Jan 16, 2018

कांग्रेस को अच्छे लगने लगे हिंदुत्व के फायरब्रांड नेता प्रवीण तोगड़िया, बदला रंग, पहुंचे मिलने


congress-leader-arjun-modhwadia-meet-hindutva-leader-pravin-togadia

अहमदाबाद: अगर आपको याद हो तो पिछले हफ्ते ही वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और कर्णाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने हिंदुत्व को आतंकवाद और उग्रवाद बताया था. कांग्रेस के सभी नेताओं, प्रवक्ताओं ने उनके बयान का समर्थन किया और टीवी डिबेट में बचाव किया.

अगर आप नजर दौडाएं तो पाएंगे कि मोहन भागवत के बाद प्रवीण तोगड़िया ही हिंदुत्व विचारधारा के सबसे बड़े नेता हैं, अगर कहा जाए कि विश्व हिन्दू परिषद् के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया सबसे फायरब्रांड नेता हैं तो गलत नहीं होगा, मतलब इन्हीं लोगों को कांग्रेस पार्टी कल तक भगवा आतंकवादी, हिन्दू उग्रवादी, कट्टरपंथी, दक्षिणपंथी, पता नहीं क्या क्या कह रही थी.

लेकिन आज कांग्रेस ने अपना रंग बदल लिया है. अब प्रवीण तोगड़िया कांग्रेस नेताओं को अच्छे लगने लगे हैं, आज प्रवीण तोगड़िया ने बीजेपी सरकारों पर निशाना साधते हुए अपनी आवाज दबाये जाने का आरोप लगाया तो कांग्रेसी नेता भागते भागते प्रवीण तोगड़िया से मिलने पहुँच गए.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आज गुजरात के कांग्रेस के बड़े नेता अर्जुन मोढवादिया अहमदाबाद में प्रवीण तोगड़िया से मिलने पहुंचे और उनका हाल चाल जाना. प्रवीण तोगड़िया कल तक कांग्रेस को सबसे बुरे लगते थे लेकिन आज उन्होंने बीजेपी सरकारों पर आवाज दबाने का आरोप लगाया तो वे कांग्रेस को अच्छे लगने लगे.

इससे पहेल प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि मैं हिंदुत्व पर बात करता हूँ, हिन्दुओं को एकजुट करता हूँ, गौरक्षा की बात करता हूँ तो मेरी आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है.

अब कांग्रेस ने प्रवीण तोगड़िया का समर्थन करके इशारा कर दिया है कि - प्रवीण तोगड़िया को हिंदुत्व पर बोलने दिया जाए, गौरक्षा पर उन्हें काम करने दिया जाए, हिन्दुओं को एकजुट करने के काम पर रोक ना लगाई जाय.

ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस पार्टी - बीजेपी और आरएसएस के बिछाए जाल में बुरी तरह से फंस गयी है. इससे ये सन्देश गया है कि एक तरफ तो ये भगवा, हिंदुत्व, आरएसएस, विश्व हिन्दू परिषद् का विरोध करते हैं लेकिन दूसरी तरफ जब प्रवीण तोगड़िया आवाज दबाने का आरोप लगाते हैं तो कांग्रेस पार्टी उनके साथ खड़ी हो जाती है. वाह कांग्रेस नेताओं। गिरगिट भी शर्मा जाएगा आप लोगों को देखकर।
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: