Jan 29, 2018

छत के ऊपर से गोली मारी गयी चन्दन गुप्ता को, गोली चलाने वाला आरोपी सलीम फरार: DM आरपी सिंह


kasganj-dm-r-p-singh-revealed-kasganj-danga-chanda-gupta-murder

कासगंज: कासगंज मामले पर पूरे देश की नजर है. कुछ अफवाहों का भी दौर चल रहा है, सोशल मीडिया पर कुछ लोग अपने मन की अफवाहें फैलाए जा रहे हैं. आज कासगंज के जिलाधिकारी आरपी सिंह ने आजतक चैनल पर आकर मामले की जानकारी दी और दंगे की वजह भी बतायी.

उन्होंने बताया कि चन्दन गुप्ता की एक संकल्प संस्था है, इस संस्था के 70-80 युवा लोग मोटरसाइकिल में तिरंगा बांधकर और नारे लगाते हुए शहर में परिक्रमा कर रहे थे, एक मोहल्ला बडूनगर है, वहां पर एक समुदाय विशेष के लोग इकठ्ठे थे और ध्वजारोहण के बाद भाषण दे रहे थे. वहां पर इन लोगों का वाद-विवाद हुआ. वहीं पर ईंट-पत्थर चला और ये लोग अपनी मोटरसाइकिल छोड़कर भागे, अभी तक कोई चश्मदीद नहीं मिल पाया है जो खबर की पुष्टि कर सके.

क्या थी झड़प की वजह

सबसे पहली बात तो यह है कि जिस दिन यह कांड हुआ था उस दिन दो बार झड़प हुई थी, पहली बार झड़प के बाद चन्दन गुप्ता ने अपने पिता को बताया था कि हमने हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया तो उन्होंने भी हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया, उसके बाद मुस्लिमों ने हमसे कहा कि हमने हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगा दिया है अब आप लोग पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाओ तो हमने मना कर दिया, हमने कहा कि हम हिन्दुस्तानी हैं इसलिए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे नहीं लगा सकते. उसके बाद बहस बढ़ गयी तो ऊपर से ईंट-पत्थर फेंका जाने लगा, ये लोग जान बचाकर अपनी मोटरसाइकिल वहीं पर छोड़कर भाग आये. (इस बात की सत्यता की जांच होनी बाकी है).

उसके बाद ये लोग वहां से चले आये और आपस में तय किये कि उन लोगों ने वहां से हमें आगे जाने से रोक दिया, देखते हैं यहाँ से कैसे रोकते हैं,  इधर से 20-25 लोग निकले और उधर से जिस घर के लोगों ने इनको रोका था, इनके ऊपर ईंट-पत्थर फेंका था, वहां से इनके ऊपर फायर हुआ जिसमें अभिषेक उर्फ़ चन्दन नाम के युवक की मौत हो गयी जबकि एक नौशाद नाम के व्यक्ति के पैरों में गोली लगी. दोनों को हॉस्पिटल भेजा गया जहाँ पर चन्दन को मृत घोषित किया गया, नौशाद को अलीगढ में भर्ती कराया गया है.

छत के ऊपर से चलाई गयी चन्दन गुप्ता पर गोली

उन्होंने बताया कि छत के ऊपर से ही चन्दन गुप्ता पर गोली चलाई गयी. गोली जिस छत से चलाई गयी वह घर मुसलमान का था, जिस पर गोली चलाने का आरोप है उसका नाम सलीम है और वह फरार है, इस मामले में 9 मुख्य आरोपी गिरफ्तार किये गए हैं. मुख्य आरोपी को ढूँढने की कोशिश की जा रही है और अगर उसे पकड़ा नहीं जा सकता तो उसका मकान कुर्क किया जाएगा.

डीएम आरपी सिंह ने बताया कि हमने मुख्य आरोपी सलीम के घर की तलाशी करवाई तो हमें एक बन्दूक, एक देशी पिस्तौल और एक देशी बम मिला. जिस हथियार से गोली चलाई गयी थी वह हथियार बरामद कर लिया गया है, इस मामले की IO जांच कर रहा है, एक हप्ते में पूरे मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: