Feb 7, 2018

छुट्टी पर घर आये BSF जवान ने कुल्हाड़ी से पत्नी की गर्दन काटकर खुद को लगा ली फांसी, पढ़ें


bsf-jawan-jai-prakash-killed-wife-and-hang-himself-in-revari-haryana

रेवाड़ी, 7 फरवरी: रेवाड़ी: हरियाणा के रेवाड़ी जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है. बीएसएफ के एक जवान ने कुल्हाड़ी से पहले अपनी पत्नी के गर्दन पर वार कर निर्मम हत्या कर दी और उसके बाद खुद को फांसी लगा ली। घर में मौजूद वृद्ध मां ने जब यह खूनी नजारा देखा तो उसने शोर मचाकर पड़ोसियों को बुलाया। तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। 

जैसे ही यह खबर गांव में फैली तो पूरा गांव घर के बाहर जमा हो गया और इसकी सूचना जाटूसाना पुलिस को दे दी गई। पुलिस ने घटनास्थल से कुल्हाड़ी बरामद कर मामले की जांच शुरू कर दी। मौके से अभी तक ऐसा कोई पुर्जा व सुराग नहीं मिला, जिससे हत्या व आत्महत्या करने का राज खुल सके। 

जानकारी अनुसार जिला के गांव कुमरोधा निवासी 44 वर्षीय जयप्रकाश बीएसएफ में उप निरीक्षक के पद पर नोएडा दिल्ली में कार्यरत था। वह अपने माता-पिता का इकलौता पुत्र था। पिता की मौत हो चुकी है और परिवार का गुजारा जयप्रकाश की आय से ही चल रहा था। उसके 13 व 16 साल के दो लडक़े हैं। 14 जनवरी को वह छुट्टी लेकर घर आया था। 

गांव के महिला सरपंच के पति धर्मपाल ने कहा कि इस दिल दहला देने वाली घटना से पूरा गांव स्तब्ध है। जयप्रकाश के जाने के बाबद वृद्धा मां की लाठी टूट गई है, वहीं बच्चे अनाथ हो गए हैं। बूढ़ी मां बार-बार बेटे का नाम लेकर आवाज लगाती है। उसके पास बच्चों को पालने के लिए कोई सहारा नहीं बचा है।

बताया जाता है कि उसका अपनी पत्नी सुमनलता के साथ पारिवारिक कलेश रहता था। मंगलवार दोपहर 2:30 बजे जयप्रकाश की अपनी पत्नी सुमनलता के साथ कहासुनी हो गई। जिसके चलते आवेश में आकर उसने कुल्हाड़ी से सुमन की गर्दन पर ताबड़तोड़ हमला कर मौत के घाट उतार दिया। कमरे में चारों ओर खून ही खून फैल गया। पत्नी का मौत के घाट उतारने के बाद वह घबरा गया और उसने स्वयं भी पंखे को नीचे उतारकर उसके हुक से फांसी लगाकर जान दे दी। 

जिस समय यह खूनी खेल हुआ उस समय जयप्रकाश की वृद्ध मां ही घर पर थी। उसके दोनों बच्चे स्कूल गए हुए थे। मां ने जब यह खूनी नजार देखा तो वह सहम गई और चिल्लाते हुए घर से बाहर निकलकर लोगों को इसकी सूचना दी। देखते ही देखते सैकड़ों लोगों की भीड़ मौके पर जमा हो गई। जाटूसाना थाना पुलिस को इसकी सूचना दे दी गई। पुलिस ने जब कमरे में प्रवेश किया, तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। कमरे में पत्नी का लहुलुहान शव पड़ा था और पास ही जयप्रकाश फांसी पर लटका हुआ था। ग्रामीणों के अनुसार गनीमत यह रही कि जयप्रकाश के दोनों बच्चे उस समय स्कूल गए हुए थे। अन्यथा जयप्रकाश का क्रोध बच्चों को भी नुकसान पहुंचा सकता था। सूचना के बाद पहुंची जाटूसाना पुलिस ने जयप्रकाश का शव नीचे उतारा और पति-पत्नी के शव का पंचनामा कर ग्रामीणों व मां से पूछताछ शुरू कर दी। देर शाम तक पुलिस जांच में जुटी थी। 

जाटूसाना थाना प्रभारी हीरामणि ने कहा कि पति-पत्नी के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है। बुधवार को इनका पोस्टमार्टम होगा। फिलहाल मृतक जयप्रकाश के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया जा रहा है। मामले की छानबीन में पता चला है कि पति-पत्नी में मनमुटाव रहता था। (रिपोर्टर: दिनेश चौहान).
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: