Feb 3, 2018

बहुत गहरा था सलीमा का प्यार, अंकित के हत्यारे अपने अब्बा-चाचा को 24 घंटे में भिजवाया तिहाड़


ankit-saxena-girlfriend-saleema-send-his-father-uncle-jail-24-hour

नई दिल्ली: दिल्ली की सलीमा और अंकित का मिलन भले ही ना हो पाया हो लेकिन सलीमा का अकित के प्रति प्यार बहुत गहरा था, शायद यही कारण है कि अपने प्रेमी अंकित की हत्या करने वाले अपने ही अब्बा और चाचा को सिर्फ 24 घंटे में तिहाड़ भेज दिया.

पापा-मामा ने किया ये काम: सलीमा

सलीमा ने बताया कि मैं अपने घर से अंकित को मिलने जा रही थी, इतने में मिंटू आया और पता चला कि अंकित का गला काट दिया गया है. मेरे घर वालों ने यह किया. मेरे मामा ने यह सब करा है.

सलीमा ने बताया कि हम दोनों शादी करने जा रहे थे, अंकित ने मुझे बुलाया था कि चल आज हम दोनों शादी करते हैं, इससे पहले कि हम दोनों शादी कर पाते, उससे मार दिया गया. अब मुझे भी मेरे घर वालों से डर लग रहा है.

सलीमा ने बताया कि अंकित के मारे जाते वक्त मैं वहां पर नहीं था लेकिन मुझे बताया गया कि मेरे घर वालों ने ही उसे मारा है. चाकू ने उसका गला काट दिया गया.

24 घंटे में जेल भेजे गए हत्यारोपी अब्बा-चाचा

दिल्ली में वीरवार को हुए अंकित सक्सेना हत्याकांड मामलें में पुलिस ने आरोपी लडकी के चाचा और पिता को गिरफ्तार करके 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेज दिया गया है. 

आपको बता दे की 23 साल के अंकित सक्सेना की वीरवार को छूरे से गर्दन काट कर हत्या दी गई थी, उसका कसूर ये था कि वो दूसरे मजहब (मुस्लिम) की लड़की से मुहब्बत करता था, लड़की के पिता ने उसे मुहब्बत करने की सजा दी और उसकी गर्दन ही काट दी.

अंकित की हत्या के बाद सलीमा (अंकित की प्रेमिका) ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि अंकित का इंतजार टैगोर गार्डन मेट्रो स्टेशन पर कर रही थी. वह अपने घर से बाइक लेने गया था. मुझे किसे ने बताया कि उसकी हत्या कर दी गई है. मामा के साथ मिलकर मेरे पापा और अंकल ने इस घटना को अंजाम दिया है।

इसी बीच पुलिस के सामने बयान देने वाली लड़की ने आशंका जताई है की उसके चाचा के साथी उसकी हत्‍या कर सकते हैं, इसलिए पुलिस ने उसे सुरक्षा मुहैया कराई है.

पोस्ट शेयर करें, कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट करें
loading...

0 comments: