Showing posts with label Bihar. Show all posts
Showing posts with label Bihar. Show all posts

Jan 7, 2018

लालू यादव गए जेल तो दुःख में चल बसीं उनकी बड़ी बहन

लालू यादव गए जेल तो दुःख में चल बसीं उनकी बड़ी बहन

lalu-yadav-elder-sister-gangotri-devi-died-after-he-jailed

पटना: लालू यादव के लिए बहुत बुरी खबर है, उनके जेल जाने के दुःख में उनकी बड़ी बहन गंगोत्री का निधन हो गया है. ख़बरों के अनुसार लालू की बड़ी बहन उनके जेल जाने के बाद से ही दुखी थीं, जैसे ही उन्होंने लालू यादव के लिए साढ़े तीन साल की सजा सुनी, उन्हें गहरा आघात पहुंचा, वह भाई के बिछड़ने का गम बर्दास्त नहीं कर पायीं और सदमें में चल बसीं.

पता चला है कि 1990 में मुख्यमंत्री बनने के बाद लालू यादव ने अपनी बड़ी बहन गंगोत्री देवी के यहां से ही 6 महीने  सरकार चलायी थी.

शनिवार को लालू यादव के लिए उन्होंने दिन भर भगवान से दुआएं की थी लेकिन उनकी दुवाएं काम नहीं आयीं और लालू यादव को उनकी करनी ने 3.5 साल की जेल करा दी.

अब लालू प्रसाद के वकील उन्हें अपनी बहन के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए कोर्ट से पैरवी की तैयारी कर रहे हैं. लालू यादव ने जेल में बैठे बैठे ही ट्वीट किया और बहन के निधन पर दुःख जताया.

Jan 6, 2018

बड़ा फैसला आ गया, अब लालू यादव साढ़े 3 साल जेल में ही रहेंगे, नहीं होगी जमानत, पढ़ें क्यों

बड़ा फैसला आ गया, अब लालू यादव साढ़े 3 साल जेल में ही रहेंगे, नहीं होगी जमानत, पढ़ें क्यों

lalu-yadav-sentenced-3-5-year-jail-5-lakh-fine-in-chara-ghotala

रांची: लालू यादव और उनके समर्थकों के लिए बुरी खबर है, उन्हें चारा घोटाले में साढ़े तीन साल की सजा दी गयी है, साथ ही 5 लाख जुर्माना भी लगाया गया है. अगर वे पांच लाख जुर्माना नहीं देंगे तो उनकी सजा 6 महीनें और बढ़ जाएगी. अन्य दो दोषियों को भी साढ़े तीन साल की सजा सुनायी गयी है. लालू यादव को जमानत भी मिलनी मुश्किल है क्योंकि उन्हें जमानत के लिए हाई कोर्ट में जाना पड़ेगा.

वकीलों से जिरह करते हुए फैसला सुनाने वाले जज ने कहा है कि लालू यादव के खिलाफ खुली जेल सही है क्योंकि इन लोगों को गौ-पालन का अनुभव है. ये जेल में भी गौ-पालन कर सकते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लालू यादव के खिलाफ जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये फैसला सुनाया जाएगा.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देवघर चारा घोटाले में लालू यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 120 और पीसी एक्ट की धारा 13(2) के तहत फैसला सुनाया जाना है. उन्हें तीन साल से 10 साल तक की कैद हो सकती है. अगर उन्हें 3 साल से कम सजा सुनायी गयी तो उन्हें तुरंत जमानत मिल सकती है, अगर उससे ऊपर सजा हुई तो उन्हें जमानत के लिए हाईकोर्ट का रूख करना पड़ेगा.

लालू यादव के खिलाफ क्या है केस

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था.

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी।

चारा घोटाले 1100 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.
जज साहब ने कहा, लालू यादव के लिए खुली जेल सही है क्योंकि इन्हें गाय पालने का अनुभव है

जज साहब ने कहा, लालू यादव के लिए खुली जेल सही है क्योंकि इन्हें गाय पालने का अनुभव है

judge-advise-open-jail-for-lalu-yadav-as-he-have-experience-of-cow-farming

रांची: लालू यादव के लिए एक अच्छी खबर है, उन्हें शायद खुली जेल में रहना पड़े. आज चारा घोटाले में लालू यादव और 14 अन्य लोगों के खिलाफ फैसला आना है. 4 बजे फैसला सुना दिया जाएगा लेकिन कोर्ट में जिरह शुरू हो चुकी है.

वकीलों से जिरह करते हुए फैसला सुनाने वाले जज ने कहा है कि लालू यादव के खिलाफ खुली जेल सही है क्योंकि इन लोगों को गौ-पालन का अनुभव है. ये जेल में भी गौ-पालन कर सकते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लालू यादव के खिलाफ जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये फैसला सुनाया जाएगा.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देवघर चारा घोटाले में लालू यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 120 और पीसी एक्ट की धारा 13(2) के तहत फैसला सुनाया जाना है. उन्हें तीन साल से 10 साल तक की कैद हो सकती है. अगर उन्हें 3 साल से कम सजा सुनायी गयी तो उन्हें तुरंत जमानत मिल सकती है, अगर उससे ऊपर सजा हुई तो उन्हें जमानत के लिए हाईकोर्ट का रूख करना पड़ेगा.

लालू यादव के खिलाफ क्या है केस

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था.

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी।

चारा घोटाले 1100 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.

Jan 4, 2018

ABCD ने आज भी रुकवाया लालू यादव की सजा का फैसला, पढ़ें क्यों

ABCD ने आज भी रुकवाया लालू यादव की सजा का फैसला, पढ़ें क्यों

lalu-yadav-sentenced-delayed-for-one-due-to-abcd-alphabetical

रांची: लालू यादव के लिए आज बुरी खबर है क्योंकि उनकी सजा सुनाने का फैसला आज फर से टाल दिया गया है, अब उन्हें कल फिर से सजा सुनाने के लिए कोर्ट में बुलाया जाएगा, आज भी लालू यादव कोर्ट आये थे वकीलों ने कामकाज का विरोध किया जिसके बाद कोर्ट दोबारा बंद हो गया.

रिपोर्ट के अनुसार लालू यादव की सजा ABCD की वजह से टली है. मतलब कैदियों को अल्फाबेटिकल आधार पर सजा सुनाई जानी है, लालू यादव का नाम एल से आता है जबकि A-K तक कई कैदियों का नंबर लंबित पड़ा है, कल एक वकील का निधन होने की वजह से कोर्ट बंद हो गया जिसकी वजह से A-K वालों को सजा नहीं सुनायी जा सकी. आज भी कुछ लोग बाकी रह गए. अब लालू याव का नंबर कल आ सकता है, यह भी हो सकता है कि उन्हें वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सजा सुनायी जाए और लालू यादव जेल से बाहर ही ना निकल पाएं, ऐसा इसलिए क्योंकि कोर्ट के बाहर उनके हजारों समर्थक भीड़ लगा रहे हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देवघर चारा घोटाले में लालू यादव के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 120 और पीसी एक्ट की धारा 13(2) के तहत फैसला सुनाया जाना है. उन्हें तीन साल से 10 साल तक की कैद हो सकती है. अगर उन्हें 3 साल से कम सजा सुनायी गयी तो उन्हें तुरंत जमानत मिल सकती है, अगर उससे ऊपर सजा हुई तो उन्हें जमानत के लिए हाईकोर्ट का रूख करना पड़ेगा.

Jan 3, 2018

एक दिन और टल गया लालू यादव को सजा सुनाये जाने का फैसला, अब कल सनाई जाएगी सजा

एक दिन और टल गया लालू यादव को सजा सुनाये जाने का फैसला, अब कल सनाई जाएगी सजा

lalu-yadav-sentenced-delayed-for-one-day-in-chara-ghotala-case

रांची: लालू यादव के लिए एक खुशखबरी है, उन्हें सजा सुनाए जाने का फैसला एक दिन और टल गया है, उन्हें आज रांची की विशेष CBI अदालत सजा सुनाने वाली थी, लेकिन एक सीनियर वकील के निधन की वजह से यह फैसला एक दिन के लिए टाल दिया गया. बता दें कि रांची कोर्ट के सीनियर वकील विन्देश्वरी प्रसाद के निधन की वजह से सभी वकील शोकसभा में चले गए हैं.

आपको बता दें कि लालू यादव को इस वक्त रांची की केंद्रीय कारागार में रखा गया है, उन्हें 23 दिसम्बर को ही इस घोटाले में दोषी पाया गया है लेकिन सजा सुनाने की तारीख 3 जनवरी को मुक़र्रर की गयी थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की 23 दिसम्बर को CBI कोर्ट ने लालू और 14 अन्य लोगों के खिलाफ चारा घोटाले में सजा सुनायी थी जबकि पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को बाइज्जत बरी कर दिया था.

क्या है चारा घोटाला

केंद्र सरकार ने 1980-1990 के बीच में पशुओं के लिए चारे का इंतजाम करने के लिए करीब 1100 करोड़ रुपये जारी किये थे लेकिन उसमें से लालू और उनके साथियों ने 900 करोड़ रुपये लूट लिए. इस घोटाले में लालू यादव पर करीब 6 मामले चल रहे हैं जिसमें से उन्हें लगातार दूसरे मामले में दोषी पाया गया है.
चारा घोटाला करने वाले लालू यादव को आज सुनाई जाएगी सजा, लूट लिए थे देश के सैकड़ों करोड़

चारा घोटाला करने वाले लालू यादव को आज सुनाई जाएगी सजा, लूट लिए थे देश के सैकड़ों करोड़

latest-news-of-lalu-yadav-sentenced-today-in-chara-ghotala-case

लालू यादव: बिहार मे चारा घोटाला करके देश के हजारों करोड़ रूपए लूटने के दोषी लालू प्रसाद यादव के खिलाफ आज CBI कोर्ट सजा सुनाएगी. उन्हें इस वक्त रांची की केंद्रीय कारागार में रखा गया है, उन्हें 23 दिसम्बर को ही इस घोटाले में दोषी पाया गया है लेकिन सजा सुनाने की तारीख 3 जनवरी को मुक़र्रर की गयी थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें की 23 दिसम्बर को CBI कोर्ट ने लालू और 14 अन्य लोगों के खिलाफ चारा घोटाले में सजा सुनायी थी जबकि पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को बाइज्जत बरी कर दिया था.

क्या है चारा घोटाला

केंद्र सरकार ने 1980-1990 के बीच में पशुओं के लिए चारे का इंतजाम करने के लिए करीब 1100 करोड़ रुपये जारी किये थे लेकिन उसमें से लालू और उनके साथियों ने 900 करोड़ रुपये लूट लिए. इस घोटाले में लालू यादव पर करीब 6 मामले चल रहे हैं जिसमें से उन्हें लगातार दूसरे मामले में दोषी पाया गया है.

Dec 26, 2017

जेल में बंद लालू यादव  के ट्विटर हैंडल की कमान संभाल रहा उनका परिवार, जेल से देंगे संदेश

जेल में बंद लालू यादव के ट्विटर हैंडल की कमान संभाल रहा उनका परिवार, जेल से देंगे संदेश

lalu-yadav-twitter-handle-will-be-operated-by-his-family-hindi-news

पटना: चारा घोटाले के एक मामले में  सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद रांची की  जेल में बंद राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद कायकर्ताओं के संपर्क में हैं। इसके लिए लालू ने एक अनोखा तरीका निकालते हुए ट्विटर का सहारा लिया है। लालू ने आज ट्वीट कर लिखा प्रिय साथियों कारागार के दौरान मेरे ट्विटर हैंडल का संचालन मेरा कार्यालय और परिवार के सदस्य करेंगे। समय-समय पर मुलाकात के दौरान कार्यालय को संदेश पहुंचेगा जो आपके पास ट्विटर या अन्य विधा से पहुंच जाएगा। संगठित रहिए, सचेत रहिए। वैसे लालू इस नायाब तरीके से कार्यकर्ताओं और लोगों के साथ कितने संपर्क में रह पाएंगे यह देखने वाली बात होगी। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले कई महीनों से लालू ट्विटर पर खासे सक्रिय रहे हैं और ट्वीट के जरिए ही विपक्षियों पर निशाना साधते रहे हैं। लेकिन रोचक बात ये है की पहले लालू सोशल मीडिया की आलोचना करते थे। गौरतलब है कि चारा घोटाले के एक मामले में लालू प्रसाद अदालत द्वारा दोषी करार दिए गए हैं। इस मामले में अदालत तीन जनवरी को सजा सुनाएगी।

बता दें कि  राजद ने शनिवार को चारा घोटाला मामले में पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद को दोषी ठहराए जाने पर इसे गंदी राजनीति और सीबीआई को अप्रत्यक्ष रूप से पिंजरे का तोता कहा। राजद नेता मनोज झा ने पत्रकारों से कहा पिंजरे के तोते का इस्तेमाल उन राजनीतिक विरोधियों के लिए किया जा रहा है, जो भारतीय जनता भाजपा के समक्ष नहीं झुकते।

Dec 25, 2017

रामविलाश पासवान बोले, नेल्सन मंडेला ना बने लालू, उन्होंने कुर्बानी दी थी, लालू ने घोटाला किया

रामविलाश पासवान बोले, नेल्सन मंडेला ना बने लालू, उन्होंने कुर्बानी दी थी, लालू ने घोटाला किया

ram-vilas-paswan-said-lalu-yadav-is-sent-jail-for-corruption-scam

पटना: केन्द्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के नेता रामविलाश पासवान ने कल दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला और भारत के संविधान निर्माता डॉ भीमराव अम्बेडकर से खुद की तुलना करने वाले लालू प्रसाद यादव को जमकर लताड़ा है. पासवान ने कहा वो राष्ट्रहित में बलिदान दिये हैं और तुम भ्रष्टाचार के मामले में जेल गए हो 

पासवान ने एक ट्वीट के जरिये ये भी कहा की लालू यादव अपनी तुलना मंडेला, और आंबेडकर से करके इन बड़े लोगों का अपमान किया है. उन्होंने सवाल किया कि चारा घोटाला गरीबों का घोटाला है या बड़े-बड़े लोगों का?

पासवान ने ट्वीट कर अपने सहयोगी दल बीजेपी का बचाव करते हुए कहा, लालू जी चारा घोटाले में आपको न्यायालय ने सजा दी है, बीजेपी ने नहीं. बीजेपी पर आरोप लगाकर आप न्यायालय का अपमान कर रहे हैं. गौरतलब है कि लालू ने बीजेपी पर उन्हें जेल भेजने की साजिश रचने का आरोप लगाया था

पासवान ने एक अन्य ट्वीट में कहा, लालू जी आप अपने हर पाप को छिपाने के लिए भारतीय जनता पार्टी को ज़िम्मेदार मत ठहराइए. उन्होंने एक ट्वीट में कहा, लालू जी आप अपनी तुलना मार्टिन लूथर किंग, नेल्सन मंडेला और बाबा साहेब अम्बेडकर से करके राष्ट्रभक्तों का अपमान मत करिए. उनके जैसे लोगों ने राष्ट्र हित में कुर्बानी दी थी और आप राष्ट्रहित के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में जेल में बंद हैं.

आपकी जानकारी केलिए बता दें की लालू यादव को सीबीआई की एक विशेष अदालत ने चारा घोटाले के मामले में शनिवार को लालू सहित छह लोगों को दोषी ठहराया था. उन्होंने इसके लिए बीजेपी पर साजिश करने का आरोप लगाया था. पासवान ने कहा लालू जी एक बात याद रखिए कि आप जोर से बोलने से और अपने समर्थकों के बल पर हल्ला करके अपराध को छिपा नहीं सकते हैं. कानून अपना काम करता है और कानून के हाथ बहुत लम्बे होते हैं.

Dec 24, 2017

अब राजद प्रवक्ता भी बोले, चारा घोटाले में लालू यादव के खिलाफ सही है कोर्ट का फैसला

अब राजद प्रवक्ता भी बोले, चारा घोटाले में लालू यादव के खिलाफ सही है कोर्ट का फैसला

lalu-yadav-convicted-in-chara-ghotala-rjd-prawakta-supported-verdict

पटना: राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता पंडित शंकर चरण त्रिपाठी ने कहा है कि चारा घोटाले में राजद सुप्रीमो लालू यादव को दोषी ठहराये जाने का कोर्ट का फैसला सही है। शंकर चरण त्रिपाठी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोर्ट के फैसले पर सही गलत को लेकर टिप्पणी नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा फैसला हमेशा साक्ष्यों के आधार पर आता है, न्यायपालिका पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकता है, बिल्कुल सही फैसला है, जो कुछ भी है सही है।

शंकर चरण त्रिपाठी ने आगे कहा, आगे अपील के लिए माननीय हाईकोर्ट है माननीय सुप्रीम कोर्ट है। हम वहां जाकर अपना पक्ष रखेंगे, और न्यायालय में हमें पूरी उम्मीद है कि हमें फिर से न्याय मिलेगा। बता दें कि हाल के दिनों में पंडित शंकर चरण त्रिपाठी लालू यादव के ज्योतिषी का रोल निभा रहे हैं। लखनऊ के रहने वाले उत्तर प्रदेश के सेल्स डिपार्टमेंट के अधिकारी रहे त्रिपाठी लालू यादव को सियासत से लेकर घर-गृहस्थी के मामलों में भी सलाह देते रहे हैं। माना जाता है कि लालू यादव इनकी सटीक भविष्यवाणियों से काफी प्रभावित हैं। इसी वजह से इन्हें कुछ ही महीनों पहले अचानक से पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया गया था।

राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता पंडित शंकर चरण त्रिपाठी ने कहा है कि चारा घोटाले में आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव को दोषी ठहराये जाने का कोर्ट का फैसला सही है।

Dec 23, 2017

लालू के जेल जाने के बाद बोले सुशील मोदी की खतरनाक भविष्य, आज चारा कल LaRa, क्या है मतलब, पढ़ें

लालू के जेल जाने के बाद बोले सुशील मोदी की खतरनाक भविष्य, आज चारा कल LaRa, क्या है मतलब, पढ़ें

nitish-kumar-said-today-chara-next-lara-means-rabari-devi-number

रांची: चारा घोटाले में लालू यादव को जेल भेज दिया गया है, उन्हें अभी सजा तो नहीं सुनायी गयी है लेकिन 3 जनवरी को सजा सुनायी जाएगी और बता दिया जाएगा कि उन्हें कितने साल तक जेल में रहना होगा, फिलहाल उन्हें रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में भेज दिया गया है.

लालू यादव को चारा घोटाले में जेल जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि - लालू यादव ने जो बोया सो पाया, बोया पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से होय. ये तो होना ही था.

इसके अलावा सुशील मोदी ने लालू परिवार के लिए एक खतरनाक भविष्यवाणी कर दी, उन्होंने कहा कि लालू यादव के परिवार के जेल जाने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है, आज पिता गया कल कौन जाएगा यह लालू को पता है, पूरा परिवार भ्रष्टाचार में लिप्त है चाहे वह चारा घोटाले में हो या बेनामी संपत्ति मामले में, आज चारा कल Lara?

अब लोग यह सोचकर परेशान हैं कि ये LaRa कौन है जिसका अगला नंबर है. LaRa का मतलब है लालू राबड़ी. मतलब लालू यादव के बाद राबड़ी देवी का नंबर है, राबड़ी देवी से हाल ही में ED ने दिल्ली में पूछताछ की थी और उनकी पटना में कई संपत्तियां सीज कर दी थीं, शायद राबड़ी देवी का अगला नंबर है.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के खिलाफ 1996 में बीजेपी नेताओं ने ही पटना हाई कोर्ट में PIL दाखिल की थी, उन नेताओं में सुशील मोदी भी थे, उन्होंने यह भी बताया कि - लालू यादव को सजा दिलाने के लिए PIL दाखिल करने में मेरे साथ शिवानन्द, लालन सिंह भी थे लेकिन बाद में शिवानन्द अब अपने फैसले को गलत बता रहे हैं क्योंकि वह अब लालू यादव की पार्टी में शामिल हो गए हैं.

सुशील मोदी ने यह भी कहा कि राजद नेता लालू को जेल भेजने में बीजेपी की साजिश बता रहे हैं लेकिन उन्हें इससे पहले कांग्रेस सरकार में भी चारा घोटाले में सजा सुनायी गयी थी और जेल भी भेजा गया था, क्या उस समय भी हमारे कहने पर कोर्ट और CBI चलती थी, लालू यादव को कोर्ट ने सजा दी है, बीजेपी ने नहीं.

लालू यादव के खिलाफ क्या है केस

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था. 

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी। 

चारा घोटाले 1100 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.
लालू यादव को जेल पर बोले सुशील मोदी, बोया पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से होय, ये तो होना ही था

लालू यादव को जेल पर बोले सुशील मोदी, बोया पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से होय, ये तो होना ही था

bihar-dcm-sushil-modi-comment-after-lalu-yadav-jail-jo-boya-vo-paya

रांची: चारा घोटाले में लालू यादव को जेल भेज दिया गया है, उन्हें अभी सजा तो नहीं सुनायी गयी है लेकिन 3 जनवरी को सजा सुनायी जाएगी और बता दिया जाएगा कि उन्हें कितने साल तक जेल में रहना होगा, फिलहाल उन्हें रांची की बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में भेज दिया गया है.

लालू यादव को चारा घोटाले में जेल जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि - लालू यादव ने जो बोया सो पाया, बोया पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से होय. ये तो होना ही था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के खिलाफ 1996 में बीजेपी नेताओं ने ही पटना हाई कोर्ट में PIL दाखिल की थी, उन नेताओं में सुशील मोदी भी थे, उन्होंने यह भी बताया कि - लालू यादव को सजा दिलाने के लिए PIL दाखिल करने में मेरे साथ शिवानन्द, लालन सिंह भी थे लेकिन बाद में शिवानन्द अब अपने फैसले को गलत बता रहे हैं क्योंकि वह अब लालू यादव की पार्टी में शामिल हो गए हैं.

सुशील मोदी ने यह भी कहा कि राजद नेता लालू को जेल भेजने में बीजेपी की साजिश बता रहे हैं लेकिन उन्हें इससे पहले कांग्रेस सरकार में भी चारा घोटाले में सजा सुनायी गयी थी और जेल भी भेजा गया था, क्या उस समय भी हमारे कहने पर कोर्ट और CBI चलती थी, लालू यादव को कोर्ट ने सजा दी है, बीजेपी ने नहीं.

लालू यादव के खिलाफ क्या है केस

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था. 

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी। 

चारा घोटाले 1100 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.
बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल कर रही है घोटालेबाज लालू यादव का बेसब्री से इन्तजार

बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल कर रही है घोटालेबाज लालू यादव का बेसब्री से इन्तजार

lalu-yadav-in-birsa-munda-central-jail-ranchi-chara-ghotala-case

रांची: भारत के घोटालेबाज नेता लालू यादव को चारा घोटाले के दूसरे मामले में भी दोषी पाया गया है, उन्हें तुरंत हिरासत में लेकर जेल भेजा जा रहा है, उन्हें रांची की बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल में रखा जाएगा, बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल लालू यादव का बेसब्री से इन्तजार कर रही है. लालू यादव घोटालों के जनक माने जाते हैं, जेलें ऐसे भ्रष्टाचारियों के लिए ही होती हैं, लालू यादव को शायद यहाँ पर कही साल रहना पड़े इसलिए यहाँ पर सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त कर दी गयी है.

लालू यादव के खिलाफ क्या था मामला

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था. 

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी। 

चारा घोटाले 1100 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.
ब्रेकिंग न्यूज़: चारा घोटाले में लालू यादव दोषी करार, गए जेल

ब्रेकिंग न्यूज़: चारा घोटाले में लालू यादव दोषी करार, गए जेल

breaking-news-lalu-yadav-convicted-in-chara-ghotala-case-in-hindi

रांची: लालू यादव और उनके समर्थकों के लिए बुरी खबर है क्योंकि चारा घोटाले में उन्हें दोषी करार दिया गया है और उन्हें तुरंत ही हिरासत में ले लिया गया है, फिलहाल उन्हें अभी सजा नहीं सुनायी गयी है, उन्हें 3 जनवरी को सजा सुनायी जाएगी. उन्हें तुरंत ही जेल जाना होगा और नया साल जेल में बीतेगा क्योंकि कल से छुट्टी होने वाली है इसलिए जज ने 3 जनवरी को सजा सुनाने का फैसला किया. इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र को निर्दोष करार दिया गया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था. 

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी। 

चारा घोटाले 950 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है.

लालू यादव को हिरासत में लेने के बाद उन्हें रांची की केंद्रीय जेल भेजा जा रहा है. लालू को सजा मिलने के बाद उनके घर में सन्नाटा छा गया है. उनके बड़े बेटे तेजस्वी यादव उनके साथ रांची कोर्ट में ही हैं. अगर लालू यादव को बड़ी सजा हुई तो उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया जा सकता है.

Dec 22, 2017

कल आएगा चारा घोटाले का फैसला, लालू यादव कर रहे हैं मी-लार्ड के हैट्रिक लगाने का इन्तजार

कल आएगा चारा घोटाले का फैसला, लालू यादव कर रहे हैं मी-लार्ड के हैट्रिक लगाने का इन्तजार

lalu-yadav-hopeful-to-be-acquitted-in-chara-ghotala-tomorrow-verdict

भारत के न्यायाधीशों ने दो दिन में लगातार घोटाले के दो आरोपियों को बाईज्जत बरी कर दिया है, कल चारा घोटाले का फैसला आना है और मी लार्ड बाईज्जत बरी करने की हैट्रिक लगा सकते हैं, लालू यादव भी खुश हैं, पहले कहा जा रहा था कि फैसले से पहले उनकी नींद उड़ जाएगी लेकिन अब कहा जा रहा है कि लालू यादव को चैन की नींद आएगी क्योंकि उन्हें पूरा भरोसा होगा कि मी-लार्ड उन्हें जरूर छोड़ देंगे. आज लालू यादव ने कहा कि - जिस तरह से 2G और आदर्श घोटाले में फैसला आया है उसी तरह से कल मेरे पक्ष में भी फैसला आएगा और मुझे बरी किया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चारा घोटाले के दो मामले चल रहे हैं - पहले मामले में चाईबासा कोषागार से 37 करोड़ 70 लाख रुपये अवैध ढंग से निकालने के लिए इन सभी को सजा मिल चुकी है और लालू को जेल भी जाना पड़ा था, यही नहीं उनपर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया था. 

कल दूसरे मामले में लालू यादव और 22 अन्य के खिलाफ फैसला सुनाया जाएगा जिसमें देवघर कोषागार से 89 लाख 27 हजार रुपये की अवैध निकासी की गयी थी। 

चारा घोटाले 950 करोड़ रुपये से भी अधिक की लूट का मामला था जिसको लेकर काफी लम्बे समय से जांच चल रही है, कल लालू यादव की किस्मत का फैसला आएगा, अगर उन्हें दोषी पाया गया तो उन्हें तुरंत जेल भेजा जाएगा.

Dec 10, 2017

राहुल गाँधी का मंदिर जाना सही हैं, बीजेपी को धर्म की कोई जानकारी नहीं है: तेजस्वी  यादव

राहुल गाँधी का मंदिर जाना सही हैं, बीजेपी को धर्म की कोई जानकारी नहीं है: तेजस्वी यादव

tejashwi-yadav-told-bjp-dont-have-knowledge-of-religion-dharma

गुजरात चुनाव जीतने के लिए राहुल गाँधी मंदिर मंदिर घूम रहे हैं, सभी देवताओं से आशीर्वाद मांग रहे हैं, राहुल गाँधी की पहली बार ऐसी भक्ति देखकर बीजेपी के लोग उनका जमकर मजाक उड़ा रहे हैं, कांग्रेस के लिए इससे भी बड़ी मुसीबत तब आ गयी जब रणदीप सुरजेवाला ने राहुल गाँधी को जनेऊधारी हिन्दू बता दिया.

आज लालू यादव के बेटे और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने राहुल गाँधी का समर्थन किया, उन्होंने कहा कि भारत में किसी को भी मंदिरों में जाकर पूजा-पाठ करने का हक है चाहे वह राहुल गाँधी हों, कोई अमीर हो या गरीब हो. बीजेपी वाले धर्म के नाम पर राजनीति करते हैं लेकिन इन्हें धर्म के बारे में कोई ज्ञान नहीं है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी को ना तो धर्म का ज्ञान है और ना ही इतिहास का ज्ञान है इसलिए इन्हें धर्म की राजनीति बंद कर देनी चाहिए, जब इन्हें वोट नहीं मिलते तो धर्म की राजनीति करना शुरू कर देते हैं.

आपको बता दें कि राहुल गाँधी ने आज भी गुजरात में दो मंदिरों के दर्शन किये, सबसे पहले उन्होंने रणछोड़जी मंदिर के दर्शन किये लेकिन वहां का अनुभव अच्छा नहीं रहा क्योंकि मंदिर से बाहर निकलते ही मोदी मोदी के नारे लगने लगे.

Dec 8, 2017

लालू परिवार की बर्बादी शुरू, ED ने सख्त एक्शन लेते हुए पटना में 50 करोड़ की बेनामी जमीन की सीज

लालू परिवार की बर्बादी शुरू, ED ने सख्त एक्शन लेते हुए पटना में 50 करोड़ की बेनामी जमीन की सीज

ed-take-action-against-lalu-yadav-family-rs-50-crore-land-seize-patna

लालू यादव के परिवार की बर्बादी शुरू हो गयी है, चारा घोटाले में लालू यादव ने हजारों करोड़ लूट लिए, उसके बाद IRCTC टेंडर घोटाले में भी उन्होंने और उनके परिवार ने अरबों रुपये लूटे हैं, अब टेंडर घोटाले में भी उनके खिलाफ कार्यवाही शुरू हो चुकी है.

आज प्रवर्तन निदेशालय ने लालू यादव और उनके परिवार के खिलाफ सख्त एक्शन लेते हुए पटना में उनकी 3 एकड़ जमीन को सीज कर दिया. यह जमीन 50 करोड़ रुपये की बतायी जा रही है जिसे लालू यादव ने टेंडर देकर घूस के रूप में लिया था. लालू यादव ने यह घोटाला उस वक्त किया था जब वह रेल मंत्री थे.

रिपोर्ट के अनुसार यह जमीन लालू यादव के बेटों और पत्नी राबड़ी देवी के नाम पर है, ED काफी समय से इन लोगों ने पूछताछ कर रही थी लेकिन यह लोग पूछताछ से भाग रहे थे, हाल ही में ED के अफसर पूछताछ के लिए दिल्ली से पटना गए और राबड़ी देवी से पूछताछ की. आज ED ने एक्शन भी ले लिया. आने वाले समय में लालू परिवार जेल भी जा सकता है.

Dec 6, 2017

80 हजार स्वास्थ्य कर रहे हड़ताल, नीतीश कुमार बोले, कर दो इनको नौकरी से बर्खास्त, पढ़ें

80 हजार स्वास्थ्य कर रहे हड़ताल, नीतीश कुमार बोले, कर दो इनको नौकरी से बर्खास्त, पढ़ें

nitish-kumar-order-to-terminate-80000-heath-employee-on-strike

बिहार में हड़ताल कर रहे 80,000 स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बुरी खबर है, ये लोग ड्यूटी छोड़कर पिछले तीन दिनों से हड़ताल कर रहे हैं जिसकी वजह से बिहार के मरीज बेमौत मर रहे हैं, मरीजों को तड़पते देखकर नीतीश कुमार ने सभी जिले के जिलाधिकारियों और सिविल सर्जनों को पत्र लिखकर कहा है कि हड़ताल करने वाले सभी कर्मचारियों को तुरंत ही नौकरी से निकाला जाए और इनकी जगह पर नए लोगों को नियुक्त किया जाए.

स्वास्थयकर्मी क्यों कर रहे हड़ताल

रिपोर्ट के अनुसार करीब 80 हजार स्वास्थ्य कर्मी कुछ ही समय पहले स्थायी किये गए थे लेकिन अब इनकी मांग है कि उन्हें स्थाई स्वास्थ्यकर्मियों की तरह समान कार्य के लिए समान वेतन दिया जाए और उनकी सेवाएं भी स्थाई की जाए

सरकार के इस फैसले के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव आर.के महाजन ने सभी जिलाधिकारियों और सिविल सर्जनों को एक पत्र जारी किया है और कहा है कि हड़ताली स्वास्थ्यकर्मियों की सेवाएं तुरंत समाप्त की जाए और उनके जगह पर नई बहाली की जाए.

Nov 29, 2017

लोग बोले, पूरी तरह ख़त्म करो लालू की सुरक्षा, मोदी की खाल उधेड़ने वाला पहलवान बेटा खुद कर लेगा

लोग बोले, पूरी तरह ख़त्म करो लालू की सुरक्षा, मोदी की खाल उधेड़ने वाला पहलवान बेटा खुद कर लेगा

lalu-yadav-security-cover-should-be-removed-tej-pratap-can-do-this

लालू यादव के छोटे बेटे तेज प्रताप यादव ने गुंडों जैसा बयान देकर अपने परिवार की ही मुसीबत बढ़ा दी है, तेज प्रताप यादव कभी कहते हैं कि मैं सुशील मोदी को उनके घर में घुसकर मारूंगा, कभी कहते हैं कि हम नरेन्द्र मोदी की खाल उधेड़वा देंगे.

इसके अलावा लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने भी कुछ दिन पहले कहा था कि हमारे यहाँ नरेन्द्र मोदी का हाथ और गला काटने वाले बहुत लोग मौजूद हैं.

यह सब देखते हुए केंद्र सरकार ने लालू यादव की Z प्लस श्रेणी की सुरक्षा को घटाकर Z श्रेणी का कर दिया. अब लोग चाहते हैं कि जब लालू यादव का बेटा उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी को घर में घुसकर मार सकता है, वो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की खाल उधेड़वा सकता है तो लालू यादव को सुरक्षा की क्या जरुरत है. जब लालू यादव का बेटा तेज प्रताप इतना बड़ा पहलवान है तो ये उनकी सुरक्षा भी खुद कर लेगा.

lalu-yadav-security-news-in-hindi
लालू-कुनबे की बौखलाहट पर नीतीश कुमार ले रहे हैं खूब मजे, बोले, जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता

लालू-कुनबे की बौखलाहट पर नीतीश कुमार ले रहे हैं खूब मजे, बोले, जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता

nitish-kumar-make-fun-of-tej-pratap-yadav-and-lalu-yadav-statement

बिहार में सत्ता से बेदखल होने के बाद लालू यादव का परिवार अनाप शनाप बयान दे रहा है, कभी कहते हैं कि सुशील मोदी के घर में घुसकर मारूंगा, कभी कहते हैं कि मैं नरेन्द्र मोदी की खाल उधेड़वा दूंगा, कभी कहते हैं कि हम मोदी का हाथ और गला कटवा देंगे, कभी कहते हैं कि हम बीजेपी को ख़त्म कर देंगे.

लालू-कुनबे की इस बौखलाहट को देखकर नीतीश कुमार खूब मजे ले रहे हैं, आज उन्होंने ट्विटर पर उनकी बौखलाहट का मजाक उड़ाते हुए कहा - जान की चिंता, माल-मॉल की चिंता, सबसे बड़ी देशभक्ति है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बिहार में लालू के बेटों के कब्जे में अरबों रुपये का मॉल है जो बेनामी संपत्ति है, मोदी सरकार बेनामी संपत्ति के खिलाफ एक्शन लेने जा रही है, जांच होने के बाद लालू परिवार का अरबों रुपये का नुकसान हो सकता है इसलिए तेज प्रताप यादव परेशान हैं.

इसके अलावा केंद्र सरकार ने लालू यादव की सुरक्षा भी घटा दी, जिसके बाद तेज प्रताप यादव ने कहा कि बीजेपी और नीतीश कुमार मिलकर हमारे पिता को मारने की साजिश कर रहे हैं, हम नरेन्द्र मोदी की खाल उधेड़वा देंगे. 

नीतीश कुमार ने कल भी एक ट्वीट के जरिये लालू-कुनबे का मजाक उड़ाया था, उन्होंने कहा - राज्य सरकार द्वारा Z प्लस और SSG की मिली हुई सुरक्षा के बावजूद केंद्र सरकार से NSG और CRPF के सैकड़ों सुरक्षाकर्मियों की उपलब्धता के जरिये लोगों पर रौब गांठने की मानसिकता साहसी व्यकतित्व का परिचायक है.

nitish-kumar-tweet
मी-लार्ड के आदेश की परवाह ना करते हुए नीतीश कुमार ने पद्मावती को किया बिहार में बैन

मी-लार्ड के आदेश की परवाह ना करते हुए नीतीश कुमार ने पद्मावती को किया बिहार में बैन

bihar-cm-order-to-ban-film-padmavati-in-bihar-till-controversy-end

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली के लिए एक और बुरी खबर आ रही है। आज बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी राज्य में पद्मावती फिल्म पर बैन लगा दिया है. इससे पहले विधानसभा में एक विधायक नीरज कुमार सिंह अपनी कार पर भंसाली और आजम खान की फोटो के ऊपर जूतों की माला लगाकर विधानसभा पहुंचे थे और उन्होंने फिल्म को बैन करने की मांग की थी.

अब ताजा जानकारी मिल रही है कि बिहार सरकार ने भंसाली की फिल्म को बैन कर दिया है। बिहार के  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में फिल्म तब तक रिलीज नहीं होगी जब तक सभी पार्टियां इसे लेकर किसी निष्कर्ष पर न पहुंच जाएं। 

बिहार के खेलमंत्री कृष्ण कुमार ऋषि ने कहा कि जब तक पद्मावती से विवादित दृश्य निकाले नहीं जाते, तब तक फिल्म राज्य में रिलीज नहीं होने नहीं दी जाएगी। अभी तक इस फिल्म को पंजाब, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और गुजरात की सरकारें बैन कर चुकी हैं। आज ही सुप्रीम कोर्ट ने नेताओं को नसीहत दी थी कि कुर्सी पर बैठे व्यक्ति पद्मावती के विरोध में बयानबाजी ना करें लेकिन नीतीश कुमार ने मी-लार्ड के आदेश को नजरंदाज करते हुए फिल्म को बैन करने का आदेश दे दिया.