Jan 19, 2018

बहुत मंहगा पड़ा लालच, AAP के 20 विधायकों की सदस्यता होगी ख़त्म, गिर सकती है केजरीवाल सरकार


aap-20-mlas-disqualified-by-election-commission-high-court-news

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी की सरकार बहुत बड़ी मुसीबत में फंस चुकी है, दिल्ली की जनता ने केजरीवाल को सीधा सादा और आम आदमी समझकर उनकी पार्टी को 70 में से 67 सीटें देकर सरकार बनायी थी लेकिन सरकार बनते ही केजरीवाल और उनके विधायकों ने आम आदमी का चोला उतारकर अपना असली रंग दिखाना शुरू कर दिया, केजरीवाल ने अपने विधायकों की सैलरी तीन गुना बढ़ा दी, 20 विधायकों को संसदीय सचिव बनाकर लाभ का पद दे दिया.

पहली ही सरकार में इतना लालच करना केजरीवाल और उनके विधायकों को बहुत मंहगा पड़ा है. चुनाव आयोग ने AAP के 20 विधायकों को अयोग्य ठहरा दिया है. उनकी विधाययी ख़त्म करने की सिफारिश की है, हाईकोर्ट ने भी इस फैसले पर मुहर लगा दी है, अब आम आदमी पार्टी के पास सिर्फ राष्ट्रपति के पास जाने का विकल्प है. अगर राष्ट्रपति ने भी चुनाव आयोग और दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर मुहर लगा दी तो आप के 20 विधायकों की सदस्यता ख़त्म हो जाएगी.

अगर ऐसा हुआ तो केजरीवाल सरकार पर संकट आ जाएगा क्योंकि इस वक्त AAP के पास सिर्फ 65 विधायक हैं. चार विधायक बीजेपी के पास हैं, 1 विधायक कपिल मिश्रा हैं जो बीजेपी नेताओं के साथ ही देखे जाते हैं. अगर 20 विधायक जाते हैं तो केजरीवाल के पास सिर्फ 45 विधायक बचेंगे.

कहा जा रहा है कि कुमार विश्वास के समर्थन में करीब 10 विधायक हैं. अगर 10 विधायकों ने आप से इस्तीफ़ा दे दिया या बीजेपी के साथ जा मिले तो केजरीवाल सरकार गिर जाएगी और दिल्ली में फिर से चुनाव होगा.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें
loading...

0 comments: