Dec 2, 2017

अरुण जेटली ने लगाया कांग्रेस के जले पर नमक, कांग्रेस के 10 साल के कुशासन की खोल दी कुंडली


arun-jaitley-claimed-congress-10-year-rule-most-corruption-in-india

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज सूरज में एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला बोला, उन्होंने यूपी निकाय चुनावों में बीजेपी की जीत की चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस को अब देश की जनता स्वीकार करने के मूंड में नही है.

उन्होंने कांग्रेस के 10 साल के कार्यकाल की चर्चा करते हुए कहा कि देश में मई 2014 से मोदी जी की सरकार है, उसके पहले 10 साल तक कांग्रेस की सरकार थी, आप मोदी सरकार की कांग्रेस सरकार के 10 वर्षों से तुलना कर लीजिये.

अरुण जेटली ने कहा कि मैं कांग्रेस के 10 साल के शासन के तीन फीचर बता देता हूँ, पहला फीचर - वे 10 साल भारत के इतिहास में सबसे भ्रष्ट शासन के वर्ष थे. हमने उस समय इतिहास की सबसे भ्रष्ट सरकार देखी. ये उस सरकार का पहला फीचर था.

उन्होंने बताया कि आज से 34 साल पहले जो बोफोर्स हुआ था वह सिर्फ 64 करोड़ रुपये का था लेकिन कांग्रेस के 10 साल में 1 लाख 76 हजार करोड़ में सिर्फ स्पेक्ट्रम घोटाला, 1 लाख 85 हजार रूपए में कोल ब्लॉक्स घोटाला हुआ. जेटली ने बताया कि 4 साल बाद भी अगर स्कैंडल निकलते हैं तो कांग्रेस के उसी 10 साल के शासन के होते हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में दूसरा फीचर ये था कि सरकार में नेतृत्वहीनता थी, लीडर नहीं था, उस वक्त के प्रधानमंत्री के बारे में कहा जाता था कि वो पद पर बैठे हैं लेकिन सत्ता में नहीं हैं. प्रधानमंत्री का ऑफिस तो लोकतंत्र में सबसे प्रभावी जिम्मेदारी का होता है लेकिन अगर प्रधानमंत्री की ऐसी स्थिति आ जाए कि दुनिया उसे पद पर मानें लेकिन सत्ता पर ना माने तो फिर वो सरकार देश को नेतृत्व नहीं दे सकती.

उन्होंने तीसरी विशेषता बताते हुए कहा कि उस सरका के बारे में कहा जाता था कि इसको पॉलिसी पैरालिसिसी है, नीति निर्माण में लकवा मार गया था, दूसरा, दुनिया भर में जितनी रेटिंग एजेंसी थीं, उनमें भारत दुनिया की सबसे पांच पिछडी अर्थव्यवस्था में गिना जाता था.

अरुण जेटली ने कहा कि उस सरकार में भ्रष्टाचार भी था, नेतृत्व भी नहीं था, भारत को पिछड़ा देश माना जाता था, उन्होंने ना तो कोई अर्थव्यवस्था में सुधार किया, ना संरचनात्मक सुधार किया, उसकी आज हम मोदी सरकार से तुलना करते हैं, यह इतिहास में पहला उदाहरण है कि विश्व के बड़े देशों में तीन साल तक भारत सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहा. मोदी सरकार में कोई राजनीतिक भ्रष्टाचार नहीं हुआ. यह कांग्रेस और मोदी सरकार में अंतर है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: