Dec 27, 2017

अखिलेश यादव को पसंद नहीं आ रही मोदी सरकार की विदेश नीति, ये पाकिस्तान से चाहते हैं अच्छे संबध


akhilesh-yadav-criticize-modi-sarkar-foreign-policy-towards-pakistan

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मोदी सरकार की विदेश नीति पसंद नहीं आ रही है, वह पडोसी देशों से अच्छे सम्बन्ध चाहते हैं जबकि मोदी सरकार में पाकिस्तान से रिश्ते दिनों दिन खराब होते जा रहे हैं, पाकिस्तान को कश्मीर चाहिए जो कि मोदी सरकार में संभव नहीं है, यह भी सच है कि मोदी सरकार किसी भी कीमत पर पाकिस्तान के आगे नहीं झुकेगी और उसे कश्मीर पर गन्दी निगाह डालने नहीं देगी.

अखिलेश यादव ने मोदी सरकार की विदेश नीति पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है - अच्छी विदेश नीति अच्छे सम्बन्ध बनाती है, ख़ास तौर से पड़ोसी देशों से, लेकिन वर्तमान सरकार की विदेशी नीति चौतरफ़ा टकराव को जन्म दे रही है. शांति, सहयोग और सह अस्तित्व के सिद्धांत के बिना विकास संभव नहीं होता शायद इसीलिए भाजपा सरकार विकास के मुद्दे पर लगातार असफल होती दिख रही है.
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत के सिर्फ पाकिस्तान और चीन से खराब सम्बन्ध हैं वो भी इसलिए क्योंकि पाकिस्तान कश्मीर पर कब्जा करने के लिए यहाँ पर आतंकवाद फैला रहा है और भारतीय सेना पर आतंकवादी हमले करवा रहा है, इस काम में चीन पाकिस्तान का साथ दे रहा है क्योंकि उसनें भी कश्मीर के एक भाग पर कब्जा कर रखा है, बाकी देशों - नेपाल, श्रीलंका, अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, म्यांमार से भारत के सम्बन्ध बहुत अच्छे हैं. 

सिर्फ दो देशों से खराब संबंधों के कारण अखिलेश यादव इसे चारों तरफ टकराव बता रहे हैं, पाकिस्तान और चीन से अच्छे सम्बन्ध बनाने का सिर्फ एक रास्ता है - भारत कश्मीर को पाकिस्तान को दे दे और चीन कश्मीर के बीचो बीच पाकिस्तान जाने वाला चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (CPAC) बना सके. शायद अखिलेश यादव भी यही चाहते हैं, वह शायद कश्मीर पाकिस्तान को देना चाहते हैं तभी इतनी टेंशन ले रहे हैं जबकि मोदी सरकार किसी भी कीमत पर कश्मीर पाकिस्तान को नहीं देगी क्योंकि कश्मीर भारत के सर का मुकुट है.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: