Showing posts with label Delhi. Show all posts
Showing posts with label Delhi. Show all posts

Aug 19, 2017

गर्माया JNU मामला, लोग बोले '6 यारों के साथ रात 9 बजे जंगल में क्या करने गयी थी ये लड़की': पढ़ें

गर्माया JNU मामला, लोग बोले '6 यारों के साथ रात 9 बजे जंगल में क्या करने गयी थी ये लड़की': पढ़ें

jnu-girl-student-surajkung-molestation-case-social-mediya-slams-girl

फरीदाबाद: सूरजकुंड छेड़छाड़ मामले में JNU की छात्रा को सोशल मीडिया पर समर्थन नहीं मिल रहा है क्योंकि अधिकतर लोग पूछ रहे हैं कि ये लड़की अपने 6 यारों के साथ रात को 9 बजे सूरजकुंड के जंगल में क्या करने गयी थी. जानकारी के लिए बता दें कि 14 अगस्त को JNU की छात्रा अपने 6 दोस्तों के साथ रात 9 बजे जंगल में घूम रही थी तो इनका पाला कुछ शराबी युवकों से पड़ गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ जेएनयू की एक छात्रा व 6 छात्र घूमने हेतु जंगल में गए थे। जब यह लोग वहां से रात साढ़े नौ बजे वापस लौट रहे थे तो उस वक़्त एक बाइक पर एक छात्रा अपने दोस्त के साथ बैठी थी जबकि उसके 6 साथी कैब में थे जो आगे की तरफ चल रहे थे। एक बाइक पर लड़का -लड़की को अकेले देख कर वहां पर पहले से उपस्थित 4 से 5 लड़कों ने उनकी बाइक रोक ली. इसके बाद दोनों पक्षों में कहा सुनी हो गई। लड़की का आरोप है कि शराबी युवकों ने उसके दोस्त को मारा पीटा और उसका रेप करने का प्रयास किया.

सोशल मीडिया पर लोगों ने हैरान करने वाली प्रतिक्रिया दी. लोगों ने लड़की का समर्थन करने के बजाय उसकी जमकर लताड़ लगा दी, लोगों ने कहा कि इन लोगों को JNU में आजादी नहीं मिली तो सूराज्कुंग के जंगलों में आ गए. पढ़ें क्या कह रहे हैं लोग.

jnu-girl-molestation-in-surajkund

jnu-girl-molestation-in-surajkund-faridabad

Aug 16, 2017

कमाल की खबर, AAP वाले मोदी को कितना भी भला-बुरा कहें लेकिन उनकी बात बहुत मानते हैं: पढ़ें

कमाल की खबर, AAP वाले मोदी को कितना भी भला-बुरा कहें लेकिन उनकी बात बहुत मानते हैं: पढ़ें

aap-leaders-using-pm-modi-formula-to-save-money-in-gift

अगर आपको याद हो तो कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सभी बीजेपी और अन्य पार्टी के नेताओं से अपील की थी कि उनसे मुलाकात के समय फूलों की बकेट देना जरूरी नहीं है, सिर्फ एक फूल भी गिफ्ट किया जा सकता है. उन्होंने कहा था कि आप लोग ज्यादा से ज्यादा पैसे बचाएं और मुझे केवल एक फूल दे दें तो भी काम चल जाएगा. उन्होंने स्वयं इसकी शुरुआत करते हुए सबको गिफ्ट में फूल देना शुरू कर दिया और बीजेपी नेता भी मोदी का यह फ़ॉर्मूला अपनाकर पैसे बचाने लगे.

ऐसा नहीं है कि सिर्फ बीजेपी नेताओं ने मोदी की बात मानी हो. बीजेपी नेताओं से भी अधिक आप पार्टी के नेताओं ने उनकी बात मानी है. आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का जन्मदिन हैं. उनसे मिलने के लिए दूर दूर से AAP नेता उनके आवास पर पहुँच रहे हैं और मोदी का फ़ॉर्मूला अपनाकर केजरीवाल को सिर्फ एक गुलाब का फूल भेंट कर रहे हैं. केजरीवाल के पास गुलाब के फूलों का अम्बार लग चुका है और आप नेता अपने सैकड़ों रुपये बचा रहे हैं. आप खुद VIDEO में देखिये.

एकदम गोल मटोल हो गए हैं केजरीवाल, आज जन्मदिन पर भी आपियों ने दबाकर खिलाया केक: पढ़ें

एकदम गोल मटोल हो गए हैं केजरीवाल, आज जन्मदिन पर भी आपियों ने दबाकर खिलाया केक: पढ़ें

delhi-dm-arvind-kejrwial-become-gol-matol-birthday-eat-cake

नई दिल्ली: आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का जन्मदिन है और आपिए लोग बहुत ही धूम धाम से उनका जन्मदिन मना रहे हैं. आपको बता दें कि 16 अगस्त 1968 को जन्मे केजरीवाल आज  49 साल के पूरे हो गए हैं.

अगले चुनाव में टिकट की दावेदारी करने वाले सभी आप नेता विशेष बर्थडे केक लेकर उनके दिल्ली आवास पर पहुँच रहे हैं और उन्हें दबाकर केक खिला रहे हैं. सुबह से केजरीवाल बहुत अधिक केक खा चुके हैं और केक ख़ा खाकर एकदम गोल मटोल हो गए हैं. लोग केक लेकर उनके घर पर पहुँचते हैं और उनके मुंह में ठूंसकर फोटो खिंचवाकर चले आते हैं. इसी चक्कर में केजरीवाल कई किलो केक खा चुके हैं.

आज फरीदाबाद के आप नेता धर्मबीर भड़ाना भी उनके लिए फलों से बना स्पेशल केक लेकर गए. धर्मवीर भड़ाना अपने समर्थकों संग पहुंचे और उन्हें जन्मदिन की बधाई देते हुए उनके दीर्घायु की कामना की। भड़ाना ने जब केजरीवाल को केक खिलाने की कोशिश की तो केजरीवाल ने कहा कि आज मैंने दबाकर केक खा लिया है इसलिए अब नहीं खा सकता. इसके बाद धर्मबीर भडाना ने कहा कि मैं इतनी दूर से आया हूँ, केक खाकर फोटो तो खिंचानी ही पड़ेगी. इसके बाद केजरीवाल ने केक खाया और फोटो खिंचवाई. यह भी कहा जा रहा है कि धर्मबीर भड़ाना का केक केजरीवाल को इतना पसंद आया कि वे उसे भी खाते ही रहे और सभी दोस्तों को भे खिलाया.
केजरीवाल ने की राष्ट्रपति की नक़ल तो लोग बोले 'ये तो खुद को पूरे ब्रह्मांड का राजा मानता है'

केजरीवाल ने की राष्ट्रपति की नक़ल तो लोग बोले 'ये तो खुद को पूरे ब्रह्मांड का राजा मानता है'

arvind-kejriwal-king-of-universe-copy-india-president-15-august

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की सोशल मीडिया पर फिर से फजीहत हो रही है. उन्होंने 15 अगस्त की पूर्व संध्या पर भारत के राष्ट्रपति की नक़ल करके देश को संबोधित किया था जबकि वे सिर्फ दिल्ली के मुख्यमंत्री हैं. केजरीवाल ने ऐसा जाहिर किया था जैसे कि वही भारत के राष्ट्रपति हैं और वही देश के प्रधानमंत्री हैं इसलिए उन्होंने 15 अगस्त से पहले प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति की तरह सीधा देश को संबोधित कर दिया.

आज सोशल मीडिया पर उनकी जमकर धुनाई हो रही है. लोग कह रहे हैं कि केजरीवाल तो खुद को पूरे यूनीवर्स यानी ब्रह्मांड का का राजा मानता है. कई लोगों ने केजरीवाल को एक नंबर का पाखंडी बताया और कुछ ने ड्रामा पार्टी का मुखिया बताया. एक ने कहा कि केजरीवाल हमेशा मुंगेरीलाल के सपने देखते हैं, इनके हाथों में एक बार बटेर लग गया तो खुद को शिकारी समझने लगे.

एक ने कहा कि केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को एक बार ठग कर दिल्ली की सत्ता हासिल कर ली है लेकिन भविष्य में इनकी ना तो दिल्ली में दाल गलेगी और ना कहीं और.

Arvind-kejriwal-king-of-universe

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति हमारे देश की सबसे ऊंची संवैधानिक पोस्ट होती है. प्रत्येक स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति देश को संबोधित करते हैं और सभी मुद्दों पर बात करते हैं. आज तक ऐसा नहीं हुआ कि किसी मुख्यमंत्री ने देश को संबोधित किया हो. हाँ मुख्यमंत्री राज्य को जरूर संबोधित कर सकते हैं और उन्हें करना भी चाहिए लेकिन केजरीवाल शायद खुद को प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति समझते हैं इसलिए दिल्ली के बजाय सीधा देश को संबोधित करके पार्टी टाइम राष्ट्रपति का भी काम करते हैं. यह भी हो सकता है कि केजरीवाल खुद को पूरे देश का मुख्यमंत्री समझते हों.

केजरीवाल के विरोधी वैसे भी उन्हें राष्ट्रीय मुख्यमंत्री कहते हैं क्योंकि केजरीवाल दिल्ली का काम छोड़कर दूसरे राज्यों पर अधिक ध्यान देते हैं. अब शायद केजरीवाल को उनकी गैंग वाले सच में देश का मुख्यमंत्री मान बैठे हैं इसलिए उनसे ऐसे उलूल जुलूल काम करवा रहे हैं.

इससे भी हैरानी की बात यह है कि आपिये लोग सोशल मीडिया पर केजरीवाल के भाषण का ऐसे प्रचार कर रहे हैं कि जैसे कि प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति ने देश को संबोधित किया हो. अपने भाषण में केजरीवाल ने दिल्ली के बारे में कुछ नहीं बोला, सिर्फ देश के बारे में बोला, दिल्ली की किसी भी समस्या की चर्चा नहीं की, सिर्फ देश की समस्या की चर्चा की. दिल्ली वालों ने सोचा होगा कि केजरीवाल थोडा हमारी भी सुध लेंगे लेकिन केजरीवाल तो प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति की नक़ल कर रहे हैं.

Aug 15, 2017

मुख्यमंत्री के अलावा पार्ट टाइम राष्ट्रपति का भी काम कर रहे हैं अरविन्द केजरीवाल, आप खुद देखिये

मुख्यमंत्री के अलावा पार्ट टाइम राष्ट्रपति का भी काम कर रहे हैं अरविन्द केजरीवाल, आप खुद देखिये

arvind-kejriwal-copy-ramnath-kovind-on-independence-day

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री हैं लेकिन वे पार्टी टाइम राष्ट्रपति का भी काम करते हैं. वे भले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री हैं लेकिन राष्ट्रपति की तरह केजरीवाल भी देश को संबोधित करते हैं. ऐसा लगता है कि या तो केजरीवाल खुद को राष्ट्रपति मानते हैं या उनके गैंग वाले उनसे राष्ट्रपति की नक़ल करवा रहे हैं. कल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर देश को संबोधित किया तो केजरीवाल ने भी उनकी नक़ल करते हुए देश को संबोधित किया.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राष्ट्रपति हमारे देश की सबसे ऊंची संवैधानिक पोस्ट होती है. प्रत्येक स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति देश को संबोधित करते हैं और सभी मुद्दों पर बात करते हैं. आज तक ऐसा नहीं हुआ कि किसी मुख्यमंत्री ने देश को संबोधित किया हो. हाँ मुख्यमंत्री राज्य को जरूर संबोधित कर सकते हैं और उन्हें करना भी चाहिए लेकिन केजरीवाल शायद खुद को प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति समझते हैं इसलिए दिल्ली के बजाय सीधा देश को संबोधित करके पार्टी टाइम राष्ट्रपति का भी काम करते हैं. यह भी हो सकता है कि केजरीवाल खुद को पूरे देश का मुख्यमंत्री समझते हों.

केजरीवाल के विरोधी वैसे भी उन्हें राष्ट्रीय मुख्यमंत्री कहते हैं क्योंकि केजरीवाल दिल्ली का काम छोड़कर दूसरे राज्यों पर अधिक ध्यान देते हैं. अब शायद केजरीवाल को उनकी गैंग वाले सच में देश का मुख्यमंत्री मान बैठे हैं इसलिए उनसे ऐसे उलूल जुलूल काम करवा रहे हैं.

इससे भी हैरानी की बात यह है कि आपिये लोग सोशल मीडिया पर केजरीवाल के भाषण का ऐसे प्रचार कर रहे हैं कि जैसे कि प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति ने देश को संबोधित किया हो. अपने भाषण में केजरीवाल ने दिल्ली के बारे में कुछ नहीं बोला, सिर्फ देश के बारे में बोला, दिल्ली की किसी भी समस्या की चर्चा नहीं की, सिर्फ देश की समस्या की चर्चा की. दिल्ली वालों ने सोचा होगा कि केजरीवाल थोडा हमारी भी सुध लेंगे लेकिन केजरीवाल तो प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति की नक़ल कर रहे हैं.
फिर दिखी केजरीवाल की नौटंकी तो लोग बोले '5 करोड़ वकील को दे सकते हैं, 500 के जूते नहीं खरीदते'

फिर दिखी केजरीवाल की नौटंकी तो लोग बोले '5 करोड़ वकील को दे सकते हैं, 500 के जूते नहीं खरीदते'

arvind-kejriwal-slammed-on-social-media-for-nautanki-on-15-august

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने भी आज दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और दिल्ली वालों को संबोधित किया. उन्होंने अपने संबोधन में महिलाओं की सुरक्षा पर जोर दिया और अपनी सरकार के काम दिखाए लेकिन उनके भाषण से अधिक चर्चा उनके टूटे चप्पलों की हो रही है.

आज केजरीवाल फिर से नौटंकी के मूंड में गए थे, खुद को गरीब दिखाने के लिए उन्होंने टूटी चप्पल पहनी और सिलवटें पड़े हुए कपडे पहन लिए. मतलब केजरीवाल ने खुद को ऐसा दिखाने की कोशिश की जैसे कि कोई रिक्शे वाले या किसान छोटे मोटे कार्यक्रमों में जाते हैं.

केजरीवाल की नौटंकी देखकर लोग बोले, ये आदमी भी कमाल का है. ये अपने वकील को 5 करोड़ रुपये की फीस दे सकता है लेकिन 500 रुपये के जूते नहीं खरीद सकता. लोगों ने यह भी कहा कि कार्यक्रम से पहले केजरीवाल ने कमीज पैंट के अन्दर डाली हुई थी लेकिन ध्वजारोहण करते समय इन्होने कमीज पैंट के बाहर निकाल ली ताकि शर्ट पर सिलवटें पड़ जाएं और ये गरीब दिख सकें.

kejriwal-ki-nautanki-ki-khuli-pol

केजरीवाल को कट्टरपंथियों से लगता है डर, श्रीकृष्ण लिखने से डरे, लेकिन मोदी और राहुल गाँधी ने..

केजरीवाल को कट्टरपंथियों से लगता है डर, श्रीकृष्ण लिखने से डरे, लेकिन मोदी और राहुल गाँधी ने..

arvind-kejriwal-not-wrote-shri-krishna-name-in-janmashtmi-wish

आज भगवान श्री कृष्ण की जन्माष्टमी है. मतलब आज के ही दिन भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था और यह त्यौहार पूरे भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. सभी नेता श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई दे रहे हैं लेकिन अगर बधाई में श्रीकृष्ण का नाम ना लिखा जाए तो वह बधाई कैसी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आज बधाई तो दी लेकिन उन्होंने श्रीकृष्ण लिखने से परहेज किया. ऐसा लगता है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल कट्टरपंथियों से बहुत डरते हैं या उनके वोट कटने से डरते हैं इसलिए श्रीकृष्ण और श्रीराम बोलने से परहेज करते हैं. आप उनका ट्वीट देखिये, उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा - आप सब के लिए ये जन्माष्टमी बहुत ही शुभ हो. देश से कसं रूपी शक्तियों का विनाश हो और सभी धर्मों और जातियों में प्यार और मोहब्बत का संचार हो.

अब आप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी का ट्वीट देख लीजिये. दोनों ने साफ़ साफ़ श्रीकृष्ण का नाम लिखा और श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाई दी. आप तीनों नेताओं का ट्वीट देखकर खुद समझिये, कट्टरपंथियों से सिर्फ केजरीवाल डरते हैं.


Aug 14, 2017

कुमार विश्वास ने भी डॉ कफील खान को ठोंक दिया सलाम, तो कपिल मिश्रा ने उनका बैंड बजा दिया: पढ़ें

कुमार विश्वास ने भी डॉ कफील खान को ठोंक दिया सलाम, तो कपिल मिश्रा ने उनका बैंड बजा दिया: पढ़ें

kumar-vishwas-salute-dr-kafeel-khan-then-kapil-mishra-slams-him

कल आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास ने भी बिकाऊ मीडिया की ख़बरों को सच मानकर गोरखपुर कांड के असली विलेन डॉ कफील खान को सलाम ठोंका था. उन्होने DNA की एक खबर पर विश्वास करके डॉ कफील खान को सलाम ठोंका था. DNA ने अपनी खबर में डॉ कफील खान को गोरखपुर कांड का हीरो बताते हुए कहा था कि डॉ कफील खान ने हीरो बनकर सैकड़ों बच्चों की जान बचा ली. कुमार विश्वास भी DNA की झूठी खबर को सच मान बैठे और डॉक्टर फकील खान को अच्छा सा सलाम ठोंक दिया.

kumar-vishwas-salute-dr-kafeel-khan

आज आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली में पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्रा ने कुमार विश्वास का बंद बजा दिया. उन्होने कहा कि चंद वोटों की खातिर सलाम बजाने की जल्दी ना करें. पहले सच जानें. कहीं खलनायक हो नायक तो नहीं बना रहे आप.

kamil-mishra-slams-dr-kumar-vishwas

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डॉ कफील खान ही गोरखपुर BRD मेडिकल कॉलेज के Encephalitis विभाग के इंचार्ज थे और हॉस्पिटल के सुपरिंटेंडेंट का काम भी यही संभाल रहे थे क्योंकि मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा छुट्टी पर चले गए थे. कल जाँच में पता चला कि जब हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कमीं से बच्चे तड़प तड़प कर मर रहे थे तो डॉ कफील खान अपने प्राइवेट क्लिनिक में बैठे थे. जब बच्चे मरने लगे तो वे दौड़े दौड़े आये और नौकरी जाने के डर से दौड़ भाग करने लगे. वे फटाफट अपने प्राइवेट क्लिनिक से तीन सिलेंडर लाए और मीडिया को पैसे खिलाकर अपली तारीफ में ख़बरें छपवा दिया. मीडिया ने भी पैसे खाकर उन्हें हीरो बना दिया और जी न्यूज़ के बड़े अखबार DNA ने भी उन्हें हीरो बनाते हुए खबर छाप दी. 

आज पता चला कि डॉ कफील खान सरकारी अस्पताल से भी सिलेंडर चुराते थे और उसे अपने प्राइवेट अस्पताल में ले जाते थे. यही नहीं वे BRD मेडिकल कॉलेज की खरीद कमेटी के मेंबर थे इसके बावजूद भी उन्होंने ऑक्सीजन की कमीं को हलके में लिया और योगी सरकार को इसकी जानकारी नहीं दी. योगी दो दिन पहले ही BRD हॉस्पिटल पहुंचे थे और उन्होंने समस्याओं की जानकारी मांगी थी लेकिन डॉ कफील खान ने उन्हें इस बारे में नहीं बताया.

ऐसे विलेन को DNA वेबसाइट ने हीरो बना दिया और कुमार विश्वास जैसे लोग भी उनकी बातों में आ गए, लेकिन कपिल मिश्रा ने उनका अच्छे से बैंड बजा दिया.
मस्जिदों में तिरंगा फहराकर खुद को भाग्यशाली समझते हैं नेता, सिर्फ भारत में होता है ऐसा, क्योंकि

मस्जिदों में तिरंगा फहराकर खुद को भाग्यशाली समझते हैं नेता, सिर्फ भारत में होता है ऐसा, क्योंकि

kapil-mishra-ne-masjid-ke-school-me-fahraya-tiranga

आज की बड़ी खबर ये है कि दिल्ली के विधायक कपिल मिश्रा ने एक मस्जिद के स्कूल में तिरंगा फहरा दिया. कपिल मिश्रा बहुत खुश हैं क्योंकि उन्होंने एक मस्जिद के स्कूल में तिरंगा फहराया है, आप समझ सकते हैं कि मस्जिदों और मदरसों में तिरंगा फहराना कितनी बड़ी बात है. कपिल मिश्रा को इससे बड़ी ख़ुशी शायद आज से पहले नहीं मिली होगी क्योंकि उन्होने जो कारनामा किया वो कारनामा बहुत कम लोग कर पाते हैं, बहुत कम लोग होते हैं जो मस्जिदों और मदरसों के स्कूलों में भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहरा पाते हैं.

आपको बता दें कि किसी और देश में ऐसा नहीं होता होगा जब नेताओं को कहना पड़े कि हमने मस्जिद में तिरंगा फहराया है. ऐसा लग रहा है कि ये मस्जिद नहीं बल्कि पाकिस्तान है और कपिल मिश्रा ने पाकिस्तान पर तिरंगा फहरा दिया है. आखिर ऐसा क्यों है.

ऐसा इसलिए है कि कट्टरपंथी मुस्लिमों का मानना है कि वे अल्लाह के अलावा किसी और के सामने सर नहीं झुकाते, किसी और को सलाम नहीं करते जबकि पाकिस्तान में ऐसा नहीं है, पाकिस्तान में 15 अगस्त को घर घर में वहां का झंडा फहराया जाता है, सभी मस्जिदों और सभी मदरसों में वहां का झंडा फहराया जाता है और सभी लोग झंडे को सलाम भी करते हैं.

अब आप सोचिये, जब पाकिस्तान के मुस्लिम अपने देश के झंडे को फहरा सकते हैं, उसे सलाम कर सकते हैं तो भारत के मुस्लिम भारत के राष्ट्रीय झंडे को क्यों सलाम नहीं करते, ऐसा इसलिए क्योंकि यहाँ पर कट्टरपंथ हावी है. अगर कोई तिरंगे को सलाम करता है तो उसके खिलाफ फतवा जाती हो जाता है और फतवा जारी करने वालों का कोई विरोध नहीं करता. इन फतवा जारी करने वालों की वजह से ही भारत में मुस्लिम धर्म बदनाम है और इसीलिए यहाँ पर अधिकतर लोग तिरंगे को सलाम नहीं करते और इसीलिए कपिल मिश्रा को मस्जिद में तिरंगा फहराने पर इतनी ख़ुशी मिल रही है.

किसी भी देश में ऐसा नहीं होता होगा जहाँ किसी भी स्कूल या मदरसे में उस देश का झंडा ना फहराया जाता हो, अगर अमेरिका, रूस या ऑस्ट्रेलिया में कोई मदरसा उस देश का झंडा ना फहराए तो उसे बर्दास्त नहीं किया जाता लेकिन भारत में इस वक्त जिहाद बढ़ता जा रहा है और कुछ राजनीतिक पार्टियाँ भी वोट बैंक के लिए ऐसे लोगों का समर्थन करती हैं और इसे अभिव्यक्ति की आजादी का नाम दे दिया जाता है, इसी वजह से मस्जिदों में तिरंगा फहराना इतनी बड़ी बात हो गयी है.

10 साल के बच्चे के साथ मदरसे के मौलवी ने किया कुकर्म, बचकर भाग रहा था लेकिन पकड़ा गया: पढ़ें

10 साल के बच्चे के साथ मदरसे के मौलवी ने किया कुकर्म, बचकर भाग रहा था लेकिन पकड़ा गया: पढ़ें

madarsa-teacher-ne-10-saal-ke-bache-ke-sath-kiya-rape-arrest

नई दिल्ली: दिल्ली के एक मदरसे के मौलवी अध्यापक द्वारा एक 10 साल के बच्चे के साथ रेप का मामला सामने आया है. बच्चे के साथ कुकर्म करने के बाद पकड़े जाने के डर से मौलवी भाग रहा था लेकिन पुलिस ने उसे फरीदाबाद में गिरफ्तार कर लिया.

जानकारी के अनुसार पलवल जिले के हथीन में रहने वाले एक माता पिता एक महीनें पहले अपने 10 साल के बच्चे को दिल्ली के शाहदरा के गीता कॉलोनी में स्थित एक मदरसे में छोड़ आये थे. रात में जब बच्चा सो रहा था तो मदरसे के मौलवी 25 वर्षीय मोहम्मद सव्वाद ने उसके साथ जबरजस्ती कुकर्म किया. 

बच्चे ने यह बात अपने माता पिता से बताई जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत की. पुलिस ने मेडिकल जांच के लिए भेजा तो रेप की पुष्टि हो गयी. रेप की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मौलवी के खिलाफ IPC की धारा 377 के तहत मामला दर्ज किया. इसके बाद मौलवी भाग रहा था लेकिन फरीदाबाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

रिपोर्ट के अनुसार मोहम्मद सव्वाद इससे पहले भी 10 साल की छात्रा का यौन शोषण कर चुका है और एक महीने जेल में भी रह चुका है, उस मामले में वो अभी भी जमानत पर है इसके बावजूद भी दूसरा कांड कर दिया.

Aug 10, 2017

सामने आया AAP के विधायकों का सबसे शर्मनाक VIDEO, देखिये, कैसे जानवर बन जाते हैं आपिए

सामने आया AAP के विधायकों का सबसे शर्मनाक VIDEO, देखिये, कैसे जानवर बन जाते हैं आपिए

aap-mla-nitin-tyagi-abuse-bja-mlas-in-delhi-assembly-viral-video

आम आदमी पार्टी को भारत की नक्सल पार्टी भी कहा जाता है क्योंकि जो काम जंगल में नक्सली करते हैं वही काम आम आदमी पार्टी दिल्ली विधानसभा में करते हैं और इनपर कोई कार्यवाही नहीं होती क्योंकि इनकी हरकतों को देखकर विधानसभा स्पीकर राम निवास गोयल अपनी ऑंखें बंद कर लेते हैं.

कई बार तो ऐसा होता है कि विधानसभा स्पीकर के होते हुए भी आम आदमी पार्टी के विधायक मार्शलों को बुलवाते हैं और बीजेपी विधायकों को उठाकर बहार फेंक देते हैं, कई बार विधानसभा स्पीकर के सामने ही वे बीजेपी नेताओं को अपशब्द बोलते रहते हैं और आज एक ऐसा VIDEO आया है जिसमें आप के विधायक बीजेपी विधायकों को गालियाँ दे रहे हैं और विधानसभा स्पीकर गालियाँ देने वाले विधायकों को जी जी कहकर बैठने के लिए बोल रहे हैं.

यह वीडियो कुछ ही दिन पहले का है इसमें AAP विधायक नितिन त्यागी बीजेपी विधायकों विजेंद्र गुप्ता, सिरसा को गालियाँ दे रहे हैं और वो भी विधानसभा स्पीकर के सामने. यह VIDEO देखकर लोगों को आम आदमी पार्टी पर बहुत गुस्सा आ रहा है और लोग AAP को अराजक, नक्सली और गुंडों की पार्टी बता रहे हैं.

Aug 8, 2017

दिन में गुजरात, रात में दिल्ली, बीजेपी और कांग्रेस में शुरू हुई अहमदी जंग पार्ट-2: पढ़ें

दिन में गुजरात, रात में दिल्ली, बीजेपी और कांग्रेस में शुरू हुई अहमदी जंग पार्ट-2: पढ़ें

congress-and-bjp-leaders-reached-ec-office-ahmed-patel-jung
फोटो के लिए ANI का आभार
गुजरात में दिन भर कांग्रेस और बीजेपी के बीच अहमदी जंग चलती रही, दिन में कांग्रेस पार्टी के नेता अहमद पटेल की जीत का दावा करते रहे लेकिन अचानक शाम को कांग्रेस ने वोटों की काउंटिंग रुकवा दी और चुनाव आयोग पहुँच गयी. अब दिल्ली में कांग्रेस और बीजेपी के बीच जंग चल रही है, सुबह अहमदी जंग पार्ट 1 थी तो शाम को अहमदी जंग पार्ट 2 चल रही है क्योंकि एक तरफ कांग्रेसी नेता चुनाव आयोग पहुँच रहे हैं तो दूसरी तरफ बीजेपी नेता भी दिल्ली चुनाव आयोग के दफ्तर पहुँच रहे हैं, यह सब सिर्फ इसलिए क्योंकि कांग्रेस पार्टी किसी भी तरह से अहमद पटेल को राज्य सभा पहुंचाना चाहती है और इसीलिए गुजरात के 44 कांग्रेसी विधायकों को बैंगलोर के एक होटल में कैद किया गया था.

कांग्रेस ने चुनाव आयोग के पास पहुंचकर दो कांग्रेसी विधायकों की क्रॉस वोटिंग को रद्द करने की गुहार लगाई है क्योंकि अगर ये वोट रद्द नहीं हुए तो अहमद पटेल चुनाव हार जाएंगे वहीँ बीजेपी ने भी चुनाव आयोग के दफ्तर में पहुंचकर कांग्रेस की याचिका रद्द करने की गुहार लगाई है क्योंकि वोटिंग प्रक्रियाओं के तहत हुई है और उसमें कुछ भी गलत नहीं हुआ है.

केंद्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी को जमकर फटकार लगाई है. उन्होंने कहा कि गुजरात राज्य सभा में कांग्रेस पार्टी जिस प्रकार का ड्रामा कर रही है वह अनुचित और फर्जी है क्योंकि सुबह तक ये लोग जीत का दावा कर रहे थे लेकिन शाम को रो रहे हैं और काउंटिंग में हंगामा कर रहे हैं.

रवि शंकर प्रसाद ने कांग्रेस से कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी से इस तरह के बर्ताव की उम्मीद नहीं की जा सकती. कांग्रेस निराधार आरोप लगा रही है, इन्होने सुबह तक कोई प्रदर्शन नहीं किया लेकिन जब हार दिख रही है तो हंगामा कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हमें चुनाव आयोग से मिलकर कांग्रेस की एप्लीकेशन को रद्द करने की मांग की है क्योंकि एक बार वोट होने के बाद कुछ नहीं किया जा सकता. वोटिंग प्रोसेस के तहत हुई है और कुछ भी गलत नहीं है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपनी हार देखकर आपा खो बैठी है.

Aug 6, 2017

मोदी सरकार की वजह से आतंकवादी और आतंकी संगठन बहुत प्रेशर में हैं: जीतेन्द्र सिंह

मोदी सरकार की वजह से आतंकवादी और आतंकी संगठन बहुत प्रेशर में हैं: जीतेन्द्र सिंह

pmo-minister-jitendra-singh-told-terrorists-org-in-more-pressure

आज PMO के राज्य मंत्री जीतेन्द्र सिंह ने आतंकवाद और कश्मीर पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि कश्मीर में आतंक और आतंकवाद को ख़त्म करने के लिए हमारी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है. अब कश्मीर में कोई बड़ी घटना नहीं होने पाएगी।

उन्होंने कहा कि  मोदी सरकार के कड़े एक्शन की वजह से आतंकवादी और आतंकी संगठन बहुत अधिक प्रेशर में हैं, जब से हमने अलगाववादियों के खिलाफ जांच शुरू की है तब से पॉजिटिव रिजल्ट देखने को मिल रहा है.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से पहले भी घुसपैठ होती रही होती रही है लेकिन जब से हमारी सरकार आयी है सीमा पर बहुत करारा जवाब  दिया जा रहा है और उसकी वजह से पाकिस्तान को बहुत नुकसान हो रहा है. एक तरफ हम पाकिस्तान को जवाब दे रहे हैं तो दूसरी तरफ अलगाववादियों के खिलाफ जांच कर रहे हैं, हमारी यह रणनीति आतंक को ख़त्म करने में बहुत कारगर साबित होगी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज कश्मीर पुलिस के DG मुनीर खान ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी जिसमें उन्होंने खुलासा किया था कि अमरनाथ हमले में पाकिस्तान के लशकरे-तैयबा के 3 आतंकी शामिल थे, जल्द ही तीनों को ख़त्म कर दिया जाएगा। आज आतंकियों का  साथ देने वाले तीन सहायक आतंकी पकडे गए हैं.
बड़ी साजिश का खुलासा: चीन से पैसे खाकर भारत और भारतीय सेना को नीचा दिखा रहे हैं AAP के नेता

बड़ी साजिश का खुलासा: चीन से पैसे खाकर भारत और भारतीय सेना को नीचा दिखा रहे हैं AAP के नेता

kapil-mishra-exposed-chinese-funding-to-aap-party-against-india

आप के ही विधायक और दिल्ली सरकार के पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्रा ने केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के खिलाफ बहुत बड़ा खतरनाक खुलासा किया है, उन्होंने कहा है कि आप पार्टी के नेता चीन जाते हैं और वहां से पैसे खाकर भारत और भारतीय सेना के खिलाफ जहर उगलते हैं, ये लोग भारत और भारतीय सेना को नीचा दिखाने और उनका मनोबल तोड़ने के लिए सोशल मीडिया पर भारत और भारतीय सेना के खिलाफ जहर उगल रहे हैं और चीन के सेनाधिकारियों के लेख और ब्लॉग शेयर कर रहे हैं खासकर चांदनी चौक से विधायक अलका लंबा चीन को लेकर काफी प्रतिक्रियाएं दे रही हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कपिल मिश्रा काफी पहले से ही आरोप लगा रहे हैं कि केजरीवाल के कई मंत्री और विधायक पिछले दो वर्षों से कई बार चीन गए और वहां पर जाकर देशद्रोही साजिश में शामिल हुए, उन्होंने बताया था कि इनके विधायक चीन जाते हैं और वहां के नेताओं से मिलकर भारत को बर्बाद करने की प्लानिंग करते हैं. अब कपिल मिश्रा की बातें सच साबित हो रही हैं क्योंकि चीन के नेताओं के लेख AAP नेता सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं ताकि भारत को कमजोर देश साबित किया जा सके. मतलब इन लोगों को अपने ही देश को कमजोर बताने में ख़ुशी हो रही है और आजकल अलका लंबा जोर शोर से चीनी नेताओं के बयानों को प्रचार कर रही हैं.

आज कपिल मिश्रा ने चांदनी चौक टू चाइना कनेक्शन का पूरा खुलासा ही कर दिया है और केजरीवाल से अलका लाम्बा को लेकर कर तीखे सवाल पूछे हैं.

कपिल ने केजरीवाल को लिखा ओपन लेटर

आज कपिल मिश्रा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को खुला ख़त लिखा है. उन्होंने कहा - पिछले कुछ दिनों से चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा लगातार चीन और भारत के बीच चल रहे विवाद पर प्रतिक्रियाएं दे रही हैं. उनके द्वारा सोशल मीडिया पर भारत सरकार और भारतीय सेना के स्टैंड पर ना केवल लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं बल्कि चीन की सेना के अधिकारियों के लेख और ब्लॉग भी शेयर किये जा रहे हैं जिसमें भारत को कमजोर देश बताया जा रहा है.

कपिल मिश्रा ने कहा - मैंने मई के महीनें में आम आदमी पार्टी के नेताओं द्वारा की जा रही विदेश यात्राओं पर सवाल उठाए थे, इस यात्राओं के उद्देश्य, इनकी फंडिंग और पूरा यात्रा विवरण माँगा गया था लेकिन आप तब से मौन हैं. मैंने तब भी कहा था कि आपके ख़ास लोगों के विदेश यात्राओं के डिटेल्स देश सामने आ गए तो आपको देश छोड़कर भागना पड़ेगा. आज जो सवाल मैं आपसे पूछने जा रहा हूँ उनके जवाब आपको मालूम हैं पर आप जवाब नहीं दे पाओगे, आपकी चुप्पी ही इन अपराधों में आपके शामिल होने का सबूत है.

कपिल मिश्रा ने कहा - अगर भारत देश के लिए ज़रा भी वफादारी बची है तो मेरे सवालों का जवाब तुरंत दीजिये- 
  • अलका लांबा पिछले पांच सालों में कितनी बाद चीन की यात्रा पर गयीं
  • अलका लाम्बा की चीन की यात्राओं का खर्चा किन चाइनीज कंपनियों ने उठाया और चाइनीज दूतावास ने कितनी बार उनसे सीधा संवाद किया एवं यात्राओं के लिए बुलाया.
  • अलका लांबा के चांदनी चौक तो चाइना कनेक्शन को आप भी जानते हो पर फिर भी लगातार उनके द्वारा सोशल मीडिया पर चाइना स्पॉन्सर्ड प्रोपेगेंडा करने से आपने क्यों नहीं रोका
  • क्या एक हिन्दुस्तानी होने के नाते आपको अपनी ही विधायक के देश विरोधी खेल को नहीं रोका
  • क्या एक हिन्दुस्तानी होने के नाते आपको अपनी ही विधायक के देश विरोधी खेल को नहीं रोकना चाहिए था?
  • आपके सलाहकार एवं सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त आशीष खेतान कितनी बार चीन गए और किन चाइनीज कंपनियों ने उनकी कितनी विदेश यात्राएं प्रायोजित की हैं.
  • मेरे कार्यकाल के दौरान भी अलका लांबा द्वारा चाइनीज कंपनियों के दिलिगेशन को मिलवाने के लिए बुलवाया गया और उन्होंने उन कंपनियों के माध्यम से मुझे भी चीन जाने का इनविटेशन दिया था जिसे मैंने अस्वीकार कर दिया था.
कपिल मिश्रा ने कहा कि - यहां एक बात और ध्यान दिलाना चाहता हूँ कि कुछ दिन पहले हुए अमरनाथ यात्रियों पर हमले पर भी अलका लांबा और अमानतुल्लाह खान ने जो ट्वीट किए थे वो सीधे सीधे अंतराष्ट्रीय मंच पर भारत को कमजोर करने वाला बयान था।

कपिल मिश्रा ने कहा - आपको एक बार फिर दुबारा चेतावनी दे रहा हूँ, आम आदमी पार्टी के सारे नेताओं की विदेश यात्राओं के डिटेल्स तुरंत सार्वजनिक कीजिये। ये राज ज्यादा दिन आप छिपा नहीं पाएंगे। ऐसा लगभग स्पष्ट है कि इनमे से कई यात्राएं देश विरोधी एजेंडे के लिए की गई और इनके डिटेल्स देने से जिस प्रकार से आप बचने की कोशिश कर रहे हैं उससे लगता है कि आपको सबकुछ मालूम है।

ये देश का सवाल है। देश एक साथ दो मोर्चो पर लड़ रहा हैं। इन सवालों पर आपकी चुप्पी देश के लिए घातक हैं। (आपका, कपिल मिश्रा)
सच साबित हो रहा है कपिल मिश्रा का दावा, तो अपने विधायकों को इसलिए चीन भेजते हैं केजरीवाल: पढ़ें

सच साबित हो रहा है कपिल मिश्रा का दावा, तो अपने विधायकों को इसलिए चीन भेजते हैं केजरीवाल: पढ़ें


कपिल मिश्रा काफी पहले से ही आरोप लगा रहे हैं कि केजरीवाल के कई मंत्री और विधायक पिछले दो वर्षों से कई बार चीन गए और वहां पर जाकर देशद्रोही साजिश में शामिल हुए, उन्होंने बताया था कि इनके विधायक चीन जाते हैं और वहां के नेताओं से मिलकर भारत को बर्बाद करने की प्लानिंग करते हैं. अब कपिल मिश्रा की बातें सच साबित हो रही हैं क्योंकि चीन के नेताओं के लेख AAP नेता सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं ताकि भारत को कमजोर देश साबित किया जा सके. मतलब इन लोगों को अपने ही देश को कमजोर बताने में ख़ुशी हो रही है और आजकल अलका लंबा जोर शोर से चीनी नेताओं के बयानों को प्रचार कर रही हैं.

आज कपिल मिश्रा ने चांदनी चौक टू चाइना कनेक्शन का पूरा खुलासा ही कर दिया है और केजरीवाल से अलका लाम्बा को लेकर कर तीखे सवाल पूछे हैं.

कपिल ने केजरीवाल को लिखा ओपन लेटर

आज कपिल मिश्रा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को खुला ख़त लिखा है. उन्होंने कहा - पिछले कुछ दिनों से चांदनी चौक से विधायक अलका लांबा लगातार चीन और भारत के बीच चल रहे विवाद पर प्रतिक्रियाएं दे रही हैं. उनके द्वारा सोशल मीडिया पर भारत सरकार और भारतीय सेना के स्टैंड पर ना केवल लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं बल्कि चीन की सेना के अधिकारियों के लेख और ब्लॉग भी शेयर किये जा रहे हैं जिसमें भारत को कमजोर देश बताया जा रहा है.

कपिल मिश्रा ने कहा - मैंने मई के महीनें में आम आदमी पार्टी के नेताओं द्वारा की जा रही विदेश यात्राओं पर सवाल उठाए थे, इस यात्राओं के उद्देश्य, इनकी फंडिंग और पूरा यात्रा विवरण माँगा गया था लेकिन आप तब से मौन हैं. मैंने तब भी कहा था कि आपके ख़ास लोगों के विदेश यात्राओं के डिटेल्स देश सामने आ गए तो आपको देश छोड़कर भागना पड़ेगा. आज जो सवाल मैं आपसे पूछने जा रहा हूँ उनके जवाब आपको मालूम हैं पर आप जवाब नहीं दे पाओगे, आपकी चुप्पी ही इन अपराधों में आपके शामिल होने का सबूत है.

कपिल मिश्रा ने कहा - अगर भारत देश के लिए ज़रा भी वफादारी बची है तो मेरे सवालों का जवाब तुरंत दीजिये- 
  • अलका लांबा पिछले पांच सालों में कितनी बाद चीन की यात्रा पर गयीं
  • अलका लाम्बा की चीन की यात्राओं का खर्चा किन चाइनीज कंपनियों ने उठाया और चाइनीज दूतावास ने कितनी बार उनसे सीधा संवाद किया एवं यात्राओं के लिए बुलाया.
  • अलका लांबा के चांदनी चौक तो चाइना कनेक्शन को आप भी जानते हो पर फिर भी लगातार उनके द्वारा सोशल मीडिया पर चाइना स्पॉन्सर्ड प्रोपेगेंडा करने से आपने क्यों नहीं रोका
  • क्या एक हिन्दुस्तानी होने के नाते आपको अपनी ही विधायक के देश विरोधी खेल को नहीं रोका
  • क्या एक हिन्दुस्तानी होने के नाते आपको अपनी ही विधायक के देश विरोधी खेल को नहीं रोकना चाहिए था?
  • आपके सलाहकार एवं सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त आशीष खेतान कितनी बार चीन गए और किन चाइनीज कंपनियों ने उनकी कितनी विदेश यात्राएं प्रायोजित की हैं.
  • मेरे कार्यकाल के दौरान भी अलका लांबा द्वारा चाइनीज कंपनियों के दिलिगेशन को मिलवाने के लिए बुलवाया गया और उन्होंने उन कंपनियों के माध्यम से मुझे भी चीन जाने का इनविटेशन दिया था जिसे मैंने अस्वीकार कर दिया था.
कपिल मिश्रा ने कहा कि - यहां एक बात और ध्यान दिलाना चाहता हूँ कि कुछ दिन पहले हुए अमरनाथ यात्रियों पर हमले पर भी अलका लांबा और अमानतुल्लाह खान ने जो ट्वीट किए थे वो सीधे सीधे अंतराष्ट्रीय मंच पर भारत को कमजोर करने वाला बयान था।

कपिल मिश्रा ने कहा - आपको एक बार फिर दुबारा चेतावनी दे रहा हूँ, आम आदमी पार्टी के सारे नेताओं की विदेश यात्राओं के डिटेल्स तुरंत सार्वजनिक कीजिये। ये राज ज्यादा दिन आप छिपा नहीं पाएंगे। ऐसा लगभग स्पष्ट है कि इनमे से कई यात्राएं देश विरोधी एजेंडे के लिए की गई और इनके डिटेल्स देने से जिस प्रकार से आप बचने की कोशिश कर रहे हैं उससे लगता है कि आपको सबकुछ मालूम है।

ये देश का सवाल है। देश एक साथ दो मोर्चो पर लड़ रहा हैं। इन सवालों पर आपकी चुप्पी देश के लिए घातक हैं। (आपका, कपिल मिश्रा)
3 लोग महिला को किडनैप करके कार में कर रहे थे बलात्कार, लोगों ने सुनी चीख-पुकार तो..

3 लोग महिला को किडनैप करके कार में कर रहे थे बलात्कार, लोगों ने सुनी चीख-पुकार तो..

delhi-mangolpuri-news-three-youth-molesting-women-beaten-by-mob

दिल्ली में महिला से छेड़छाड़ का एक मामला सामने आया है, यह घटना मंगोलपुरी की है, तीन लोग एक महिला को किडनैप करके उसके साथ कार में छेड़छाड़ कर रहे थे, तीनों को महिला की इज्जत लूटने की कोशिश कर रहे थे लेकिन कार में उसकी चीख पुकार सुनकर दो युवाओं ने कार का पीछा किया.

मंगोलपुरी इलाके में दोनों युवाओं ने कार को रुकवाकर महिला को बाहर निकलवाया, कुछ देर बहस होने के बाद वहां पर कुछ स्थानीय लोग भी आ गए और तीनों आरोपियों की धुनाई शुरू कर दी. इसके बाद महिला ने भी आप बीती सुनाई जिसे सुनकर लोगों का गुस्सा और बढ़ गया, इसके बाद तीनों को बहुत पीटा गया.

आरोपियों को पीटने के साथ साथ उनकी कार को भी छतिग्रस्त करके आग लगा दी गयी. कुछ देर बाद पुलिस आयी और तीनों को पकड़ने की कोशिश की लेकिन एक बचकर भाग गया.

पुलिस के अनुसार पकडे गए दोनों आरोपी केरल के हैं और उन्होंने महिला को ऑफिस से लौटते वक्त मंगोलपुरी में किडनैप कर लिया था. पुलिस ने महिला को अस्पताल में भर्ती करा दिया है और उसे मेडिकल जांच के लिए भेज दिया गया है. तीनों आरोपियों के खिलाफ FIR भी दर्ज कर ली गयी है.

Jul 31, 2017

केजरीवाल और उनके रिश्तेदार के फर्जी बिल घोटाले की आज से कोर्ट में शुरू होगी सुनवाई, पढ़ें

केजरीवाल और उनके रिश्तेदार के फर्जी बिल घोटाले की आज से कोर्ट में शुरू होगी सुनवाई, पढ़ें

kejriwal-farji-bill-scam-with-relatives-court-will-hear-case-today

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के एक और घोटाले की आज से सुनवाई होने वाली है, उन पर अपने साढू सुरेन्द्र कुमार बंसल के साथ मिलकर फर्जी बिल घोटाले का आरोप है, आरोप यह है कि उन्होंने अपने साढू सुरेन्द्र बंसल को दिल्ली सरकार के PWD विभाग में कई ठेके दिलवाए और उनसे फर्जी बिल लेकर दिल्ली सरकार से करोड़ों रुपये उन्हें दे दिए.

जब सुरेन्द्र बंसल के काम की पड़ताल की गई तो पता चला कि जो सड़क बनाने के लिए करोड़ों रुपये लिए गए हैं वो सड़क बनी ही नहीं, जो नाला बनाने के लिए करोड़ों रुपये दिए गए हैं वो नाला बना ही नहीं, ठीक इसी तरह से कई काम किये बिना ही फर्जी बिल बनाकर उन्होंने केजरीवाल को दे दिए और केजरीवाल ने उन्हें करोड़ों रुपये उठाकर दे दिए.

केजरीवाल के फर्जी बिल घोटाले की शुरुवाती जांच के बाद एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने केजरीवाल,  उनके साढू सुरेन्द्र कुमार बंसल और एक अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है.

केजरीवाल के खिलाफ यह शिकायत एक सामाजिक संस्था के कार्यकर्त्ता राहुल शर्मा ने लगाए हैं, कोर्ट ने आज सुनवाई के साथ साथ ACB से स्टेटस रिपोर्ट भी मांगी है.

Jul 29, 2017

राम जेठमलानी ने केजरीवाल को लिखा पत्र जेटली को 'ये अपशब्द' आपने बोलने को कहा था: पढ़ें

राम जेठमलानी ने केजरीवाल को लिखा पत्र जेटली को 'ये अपशब्द' आपने बोलने को कहा था: पढ़ें

ram-jethmalani-wrote-letter-to-kejriwal-he-used-crook-for-jaitley

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के लिए आज एक और बुरी खबर है, अरुण जेटली मानहानि मामले में उनके वकील राम जेठमलानी ने आज उन्हें एक पत्र लिखकर कहा है कि आपके ही कहने पर मैंने अरुण जेटली के खिलाफ अपशब्द 'Crook यानी धूर्त' का इस्तेमाल किया था. इससे पहले राम जेठमलानी ने केजरीवाल को झूठा इंसान बताया था और उनका केस लड़ने से मना कर दिया था.

राम जेठमलानी ने केजरीवाल को लिखे अपने पत्र में कहा है कि जब अरुण जेटली ने आप पर आपराधिक मानहानि का केस किया था तो आपने मेरी सर्विस लेना चाही थी. आप याद कीजिये, आपने अरुण जेटली के खिलाफ कितनी बार Crook शब्द का इस्तेमाल किया था, आपने कम से कम 100 बार मुझसे कहा था कि आप इस Crook को सबक सिखाना चाहते हैं. आपने मुझसे कुछ सप्ताह पहले मुलाकात भी करनी कम कर दी लेकिन आपके साथी राघव चड्ढा और वकील अनुपम जयसवाल मुझसे मिलते रहे और मुझे जानकारी उपलब्ध कराते रहे.

उन्होंने कहा कि कानून कहता है कि अगर किसी वकील ने मुवक्किल की तरफ से सामने वाले के खिलाफ अपशब्द का इस्तेमाल करता है तो उसका जिम्मेदार मुवक्किल होता है जबतक की वह कोर्ट में खुद को निर्दोष ना साबित कर दे.

ram-jethmalani-letter-to-arvind-kejriwal

Jul 28, 2017

अब मोदी के खिलाफ कुछ नहीं बोलेंगे केजरीवाल, अरुण जेटली से भी मांगेंगे माफी: पढ़ें क्यों

अब मोदी के खिलाफ कुछ नहीं बोलेंगे केजरीवाल, अरुण जेटली से भी मांगेंगे माफी: पढ़ें क्यों

arvind-kejriwal-will-apologies-to-pm-modi-and-arun-jaitley-exposed

आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को पूरी तरह से खामोश कर दिया है, पहले वे ट्विटर से ही सरकार चलाते थे और दिन भर मोदी के खिलाफ बयान देते रहते थे लेकिन आज कपिल मिश्रा ने उनके बारे में एक और खुलासा कर दिया है.

कपिल मिश्रा के अनुसार केजरीवाल हाल ही में एक बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री से मिले, उन्होने बीजेपी नेता से फ़रियाद करते हुए कहा कि अब मैं ना तो मोदी के खिलाफ कुछ बोलूँगा और ना ही कोई गलत बयान दूंगा, उनकी बात सुनकर बीजेपी नेता ने कहा कि आपकी बात पर मोदी जी ध्यान भी नहीं देते हैं.

इसके बाद केजरीवाल ने उनसे कहा कि मैं अरुण जेटली से भी माफी मांग लूँगा और अपना लिखित माफीनामा जारी करूँगा. कपिल मिश्रा ने कहा है कि केजरीवाल बीजेपी मंत्री से मिलने के बाद उनके सामने हाथ जोड़ लिए और बीजेपी से दोस्ती करने की बात की.

kapil-mishra-exposed-arvind-kejriwal

Jul 26, 2017

केजरीवाल की सरेआम बेइज्जती, उनके वकील रामजेठमलानी ने ही उन्हें बता दिया 'झूठा इंसान'

केजरीवाल की सरेआम बेइज्जती, उनके वकील रामजेठमलानी ने ही उन्हें बता दिया 'झूठा इंसान'

arvind-kejriwal-is-a-lier-told-his-lawyer-ram-jethmalani

आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की सरेआम बेइज्जती हो गयी है, उनके वकील राम जेठमलानी ने ही उन्हें झूठा इंसान बता दिया है. आज तक ऐसा नहीं हुआ कि किसी वकील ने अपने क्लाइंट को ही झूठा बताया है लेकिन आज ऐसा हो गया.

राम जेठमलानी को देश के सबसे बड़े वकीलों में से एक माना जाता है, वे अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में देश के कानून मंत्री भी रहे हैं, हालाँकि मोदी सरकार के आने के बाद उनके बीजेपी से रिश्ते खराब हो गए हैं और इसी वजह से उन्होंने अरुण जेटली के खिलाफ केजरीवाल का केस लड़ने का फैसला किया था. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने केजरीवाल और अन्य आप नेताओं पर आपराधिक मानहानि का केस दायर किया है और केजरीवाल की तरफ से राम जेठमलानी उनकी पैरवी कर रहे हैं.

आज वकील राम जेठमलानी ने केजरीवाल को झूठा आदमी बताते हुए उनका केस लड़ने से मना कर दिया. उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने मुझे अदालत में बोलने के इंस्ट्रक्शन दिए थे लेकिन आज वे कह रहे है कि मैंने कोई इंस्ट्रक्शन नहीं दिए, वे एक झूठे आदमी हैं.

क्यों हुई केजरीवाल और रामजेठमलानी में खटपट

आपको बता दें कि अरुण जेटली ने पहले केजरीवाल पर ही मानहानि का मुकदमा किया था लेकिन एक दिन कोर्ट में बहस के दौरान राम जेठमलानी ने अरुण जेटली पर पर्सनल हमला कर दिया, इसके बाद अरुण जेटली ने उनसे पूछा - आप खुद से मुझपर आरोप लगा रहे हैं या अपने क्लाइंट की तरफ से तो राम जेठमलानी ने कहा कि हां मैं अपने क्लाइंट की तरफ से आपको ऐसा बोल रहा हूँ, इसके बाद अरुण जेटली ने उनपर एक और मानहानि का केस दर्ज करवा दिया. अब राम जेठमलानी चाहते हैं कि दूसरे मानहानि का पैसा केजरीवाल भरें लेकिन केजरीवाल कह रहे हैं कि मैंने उन्हें ऐसा करने के लिए नहीं बोला था इसलिए यह पैसे रामजेठमलानी को भरने होंगे.