Jan 4, 2018

महाराष्ट्र में जातिवाद की आग लगाने वाले जिग्नेश मेवाणी को अल्पेश ठाकुर ने जमकर लताड़ा, पढ़ें


alpesh-thakor-slams-jignesh-mevani-for-provoke-speech-in-maharashtra

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में जातिवाद की आग लग चुकी है, दलित और मराठा के बीच में खूनी संघर्ष शुरू हो चुका है, दो दिन पहले दलितों और मराठा के बीच में हिंसा हुई, कल दलितों ने पूरे महाराष्ट्र को बंद रखा, कई गाड़ियाँ जला दी गयीं, कई जगह तोड़ फोड़ और आगजनी की गयी. यह आग किसी और ने नहीं लगाई, आग लगाने का आरोप कांग्रेस के समर्थक जिग्नेश मेवाणी और JNU में देशद्रोह के आरोपी उमर खालिद पर लग रही है. दोनों ने 5 लाख दलितों की रैली में भड़काऊ भाषण दिया, मोदी के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया, सवर्ण जातियों के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया, दलितों को मोदी और बीजेपी के नाम से भड़काया गया. देखते ही देखते दलित भड़क उठे और महाराष्ट्र में दंगे शुरू हो गए.

गुजरात चुनावों के वक्त अल्पेश ठाकुर कांग्रेस पार्टी में शामिल हुए थे, कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र में हो रहे जातिवादी संघर्ष में दलितों का समर्थन कर रही है लेकिन अल्पेश ठाकुर ने लाइन से हटकर जिग्नेश मेवाणी को फटकार लगाई है. 

अल्पेश ठाकुर ने कहा कि जिग्नेश मेवाणी ने रैली में प्रधानमंत्री मोदी के बारे में बोलकर सही नहीं किया, उन्होने स्ट्रीट वार की तरह बयान दिया, हम लड़ाई नहीं चाहते, हम वैचारिक लड़ाई चाहते हैं, जिग्नेश को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ ऐसी भाषा नहीं बोलनी चाहिए थे, उन्हें अपनी भाषा पर कंट्रोल रखना चाहिए था. दलितों पर अत्याचार के खिलाफ दूसरी भाषा में भी आवाज उठायी जा सकती है.

उन्होंने महाराष्ट्र पुलिस पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि यह संघर्ष होने क्यों दिया गया, पुलिस ने एक्शन क्यों नहीं किया, सिर्फ बयान देने से काम नहीं चलेगा, एक्शन से काम चलेगा, पता करना पड़ेगा कि इसके पीछे किसका दिमाग था.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: