Showing posts with label Bangal. Show all posts
Showing posts with label Bangal. Show all posts

Aug 16, 2017

देश की आजादी के लिए मिटे थे सुभाष चंद्र बोस, लेकिन आजादी के दिन ममता के राज में मिला अपमान

देश की आजादी के लिए मिटे थे सुभाष चंद्र बोस, लेकिन आजादी के दिन ममता के राज में मिला अपमान

west-bengal-me-subhash-chadnra-bose-ki-pratima-par-kalikh

सुभाष चन्द्र बोस को भारत के सबसे बड़े स्वतंत्रता सेनानियों में से एक माना जाता है. यहाँ तक कि उन्हें महात्मा गाँधी से भी बड़ा स्वतंत्रता सेनानी कहा जाता है और अगर उनकी असमय मौत ना होती तो आजादी के बाद उनकी भूमिका कुछ और होती. उन्होंने देश को आजादी दिलाने के लिए आजाद हिन्द फ़ौज बनाई, अग्रेजों से लोहा लिया और उनकी मिट्टी पलीद करके रख दी. उन्होने देश की आजादी के लिए अपना सब कुछ कुर्बान कर दिया था लेकिन अब उनके ही राज्य में ममता बनर्जी की सरकार में उनका अपमान हो रहा है. 

कल आजादी के दिन उनका नमन किया जाना चाहिए था. उन्हें याद किया जाना चाहिए था. उनकी तारीफ की जानी चाहिए थी लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. तारीफ के बजाय उनका अपमान किया गया और वीरभूमि जिले में उनकी प्रतिमा पर कालिख पोत दी गयी. उन्होने सोचा भी नहीं होगा कि देश को आजादी दिलाने की उन्हें ये सजा मिलेगी.

सुभाष चन्द्र बोस के भतीजे और बीजेपी के बंगाल उपाध्यक्ष चन्द्र कुमार बोस ने इसका आरोप TMC के कार्यकर्ताओं पर लगाते हुए ममता बनर्जी को जमकर फटकार लगाई है. उन्होने कहा कि नेताजी का जान बूझकर अपमान किया गया है और यह सब TMC के कार्यकर्ताओं ने किया है.

चन्द्र बोस ने कहा कि यह बहुत अपमानजनक है. नेताजी को भारत के ही नहीं बल्कि एशिया के लोग भी अपना हीरो मानते हैं, उनके साथ यह घटना विशेष दिन पर हुई है. ममता बनर्जी को शर्म आनी चाहिए. हम उनसे इस घटना पर स्टेटमेंट की मांग करते हैं. उन्हें बताना चाहिए कि यह घटना क्यों और कैसे हुई, चन्द्र बोस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए ममता बनर्जी को 24 घंटे का समय दिया है फिलहाल ममता बनर्जी की तरफ से इस मामले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आयी है.

Jul 31, 2017

बंगाल में TMC नेता अशीकुर रहमान की गोली मारकर हत्या, पढ़ें किसपर लगा आरोप

बंगाल में TMC नेता अशीकुर रहमान की गोली मारकर हत्या, पढ़ें किसपर लगा आरोप

tmc-leader-ashikur-rehman-shot-dead-in-west-bengal-hindi-news

बंगाल में एक TMC नेता की कल गोली मारकर हत्या कर दी गयी, यह घटना पश्चिम बंगाल के भागोर जिले की है, अशीकुर रहमान को गोली लगने के बाद अस्पताल ले जाया गया लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गयी. उनकी मौत से क्षेत्र में अशांति है.

जानकारी के अनुसार अशीकुर रहमान TMC नेता अराबुल इस्लाम के काफी करीबी थे, अराबुल इस्लाम ने इस हत्या का आरोप जमीन जीविका कमेटी के प्रतिनिधियों पर लगाया है.

रिपोर्ट के अनुसार कल जमीन जीविका कमेटी के लोग एक जुलूस निकालने वाले थे, उसके कुछ देर पहले अशीकुर रहमान को गोली मार दी गयी.

इस मामले में जमीन जीविका कमेटी का कहना है कि जुलूस को रोकने के लिए अराबुल इस्लाम के कई समर्थक भारी मात्रा में मौजूद थे, उन्हीं में से किसी ने अशीकुर रहमान की हत्या की है.

इस मामले में अराबुल इस्लाम के बेटे हकीबुल का कहना है कि प्रदर्शनकारी अशीकुर रहमान को काफी दिनों से निशाना बना रहे थे, शनिवार की रात उन्होंने मछिभंगा में पंचायत सदस्य अलाऊद्दीन मोल्ला के घर पर हमला किया था जिसके बाद वे अपना घर छोड़कर भाग गए थे.

इस मामले में TMC पार्टी के एक नेता केशर अहमद ने कहा कि माओवादियों ने उनकी हत्या की है.

क्षेत्र के एसपी अरिजीत सिन्हा ने जांच शुरू कर दी है और जल्द ही दोषियों को गिरफ्तार किया जाएगा.

Jul 27, 2017

ममता बनर्जी ने किया प्रधानमंत्री मोदी को फोन: पढ़ें क्यों

ममता बनर्जी ने किया प्रधानमंत्री मोदी को फोन: पढ़ें क्यों

west-bengal-cm-mamata-banerjee-calls-pm-narendra-modi

आपने देखा होगा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हमेशा मोदी को उखाड़ने और मिटाने की बात करती रहती हैं लेकिन आज उन्होंने खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को फोन किया और उन्हें अपने राज्य की समस्या से अवगत कराकर उनसे मदद मांगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि झारखंड में कई जगह बाढ़ आ गयी है, कई बाँध पानी से ओवरफ्लो हो रहे हैं, इसीलिए झारखंड का दामोदर वैली कारपोरेशन ( DVC) कई बांधों से  पानी छोड़ रहा है, इस पानी की वजह से पश्चिम बंगाल में कई जगह बाढ़ आ गयी है. ममता बनर्जी कई दिनों से परेशान हैं लेकिन मोदी से पर्सनल दुश्मनी की वजह से वे उनसे बात नहीं कर रही थीं लेकिन आज उन्होंने मजबूरी में उन्हें फोन किया और उनसे मदद मांगी. 

उन्होंने कहा कि आप DVC ने कहिये कि अब पानी ना छोड़ें वरना हमारे राज्य में बाढ़ आ जाएगी, यह मैन मेड फ्लड है, उन्होंने DVC से भी अपील में कहा कि कम से कम पानी छोड़ें, कम से कम मात्रा में पानी छोड़ें ताकि बाढ़ ना आए. उन्होंने कहा कि झारखण्ड से छोड़े गए पानी से हर वर्ष पश्चिम बंगाल में बाढ़ आती है, लोगों के घर बह जाते हैं, आदमी और जानवर मर जाते हैं और प्रॉपर्टी को बहुत नुकसान होता है.


Jul 21, 2017

40 करोड़ भाजपाइयों को भारत से भगाएंगी ममता बनर्जी, शुरू करेंगी 'बीजेपी भारत छोडो अभियान'

40 करोड़ भाजपाइयों को भारत से भगाएंगी ममता बनर्जी, शुरू करेंगी 'बीजेपी भारत छोडो अभियान'

mamata-banerjee-will-start-bjp-bharat-chhodo-abhiyan-india
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 40 करोड़ भाजपाइयों को भारत से भगाने के लिए 'बीजेपी भारत छोडो अभियान' शुरू करना का फैसला किया है, उन्होंने आज एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम अगले महीनें 9 अगस्त से बीजेपी भारत छोडो अभियान शुरू करके बीजेपी वालों को भारत से भगा देंगे.


आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल के बशीरघाट में पिछले 20 दिनों से दंगा चल रहा है जिसमें हिन्दुओं को प्रताड़ित किया जा रहा है, ममता बनर्जी पर जिहादियों के तुस्टीकरण का आरोप लग रहा है, बीजेपी वाले ममता बनर्जी का खुलकर विरोध कर रहे हैं, इसलिए ममता बनर्जी ने सोचा होगा कि अगर हम बीजेपी वालों को भारत से भगा देंगे तो कोई हमारा विरोध नहीं करेगा.

ममता बनर्जी को ट्विटर पर करारा जवाब मिल रहा है, एक ने कहा - पहले बंगाल को जिहादियों से बचा लो उसके बाद पूरे भारत के बारे में सोचना. एक ने कहा कि पहले हमें ममता भारत छोडो अभियान शुरू करना होगा. एक ने कहा कि - जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदते हैं वो उसमें एक दिन खुद गिर जाते हैं, कहीं ऐसा ना हो कि TMC खुद विलुप्त हो जाए. 

एक अन्य ने कहा कि इस देश में 40 परसेंट भाजपाई हैं, जिसका मतलब है करीब 40 करोड़ लोग. इनको भागकर बंगलादेशी भारत आओ अभियान चलाओगी क्या मैडम.

bjp-bharat-chhodo-abhiyan

Jul 20, 2017

लोग समझ गए, ममता बनर्जी से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को इसलिए दी सबसे पहले बधाई: पढ़ें

लोग समझ गए, ममता बनर्जी से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को इसलिए दी सबसे पहले बधाई: पढ़ें

why-mamata-banerjee-congratulate-ramnath-kovind-news-in-hindi

आपने देखा होगा जब रामनाथ कोविंद को बीजेपी और एनडीए ने राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित किया था तो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनका सबसे अधिक विरोध किया था, उन्होंने तो यहाँ तक कह दिया था कि हम तो रामनाथ को जानते ही नहीं, ममता बनर्जी से ऐसा उस वक्त कहा था जब रामनाथ कोविंद बिहार के राज्यपाल थे, बंगाल बिहार का पडोसी राज्य है और किसी मुख्यमंत्री का अपने पडोसी राज्य के राज्यपाल को ना जानता अपने आप में हैरान करने वाला था.

रामनाथ कोविंद के चुनाव में उतरने के बाद ममता बनर्जी से विपक्ष को एकजुट करके रामनाथ कोविंद के खिलाफ जबरजस्त अभियान चलाया और उन्हें हराने की हर संभव कोशिश की लेकिन आज रामनाथ कोविंद करीब 69 फ़ीसदी वोटों से चुनाव जीतकर राष्ट्रपति बन गए.

पहले ममता बनर्जी ने रामनाथ कोविंद को ना जानने की बात करके सबको हैरान किया था लेकिन आज उन्होने रामनाथ कोविंद को सबसे पहले बधाई देकर सबको हैरान कर दिया, ममता बनर्जी ने आधे वोटों की काउंटिंग के बाद ही रामनाथ कोविंद को बधाई दे दी.

mamata-banerjee-congratulate-ramanth-kovind

ममता बनर्जी को सबसे पहले बधाई देते देखकर लोग हैरान हो गए हालाँकि बाद में लोग समझ गए कि ममता बनर्जी ने रामनाथ कोविंद को सबसे पहले बधाई क्यों दी है, कई लोगों ने कहा कि बंगाल के हालात बहुत खराब हैं, वहां कभी भी राष्ट्रपति शासन लग सकता है इसलिए चमचई करना जरूरी है. अगर ममता बनर्जी रामनाथ की चमचई नहीं करेंगी तो वहां पर राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाएगा.

why-mamata-banerjee-congratulate-ramnath-kovind
राम को बधाई देने के मामले में ममता बनर्जी ने मारी बाजी, एक घंटा पहले ही दे दी बधाई

राम को बधाई देने के मामले में ममता बनर्जी ने मारी बाजी, एक घंटा पहले ही दे दी बधाई

mamata-banerjee-congratulate-ramnath-one-hour-before-win

ममता बनर्जी भी कमाल की नेता हैं, रामनाथ कोविंद का विरोध करने में सबसे आगे ममता बनर्जी थी तो बधाई देने में भी ममता बनर्जी सबसे आगे थीं, उन्होंने सबसे पहले रामनाथ कोविंद को बधाई थी, वो भी घोषणा होने से एक घंटा पहले, पार्लियामेंट के वोटों की गिनती में बहुमत मिलने के बाद ही ममता बनर्जी को पता चल गया था कि अब रामनाथ को जीतने से कोई नहीं रोक सकता इसलिए उन्होंने एक घंटा पहले ही उन्हें बधाई दे दी.
mamata-banerjee-ne-ramnath-kovind-ko-badhai-di
आपको बता दें कि बीजेपी उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को पार्लियामेंट में बहुमत मिल गया. रामनाथ को कुल 70 फ़ीसदी सांसदों ने वोट किये जबकि मीरा कुमार को केवल 30 फ़ीसदी सांसदों ने वोट किये, राम को 747 में से 522 सांसदों ने वोट किये जबकि मीरा को सिर्फ 225 सांसदों ने वोट किये.
रामनाथ ने पार्लियामेंट के अलावा राज्यों के मतदान में भी मीरा कुमार को बुरी तरह से हराया है, उन्हें जीतने के लिए 50 फ़ीसदी वोटों की जरूरत थी लेकिन अब तक उन्हें 60 फ़ीसदी वोट मिल चुके हैं, वे बहुमत के साथ चुनाव जीत चुके हैं.

अगर टोटल वोटों की बात करें तो रामनाथ कोविंद को 7,02,044 वोट मिले जबकि मीरा कुमार को सिर्फ 3,67,314 वोट मिले. रामनाथ कोविंद को मीरा कुमार से 3,34,730 वोट अधिक मिले.

रामनाथ कोविंद भारत के 14वें राष्ट्रपति होंगे, प्रणब मुख़र्जी का कार्यकाल 25 जुलाई को समाप्त हो रहा है, वे 26 तारीख पर काम काज संभाल लेंगे.

मोदी और अमित शाह ने भी दी बधाई

रामनाथ कोविंद की जीत के बाद प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी बधाई दी है, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उन्हें बधाई दी.

Jul 17, 2017

बंगाल के जिहादीकरण से परेशान होकर कई TMC विधायकों ने भी दे दिया 'राम' को वोट, अब जीत पक्की

बंगाल के जिहादीकरण से परेशान होकर कई TMC विधायकों ने भी दे दिया 'राम' को वोट, अब जीत पक्की

tmc-mla-cross-voting-for-nda-president-candidate-ram-nath-kovind
आज भारत के 14वें राष्ट्रपति पद के लिए मतदान सम्पन्न हुआ, NDA की तरफ से रामनाथ कोविंद मैदान में थे जिन्हें 'राम' का उपनाम दिया गया था जबकि विपक्ष की तरफ से मीरा कुमार मैदान में थीं जिन्हें 'मीरा' का नाम दिया गया था. मीडिया ने इसे 'राम' और 'मीरा' की लड़ाई का नाम दिया था.

राम की जीत पहले ही पक्की थी क्योंकि उन्हें 40 राजनीतिक पार्टियों का समर्थन हासिल था लेकिन TMC के करीब 50 विधायकों ने उनके 'राम' के समर्थन में क्रॉस वोटिंग करके उनकी जीत 101 फ़ीसदी तय कर दी है.

रिपोर्ट के अनुसार ये विधायक बंगाल के जिहादीकरण की वजह से ममता बनर्जी से नाराज थे, उन्होने ममता बनर्जी को सबक सिखाने के लिए चुपचाप 'राम' का नाम लेकर 'राम' को वोट दे दिया और उनकी जीत पक्की कर दी है. 

क्रॉस वोटिंग की जानकारी खुद राज्य सभा सांसद और एस्सेल ग्रुप के प्रमोटर सुभाष चंद्रा ने दी, उन्होंने कहा कि कई विधायकों ने चुपचाप 'राम' को वोट दिया है जिसकी वजह से उनकी जीत तय है.
2 साल से बंगाल नहीं गए राकेश सिन्हा, फिर भी दंगा भड़काने के लिए ममता बनर्जी ने कर दी FIR

2 साल से बंगाल नहीं गए राकेश सिन्हा, फिर भी दंगा भड़काने के लिए ममता बनर्जी ने कर दी FIR

mamata-banerjee-lodged-fir-on-dr-rakesh-sinha-in-west-bengal

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की एक और शर्मनाक करतूत सामने आयी है, उन्होंने आरएसएस विचारक, टीवी डिबेट चैंपियन और दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ राकेश सिन्हा के ऊपर बंगाल में साम्प्रदाईक सद्भाव खराब करने, क्षणयंत्र करने और दंगा भड़काने का आरोप लगाकर FIR दर्ज की है. राकेश सिन्हा का कहना है कि वे दो वर्ष तक बंगाल गए ही नहीं, इसके बावजूद भी उनपर FIR करना समझ से परे है.
professor-rakesh-sinha-news-in-hindi

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राकेश सिन्हा सभी मुद्दों पर टीवी डिबेट शो में आरएसएस का पक्ष रखते हैं, वे आरएसएस के विचारक माने जाते हैं, पश्चिम बंगाल के बशीरघाट में पिछले कई दिनों से दंगे चल रहे हैं, ममता बनर्जी पर आरोप लग रहे हैं कि वे एक धर्म के लोगों का पक्ष ले रही हैं और उनपर कोई कार्यवाही नहीं कर रही हैं. वहां का हिन्दू समुदाय परेशान है इसलिए सोशल मीडिया पर सेव बंगाल का अभियान चलाया जा रहा है. अब शायद ममता बनर्जी टीवी पर उनके खिलाफ बोलने वालों को भी जेल में बंद करना चाहती हैं वरना राकेश सिन्हा पर FIR करने का कोई औचित्य नहीं है.

Jul 16, 2017

रूपा गांगुली ने बताया, बंगाल में जिस महिला का रेप होता है, उसको ही सपरिवार पकड़ती है पुलिस

रूपा गांगुली ने बताया, बंगाल में जिस महिला का रेप होता है, उसको ही सपरिवार पकड़ती है पुलिस

rupa-ganguly-told-police-arrest-women-who-raped-not-who-rape

आज बीजेपी सांसद रूपा गांगुली ने बंगाल की हालत बयाँ करते हुए कहा है कि बंगाल में अगर किसी महिला के साथ रेप होता है तो पुलिस अपराधियों को नहीं पकडती है बल्कि उस महिला और उसके परिवार को गिरफ्तार करके परेशान किया जाता है, बंगाल में पुलिस ब्रेन लेस हो गयी है, TMC नेता उन्हें जो आदेश देते हैं वही करती है. वहां पर अपराध करने वालों को नहीं बल्कि अपराध की शिकायत करने वालों को गिरफ्तार किया जाता है.

उन्होंने बताया कि एक लड़की का उसके ही इलाके में बस स्टैंड के पास रेप कर दिया गया, हजारों लोग सड़कों पर निकल आए और अपराधियों को गिरफ्तार करने की मांग शुरू कर दी लेकिन पुलिस ने अपराधियों को गिरफ्तार करने के बजाय उन्हीं लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

बीजेपी नेता रूपा गांगुली ने रेप पर अपने बयान का बचाव करते हुए कहा है कि 15 दिन तो मैंने ज्यादा बोला है, बंगाल में अगर ममता बनर्जी की मेहमाननवाजी ना ली जाए, यानी कोई महिला ममता बनर्जी से बिना बताये ही बंगाल में किसी जगह किराए पर कमरा लेकर रहना शुरू करे तो 15 दिन से पहले ही महिलाओं के साथ रेप हो जाएगा. उन्होंने कहा कि TMC नेता शोभनदेव वरिष्ठ नेता हैं और मैं उनकी इज्जत भी करती हूँ लेकिन अपने मुंह पर ताला लगाने से आप सच को झुठला नहीं सकते.

रूपा गांगुली ने कहा कि बंगाल में बड़े बड़े लोग आते हैं, बड़े बड़े सुपरस्टार आते हैं और ममता बनर्जी को पकड़कर वाह वाह, दीदी दीदी बोलकर उनकी तारीफ करके चले जाते हैं, उन्होंने ऐसे लोगों से कहा - आप कुछ मत करो, अपनी बीवी को, अपनी बहू को, अपनी बेटियों को भेज दो यहाँ पर, बस आप ममता बनर्जी की मदद ना लें, यानी उनको ना पता चले कि आप यहाँ पर रहने आये हैं.

रूपा गांगुली ने कहा कि, ऐसे लोग किसी भी इलाके में अपने घर की महिलाओं के साथ जाकर रहना शुरू कर दें, 15 दिन तो मैंने ज्यादा बोल दिया है, आप सामान लेकर मकान में घुसोगे तो उस दिन से वहां पर लोग इकठ्ठा हो जाएंगे, पहले दिन जबरन वसूली शुरू हो जाएगी, दूसरे दिन से धमकी मिलनी शुरू हो जाएगी, उसके बाद घर के अन्दर आना शुरू कर देंगे, उसके बाद वे लोग कहें भाभी जी, नए घर में आये हैं, आप हमें पानी वानी पिलाइए, उसके बाद महिलाओं का जबरजस्ती रेप करना शुरू कर देंगे. आज की तारीख में बंगाल की ये हालत है जो एकदम सच है.
रूपा गांगुली ने बताया, सिर्फ 15 दिन में बंगाल में महिलाओं के साथ कैसे होती है रेप की घटना

रूपा गांगुली ने बताया, सिर्फ 15 दिन में बंगाल में महिलाओं के साथ कैसे होती है रेप की घटना

rupa-ganguly-rape-remark-15-days-is-more-in-bengal-for-women
बीजेपी नेता रूपा गांगुली ने रेप पर अपने बयान का बचाव करते हुए कहा है कि 15 दिन तो मैंने ज्यादा बोला है, बंगाल में अगर ममता बनर्जी की मेहमाननवाजी ना ली जाए, यानी कोई महिला ममता बनर्जी से बिना बताये ही बंगाल में किसी जगह किराए पर कमरा लेकर रहना शुरू करे तो 15 दिन से पहले ही महिलाओं के साथ रेप हो जाएगा. उन्होंने कहा कि TMC नेता शोभनदेव वरिष्ठ नेता हैं और मैं उनकी इज्जत भी करती हूँ लेकिन अपने मुंह पर ताला लगाने से आप सच को झुठला नहीं सकते.

रूपा गांगुली ने कहा कि बंगाल में बड़े बड़े लोग आते हैं, बड़े बड़े सुपरस्टार आते हैं और ममता बनर्जी को पकड़कर वाह वाह, दीदी दीदी बोलकर उनकी तारीफ करके चले जाते हैं, उन्होंने ऐसे लोगों से कहा - आप कुछ मत करो, अपनी बीवी को, अपनी बहू को, अपनी बेटियों को भेज दो यहाँ पर, बस आप ममता बनर्जी की मदद ना लें, यानी उनको ना पता चले कि आप यहाँ पर रहने आये हैं.

रूपा गांगुली ने कहा कि, ऐसे लोग किसी भी इलाके में अपने घर की महिलाओं के साथ जाकर रहना शुरू कर दें, 15 दिन तो मैंने ज्यादा बोल दिया है, आप सामान लेकर मकान में घुसोगे तो उस दिन से वहां पर लोग इकठ्ठा हो जाएंगे, पहले दिन जबरन वसूली शुरू हो जाएगी, दूसरे दिन से धमकी मिलनी शुरू हो जाएगी, उसके बाद घर के अन्दर आना शुरू कर देंगे, उसके बाद वे लोग कहें भाभी जी, नए घर में आये हैं, आप हमें पानी वानी पिलाइए, उसके बाद महिलाओं का जबरजस्ती रेप करना शुरू कर देंगे. आज की तारीख में बंगाल की ये हालत है जो एकदम सच है.

Jul 15, 2017

मोदी सरकार का कमाल, प्रणब दा के हाथों उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा काम करवाकर देंगे बिदाई

मोदी सरकार का कमाल, प्रणब दा के हाथों उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा काम करवाकर देंगे बिदाई

modi-sarkar-distribute-2-5-crore-lpg-connection-pranab-mukherjee

राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी भले ही कांग्रेस के नेता रहे हों, भले ही बीजेपी से उनकी विचारधारा अलग रही हो लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उन्हें एक ऐसी बिदाई देने जा रहे हैं जो उनकी जिन्दगी का सबसे बड़ा काम साबित होगी और दुनिया प्रणब मुख़र्जी के गुण गाएगी भले ही ये योजना मोदी सरकार ने शुरू की है और मेहनत भी मोदी सरकार के मंत्रियों की है लेकिन नाम प्रणब मुख़र्जी का होगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि गरीब BPL परिवारों के लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वल योजना शुरू की है जिसके अंतर्गत करीब पांच करोड़ गरीब महिलाओं को फ्री LPG कनेक्शन दिया जा रहा है, अब तक करीब 2 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन बांटे भी जा चुके हैं.

राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी का कार्यकाल 22 जुलाई को समाप्त हो रहा है, कल यानी 15 जुलाई को मोदी सरकार उनके हाथों से बंगाल के गरीब परिवारों को ढाई करोड़ LPG कनेक्शन वितरित करवाएगी, ये गैस कनेक्शन राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी खुद अपने हाथों से वितरित करेंगे।

बंगाल के जिन जिलों में फ्री गैस कनेक्शन दिए जाएंगे उसमें प्रणब मुख़र्जी का गृह जिला जंगीरपुर भवन भी शामिल है, इसके अलावा रघुनाथगंज और मुर्शिदाबाद में भी कनेक्शन बाटें जाएंगे।

इस अवसर पर भारत के पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान और मुर्शिदाबाद के कांग्रेस सांसद अभिजीत मुख़र्जी भी मौजूद रहेंगे, मतलब काम मोदी सरकार का और कांग्रेस सांसद भी इसका क्रेडिट लेंगे। वाह मोदीजी क्या बात है, सबका ख्याल रखते हो.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी देश की सभी गरीब महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन दे रहे हैं ताकि उन्हें धुंवे में खाना ना बनाना पड़े और उनकी तवियत ना खराब हो, उनका कहना है कि धुंवे में खाना बनाने से महिलाओं के शरीर में कई सिगरेट का धुंवा चला जाता है जिसकी वजह से उनकी तवियत खराब हो जाती है. यह योजना 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया जिले से शुरू की गयी थी.

Jul 14, 2017

TMC मंत्री ने बीजेपी MP रूपा गांगुली से पूछा 'बताओ, कितनी बार हो चुका है तुम्हारा रेप'

TMC मंत्री ने बीजेपी MP रूपा गांगुली से पूछा 'बताओ, कितनी बार हो चुका है तुम्हारा रेप'

how-many-times-rupa-ganguly-raped-in-bengal-ask-tmc-minister
बंगाल की सत्ताधारी पार्टी तृण मूल कांग्रेस (TMC) पार्टी के नेता और सरकार में मंत्री सोभनदेब चट्टोपाध्याय ने भारतीय जनता पार्टी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली से नियाहत ही शर्मनाक सवाल पूछ लिया है, उन्होंने रूपा गांगुली से पूछा है कि उनका पश्चिम बंगाल में कितनी बार रेप हो चुका है. सोभनदेब चट्टोपाध्याय ने रूपा गांगुली पर राज्य की छवि खराब करने का आरोप लगाया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बंगाल में हालत बहुत खराब है, मुस्लिम बहुसंख्यक क्षेत्रों में दंगे हो रहे हैं, पुलिस हालत संभालने में नाकाम हो रही है, हिन्दू महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं आम बात हैं, आज इसी बात का हवाला देते हुए रूपा गांगुली ने कहा कि कांग्रेस और TMC के नेता अपनी बहन, बेटियों और बीवियों को 15 दिन के लिए बंगाल में छोड़ दें, इन 15 दिनों में उनकी महिलाओं के साथ जरूर रेप हो जाएगा.

रूपा गांगुली के इसी बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए सोभनदेब चट्टोपाध्याय ने कहा कि पहले रूपा गांगुली को बताना चाहिए कि उनका कितनी बार रेप हो चुका है, दूसरों पर आरोप लगाने के बजाय पहले अपने बारे में खुलासा करो, अगर तुम्हारे साथ यहाँ पर रेप हो चुका है तभी आपके बयान पर लोग अमल करेंगे.

इससे पहले रूपा गांगुली ने कहा कि मैं सभी पार्टियों को चुनौती देना चाहती हूँ, आप ममता बनर्जी सरकार की बिना मदद के अपनी बेटियों, बहनों और बीवियों को बंगाल में भेजिए और उन्हें 15 दिन तक बिना सुरक्षा के घुमाइए, अगर 15 दिनों में उनके साथ रेप नहीं होगा तो मैं अपना बयान वापस ले लूंगी.
मनोज तिवारी ने अरविंद केजरीवाल को जमकर डांटा: पढ़ें क्यों

मनोज तिवारी ने अरविंद केजरीवाल को जमकर डांटा: पढ़ें क्यों

manoj-tiwari-slams-arvind-kejriwal-for-blind-on-bengal-riot

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बंगाल दंगे पर केजरीवाल को जमकर फटकार लगाई है, कल बीजेपी कार्यकर्त्ता बंगाल में ममता बनर्जी के कुशासन का विरोध करने के लिए दिल्ली में राजघाट पर इकठ्ठे हुए थे, इस अवसर पर बोलते हुए मनोज तिवारी ने कहा - हम राजघाट पर इसलिए खड़े हुए हैं ताकि बापू भी हमारी आवाज को सुन सकें, वे देख सकें कि ममता बनर्जी ने बंगाल का क्या हाल बना रखा है.

मनोज तिवारी ने कहा कि हम इसलिए भी इकठ्ठे हुए हैं क्योंकि यहाँ का मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी बार बार बंगाल जाकर ममता बनर्जी के गले मिलता है लेकिन बंगाल में आज दंगे हो रहे हैं तो वह बाहर निकलकर ममता बनर्जी से नहीं पूछता कि यह सब क्यों हो रहा है, क्या अरविन्द केजरीवाल को सांप सूंघ गया है, क्या उसे पता नहीं है कि ममता बनर्जी ने बंगाल में क्या किया, उसको भी आकर बोलना चाहिए.

मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में सरकार जिसकी है, जो सीएम बना है, वो भी उसी प्रवृत्ति का व्यक्ति है, नारंग को भूल जाएंगे क्या हम लोग, इसी शहर में नारंग मारा गया, इसी दिल्ली में वही हुआ तो बशीरघाट में हो रहा है.

मनोज तिवारी ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ प्रतिज्ञा ली कि जब जब उन्हें जरूरत पड़ेगी इस देश के लिए हम अपने प्राणों की आहुति देने को तैयार हैं, हमारा देश रियल में सेक्युलर देश है, हम सेक्युलरिज्म की तरफ जाएंगे और किसी को भी इस तरह से पक्षपात करने की इजाजत नहीं देंगे, हम तुस्टीकरण की इजाजत नहीं देंगे.
मनोज तिवारी ने ममता बनर्जी के बारे में किया बड़ा खुलासा: पढ़ें

मनोज तिवारी ने ममता बनर्जी के बारे में किया बड़ा खुलासा: पढ़ें

manoj-tiwari-exposed-mamata-banerjee-how-she-win-election
नई दिल्ली: दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने ममता बनर्जी के बारे में बहुत बड़ा खुलासा किया है, उन्होंने बताया कि जो भी बंगाली बीजेपी को वोट देना चाहते हैं ममता बनर्जी उनके घर पर अपने गुंडों को छूरा लेकर भेज देती हैं, मजबूरी वश उन्हें TMC को वोट देना पड़ता है, जब हम उनसे कारण पूछते हैं तो वे कहते हैं कि हम तो बीजेपी को वोट देना चाहते हैं बस आप हमारी सुरक्षा का बंदोबस्त कर दो, अगर हम बीजेपी को वोट देंगे तो हमें छूरे से मार दिया जाएगा, पुलिस भी हमारी मदद नहीं करती.

मनोज तिवारी ने कहा हम बंगालियों की परेशानी दिल्ली की गली गली और घर घर में बताएँगे क्योंकि दिल्ली मिनी भारत है, हम पूरी दिल्ली के लोगों से बताएँगे कि ममता बनर्जी ने बंगाल की क्या हालत कर दी है, अब ममता बनर्जी को कोई दीदी कहने वाला इस देश में नहीं मिलेगा, उनके नाम पर लोग लोग गुस्सा हो रहे हैं.

मनोज तिवारी ने कहा कि मैंने अपनी आँखों से देखा है, जब मैं प्रचार करने जाता था तो एयरपोर्ट से उतरने के बाद देखता था कि लोगों की भीड़ लगी हुई है, हजारों लोग खड़े रहते थे, मैंने उनसे पूछा कि क्या यहाँ पर बीजेपी जीतती है तो उन्होंने कहा - नहीं सर, हम लोग चाहें भी तो बीजेपी को वोट नहीं दे सकते क्योंकि वोट के दिन कोई छूरा लेकर हमारे दरवाजे पर खड़ा होता है, हमारा वोटर ID छीन लिया जाता है, हमसे कहा जाता है कि तुम घर में रहो तुम्हारा वोट दे दिया जाएगा, इस तरह से वोट लेकर ममता बनर्जी चुनाव जीतती हैं.

बंगाल में अगर मानुष हिन्दू है तो मार दिया जाता है, औरत सिन्दूर लगाकर निकलती है तो उसके साथ..

बंगाल में अगर मानुष हिन्दू है तो मार दिया जाता है, औरत सिन्दूर लगाकर निकलती है तो उसके साथ..

smriti-irani-slams-mamata-banerjee-for-islamikaran-of-bengal
बंगाल में जिहाद को बढ़ावा देने के लिए केन्द्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जमकर फटकार लगाई, उन्होंने कहा कि बंगाल में जिहादियों ने हिंसा-उत्पात मचा रखा है और सरकार आँखें बंद करके तमाशा देख रही है, ममता बनर्जी जिहादी तत्वों को बढ़ावा दे रही हैं और वे एक समुदाय के लोगों को मार रहे हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी वालों ने SAVE BENGAL का अभियान शुरू किया है, हम बंगाल की असलियत राष्ट्र के सामने रखेंगे और उन जिहादी तत्वों को सबक सिखाकर रहेंगे जिन्होंने राष्ट्र को झुकाने का काम किया है.

स्मृति ईरानी ने ममता बनर्जी पर बरसते हुए कहा कि वे माँ, माटी और मानुष की बात करती हैं लेकिन यहाँ पर महिलायें अगर सिन्दूर लगाकर शाम को घर से निकलती हैं तो उनके साथ कुछ भी हो सकता है, इसके अलावा अगर किसी मानुष के मुंह से गलती से भी निकल जाए कि वह हिन्दू है तो उसे मार दिया जाता है. यही नहीं जिस माटी पर TMC के गुंडों की नजर पड़ती है उसे लेकर रहते हैं भले ही एक समुदाय को खून से लहूलुहान कर दिया जाय.

स्मृति इरानी ने कहा कि यहाँ पर हमारे एक कार्यकर्त्ता की हत्या कर दी गयी, जब परिवार के लोग अपने प्रियजन के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान जाने लगे तो जिहादियों ने उन्हें पकड़कर अधिकारियों के सामने ही पीटना शुरू कर दिया और अधिकारी खड़े होकर चुपचाप तमाशा देखते रहे.
बंगाल में जिहादियों को बढ़ावा देने के लिए स्मृति ईरानी ने ममता बनर्जी को लगाई फटकार: पढ़ें

बंगाल में जिहादियों को बढ़ावा देने के लिए स्मृति ईरानी ने ममता बनर्जी को लगाई फटकार: पढ़ें

smriti-irani-launch-save-bengal-mission-slams-mamata-banerjee
भारतीय जनता पार्टी की फायरब्रांड नेता स्मृति इरानी ने कल दिल्ली के राजघाट पर बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ बंगाल में ममता बनर्जी के शासन के खिलाफ प्रदर्शन किया और जिहादियों को बढ़ावा देने के लिए ममता बनर्जी को जमकर फटकार लगाई. उन्होंने कहा कि बंगाल में हमारे वरिष्ठ कार्यकर्त्ता को मार दिया गया, हमारे कार्यकर्त्ता डरे हुए हैं, हम उन्हें बताना चाहते हैं कि हम हर कदम पर उनके साथ हैं, इस संघर्ष में वे अपने आप को अकेला ना समझें,  हम बंगाल को जिहादियों के चंगुल से बचाकर रहेंगे.

स्मृति ईरानी ने कहा कि बशीरघाट में लोगों ने देखा कि एक परिवार अपने प्रियजन का अंतिम संस्कार करने के लिए श्मशान की तरफ जा रहा था लेकिन जिहादियों ने उन परिवार के लोगों को पकड़कर अधिकारियों के सामने सरेआम पीटा और पुलिस अधिकारी के लोग चुपचाप खड़े होकर तमाशा देखते रहे.

स्मृति ईरानी ने कहा कि नोजिया हो, कुर्द्वान हो या हावड़ा हो अगर कोई नागरिक अपने समुदाय की गौरवलीला भी प्रदर्शित किया जाए, रामनवमी के दिन रामलला को नमस्कार करके अगर कोई शोभा यात्रा भी निकालना चाहे तो उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट का केस लगाया जाता है.

स्मृति इरानी ने कहा हम ममता बनर्जी से पूछना चाहते हैं कि जिन लोगों ने परिवारों को पीटा, भाजपा के कार्यकर्ताओं की हत्या की, दुकानों और मकानों को जलाया, अधिकारियों को धमकाया, क्या ममता बनर्जी की सरकार ने उन जिहादियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट का कोई गंभीर केस लगाया है.

स्मृति रानी ने रूपा गांगुली के हवाले से बताते हुए कहा कि आज हालात ये हैं कि मांग में सिन्दूर भरे, माथे पर बिंदी लगाए महिला अगर शाम को घर से निकलती है तो कहीं ना कहीं मन में ये संकल्प लेकर निकलती है कि अगर मेरे साथ कोई दुर्व्यवहार होगा तो या तो मैं लड़ते लड़ते अपने प्राण त्याग दूंगी या अपने घर से बाहर ही नहीं जाउंगी.

स्मृति इरानी ने कहा कि ममता बनर्जी माँ, माटी और मानुष की बात करती थी, जब वो माँ का उल्लेख करती हैं तो किस माँ का उल्लेख करती हैं, सब जानते हैं कि बंगाल में माँ दुर्गा की पूजा होती है, आपमें से शायद बहुत कम लोग जानते हैं कि आज बंगाल की राजनीतिक हालत ऐसी है कि जब माँ दुर्गा पूजा के बाद बंगाली उनकी प्रतिमा का विसर्जन करने जाते हैं तो ममता बनर्जी की सरकार कहती है कि तारीख बदल दो क्योंकि यह तारीख हमें मंजूर नहीं है. जिस माँ का वो राजनीतिक तौर पर वोट बटोरने के बाद इस्तेमाल करती हैं उस माँ की प्रतिमा का विसर्जन रोकने का पाप भी ममता बनर्जी करती हैं.

स्मृति इरानी ने कहा कि माँ के बाद ममता बनर्जी माटी की बात करती हैं, अगर TMC के किसी नेता की नजर किसी जमीन के एक छोटे से टुकड़े पर पड़ जाय तो भले ही पूरा समुदाय लहूलुहान हो जाए लेकिन वो TMC का गुंडा उस जमीन को पाने में समर्थ हो जाता है क्योंकि पूरा प्रशासन मूकदर्शक बनकर तमाशा देखता रहता है.

इसके बाद ममता बनर्जी मानुष की बात करती हैं लेकिन बंगाल की एक पुरानी विरासत है, हमने रवींद्र नाथ टैगोर के बारे में पढ़ा है, वे जब राष्ट्रभक्त गीत गाते हैं तो फक्र से सर ऊंचा करते है कि ये रवींद्र नाथ टैगोर की रचना है. जब भाजपा के कार्यकर्त्ता कश्मीर की बात करते हैं तो फक्र से करते हैं कि हमारे कार्यकर्ताओं ने वलिदान दिया इसलिए कश्मीर आज भी हमारे देश के सर का ताज है लेकिन यहाँ का मानुष सिर्फ इसलिए लड़वाया जाता है क्योंकि ममता बनर्जी को राजनीति करनी है.

स्मृति ईरानी ने कहा कि आज अगर TMC के राज में बंगाल की असलियत सुननी है तो ममता बनर्जी के राज में माँ का अपमान होता है, माटी लहूलुहान होती है और मानुष को मौत के घाट उतारा जाता है अगर वो मानुष गलती से कह देता है कि मैं हिन्दू हूँ.

स्मृति ईरानी ने कहा कि बंगाल के बीजेपी कार्यकर्ताओं के मन में एक फांस जरूर रहती है कि अगर वरिष्ठ कार्यकर्त्ता को बंगाल में मौत के घाट उतारा जाता है और न्याय नहीं मिलता तो क्या देश में कोई सुन पा रहा है कि पार्टी का झंडा फहराने के लिए हमें अपना खून बहाना पड़ता है, अब हालात ऐसे हो गए हैं कि ममता बनर्जी जिहादियों के सामने गिडगिडा रही हैं कि अब तो बंद कर दो दंगे क्योंकि पूरा देश बंगाल की तरफ देख रहा है और मुझ पर थूक रहा है.

स्मृति इरानी ने कहा कि क्या इससे बड़ा कोई प्रमाण मिल सकता है कि जिहादी तत्वों ने बंगाल को इस प्रकार से घेर रखा है कि बंगाल की मुख्यमंत्री स्वयं उनके सामने घुटने टेककर और गिडगिडाकर मदद की गुहार लगा रही हैं कि आपने बहुत दंगे किये अब तो मदद करो.

स्मृति इरानी ने कहा कि देश ने यह भी देखा है कि अगर पुलिस उन जिहादी तत्वों को रोकने का प्रयास करती है तो पूरा पुलिस स्टेशन जलाया गया है.

स्मृति ईरानी ने कहा कि बंगाली में कहा गया था 'एकला चलो रे' अगर कोई साथ ना आए तो अकेले ही चलो लेकिन भाजपा का इतिहास है कि जब जब भाजपा के कार्यकर्त्ता को ललकारा गया है या परेशान किया गया है तो पूरा भाजपा परिवार एकजुट हो गया है और कार्यकर्ताओं को हमने न्याय दिलाने का काम किया है, हम बंगाल की सच्ची परिस्थिति को राष्ट्र के सामने प्रस्तुत करेंगे और उन जिहादी ताकतों को हराने में अपनी तरफ से योगदान करेंगे जिन्होंने आज राष्ट्र को झुकाने का काम किया है.

Jul 9, 2017

मनोज तिवारी बोले, अब मुझे समझ में आ गया, केजरीवाल और ममता इतना गले क्यों मिलते हैं

मनोज तिवारी बोले, अब मुझे समझ में आ गया, केजरीवाल और ममता इतना गले क्यों मिलते हैं

manoj-tiwari-exposed-kejriwal-and-mamta-banerjee-relation

मनोज तिवारी ने आज बंगाल दंगों को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के साथ साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को भी जमकर धो दिया, उन्होंने कहा कि जिस प्रकार की सूचनाएं आ रही हैं उससे इतना तो तय है कि बंगाल में जो हो रहा है वह अपने आप नहीं हो रहा है बल्कि ये बंगाल सरकार की सोची समझी साजिश है और ममता बनर्जी ने जो कृत्य किया है, अब उनके नाम के आगे कोई दीदी लगाना पसंद नहीं करेगा.

मनोज तिवारी ने कहा कि अब लोगों को पता लग जाएगा कि ममता बनर्जी किस चरित्र की राजनेता हैं और उनका साथ देने के लिए केजरीवाल की भी सच्चाई सामने आ गयी है. अब उनकी गुणवत्ता के बारे में पता चल रहा है, अब हमको समझ में आ गया कि ये दोनों इतना गले क्यों मिलते हैं, अब समझ में आ रहा है कि भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने वालों का समर्थन करने वाला अरविन्द केजरीवाल और केंद्रीय सुरक्षा बालों को तीन-चार दिनों तरोके रखकर स्थानीय जनता को मार काट मचाने का मौका देने वाली ममता बनर्जी एक मंच पर क्यों आ जाते हैं. अब समझ में आ रहा है कि नोटबंदी के बाद ये दोनों नेता क्यों परेशान हो जाते हैं, इतना दर्द क्यों होता है, अब उस दर्द का भी धीरे धीरे रिसर्च होगा.

उन्होंने कहा कि अब यह भी पता चलेगा कि कहीं भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने वालों को उसी कालेधन से तो नहीं तैयार किया जा रहा है और बंगाल में जो कहते हैं, या उनपर तो नहीं खर्च किया जा रहा है तो बंगाल में कहते हैं, पुलिस को रोक दो, छूट दे दो, 24 घंटे में सब ठीक कर देंगे, अब तो हमें अकबरुद्दीन भी इसी में शामिल नजर आ रहा है.

मनोज तिवारी ने कहा कि हमारे देश का मूल चरित्र ही सेकुलर है, इनकी सेकुलरिज्म से हमारा देश नहीं चलता है और ये जो अवार्ड वापसी गैंग के लोग हैं आज कल दिखाई नहीं दे रहे हैं.
ममता बनर्जी ने ऐसा घिनौना काम किया है अब उनके नाम के आगे कोई नहीं लगाएगा दीदी: मनोज तिवारी

ममता बनर्जी ने ऐसा घिनौना काम किया है अब उनके नाम के आगे कोई नहीं लगाएगा दीदी: मनोज तिवारी

bengal-danga-latest-news-manoj-tiwari-slams-mamata-banerjee
दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी ने आज बंगाल दंगे पर ममता बनर्जी को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा है कि उन्होने ऐसा घिनौना काम किया है कि अब उनके नाम के आगे कोई दीदी नहीं लगाएगा.

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार की सूचनाएं आ रही हैं उससे इतना तो तय है कि बंगाल में जो हो रहा है वह अपने आप नहीं हो रहा है बल्कि ये बंगाल सरकार की सोची समझी साजिश है और ममता बनर्जी ने जो कृत्य किया है, अब उनके नाम के आगे कोई दीदी लगाना पसंद नहीं करेगा.

मनोज तिवारी ने कहा कि जब हम बंगाल को याद करते हैं, पश्चिम बंगाल की धरती को याद करते हैं तो कैसे कैसे महापुरुषों के नाम याद आते हैं - रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद जी, रवींद्र नाथ टैगोर, बंकिम चंद चटर्जी. एक समय था जब इस देश को चलाने के लिए प्रशासनिक अधिकारी बनते थे तो सबसे अधिक बंगाल के लोग चुने जाते थे, अगर इस देश की अस्मिता बचाने की बात होती थी तो सिर्फ बंगाल से होती थी लेकिन आज कैसी परिस्थितियां बदल गयी हैं, आज बंगाल की चर्चा किस परिस्थिति में हो रही है.

मनोज तिवारी ने कहा कि ममता बनर्जी जो राजनीतिक खेल खेल रही हैं वो अब किसी के छुपाने से या किसी पत्रकार को बीमार करके घर बिठाने से छुपने वाला नहीं है, अब ये निकल गया है तो ममता बनर्जी की असलियत देश को दिखाई दे रही है.

मनोज तिवारी ने कहा कि अब लोगों को पता लग जाएगा कि ममता बनर्जी किस चरित्र की राजनेता हैं और उनका साथ देने के लिए केजरीवाल की भी सच्चाई सामने आ गयी है. अब उनकी गुणवत्ता के बारे में पता चल रहा है, अब हमको समझ में आ गया कि ये दोनों इतना गले क्यों मिलते हैं, अब समझ में आ रहा है कि भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने वालों का समर्थन करने वाला अरविन्द केजरीवाल और केंद्रीय सुरक्षा बालों को तीन-चार दिनों तरोके रखकर स्थानीय जनता को मार काट मचाने का मौका देने वाली ममता बनर्जी एक मंच पर क्यों आ जाते हैं. अब समझ में आ रहा है कि नोटबंदी के बाद ये दोनों नेता क्यों परेशान हो जाते हैं, इतना दर्द क्यों होता है, अब उस दर्द का भी धीरे धीरे रिसर्च होगा.

उन्होंने कहा कि अब यह भी पता चलेगा कि कहीं भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने वालों को उसी कालेधन से तो नहीं तैयार किया जा रहा है और बंगाल में जो कहते हैं, या उनपर तो नहीं खर्च किया जा रहा है तो बंगाल में कहते हैं, पुलिस को रोक दो, छूट दे दो, 24 घंटे में सब ठीक कर देंगे, अब तो हमें अकबरुद्दीन भी इसी में शामिल नजर आ रहा है.

मनोज तिवारी ने कहा कि हमारे देश का मूल चरित्र ही सेकुलर है, इनकी सेकुलरिज्म से हमारा देश नहीं चलता है और ये जो अवार्ड वापसी गैंग के लोग हैं आज कल दिखाई नहीं दे रहे हैं.

मनोज तिवारी ने मीडिया से अपील करते हुए कहा कि हमारी बात को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं ताकि ऐसे लोगों की गन्दी मानसिकता से किये गए काम को घर घर पहुंचाया जा सके ताकि ये लोग ऐसे कार्य करते हिन्दू, मुस्लिम, सिख और इसाई को बाँट ना सकें और हमारा देश एक साथ खड़ा रहे.

मनोज तिवारी ने कहा कि मैं सोचते सोचते डर रहा था, बंगाल के हालात देखकर एक वर्ग में ऐसी मानसिकता आएगी कि हम जहाँ रहें वहां एक साथ रहें और जब हमारी संख्या अधिक हो जाए तो हम दुश्मनों पर अटैक करें, अगर ऐसी मानसिकता आएगी तो जहाँ जो ज्यादा रहेगा फिर उसके अन्दर गुस्सा आएगा, उबाल आएगा. हम किस मुंह से इस देश के नागरिकों की रक्षा की बात कर रहे हैं, हम तो जहर परोस रहे हैं और किसलिए सिर्फ वोट के लिए, ये लोग सोचते हैं कि ऐसा करेंगे तो इतने वोट आ जाएंगे, ऐसे लोगों की सोच वोट से अधिक जा ही नहीं सकती.

मनोज तिवारी ने कहा कि जिस मोब से मोब लिंचिंग कराई जाती है अगर मोब के लोग अकेले नेताओं के पास मदद के लिए पहुँचते हैं तो नेता मुंह मोड़ लेते हैं और कोई मदद नहीं करते हैं, मोब के लिए नेता कोई रोजगार भी नहीं बना सकते क्योंकि उनके पास कोई नीति और नियत ही नहीं है.
मुस्लिम तुस्टीकरण करके बंगाल को कश्मीर बना रही हैं ममता बनर्जी, खतरे में हैं हिन्दू: BJP

मुस्लिम तुस्टीकरण करके बंगाल को कश्मीर बना रही हैं ममता बनर्जी, खतरे में हैं हिन्दू: BJP

bjp-accused-mamata-banerjee-turning-bengal-into-another-kashmir

भारतीय जनता पार्टी ने आज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि वे सिर्फ मुस्लिमों का पक्ष लेकर बंगाल को एक और कश्मीर बनाना चाहती हैं, अगर उनकी तुस्टीकरण की राजनीति जारी रही तो बंगाल जल्द ही भारत का दूसरा कश्मीर बन जाएगा और हिन्दुओं का पलायन शुरू हो जाएगा. 

बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि बंगाल में हिन्दू सुरक्षित नहीं हैं, बहुत से लोगों की हत्या की जा रही है, लोगों को भगाया जा रहा है, उनके घर और दुकानें जला दी जा रही हैं, सरकार दंगाइयों पर कोई एक्शन नहीं ले रही है क्योंकि वे एक ख़ास धर्म के हैं, इसके अलावा बांग्लादेशी घुसपैठिये भारत में घुसकर आराम से रह रहे हैं लेकिन सरकार सो रही है.

बीजेपी के एक दूसरे सांसद सत्यपाल सिंह ने भी ममता बनर्जी पर बरसते हुए कहा कि ममता बनर्जी उन लोगों का पक्ष ले रही हैं तो धार्मिक उन्मांद फैला रहे हैं. आज बंगाल के हालात इसलिए खराब हैं क्योंकि ममता बनर्जी की पॉलिसीस गलत हैं, पुलिस कहीं दिख नहीं रही है, कानून व्यवस्था की हालत विल्कुल खस्ताहाल है. अगर हालात जल्द काबू में नहीं आये तो भारत के लिए सही नहीं होगा, हमें बशीरघाट नहीं जाने दिया गया, यह साबित करना है कि ममता बनर्जी असलियत छुपाना चाहती हैं जिसकी वजह से दंगाइयों का हौसला बढ़ रहा है.
बंगाल के हिन्दुओं से बोले राजा सिंह, अगर जिन्दा रहना है तो गुजरात की तरह जवाब दो, वरना

बंगाल के हिन्दुओं से बोले राजा सिंह, अगर जिन्दा रहना है तो गुजरात की तरह जवाब दो, वरना

bengal-hindus-should-respond-like-gujarat-bjp-mla-raja-singh
हैदराबाद के बीजेपी नेता राजा सिंह ने बंगाल के हालात पर चिंता प्रकट करते हुए हिन्दुओं से अपील करते हुए कहा है कि अगर तुम्हें जिन्दा रहना है तो गुजरात की तरह जवाब देना होगा वरना ऐसे ही जुल्म सहन करना पड़ेगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 2002 में गुजरात दंगे के समय भी ऐसा ही माहौल था लेकिन जब हिन्दुओं ने जवाब दिया तो दोबारा आजतक दंगे नहीं हुए, बंगाल के नार्थ 24 परगना जिले के बशीरघाट और बदुरिया में भीषण दंगे हो रहे हैं जिसमें हिन्दू समुदाय के लोगों पर जुल्म किया जा रहा है. राजा सिंह ने हिन्दुओं को रोता-बिलखता देखकर कहा है कि या तो गुजरात की तरह जवाब दो वरना जुल्म सहो.

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगला में हिन्दू सुरक्षित नहीं हैं, उन्हें दंगाइयों को वैसा ही जवाब देना पड़ेगा जैसा गुजरात के हिन्दुओं ने दिया था, अगर ऐसा नहीं हुआ तो जल्द ही बंगाल बांग्लादेश बन जाएगा, हिन्दू ख़त्म कर दिए जाएंगे.

उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर बरसते हुए कहा कि वह उन लोगों का साथ दे रही हैं जो साम्प्रदाईक हिंसा में शामिल हैं. उन्होंने सेक्युलर लोगों से अपील करते हुए कहा कि अगर आप लोग बंगाल के हिन्दुओं को सुरक्षित देखना चाहते हो तो आपको अधिक सतर्क रहना होगा, अगर आप लोग सतर्क नहीं रहे तो बंगाल का भी वही हश्र होगा जो कश्मीर में हिन्दुओं के साथ हुआ, आप भी कश्मीरी हिन्दुओं की तरह ख़त्म कर दिए जाओगे.