Jan 15, 2018

हाईकोर्ट पहुँचने में लेट हो गए बॉबी कटारिया के वकील, अब मुश्किल होगा पुलिस-टॉर्चर साबित करना


bobby-kataria-lawyer-late-for-high-court-will-not-proof-torture-police

गुरुग्राम: बॉबी कटारिया के समर्थकों का कहना है कि गुरुग्राम पुलिस ने उसे 6 दिन रिमांड में लेकर थर्ड डिग्री टॉर्चर किया और उसे पैरों पर खड़ा होने लायक नहीं छोड़ा, उसके पिता ने भी मुख्यमंत्री खट्टर को लिखे पत्र में दावा किया है कि बॉबी कटारिया ने उनसे कोर्ट में रोते हुए बताया था कि पुलिस वालों ने उसे 6 दिनों तक लगाकर टॉर्चर किया है और उसे कोई मेडिकल सहायता नहीं दी.

बॉबी कटारिया के समर्थकों का दावा था कि हाई कोर्ट में अपील डालकर बॉबी कटारिया का मेडिकल चेकअप कराएंगे और उसे टॉर्चर करने वाले पुलिस अफसरों को सजा दिलवाएंगे लेकिन अब ऐसा होना मुश्किल है क्योंकि बॉबी कटारिया के वकील हाई कोर्ट में पहुँचने में देरी कर रहे हैं.

बॉबी कटारिया को 25 तारीख को गुरुग्राम पुलिस ने रिमांड में लिया था और 31 को फरीदाबाद पुलिस को सौंपा था, उसके बाद फरीदाबाद पुलिस ने उसे 2 दिन तक रिमांड में लिया था और 2 तारीख को उसे नीमका जेल में भेज दिया था. सूत्रों से पता चला है कि फरीदाबाद पुलिस ने उसे कोई टॉर्चर नहीं किया बल्कि ठीक करने की कोशिश की. बॉबी कटारिया पिछले 14 दिनों से नीमका जेल में बंद है.

बॉबी कटारिया के वकील हाई कोर्ट में रिट पेटीशन दाखिल करने में जितनी देरी करेंगे बॉबी के ऊपर पुलिस टॉर्चर साबित करना उतना ही मुश्किल हो जाएगा क्योंकि पुलिस वाले भी चाहते हैं कि बॉबी कटारिया ठीक होकर ही जेल से बाहर जाए ताकि उनपर कोई मुसीबत ना आने पाए. 

कुछ लोग ये भी कह रहे हैं कि बॉबी पहले गलत पुलिस वालों के जाल में फंसा लेकिन अब गलत वकीलों के जाल में फंस गया है जो उसे ना तो जमानत दिलवा पा रहे हैं, ना हाई कोर्ट में फेक FIR को खारिज करने के लिए Qwash Application डाल रहे हैं और ना ही मेडिकल कराने के लिए Writ Petition डाल रहे हैं. अगर ऐसा रहा तो बॉबी कटारिया को लम्बे समय तक जेल में गुजारना पड़ सकता है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: