Follow by Email

Total Pageviews

Blog Archive

Search This Blog

खुलासा, मोदी के माँ-बाप को गाली देने वाला राहुल का दोस्त सलमान निजामी है अफजल और कसाब समर्थक

Share it:
rahul-gandhi-friend-salman-nizami-is-afjal-guru-ajmal-kasab-lover

गुजरात चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस पार्टी किसी भी हद तक गिरने को तैयार है, अब उन्होंने चुनाव प्रचार के लिए ऐसे ऐसे आदमी को उतार दिया है जो आतंकवादियों का समर्थक रहा है, जिसमें खुलेआम खतरनाक आतंकी अजमल कसाब और अफजल गुरु का समर्थन किया है, अब वही आदमी गुजरात में कांग्रेस के लिए वोट मांग रहा है. हम बात कर रहे हैं सलमान निजामी की.

सलमान निजामी की पोल आज खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने खोली, उन्होंने कहा कांग्रेस नेता सलमान निजामी ने फौजियों को गाली दी थी, फौजियों को बलात्कारी बताया था, वह मेरे माँ-बाप को भी गाली दे रहे हैं, पूछते हैं कि मेरे माँ-बाप कौन हैं, मैं उन्हें बताना चाहता हूँ, भारत मेरी माँ है और मैं भारत माता की संतान हूँ.

मोदी ने बताया कि सलमान निजामी कहते हैं कि हर घर से अफजल निकलेगा, अब वही कांग्रेस के लिए वोट मांग रहे हैं.

क्या कहा था सलमान निजामी ने

सलमान निजामी ने दो दिन पहले सलमान निजामी ने कहा था कि राहुल गाँधी राजीव गाँधी के पुत्र हैं जो भारत के लिए शहीद हुए, राहुल गाँधी इंदिरा गाँधी के पोते हैं जो भारत के लिए शहीद हुए, राहुल गाँधी जवाहरलाल नेहरु के परपोते हैं जिन्होंने भारत की आजादी की लड़ाई लड़ी थी.

नरेन्द्र मोदी किसके पुत्र हैं, किसके पोते हैं, क्या कुर्बानी दी है.

salman-nizami-abuse-pm-modi

आज प्रधानमंत्री मोदी ने सलमान निजामी को जवाब देने के साथ साथ उनकी पोल पट्टी भी खोल दी, उन्होंने बताया दिया कि सलमान निजामी आतंकवाद समर्थक है, खुलेआम आतंकवादी अफजल गुरु का समर्थन करता था, उसे शहीद मानता था, आब खुद देख लीजिये, सलमान निजामी ने अपने ट्वीट में कहा है कि - अगर अफजल गुरु आतंकी होते तो उन्हें कश्मीर के लोग उन्हें शहीद न मानते.

salman-nizami-is-afzal-guru-supporter

सलमान निजामी ने एक अन्य ट्वीट में कहा है - मैं अब बीजेपी को चुनौती देता हूँ, कश्मीर में एक रैली करके दिखाओ, हम रैली को नहीं बाधित करेंगे लेकिन एक एक को घंटाघर में लटका देंगे.

salman-nizami-afzal-guru-supporter

सलमान निजामी ने एक अन्य ट्वीट में आतंकी अजमल कसाब का भी समर्थन किया है. उसनें लिखा है - अफजल कसाब के अंतिम शब्द थे, अल्लाह मुझे माफ़ करो. कसाब को दो बार डेंगू हो गया था, फांसी के समय बहुत कमजोर था, मैं कसाब से सहानुभूति रखता हूँ, वह गलत लोगों में बीच पैदा हुआ, गलत शिक्षा मिली.

salman-nizami-terrorists-supporter
Share it:

Gujarat

States

Post A Comment:

0 comments: