Follow by Email

Total Pageviews

Blog Archive

Search This Blog

बॉबी कटारिया की ऐसी हालत देखकर युवाओं का उठ रहा पुलिस, प्रशासन, कोर्ट, खट्टर सरकार से भरोसा

Share it:
bobby-kataria-become-very-week-in-gurugram-police-6-day-remand

गुरुग्राम: बॉबी कटारिया को गुरुग्राम में गरीबों और लाचारों का मसीहा कहा जाता है, बॉबी कटारिया सिर्फ इतना चाहते थे कि गुरुग्राम की पुलिस बिना रिश्वत खाए, ईमानदारी से काम करे इसलिए वह लगातार पुलिस के खिलाफ आवाज उठा रहे थे, वह रात में निकल जाते थे और नाके पर गायब पुलिस वालों की हकीकत दिखाते थे, जब किसी गरीब की FIR नहीं लिखी जाती थी तो वह थाने में पहुंचकर उसकी FIR लिखवाते थे, जब पुलिस अपराधियों के खिलाफ एक्शन नहीं लेती थी तो वह उसके खिलाफ आवाज उठाते थे, ऐसा करके उन्होंने गुरुग्राम पुलिस को अपना दुश्मन बना लिया, एक दिन पुलिस ने उन्हें थाने में गरीबों के लिए आवाज उठाते वक्त गिरफ्तार किया और मारपीट की तो बॉबी कटारिया ने भी वीडियो में SHO संदीप और SHO घनश्याम को अपशब्द बोल दिए.

बॉबी की यही गलती थी, उसी रात गुरुग्राम पुलिस ने उन्हें रात 11 बजे उठाकर हवालात में बंद कर दिया, बिना अरेस्ट वारंट के उन्हें गिरफ्तार किया, उनके खिलाफ अपने आप से धाराएं लगा दीं, उनके समर्थकों के अनुसार कुछ फर्जी मुक़दमे ठोंक दिए गए और कोर्ट में पेश करके 6 दिन की रिमांड पर ले लिया.

गुरुग्राम पुलिस की इस हरकत पर देश के युवक बहुत नाराज हैं, गरीबों की मदद की वजह से बॉबी कटारिया युवाओं के हीरो बन गए थे, अपने हीरो के साथ पुलिस का ऐसा जुल्म देखकर लाखों युवाओं का पुलिस, प्रशासन, कोर्ट, हरियाणा की बीजेपी-खट्टर सरकार और केंद्र की मोदी सरकार से भरोसा उठ गया है, क्योंकि बॉबी कटारिया को लोग गरीबों, लाचारों का मसीहा मानते थे. उन्होने युवा एकता फाउंडेशन नाम से एक NGO बनाया था.

गुरुग्राम पुलिस के पास से जैसे ही बॉबी कटारिया की 6 दिनों की रिमांड ख़त्म हुई वैसे ही उन्हें फरीदाबाद पुलिस ने कैद कर दिया और कल कोर्ट में पेश करके 2 दिनों की रिमांड पर ले लिया, अब तक किसी को यह नहीं पता चल पाया है कि बॉबी कटारिया को किस जुर्म में गुरुग्राम पुलिस ने 6 दिनों के लिए रिमांड पर लिया था क्योंकि बॉबी कटारिया के खिलाफ पहले किसी ने ना तो पुलिस में शिकायत की थी और ना ही FIR लिखवाई थी, फरीदाबाद में जरूर उनके खिलाफ FIR थी लेकिन गुरुग्राम पुलिस ने जो किया उसकी किसी को उम्मीद नहीं रही होगी.

खैर अब बॉबी कटारिया गुरुग्राम पुलिस की कैद से छूटकर फरीदबाद पुलिस की कैद में आ गए हैं, कल फरीदाबाद पुलिस ने उन्हें कोर्ट में पेश करके 2 दिनों की रिमांड पर लिया. बॉबी कटारिया कल बहुत कमजोर दिख रहे थे, उनके चेहरा भी लटका हुआ था, बॉबी कटारिया को गुरुग्राम का शेर कहा जाता है, वह बॉडी बिल्डर हैं लेकिन पुलिस की रिमांड में आकर उनकी हालत खराब हो गयी है, उनके समर्थक उनकी हालत देख देखकर परेशान हैं और पुलिस पर टॉर्चर का आरोप लगा रहे हैं.

बॉबी कटारिया के खिलाफ अरावली स्कूल की प्रिंसिपल रीमा रॉय ने धमकी देने का मामला दर्ज कराया था जो उन्होंने गरीब बच्ची निकिता के इलाज के लिए मांगे थे, आपको बता दें कि अरावली स्कूल की बस से टकराकर निकिता नाम की एक छात्रा का पैर कट गया था. उसी के इलाज के लिए बॉबी कटारिया ने स्कूल प्रिंसिपल से पैसे मांगे थे और स्कूल में आकर पैसे लेने की धमकी दी थी लेकिन इससे पहले की वह फरीदाबाद आ पाते, उन्हें गुरुग्राम पुलिस ने गिरफ्तार करके 6 दिन के रिमांड पर ले लिया और अब वह अरावली स्कूल केस में 2 दिनों की पुलिस रिमांड पर हैं.

बॉबी कटारिया इस वक्त फरीदाबाद क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर जितेंद्र यादव के पास दो दिन की रिमांड पर हैं.
बॉबी से पूंछतांछ जारी है. कल उन्हें फिर से कोर्ट में पेश किया जाएगा.
Share it:

Haryana

States

Post A Comment:

0 comments: