Nov 30, 2017

शहजाद पूनावाला बोले, मेरा भाई तहसीन परिवार का वफादार है, मैं देश का वफादार हूँ इसलिए बोलूँगा


shehzad-poonawalla-told-tehseen-poonawlla-is-congress-loyal-i-am-not

कांग्रेस में वंशवाद की राजनीति पर दो भाई आमने सामने आ गए हैं, बात इतनी बिगड़ गयी कि दोनों भाइयों के बीच रिश्ता ही ख़त्म हो गया. हम बात कर रहे हैं शहजाद पूनावाला और तहसीन पूनावाला की, दोनों सगे भाई हैं. तहसीन पूनावाला राहुल गाँधी के साथ हैं जबकि शहजाद पूनावाला कांग्रेस में वंशवाद के खिलाफ हैं. कल तहसीन पूनावाला ने शहजाद के बयान से नाराज होकर उनसे सभी रिश्ते ख़त्म कर लिए.

तहसीन परिवार के प्रति वफादार हैं: शहजाद

इसपर प्रतिक्रिया देते हुए शहजाद पूनावाला ने कहा कि मेरा भाई परिवार का वफादार है जबकि मैं देश का वफादार हूँ, कांग्रेस में वंशवाद के खिलाफ लड़ाई लड़नी होगी, कांग्रेस पर सिर्फ के परिवार का हक नहीं होना चाहिए, योग्यता के आधार पर अध्यक्ष पद का चुनाव होना चाहिए लेकिन यहाँ तो सब कुछ फिक्स है, वोट देने वाले फिक्स हैं. मेरी लड़ाई सिर्फ वंशवाद के खिलाफ है.

कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव धांधली है: शहजाद

कल शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस की वंशवाद की राजनीति और राहुल गाँधी पर करारा हमला बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव को धांधली बताया क्योंकि इस पद के लिए राहुल गाँधी को पहले ही फिक्स कर लिया गया है. जब पहले ही मैच फिक्स है तो चुनाव कैसा, यह तो सिर्फ धांधली है.

उन्होंने कहा कि मेरी सूचना के अनुसार जो भी प्रतिनिधि मतदान में शामिल होने वाले हैं वह फिक्स हैं, यह तो सरासर धांधली है, उन्हें उनकी वफादारी के लिए नियुक्त किया गया है. वह तो वही करेंगे जो उन्हें करने के लिए कहा जाएगा.

तहसीन ने शहजाद से सभी रिश्ते किये ख़त्म

तहसीन पूनावाला को यह बात चुभ गयी, उन्होंने तुरंत ट्विटर पर अपने भाई शहजाद पूनावाला से सभी रिश्ते ख़त्म करते हुए ट्वीट किया - मैं अपने भाई शहजाद पूनावाला से आधिकारिक रूप से सभी रिश्ते ख़त्म कर रहा हूँ, मैं इससे पहले इतना दुखी कभी नहीं हुआ, हम बीजेपी को हराना चाहते हैं, उसनें अच्छा नहीं किया, मैं बहुत बहुत दुखी हूँ, मेरी पीठ में छूरा घोंप दिया गया है.

उन्होंने दूसरे ट्वीट में कहा - हमें बीजेपी को हराने के लिए राहुल गाँधी के हाथ मजबूत करने की जरूरत है, मैं शहजाद से मौत तक प्यार करता रहूँगा, मैंने उन्हें अपने पुत्र समान समझा था लेकिन उन्होंने मेरी पीठ में छूरा घोंप दिया, राहुल गाँधी को गुजरात में फोकस करना चाहिए, मेरा अपने भाई से कुछ भी लेना देना नहीं है, मैं दुखी हूँ.

tehseen-poonawalla-and-shehzad-poonawala
क्या बोला था शहजाद पूनावाला ने

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शहजाद पूनावाला महाराष्ट्र कांग्रेस के सचिव हैं और टीवी पर कांग्रेस के समर्थन में अपनी बात रखते रहे हैं लेकिन आज उनका जमीर जाग गया और उन्होंने वंशवाद पर हमला कर दिया, उन्होंने कहा कि योग्यता के आधार पर कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ने का मौका मिलना चाहिए, क्या मैं गलत हूँ. उन्होंने कहा कि मैं वंशवाद का समर्थन नहीं करता, एक परिवार में सिर्फ एक सदस्य को टिकट दिया जाना चाहिए. योग्यता के आधार पर अध्यक्ष पद का चुनाव होना चाहिए.
नीचे कमेन्ट बॉक्स में अपनी राय लिखें
पोस्ट शेयर करें और फेसबुक पेज LIKE करें
loading...

0 comments: