को पीने के लिए पानी नहीं मिल रहा है, दिल्ली वालों ने केजरीवाल को एकतरफा वोट दिया था लेकिन अब एकतरफा विरोध भी शुरू हो चुका है, अब केजरीवाल का वही लोग विरोध कर रहे हैं जिन्हें केजरीवाल ने AAP की टोपी पहनायी थी यानी कि AAP के कार्यकर्ता ही केजरीवाल का विरोध कर रहे हैं। 

जानकारी के अनुसार कल फर्ज बाजार इलाके में AAP कार्यकर्ताओं ने ही केजरीवाल का पुतला जलाया साथ ही केजरीवाल हाय हाय के नारे भी लगाए, इस प्रदर्शन में स्थानीय लोग भी शामिल थे (देखें VIDEO)

प्रदर्शन करने वाले स्थानीय लोगों और AAP कार्यकर्ताओं के अनुसार उनके इलाके में कई दिनों से प्रदूषित पानी सप्लाई किया जा रहा है, लेकिन उनकी सुनवाई के लिए कोई भी तैयार नहीं है, इलाके के लोगों ने मटका फोड़कर विरोध प्रदर्शन किया, AAP कार्यकर्ताओं का कहना है कि इस इलाके के लोगों ने केजरीवाल को जिताने के लिए कड़ी मेहनत की थी लेकिन उनके इलाके में गंदे पानी की सप्लाई लगातार जारी है, बच्चे, बूढ़े गन्दा पानी पीकर बीमार पड़ रहे हैं।

अब AAP कार्यकर्ताओं का कहना है कि केजरीवाल ने लोगों को बेवकूफ बनाकर चुनाव जीता था लेकिन उन्होंने चुनाव जीतने के बाद कोई काम नहीं किया, सारी पब्लिक बहुत परेशान है, इसलिए हम उन्हें MCD चुनावों में वोट नहीं देंगे, अब हम उनसे मुक्ति चाहते हैं। 

Wednesday, March 22, 2017

दिल्ली से खालिस्तानी आतंकवादी गुरसेवक सिंह गिरफ्तार

दिल्ली से खालिस्तानी आतंकवादी गुरसेवक सिंह गिरफ्तार

khalistani-terrorist-gurusevak-singh-image

नई दिल्ली, 21 मार्च: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक खालिस्तानी आतंकवादी को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार आतंकवादी के खिलाफ पंजाब, दिल्ली, मध्यप्रदेश और राजस्थान में उग्रवाद, हत्या, डकैती और लूट के 75 से अधिक मामले दर्ज हैं।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) प्रवीर रंजन ने बताया कि मिली सूचना के आधार पर सोमवार की शाम पश्चिमी दिल्ली के महिपालपुर इलाके से खालिस्तान कमांडो फोर्स (केसीएफ) के सदस्य 55 वर्षीय गुरसेवक सिंह उर्फ बाबला को गिरफ्तार किया गया। गुरसेवक के पास से गोलियों से भरी एक आधुनिक पिस्तौल भी बरामद की गई।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गुरसेवक कई पुलिस अधिकारियों और मुखबिरों की हत्या कर चुका है तथा बैंक और पुलिस थानों में डकैती भी डाल चुका है। इसके अलावा पंजाब में 80 के दशक में चरमपंथ के दिनों में कई राज्यों में लूटपाट भी करता रहा है।

अधिकारी ने बताया, "गुरसेवक सिखों के चरमपंथी नेता जरनैल सिंह भिंडरावाले का सहयोगी रह चुका है।"

उन्होंने बताया कि गुरसेवक इस समय पाकिस्तान में रह रहे केसीएफ के मुखिया परमजीत सिंह पंजवार के निर्देश पर फिर से आतंकवादी संगठन खड़ा करने की योजना पर काम कर रहा था।

Tuesday, March 21, 2017

BJP में शामिल हुआ मुस्लिम बोला, BJP के नाम से हमें डराया जाता है, लेकिन यह सबसे अच्छी पार्टी है

BJP में शामिल हुआ मुस्लिम बोला, BJP के नाम से हमें डराया जाता है, लेकिन यह सबसे अच्छी पार्टी है

naved-siddiki-join-bjp
नई दिल्ली, 21 मार्च: चारों तरफ बीजेपी का परचम लहराता जा रहा है इसलिए अब दूसरी पार्टियाँ छोड़कर मुसलमान लोग भी बीजेपी में शामिल हो रहे हैं, आज आम आदमी पार्ट को छोड़कर नावेद सिद्दीकी भी बीजेपी में शामिल हो गए, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के सामने उन्होंने बीजेपी ज्वाइन किया और मीडिया से बातचीत की। 

उन्होंने बीजेपी ज्वाइन करने के बाद आज तक से बात करते हुए कहा - मेरा मुसलामानों को सन्देश है कि जिस तरह से आपको बीजेपी के नाम से डराया जा रहा है ऐसा कुछ है नहीं, मैं यहाँ पर आया हूँ, मुझे मनोज तिवारी और कविता राठौर जी यहाँ लेकर आयी हैं, उनके जरिये हमें यहाँ जो सम्मान मिला है वैसा कहीं नहीं मिलता। 

उन्होने कहा कि हम पहले से यह जानते हैं कि बीजेपी के नाम से दरअसल जो भय का माहौल बनाया जाता है ऐसा कुछ नहीं है, आप आकर देखिये बीजेपी में, यहाँ शान्ति है। 

उन्होएँ कहा कि देश का निर्माण गंगा जमुनी तहजीब से हुआ था और जिन लोगों ने एकतरफा बात की वे लोग पाकिस्तान चले गए और जो लोग गंगा जमुनी तहजीब पर रहना चाहते हैं वो हिंदुस्तान में हैं, इसी बात को समझते हुए बीजेपी ने सबका साथ और सबका विकास नारे को बुलंद किया है और इसी पर काम भी कर रही है। 
PM MODI ने मिलने के लिए CM YOGI पहुंचे दिल्ली

PM MODI ने मिलने के लिए CM YOGI पहुंचे दिल्ली

yogi-modi-image
नई दिल्ली, 21 मार्च: उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने के लिए दिल्ली पहुँच चुके हैं, यहाँ वे सबसे पहले राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी से मुलाक़ात करेंगे और उसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली और उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात करेंगे, दोनों की सलाह के बाद ही उत्तर प्रदेश में मंत्रालयों का वितरण किया जाएगा, अभी तक किसी भी मंत्री को कोई मंत्रालय नहीं दिया गया है। 

जानकारी के अनुसार योगी आदित्यनाथ किसानों की कर्जमाफी पर मोदी से बात करेंगे क्योंकि मोदी ने ही अपनी सभी रैलियों में किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था, कर्जमाफी के लिए केंद्र सरकार को भी वित्तीय मदद करनी होगी क्योंकि 27 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ़ करने में उत्तर प्रदेश का वित्तीय गणित बिगड़ जाएगा। 

दिल्ली पहुँचने के बाद योगी आदित्यनाथ सबसे पहले अपने सांसद निवास पर गए, सांसद होने के नाते योगी को दिल्ली में घर मिला था, संसद सत्र के समय योगी इसी घर में रुकते थे, यहाँ से योगी अपने जरूरी सामानों को निकालकर घर खाली कर देंगे। 

Monday, March 20, 2017

मनोज तिवारी बोले, AAP वाले डाका डालकर करते हैं फंड का इंतजाम

मनोज तिवारी बोले, AAP वाले डाका डालकर करते हैं फंड का इंतजाम

manoj-tiwari-image

नई दिल्ली, 20 मार्च: भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आज आम आदमी पार्टी पर फिर से हमला बोलते हुए कहा है कि केजरीवाल एंड पार्टी डाका डालकर, लोगों को लूटकर फंड का इंतजाम कर रही है, उन्होंने एक ट्वीट के माध्यम से कहा है कि 'आप नेता 25 लाख की लूट के जुर्म में पकड़ा गया, तो केजरीवाल जी, आम आदमी पार्टी और मनीष सिसोदिया, आप लोग इस तरह से रॉबरी करके फंड का इंतजाम कर रहे हैं।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली के जाफराबाद में 25 लाख की लूट के जुर्म में AAP नेता नजीब और उसके भाई सहित 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, नजीब की केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और आप के सभी बड़े नेताओं के साथ फोटो सोशल मीडिया पर घूम रही है। इन लोगों के पास हथियार के अलावा 16 लाख रुपये की नकदी भी बरामद की गयी है। 

गिरफ्तार किये गए सभी आरोपियों के नाम नदीम उर्फ़ फुरकान, मोहम्मद यूसुफ, जीतेन्द्र उर्फ़ जोनी, नावेद, नजीब अहमद और शबाब हैं। 

इन आरोपियों में नजीब आप की युवा इकाई का सीलमपुर विधानसभा का अध्यक्ष है जबकि जावेद उसका सगा भाई है। आप आदमी पार्टी ने उसके साथ किसी भी रिश्ते से इनकार किया है। 
मनोहर लाल खट्टर ने दिल्ली को तबाह और बर्बाद होने से बचाया

मनोहर लाल खट्टर ने दिल्ली को तबाह और बर्बाद होने से बचाया

jaat-andolan-resumed-for-15-days-after-manohar-lal-khattar-talk

नई दिल्ली, 20 मार्च: आरक्षण पाने के लिए एक बार फिर से जाटों का दिमाग घूम गया है, इस बार जाटों ने हरियाणा के बजाय दिल्ली को तबाह और बर्बाद करने का मन बनाया था क्योंकि केंद्र सरकार और सुप्रीम कोर्ट दिल्ली में है इसलिए उन्होंने सोचा कि दिल्ली की रफ़्तार और पानी रोक देने पर दिल्ली वाले भूखे और प्यार मर जाएंगे इसलिए कल उन्होंने दिल्ली कूच करने का प्लान बनाया था लेकिन मनोहर लाल खट्टर ने जाटों की मांग को स्वीकार करके दिल्ली को बर्बाद होने से बचा लिया हालांकि दिल्ली अभी भी हाई अलर्ट पर है क्योंकि जाटों का दिमाग कभी भी फिर सकता है। 

कल हरियाणा सरकार से अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति की मांगों को पूरा करने की सहमति मिलने के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार से शुरू होने वाला जाट आरक्षण आंदोलन स्थगित कर दिया गया है हालाँकि जाट अभी भी कुछ जगहों पर टिके हुए हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और जाट आरक्षण संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने रविवार को यह घोषणा की। दिल्ली में सरकार और जाट नेताओं के बीच कई दौर की बैठक के बाद यह फैसला लिया गया।

जाट आंदोलन टलने से दिल्ली को राहत तो मिल गई है, लेकिन अभी भी अलर्ट जारी है और दिल्ली मेट्रो के चार स्टेशनों में प्रवेश और निकासी प्रतिबंधित रखी गई है।

आप इस मुद्दे की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि मनोहर लाल खट्टर उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शपथग्रहण समारोह में जाना चाहते थे लेकिन उन्हें यह कार्यक्रम स्थगित करना पड़ा, वे जाटों को मनाने के लिए दिल्ली में ही रुके रहे। 

Sunday, March 19, 2017

मनोज तिवारी डांट-कांड पर शिक्षिका ने कहा, वे मुझसे बड़े हैं इसलिए मेरी गलती पर मुझे डांट दिया’

मनोज तिवारी डांट-कांड पर शिक्षिका ने कहा, वे मुझसे बड़े हैं इसलिए मेरी गलती पर मुझे डांट दिया’

manoj-tiwari-and-delhi-women-teacher-issue-trending-exposed
नई दिल्ली, 19 मार्च: इस वक्त मनोज तिवारी ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी और उनके नेता अरविन्द केजरीवाल का जीना हराम कर दिया है, दिल्ली में घूम घूम कर मनोज तिवारी केजरीवाल के विकास की पोल खोल रहे हैं दिल्ली वासियों की आँखों से केजरीवाल का चश्मा उतार रहे हैं। 

अब आम आदमी पार्टी को भी मनोज तिवारी के खिलाफ एक मुद्दा मिल गया है, हाल ही में एक VIDEO वायरल हुआ जिसमें मनोज तिवारी ने दिल्ली के यमुना विकास के एक स्कूल के कार्यक्रम में एक महिला को डांट पिला दी और कार्यवाही की धमकी भी दे डाली, जैसे ही AAP वालों को यह वीडियो मिला उन्होंने इस मनोज तिवारी के खिलाफ एक बड़े हथियार के रूप में इस्तेमाल किया और इसे और वायरल कर दिया, इस वक्त मनोज तिवारी को आम आदमी पार्टी के अलावा बीजेपी समर्थन भी जमकर लताड़ रहे हैं। 

कल महिला शिक्षिका ने सामने आकर इस मामले पर सफाई दी साथ ही मनोज तिवारी का बचाव भी किया। देखें VIDEO.

नीतू सिंह ने बताया कि मनोज तिवारी हामरे इलाके यमुना विहार के स्कूलों में CCTV कैमरे लगा रहे हैं, मुझे बहुत ख़ुशी है उन्होंने यह काम 10 मार्च को मेरे स्कूल निगम विद्यालय से शुरू हुआ था, उस दिन कार्यक्रम में मुझे मंच के संचालन का जिम्मा दिया गया था लेकिन मैं भावनाओं में बहकर उनसे गाने की फरमाइश कर बैठी जो कि प्रोटोकॉल का उल्लंघन था और माननीय संसद ने मुझे इसके बारे में समझाया भी, हाँ उनके रूख में थोडा तल्खी थी लेकिन वे मुझसे बड़े हैं, मेरे अभिभावक की तरह हैं इसलिए मुझे बुरा नहीं लगा, मुझे अपनी गलती का अहसास हुआ और मैंने उनसे माफी भी माँगी।

नीतू सिंह ने कहा कि वह मामला उसी दिन रफा दफा कर दिया गया था और मीडिया वालों को केवल आधा VIDEO दिखाया गया, मनोज तिवारी ने बाद में अपने शब्द वापस ले लिए थे, उन्होंने इस पर खेद भी जताया था, उनका मकसद केवल मुझे समझाना था। लेकिन कुछ लोगों ने आधे VIDEO को वायरल कर दिया, मुझे पहले तो बुरा नहीं लगा लेकिन अब जरूर बुरा लग रहा है, मुझे रोजाना सैकड़ों फोन आ रहे हैं, मेरा जीना हराम हो गया है। 
AAP कार्यकर्ताओं से बोले केजरीवाल, लड़ाई जारी रखें, अंत में जीत सत्य की ही होती है, हम जीतेंगे

AAP कार्यकर्ताओं से बोले केजरीवाल, लड़ाई जारी रखें, अंत में जीत सत्य की ही होती है, हम जीतेंगे

arvind-kejriwal-said-to-aap-workers-keep-fighting-we-will-win

नई दिल्ली, 19 मार्च: दिल्ली के मुख्यमंत्री Arvind Kejriwal ने शनिवार को आम आदमी पार्टी (AAP) के कार्यकर्ताओं से Panjab और Goa में मिली हार के बाद हिम्मत न हारने और दिल्ली निकाय चुनाव (MCD) के लिए तैयार रहने के लिए कहा। सोशल मीडिया पर लाइव प्रसारण के जरिए केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी की लड़ाई जारी रहेगी।

केजरीवाल ने कहा, "आप सच्चाई के मार्ग पर चलते हुए इस लड़ाई को लड़ रहे हैं। देश की सभी भ्रष्ट शक्तियां आपके खिलाफ खड़ी हैं। ऐसे समय आएंगे, जब परिणाम आपकी अपेक्षा के विपरीत होंगे। लेकिन मत भूलिए कि अंत में जीत सत्य की ही होती है।"

केजरीवाल ने कहा कि गोवा और पंजाब के चुनाव परिणाम अस्थायी झटके हैं और अंतत: हमारी जीत तय है, क्योंकि आप के कार्यकर्ता 'निस्वार्थ भाव से सही उद्देश्यों' के लिए लड़ रहे हैं।

दिल्ली के तीनों नगर निगमों में 22 अप्रैल को चुनाव होने हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं से निकाय चुनाव में जीत हासिल करने के लिए जी-जान से लगने का आह्वान करते हुए केजरीवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा शासित नगर निगम में चीजों को सही करने का यह एकमात्र तरीका है।

केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी है, इसके बावजूद यहां कचरे का ढेर है। हमने नगर निगम के साथ काम करने की अपनी पूरी कोशिश की। हमने उन्हें जितना चाहिए था उतनी धनराशि दी, लेकिन कोई काम नहीं बना। अब मैं नगर निगम में आप की सत्ता लाने के लिए आपसे कठिन परिश्रम करने के लिए कह रहा हूं।"

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को साफ-सुथरा रखने के लिए जितनी धनराशि की जरूरत होगी, सरकार खर्च करेगी और नगर निगम में एक सच्ची सरकार लाएगी।

उन्होंने कहा, "आज लोग दिल्ली को पेरिस बनाने की बात कर रहे हैं। लेकिन हम दिल्ली को इतना बदल देंगे कि लोग पेरिस को दिल्ली बनाने की बात कहने लगेंगे।"

केजरीवाल ने साथ ही पंजाब में आप कार्यकर्ताओं से मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर चुनाव के दौरान किए गए वादे पूरे करने के लिए दबाव बनाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि ईमानदार राजनीति के जरिए आप अन्य दलों को अपनी राजनीति बदलने के लिए मजबूर कर रहे हैं।

Saturday, March 18, 2017

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हैं फिर भी कार्यकर्ताओं के साथ कुर्सियां लगाते हैं BJP संसद मनोज तिवारी

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हैं फिर भी कार्यकर्ताओं के साथ कुर्सियां लगाते हैं BJP संसद मनोज तिवारी

bjp-sansad-manoj-tiwari-latest-news-in-hindi
नई दिल्ली, 18 मार्च: मनोज तिवारी के पास क्या नहीं है, पैसा भी है, शोहरत भी है, बंगाल भी है, गाड़ी भी है इसके बावजूद भी उनके अन्दर कोई घमंड नहीं है बल्कि वे आम लोगों में रहना पसंद करते हैं, जब से मनोज तिवारी बीजेपी में आगे हैं तन मन से पार्टी की सेवा में जुट गए हैं, कल रामलीला में एक कार्यक्रम के दौरान मनोज तिवारी अपने कार्यकर्ताओं के साथ कुर्सियां लगाते दिखे। 

ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है कि किसी पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष किसी कार्यक्रम में लोगों के बैठने के लिए कुर्सियां लगाए लेकिन मनोज तिवारी ऐसा करते दिखे, जब उनसे पूछा गया कि आप तो प्रदेश अध्यक्ष हैं, आपको कुर्सियां लगाने की क्या जरूरत है तो उन्होंने कहा प्रदेश अध्यक्ष होने से पहले मैं पार्टी का एक कार्यकर्त्ता हूँ, कोई भी काम छोटा बड़ा नहीं होता है। 

Friday, March 17, 2017

पंजाब में केजरीवाल की विशाल हार की ख़ुशी में 19 मार्च को दिल्ली में विशाल भंडारे का आयोजन

पंजाब में केजरीवाल की विशाल हार की ख़ुशी में 19 मार्च को दिल्ली में विशाल भंडारे का आयोजन

kejriwal-ki-panjab-me-haar-ki-khushi-me-delhi-me-vishal-bhandara
नई दिल्ली, 17 मार्च: पंजाब में केजरीवाल की हार के बाद दिल्ली के कुछ लोग ज्यादा ही खुश हैं और इसी ख़ुशी में दिल्ली में 19 मार्च को विशाल भंडारे का आयोजन किया गया है, यह भंडारा दिल्ली कैंट के सदर बाजार में स्थित सनातन धर्म मंदिर में होगा, सोशल मीडिया पर यह फोटो बहुत वायरल हो रही है और केजरीवाल के विरोधी इसे बहुत शेयर कर रहे हैं, हजारों लोग इस भंडारे का प्रसाद ग्रहण करने के लिए बेताब हैं। 

इस भंडारे के निवेदकों के नाम हैं सूबेदार आर रस चौहान और सूबेदार उदय नारायण, इन दोनों ने ज्यादा से ज्यादा लोगों को भंडारे का प्रसाद चखने का आग्रह किया है। 

जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली वालों ने केजरीवाल को दिल्ली की हालत सुधारने के लिए बड़ी उम्मीदों से मुख्यमंत्री चुना था लेकिन केजरीवाल का ध्यान दिल्ली के बजाय पंजाब, गोवा, गुजरात और मध्य प्रदेश में सरकार बनाने में लग गया, जिन लोगों ने बड़े बड़े सपने देखकर केजरीवाल को वोट दिया था, उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया, अब हालत ऐसी हो गयी है कि जिन लोगों ने केजरीवाल को वोट दिया था उन लोगों ने आजीवन केजरीवाल को वोट ना देने की कसम खा ली है, इसीलिए पंजाब में केजरीवाल की हार के बाद लोग इतने खुश हो गयी कि भंडारे का आयोजन कर लिया। 

Thursday, March 16, 2017

आज EVM की जगह बैलट-पेपर मांग रहे हैं कल दिल्ली में मेट्रो की जगह बैलगाड़ी चलाएंगे केजरीवाल

आज EVM की जगह बैलट-पेपर मांग रहे हैं कल दिल्ली में मेट्रो की जगह बैलगाड़ी चलाएंगे केजरीवाल

arvind-kejriwal-joke-on-social-media

नई दिल्ली, 16 मार्च: अगले महीने दिल्ली नगर निगम चुनावों के लिए EVM के बजाय बैलट पेपर पर चुनाव कराने की मांग करने वाले केजरीवाल का सोशल मीडिया पर मजाक बनना शुरू हो गया है, लोग कह रहे हैं कि केजरीवाल 10 साल पीछे जाने की सोच रखने वाले नेता हैं, आज वे EVM की जगह बैलट पेपर पर चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं, कल मेट्रो की जगह बैलगाड़ी की मांग करेंगे, पोस्ट ऑफिस की जगह कबूतर की मांग करेंगे, पुलिस के हाथों में बन्दूक की जगह तीर-कमान की मांग करेंगे और खुद को मुख्यमंत्री के बजाय कबीले का सरदार कहें जाने की मांग करेंगे। 
जानकारी के लिए बता दें कि पंजाब और गोवा में अपनी हार से बचने के लिए केजरीवाल ने आरोप लगाया है कि बीजेपी वालों ने EVM मशीनों में गड़बड़ी करके AAP के वोट को कांग्रेस के अकाउंट में डाल दिया, बीजेपी वाले दिल्ली नगर निगम में भी मशीनों में गड़बड़ी करेंगे इसलिए बैलट पेपर पर दिल्ली नगर निगम के चुनाव कराये जाँय। 

जानकारी के लिए यह भी बता दें कि भारत जैसी बड़ी आबादी वाले देश में बैलट-पेपर पर चुनाव कराना काफी मंहगा होता है, लाखों लोगों को इस काम में लगाना पड़ता है, बहुत पहले से इंतजाम करना पड़ता है, हजारों करोड़ रुपये खर्च हो जाते हैं जिसकी भरपाई करने के लिए मंहगाई बढानी पड़ती है, टैक्स बढ़ाना पड़ता है, लोगों को कष्ट देना पड़ता है, इसके अलावा चुनाव कराने और वोटों की गिनती में काफी समय लगता है, बूथ कैप्चरिंग का भी डर रहता है। 

इसी सब को देखते हुए भारत में EVM मशीने लाई गयी थीं, हजारों करोड़ रुपये खर्च किये गए थे लेकिन आज भारत की राजनीतिक पार्टियाँ अपनी हार से बचने के लिए EVM मशीनों में गड़बड़ी करने का आरोप लगा रहे हैं और जनता के मन में चुनाव आयोग के लिए अविश्वास पैदा कर रहे हैं जो कि संविधान और लोकतंत्र के लिए बहुत ही खतरनाक है।