Jan 8, 2018

दिल्ली में 44 लोगों की मौत के बाद बोले कपिल मिश्रा, केजरीवाल बन गया लाशों को नोचने वाला गिद्ध


kapil-mishra-blame-44-death-because-of-arvind-kejriwal-dusib-chairman

नई दिल्ली: आज दिल्ली के विधायक और पूर्व जल मंत्री कपिल मिश्रा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को लाशों को नोचने वाला गिद्ध बताया. उन्होंने कहा कि दिल्ली में पिछले 6 दिनों में सड़कों पर 44 बेघरों की मौत हुई है, ये लोग ठण्ड से और भूख से मरे हैं, इनके लिए कोई रैन बसेरा नहीं बनाया गया था और अभी भी हजारों लोग सड़क पर खुले आसमान के नीचे पड़े हैं.

उन्होंने बताया कि इन मौत के आंकड़ों को पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री मानने को तैयार नहीं थे, सुबह से कह रहे थे कि ये लोग ठंड से नहीं मरे हैं लेकिन जैसे ही इनके ठंड से मरने की पुष्टि हुई उसके बाद केजरीवाल ने इन मौतों के लिए DUSIB (दिल्ली शहरी आश्रय सुधार बोर्ड) के CEO को जिम्मेदार बता दिया और उसे यूजलेस अफसर बता दिया. केजरीवाल का कहना है कि CEO को एलजी ने रखा है इसलिए उसे हटा देना चाहिए.

कपिल मिश्रा ने कहा कि इसी CEO ने पिछले 2-3 महीनों में जब रैन बसेरे बनाए थे तो उसकी फोटो केजरीवाल खुद ही ट्विटर और फेसबुक पर शेयर करते थे और उसकी तारीफ़ करते थे. 

कपिल मिश्रा ने बताया कि DUSIB के अन्दर CEO चौथे नंबर का अफसर होता है, इसके चेयरमैन मुख्यमंत्री केजरीवाल हैं, वाइस चेयरमैन स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन हैं. इसके बाद केजरीवाल ने इसकी जिम्मेदारी विधायक अखिलेश पति त्रिपाठी को दी हुई है. इन तीन लोगों के बाद चौथे नंबर पर CEO का नंबर आता है.

कपिल मिश्रा ने बताया कि - केजरीवाल कहते हैं कि 44 मौतों के लिए CEO जिम्मेदार है, उसे हटा देना चाहिए लेकिन मैं कहना चाहता हूँ कि इन 44 मौतों के लिए DUSIB के चेयरमैन अरविन्द केजरीवाल जिम्मेदार हैं, उसके बाद वाइस चेयरमैन सत्येन्द्र जैन जिम्मेदार हैं, उसके बाद अखिलेश प्रति त्रिपाठी हैं जिन्हें DUSUB का इंचार्ज बनाया गया है.

उन्होंने केजरीवाल को फटकार लगाते हुए कहा कि आज उसी CEO को गालियाँ दे रहे हो जिसकी पिछले 2-3 महीनों में फोटो डाल डाल कर गुजरात में वोट मांग रहे थे, कर्नाटक और नागालैंड में वोट मांगने की तैयारी कर रहे थे. 

उन्होंने कहा कि केजरीवाल के लिए इससे बड़ी बेशर्मी वाली बात हो ही नहीं सकती, दिल्ली का मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल अब लाशों को नोचने वाला गिद्ध बन चुका है. आज इन्हें इस्तीफ़ा देना चाहिए, इन 44 मौतों के जिम्मेदार केजरीवाल हैं. आज से पहले इन्होने DUSIB के CEO को यूजलेस क्यों नहीं बोला, जब तुम्हारी लापरवाही की वजह से इतने लोगों की मौत हो गयी तो तुम CEO और LG पर जिम्मेदारी डाल रहे हो. तुम इस्तीफ़ा दो.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: