Feb 4, 2018

प्रमोशन के लिए जीतेन्द्र यादव को गोली मारने वाले पुलिसवालों से छीनी गयी पिस्टल, भेजा गया जेल


noida-sector-122-fake-encunter-case-jitendra-yadav-policemen-suspend

नॉएडा: उत्तर प्रदेश पुलिस ने बदमाशों के खिलाफ एनकाउंटर अभियान शुरू किया है, लेकिन कुछ पुलिस वाले उत्तर प्रदेश पुलिस वालों को बदनाम करने पर भी तुले हुए हैं, हाल ही में मथुरा में एक एनकाउंटर में एक बच्चे को गोली मार दी गयी थी तो कल नॉएडा में एक युवक जीतेंद्र यादव को गोली मारकर उसे एनकाउंटर का नाम दे दिया गया, हालाँकि ऐसा करने वाले पुलिस अफसरों से पिस्टल छीन ली गयी है और उन्हें जेल भेज दिया गया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार नॉएडा में फर्जी एनकाउंटर के आरोपी सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस युवक जीतेंद्र यादव को गोली मारी गई थी उसका फोर्टिस अस्पताल में इलाज चल रहा है और उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। 

अस्पताल के बाहर सैकड़ों लोग और भारी मात्रा में पुलिस तैनात है। इस मामले में मौके पर मौजूद कई पुलिसकर्मी फरार बताये जा रहे हैं।

जितेन्द्र के परिजनों का आरोप है कि चौकी इंचार्ज विजयदर्शन घटना के वक्त नशे में थे और उन्होंने जितेन्द्र पर बंदूक तानते हुए कहा कि प्रमोशन का सीजन है और उनका प्रमोशन रह गया है एक-दो को टपकाना पड़ेगा। 

परिवारवालों का आरोप है कि जितेन्द्र को यादव होने के कारण गोली मारी है। गांववालों का कहना है कि 10-12 दिन पहले कुछ पुलिसकर्मी पास की मार्केट में उगाही करने आए थे, जिसको लेकर जितेन्द्र का चौकी इंचार्ज से विवाद भी हुआ था। इसी कारण जितेंद्र को चौकी इंचार्ज ने गोली मार दी।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: