Dec 5, 2017

गिरिराज सिंह ने राहुल गाँधी को दी सलाह, अरुण जेटली से दो घंटे की ले लो GST की कोचिंग


giriraj-singh-advise-rahul-gandhi-learn-2-hour-gst-from-arun-jaitley

राहुल गाँधी GST को गब्बर सिंह टैक्स बताकर व्यापारियों में डर का माहौल बनाना चाहते हैं, कुछ समय से अनाप शनाप आंकड़े दे रहे हैं, कई बार उन्हें टैक्स भरने के नाम पर डराते हैं, कई बार उन्हें डॉक्यूमेंट तैयार करने के नाम पर डराते हैं जबकि GST में ऐसी कोई बात ही नहीं है. GST में सिर्फ अपने सेल और परचेज का हिसाब किताब रखना होता है और हर तीन महीनें पर टैक्स भरना होता है, पहले सालाना टैक्स भरना होता था और बहुत कठिन प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था लेकिन अब टैक्स भरना और रिटर्न दाखिल करना आसान हो गया है.

आज बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राहुल गाँधी को सलाह दी है कि दो घंटे अरुण जेटली से GST की कोचिंग ले लें और सभी प्रक्रिया के बारे में सीख लें क्योंकि सही से जानकारी ना रहने पर उनकी खुद फजीहत हो रही है.

आज राहुल गाँधी ने खुद ही अपनी खराब मैथ का उदाहरण दे दिया, जब उनकी फजीहत हुई तो उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर लिया और दूसरी तरह से आंकड़े दिखाए.

बात दरअसल यह थी कि राहुल गाँधी ने कांग्रेस सरकार और मोदी सरकार में दैनिक इस्तेमाल की वस्तुओं के दामों में अंतर दिखाया था जिसमें उन्होंने परसेंट में ग्रोथ दिखाई थी लेकिन उन्होंने बहुत बढ़ा चढ़ाकर आंकड़े दिखा दिए.


उपरोक्त टेबल में उन्होंने गैस सिलेंडर के दाम 179% बढ़ा दिए जबकि 79% बढे हैं लेकिन उसकी सब्सिडी वापस खाते में मिल रही है. दाल के दाम 177% दिखाए जबकि असल आंकड़ा है 77%, टमाटर के दाम 285% बढ़ा दिए जबकि असल फिगर है 185%, प्याज दिखाया 200% जबकि असल है 100%, दूध के दाम दिखाए 131% जबकि असल है 31%, डीजल के दाम दिखाए 113 जबकि असल फिगर है 13.

राहुल गाँधी की गलती तुरंत ही पकड़ ली गयी जिसके बाद उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट करके दोबारा यह टेबल पोस्ट की जिसमें अलग तरह के आंकड़े दिखाए.

rahul-gandhi-raise-high-price-rise
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: