Jan 26, 2018

मीडिया को खरीद लिया, छल-प्रपंच किया फिर भी घाटे में जा रहा भंसाली, बुरी तरह फ्लॉप होगी पद्मावत


sanjay-leela-bhansali-film-padmaavat-flop-on-first-2-days-collection

मुंबई: संजय लीला भंसाली ने पद्मावत फिल्म को बनाने में 180 करोड़ रुपये खर्च किये हैं, आईमैक्स और 3डी फॉर्मेट में कन्वर्ट कराने के लिए भी 20 करोड़ रुपए और खर्च किए गए. अन्य भाषाओँ में डबिंग करवाने के लिए 20 करोड़ खर्च किये हैं, करीब 20-30 करोड़ रुपये मीडिया को खरीदने में खर्च किये हैं, 20 करोड़ रुपये टीवी पर प्रचार पर खर्च किये हैं. मतलब कुल मिलाकर पद्मावत फिल्म पर 250 करोड़ रुपये खर्च किये गए हैं.

भंसाली को 250 करोड़ रुपये कमाने के लिए लगातार 12-13 दिन तक 20-20 करोड़ रुपये कमाने की जरूरत है लेकिन पहले दो दिन सिर्फ 21 करोड़ रुपये की कमाई हुई, आने वाले तीन छुट्टियों में अगर रोजाना 20-20 करोड़ रुपये की कमाई हुई तो कुल होंगे 81 करोड़ रुपये. उसके बाद छुट्टियाँ बीत जाएंगी तो फिल्म की कमाई भी कम हो जाएगी. अगर रोजाना फिल्म ने 10-10 करोड़ रुपये कमाए तो शुक्रवार तक होंगे 50 करोड़ और. टोटल हो जाएंगे 130 करोड़. उसके बाद फिर से 2 दिन छुट्टी में 20-20 करोड़ रुपये कमाए तो टोटल हो जाएंगे 170 करोड़. उसके बाद चार दिन फिर से वर्किंग-डे रहेंगे, 10-10 करोड़ रुपये और जोड़ लें तो कुल हो जाएंगे 210 करोड़.

उसके बाद 9 फ़रवरी को अक्षय कुमार की फिल्म पैडमैन आ जाएगी और संजय लीला भंसाली की कमाई रुक जाएगी, पांच-दस करोड़ और जोड़ लो तो टोटल हो जाएंगे 220 करोड़ रुपये.

कहने का मतलब है कि संजय लीला भंसाली की पद्मावत फिल्म फ्लॉप होने वाली है. ट्रेंड को देखकर ऐसा लग रहा है कि यह फिल्म ज्यादा से ज्यादा 220 करोड़ रुपये कमा पाएगी जबकि इसकी लागत है 250 करोड़ रुपये.

पद्मावत बनाने के लिए भंसाली ने दो स्क्रिप्ट पर काम किया है, एक तो फिल्म की स्क्रिप्ट और दूसरी विवाद की स्क्रिप्ट. ज्यादा मेहनत विवाद की स्क्रिप्ट पर की गयी है, मतलब - राजपूतों की भावनाएं कैसे भड़कानी हैं, खिलजी और पद्मावती के बीच में ड्रीम सिक्वेंस की अफवाह उड़ाकर राजपूतों को कैसे भड़काना है, हिंसा-आगजनी कैसे करवानी है ताकि ज्यादा से ज्यादा फिल्म का प्रचार हो और लोगों के मन में इसे देखने की उत्सुकता हो.

भंसाली ने यह फिल्म बनाने के लिए हर नुश्खा आजमाया है, पूरा छल प्रपंच किया है, लोगों की भावनाओं से खेला है, मीडिया को खरीदा है, उनके जरिये राजपूत नेताओं को शो में बुलवा बुलवा कर उनकी बेइज्जती करवाई है, उसके बाद भी वह अपनी कमाई नहीं निकलवा पाएगा. भंसाली ने सोचा था कि उसकी फिल्म देखने के लिए लोग सिनेमाघरों में टूट पड़ेंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, तीन भाषाओँ में रिलीज होने के बाद भी उसकी फिल्म ने पहले दिन सिर्फ पांच करोड़ और दूसरे दिन सिर्फ 16 करोड़ रुपये कमाए. अब आप खुद सोच सकते हैं कि वह कितने पैसे कमा पाएगा.

कुछ लोग कह सकते हैं कि करणी सेना के विरोध की वजह से कमाई कम हुई है लेकिन यह भी सोचने वाली बात है कि करणी सेना बंगाल, बिहार, पंजाब, कर्णाटक, तमिलनाडु, या अन्य राज्यों में तो नहीं है, वहां पर फिल्म की कमाई क्यों नहीं हो रही है, वहां लोग फिल्म को देखने क्यों नहीं जा रहे हैं.  
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: