Jan 22, 2018

खट्टर सरकार ने दिया सुशासन का अच्छा उदाहरण, पकड़ लिए 20 लाख फर्जी राशन कार्ड, रोकी महालूट


haryana-sarkaar-good-governance-20-lakh-fake-ration-card-caught

चण्डीगढ़, 22 जनवरी: हरियाणा में बीजेपी सरकार से पहले 20 लाख फर्जी राशन कार्ड बनाए गए थे जिसके जरिये सरकारी राशन की महालूट होती थी, सरकारी खजाने से अकूत पैसा लूटा जा रहा था लेकिन खट्टर सरकार ने शुशासन का अनूठा उदाहरण पेश करते हुए 20 लाख फर्जी राशनकार्ड पकड़कर महालूट का पर्दाफाश किया है.

हरियाणा के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री कर्ण देव कम्बोज ने कहा कि भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेंस नीति पर काम करते हुए हरियाणा सरकार सभी जन सेवाओं को ऑनलाईन कर रही है। प्रदेश के राशन कार्डों को जब ऑनलाईन किया गया तो 20 लाख राशन कार्ड फर्जी पाए गए. इन लोगों में से कुछ ऐसे थे जिनके नाम दो जगह पर दर्ज थे, बाकी पूर्णतया फर्जी पाए गए. इस व्यवस्था से प्रदेश को हर माह 15 हजार मिट्रिक अनाज की बचत हुई।

40 हजार फर्जी पेंशन धारक पकडे गए

इस प्रकार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग से मिलने वाली बुढापा पैंशन में 40 हजार फर्जी पैंशन धारक मिले। इन लोगों में उन लोगों के नाम भी शमिल थे, जो इस दुनिया में ही नहीं थे।

4 लाख फर्जी दाखिले पकडे गए

ऑनलाईन प्रणाली में जब सरकारी स्कूलों के बच्चों का रिकॉर्ड डाला गया तो प्रदेश में 4 लाख फर्जी दाखिले मिले। इन छात्रों के वजीफे एवं वर्दी बिचौलिये लोग खा रहे थे।

मंत्री कर्ण देव कम्बोज ने यह बात आज बसंत पंचमी के अवसर पर संत शिरोमणी नामदेव की याद में हिसार के संत नामदेव धर्मशाला में आयोजित बसंत पंचमी समारोह में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार हर विभाग में पारदर्शिता बरत रही है। प्रदेश सरकार व्यवस्था परिवर्तन के बेहतरीन तौर-तरीकों एवं उपायों को लागू कर रही है। इन क़दमों से भ्रष्टाचार में कमी आई है और सरकारी सेवाओं में तेजी आई है। उन्होंने कहा कि आज चाहे नौकरी देने की बात हो या विकास की सभी योग्यता एवं तय मानकों से की जा रही है। सरकार ने भाई-भतीजावाद, क्षेत्रवाद की राजनीति को खत्म कर सबका साथ-सबका विकास नीति के सिद्धांत पर चलकर सभी का समान रूप से विकास कर रही है।
पोस्ट शेयर करें, कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट करें
loading...

0 comments: