Feb 4, 2018

मुस्लिम लड़की से प्रेम में मारे गए अंकित सक्सेना को न्याय दिलाने के लिए घर पहुंचे मनोज तिवारी


delhi-bjp-president-manoj-tiwari-demand-justice-for-ankit-saxena

नई दिल्ली: अंकित सक्सेना का मुद्दा भारत का मीडिया इसलिए नहीं उठा रहा है क्योंकि वो हिन्दू है और मारने वाले मुस्लिम हैं, अगर अंकित की जगह कोई दलित या मुस्लिम मारा गया होता तो मीडिया उसके घर के ही बाहर टेंट लगा देता. खैर आज बीजेपी दिल्ली अध्यक्ष मनोज तिवारी उसके लिए न्याय मांगने के लिए उसके घर पहुंचे और परिवार से मिलकर उन्हें सांत्वना दी.

मनोज तिवारी ने अंकित सक्सेना की हत्या को दिल दहला देने वाली घटना बताया। उन्होंने हत्यारों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग की। उन्होंने अंकित के कत्ल को पूर्वनियोजित तरीके से की गई पेशेवर हत्या करार दिया है। मनोज तिवारी ने ट्वीट किया, ” अंकित सक्सेना के पिता और परिवार के दूसरे सदस्यों से मिला, परिवार ने अंकित की मां के लिए तुरंत मेडिकल सहायत मांगी, जिसे मुहैया करा दिया गया है, यह पूर्वनियोजित तरीके से की गई पेशेवर हत्या थी। दिल्ली पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और फास्टट्रैक बेसिस पर चार्जशीट फाइल करने का भरोसा दिया है।” 

उन्होंने यह भी कहा कि चूंकि अंकित के परिवार ने अपने घर के कमाने वाले एकमात्र सदस्य को खो दिया है इसलिए उनके परिवार को एक करोड़ मुआवजा दिया जाना चाहिए।

वहीं अंकित के पिता ने मनोज तिवारी से कहा कि उन्हें इंसाफ चाहिए। किसी धर्म से उन्हें नफरत नहीं है। यहां कुछ लोग हमसे बात करते हैं लेकिन उसे मज़हब से जोड़कर दिखा रहे हैं। उन्होंने कहा मेरा इकलौता बेटा चला गया। अब मैं किसी से पैसे वगैरा लेकर क्या करूंगा। मालुम हो कि अंकित के पिता 15 साल पहले ह्रदय की बीमारी से जूझ रहे थे और उन्होंने दुकान बंद कर दी थी जिसके बाद अंकित जब बड़ा हुआ तो फोटोग्राफी का काम कर परिवार को पालता है। अंकित की हत्या के बाद परिवार में कोई कमाने वाला नहीं रहा।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: