Jan 29, 2018

अफजल प्रेमी मीडिया बोले, भगवा झंडे ही वजह से हुआ दंगा, तो क्या श्रीराम का झंडा उठाना भी अपराध


afzal-premi-media-saving-muslim-killing-2-people-in-kasganj-danga

कासगंज: कुछ अफजल प्रेमी गैंग के मीडिया चैनल कासगंज में हुए दंगे में मुस्लिमों का पक्ष ले रहे हैं, उनकी नजर में मुस्लिमों ने चन्दन गुप्ता को गोली मारकर सही किया, उनका कहना है कि वहां गलती मुस्लिमों की नहीं थी बल्कि हिन्दुओं की थी क्योंकि उन्होंने भगवा झंडा ले रखा था.

चलो मान लिया कि उनके हाथों में भगवा झंडा था, तो क्या श्री राम की निशानी भगवा झंडा लेकर चलना भी इस देश में अपराध है और ऐसा करने वालों को गोली मार दी जाएगी और अफजल गैंग मीडिया उसे सही ठहराएगा.

भारत मंदिरों का देश है, भारत श्रीराम का देश है, भारत देवी देवताओं का देश है, भारत ऋषि-मुनियों का देश है, इन सबकी निशानी है भगवा झंडा. हर मंदिर के ऊपर भगवा झंडा लगा रहता है, क्या वही भगवा झंडा लेकर चलना अपराध हो गया.

भगवा झंडा लगे हर मंदिर में जो दान आता है उसपर सरकार को टैक्स दिया जाता है, सरकार की उससे लाखों करोड़ रुपये की आमदनी होती है, वही पैसा सरकार विकास कार्यों में लगाती है, यहाँ तक कि मदरसों में भी वही पैसे भेजे जाते हैं लेकिन आज उसी भगवा झंडा लेकर चलना इस देश में अपराध हो गया है.
पोस्ट शेयर करें, कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट करें
loading...

0 comments: