Showing posts with label Bihar. Show all posts
Showing posts with label Bihar. Show all posts

24 June, 2017

Nitish Kumar का धमाकेदार बयान, बिहार की बेटी Meira Kumar को हराने के लिए विपक्ष ने उतारा है

Nitish Kumar का धमाकेदार बयान, बिहार की बेटी Meira Kumar को हराने के लिए विपक्ष ने उतारा है

nitish-kumar-said-bihar-ki-beti-meira-kumar-nominated-to-lose

Patna (Bihar), 23 June: बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के चीफ Nitish Kumar ने एक धमाकेदार बयान देते हुए कहा है कि विपक्ष ने Bihar Ki Beti Meira Kumar को सिर्फ हराने के लिए राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है.

नीतीश कुमार ने कहा कि मैं Meira Kumar की बहुत इज्जत करता हूँ लेकिन Bihar Ki Beti को विपक्ष ने सिर्फ हराने के लिए मैदान में उतारा है, मीडिया से बातचीत करते हुए नीतीश कुमार ने यह बात कही.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नीतीश कुमार ने राष्ट्रपति पद के लिए NDA के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को मैदान में उतारा है जबकि विपक्ष ने Bihar Ki Beti का ख़िताब देकर Meira Kumar को मैदान में उतारा है, अब विपक्षी पार्टियाँ नीतीश कुमार से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने की गुराजिश की है, लालू यादव ने इसे नीतीश कुमार की ऐतिहासिक भूल बताया है हालाँकि नीतीश कुमार ने अपने फैसले को अटल बताया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लालू यादव से विवाद के बावजूद भी आज नीतीश कुमार उनके द्वारा आयोजित इफ्तार पार्टी में शामिल हुए और खाना भी खाया.

22 June, 2017

लालू यादव बोले, नीतीश कुमार ने हमें धोखा दे दिया

लालू यादव बोले, नीतीश कुमार ने हमें धोखा दे दिया

lalu-yadav-told-nitish-kumar-cheated-us-in-president-election
New Delhi, 22 June: लालू यादव ने नीतीश कुमार को महागठबंधन को धोखा देने का आरोप लगाया है, लालू यादव ने आज कहा कि पहले नीतीश कुमार ने राष्ट्रपति पद के लिए महागठबंधन की बात मानने का वादा किया था लेकिन उन्होंने अचानक हमें धोखा देते हुए रामनाथ कोविंद को समर्थन दे दिया.

लालू यादव ने कहा कि हमने तय किया है कि बिहार की बेटी मीरा कुमार को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनायेंगे लेकिन नीतीश कुमार ने NDA को समर्थन दे दिया, अब उन्होंने किस वजह से ये फैसला लिया है, ये हमें नहीं पता, उन्होंने हम लोगों को बिना बताये NDA को समर्थन दिया है.

लालू यादव ने यह भी कहा कि कल वह नीतीश कुमार से मिलेंगे और उनसे अपने फैसले पर पुनर्विचार करने को कहेंगे, अगर उन्होंने हमारी बात नहीं मानी तो यह उनकी ऐतिहासिक गलती होगी.
जानकारी के लिए बता दें कि कांग्रेस और विपक्षियों  ने भी राष्ट्रपति चुनावों में पूरी ताकत से उतरने का फैसला किया है इसलिए दलित के मुकाबले में उन्होंने भी दलित नेता को राष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है. आज कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों की बैठक में पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार को राष्ट्रपति उम्मीदवार चुना गया, NDA के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की तरह मीरा कुमार भी दलित समाज से हैं इसलिए यह मुकाबला दलित बनाम दलित हो गया है.

जानकारी के लिए बता दें कि कांग्रेस और विपक्ष ने मीरा कुमार को सिर्फ इसलिए राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया है ताकि उनकर दलित विरोधी होने का इल्जाम ना लगे क्योंकि NDA के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद दलित हैं, अगर कांग्रेस उनका विरोध करती तो उनपर दलित विरोधी होने का आरोप लगता इसलिए मीरा कपूर को बहुत चालाकी से मैदान में उतारा गया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर कांग्रेस ने पहले ही मीरा कुमार को मैदान में उतार दिया होता तो बीजेपी को हर हाल में उनका समर्थन करना पड़ता वरना बीजेपी पर एंटी दलित होने का आरोप लगता लेकिन बीजेपी ने अपना उम्मीदवार पहले खड़ा करके बाजी मार ली, इस वक्त NDA के पास 51 फ़ीसदी वोट हैं, अगर तमिलनाडु की AIAMDK भी NDA को समर्थन दे देगी तो रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति बन जाएंगे वरना मीरा कुमार के भी राष्ट्रपति चुने जाने के चांसेस होंगे क्योंकि NDA की सहयोगी शिवसेना पर भरोसा नहीं किया जा सकता. हालाँकि शिवसेना ने रामनाथ कोविंद को समर्थन देने का भरोसा दिया है.

मीरा कुमार का परिचय
  • मीरा कुमार बिहार के महान क्रन्तिकारी बाबू जगजीवन राम की पुत्री हैं
  • पूर्व लोकसभा स्पीकर रह चुकी हैं'
  • 5 बार कांग्रेस पार्टी की तरह से बिहार के सासाराम से सांसद रह चुकी हैं
  • कांग्रेस सरकार में केंद्रीय मंत्री भी रह चुकी हैं
  • कई देशों में राजदूत रह चुकी हैं

20 June, 2017

लालू यादव की बेटे, बेटी और दामाद के बुरे दिन शुरू, IT विभाग ने सीज की सबकी बेनामी संपत्तियां

लालू यादव की बेटे, बेटी और दामाद के बुरे दिन शुरू, IT विभाग ने सीज की सबकी बेनामी संपत्तियां

 lalu-yadav-son-daughter-and-damad-benami-properties

New Delhi, 20 June: लालू यादव के बेटे, बेटी और दामाद के बुरे दिन शुरू हो गए हैं क्योंकि IT विभाग द्वारा बार बार पूछताछ के लिए बुलाने पर भी ये लोग नहीं आये, इसके बाद इनकम टैक्स विभाग ने तीनों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए इनकी बेनामी संपत्तियां सीज कर दीं. लालू यादव की बेटी मीसा भारती, उनके पति और लालू यादव के दामाद शैलेन्द्र यादव और लालू के बेटे और बिहार के उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की बेनामी संपत्तियों को सीज किया गया है.

इससे पहले इनकम टैक्स विभाग ने मीसा भारती और उनके पति शैलेन्द्र कुमार को पूछताछ के लिए कई बार समन जारी क्या लेकिन दोनों पूछताछ के लिए नहीं आये तो दोनों पर 10-10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मीसा भारती और उनके पति शैलेन्द्र यादव पर 10 हजार करोड़ रुपये की Money Laundering Racket (यानी काला धन सफ़ेद करने वाले गिरोह) में शामिल होने का आरोप है, मीसा भारती के CA राकेश अग्रवाल पहली ही गिरफ्तार किये जा चुके हैं और उन्होंने ही मीसा भारती और उनके पति के काले कारनामों को उगला है. अब मीसा भारती और उनके पति का बचना मुश्किल है.

19 June, 2017

नीतीश कुमार बोले, रामनाथ कोविंद जी राष्ट्रपति बनें मेरे लिए सबसे ख़ुशी की बात लेकिन समर्थन..

नीतीश कुमार बोले, रामनाथ कोविंद जी राष्ट्रपति बनें मेरे लिए सबसे ख़ुशी की बात लेकिन समर्थन..

biharcm-nitish-kumar-happy-for-ramnath-kovind-president-candidate

New Delhi, 19 June: भारतीय जनता पार्टी की तरफ से बिहार के गवर्नर Ram Nath Kovind का नाम राष्ट्रपति पद के लिए प्रस्तावित किया गया है, किसी को आशा नहीं थी कि एकाएक नए चेहरे को राष्ट्रपति पद के लिए चुना जाएगा क्योंकि इससे पहले सुषमा स्वराज और लाल कृष्ण आडवाणी का नाम आगे चल रहा था लेकिन बीजेपी की संसदीय बोर्ड की मीटिंग में Ram Nath Kovind का नाम प्रोपोज किया गया जिसे सभी ने मंजूर भी कर लिया, माना जा रहा है कि राष्ट्रपति पद के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने ही उनका नाम सुझाया है.

रामनाथ कोविंद बिहार के राज्यपाल हैं इसलिए जैसे ही उनका नाम राष्ट्रपति पद के लिए आगे आया बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तुरंत उनसे मिलने के लिए राजभवन गए और उन्हें बधाई दी, बाद में मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा - रामनाथ जी राष्ट्रपति बनें मेरी लिए इसे बढ़कर ख़ुशी की बात क्या हो सकती है लेकिन जहाँ तक समर्थन का सवाल है वो तो महागठबंधन की बैठक के बाद ही तय होगा.

नीतीश कुमार ने कहा कि रामनाथ कोविंद जी ने बिहार के लिए बहुत काम किया है और बिहार सरकार के साथ बढ़िया रिश्ता बनाकर रखा है, इसलिए उनका नाम राष्ट्रपति पद के लिए आगे आना मेरे लिए ख़ुशी की बात है लेकिन समर्थन के बारे में कहना जल्दबाजी होगी.

Ram Nath Kovind का परिचय
  • वर्तमान में बिहार के राज्यपाल हैं (8 अगस्त 2015 से)
  • बीजेपी की तरफ से 12 साल तक (1994-2000 and 2000-2006) राज्यसभा सांसद रह चुके हैं 
  • पेशे से वकील हैं और दिल्ली में प्रैक्टिस करते हैं
  • बीजेपी दलित मोर्चा के अध्यक (1998-2002) रह चुके हैं
  • आल इंडिया कोली समाज के अध्यक्ष रह चुके हैं
  • बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रह चुके हैं
  • Ram Nath Kovind का जन्म 1 अक्टूबर 1945 को कानपुर में हुआ
  • हिन्दू धर्म को मानते हैं

15 June, 2017

BSEB 10th Result 2017: आज आएगा बिहार 10th बोर्ड का रिजल्ट, यहाँ पर देखें

BSEB 10th Result 2017: आज आएगा बिहार 10th बोर्ड का रिजल्ट, यहाँ पर देखें

bihar-board-10th-result-2017-to-declare-today-on-biharboard-ac-in

Patna: आज बिहार बोर्ड के 10वीं के छात्रों का इन्तजार भी समाप्त हो रहा है, आज दोपहर में बिहार बोर्ड के 10वीं परीक्षा के नतीजे घोषित किये जाएंगे. बोर्ड ने रिजल्ट के लिए 15 जून की तारीख घोषित की थी इसलिए छात्र सुबह से ही रिजल्ट के इन्तजार में बैठे हैं.

परीक्षा देने वाले सभी छात्र अपना रिजल्ट देखने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें -

छात्र अपना रिजल्ट अपने ईमेल और मोबाइल पर पाने के लिए एडवांस में रजिस्टर भी कर सकते हैं, ऊपर लिंक पर क्लिक करने पर एक पेज खुलेगा जिसमें आप Roll Code में अपना रोल नंबर डालें, Name में अपना नाम लिखें, Mobile No. की जगह अपना मोबाइल नंबर लिखें, Email की जगह अपना Email लिखें. इसके बाद एक कोड दिखेगा जिसे अगले बॉक्स में लिखकर Go पर क्लिक कर दें, आपका रिजल्ट आपके मोबाइल और Email पर भेज दिया जाएगा.
bihar-board-10th-result-2017-bseb
लालू यादव ने PM MODI को दिया ये चैलेंज: पढ़ें क्या

लालू यादव ने PM MODI को दिया ये चैलेंज: पढ़ें क्या

lalu-yadav-said-pm-modi-never-successful-in-capturing-bihar

Patna: चारा घोटाले के गुनाहगार लालू प्रसाद यादव ने प्रधानमंत्री मोदी को चैलेंज देते हुए कहा है कि वे ना तो महागठबंधन को तोड़ पाएंगे और ना ही बिहार पर कब्ज़ा कर पाएंगे क्योंकि जिस प्रकार मृत्यु सच है वैसे ही हमारा महागठबंधन सत्य है. लालू यादव ने कहा कि बंगाल का कब्ज़ा करने के लिए बीजेपी वाले ट्रिक अपना रहे हैं लेकिन वह ट्रिक बिहार में काम नहीं करेगी क्योंकि यहाँ पर हमारा कांग्रेस, JDU के साथ महागठबंधन है.

लालू यादव ने बीजेपी नेता सुशील मोदी पर बरसते हुए कहा कि मेरे दामाद शैलेश यादव को बेनामी संपत्ति मामले में बदनाम करने की कोशिश की जा रही है जिसमें ये लोग कामयाब नहीं हो पाएँगे.

उन्होंने कहा कि सुशील मोदी वही बोल रहे हैं जैसा दिल्ली से उन्हें आदेश मिल रहा है, ना मैं मंत्री हूँ और ना ही मेरी पति राबड़ी देवी मंत्री हैं तो हमें इस मामले में क्यों घसीटा जा रहा है, हर चीज नेट पर उपलब्ध है, बीजेपी वाले केवल जनता के बीच हमारी छवि खराब करना चाहते हैं, विपक्ष के लोग और उनका परिवार भी घोटालों में शामिल रहे हैं लेकिन उसपर कभी भी बात नहीं होती. मुझे न्यायिक व्यवस्था में भरोसा है और हमें न्याय मिलेगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इनकम टैक्स ने इसी हप्ते लालू यादव के दामाद और उनकी बेटी मीसा भारती को बेनामी संपत्ति मामले में पूछताछ के लिए तलब किया था लेकिन दोनों ने इनकम टैक्स का बायकाट कर दिया जिसके बाद दोनों के खिलाफ 10000 रुपये जुर्माना लगा दिया गया. मीसा भारती के चार्टर्ड अकाउंटेंट राकेश अग्रवाल पहले ही पुलिस गिरफ्त में हैं जिन्होंने मीसा भारती की पोल पट्टी खोल दी है.

27 May, 2017

पढ़ें: मोदी से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने क्या कहा?

पढ़ें: मोदी से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने क्या कहा?

nitish-kumar-meet-pm-narendra-modi-thereafter-talk-to-media
New Delhi: आज अपने साथियों को जलता-मचलता छोड़कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गंगा सफाई के बहाने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की और उनसे बहुत ही गर्मजोशी के साथ बात की, मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने प्रेस को संबोधित किया. इससे पहले नीतीश कुमार मोदी द्वारा मौरीसस के प्रधानमंत्री के लिए आयोजित लंच में भी सिरकत की.

मोदी से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि मौरीसस की कुल आबादी का 50 फ़ीसदी से भी अधिक लोगों का मूल बिहार से है इसलिए हमारा उनसे एक भावनात्मक लगाव है, इसलिए जब हमारे प्रधानमंत्री ने मौरीसस के प्रधानमंत्री के सम्मान में लंच का आयोजन किया और मुझे न्योता दिया तो मैंने भी सोचा कि यहाँ पर आना चाहिए.

नीतीश कुमार ने कहा की जब हम यहाँ आ रहे थे तो हमने सोचा कि प्रधानमंत्री मोदी के सामने बिहार की जो सबसे ज्वलंत समस्या है, जो गंगा नदी की अविरलता के वजह से कटाव के कारण जो बुरा प्रभाव पड़ रहा है, उसकी चर्चा कर लेते हैं. उन्होंने कहा कि इस सवाल को हम लगातार उठा रहे हैं और पिछले वर्ष बाढ़ के बाद हम अगस्त महीने में माननीय प्रधानमंत्री से मिले थे और उसके पहले भी गंगा बेसिन मॉनिटरिंग कमेटी के गठन के बाद हमने तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के समक्ष भी इस सवाल को उठाया था.

नीतीश कुमार ने कहा कि अभी जो समस्या है, सिल्ट की समस्या और भी गंभीर होती जा रही है और इस बार भी बाढ़ का खतरा है, इसलिए हमने सोचा कि मोदी से इस समस्या की चर्चा करते हैं और इस मामले में क्या काम हुआ है इसकी जानकारी ले लेते हैं. हमने मोदी को इस विषय मोदीजी को एक विस्तृत पत्र भी दिया है और कहा कि कमेटी में को भी शामिल है उसनें बिना फील्ड विजिट किये हुए रिपोर्ट बना दी है. उन्हें व्यावहारिक रूक से जाकर जब तक गंगा का सर्वे नहीं करेंगे वे लोग मामले की गंभीरता को नहीं समझेंगे.

नीतीश कुमार ने कहा कि मेरा मोदीजी से आग्रह है कि 10 तारीख को मानसून के तुरंत बाद गंगा नदी में पाने बढ़ जाएगा इसलिए सिल्ट की समस्या नहीं दिखेगी इसलिए हमें प्रधानमंत्री मोदी से विशेष तौर पर कहा है कि 10 तारीख से पहले एक विशेषज्ञों की टीम जाय और वो सीधे गंगा नदी की स्थिति को देखे, उसका आकलन करे और उसके बाद सिल्ट मैनेजमेंट पालिसी के बारे में विचार करें.

नीतीश कुमार ने कहा कि जब हम सिल्ट मैनेजमेंट की बात करते हैं तो इसका मतलब सिल्ट को हटाना नहीं है बल्कि गंगा की धार के हिसाब से सिल्ट जानी चाहिए, फरक्का में धान की खेती हो रही है, कई कमेटियों ने धान की स्थिति और उसकी कमियों के बारे में कहा है, इन सब चीजों को तत्काल देखना बहुत जरूरी है वरना इस वर्ष भी बाढ़ आएगी और पिछले पांच वर्षों में बाढ़ से जो तटवर्ती इलाकों में कटाव होता है और बाढ़ का दुष्प्रभाव होता है उससे बचाव के लिए पिछले पांच वर्षों में 1000 करोड़ से भी अधिक राज्य सरकार को खर्च करना पड़ा, इन सब बातों को हमने आज माननीय प्रधानमंत्री मोदी के सामने रखा है और इसके अलावा इस मामले में विस्तृत दस्तावेजों को उनके सुपुर्द किया है.

नीतीश कुमार ने अंत में कहा कि मैं इस बात के लिए आदरणीय प्रधानमंत्री मोदी जी का धन्यवाद देता हूँ, वे 10 जून से पहले विशेषज्ञों की टीम को भेजने पर राजी हो गए हैं, इसके अलावा उन्होने सम्बंधित विभागों को जल्द से जल्द कार्यवाही के आदेश दिए हैं.

26 May, 2017

कल नीतीश कुमार करेंगे MODI से मुलाकात, बोले, न्योता आया है तो जाऊँगा और मोदीजी से मिलूँगा

कल नीतीश कुमार करेंगे MODI से मुलाकात, बोले, न्योता आया है तो जाऊँगा और मोदीजी से मिलूँगा

bihar-cm-nitish-kumar-will-meet-pm-narendra-modi-tomorrow-delhi
New Delhi: जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कल नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगे और उनसे गंगा सफाई सहित कई मुद्दों पर बात करेंगे, इस बात की जानकारी आज खुद नीतीश कुमार ने दी है. नीतीश कुमार विपक्षी पार्टियों के सम्मलेन में भाग लेने के लिए दिल्ली आये हुए हैं, यहाँ पर सभी पार्टियाँ मिलकर राष्ट्रपति के नाम का प्रस्ताव करने वाली हैं.

इस वक्त मौरीसस के प्रधानमंत्री Pravind Jugnauth भारत के दौरे पर हैं, कल प्रधानमंत्री मोदी ने उनके लिए डिनर का आयोजन किया है जिसमें सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को न्योता दिया गया है, नीतीश कुमार ने इस बात की जानकारी देते हुए कहा कि डिनर के लिए मुझे भी न्योता आया है इसलिए मैं भी न्योते में जाऊँगा और मोदी से मुलाकात भी करूँगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एक समय था जब नीतीश कुमार मोदी के सबसे कट्टर विरोधी माने जाते थे लेकिन अब वे भाषणों में मोदी सरकार के कामों की तारीफ भी करते हैं और उनका हर न्योता मंजूर करते हैं, एक समय था जब नीतीश कुमार मोदी के किसी भी न्योते में शामिल नहीं होते थे पहली बार ऐसा हुआ जब उन्होंने इतनी ख़ुशी से डिनर का न्योता मंजूर किया है और मोदी से मुलाकात की बात भी कही है. 

22 May, 2017

शत्रु की शत्रुता देखकर बोले सुशील मोदी, जितनी जल्दी हो सके घर के गद्दारों को बाहर किया जाय

शत्रु की शत्रुता देखकर बोले सुशील मोदी, जितनी जल्दी हो सके घर के गद्दारों को बाहर किया जाय

sushil-kumar-modi-told-shatrughan-sinha-traitor-demand-expel
पटना: भाजपा भी कमाल की पार्टी है, एक शख्श लगातार विरोधियों से दोस्ती कर रहा है, उनकी तारीफ कर रहा है, पार्टी को नुकसान पहुंचाने की हर संभव कोशिश कर रहा है, पार्टी को बर्बाद करने की कोशिश कर रहा है लेकिन पार्टी के बड़े नेता उफ़ तक नहीं कर रहे हैं और उसकी शत्रुता को झेल रहे हैं.

हम बात कर रहे हैं बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा की, वे इस वक्त बीजेपी के कम बल्कि लालू नीतीश के लिए अधिक काम कर रहे हैं, आज तो वे केजरीवाल की गैंग में भी शामिल हो गए और उनकी तारीफ कर डाली.

शत्रुघ्न सिन्हा की बीजेपी से शत्रुता देखकर आज बिहार के बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने उन्हें गद्दार बता दिया है, उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा का बगैर नाम लिए कहा - ये ज़रूरी नही शख़्स जो मशहूर है उस पर ऐतबार किया जाये, जितनी जल्दी हो घर से गद्दारों को बाहर किया जाये।
सुशील मोदी ने कहा कि वे लालू यादव की बेनामी संपत्तियों का खुलासा कर रहे हैं, जिस लालू की बेनामी संपत्ति के बचाव में नीतीश कुमार नहीं उतरे उसके बचाव में भाजपा के शत्रु कूद पड़े.
सुशील मोदी ने यह भी जता दिया कि शत्रुघ्न सिन्हा के जाने से पार्टी को कोई नुकसान नहीं होगा क्योंकि 2005 के बिहार विधान सभा चुनाव में भाजपा के 'शत्रुओं ' ने चुनाव प्रचार का किया था बहिष्कार फिर भी बन गयी थी सरकार.
शत्रुघ्न सिन्हा ने आज की थी केजरीवाल की तारीफ 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज बीजेपी के शत्रु ने मोदी को हमेशा गरियाने वाले अरविन्द केजरीवाल की जमकर तारीफ कर दी थी, उन्होंने केजरीवाल को बहुत महान, संघर्षशील और समाजसेवक बता दिया था. देखिये शत्रु का ट्वीट.

08 May, 2017

लालू यादव के फिर शुरू हुए बुरे दिन, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश, चारा घोटाले में चलेगा केस

लालू यादव के फिर शुरू हुए बुरे दिन, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश, चारा घोटाले में चलेगा केस

supreme-court-order-conspiracy-charges-lalu-yadav-chara-ghotala

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव के बुरे दिन फिर से शुरू होने वाले हैं, चारा घोटाले में एक बार उन्हें सजा हो चुकी है, वे जेल भी जा चुकी हैं, बहुत मुश्किल ने उन्हें जमानत मिली थी लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट ने उन पर चारा घोटाले में आपराधिक साजिश रचने का केस चलाने और मामले की 9 महीने में जांच का आदेश दिया है.

जानकारी के लिए बता दें वर्ष 1996 में लालू यादव ने मुख्यमंत्री पद पर रहने के दौरान चारा घोटाले में 900 करोड़ रुपये लूट खाए थे, उस समय लालू यादव सहित 47 लोगों को इस घोटाले का आरोपी बनाया गया था जिसमें से 15 आरोपियों की मौत हो चुकी है जबकि 29 आरोपी अभी भी ज़िंदा हैं.

लालू यादव के खिलाफ इस समय रांची की विशेष अदालत में चारा घोटाले से जुड़े चार मामले चल रहे हैं, उन्हने 30 दिसम्बर 2013 को एक मामले में CBI की विशेष अदालत ने चार साल के लिए जेल भी भेजा था लेकिन उन्हें ढाई महीने बाद 13 दिसम्बर को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गयी थी हालाँकि उनके राजनीतिक कैरियर को ख़त्म करते हुए अदालत ने उन्हें संसद पद से बर्खास्त कर दिया था और उनके चुनाव लड़ने पर आजीवन प्रतिबन्ध लगा दिया था.

आज सुप्रीम कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले से जुड़े सभी चारों मामलों में सुनवाई का सामना करने के सोमवार (8 मई) को आदेश दिए. न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा और न्यायमूर्ति अमिताव रॉय की पीठ ने निचली अदालत को 68 वर्षीय यादव तथा अन्य के खिलाफ कार्रवाई नौ माह के भीतर पूरी करने के निर्देश दिए. पीठ ने कहा, ‘हमारा मानना है कि प्रत्येक अपराध के लिए पृथक सुनवाई होनी चाहिए.

06 May, 2017

सनसनीखेज खुलासा, लालू यादव शहाबुद्दीन के साथ मिलकर खुद करवाते हैं दंगा, VIDEO वायरल

सनसनीखेज खुलासा, लालू यादव शहाबुद्दीन के साथ मिलकर खुद करवाते हैं दंगा, VIDEO वायरल

arnab-goswami-exposed-lalu-yadav-and-shahabuddin-tape
पटना: अर्नब गोस्वामी ने आज अपने नए टीवी न्यूज़ चैनल Republic TV की शुरुआत की लेकिन उन्होने पहले ही दिन लालू यादव को एक्सपोज करके धमाका कर दिया.

Republic TV ने लालू यादव और बिहार के माफिया डॉन शहाबुद्दीन के बीच एक ऐसे टेप का खुलासा किया है जिसमें दोनों लोग दंगे की साजिश करते हुए पकडे गए हैं, शहाबुद्दीन उस वक्त सिवान जेल में बंद था लेकिन वह लालू यादव से खुलेआम मोबाइल पर बात करता था और लालू यादव को अपने हुक्म पर नचाता था, लालू यादव भी वही करते हैं जो शहाबुद्दीन कहता है, मतलब जेल में बंद शहाबुद्दीन ही लालू यादव के जरिये सरकार चला रहा है.

जानकारी एक लिए बता दें कि पिछली राम नवमी पर बिहार एक सिवान में हिन्दू और मुस्लिम के बीच में दंगा हुआ था, मुस्लिमों ने हिन्दुओं को त्यौहार मनाने से रोका था जिसके बाद दोनों पक्षों में पत्थरबाजी हुई, उसके बाद पुलिस ने फायरिंग करके किसी तरह से माहौल को शांत कराया.

ताज्जुब इस बात का है कि जेल में बंद शहाबुद्दीन को पूरी घटना के बारे में पता चल रहा है, उसे हर बात की जानकारी थी कि वहां पर क्या हो रहा है, जैसे ही पुलिस ने फायरिंग करके दंगे को शांत कराया, शहाबुद्दीन ने तुरंत लालू यादव के पास फोन किया और उन्हें कहा कि आपके पुलिस वाले फायरिंग कर रहे हैं, उन्हें रोको, ये किसी काम के नहीं हैं, उसके बाद लालू यादव तुरंत SP से बात करते हैं.


अब आप खुद सोचिये, जेल में बंद शहाबुद्दीन को कैसे पता चला कि हिन्दू मुस्लिम में दंगा हो रहा है और उन्हें कंट्रोल करने के लिए पुलिस ने फायरिंग की है, लालू यादव ने शहाबुद्दीन के कहने पर SP से बात क्यों की, इससे साफ़ पता चल रहा है कि सरकार नीतीश नहीं बल्कि लालू यादव चला रहे हैं और जेल में बंद शहाबुद्दीन उन्हें आदेश देता है. यह भी साफ़ है कि मुस्लिमों ने अपने आप राम नवमी का विरोध नहीं किया था बल्कि उन्हें शहाबुद्दीन ने ऐसा करने के लिए कहा था, शहाबुद्दीन ने जेल में बैठकर दंगा कराने की साजिश की थी और लालू यादव को भी इस बारे में पता था लेकिन पुलिस अफसरों ने फायरिंग करके भीड़ को कंट्रोल कर लिया और दंगा नहीं होने दिया.

जब शाहबुद्दीन को पता चला कि पुलिस की फायरिंग के बाद दोनों पक्ष शांत हो गए, दंगा नहीं हो पाया तो उन्होने तुरंत लालू यादव को फोन करके कहा कि तुम्हारे SP किसी काम के नहीं हैं, इन्हें हटाओ. इन्होने फायरिंग करके पूरा काम खराब कर दिया.

05 May, 2017

बिहार में थाने के दरोगा बोले 'चूहे पी गए 8 लाख लीटर शराब'

बिहार में थाने के दरोगा बोले 'चूहे पी गए 8 लाख लीटर शराब'

bihar-news-rats-drinking-sharab-in-patna-police-thana

पटना : बिहार से एक चौंकाने वाली खबर आयी है जिसके अनुसार पटना के एक थाने में बंद करीब 8 लाख लीटर शराब को चूहे पी गए और पुलिस वालों को पता भी नहीं चला.

जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में शराबबंदी लागू होने के बाद कई जगह से शराब जब्त करके थानों में रखी गयी है, हाल ही में पटना के SSP मनु महाराज ने पटना नगर निगम चुनावों में कानून व्यवस्था की समीक्षा के लिए सभी थानेदारों की एक बैठक बुलाई थी, बैठक में उन्होंने पूछा - शराब बंदी के बाद जिस थाने के मालखाने में शराब रखी गयी थी, उसमें कमीं क्यों आ रही है और शराब जा कहाँ रही है.

मनु महाराज के इस सवाल का कुछ थानेदारों ने जवाब देते हुए कहा कि 'करीब 8 लाख लीटर शराब चूहे पी गए इसलिए शराब कम हो गयी.

जानकारी के अनुसार इस जवाब पर मनु महाराज संतुष्ट नहीं हुए और उन्होने सभी थानेदारों का ब्रेन एनालाइजर टेस्ट कराने का फैसला किया है, शक है कि थानेदारों ने या तो शराब खुद पी लिया है या उसे बाजार में अवैध तरीके से बेच दिया है. इसके अलावा SSP ने बाकी बची शराब की बोतलों पर चूहे मारने वाली दवा का छिड़काव करने का आदेश दिया है ताकि चूहे शराब की बोतल खोलने से पहले ही मर जाएं.

01 May, 2017

लालू के विधायक बोले, किसने दिया है लाल बत्ती हटाने का आदेश, हमारी सरकार बोलेगी तभी हटायेंगे

लालू के विधायक बोले, किसने दिया है लाल बत्ती हटाने का आदेश, हमारी सरकार बोलेगी तभी हटायेंगे

rjd-mla-virendra-singh-refused-to-off-red-beacon
फोटो सौजन्य से: ANI ट्विटर
नई दिल्ली 01 मई: केंद्र सरकार के आदेश के बाद पूरे देश के नेताओं एवं अधिकारियों ने अपनी गाड़ियों से लाल बत्तियां उतार दी लेकिन बिहार के राष्ट्रीय जनता दल के नेता वीरेंद्र सिंह ने साफ़ साफ़ लाल बत्ती हटाने से इनकार कर दिया, उन्होंने कहा कि कौन सी कैबिनेट ने लाल बत्ती हटाने का आदेश दिया है, हम केंद्र सरकार का आदेश नहीं मानते, जब तक हमारी सरकार हमें आदेश नहीं देगी, हम लाल बत्ती नहीं हटायेंगे.
इसके बाद सोशल मीडिया पर लालू यादव और उनके विधायक की जमकर फजीहत होने लगी, लोगों ने कहा कि जो माल खाने आया है, जिसे लाल बत्ती के नामपर रौब झाड़ने का आदत है वो क्यों हटाएगा लाल बत्ती, कुछ लोगों ने तो उन्हें अनपढ़ और गंवार भी बता दिया.

देखिये लोग क्या लिख रहे हैं उनके बारे में -

30 April, 2017

लालू यादव बोले, इस फ़ॉर्मूले से हम लोग नरेन्द्र मोदी को 2019 में दिल्ली से खदेड़ देंगे: पढ़ें

लालू यादव बोले, इस फ़ॉर्मूले से हम लोग नरेन्द्र मोदी को 2019 में दिल्ली से खदेड़ देंगे: पढ़ें

lalu-yadav-formula-to-defeat-narendra-modi-in-2019
पटना, 30 अप्रैल: RJD सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मंत्री लालू यादव ने कहा है है कि अगर विपक्षी पार्टियाँ उनके फ़ॉर्मूले पर चलेगी तो 2019 में दिल्ली से नरेन्द्र मोदी सरकार को उखाड़ फेंके देंगे और दिल्ली में भी महागठबंधन की सरकार बन जाएगी.

लालू यादव ने कहा कि हम अलग अलग हैं इसलिए बीजेपी को फायदा मिल रहा है, अगर हम एक हो जाएँगे तो बीजेपी कहीं नजर भी नहीं आएगी.

उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी को हराने के लिए मेरा छोटा सा फ़ॉर्मूला ही काफी है, अगर यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल और पंजाब के राजनीतिक दल एक साथ आ जाएं तो बीजेपी कभी भी केंद्र की सत्ता हासिल नहीं कर सकती.

उन्होंने कहा कि 2019 में नरेन्द्र मोदी को उखाड़ फेंकने के लिए बिहार, बंगाल, यूपी और पंजाब के राजनीतिक दलों को एक होना ही होगा, मुलायम, मायावती, को हमारे साथ महागठबंधन में शामिल होना ही होगा, तभी नरेन्द्र मोदी को 2019 में आसानी से रोका जा सकेगा.

लालू यादव ने ETV के साथ इंटरव्यू में यह बातें कहीं, उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में मैं पहले से ही मायावती और मुलायम को एक होने की सलाह दे रहा था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, दोनों अलग अलग चुनाव लड़े, अगर दोनों के वोट शेयर को मिला दिया जाय तो 45 फ़ीसदी से ऊपर होता है जो कि बीजेपी से अधिक है, दोनों अलग अलग लड़े इसलिए बीजेपी को उसका फायदा मिल गया और उन्हें जीत मिल गयी. अगर 2019 में महागठबंधन बन जाएगा तो बीजेपी को आराम से हराया जा सकेगा.

25 April, 2017

बिना शादी के ट्रेनी महिला पुलिसकर्मी हुई प्रेग्नेंट तो किया गया सस्पेंड, महिला ने कराया..?

बिना शादी के ट्रेनी महिला पुलिसकर्मी हुई प्रेग्नेंट तो किया गया सस्पेंड, महिला ने कराया..?

sasaram-bihar-news-women-trainee-police-pregnant-then-suspend
Sasaram, Bihar, 25 April: बिहार के सासाराम जिले से एक हैरान कर देने वाली खबर आयी है, खबर के अनुसार एक अविवाहित ट्रेनी महिला पुलिसकर्मी बिना शादी के ही प्रेग्नेंट हो गयी जिसके बाद राज्य पुलिस मुख्यालय ने उसे ट्रेनिंग से सस्पेंड कर दिया, हालाँकि जब इस मामले की जांच की गयी तो महिला के गर्भधारण में कुछ भी गलत नहीं पाया गया, इसके बाद राज्य पुलिस मुख्यालय ने दोबारा से निलंबन वापस ले लिया लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी क्योंकि महिला ट्रेनी पुलिसकर्मी ने अपना गर्भपात करा लिया.

रिपोर्ट के अनुसार पुलिस ने जांच में पाया कि ट्रेनी महिला पुलिसकर्मी बालिग़ है और अपनी मर्जी से गर्भधारण किया है इसलिए उसे ट्रेनिंग पर दोबारा बहाल कर दिया गया, इससे पहले बिहार मिलिट्री पुलिस के कमान्डेंट परवेज अख्तर ने अविवाहित महिला की प्रेग्नेंसी को पुलिस सर्विस रूल्स के खिलाफ पाया था इसलिए उसे ट्रेनिंग से सस्पेंड कर दिया था.

जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद महिला का निलंबन वापस ले लिया गया और उसे मैटरनिटी लीव का सुझाव दिया गया लेकिन तब तक महिला ने अपना गर्भपात करा लिया था, फिलहाल ये पता नहीं चल पाया है कि महिला के बॉयफ्रेंड ने उसे प्रेग्नेंट करने के बाद शादी क्यों नहीं की और महिला ने भी अपने बॉयफ्रेंड के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं कराया है.

18 April, 2017

लालू को मंच पर बैठे देखा तो राजनाथ सिंह ने रद्द किया कार्यक्रम, सोचे ‘कहीं गले ना लग जाएं लालू’

लालू को मंच पर बैठे देखा तो राजनाथ सिंह ने रद्द किया कार्यक्रम, सोचे ‘कहीं गले ना लग जाएं लालू’

rajnath-singh-cancelled-his-program-to-see-lalu-yadav-on-manch
पटना, 18 अप्रैल: आपने देखा होगा कि बिहार विधानसभा में जीत के बाद लालू-नीतीश के प्रोग्राम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी पहुंचे थे, वहां पर लालू यादव ने केजरीवाल को जबरजस्ती अपने गले लगा लिया था, उसके बाद केजरीवाल की जमकर फजीहत हो गयी थी, उन्हें भी भ्रष्टाचारी बताया जाने लगा था.

आज ऐसी ही घटना राजनाथ सिंह के साथ होने वाली थी, आज राजनाथ सिंह को चंपारण सत्याग्रह के 100 साल पूरे होने के अवसर पर पटना में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होना था, वहां पर उनकी कुर्सी भी लगी हुई थी, नेमप्लेट भी लगी हुई थी लेकिन जैसे ही राजनाथ सिंह को खबर मिली कि मंच पर लालू यादव भी मौजूद हैं, उन्होंने तुरंत ही अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया. राजनाथ सिंह ने सोचा कि कहीं लालू यादव केजरीवाल की तरह मुझे भी अपने गले से ना लगा लें, अगर ऐसा हुआ तो मेरी भी इज्जत मिटटी में मिल जाएगी.

लेकिन ऐसा लग रहा था कि लालू यादव राजनाथ सिंह का ही इन्तजार कर रहे थे, जब राजनाथ सिंह ने अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया तो उन्होंने तुरंत कहा कि राजनाथ सिंह मेरी वजह से नहीं आये, अगर उन्हें नहीं आना था तो पहले ही बता देने, यहाँ पर उनकी कुर्सी लगी थी, नेमप्लेट भी लगी थी, जब वे नहीं आये तो हमें उनके नाम की कुर्सी और नेमप्लेट हटानी पड़ी, कोई बात नहीं, नहीं आना है तो मत आओ, क्या फर्क पड़ता है.

इस कार्यक्रम में नीतीश कुमार, राहुल गाँधी, लालू यादव भी उपस्थित थे, बीजेपी नेताओं ने कहा कि राजनाथ सिंह इस कार्यक्रम के राजनीतिकरण की वजह से आहत थे इसीलिए उन्होंने कार्यक्रम रद्द करना उचित समझा.

11 April, 2017

बिहार में लूटखोरी शुरू, बियर कारखाने के लिए लालू परिवार ने करोड़ों रुपये की जमीन ली: सुशील मोदी

बिहार में लूटखोरी शुरू, बियर कारखाने के लिए लालू परिवार ने करोड़ों रुपये की जमीन ली: सुशील मोदी

sushil-kumar-modi-accused-lalu-yadav-family-for-land-scam

पटना, 11 अप्रैल: ऐसा लगता है कि बिहार में फिर से जंगलराज और लूटखोरी शुरू हो गयी है और इस लूटखोरी का इल्जाम किसी और पर नहीं बल्कि लालू परिवार पर लग रहा है, यह आरोप बीजेपी के बड़े नेता सुशील कुमार मोदी ने लगाया है.

आज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की बिहार इकाई के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार पर कथित तौर पर मिट्टी व मल घोटाले के बाद मंगलवार को एकबार फिर बियर कारखाना खोलवाने के नाम पर जमीन लेने का आरोप लगाया है। मोदी ने प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, "लालू का एक ही नारा है, तुम मुझे जमीन दो, मैं तुम्हारा काम करा दूंगा।"

मोदी ने आरोप लगाया कि लालू प्रसाद ने पटना के बिहटा में बियर कारखाना के मालिकों से करोड़ों की जमीन ली है।

उन्होंने कहा, "राबड़ी सरकार के कार्यकाल (2000-2005) के दौरान ओम प्रकाश कत्याल एवं अमित कल्याल की कम्पनी 'आइसबर्ग इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड' ने बिहटा में शराब का कारखाना लगाया। 28 सितंबर, 2006 को ए़ क़े इंफोसिस्टम नामक कंपनी गठित हुई, जिसमें अमित कत्याल एवं उनके भाई राजेश कत्याल एवं अन्य निदेशक थे। इस कंपनी में लालू, उनके पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव व तेजप्रताप यादव तथा पुत्री चन्दा यादव एवं रागिनी 2014 में निदेशक नियुक्त किए गए।" 

भाजपा नेता ने आरोप लगाया, "आज इस कंपनी पर पूरी तरह लालू प्रसाद के परिवार का कब्जा है। ए़ क़े इंफोसिस्टम नामक कंपनी के सारे शेयर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी के पास हैं।"

उन्होंने कहा कि शराब कारखाना लगाने वाले कत्याल परिवार से लालू ने करोड़ों रुपये की जमीन ली। 

मोदी ने कहा, "किसी संवैधानिक और सरकारी पद पर रहते हुए इस तरह के पैसे का लेन-देन भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम का उल्लंघन है।"

उन्होंने सवाल किया, "तेजप्रताप और तेजस्वी के ए़ क़े इंफोसिस्टम के निदेशक बनते ही कत्याल परिवार उस कंपनी से क्यों गायब हो गए? उन्होंने लालू परिवार से पूछा है कि आखिर बिहार विधानसभा चुनाव परिणाम से ऐन पहले तेजप्रताप और तेजस्वी ने कंपनी के निदेशक पद से इस्तीफा क्यों दिया?" उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि इस्तीफा देने के बाद भी दोनों भाई कंपनी के आज भी शेयरधारक हैं।

भाजपा नेता ने तेजस्वी और लालू प्रसाद की पत्नी और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से भी सवाल किया, "वह बताएं कि केवल 55 हजार रुपये निवेश कर करोड़ों रुपये की सम्पत्ति वाली कम्पनी के मालिक कैसे बन गए? इस कम्पनी की कौन-कौन सी जमीन पटना में कहां-कहां है?"

उल्लेखनीय है कि इसके पूर्व भी मोदी ने लालू परिवार पर डिलाइट कंपनी के नाम पर करोड़ों रुपये की जमीन लेने का आरोप लगाया है। लालू प्रसाद ने हालांकि इस आरोप को निराधार बताया था। 

06 April, 2017

योगी ने इम्प्रेस हुआ व्यक्ति तो बिहार में गाँव को गोद लेकर नाम रख दिया 'योगी आदित्यनाथ'

योगी ने इम्प्रेस हुआ व्यक्ति तो बिहार में गाँव को गोद लेकर नाम रख दिया 'योगी आदित्यनाथ'

taja-news

पटना: आजतक योगी आदित्यनाथ का जलवा है और उनके जलवे से कुछ लोग इतने प्रभावित हो रहे हैं कि उनके नाम से गाँव का नाम रख रहे हैं, योगी का जलवा उत्तर प्रदेश में तो है ही, पडोसी राज्य बिहार में भी योगी योगी हो रहा है इसी का परिणाम है कि बिहार में एक अमीर आदमी ने एक गाँव को गोद लिया और उसक उसका नाम रख दिया 'योगी आदित्यनाथ'.

यह खबर बिहार के पूर्णिया जिले की है, जिले का केलाबाड़ी गाँव सुख सुविधाओं के अभाव में बदहाल स्थिति में है, गाँव की आबादी 350 के करीब है, हाल ही मी राजीव कुमार श्रीवास्तव नाम के समाजसेवी ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय के अन्त्योदय अभियान से प्रेरित होकर गाँव को गोद दे दिया और गाँव का नाम योगी आदित्यनाथ रख दिया, राजीव का कहना है कि गाँव का नाम योगी आदित्यनाथ रखने से गाँव के लोगों को उनके जीवन से कुछ सीखने की प्रेरणा मिलेगी.

गाँव के लोग राजीव श्रीवास्तव के कदम से खुश हैं, उनका कहना है कि यहाँ पर ना तो बिजली है, ना पानी की व्यवस्था है, लोग नौकरी करने के लिए दिल्ली-पंजाब चले जाते हैं, अगर यहाँ पर विकास होगा, बिजली आएगी तो लोग यहीं पर रूककर नौकरी करेंगे.
नीतीश कुमार ने तेज प्रताप यादव के मिटटी घोटाले की जांच के लिए आदेश

नीतीश कुमार ने तेज प्रताप यादव के मिटटी घोटाले की जांच के लिए आदेश

tej-pratap-yadav-mitti-ghatala-chief-secretary-allows-probe

Patna, 6 April: लालू यादव के रास्ते पर उनके पुत्र Tej Pratap Yadav भी निकल चुके हैं, Lalu Yadav के ऊपर Chara Ghotale का आरोप लगा था और उन्हें जेल भी जाना पड़ा था हालाँकि उन्हें जमानत मिल गयी और वे जेल से बाहर आ गए, अब उनके बेटे और बिहार सरकार में स्वास्थय मंत्री Tej Pratap Yadav पर भी मिटटी घोटाले के आरोप लगे हैं और उनके घोटाले की जांच के लिए Neetish Kumar ने आदेश भी दे दिए हैं, अगर आरोप सच पाए गए तो लालू यादव के चिराग के साथ साथ उनके पूरे परिवार की फिर से बदनामी हो जाएगी.

आज Neetish Kumar के आदेश पर  Bihar के मुख्य सचिव Anjani Kumar Singh ने तेज प्रताप यादव के लिए लगे मिट्टी घोटाले की जांच के आदेश दे दिए.

जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता Sushil Kumar Modi ने तेज प्रताप यादव पर 90 लाख रुपये का मिटटी घोटाले का आरोप लगाया है, उनके आरोप के मुताबिक Tej Pratap Yadav ने संजय गाँधी बायोलॉजिकल पार्क में पाथवे और पार्क के इम्प्रूवमेंट के लिए बिना टेंडर जारी किये ही 90 लाख रुपये का कॉन्ट्रैक्ट दे दिया गया जो कि नियमों के खिलाफ है. इसके लिए तेज प्रताप यादव ने अपने पटना में बन रहे अपने माल से खोदी गयी ख़राब मिटटी को गैरकानूनी तरीके से संजय गाँधी बायोलॉजिकल पार्क को 90 में बेच दिया, मतलब अपने माल की खराब मिटटी को सरकार को ही बेचकर 90 लाख रुपये गटक लिए.

Sushil Kumar Modi ने तेज प्रताप यादव के इस्तीफे की मांग करने के साथ साथ एक बहुस्तरीय जांच की मांग की है वहीं तेज प्रताप यादव ने उनपर मानहानि का मामला दायर करने की धमकी दी है.

लालू यादव के ऊपर चर्चा घोटाले में 1000 करोड़ रुपये की लूट के आरोप लगे थे.

04 April, 2017

राम जेठमलानी चाचा के पास बहुत पैसा है, मुझ गरीब का केस भी उन्होंने फ्री में लड़ा था: लालू यादव

राम जेठमलानी चाचा के पास बहुत पैसा है, मुझ गरीब का केस भी उन्होंने फ्री में लड़ा था: लालू यादव

lalu-yadav-bole-ram-jethmalani-ne-hamara-case-bhi-free-me-lada

New  Delhi, 4 April: आज इस देश में एक के बाद के खुलासे हो रहे हैं, पहला खुलासा तो ये हुआ है कि भारत के सबसे मंहगे वकील माने जाने वाले राम जेठमलानी गरीबों का केस फ्री में लड़ते हैं, वे सिर्फ अमीरों से पैसे लेते हैं, दूसरा खुलासा यह हुआ है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और चाचा घोटाले में हजारों करोड़ लूट खाने के आरोपी लालू यादव भी गरीब हैं और इसी वजह से राम जेठमलानी ने उनसे फीस नहीं ली थी।

आज लालू यादव ने खुद बताया, उन्होंने कहा कि चाचा राम जेठमलानी के पास बहुत पैसा है, उन्होंने हमारा जितना भी केस लड़ा, सब फ्री में लड़ा, हमसे एक पैसा भी नहीं लिया।

जानकारी के लिए बता दें कि आज राम जेठमलानी ने कहा कि जेटली मानहानि मामले में उन्होंने केजरीवाल के पास 4 करोड़ रुपये का बिल भेजा है, मैं सिर्फ अमीरों से पैसे लेता हूँ, गरीबों के केस मैं फ्री में लड़ता हूँ, अगर केजरीवाल मुझे 4 करोड़ नहीं दे पाए तो मैं उन्हें गरीबों की श्रेणी में डालकर उनसे कोई फीस नहीं लूँगा।